बीएफ सेक्सी हिंदी ऑडियो में

छवि स्रोत,गांव का सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सील पैक bf: बीएफ सेक्सी हिंदी ऑडियो में, फिर मैं फ्रेश हुई और एक शॉर्ट गाउन निकाल कर उससे बोली- वंश मैं ये पहन लूँ?वंश बोला- मम्मी, आप तो लेडी की जगह गर्ल बन के रहने लगी हो.

सेक्सी बीएफ नंगी चुदाई

मैंने दीपाली से कहा कि पहले सारे कपड़े उतार देते हैं, फिर खेल शुरू करते हैं. मां और बेटे की बीएफ वीडियोसुबह सुबह मज़ा आ गया।दिन भर काम और बाद में शाम हो गयी।मैं तैयार होने लगी। ब्लाउज पेटीकोट में थी तब उपिंदर आया, मेरी एक चुम्मी ली और बोला- आज दुल्हन बन रही है, वो भी दो दो दूल्हों की। पर सुहागरात तेरी नहीं होगी.

ऊपर से झूला भी कस रहा था, दिलिया की चूत बार बार झड़ रही थी और पिचकारियां छोड़ रही थी. एक्स एक्स एक्स हॉट ब्लूहम दोनों बुरी तरह चिल्ला रहे थे- आअह्ह ह्ह ओह ह्हह उफ ममम आअह्ह्ह मर गय्ययीईइ राजजा!सारा दिलिया के ओंठ लगातार चूस रही थी और चूची दबा रही थी.

उसने भी अपने हाथ को पीछे किया और मेरे सुपाड़े को नाखून से खरोंचती और फिर अपने कूल्हे के बीच में लंड को फंसाने की कोशिश करती या फिर कूल्हे के ही ऊपर हल्की थपकी देती.बीएफ सेक्सी हिंदी ऑडियो में: मैंने जल्दी से अपने अंडरवियर को नीचे किया और उसकी चूत पर लंड लगाकर उस पर पूरी तरह से लेटते हुए उसके होंठों को चूसने लगा.

मुझसे कण्ट्रोल नहीं हुआ, तो मैंने उसे झट से लिटा दिया और उसके ऊपर जाके उसकी चूची चूसने लगा.ये सेक्स कहानी आपको रोमांचित कर रही है या नहीं … आप अपनी राय इस पते पर दे सकते हैं.

ओपन सेक्सी पिक्चर पाठवा - बीएफ सेक्सी हिंदी ऑडियो में

अब हम दोनों का ही मन बिल्कुल नहीं कर रहा था चुदाई का।जल्दी हम दोनों को नींद आ गई.बाथरूम के अन्दर वो खड़े होकर मूतने लगी, मैं वहीं बाहर खड़े होकर उसे मूतते हुए देखने लगा.

मैंने उसकी गांड अपने लंड की तरफ खींच कर उसके पैरों को उसके पेट से चिपका दिया. बीएफ सेक्सी हिंदी ऑडियो में मेरा ससुराल अहमदाबाद में था, तो महीने में एकाध बार तो आना जाना होता ही था.

जैसे ही पैंटी मेरी बदन से अलग हुई, शर्मा सर ने उसे मेरे हाथों से छीन कर अपनी जेब में डाल लिया.

बीएफ सेक्सी हिंदी ऑडियो में?

अब वो हफ्ते में 2 बार आने लगा, कभी कभी वो रात में भी भाभी के पास ही रुकने लगा था. फिर अपने दोनों हाथ ऊपर करके एक लंबी सांस ली और मेरी तरफ देख कर मुस्कुरा दीं. बेटा, मैं तेरे स्वाभिमान की कद्र करता हूं पर तू भावनाओं में बह कर नहीं यथार्थ के धरातल पर सोच.

जब मैं काफी गर्म हो गया तो अब मुझे उसकी चूत में लंड डालने का मन हो गया. उसके बाद मैंने झट से अपना बटुआ निकाला और उसे सौ का एक नोट दिया और कहा- बस कार्नर साइड मत आना. उनका मेरे अंगों को छेड़ने से चुत पर से मेरा कंट्रोल छूट रहा था, मुझे तो डर रहा कि कहीं सुसु पैंटी में ही ना निकल जाये.

