देहाती बीएफ देहाती बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स ब्लू पिक्चर हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

न्यू बीएफ 2021: देहाती बीएफ देहाती बीएफ सेक्सी, इधर मेरा लंड उसके चूतड़ों के बीच में घुसा हुआ था और मैं अपनी कमर हिलाते हुए लंड को गांड की दरार के बीच रगड़ने लगा.

चोदी चोदा सेक्स वीडियो

वो दोनों सोफ़े पर बैठ गए और अनुपम की तरफ अम्मी और कार्तिक के पास मेरी बहन बैठ गई. एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्सवो दिन 15 अगस्त 2014 का था, जब संजना दिन में रायपुर पहुंचने वाली थी.

आपको मेरी ये पोर्न स्टार सेक्स कहानी कैसी लग रही है, प्लीज मेल करें. वीडियो बफमैंने मॉम की सलवार उतार कर फैंक दी और जल्दी से उनकी चड्डी को खींच कर उनकी नीचे से नंगी कर दिया.

मेरे लंड के सुपारे को उसके गले की गर्मी का अहसास हुआ तो लंड झनझना गया.देहाती बीएफ देहाती बीएफ सेक्सी: उनमें से एक बोला कि आपके खत्म करने के बाद हम तीनों भी ये पोज़ एक बार आजमाएंगे.

मैंने सोचा कि मां चुदाए क्या करना … ये खुद चूत दे रही है, तो क्यों मना करूं.मैंने भाभी को किस करते हुए उनकी ब्रा को निकाल फैंका और उनके मम्मों पर टूट पड़ा.

फोटो मज़ा - देहाती बीएफ देहाती बीएफ सेक्सी

उस रात के बाद अब जब भी मेरा मन होता … या फहीमा की चूत में खुजली होती, हम एक दूसरे की तसल्ली कर लेते थे.मगर मुझे पता था कि पहाड़ों पर लोग देर से उठते हैं इसलिए ऐसी चुदाई में कोई रुकावट नहीं थी.

हमारा नियम था कि जिस रात जिस पति की मेरे साथ सम्भोग की बारी होती, वह घर आकर सबके लिए दुकान पर खाना ले जाता. देहाती बीएफ देहाती बीएफ सेक्सी कभी 5 मिनट तो कभी आधा घंटा, जैसे भी, जितना भी वक़्त मिलता हम अपना चुदाई कार्यक्रम चला रहे थे.

दोस्तो, सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगी कि मेरे अलावा और जो लड़कियां थीं, वो लड़कों से किस तरह से चुदवा रही थीं और हम लोगों ने एक दूसरे के पार्टनर बदल बदल कर किस तरह से चुदाई का मजा लिया.

देहाती बीएफ देहाती बीएफ सेक्सी?

लगभग दस मिनट बाद भाभी खुद चल कर मेरे कमरे में आईं और मेरे बिस्तर पर बैठ गईं. कुछ ही झटकों में मेरे लंड की हिम्मत टूट गई; मैंने उसको नीचे लिटाया और और पूरा पानी उसकी चूत में छोड़ दिया. जब मैं वहां पहुंचा तो मैंने देखा कि वो आदमी अरुणिमा की छाती दीवार से सटा कर अरुणिमा को अपने और दीवार के बीच पीसते हुए उसकी गांड मार रहा था.

मैं बार बार उसके सीने पर हाथ फेर रही थी और वो मेरे एक स्तन को मसले जा रहा था. उन्हें देखकर मैं सोचने लगा कि ये लड़की इतनी गोरी है, क्या इसकी झांट भी ऐसी ही भूरी होगी. पिंकी भाभी ने वाइब्रेटर स्लो किया और उसे चूत में ही फंसा कर छोड़ दिया.

उसने तभी पीछे से धीरे से मेरी गांड के छेद में उंगली भी डाल दी जिससे मुझे हल्का दर्द सा हुआ, पर चूत की चुदाई में गांड का हल्का दर्द कहां पता चल रहा था. आपने आवाज क्यों लगाई थी?मैं थोड़ा संभला और उससे कहा- मेरी गाड़ी के टायर में प्रॉब्लम है. लेकिन मैंने नितिन के सामने कविता को नंगी करना सही नहीं समझा और कविता का हाथ पकड़ कर कमरे में ले गया.

