एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी ब्लू पिक्चर नंगी पुंगी

तस्वीर का शीर्षक ,

1 ते 30 घन: एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ, मैंने उसको पूरा अपनी बांहों में भर लिया जैसे पूरी जिंदगी उसे ऐसे ही चिपके रहना चाहती हूं.

ओपन सेक्सी वीडियो एक्स एक्स

फिर वो वापस आकर झाड़ू लगाने लगी।अंजलि ने मेरी तरफ देखा और मुस्कराने लगी।इतने में मेघा बाहर से आई. सेक्सी वीडियो बबीता जेठालालमेरे होंठ उसके होंठों पर थे और वो ऊं … ऊं … की आवाज करते हुए चिल्लाने की कोशिश करने लगी लेकिन उसकी आवाज मेरे मुंह में ही दब जा रही थी.

रानी …मेरा निकलने ही वाला है मंजुला … कहां निकालूं?”मेरे अन्दर ही बरस जाओ राजा …अब तो मुझे पूरा मज़ा चाहिए!” वो कहने लगी. इंडियन सेक्सी इंडियन सेक्सी सेक्सलगभग दस मिनट तक वो दोनों मेरे स्तनों से खेलते रहे और मुझे छोड़कर वापस चले गये.

उसको तैराकी सिखाने के बदले में मैंने उससे कहा कि मैं उसको नंगी देखना चाहता हूं.एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ: मैंने उनकी बात काटते हुए कहा- आप तो एकदम मस्त आइटम हो जी, मुझे तो जरा सिगरेट की तलब लगी, इसलिए मैं बाहर जा रहा था.

रंडी के घोड़ी बनते ही मैंने अपना भनभनाता हुआ लंड उसकी गांड में पेल दिया और उसको अलग अलग पोजीशन में कोई 25 मिनट तक चोदा.आरजू की फैमिली उसकी देखभाल के लिए उसी बंगले के पीछे के रूम में रहती है.

पंजाबी सेक्सी डॉट - एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ

मैं एक बार फिर से चुदासी हो उठी थी और अमन को अपनी चूचियां पिलाने का मजा लेने लगी थी.तभी उसकी बेटी वहां पर आई और उसने अपने पापा को सांत्वना देकर चुप करवाने की कोशिश की.

धीरे धीरे झटकों में गति आने लगी और कुछ ही मिनट के बाद वो फिर रूका और मेरे होंठों को चूमने लगा. एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ जैसे ही उन्होंने मेरे बारे में जाना तो बोलीं- अरे ये तो अपना अक्षय है … कितना बड़ा हो गया है.

चुदाई की गर्मी मुझ पर भरी पड़ रही थी मगर मेरी पहली चुदाई कौन करेगा इसका मुझे कुछ भी पता नहीं था.

एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ?

मेरी मम्मी का नाम ज्याना है, प्यार से सभी उन्हें ज्यानु पुकारते हैं. वो कसमसाने लगीं तो इसी में गलती से मेरा हाथ मामी के चूचों से टच हो गया. अब जब सेक्स रिलेटेड बातें चालू हो चुकी थीं, तो मैंने भी मनजीत से उसके बारे में पूछ लिया कि आपने कभी घर से बाहर किसी से चुदाई करवाई है.

धीरे-धीरे इस हार्ड चुसाई में अब अलीमा भी बलविंदर का साथ देने लगी थी. लंड के इस विकराल रूप को देख कर नीरजा देवी की आंखें फटी की फटी रह गईं. जब मैं आरती की चूचियों को चूस और मसल रहा था, तो आरती बड़ी मस्ती से ‘आह उह्ह आह्ह राहुल उह्ह बेबी’ की आवाजें निकाल रही थी.

इसलिए रात भर फेसबुक और व्हाट्सएप्प में ऑनलाइन रहती है।फिर वह मेरे पास आकर बैठ गई तो मेरी गांड फटने लगी. मैंने अपनी छाती थोड़ी सी उठानी शुरू कर दी ताकि उसके हाथ मेरी पूरी चूची पर पहुंच जायें. फिर मैं पलंग के नीचे खड़ा हो गया और लंड दीदी के मुँह में लंड डाल दिया.

