राजस्थानी सेक्सी बीएफ देहाती

छवि स्रोत,सेक्सी करेंगे सबका स्वागत सॉन्ग

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स ब्लू चलने वाली: राजस्थानी सेक्सी बीएफ देहाती, वो मेरे लगातार चूसे जाने से तेज स्वर में ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ कर रही थी.

भोजपुरी सेक्सी मूवी ओपन

मैं- श्वेता दीदी कहां है?दीदी- वो घर गई है … तैयार होने के लिए … तुम भी जल्दी तैयार हो जाओ. सेक्सी वीडियो देसी चुदाई दिखाओउस पोजीशन में चुदाई करवाते हुए एक दो बार मेरी और उसकी नज़रें एकाध बार टकराईं.

आपको आज अपनी एक फेंटेसी बताना चाहती हूं कि मैं हमेशा से खेती करने वाले देहाती मर्दों से चुदने की इच्छा रखती थी. सेक्सी वीडियो बड़े-बड़े सेक्सी वीडियोमैं जितनी बार चुदती … मेरे मम्मे और चूतड़ उतने बड़े होते जाते।शुरुआत में मेरा शरीर ऐसा नहीं था.

मैंने पूछा- इतना जल्दी … मैं आपको न जानता हूं … ना मैंने आपको देखा है.राजस्थानी सेक्सी बीएफ देहाती: उसने धक्का लगाया तो मेरी चीख निकली लेकिन उसने एकदम से मुंह पर हाथ रख दिया.

मैं- सच में ये तुम्हें कैसे आएंगे, ये कितनी छोटी है और ये इतने बड़े.मेरा गोरा सा लंड उसने अपने मुंह में ले लिया और उसको प्यार से चूसने लगी.

जापानी स्कूल गर्ल सेक्सी मूवी - राजस्थानी सेक्सी बीएफ देहाती

लेकिन हम दोनों कभी इससे आगे नहीं बढ़े।उसका सेक्स करने का भी बहुत मन होता था लेकिन मैं मना कर देती थी कि हम लोग सेक्स शादी के बाद ही करेंगे.अगले दिन मैं भी मामा के साथ उनको छोड़ने स्टेशन तक गया और उनको छोड़ कर लौटते वक्त रात हो गयी थी.

जब उसका बेटा स्कूल जाता, तब हम दोनों खुल कर लंड चुत चुदाई की बात करते. राजस्थानी सेक्सी बीएफ देहाती और डर भी बहुत लगता था कहीं कुछ हो ना जाये या किसी को पता नहीं चल जाये।दीदी के घर में नीचे वाले एक कमरे में दीदी के देवर भी रहते हैं.

कुछ ही देर में सीमा को होश आने लगा तो मैं उसकी ओर झुककर उसकी चूचियों के निप्पल्स से खेलने लगा और उसके होंठों पर अपने होंठ रखकर चूसने लगा.

राजस्थानी सेक्सी बीएफ देहाती?

मगर मैंने देखा कि आस पास के लड़के लड़कियां एक दूसरे से चूमा-चाटी कर रहे थे और किसी ने किसी का लंड पकड़ रखा था, तो किसी ने उसके मम्मों को दबा दबा कर उसकी मीठी मीठी आवाजें निकलवा रहा था. बिन्नी मेरा सहारा लेते हुए नीचे उतर कर बाहर आई और वीर्य से सनी चूत और टांगों को बिना साफ किये ही बेड पर जाकर पसर गई और बहुत देर तक टाँगे चौड़ी करके नंगी पड़ी रही. एक मिनट बाद मैंने अपने यार से पूछा- गिफ्ट कैसा लगा?उसने मुझे चूम कर बोला- बहुत अच्छा … मुझे जीवन में अब तक ऐसा कुछ नहीं मिला था.

फिर तो हम एक दूसरे को बेताहाशा चूमने लगे।देखते ही देखते पूरे नंगे हो गये. मैंने उसे अपना लंड मुँह में लेने के लिए कहा … लेकिन उसने मना कर दिया. उसने मुझे कहा- अविनाश भाई, प्लीज़ फक मी हार्ड!उसकी इन बातों को सुन कर मैंने भी उससे कहा- बस जानेमन, ऐसे चोदूंगा अब कि तेरा ब्वॉयफ्रेंड भी तुझे कभी ऐसे ना चोद पाएगा।इतना कहते ही मैंने एक झटके में चूत पर लंड टिकाया और दे मारा।अनुपमा चीख उठी- उम्म्ह… अहह… हय… याह…उसकी चीख दबाने के लिए मैंने उसके होंठ अपने होंठों से दबा दिए.