ये बहुत ही छोटी सी नाइटी है, बिल्कुल सुर्ख लाल रंग की, जो कि केवल जांघ तक ही आती है और कंधे पर डोरी से बंधी हुई होती है. अपने लंड की मालिश करने के लिए मैं कई तरह की क्रीम और तेल का इस्तेमाल नियमित रूप से करता हूँ.

मेरे प्यारे दोस्तो, इस चुदाई कहानी में मैं आपको अपने देवर के साथ की गई चुदाई की मस्ती को लिख रही हूँ.

उसकी पीठ पर लैपटॉप बैग, एक हाथ में लड़कियों का पर्स … और एक हाथ में एक छोटी ट्रॉली.

भाभी ने कहा- तुम अपने कमरे में जाओ, अभी थोड़ी देर बाद मैं वहीं आ जाऊंगी. ये बोलते हुए मैंने उसको खींच कर उसके मोटे मोटे चूचों को मसलना शुरू कर दिया. बस जो भी था ज्योति इस समय पूरे मूड में थी और इधर मेरा भी लौड़ा फुल टाईट हो चुका था.

रूम में आते ही अमित ने मुझे बिस्तर पर गिरा दिया और मेरी टांगों को अपने कंधों पर रखकर मेरी चुदाई शुरू कर दी. [emailprotected]हॉट पंजाबी गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:बारिश में रिसेप्शनिस्ट की चूत चुदाई का मजा- 2. आप लोग सोच रहे होंगे कि मैंने कुछ किया क्यों नहीं, तो आप लोगों को बता दूँ कि मेरे दिमाग में अलग ही खिचड़ी पक रही थी.

फिर अंकल ने मेरी बीवी का पेटीकोट उठाया और उसकी काली पैंटी निकाल कर वहीं खेत में फैंक दी और कहा- अब चलो.

उंगली एकदम से गीली चूत में अन्दर चली गयी जिससे साफ हो गया कि उसकी चूत शायद पानी छोड़ चुकी थी और अन्दर तक गीली हो गयी थी. उनकी फोटो देखने के बाद मेरा मन बन गया और मैंने उनसे बात करना शुरू कर दी. उसकी बांह और पीठ पर पड़े लाल निशान साफ साफ कह रहे थे कि किस बेदर्दी से मैंने उसे चोदा था.

जिस पति को मेरा यह नया रूप पसंद आता है, वह फरमाइश करता है कि जब उसकी बारी हो, मैं इस रूप में उसके साथ रात बिताऊं. फिर मेरे दिमाग में मस्ती चढ़ी तो मैंने एकदम से चूत से लंड निकाल कर एक बार में उनकी गांड में डाल दिया. मैं काफी देर तक बाहर खड़े होकर अन्दर से आती हल्की हल्की आवाजों को सुनता रहा.

रिया और आयेशा एक दूसरे के ऊपर चिपकी हुई थीं, इधर मैं और नेहा भी एक दूसरे के जिस्म को खा जाने की नियत से चूस रही थीं.

तब मॉम ने एक ऐसी ड्रेस पहनी हुई थी, जिसमें उनकी गांड बाहर निकली मुझे उकसा रही थी. अगले दिन मेरी अम्मी ने हमारे पड़ोसियों से बोल दिया कि हम लोग कुछ दिन के लिए बाहर जा रहे हैं.

देहाती बीएफ देहाती बीएफ सेक्सी कुछ देर बाद मैंने उसको उठा कर खड़ी किया और उसको गाड़ी के बोनट पर ले जाकर पलट दिया. मेरा ऐसा कोई इरादा नहीं था लेकिन तुम में से किसी चूतिये ने एक बात कही थी जिससे मेरी झांट में आग लग गयी थी.

देहाती बीएफ देहाती बीएफ सेक्सी फ्रेंड्स, मेरा नाम हैरी है और मेरी पहली सच्ची कहानी है जो मैं आपके साथ शेयर करने जा रहा हूं।मैं उत्तराखंड (मानस खंड) का रहने वाला हूं. चाची ने मेरे पैसे मार लिए तो बदले में मैंने उसकी बेटी को पटा कर उसकी चूत मार ली.