सेक्सी फ्रेंड की कहानी में पढ़ें कि मैं कॉलेज में छात्र संघ अध्यक्ष था. फिर हम तीनों साथ में घर आए और माया ने मेरा मज़ा लेते हुए कहा- अजय जी काफी डार्क और हैंडसम हैं … नहीं!मैंने भी कहा- वो तुम्हारी सेक्सी फिगर से काफी इंप्रेस हुए थे, जिस तरह से तुम्हें घूर रहे थे.

अंदर जाते ही मैंने चाची को बेड पर गिरा लिया और उसकी गांड में लंड को पेल दिया.

इस समय मोबाइल में ऐसा दिख रहा था, जैसे एक कुत्ता कुतिया के ऊपर चढ़ गया हो.

हम दोनों एक ही हॉस्पिटल में काम करती हैं।इस कहानी को लड़की की आवाज में सुनें. उसने मुझसे भाभी कह कर ही बात किया और कुछ भी गलत कमेंट या ऐसा कुछ नहीं किया. भले ही उस रात मैंने शनाज़ की एक ही बार चुदाई की लेकिन वो पूरी रात मेरे लंड को हाथ में लेकर मुझसे बातें करती रही.

सीमा कांपती हुई आवाज़ में कराहने लगी- अहह अभिमन्यु … आराम सेईई … ओह्ह धीरे धीरे करो ना … ओह सीईईई!उधर अपने सामने इतनी हॉट माल को मुझसे इस तरह चुदता देख मुझे यह सब एक सपने जैसा लग रहा था जिससे मैं कभी जागना नहीं चाहता था।अब मैं अपने लंड को धीरे धीरे सीमा की चूत के अन्दर बाहर करने लगा, उसको भी मज़ा आ रहा था, वो प्यार से मेरी पीठ पर हाथ फेर रही थी. कज़न सिस्टर सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपने मामा की बेटी की चुदाई कर चुका था लेकिन अब परीक्षा की वजह से वो चूत नहीं दे रही थी. इन सबके साथ मसाज बहुत जरूरी है प्रीति जी!” आप इनको सोमवार, बुधवार, शुक्रवार हफ्ते में तीन दिन लाइये, मसाज करेंगे.

बादाम, मेवे की खीर और मेरी मादक अदाओं ने ससुर जी के शरीर में तूफान मचा रखा था.

कभी मेरी शर्ट को … और कभी मेरी पैंट को … इरादा तो नेक है ना?रोहन भी स्मार्ट था. मैंने कहा- मेरी जान तुम में बसी है, अब तुम्हारी जान कैसे ले सकता हूँ. फिर माँ ने जॉब छोड़कर घर घर जाकर खाना बनाने का काम शुरू किया और हमारे घर की किस्मत बदल गई.

अभी भी मेरे अंदर इतनी हिम्मत नहीं आ रही थी कि मैं उसके साथ कुछ छेड़खानी कर सकूं. उसी दिन शाम को मैं मंजुला को एक मॉल में ले गया और शिवांश के लिए कुछ खिलौने और कपड़े खरीद दिए. बड़े सलीके से बंधी साड़ी को मैंने धीरे धीरे किरण के शरीर से अलग किया, फिर उसका ब्लाउज और पेटीकोट उतार दिया.

तभी मैंने देखा कि मामी आज बहुत सेक्सी अंदाज़ में साड़ी पहने थी और अपनी साड़ी को घुमा कर कमर में खोंसे हुई थी.

कुछ पल यूं ही रहने के बाद भाभी ने इशारा किया, तो मैं सीधा होकर भाभी से चिपक कर लेट गया. मॉम फ्रेश होकर गुस्से से भरा चेहरा लेकर सामने आईं और गालियां बकने लगीं.

एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ मैंने उनसे पूछा- घर में और कौन कौन है?उन्होंने बताया कि वो, उनके पति, एक बच्चा और उनके देवर अपनी पत्नी के साथ रहते हैं. दूसरे दिन बाबूजी मार्केट गये और वापस आकर सामान का झोला रसोई में रखा और खाकी रंग का एक लिफाफा मुझे देते हुए बोले- यह तुम्हारे लिए है.

एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ वह मेरे दोनों नंगे मम्मों को दबाने लगा और नीचे होकर मेरी चूत को चाटने लगा. अलीमा जिस आदमी बलविंदर से बच रही थी … आज उसी के चुम्बनों से अलीमा को मज़ा आने लगा था.