एक बार मुझे मेरे एक दोस्त की सिस्टर का फोन आया कि उसे गर्भ गिराने वाली दवा चाहिए. उसके ड्रेस भी ऐसे होते थे कि मुझे उसकी चूचियों के दीदार हो सकें।एक दिन मैं उसके बाथरूम में गया, मैंने उसकी ब्रा पैंटी देखी और हेयर रिमूवर क्रीम भी थी वहां।मैं सोचने लगा कि क्या यास्मीन ने अपनी चूत को आज ही चिकनी किया है।ये सब सोचकर मेरा लंड सलामी देने लगा।मैं बाहर आ गया. बाहर दरवाजे पर एक 22-23 साल का मस्त, कसे हुआ बदन वाला, गोरा-चिट्टा एक लड़का खड़ा था.

फिर उसके बाद चाची ने अपनी पेंटी निकाल दी और मुझे चाची के बड़े बड़े चूतड़ दिखने लगे. फिर बारी बारी से मेरी चूत चोदने के बाद वो मेरे मुंह के पास लौड़े लाकर खड़े हो गये.

फिर वो धीरे धीरे लूसी की चूत की ओर मुंह ले गया और उसकी चूत को चाटने लगा.

सुगंधा भाभी शादीशुदा थीं … लेकिन फिलहाल मेरे इतनी नजदीक आ चुकी थीं कि वो चाहकर भी मना नहीं कर सकती थीं.

वो फॉर्मूला ये था कि जब भी कोई लड़की या औरत सामने हो, तो उससे जान पहचान बनाने के लिए सबसे पहले उसकी तारीफ करनी चाहिए, जिससे वो बात करने की पहल कर देगी. बाम लगाते हुए रामू का हाथ गलती से भाभी के बड़े मम्मों को टच हो जा रहा था. वो मुझे चोदने लायक माल तो लगा था, मगर मैं उसकी मर्जी के खिलाफ कैसे कुछ कर सकता था.

मुझे उसकी आवाज से ऐसा लगा कि इसकी चुत ने मेरे मोटे लंड का मस्त अहसास किया है. मैं चाहता तो उन दोनों को कॉल करके रोक सकता था, लेकिन अब कोई फायदा नहीं था … क्योंकि अब तक तो शिल्पा की चुत में राहुल का लंड कई बार घुस ही चुका था. मगर मैं ऊपर से बोल रही थी- उन्ह … यह क्या कर रहे हो?वो कुछ नहीं बोला और मम्मों को जोर जोर से दबाने लगा.

मैंने पहले तो शायरा की नाभि पर किस करके उसके बदन में गुदगुदी पैदा की ताकि चूत पर जाते ही उसका मूड खिल जाए.

मैंने हल्के से आंख को खोल कर देखा, तो देखा विक्रम मेरे कमरे में दाखिल हुआ था. फिर मैं अपने घटनों पर बैठकर भाभी की चुत चूसने लगा, जिससे अचानक ही भाभी की आवाजें मदहोश हो गईं और वो मेरा सिर अपनी चुत पर दबाने लगीं. चाची- मुझे तो खिलौना बना लिया तूने, आह चोद दे … जैसे चाहे वैसे इस्तेमाल कर ले … मेरा … आआआह ऊऊम्म मेरी चुत को भोसड़ा बना दिया … साले मादरचोद.

थोड़ी देर मैं लंड के ऊपर घोड़ी की तरह उठने बैठने लगी लेकिन उसकी जबरदस्त चुदाई के वजह से मेरी टांगों ने जल्द ही जवाब दे दिया. मैंने उससे पूछा, तो वो बोलने लगी कि प्लीज़ बाहर निकालना … अब मेडीसिन नहीं लेनी है … बहुत दर्द करता है. अंकल मॉम के रस को पी गए और जो पी नहीं पाए, वो उनके मुँह के नीचे बह कर बेड पर आ गया था.

मेरे आते ही बस आ गयी थी, इसलिए बस में चढ़ने की जल्दी में उसने तो शायद मुझे नहीं देखा मगर मैंने उसे देख लिया था.