फ्री सेक्स पोर्न कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने जानदार लंड से अपने बेटे की साली को चोद कर मजा दिया.

पोर्न वीडियो एचडी में

उसने मुझे बताया कि कुछ दिन उस पर लाइन मार और उसे अहसास दिला कि तुझे कोई पसंद करता है. मेरी आशा के विपरीत फहीमा ने तुरंत ही अपने बुर्के का नीचे का हिस्सा उठाया और मेरे लिए अचंभे की बात ये थी कि उसने बुर्के के नीचे कुछ नहीं पहना था. रंडी बोलूँगा … चलेगा न!मॉम हंस कर बोलीं- साले तुझे जो बोलना हो, बोल सकता है मादरचोद.

हैरी को समझ आ गया कि मैंने उसको खुद को सौंप दिया है तो अब वो मुझे और ज्यादा बेताबी से किस करने लगा. मैं बातों बातों में अब उन्हें कुछ ज्यादा टच करने लगा था और भाभी भी इसका बुरा नहीं मानती थीं. एक दिन मैंने उससे उसकी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछा तो बोला- भैया मैंने ट्राई तो बहुत किया लेकिन अब तक कोई बनी नहीं.

[emailprotected]इन्स्टाग्राम: Vrinda_venusXxx डिजायर कहानी का अगला भाग:होली, चोली और हमजोली- 3.

एक दिन ऐसे ही मजाक मजाक में कहा- लगता है तुम ही मेरे पति हो! जितना समय विमल के साथ में नहीं बिताती, उससे ज्यादा तो मैं तुम्हारे साथ बिताती हूं. उस दिन मेरे अंडरगारमेंट्स उसने अपने बैग में रख लिए और फिर जब तक नाना नानी घर नहीं आ गए, मुझे वो कपड़े पहनने ही नहीं मिले. मैं इनको तुम सबकी तरफ फेकूंगी और तुम खुद पसंद कर लो कि किसे किस डिल्डो से चुदना है.

मैं उसकी कमर को इतने गौर से देख रहा था कि उसकी गोरी कमर पर भूरे भूरे रंग के रोम छिद्र तक मुझे साफ नजर आ रहे थे. इस पूरे दिन में मैंने महसूस किया कि पापा मम्मी की चुदाई के लिए तड़प रहे थे. अगर विश्वेश्वर जी से मेरी बात नहीं हुई रहती, तो अरुणिमा की बात मान भी लेता.

मैं और रिया बहुत बुरी तरीके से एक दूसरे को ऐसे किस कर रही थी जैसे कि हम एक दूसरे को खा जाने वाली थी. अरुणिमा का खुद से बाहर चुदवाना भी जारी होगा, पर अब मुझे इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ता था.

वो ख़ास बात ये थी कि उसने जो साड़ी पहनी हुई थी, वो कुछ नीचे से पहनी हुई थी, बीच में से उसका गोरा पेट दिख रहा था और पेट के बीच में उसकी छोटी सी गहरी नाभि जो कि बेहद ही कामुक लग रही थी. तुरंत मैंने अपने ऑफिस से 2 दिन के लिए छुट्टी ले ली और मीटिंग की तैयारियाँ करने लगा. मेरी कोई गर्लफ्रेंड तो थी नहीं क्योंकि अभी तक मैंने जितनों को प्रपोज किया था, सभी ने मना कर दिया था.

वो बोली- मेरी जान मार ही डालोगे क्या, आराम से करो, मैं कहाँ भागी जा रही हूँ?मैं- मेरी रानी अब कंट्रोल नहीं होता, अब तेरी बुर का भोसड़ा बनने दे.

रिया ने पैंटी पहनी हुई थी तो मैंने पीछे से जाकर उसकी पैंटी को उतार दिया. मैंने उससे पूछा- कैसा लग रहा है पावनी?वो थरथराती आवाज में बोली- आह भैया कुछ मत पूछो … बड़ा अच्छा लग रहा है. उसका ब्वॉयफ्रेंड होने के बावजूद भी वो मुझसे काफी हंसी मजाक करती थी और उससे मेरी बहुत बातें होती रहती थीं.