मैं सोचने लगी कि अब इस चोली पहनने वाली बात से अपनी बात शुरू करनी है और तनु को सेक्स के लिए मनाना है।तनु फिर बोली- दीदी क्या हुआ? आप चुप क्यों हो?तो मैं बोली- धीरे से बोल.

हिंदी ब्लू फिल्म बीपी

मैंने रसोई से थोड़ा अलग होकर उनके कान में पूछा- नजमा दीदी ने क्या करने के लिए बोला था तुम्हें?इस सवाल पर वो शर्मा गयी. इसके बाद में मैंने उसकी दीदी की पेंटी भी निकाल दी और उसकी चूत में उंगली करने लगा. मतलब जैसे हीरोइन लोग पहनती हैं, ऊपर से नीचे तक एक रहता है … लेकिन ऊपर कंधे से बस डोरियों पर रुका होता है.

फिर अमन कमरे में आया तो उसके हाथ में एक शहद की बोतल थी जो वो किचन से उठा लाया था. उसने चुपके से कमरे का दरवाजा बंद किया और जाकर बेड के पास पहुंच गया. अब वो बड़े प्यार से अलीमा को चूम रहा था क्योंकि अलीमा पूरी तरह से समर्पण कर चुकी थी.

यहां अन्तर्वासना की कहानियों में भी पढ़ता रहता कि उसने मेरा लंड मुंह में ले लिया और ये वो इत्यादि.

इस तरह से रोहन ने रजक लाल और सेक्यूरिटी गार्ड से अपनी गांड खुलवा ली थी. मैंने अपनी छाती थोड़ी सी उठानी शुरू कर दी ताकि उसके हाथ मेरी पूरी चूची पर पहुंच जायें. तो उसने मेरी चूची को पकड़ा और निप्पल देखने लगी।पर उसे नहीं मिला।इधर मेरी हालत खराब हो गई.

रात को अक्षय फिर देर से आया … लेकिन मैंने आज एक और ज्यादा हॉट सी नाईटी पहन ली थी. मैंने उसको दर्द की गोली दी और फिर हम दोनों अपनी अपनी जगह पर जाकर सो गये. टी टी ने मेरा पर्स खोला और एक क्रीम निकाल कर अपने उंगली में लगाई और मेरी गांड के अंदर लगाने लगा.

अब वो मेरे चूत की खुदाई अपने मोटे लन्ड से करने लगा।दर्द के मारे मेरी जान निकली जा रही थी लेकिन मैं ना तो उसको रोक सकती थी और ना ही कुछ बोल रही थी।इसी तरह सागर ने काफी झटकों में अपना मोटा लन्ड मेरी चूत के पार किया. राजेश भी मेरी मां की मटकती गांड को देख कर आहें भरता हुआ उसके पीछे पीछे चल पड़ा.

मैं खडी़ हो गई, मेरा पल्लू निचे पडा़ था, कमर से ऊपर एक भी कपड़ा नहीं था. उसके बाद मेरा ब्लाउज उतारकर और मेरी पूरी साड़ी उतार कर मुझे नंगी कर दिया. हेमा चाची ने मेरे लंड को देखा और कहा- आज तो तुमने मेरे साथ पूरा दम लगा कर सेक्स किया है … अब इसे क्यों हिला रहे हो?मैंने कहा- हां चाची सेक्स तो फुल स्पीड में किया है, लेकिन आप सच बताना मजा आया या नहीं!हेमा चाची हंस कर बोलीं- हां भास्कर आज तो तुमने मुझे खुश कर दिया है.

अब मुम्बई में किसी औरत को लाने के लिए आप भी सोच सकते हो कि उसे घर भी चाहिए और उसके खर्चे का हिसाब भी फिर अलग रह जाता है.

उसने मादक से स्वर में कहा- बर्फ तो अभी नहीं है, अगर तुम्हें कुछ और चाहिए तो बता दो. अब ये और भी ज्यादा साफ़ हो गया था कि माया अजय को लेकर चुदासी हो गई थी और उसको याद करके आनन्द ले रही थी. तीन दिन न्यूड ही रहना था … तो खाने पीने का पूरा बंदोबस्त करना जरूरी था.