पर मैंने समय और मौके की नजाकत देखते हुए खुद ही अपना पैंट और अंडरवियर निकाल दिया अब मैं सिर्फ एक टीशर्ट में था. वो भी मेरे सर को पकड़ कर दबाने लगी कि मैं और जोर से उसकी चूची को काट लूं. उसने कहा- लंड पहले से भी बहुत सख्त लग रहा है, लगता है कि चूत की सिलाई उधेड़ देगा.

पूरा लंड जाते ही मैंने उसको गोद में उठा लिया और उसने अपनी दोनों टांगें मेरी कमर पर लपेट लीं. मैं उस पर मुठ मारने वाले को रंगे हाथ पकड़ना चाहती थी कि कौन है, जो ऐसा कर रहा है.

उसने मुझसे मजाक करते हुए कहा- हां हां … मुझे पता है क्या बात करोगे?मैंने रात में अमित से सब बात की.

उसकी बेताबी बता रही थी कि उसे सेक्स करने की बहुत ज्यादा तलप लगी थी.

क्योंकि बाहर के देशों में इससे भी कम उम्र की लड़कियां लंड का मजा ले चुकी होती हैं. जब मैंने कुर्सी पर बैठ कर उनके लंड की सवारी की तो मुझे बहुत मजा आया. इस बार उसे दर्द नहीं हो रहा था तो दोनों एक इस चुदाई का भरपूर मजा लिया.

मैं- मैं तुम्हारी मदद करूं क्या?मीता- आप और मदद कैसी मदद? और आप क्यों करोगे मदद?मैं- देखो, तुम मेरी अच्छी कस्टमर हो और फिर मेरी दोस्त जैसी भी हो … और मैं तुम्हारे राज को राज भी रखता हूँ. दोस्तो, आप सोचो कि एक गोरी अंग्रेजन लाल कलर के वनपीस में क्या पटाखा लगी होगी. फिर भाभी को सीढ़ी के किनारे में खड़ा करके भाभी की चुद में अपना लंड सैट किया और एक ही झटके में पूरा का पूरा लंड चूत में उतार दिया.

थोड़ी ही देर बाद एक-दूसरे के जिस्म की गर्मी ने एक हल्की लौ जलने लगी, जो हाथ अभी तक मेरी पीठ को अहिस्ता-अहिस्ता सहला रहे थे, वो ही हाथ अब मेरी पीठ को भींचने लगे थे.

मेरी बात सुन साली जी उठ कर बैठ गयीं; मेरी लुंगी जो उसकी कमर के नीचे बिछी थी उसे उसने मुझे दिखाया उस पर खून और रज मिश्रित वीर्य के दाग लगे थे. सास-ससुर अपने पैतृक घर में रहते हैं और मेरे पति शहर से बाहर गये हुए हैं. डॉक्टर जूली ने चेक-अप के बाद प्राथमिक जांच में बताया था कि चुदाई करते वक्त लंड की नसें नीचे दबी रह गई होंगी शायद इसीलिए लंड सामान्य स्थिति में नहीं आ रहा है.

मुझे उसकी उत्सुकता दिखाई दे रही थी कि वह जल्दी से जल्दी मुझे मसलना चाहता है. मैंने अपनी निक्कर को जांघों तक नीचे कर लिया और अंडरवियर को भी थोड़ा और सरका लिया जिससे चाची के हाथ को मेरे लंड को सहलाने और हिलाने के लिए पर्याप्त जगह मिल जाये. मैं भी अपने एक हाथ से सारा की चूत में उंगली काने लगा और दूसरे हाथ से दिलिया की चूत में उंगली करने लगा.

मेरी आंखों से आंसू की धार बह रही थी और आंखें लाल हो गई थीं, पर भी मेरा बेटा वंश मेरे मुँह को चोदे जा रहा था.

मैंने अपनी जीभ उनके मुँह में डाली हुई थी और उनकी जीभ को चूस रहा था. उसके बाद मैंने उससे पूछा- तुम कहां से हो?दीपाली- मैं साऊथ इंडियन हूँ.

बीएफ सेक्सी हिंदी ऑडियो में साली जी का चुदने से प्रथम स्खलन हो रहा था और उनके मुख से अस्पष्ट सी आवाजें आने लगीं थीं. मैंने भी उनकी आंखों में प्यार से झांकते हुए कहा- चाहिए तो बहुत कुछ है लेकिन अभी सिर्फ चाय ले आइए.