उस काम के बदले में मुझे भाभी से थोड़ी हेल्प हो जाती थी, अब मुझे खाना नहीं बनाना पड़ता था. मैं- आंह रंडी निकलने वाला है मेरा … आह …मॉम- आह आह हां मादरचोद … मेरा तो निकल चुका है भोसड़ी वाले आंह!मैं- हां पता है साली … जल्दी बोल रांड साली मेरे लंड का पानी मुँह में लेगी?मॉम- हां क्यों नहीं … तेरे लंड से मेरा छेद पहली बार चुदा है … जरूर पूरा पानी पी लूंगी साले आह … ला लंड मुँह में दे दे कमीने.

उन्होंने कहा- दराज में से कॉन्डम निकाल कर चढ़ा कर जल्दी से अन्दर डाल दो. मॉम- बेटा ये सब किसी को पता चला तो किसी अच्छी लड़की से तेरी शादी नहीं होगी. फिर अंकल ने अपना लौड़ा मेरी भोसड़ी में पेल दिया और एकदम से चुदाई की रफ्तार बढ़ा दी.

टीचर के साथ सेक्सी

आंटी हमेशा सलवार सूट ही पहनती थीं लेकिन जब कभी साड़ी पहनती थीं तो एकदम गहरे गले का ब्लाउज पहनती थीं.

उसके बाद मैं और रोमा आंटी निकिता को रेलवे स्टेशन पर छोड़कर बाहर निकले तो मैंने भी मजाक मजाक में रोमा आंटी से बोला- आपकी बार-बार शिकायत रहती थी कि मैं निकिता को ज्यादा समय देता हूं और आपने कहा भी था कि कभी निकिता से फुर्सत मिले, तो मुझ पर भी ध्यान देना. मैं तब तक उनकी चूचियां से खेलता रहा और लंड को नीचे से ही चूत पर दबाता रहा. इसी के साथ वो इस बात के लिए भी अपने आपको बड़ी समझदार मान रही थी उसने आखिरकार अपने भाई को चुदाई के लिए पटा ही लिया है.

होंठ चुसाई के बाद फहीमा को दीवार के सहारे उल्टा खड़ा कर उसकी गर्दन से चूमना और चाटना शुरू कर दिया. पहले तो मैंने उसके मन में अपने लिए प्यार पैदा किया, उससे सहानुभूति भरी बातें की कि क्या हुआ. ब्लू फिल्म वीडियो देसीअमित ने हाथ पीछे ले जाकर मेरी ब्रा भी उतार दी, फिर मेरी पैंटी भी मेरे जिस्म से अलग कर दी.

मैंने जैसे ही झड़ना चालू किया, संजना मेरे वीर्य को मुँह में लेकर पीने लगी. मैंने भी बीवी की बात सुनकर फेसबुक पर एक फेक आईडी बना ली और अपने लिए माल की तलाश करने लगा.

अपने भैया का यूं मेरी तरफ देखना, मेरी गोरी चूचियों को ताड़ना मुझे भी अच्छा लगने लगा. मैं उसकी पैंटी के ऊपर अपने मुँह को ले गया और किसी पागल कुत्ते की तरह उसकी बुर को चड्डी के ऊपर से ही सूंघने और चाटने लगा. मैं एक पल को चौंका और बोला- क्या मतलब?‘मैंने और कुछ नहीं पहना, अब मैंने नहीं उतारनी बस … तू चाहे और कुछ करने को बोल दे!’उसने फरमान सुनाते हुए कहा.

मैं लंड चूसते समय सिर्फ यही सोच रही थी कि आज इसके मोटे लंड से मस्त चुदाई होगी. उसे देख कर मैं रुक गया और गर्दन पर किस करता हुआ उसके स्तन को सहलाने लगा, जिससे उसका दर्द थोड़ा कम हो. थोड़ी देर बाद कंडोम का टेस्ट आना समाप्त हो गया तो मुझे मजा आना खत्म हो गया.

अब बुआ की कमर पकड़कर मैंने उन्हें घोड़ी बना दिया और लंड उनकी गांड में घुसेड़ दिया.