मेरी उम्र 31-32 साल हो गई है, मेरी शादी को 10 साल हो चुके हैं, लेकिन मैंने आज तक सही ढंग से चुदाई नहीं करवा पाई है. फिर उसने मुझे चोदना शुरू कर दिया और मैंने अपनी चूत को पूरी तरह से ढीली छोड़ दिया ताकि उसका लंड जितना हो सके मेरी चूत में आ सके.

टी टी ने फिर पूछा- मैडम आपके पास कोई सबूत है?मैंने थोडी़ देर सोचा, पसीने से माथा गीला हो गया था. इसमें मैंने 1 बार निधि की गांड मारी और 2 बार उसकी चूत का भोसड़ा बनाया. उसने टांगें खोलकर अच्छी तरह से सेठ का लंड अपनी चूत पर रगड़वाना शुरू कर दिया.

गुजराती ओपन सेक्स वीडियो

जैसे ही उसकी नजर मेरे लंड पर जाती थी तो मेरे लंड में एक लहर सी उठ जाती थी जो बार बार मेरे कच्छे को ऊपर उठा देती थी.

सुबह पेपर था, तो मैं जल्दी उठ गया और दीदी भी नाश्ता करके हम दोनों अपने अपने कॉलेज निकल गए. शायद उन्हें लगा होगा कि मैं गहरी नींद में हूँ इसलिए बड़ी मम्मी जी बिंदास होकर अपनी चुत और चूचियां दिखा रही थीं. उसको पक्का यकीन था कि सेठानी अपनी चूत चुदवाने के लिए ही बुला रही है.

मेरी चाची की भतीजी की शादी फिक्स हुई और घर में काम होने के कारण मुझे चाची के मायके बाइक से जाना पड़ा।मैं आपको बता दूं कि मैं पहले भी वहां जा चुका था. तो वो अब अपनी चोली को बार बार हाथ लगा कर देख रही थी।नया सा लग रहा था तनु को!पर मैं तो उस अप्सरा सी सुंदर बहन का जिस्म देख कर पागल हुई जा रही थी।तभी मम्मी ने आवाज लगाई. सेक्सी बीपी वीडियो गेममगर उस वक्त चाची का महीना चल रहा था इसलिए 4-5 दिन से हमारे बीच में कुछ नहीं हो पाया था।मैं जैसे ही टॉयलेट के बाहर आया तो मेरे आगे मेरी बहन श्वेता खड़ी थी.

अब वो रोने लगी और चिल्लाने लगी- उई माँ … आआ … आह्ह … ऊईई … नो हह्ह … मर गई. उसके पति के सामने ही मैं उसकी एक एक चूची को बारी बारी से मुंह में लेकर पी रहा था.

मां की जबरदस्त चुदाई के बाद प्रिंसीपल और मास्टर दोनों अपने कपड़े पहन कर जाने लगे. फिर एक दिन मेरे पास मेरी मौसी डिम्पी का फोन आया- हैलो सौरभ, कैसे हो?मैं- ठीक हूं मौसी. उनके जाने के बाद मैं कम्पार्टमेन्ट में घुसी और मेरे शौहर के सामने बैठ कर अपने ब्रा ठीक करके ब्लाऊज के बटन लगाने लगी.

मेरी सहेलियां बताया करती थी कि वो कैसे अपने बॉयफ्रेंड के लंड को चूत में लेकर मजा लेती हैं. और तुम वही रात वाली साड़ी पहन कर जल्दी से तैयार हो जाओ।लगभग 35 मिनट बाद मैं तैयार हो गयी. तो हेमा चाची कामुकता से बोलीं- जल्दी अन्दर डालो भास्कर … अब रहा नहीं जा रहा.

रास्ते में मैंने पूछा कि कोई कोल्ड ड्रिंक या जूस पीना है?उसने कहा- मुझे बियर पीनी है.

ऐसी सुंदर अप्सरा मेरे नसीब में कहां!भाभी बोली- सुंदरता को बाहर से ही देखा है या अंदर के नजारे भी लिये हैं. आप अपने स्टाफ से मुझे इंट्रोड्यूस करवओगी कि मैं आपके साथ कौन हूं?”सर जी, आप ही बताओ मैं सबसे क्या कहूं?”भईय्या, जेठ जी, शिवांश के पापा … अरे कुछ भी कह देना.