डॉक्टर साहब ने पूछा- भाई साहब आजकल कहां हैं? इधर कब आए?डॉक्टर साहब ने मुझसे शिकायत की कि मिलते ही नहीं हो. हंसने पर उसके गुलाबी होंठों में से दिखाई देते सफेद दांत तो ऐसे लग रहे थे जैसे मोती ही चमक रहे थे.

राजस्थानी सेक्सी बीएफ देहाती मेरी मॉम एकदम नंगी होकर अपनी चुत मरवा रही थीं और आंटी उस लड़के का लंड चूस रही थीं. ये कंसल्टेंसी वाले साले चूतिया बनाते हैं और मेरे जैसे नये लड़के इनके चंगुल में फंस जाते हैं जिनको जॉब की सख्त जरूरत होती है.

राजस्थानी सेक्सी बीएफ देहाती अब मेरा सारा जिस्म कंपने लगा और पता नहीं मेरी चूत में क्या होता जा रहा था. मैं अपनी साली को और अपने साढ़ू की बॉडी को सकुशल इंडिया लेकर आना चाहता था.

क्योंकि अब कभी वो गलत कर भी देता, तो उसे पता था कि अकेले में जब वो चोदा जाएगा, तो उसे कोई बचाने नहीं आएगा.

इंग्लिश फिल्म बीपी वीडियो

इतना कहते ही अंकल ने एक झटके के साथ आधा लंड मॉम की चूत में उतार दिया. मैंने उसे जूस में एक पैग बना कर दिया और खुद उसकी चौड़ी हुई टांगों के बीच में आकर उसकी चूत चाटने लगा. वो मेरी चूत को चाटने लगा और पहले वाला अब दूसरे वाले के लंड को चूसने लगा.

अगले दिन मैं जानबूझ कर वो सारा कुछ, जो मुझे शिवानी ने दिया था, घर पर ही छोड़ कर ऑफिस आ गई. मेरी सास मुझसे बोलने लगीं कि बहुत दिनों से तुम्हारे ससुर जी बाहर हैं … तो खुद से करना पड़ता है. मगर भाबी की फुद्दी पर भी दरवाजा लगा था, मेरा मतलब वो पैंटी पहनी हुई थीं.

वो कहने लगी- आह्ह राहुल … तेरा लंड और चुदाई मजेदार है … मुझे चोदता रह … आह्ह … चोदता जा … जब तक मैं तुझे रोकूं नहीं.

अपनी मदमस्त चुत पर एक गैर मर्द के होंठों का अहसास पाते हुए ही अपनी मुठ्ठियों में चादर को भींच लिया. दीपा का भी मन तो अंदर लग नहीं रहा था तो वो भी बरमूडा और ढीली टॉप में उन दोनों के पास ही आ गयी. गर्ल ऑनलाइन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी दोस्ती एक वेबसाइट पर एक मैरिड लड़की से हुई.

मैंने कहा- मामी अपनी गांड में वैसे जोर लगाओ … जैसे सुबह हगने जाती हो. शाम को मैंने उसे अपने पति से इंट्रोड्यूस करवाया और कहा- यह मेरे कॉलेज में ही पढ़ते थे. अब मैं जोर जोर से सिसकारियां ले रही रही थी- अहह अंह … ओम्हा … उंहमाँ … और चूसो … मेरे बेटे … आह इतने दिन से तुझे क्यों नहीं पा सकी … आह.

वो यहाँ आकर हमें मसाज दे सकता है और मेडिकल मसाज सिखा सकता है और पैसे भी नहीं लेगा. संजू खीज कर बोली- अब क्या है यार?विक्रम बोला- बेबी, बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

मैंने पूछा- वन्दना मेरा क्या चूस रही थी? और तुम्हारे नीचे कहाँ कुछ हो रहा था?तो वो बोली- साहब जी, मुझे बताने में शर्म आ रही है. यहाँ हम 3 घंटे के लिए ही हैं, इसलिए इतने कम समय में सभी को सबी कुछ ज़ल्दी में करना होगा और अगर आज सब कुछ अच्छा लगा तो हम कहीं और बढ़िया प्रोग्राम करेंगे. मेरी गांड में क्रीम लगी होने के कारण अभिषेक का लंड हर झटके में थोड़ा थोड़ा अन्दर घुसता गया.