बीएफ सेक्सी हिंदी ऑडियो में उन्होंने मुझसे लगभग चिपकते हुए कहा- मुझे अपनी जुगाड़ बनाएगा?मैंने तुरन्त चाची को गले से लगा लिया और किस करने लगा. मुझे आज भाभी की चूत को चूसने में मजा आ रहा था और दूसरी तरफ भाभी मेरे लंड को चूस कर मुझे और भी मजा दे रही थी.

हमारी कामक्रीड़ा के एक हफ्ते बाद ही मुझे पीरियड्स हुए और मेरा बहुत बड़ा टेंशन चला गया.

हिंदी बीपी एक्स

और कमला चाची भी हमारे घर को‌ अपना‌ मानकर कोई भी जरूरत पड़ने पर मेरी मम्मी-पापा से ही कहती है।मोनी के ससुराल के बारे में मुझे ज्यादा कुछ तो नहीं पता, बस इतना ही पता है कि मोनी की शादी पास के ही गाँव में हुई है. अचानक नम्रता को ध्यान आया और बोली- यार हम लोग छत पर हैं, आओ नीचे चलें, दिन होने वाला है. मंजू बोली- भड़वे ऐसा कर के दिखा?मैं उठा, उसके ब्लाउज को जोर से खींचा.

मैं दीदी के बूब्स के निप्पल को मुँह में लेकर चूसने लगा और काटने लगा और एक हाथ से दूसरे बूब्स को दबाने लगा. उसने मेरा चेहरा ऊपर उठाया और मुझे मेरे हाथ पर प्यार से एक चुम्बन लिया. साथ ही लंड घुसते ही मेरी जांघें मोनी की जांघों से टकरा गईं और एक पट्ट की सी आवाज हो उठी.

तो मैंने उसे बताया कि जब से मैं यहाँ आया था, तब से!वो मेरी तरफ देखकर फिर से हंसने लगी.

चुत के मसल्स किसी इलास्टिक की तरह खुल रहे थे और लंड को अपनी बांहों में कस कर पकड़े हुए थे. वो हंस कर बोला- तो एक काम करते हैं, मैं आपको गर्लफ्रेंड समझ लेता हूँ और शिमला ले चलता हूँ. जिस दिन लंबा चोदना होता था … उस दिन उसे कहीं सुनसान जगह में चोद लेता.

उसने मुझे अपने मुँह में दूध का घूंट भर के मुझे अपने मुँह से ही दूध पिलाया. वो तो बस अपने मजे में मस्त थे।ससुर जी ने सुमीना यानि अपनी बेटी की चूत में अपनी पूरी जीभ घुसा रखी थी और बड़े ही मजे उसे खा जाने वाले तरीके चाट रहे थे. फिर मैं उसके मम्मों को छोड़कर उसके पेट पे चुम्बन करने लगा, उसकी नाभि में जीभ डाल के घुमाने लगा.

बिमारी की गंभीरता को देखते हुए उनको हॉस्पिटल में भर्ती करवाना पड़ा. वो अब नितिन से विनती करने लगी- अब अपना लंड निकाल लो, अन्दर जलन मच रही है.

ऐसे ही एक बाद मेरे भी दिल में भी ख्याल आया कि क्यों न मैं अपनी आपबीती सौतेली मां की चूत चुदाई की सच्ची सेक्स कहानी को आपके साथ शेयर करूं. मुझे अब लगने लगा था कि मेरा लंड जांघिया को फाड़कर बाहर आने की कोशिश कर रहा है. मैंने शिखा के होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और लंड को और ज्यादा अंदर पेल दिया.

मैं- चलो अब दर्द से ध्यान हटाओ औऱ मजे में ध्यान लगाओ, फिर तुम्हें दर्द महसूस नहीं होगा.

एक रानी में अपनी रेशमी सी दाहिनी टांग मेरे ऊपर रखी हुई थी जबकि दूसरी रानी ने अपनी साटिन जैसी मक्खनी टांग मेरे बदन पर फ़ैलायी हुई थी. फिर मेरे माथे में किस करने की शुरुआत कर दी … इसके बाद मेरे होंठों में किस, फिर मेरी गर्दन में किस की. उसको बहुत ही ज्यादा दर्द हो रहा था और उसकी आंखों से आंसू आना शुरू हो गये थे.