दोस्तो, जब तक मेरी शादी नहीं हुई थी तब तक उन तीनों ने ही मेरी प्यास बुझाई थी. भाभी मेरा पूरा साथ दे रही थीं, साथ ही उनकी सिसकारियां और लल्ला की कंपन मुझे जन्नत की सैर करा रही थी.

मैंने कहा- अरे नीचे क्या देख रही हो भाभी … आपको देखना है क्या?वो असमंजस में मेरी तरफ देख कर बोली- हां दिखाओ कहां है?मैंने कहा- देख लेना, मगर किसी को बताना नहीं. धीरे-धीरे दोनों के मन में एक दूसरे के प्रति जवानी की भावनाएं ज्यादा जागृत होने लगी थीं. उस वक्त उसने टी-शर्ट और एक ढीला सा हाफ लोवर पहना हुआ था, जो कि उसकी जांघ के काफी ऊपर तक चढ़ गया था, जिससे उसकी गांड का काफी हिस्सा खुला दिख रहा था.

नाजिर अम्मी से बोला- अपनी यह नाईटी उतार दे और सफेद रंग का सूट पहन ले. थोड़ी देर बाद मैं बोला- कुछ बुरा लगा क्या?वो बोली- नहीं बुरा तो नहीं लगा, लेकिन पहले ये तो बताओ कि मैं आपकी क्या हूँ. अब आगे गे गे सेक्स कहानी:मदन जी बोले- अभी रात के 9 ही बजे हैं, तुम चाय बनाकर ले आओ, फिर बातें करेंगे.

देहाती बीएफ देहाती बीएफ सेक्सी फिर आयेशा मेरा मुंह अपनी चूत में दबाने लगी और मैं उसका पेशाब पीने लगी. फिर आखिरकार वो दिन भी आ ही गया, जब वो मेरे लंड से चुदने के लिए राजी हो चुकी थी.

கன்னடா செக்ஸ்

क्योंकि मेरी सहेली का पति आज बाहर गया है और वो आज दिन में मेरे घर आ जाएगी. लंड दो से तीन इंच घुस गया और मेरे लंड की लचीली चमड़ी अब पूरी खुल चुकी थी. कुछ देर सोचने के बाद मैंने तय किया कि इसकी तो मैं मार के ही रहूँगा.

रेशमा आंटी ने अम्मी को बाबा का फोन नंबर दिया और बोलीं- इस पर बात करना, बाबा नाजिर नाम है. [emailprotected]फ्री सेक्स पोर्न कहानी का अगला भाग:ब्यूटीपार्लर वाली की रगड़ कर चूत चुदाई- 2. નેપાળી બીપીफिर से रूम में कामुक आवाज गूंज उठीं ‘आआह ईईउआह …’कुछ देर तक दोनों चूत चोदते रहे.

वो भी भड़क कर बोले- सुन बे भड़वे, तेरी रंडी को चुदवाने के लिए मुझे तेरी रजामंदी नहीं चाहिए.

[emailprotected]गे गे सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरा छठा पति बड़े लंड वाला निकला. मैंने हैरी का लंड अपने हाथ में पकड़ा तो वो मुझे पहली बार से ज्यादा मोटा और लम्बा लगा.

मैंने जब पूछा कि बाकी लड़कियों को क्यूं नहीं खिलाई, तो उसने कहा- बाकी लड़कियों को क्यूं? इन दो दिन में तो चुदाई सिर्फ तुम दोनों की हुई है ना … तो तुम दोनों ही तो दवा खाओगी. सीमा को मेरे सामने उससे बात करने को झिझक हो रही थी इसलिए उसने मुझे बाहर जाने बोला. उसने बाद में बताया भी कि शिमला में वो खुलकर चुदवाना चाहती थी, बिना किसी हया शर्म के.

ऐसे में मैंने सोचा कि ममता भाभी को पटाने की कोशिश की जाए, मेरी उनसे बात नहीं होती थी.