मेरे मन में एक समाधान तो है लेकिन तुमसे कैसे कहूँ?”बेझिझक कहो, भाभी.

‘उह्ह … ह्म्म्म आअह ह्हह … हम्म्म म्मम … आई … मर्रर्र … गईईई मैं आ … रहीई … हूँ … ओह्ह्ह … ह्म्म्म्म … और … उह्ह … ह्म्म्म्म … अब और मत तड़पाओ राहुल. मैं कई बार कुछ दिनों के लिए आउट ऑफ स्टेशन रहता हूँ क्योंकि बिजनेस ही ऐसा है. उधर वो मादक लौंडिया मुझे एक लाइव ब्लू-फिल्म का मजा दे रही थी और मैं बड़ी तेजी से अपने लौड़े को ठंडा करने का कार्य कर रहा था.

मैंने उससे पूछा कि उसे मज़ा आया या नहीं?न्यासा बोली- राज कसम से बोलूं … तो मेरी ऐसी चुदाई कभी हुई ही नहीं … तुम लोग इतनी लम्बी चुदाई कैसे कर लेते हो … ओह माय गॉड. मैं भगवान से ये ही दुआ करता हूँ कि हर लंड को इतना दम दे कि वो जिस चूत में भी जाए, उसकी इच्छा पूरी करके ही बाहर आए.

मेरी भाभी की लंड की तलाश पूरी हो गई थी और मुझे मेरी मादक भाभी की चुत चुदाई का सपना पूरा होना दिखने लगा था. वैसे उसकी भी गलती नहीं थी … उसकी जगह कोई और लड़की होती तो शायद वो भी ऐसा ही करती. लग रहा था कि वो लड़की काफी फेमस है, पर फेमस किस लिए है … उसकी खूबसूरती के लिए या किसी और वजह से है.

जानवर लड़की का सेक्स

फिर रोहित मेरी तरफ बढ़ा और अपना लिंग चुसाने के लिए मेरे होंटों के आगे कर दिया.

कभी-कभी दोस्तों से मस्त चुदाई वाली मूवीज मिल जातीं, तो बस उसे देखकर बाथरूम में जाकर लंड को मुठ मार कर माल निकाल देता था. तू शादी के इंतज़ार में बुड्ढी हो जाएगी और दूसरों की चुदाई के बारे में सुन सुन कर तड़फती रहेगी. अब तक आपने जो पढ़ा था उसे संक्षेप में लिख दूँ कि किस तरह मैं सगाई के कार्यक्रम के लिए मुंबई से राजस्थान आया था.

वो बड़बड़ाने लगी- आह इस राजधानी एक्सप्रेस रेल को बुलेट ट्रेन बना लो, चोद दो मुझे … बिल्कुल भी रहम मत करो मेरी इस गुलाबो पर … इसको गुलाबो से लाली बना दो. रिचा ने दुबारा मिलने का वादा करके मुझे एक चुम्बन दिया और मेरे रूम से चली गई. सेक्सी हिंदी में साड़ी मेंउसका हाथ मेरे लंड पर लगना था कि मैंने अपना एक हाथ उसकी पैंटी में डाल दिया और उसकी चुत को स्पर्श कर लिया.

मैं कभी शायरा का … तो कभी उस सेल्सगर्ल का‌ मुँह ताकने लगा, जिसे देख अब शायरा को हंसने लगी. वो अपना लंड मेरे मुँह के पास लाया और बेड के किनारे पर टांगें लटका कर बैठ गया.

थोड़ी देर बाद मैंने अपनी जीभ भाभी की चूत के सुराख पर रखकर उसको जीभ से चोदने लगा. मैं चिल्लाने लगी- उम्म … अहह … हय … ओह … मार दिया … आहह बेटा … आराम से चोद … मैं कहां भाग रही हूं. पढ़ाई के बाद जो वक्त बचता था, उसमें भी ज्यादातर वक़्त मैं कमरे में अपने कंप्यूटर पर गेम्स खेलता रहता था या फिर मूवीज देखता रहता था.

उसकी चुत कैसी होगी … क्या खुली हुई होगी या मुझे ही फीता काटना पड़ेगा. वे बोलीं- मैंने कब सताया है?मैं स्माइल करके बोला- भाभी मुझे आपके ऊपर चढ़ने की परमिशन चाहिए. जब मेरे लंड ने सरनी की फुद्दी को टच किया, तो वो फिर से खड़ा होने लगा.