जब निखिल ने रीमा को चोदा और इसके बाद रितेश मीरा निखिल और रीमा इन चारों ने ग्रुप सेक्स का मजा लिया. तसल्ली रख कुत्ते … सब्र का फल मीठा होता है … अभी दिखाती हूँ तुझे जन्नत के जलवे.

रितेश ने उसकी कमर के नीचे तकिया लगा दिया और उसकी जोरदार चुदाई करने लगा. अनिता की चूत एक बार झड़ चुकी थी तो मुझे उसे फिर से चुदाई के लिए तैयार भी करना था. फिर देखते ही देखते मेरे अंदर हवस जाग गई और मैंने मनीषा के होंठों को चूस लिया.

सेक्सी मालू

उस मैंने बताया कि आप तो कह रहे थे कि आप बहुत बढ़िया माल दे रहे हैं, लेकिन इस बार तो ब्रा पहनते ही इसकी स्ट्रिप टूट गई.

आप लोगों को तो पता ही है कि गांव में लोग अक्सर जल्दी खाना खा पीकर सो जाते हैं. मैं उसकी गिरफ्त में से आजाद होते हुए अपने नंगे चूतड़ मटकाती हुई कमरे में गई और उसको भी अंगुली से अंदर आने का इशारा किया. बाद में हम दोनों फ़िर एक ही सोफ़े पर पास पास बैठ गए और एक दूसरे की आंखों में देखने लगे.

… अपना पानी मुझे पिला दे आज।दस मिनट तक और मैंने उसकी चूत को जमकर चोदा और फिर मेरा पानी निकलने को हो गया. ऐसा तो होना ही था और मुझे इस बात का पूरा पूरा इमकान भी था कि मेरा पाला किसी छुई-मुई से न पड़ कर एक बला की खूंखार शेरनी से पड़ने वाला था, जिस ने मेरे साथ इन पलों को साकार करने के लिए चौदह साल इंतज़ार किया था. बीएफ सेक्सी आंटी कामैं सीधा लेट गया और पूनम ने मेरे सोये हुए लंड को अपने मुंह में भर कर फिर से चूसना शुरू कर दिया.

और थोड़ा दिमाग दौड़ाने पर समझ आया कि खुशी मुझे प्रतिभा और सुमन को सौंप रही थी. पेंटी का कपड़े वाला हिस्सा मंथर गति से धड़क रहा था और योनि की दरार के आस-पास पेंटी का गुलाबी साटन कुछ-कुछ सील कर(नमी युक्त होकर) गहरे रंग का दिख रहा था.

”अंकल अपनी पहली चढ़ाई कर चुके थे, उन्होंने मेरी कमर को पकड़ के मुझे बेड के किनारे के एकदम करीब खींचा और मेरी चुत में किस की बारिश शुरू कर दी. इधर नम्रता को भी जब मेरी गर्म पेशाब का अहसास अपनी चूत में हुआ, तो वो आह-ओह, आह-ओह करने लगी. बॉस मुझे बहुत वासना भारी निगाह से देख रहे थे और मैं सर झुका के खड़ी थी.

फिर कुछ देर तक वो मेरी पीठ और बालो को सहलाते रहे और मैं उनकी पीठ और चूतड़ को सहलाती रही. उसने इस मौके का पूरा फायदा उठाया और अपना लंड मेरी चूत में पेल दिया. कहानी का मजा लेने से पहले अगर आप मेरे और परिवार के बारे में कुछ जान लें तो आपको कहानी समझने में सुविधा होगी.

उस टेबल पर गिलास रख कर वो घुटनों के बल मेरे पास नीचे बैठकर मेरी पैंट को खोलने लगी.

उसके बाद तो नितिन ने अनेकों लड़कियों और भाभियों की मस्त चुदाई का धमाल किया. अब मुझे पूरा यकीन हो गया था कि इसके साथ कुछ भी करने से इस पर कोई नहीं प्रभाव नहीं पड़ेगा.

तसल्ली रख कुत्ते … सब्र का फल मीठा होता है … अभी दिखाती हूँ तुझे जन्नत के जलवे. मैंने तेजी से उंगली चलाते हुए अपनी चूत को रगड़ डाला और मेरी चूत से पानी निकल गया. मैं दीदी के बूब्स के निप्पल को मुँह में लेकर चूसने लगा और काटने लगा और एक हाथ से दूसरे बूब्स को दबाने लगा.