दो दिन बाद उसका जन्मदिन था, तो मैंने उसके लिए दो गिफ्ट्स लिए और उसको फोन पर मैसेज करके पूछा कि तुम्हारे जन्मदिन पर हम कहीं नाईट आउट पर चलें. तो उन्होंने मुझे देखते हुए देख लिया और पूछा- क्या देख रहा है?मैं चुप रहा. मैंने एक हल्के ब्लू कलर की साड़ी पहन ली और जैसे हमेशा रेडी होती हूँ, वैसे तैयार हो गई.

मुझे बस एक बेटी ही पैदा हुई … और गांव में इतना ज्यादा कोई खुलापन नहीं है कि मैं किसी और से चुद जाती. Xxx लड़की की चुदाई स्टोरी के पिछले भागअंकल ने दिया पहली चुदाई का पूरा मजामें अब तक आपने जाना था कि अलीमा बलविंदर से लाड़ दिखाने लगी थी क्योंकि जब एक मर्द लड़की को चोदने के बाद भी उसे प्यार करता है तो लड़की उस पर फ़िदा हो जाती है. सेक्स कहानी के पहले भागसास दामाद के बीच वासना का रिश्तामें अब तक आपने पढ़ा कि मैंने दारू के नशे में अपने दामाद के सर को अपनी चुचियों में भींच लिया था.

एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ लड़कों की नजर और विचार दोनों ही लड़कियों के स्तनों और उनकी योनि में उलझे रहते हैं. कुछ देर बाद हम दोनों ने अपने कपड़े पहन लिए और मैं अपने रूम में आ गया.

चुदाई वाली लड़की

!शैलेश के होंठों पर उंगली रख कर मैंने उसका हाथ अपनी ब्रा में कैद चूचियों पर रखवा दिया. हमारे समाज में ऐसी बहुत सी औरतें हैं, जो अपने जिम्मेदारी को निभाते निभाते थक जाती हैं. वो एकदम से मस्ती में भर गयी और मोबाइल फोन पर सेक्स कहानी पढ़ते हुए अपनी चूत को ऊपर उठाने लगी.

मुझे बिना चादर के नींद नहीं आती, तो मैंने चादर अपने ऊपर कर ली और आधे पैर सीधे करके बैठ गया. फिर जब संजय कमरे में आ गया, तो मैं से बाहर आ गयी और अपने कमरे में चली आयी. गुजराती वीडियो सेक्सी हिंदीदोस्त बोला- तो एक बार कोशिश तो कर!मैं बोला- अबे पागल है क्या? वो बहू है मेरी.

फिर उसने कहा कि उसकी फैमिली अभी फिलहाल यहां शिफ्ट नहीं होना चाहती है.

इस चक्कर में कभी कभी हमारी निगाहें टकरा जाती थीं और मैं नजर झुका लेता था. जवान ने मेरे शौहर से कहा- हां! अब तसल्ली हो गई, तुम लोग बिल्कुल क्लीन हो.

मैं एक हाथ से उसके मम्मों को दबा रहा था और दूसरा हाथ मैं धीरे-धीरे उसकी चूत पर ले गया. कुछ देर तक मेरी मां की गांड को चोदने के बाद उस प्रिंसीपल ने मेरी उसकी गांड में ही अपना माल गिरा दिया. मैंने एक झटका दिया और मेरा सुपारा उस जवान लड़की की कुंवारी बुर में फंस गया.

मैंने कहा- तो अपनी दीदी की बुर भी दिलवा दो न? मैं तुम्हारी दीदी की बुर में लंड को डालना चाहता हूं.

जब मैं उनके रूम में पंहुचा, तो पूजा आंटी पंजाबी ड्रेस में थीं और देव अंकल टी-शर्ट, जीन्स में थे. मैंने एकदम से स्पीड पकड़ ली और उसकी चूत में लंड को अंदर बाहर करते हुए उसको चोदने लगा. मैंने उसे ताना मारा- आपने शौहर से दूर रह कर कहाँ से औलाद लाएगी?तब शनाज़ ने शर्मा कर मुझे कहा- आज से आपको शिकायत का मौक़ा नहीं मिलेगा.