मेरी गांड में क्रीम लगी होने के कारण अभिषेक का लंड हर झटके में थोड़ा थोड़ा अन्दर घुसता गया.

वे बोलीं- मैंने कब सताया है?मैं स्माइल करके बोला- भाभी मुझे आपके ऊपर चढ़ने की परमिशन चाहिए. आप लोगों के सामने में अपनी नई सेक्स कहानी लेकर दोबारा आऊंगा, जब मेरी मॉम और एक जिम के मालिक के बीच चुदाई हुई.

मेरे मन में कब से खलबली मच रही थी कि कब शाम हो।तभी मेरे बेटे का फोन आया, उसने बताया कि वो निकल गया है।मैंने बाथरूम में जाकर सूरज को फोन किया और उसे आज रात आने को कह दिया।उसके बाद मैं वहाँ से निकली और रेस्टोरेंट में जाकर खाना खाया।फिर शॉपिंग करने लगी. माँ बेटी चुदाई कहानी में पढ़ें कि दोस्त की दादी के बाद मैंने उसकी बहन को कैसे चोदा दादी की मदद से. पर एक दिन मुझे पता चला कि मेरे बेटे सैम को मेरे और रवि की चुदाई के बारे में पता चल गया है.

मैं बेड पर लेट गया।एक बात मैं अपने अनुभव से बताऊंगा कि सेक्स में थोड़ी थोड़ी देर में पोज़ बदलना चाहिए. उनके घर को देखते हुए मेरे मन में लग रहा था कि पहले वाली लड़की ही ठीक रहेगी. फिर मैंने देर न करते हुए अपना सख्त लण्ड उसकी गर्म चुत में डाल दिया.

राजस्थानी सेक्सी बीएफ देहाती शीना बिल्कुल कामुक लग रही थी इस अवतार में!और संजना हम दोनों की ठुकाई देखकर अपनी चूत में उंगली कर रही थी, वो पूरे चरम पर पहुंच गई थी. उनकी आंखों में वो बात नहीं थी कि उसे एक ऐसी लड़की की चाह है, जो पूरी तरह से फ्रेश हो.

डांस वीडियो सेक्स

लेकिन धीरे धीरे चोदना साहब जी, आपका लन्ड सच में बहुत मोटा और लम्बा है. मैं अभी साढ़ू की मौत को साली के सामने जाहिर नहीं होने देना चाहता था. यही हुआ भी … मेरी इस तरह की चुदाई से भाभी पागलों के जैसे अपने सिर को इधर उधर पटकती रहीं.

मुझे बहुत बुरा लग रहा था, तभी मुझे उल्टी हो गयी।फिर रोहित ने अपना लिंग और मेरी चूत को कपड़े से साफ किया. मेरे पति ने जब देखा कि मैं फिर से राजी हो गई हूं तो वह अलग हो गए और प्रीत मुझे लेटा कर मेरे ऊपर चढ़ गया. सेक्सी वीडियो हिंदी एचडी सेक्स वीडियोजैसे ही उसने मेरी पत्नी के अर्धनग्न जिस्म को आगोश में लिया तो मेरी उत्तेजना चरम पर पहुंच गई.

मैं अपने लंड को आगे पीछे चलाने लगा और बीच बीच में पूरा लंड निकाल कर अन्दर डाल देता … जिससे भाभी की चीख निकल जाती.

मगर अगले दिन‌ मैं कॉलेज जाने‌ लगा, तो बस स्टॉप ‌पर वो मुझे फिर से वहां मिल‌ गयी. बस हालात ही कुछ ऐसे बन गए थे कि मेरा जब भी उससे सामना हुआ, हर बार उसकी नजरों में मैं बुरा होता चला गया था.

बाम लग जाने के बाद आरिषा भाभी बोलीं- रामू, मेरे कंधों पर भी बाम लगा दो. आप प्लीज़ लंड हिलाने से पहले मुझे मेल करके अवश्य बताएं कि आपको मेरी सेक्स कहानी में कितना मजा आया. वो भी पानी छोड़ चुकी थी और दोनों की ही धड़कनें कमरे को जैसे सिर पर उठाने को हो रही थीं.