मैं अपना हाथ उसकी चूचियों की तरफ ले गया और उसकी एक चूची को दबाने लगा. मॉम- आह बेटा ऐसे ही चोद … जोर से … फाड़ डाल मेरी चूत … आंह मैं चलने काबिल ना रहूँ, आज इतना चोद मेरी चूत मादरचोद. इससे नसों में खून का प्रवाह बढ़िया होता है और हमारा लिंग नसों से ही तो बना है।अगर आप किसी भी प्रकार का धूम्रपान या शराब का सेवन करते हैं तो उससे छोड़ दें और एक स्वस्थ जीवनचर्या अपनायें।मेरी ईश्वर से यह कामना है कि आपका सेक्स जीवन खूब खुशहाल हो!आपको पेनिस साइज़ से सम्बन्धित यह जानकारी कैसी लगी?ईमेल के जरिये मुझे जरूर बताएं.

सेक्सी वीडियो हिंदी में सेक्स वीडियोमैंने उसकी गांड में अपना पूरा थूक डाल दिया और उसकी गांड को अपने मुँह से और नाक से रगड़ने लगा था. बताते हैं औरत हो या लड़की पीरियड बंद होने के तुरंत बाद सेक्स का मन ज्यादा चलता है.

चूत और लंड की सेक्सी वीडियो

फिर पापा ने मम्मी के ब्लाउज के ऊपर के दो बटन को खोल दिया और अपने दोनों हाथों से मम्मी के कंधे के नीचे ले गए. अब जब अंकल नहीं होते तो मैं आंटी से घंटों बातें करता और उन्हें ताड़ता रहता. इस बार प्रिया खुद अपनी टांगें चौड़ी कर दीं और मेरा लंड उसकी चूत में अन्दर तक उतर गया.

सभी मुझे संगीता के रूप में देखकर बहुत उत्तेजित और खुश हुए और मेरी जोरदार गांड बजाई. मैं इतने से ही खुश था कि इतनी सुंदर लड़की मुझे देखने को मिलती रहेगी. थोड़ी देर ऐसे ही चिपटे रहने के बाद मैंने आयेशा का सर पकड़कर उसे नीचे बैठा दिया.

थोड़ी देर ऐसे ही चिपटे रहने के बाद मैंने आयेशा का सर पकड़कर उसे नीचे बैठा दिया. सामान्य औपचारिकताओं के बाद हम दोनों सेक्स में लग गए और उन्होंने मुझे पूरी तरह से नंगी कर दिया था. संजना ने काले रंग की छोटी सी सिल्की ब्रा पहनी थी जो उसके खूबसूरत मम्मों को छुपाने की कोशिश कर रही थी.

मैं आपको विश्वास दिलाता हूँ मेरे साथ जो कुछ भी हुआ, उस सबकी एक एक बात जानकर आप मदहोश हो जाएंगे. फिर वो बारी बारी से मेरे दोनों नर्म चूचों को मुँह में लेकर चूसने लगा, खींचने लगा.

जब आसिफा से ये सब बात हुई तो मैंने उससे ग्रुप सेक्स में अम्मी को शामिल करने को कहा.

लेकिन मुझे मज़ा बहुत आया होली में!रंग लगाने के चक्कर में सभी लड़कों ने सभी लड़कियों के जमकर बूब्स दबाए. انڈیا سیکسی ویڈیوउसने स्तन उसकी हर हरकत पर हिल रहे थे, जिससे मेरा लंड उफान मार रहा था लेकिन मेरे पालथी मारकर बैठने से वो ऊपर नहीं उठ सकता था. इंडियन नंगी सेक्सीमैंने पूछा- तू उसके साथ कितनी बार कर चुकी है?वो बोली- अभी सिर्फ एक ही बार अन्दर लिया है. मैं अचंभित रह गई कि इतनी कम उम्र और इतना मूसल किस्म का लंड!उसका लंड लम्बा होकर उसकी चड्डी में नीचे उसकी गांड की तरफ चला गया था.

मैं संजय उर्फ़ सजनी एक बार फिर से आपके सामने अपनी गे सेक्स कहानी का अगला भाग लिख रही हूँ.

अब भाभी लंड पर उछलने लगीं और उसकी गांड की थप थप की आवाज बाथरूम में गूंजने लगी. मैंने उनसे कहा कि अरुणिमा को ये पता नहीं चलना चाहिए कि ये फोटो वीडियो मुझे चाहिए. उसने मुझे आप कहना बंद कर दिया और मेरी जवानी पर टूट पड़ा- आह … क्या मस्त मलाई हो यार तुम … तुम्हें तो खा जाने का दिल करता है.