उन्होंने दोनों गिलासों में शराब डाली, फिर बोले- चल मेरे और अपने पैग वाले गिलास में मूत. चाची ने अपनी टांगें मेरी कमर पर बांध दीं और मेरा लंड चाची की चूत में स्वत: ही प्रवेश करने लगा. मैंने निहारिका से पूछा- तुम भिवानी कब आओगी?उसने कहा- जानू, मेरा बस चले तो अभी आ जाऊं.

बीएफ सेक्सी हिंदी ऑडियो में एक दिन मेरी ममेरी बहन शुभ्रा ने भी वो कहानियों की किताबें मेरे हाथ में देख लीं और उस दिन के बाद से हम दोनों एक दूसरे के राजदार हो गये. वो तो बस अपने मजे में मस्त थे।ससुर जी ने सुमीना यानि अपनी बेटी की चूत में अपनी पूरी जीभ घुसा रखी थी और बड़े ही मजे उसे खा जाने वाले तरीके चाट रहे थे.

पूजा भाभी की चुदाई वीडियो

उसने कहा- ऐसा नहीं हो सकता, आप आज हमारी दुकान पर 3 बजे आइए, मैं देखता हूं कि क्या प्रॉब्लम है. मैंने घुटने मोड़े … और उनके पैरों पर मुँह के बल लेट गया, जिससे कि मेरा पेट उनके घुटनों पर आ जाए. ”मैंने अपना खाली कॉफ़ी का मग मेज़ पर रखा, अपना सूटकेस अपने हाथ में थामा और सोफे से उठ कर खड़ा हो गया.

थोड़ी देर के बाद रमेश ने रिया के मुंह से लण्ड निकाल लिया।फिर रिया उसी तरह घोड़ी बनी हुई थी. मुझे कभी अपने नीचे दबा कर रगड़ता रहा और कभी अपने ऊपर लेटा कर उछालता रहा. बीएफ सेक्सी फिल्में बीएफ सेक्सीउसने कहा- तुझे भाभी को चोदना है, तो अन्तर्वासना पर कहानी पढ़, वहां पर ऐसी बहुत सी सच्ची कहानी हैं.

लगता है मुझको तो निचोड़ ही डालोगे … और ठरकी कहीं के! निशा कोई लड़की नहीं है.

लेकिन आज सुबह से ही वो भी काफी खुश दिखाई दे रही थी, खुश तो मैं भी था. और फिर दिलिया ने अपनी बोलने की स्पीड बढ़ा दी और हम उसी स्पीड से चुदाई में लग गए.

आप ऐसे अचानक आ गए?वो बोला- अच्छा हुआ साली रंडी तूने सूसू नहीं किया. उसने अपने दोनों नाजुक हाथ मेरी छाती पर रख लिए और लंड को उछल उछल कर अंदर बाहर करने लगी. मैं निढाल होकर शुभ्रा के ऊपर ही आ गया।ऐसे एक भाई ने बहन को चोदा पहली बार!कुछ एक या दो मिनट ही बीते थे कि मेरा लंड जो अभी तक तना हुआ था वो शिथिल होकर चूत से बाहर आ चुका था.

मेरी गर्लफ्रेंड बुरी तरह से हिल रही थी और उसका रो रो कर बुरा हाल था क्योंकि मेरा झटका बड़े जोर से लग रहा थे पूरा बेड चरमरा रहा था।कुछ देर में उसे भी मजा आने लगा वो भी मेरा खुल कर साथ देने लेगी।पर कुछ ही देर में उसने पानी छोड़ दिया.

मेरे कपड़ों की फिटिंग काफी टाइट थी जिसमें से मेरे शरीर का हर एक अंग उभर कर आ रहा था. कॉफ़ी पीने के बाद वो उठा, तो मैंने देखा कि उसकी नजर मेरे मम्मों से हट ही नहीं रही थी. इतना सुनते ही उसके मुखड़े पर स्माइल आ गयी और वो कहने लगी- हां, मुझको लंड राइडिंग करना बहुत पसंद है.