मैं मान गया और भाभी को मिशनरी पोज में लिटाकर उनके नंगे जिस्म के ऊपर आ गया.

अब जब मेरा लंड उसकी चुत पर घिसता, तो वो नीचे से अपनी कमर काफी ज्यादा उठा कर लंड को अन्दर लेने को करती. मैं हमेशा ही अपने आप को उस स्थिति में सोचती थी जब डीडीएलजे फिल्म में काजोल जब शाहरूख के नीचे ऐसे ही भूसे पर चुदी थी. मैं कई बार कुछ दिनों के लिए आउट ऑफ स्टेशन रहता हूँ क्योंकि बिजनेस ही ऐसा है.

रुस्सियन सेक्सी मूवीलेकिन मुझे अपने अनुभव के आधार पर ये ज्यादा लग रहा था कि भाभी मेरी गोद में आ ही जाएंगी. दोस्तो, मेरी कहानी में मैंने जिन भी रिश्तों का जिक्र किया है वे सच हैं.

आर्केस्ट्रा ओपन

20 मिनट तक उसकी गांड चोदने के बाद भाई ने अपना माल उसकी गांड में छोड़ दिया. अब भाबी ने भी मेरे लंड हिलाने की गति तेज कर दी और मैं भी कुछ देर बाद झड़ गया. चुत को तो चोद करके इस तरह से चूसा था कि चुत पूरी तरह से खुली हुई दिखने लगी थी.

अब मैं मामी के मम्मों को पीने लगा और एक हाथ से उनकी चूत को सहलाने लगा. मैं नहीं चाहता था कि सीमा को यह पता लगे कि उसकी माँ भी इस खेल में पार्टनर है. जिस पर वो हैरान होकर बोले- तुम जैसी हुस्न की परी का कोई बॉयफ्रेंड नहीं है? मैं ये नहीं मान सकता!तो मैंने मन में सोचा ‘मत मान … माँ चुदा … ही ही ही ही’लेकिन मैंने उनसे ये बोला नहीं, बल्कि मैंने उनको बता दिया कि मेरा मेरे बॉयफ्रेंड के साथ ब्रेकअप हो गया था.

हम दोनों ही उनकी तरफ बढ़े और अपनी-अपनी बीवियों को आलिंगन में लेकर उनके ऊपर चुम्बनों की बारिश सी करने लगे. ज़ारा- आह जान! हसरतें तो आप पूरी कर रहे हो!ये कहकर अपने दोनों पैर जमीन पर रख लिये और हाथ कैबिनेट पर. चुदक्कड़ तो मैं थी ही, शादी के बाद अशोक ने मेरी चुत खूब अच्छी तरह से बजाई और वो हर बार मेरी चुत में अपने लंड का रस भरता रहा.

मैं बोला- अब अच्छाई इसी में है कि हम सब एक दूसरे की हेल्प करें और कोई किसी के मामले में टांग न अड़ाये. इससे मेरी बीवी शिल्पा ने कामुक आह भरी और राहुल से जल्दी से लंड चुत में पेलने का इशारा किया.

मेरा लंड जैसे ही खड़ा हुआ मैंने उनको लिटा कर उनकी चूत में लंड झटके से डाल दिया.

मैं- एक बात बोलूं भाभी … आप बुरा तो नहीं मानेंगी?सुगंधा भाभी- अरे कहो न. सेक्सी वीडियो चोदने वाली मराठीचाची- अच्छा मदद करूँगी … दोनों की चुत गांड दिलाऊंगी … तू धीरे कर प्लीज. सेक्सी वीडियो भाई बहन की हिंदीमेरी इस बात पर उसने मना कर दिया और बोली- जब मुझे ट्रस्ट हो जाएगा, तब मिलूंगी. मैंने भी इंतजार करना उचित नहीं समझा और उन्हें किस करते हुए धीरे-धीरे उनकी चूत में लंड डाल दिया.

बस एक ही चीज अच्छी थी कि मैं एक सरकारी इंजीनियर था और एक सम्पन्न परिवार से था.

जीभ लगते ही अनु उछल पड़ी और मेरा सर अंदर की तरफ दबाने लगी जैसे मुझे अंदर तक भर लेगी. मुझे भी भाबी की चूत में अपना लंड डालने के लिए तड़प मच रही थी, पर हम ऐसा नहीं कर सकते थे. वो उसको जोर से काट रहा था और इसी उत्तेजना में मैं उस दूसरे वाले लड़के के लंड पर तेजी से मुंह चला रही थी.