अपने जिस्म को ढीला छोड़ दो और ताकत मत लगाना प्लीज, नहीं तो तुम्हें ज्यादा दर्द होगा. ये सब सोचकर मेरे मन में और मेरे शरीर में अजीब सी लहर सी चलने लगी थी. मुझ पर वह विश्वास भी करते थे इसलिए उन्हें भाभी को अकेला छोड़ने में कोई दिक्कत नहीं थी.

ચોદવાના વિડિયો

मैं कुछ बोलने का सोच ही रहा था कि अचानक मुझे अरुणिमा की मादक सिसकारियों की आवाज सुनाई दी. और क्यों रोकती, मुझे तो मर्दों से रगड़वाना बहुत पसंद है।नीचे बैठे लड़के ने मेरी टांगें अंदर तक रंग दी और चूमने लगा।किसी ने मेरे चूचे मेरे ब्लाउज/चोली में से बाहर निकाल लिए. पापा को देखकर मम्मी ने बहुत खुशी से उनका स्वागत किया और उनके पैर छूने के लिए नीचे झुकीं तो उनकी साड़ी का पल्लू नीचे गिर गया और उनके आधे से अधिक दूध बाहर दिखने लगे.

मैं फुल स्पीड में चुदाई करने लगा और अपना पूरा वीर्य उसकी चूत में डाल दिया.

अब मैं घर पर अकेला था, दोपहर 2 बज रहे थे लेकिन कविता का कुछ पता नहीं था.

मुझे नहीं पता है कि मेरा हथियार कितना अन्दर तक जाता है लेकिन हां जिसकी में जाता है, वो आह आह करने लगती है. उसने मेरी गांड पर जोर जोर से 4 थप्पड़ मारे जिससे मुझे दर्द तो हुआ मगर मुझे मज़ा भी बहुत आया. सेक्सी गानों का वीडियोमैंने उससे कुछ पूछना चाहा तो वो मुझे नजरअंदाज करके अपने फोन से किसी से बात करने लगी.

मगर वो लंड पुलकित का था, तो मोहित ने मेरे चूतड़ पर थप्पड़ मारकर कहा- साली, आज तेरी हार्डकोर चुदाई होगी. मदन जी ने सबसे पूछा- तुम लोग मेरे चौधरी मामा को तो जानते हो, जो पास के गांव में रहते हैं, जिनका फल का बगीचा है. मैं बोला- मैं भी आया!वो बोली- अर्जुन अंदर मत निकालना, अभी मेरी शादी नहीं हुई.

फिर उसने चाय बनाई और मुझे बताया कि चाय में एक दवा मिला दी है, जिससे तुम्हारे अन्दर घोड़े जैसी ताकत आ जाएगी. अब उसी चूत को राखी के दिन कैसे चोदा, उस हॉट कजिन सेक्स कहानी को पढ़ें!पिछली चुदाई के कुछ दिन बाद ही मेरा लंड फिर से विनी से मिलने की जिद करने लगा.

अब विकास अपनी बहन नेहा के गाल पर प्यार से हाथ से फेरते हुए, उसके गले तक ले आया और नीचे जाते हुए उसने अपनी बहन नेहा की एक चूची के उभार के ऊपर हाथ रख दिया.

उसने पूछा- आप कहां के हो, क्या करते हो?मैंने उसे बताया और उससे बातें करते हुए उसकी मादक गांड और चूचों को ताड़े जा रहा था. मेरे मन में बार बार आ रही थी और मैं सिर्फ एक ही बात सोच रहा था कि भाभी ने कुछ कहा क्यों नहीं. फिर बाबा बोला- सुन, घर में अकेली रहना क्योंकि मेरे काम में कोई रुकावट आएगी तो सब गड़बड़ हो जाएगी.

ब्लू पिक्चर सेक्सी सेक्स जब दोनों साथ में झड़ गए और अपने कपड़े पहन कर निकल गए, तब मैं भी शांत हो गया. मेरे पीछे पीछे ही नितिन भी मेरे कमरे में आ गया, जिसका मुझे पता नहीं चला.