वीडियो फिल्म बीएफ फिल्म”अंशु अभी इसकी प्यास बुझा दे, बाद में हम दोनों मिल के इसे नहला देंगे. एक तो चाची की जवानी मस्त और ऊपर से वे बड़े ही चुस्त कपड़े पहन कर अपने जिस्म की नुमाइश कुछ इस तरह से करती थीं कि उनको देखने वाला आदमी अपने लंड को हिलाए बिना रह ही नहीं पाता था.

சன்னிலியோன் செக்ஸி

स्कूल के प्रिंसीपल एक 6 फीट लम्बे और तगड़े बदन वाले हट्टे कट्टे मर्द थे. कुछ देर में हरकेश ने सुमन को घोड़ी बना दिया और उसके बालों को पकड़ लिया. लाल लालिमा के साथ हल्का सफेदीपन उस जगह दिखायी पड़ रहा था, जहां पर इन दिनों मेरे लंड का आना जाना था.

तभी याद आया कि अंकल जी का कड़क लंड कैसे मेरे पेट पर चुभ रहा था और अब वही लंड मेरी चूत में घुसेगा. नम्रता- तुम अपने लंड का माल ऐसे मत खराब करो, मेरी चूत के लिए छोड़ दो. मेरे रहने से तुम दोनों पर कोई शक भी नहीं करेगा और तुम सेफ भी रहोगी.

उसकी सीत्कारों की वजह से पंद्रह-बीस मिनट में ही मेरे लंड ने उसकी गांड में थूक दिया. अगली सुबह रोज की तरह रितेश छत पर योगा करने पहुंचा, तो उसने देखा कि मीरा वहां पहले से ही आई हुई है. मेरे साथ उसने भी पानी पिया और फिर वो डायनिंग टेबल के पास खड़ी हो गयी.

फिर मेरी ननद और ससुर की वजह से मुझे मेरे पति ने मुझे ससुराल में ही छोड़ दिया रहने के लिये कि उनका ध्यान रखो. ”अंकल ने टॉफी का कवर निकालकर टॉफ़ी को झट से मेरी चुत में घुसाया, थोड़ी देर तो मुझे कुछ समझ नहीं आया, पर टॉफी की ठंडक चुत में महसूस होते ही मेरे शरीर में रोंगटे खड़े हो गए.

मैं उसकी जांघों पर बैठा और अपना लंड अमीषी की गांड की दरार में रख कर ऊपर नीचे करने लगा.

मगर मैंने उसकी चूचियों के निप्पल को दबा कर उसको गर्म करना शुरू कर दिया. एक्स एक्स वीडियो हॉट गर्लकुछ देर किस करने के बाद वो बोली- चलो अन्दर कमरे में पलंग पर चलते हैं. xxx hd देसीएक क्षण को तो पूरा आलम एक अत्यंत चमकदार रोशनी में नहा गया लेकिन इस के साथ ही लाइट चली गयी घड़ … घड़. डगशाई पहुँच कर वसुन्धरा मुझे रास्ता बताती गयी और हम लोग एक घुमावदार और सुनसान सी सड़क के सिरे पर स्थित वसुन्धरा के कॉटेज पहुँच गए.

उसने ब्रा दिखानी शुरू कीं तो चाची ब्रा उलटते पलते हुए मुझसे पूछने लगीं- बता न कौन से रंग की लूँ?मुझे ब्रा को लेकर कुछ समझ नहीं आया कि मैं क्या बोलूँ.

दीपाली मुझसे दया की भीख मांगने लगी- नहीं समीर प्लीज ऐसा मत करो, छोड़ दो मुझे … नहीं तो मैं चिल्लाऊँगी … देख लेना. घर में जाते ही मैंने घर के दरवाजे और खिड़की बंद कर दी और दीपाली को कहा- तू पहले जाकर फ्रेश होकर आ जा. शलाका ने मेरी पैंट की चेन खोल कर मेरा तना हुआ लंड अपने हाथ में ले लिया और मेरे लौड़े के सुपारे को सहलाने लगी.