गांव के साथ सेक्सी वीडियोमैंने देखा कि ज़ोहरा आपा अपने कपड़े बदल कर सिर्फ एक गाउन पहन कर गैलेरी पर खड़ी होकर नीचे देख रही थी. उस रण्डी की आंखें बंद थीं और वो बिल्कुल मस्त होकर चूत रगड़ने में लगी हुई थी.

xx.com हिंदी वीडियो

मैंने पहले कभी उसे इस नज़र से नहीं देखा था क्यूंकि वो ज्यादा सुंदर तो थी नहीं, सांवला रंग और उसका फिगर भी 32-26-30 का था. मंजुला तो बाहर के नज़ारे देख देख कर बच्चों की तरह बहुत खुश हो रही थी; कभी पास से उड़ते बादलों की तारीफ़ करती कभी धरती पर खिलौने जैसे दिखते मल्टीप्लेक्स बिल्डिंग्स को निहारती. मैंने उसके कूल्हों को पकड़ा और अपने लंड को उसकी गांड के छेद और चूतड़ों पर फिराया.

अब आप लोग मेरी सहायता कीजिए … मैं क्या करूं, जिससे मेरा बेटा मुझे मिल जाए. उसने तत्काल अपने सारे कपड़ों को उतार कर एक तरफ रख दिया तथा मेरी मम्मी के पैरों को चौड़ा करके वो टांगों के बीच में आ गया. गन्दी चुदाई स्टोरी के पिछले भागमेरी सेक्सी बीवी की चुदाई की हवसमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी बीवी नेहा ने मेरे दोस्त अमित को गर्म करने के प्लान पर काम करना शुरू कर दिया था.

रोहन हमेशा आंखों से ही उसे बोलता कि तुम अपना लंड चूसने दो ना सेक्सी!उसे ऐसा महसूस होता कि रजक लाल ने भी आंखों से ही जवाब दिया हो कि ये ले मेरा लंड चूस लो और अपनी हवस को मिटा लो. पर उसको फिर से ज्यादा दर्द हुआ और उसने मेरी पीठ में फिर से नाखून गड़ा दिये. वो कराह रही थी लेकिन उसकी कराहटें मुझे और ज्यादा उत्तेजित कर रही थीं.

हम दोनों मूक भाषा में एक दूसरे की निगाहों से सेक्स के इस खेल को आगे बढ़ा रहे थे. मगर उस वक्त चाची का महीना चल रहा था इसलिए 4-5 दिन से हमारे बीच में कुछ नहीं हो पाया था।मैं जैसे ही टॉयलेट के बाहर आया तो मेरे आगे मेरी बहन श्वेता खड़ी थी.

माया ने बस एक सेक्सी स्माइल दी और उसे देखते हुए कहा- आप भी हैल्थ कॉन्शियस लगते हो.

जब उसकी सांसें नार्मल हुईं, तब उसने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और पागलों की तरह मुझे चूमने लगी. सेक्सी इंग्लिश हीरोइनउसकी बात मानते हुए मैंने कहा- बात तो तुम्हारी सही है लेकिन पापा पहले बहू की चुदाई पर ध्यान देंगे. पंजाबी सेक्सी पिक्चर के वीडियोमगर दीदी को डिस्टर्ब न हो इसलिए अक्षय ने झट से आगे हाथ बढ़ा कर मेरा मुँह दबा दिया और बोला- मरवाओगी क्या?मैंने हंसते हुए उसके लंड को झेला और कहा- मरवा ही तो रही हूँ मेरे अक्षय!अक्षय ने भी हंसते हुए फिर से झटके देने शुरू कर दिए. जब भी मेरा लंड उसकी चूत से टकराता, तो उसको एक जबरदस्त सिहरन सी होती थी और वो मुझे ओर ज्यादा टाइट पकड़ लेती.

मेरे होंठ उसके होंठों पर थे और वो ऊं … ऊं … की आवाज करते हुए चिल्लाने की कोशिश करने लगी लेकिन उसकी आवाज मेरे मुंह में ही दब जा रही थी.

डर मत … आज तो मौका है वर्ना नजमा और आसिफा बाजी ने आने के बाद गांड फैला दी तो फिर मौका नहीं मिलेगा. मैं जोर जोर से उसकी चूचियों को मुंह में बारी बारी से लेकर पी रहा था और मेरे हाथ उसकी चूचियों को लगातार दबा रहे थे. वो बोला- आप इधर मज़ा करो, मैं थोड़ी देर में एक दो पैग दारू पीकर आता हूं.