गुरबचन जी बोले- हां बे भड़वे! इससे पहले हम दोनों का लंड फिर से खड़ा हो जाए, ले जा अपनी रंडी को. नमन भैया का एक हाथ उस लड़की की गर्दन पर था और दूसरा हाथ उसकी कमर पर. आंटी काली ब्रा पहनी हुई थीं जिसमें उनके मम्मे बहुत अच्छे लग रहे थे.

সেক্সি বিএফ ফিল্ম

मैं बरामदे में गया और जोर से दरवाजा बंद कर दिया लेकिन मैं अन्दर ही रुक गया. मैं आंटी का इतना रंडी रोना सुनकर पसीज गया और उन्हें वहीं ले जाने लगा. कुछ देर बाद जया का पैर मेरे पर आ गया तो मैंने उसके पैर को थोड़ा देर रखा रहने के बाद हटा दिया.

रोशनी भाभी ने तुरंत उठकर मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया और चूसने लगीं. उसने कुछ देर एक्सरसाइज की और थोड़ी बहुत मुझसे बातें करने के बाद नीचे चली गई.

मेरा और किशोर का राज खुल गया था क्योंकि उन दोनों ने ही हमें चुदाई करते हुए देख लिया था.

मम्मी की पीठ ज्यादा खुली हुई रहती है क्योंकि उनका ब्लाउज एक पतली सी पट्टी से अटका रहता है. उसका लंड काफी बड़ा था, मेरे मुँह में आधा ही जा रहा था लेकिन मुझे मजा भी बहुत आ रहा था. मैंने झट से एक लम्बी वाली टी-शर्ट पहन ली, अन्दर न ब्रा थी और ना ही पैंटी और वो टी-शर्ट भी मेरी बस चूत को ही छुपा रही थी.

लेकिन विश्वेश्वर जी से बात करने के पश्चात ये तो तय था कि अरुणिमा साफ़ झूठ बोल रही थी. कुछ मिनट के बाद जब आइसक्रीम की ठंडक से मामी कुछ नॉर्मल हुईं, तब उनकी कसमसाहट कुछ कम हुई. मैंने कहा- साली जी, सही से चूसो ना … ब्लूफिल्म में लंड चुसाई नहीं देखी है क्या?वो मेरी तरफ मुस्कुरा कर देखने लगी- आपको सब मालूम है?मैंने कहा- हां बेबी, मैंने तुम्हारा मोबाइल देखा है, मैं तुम्हारी सारी बातें जानता हूँ.

हॉट गर्ल गोवा सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं एक अस्पताल में डॉक्टर हूँ.

देहाती बीएफ देहाती बीएफ सेक्सी: इसके बाद उन्होंने उस रात एक बार और मेरी चुदाई की, फिर हम दोनों नंगे ही चिपक कर सो गए. कई बार मैंने फोन सेक्स में ही उससे चूत में उंगली करने को कहा, वो उंगली करती थी.

नमस्कार दोस्तो, मैं सुरेंद्र सिंह अपनी कहानी का अगला भाग लेकर आपके सामने प्रस्तुत हूँ. अरुणिमा बीच वाली सीट पर घोड़ी की तरह बनी थी और वो ड्राइवर उसको पीछे से चोद रहा था. अब हम दो जवान खूबसूरत लड़कियां नंगी होकर एक दूसरी के जिस्म से चिपकी हुई थी.

मुझे भी लगा कि अगर मैं इसे ऐसे ही मना करती रहूंगी तो बाद में ये मेरी ज़िन्दगी नरक ना बना दें, तो एक दिन मैंने चुदवा ही लिया और अब मेरा हाल ऐसा हो गया है कि मैं बिना सेक्स के रह नहीं पाती.

चुदाई से बेड हिल रहा था जिससे रोमा डर रही थी लेकिन मैं इसमें कुछ नहीं कर सकता था. आपने मेरी पिछली चुदाई कहानीविधवा बुआ को होटल में चोदामें पढ़ा था कि कैसे मैंने अपनी विधवा बबली बुआ को जयपुर के होटल में रात भर चोदा था. उस वक्त वह पूरी मिट्टी से सनी हुई थी और उसके मुँह पर मेरा पूरा वीर्य छप गया था.