मैं- तुम्हारा साथ देने के लिये मैं तो तैयार हूँ, लेकिन हुआ क्या?नम्रता- मेरी ससुराल में किसी दूर रिश्ते में शादी है और सभी लोग उस शादी में जाने के लिये तैयार बैठे हैं, लेकिन मैंने स्कूल का बहाना बनाकर घर वालों को शादी में न जाने के लिये मना लिया. अब तक इस सेक्स कहानी में आपने पढ़ा कि नम्रता और मैं, हम दोनों अपने अपने पार्टनर के साथ रात को चुदाई कर चुके थे. मैंने उसे बोला- बिल्कुल भाई तू चिन्ता मत कर, मैं सब सैट कर दूंगा, तू आराम से जा और बाकी मेरे ऊपर छोड़ दे.

anita सेक्सी वीडियो

फिर नम्रता ने अपने कूल्हे फैला दिए, जो कि मेरे लिये इशारा था कि जब तक पानी गर्म हो रहा है … तब तक मैं उसकी गांड घिसाई कर सकता हूं. मैं तुमको जोर जबरदस्ती से नहीं कह रहा हूँ, जो भी होगा तुम्हारी और मेरी मर्जी से होगा. उसने बोला- मैं तो शादीशुदा हूँ यार … तुम जाओ मेरे लिए तो पति हैं मेरे!अब हम दोनों मूवी देखने पहुंचे.

मैंने अब सर को थोड़ा उठाते हुए चूत में जीभ फंसाकर चूत की एक फांक को अलग किया और मुँह में भर कर चूसने लगा.

आज जो मैं कहानी आप लोगों को बता रहा हूँ वह मेरी ही छोटी बहन और मेरे बीच में हुई घटना के बारे में है.

तो उसका रिप्लाई आया- ओके, वेटिंग कम फास्ट!मैं झटपट उसके पास गया।मैंने सोचा तो था कि कोई जबरदस्त पटाखा होगी. जब एक बार वीर्य निकालने के बाद भी लंड शांत नहीं हुआ तो दूसरी बार लगातार मुट्ठ मारी तब जाकर मुझे नींद आई. बीएफ चोदने वाली वीडियोकरीब सुबह के दस बज़े हम मेरे दोस्त के घर पहुंचे और साथ में कुछ सब्जियां और दूध भी ले गए कि अगर किसी ने पूछा तो बता देंगे कि मेरे दोस्त ने ये बोला है.

”अंशु भी बिस्तर पे चढ़ गयी।मालिनी, ध्यान से सुन, आज सुहागरात है और आज तू न नहीं करेगी। सुबह मैंने कामिनी को अपनी चूत चुसवाई थी और मेरे प्रेमी ने उसकी गांड मारी थी। और अब हम दूसरा प्रोग्राम करेंगे। तू मेरी गांड का स्वाद लेगी और अपने दूसरे दामाद से चुदवाएगी. मैं यह देख कर रुक गया और शीना की गांड मारने की मेरी स्पीड कम हो गई. उस दिन शायद कोई ऐसा अवसर था, जिस वजह से ऑफिस का कोई अन्य स्टाफ आया ही नहीं था.

अब हम दोनों काफी खुल चुके थे और मुझे पता था कि आज की रात एक बांके गबरु जवान का लंड मेरी चूत का बैंड बजाने वाला है. मूत्र विसर्जन के बाद वो किचन में गया और वहाँ से दूध की मलाई ले के आया.

मैंने फिर कहा- रश्मि बोलो न … क्या मैं तुम्हारी चूत में अपना लंड डाल दूँ?वह थोड़ा खीजती हुई बोली- जो भी करना है … जल्दी करो.

उसकी गीली चूत में लण्ड सर्र से अंदर चला गया और मैंने उसे 15 मिनट तक चोदा और हम दोनों झड़ गए. तभी तुषार बोला- अरे भार्गव … तुम आशना का मोबाइल चार्ज कर रहे हो या आशना को चार्ज कर रहे हो … अच्छा बच्चू … अकेले अकेले मज़े लिए जा रहे हैं!उन दोनों के आ जाने पर मुझे बहुत शरम आने लगी. उस दिन हम दोनों ने काफी देर तक एक दूसरे से खुल कर बात की और उस दौरान उसने मेरे हाथ को अपने हाथ में लेकर सहलाया.

साउथ बीएफ गांव घर का देहाती बीएफ मेरी सहेली की तरह मैं भी बॉयफ्रेंड बनाना चाहती थी और एक पड़ोस के लड़के से मेरी बात शुरू हो गयी. अंदर जा कर सूटकेस में से तौलिया, सूखे अंडर गारमेंट्स और दूसरा सूट निकला और बाथरूम में जा घुसा.