मैंने देखा कि सीमा की चूत चाटते समय मीरा की नजर मेरे लण्ड पर टिक गई. मैं दर्द और मजे से दोहरी हो गई और दूसरे ही पल उसने मेरे एक कड़क निप्पल पर अपना मुँह लगा दिया. अब म्यूजिक नशीला था और समां रंगीला … सभी मस्त होकर धीरे धीरे घूम रहे थे.

सैकसी विडियो

मामी बोलीं- अब मेरी चूत में लंड डालो ना!मैंने कहा- मामी कंडोम लगा कर चोदूं … या बिना कंडोम के ही रगड़ दूं?मामी ने कहा- ऐसे ही चोदो राजा … मैंने नसबंदी करवा ली है … कोई फर्क नहीं पड़ेगा. ” वह अपनी लड़की (पारुल) के बारे में बात कर रहा था। पारो नाम की यह फुलझड़ी पता नहीं कैसी होगी पर उसका नाम सुनकर तो मुझे लगा मैं इसके लिए देवदास बन जाऊँ तो मज़ा आ जाए।मुझे विचारों में खोया देखकर भोंसले बोला- क्या सोचने लगे प्रेम?मेरी बीवी ने घर में एक नयी कामवाली रखी. रोज सुबह शाम दूध के साथ शिलाजीत कैप्सूल खाते हुए मैं इन्तजार करने लगा कि कब सीमा को निम्फोमेनिया का दौरा पड़े और मीरा मुझे बुलाये.

बॉस अगले दिन शिफ्ट हो गया और उसने शायद अपने पेरेंट्स को कुछ दिनों के लिए बुला लिया था.

मैं भी उसकी गति से लय मिलाते हुए अनीता की चुत में लंड पेलते हुए ऊपर नीचे हो रहा था.

उनकी सेक्सी टाँगें व मोटी मोटी जांघें इतने करीब से देख कर मैं पागल हो गया।हिम्मत करके मैंने उनकी जांघों को अपने हाथों से पकड़ लिया. इस बस का ड्राइवर और उसका साथी मेरे अच्छे दोस्त थे और मैं हमेशा इसी ही बस में बैठता हूं. डॉग एचडी सेक्सी वीडियोउसने मुझे देखकर आज अपना मुँह नहीं बनाया बल्कि मेरी तरफ देखते हुए कहा- वो कल रात को लिए थैंक्स.

मैं पूरा सेक्स में डूब चुका था, मैं अपने हाथ उसके पीछे ले गया और उसकी मुलायम नर्म पीठ को कस कर पकड़ लिया. फ़िर जब चूत ढीली हो गई तो मुझे लगा कि अब इसका छेद मेरे लंड को झेल लेगा. मैं- कमाल है यार … किसी की तारीफ करने पर भी पीटने की धमकी मिलती है.

वो बोली- साहब जी, जब मैं डुक्कू को लेकर घर वापिस आयी तो मैंने खिड़की से देखा कि वन्दना जी आपका लन्ड चूस रही थी. हालाँकि सुनील ने ये बात नहीं कही कि वो और मनोज एक दूसरे के लंड से क्या बदमाशी करते थे.

तुम्हें एक ऐसे साथी की जरूरत है, जो तुम्हारी हर इच्छा को पूरी कर सके.

क्या होता है कि जब महुआ बीनते हैं तो सर ऊपर नहीं करते हैं और मैं कब उनके इतने करीब पहुंच गया कि पता ही नहीं चला. जब चाची ठुमक कर चलती हैं, तो उनकी गांड के दोनों फलक और दोनों चुचे बड़े ही मस्त हिलते हैं. मुझे तो वो शादीशुदा भी लगता है, जब घर में कोई नहीं होता तो नीतू उसे यहीं बुला कर अपनी चुदाई करवाती है.

रंडी की सेक्सी दिखाओ इतनी देर में श्रेया का मैसेज आ गया; उसने लिखा- डन (हो गया)मैंने लिखा- मी टू … लाइक नेवर बिफोर (मेरा भी अभी तक का सबसे अच्छा. ” गौरी ने कहा।मैंने गुलाबो को बोला भी था किसी और को बुला लो पर घर वाले तो सब बस तुम्हारी जान के पीछे पड़े हैं.