वह उठी और मुँह मेरी तरफ करके अपनी टाँगें चौड़ी करके मेरे लंड को चूत पर रगड़ने लग गई. मैंने स्कर्ट को पकड़े रख कर विरोध करने लगी, पर अंकल मुझसे ज्यादा ताक़तवर थे. इसका अंदाजा मुझे इस अहसास हो गया था कि उसकी चूत की दीवारें कामरस से भीग कर बिल्कुल चिकनी और फिसलन भरी हो चुकी थीं.

बड़े लंड वाला सेक्सी वीडियो

जब मैं इतनी मजबूर थी कि खुदकुशी के सिवाय मेरे पास कोई चारा नहीं था. इतनी देर तक तन्वी साइड में अपनी चूत खोले बैठी थी।मैंने हर्षिल को आँखों ही आंखों में तन्वी की तरफ इशारा किया तो हर्षिल ने अपनी दो उँगलियाँ तन्वी की चूत में घुसेड़ दी. मुझे आने जाने में काफी थकान हो जाती थी और रोज इतनी दूर के सफर में तकलीफ भी काफी होती थी.

मगर चाची के चूचों को चूसते ही वो मुझे चोदना शुरू कर देती थी और मैं उनकी चूत के रसपान से वंचित रह जाता था. मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रखकर जोरदार किस किया ऐसा लगा कि मैं स्वर्ग में हूँ। फिर मैंने उसे किस करते हुए उसके पैंट में हाथ डाल दिया.

रुमित बोला- अरे आशना अब किससे शर्मा रही हो … मुझसे या तुषार से?तब मैं शरम के मारे कुछ नहीं बोल सकी.

फिर उसने मेरी लोअर को खींच दिया और मेरे शॉर्ट्स में से मेरे लंड को अपने दांतों में पकड़ लिया. इसी बीच रितेश टेबल के नीचे से अपने पैर बढ़ाकर कर मीरा की चुत को सहलाने लगा. वो बोले- अभी नहीं साली रंडी, अभी तो मुझे तेरी चूत में लंड भी डालना है.

क्योंकि अपने पति के बिना एक महीने तक रहना क्या होता है कोई मुझ से पूछे. से बहुत मिन्नतें करने के बाद वह कुछ रूपये में एक बर्थ देने के लिए तैयार हुआ. कुछ पहले से ही सूजन थी ऊपर से जूली की कसी हुई चूत और साथ में सारा की चुदाई करके लंड लाल गाजर के जैसा हो गया था.

वो मेरे कान की लौ को चाटने के बाद मेरे पेट को चाटने लगा और उसके बाद मेरी नाभि को चाटने लगा.

बीएफ सेक्सी हिंदी ऑडियो में: मैंने उसकी टांगों के बीच में पहुंचकर लंड को हाथ में लेकर बहन की चूत के मुहाने में टिका दिया और हल्का सा धक्का लगाया. लगभग डेढ़ साल से अपनी माँ के पास रह रही थी, अर्थात प्रेग्नेंसी के बाद से ही लगभग डेढ़ साल से पति से संसर्ग नहीं हुआ था.

जब मैंने भारत से अमेरिका जाकर ज्वॉईन किया तो सब मेरे लिए बहुत नया था. मैंने अब सर को थोड़ा उठाते हुए चूत में जीभ फंसाकर चूत की एक फांक को अलग किया और मुँह में भर कर चूसने लगा. पर शीना पूरी तरह से झड़ने के बाद बुरी तरह थक चुकी थी और उसमें थोड़ी भी हिम्मत नहीं थी कि वह खुद चार्ज ले सके और अपने आप मेरा लौड़ा अपनी गांड में घुसा कर उछल कूद कर सके.

सभी आंटियों, भाभियों और लड़कियों को मेरे खड़े लंड की ओर से तुनकी मारके नमस्ते.

जैसे तुमने आज मुझे अपने प्यार में भिगो दिया, डुबो दिया और मैं इसी तरह सारी ज़िन्दगी तुम्हारी प्यार में डूबी रहना चाहती हूँ. मेरे लंड पर एक तिल भी है जो मेरे लंड को और ज्यादा आकर्षक बना देता है. मैं काफी देर तक इस गाउन को पहन कर खुद को देखती रही और अपनी चूचियों को सहलाते हुए, अपनी चूत को रगड़ने लगी.