अब जजा ने अपने दिल की बात मेरे सामने बतानी शुरू कर दी:तुमने ही तो मुझे कमीना बना दिया है साली. उसकी चिपकी हो फांकों वाली चुत को चीर कर सुपारे ने हल्का सा अन्दर हमला किया, तो उसकी आंखों से आंसू निकल आए. हमें पता भी नहीं चला कि कब रजाई हमारे जिस्मों से सरक कर नीचे गिर गई.

हिंदी सेक्सी वीडियो उत्तर प्रदेश

अगले दिन सोनाली की चूत दुखती रही और मैंने उसको दर्द की गोली लाकर भी दी. लेकिन रात होते ही मुझे हल्का सा बुखार आ गया और मेरा सर दर्द करने लगा. इस कोशिश में उसके मुम्मे मेरे मुँह को छूते हुए निकले तो साली ने खुद ही झुक कर अपने मम्मे मेरे चेहरे पर रगड़ दिए.

लेकिन गोपाल की स्थिति थोड़ी अलग है क्योंकि उसकी बेटी सीमा करीब 28 साल की हो गई है. यह सुन कर उसने शर्मा कर मेरे सीने पर प्यार से हाथ मार कर ‘धत्त बेशर्म!’ बोली.

इस बार के झटके से उसकी चीख उसके गले में ही रह गई और उसकी आंखों से तेजी से आंसू बहने लगे.

सीमा के बारे में सोच सोचकर परेशान हूँ, गोपाल से कुछ कह भी नहीं सकती, बेचारा परेशान होगा. ” महेश ने अपने लंड को पूरा बाहर खींच कर एक ज़ोरदार धक्के के साथ उसे फिर से अपनी बेटी की चूत में जड़ तक घुसाते हुए कहा।उईई पिता जी … आपके लंड ने तो मेरी चूत को पूरी तरह फ़ैला रखा है. मैंने नीरू की कमर को जकड़ लिया और एक ही झटके में पूरा का पूरा लंड उसकी गांड में उतार दिया.

मैं जल्दी जल्दी अपने कॉलेज से दीदी के कॉलेज के पास पहुंच कर उनका इंतज़ार करने लगा. वो मेरा लंड मेरी अंडरवियर में से निकाल कर हिलाने लगीं और कहने लगीं कि वाह आपके लंड का साइज़ तो काफी बड़ा है. मैंने ये देख लिया था, इसलिए कहीं उसकी साड़ी फट ना जाए … ये सोचकर जल्दी से उसे निकालने की सोची.

अब विक्रम ने एक बार में ही अपना समूचा लंड मेरी बीवी संजू की चूत में पेल दिया.

राजस्थानी सेक्सी बीएफ देहाती: आपको यह स्टोरी ऑफ़ सेक्स इन फैमिली कैसी लगी?[emailprotected]आगे की कहानी:परिवार में बेनाम से मधुर रिश्ते- 2. वो भी शर्ट ऊपर उठाने को मना नहीं करती थी और अपनी चूचियां दिखाकर मेरी मुठ मरवा देती थी.

वो मेरी तरफ झुक कर मेरी जीएफ की तस्वीर देखने लगीं और फिर मेरी ओर देखने लगीं. देसी Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मैं और बहन एक दूसरे के गर्म जिस्म से ओरल सेक्स का मजा ले चुके थे. हालांकि हर प्रेम कहानी की तरह शादी के कुछ सालों बाद हमारे रिश्ते भी बिगड़ते चले गए.

इसी बीच मैंने सास का ब्लाउज उतार कर अलग कर दिया और उनके बाल पकड़ कर अपना लंड चुसवाने लगा.

अविना पैंट और अंडरवियर को खोल कर मेरे लंड पर चुम्बन देने में मग्न हो गयी. गर्म और सेक्स से भरपूर मजा लेते हुए मैंने भी सोचा कि क्यों ना मैं भी अपनी एक वास्तविक घटना को सास दामाद Xxx कहानी का रूप देकर आप लोगों के साथ साझा करूं. रियल सेक्स स्टोरी के पिछले भाग में मैंने आपको बताया कि मेरे भाई ने अपनी गर्लफ्रेंड यानि की मेरे चाचा की लड़की की चूत चुदाई के साथ मेरी भी चूत और गांड की चुदाई की.