जी, कहिये सर?”देखो मंजुला, अभी तुम्हारी उम्र सिर्फ पच्चीस छब्बीस साल की है. दोस्तो, यह थी मेरी कॉलेज लाइफ में पहली बार कुंवारी चूत की चुदाई की कहानी, जिसकी यादें आज भी ऐसे ही ताज़ा हैं, जैसे कि ये कल की बात हो. मैंने भी हंसते हुए उसे विवाह और भावी सुखमय जीवन की अनेकानेक शुभकामनायें दीं.

xxx.com मूवी

स्टेज पर मैं उन्हीं के बगल में खड़ा था और मेरे लंड ने सलामी देना शुरू कर दिया था. मैंने कहा- सोच कर तो रोज ही अपने हथियार को रगड़ता हूं अब तो दर्शन के लिए आग्रह कर रहा हूं. दूसरे दिन छुट्टी थी … तो माया ने कहा- कल हम दोनों मॉर्निंग वॉक के लिए जाएंगे.

मैंने ब्लाउज के दोनों पल्ले दायें बाएं किये तो नीचे पहिनी हुई सफ़ेद रंग की ब्रेजरी में कैद उसके सुडौल स्तनों का दिलकश नज़ारा मेरे सामने था.

हां लेकिन हॉस्टल की चारदीवारी से बाहर तो हम सबको बाकी लड़कियों की तरह ही रहना पड़ता था.

मैं भी बड़े ही प्यार से उसकी चूत में लंड को मलाई की तरह अंदर बाहर करने लगा ताकि उसको ज्यादा से ज्यादा आनंद मिल सके. चुत में से निकलते हुए लावा में लंड का लोटना और एक दूसरे के साथ थोड़ी देर चिपके रहने में जो आराम मिलता है … वो और कहीं नहीं मिलता है. हिंदी सेक्सी वीडियो भाई बहन केउसकी आंखें बार बार सजल होतीं पर वो मुंह घुमा कर किसी तरह अपनी उमड़ती भावनाओं पर काबू पा लेती, अपने उमड़ते आंसुओं को पलकों में ही रोक लेती.

गांड में लंड देने के बाद कल्लू फिर से राजधानी ट्रेन की रफ्तार से चोदने लगा।अनु मज़े से सिसकारी भर कर आवाज निकाल कर गांड चुदाई करवा रही थी।नौकर कल्लू ने आधे घंटे की चुदाई का फल उसकी गांड में ही निकाल दिया।लड़की की गांड चुदाई करके अब कल्लू दुकान पर वापस आया तो सेठ जी ने पूछा कहां गया था?तो कल्लू बोला- खांड खाने गया था. वो वाशरूम चली गईं, तो मैंने वहीं एक दूसरे कमरे में नहाने के लिए मैनेजर से कहा. भाभी के पूरे बदन पर एक तरह से मैंने चुम्बनों की बौछार ही कर डाली थी.

उसने अपने ऊपर वाले होंठ को अपने दांतों में दबा रखा था ताकि मुँह से आवाज़ न निकले. अन्तर्वासना की कुछ कहानियां पढ़ने का मूड हो रहा था तो पढ़ते हुए वहीं बैठ गया।जब मैं बाहर आया तो चुदाई करने का मन कर रहा था.

अपनी चुदाई करवाती हुई छोटी बहन पर इस वक्त मुझे बहुत प्यार आ रहा था.

अब ठाकुर ने लंड को थोड़ा बाहर निकाला और फिर से जोर से चुत के अन्दर पेल दिया. आप मुझे मेल करके बताएं कि आपको ये कॉलेज गर्ल की वासना की कहानी कैसी लग रही है. रुखसाना और धर्मपाल एक साथ बैठ गए।हरदीप उन सबके लिए कोल्ड ड्रिंक ले आई। वो आकर लखविंदर के पास बैठ गई।सभी अब साथ में बैठ कर कोल्ड ड्रिंक पीने लगे।लखविंदर का पूरा ध्यान रुखसाना की तरफ था.

सेक्सी पिक्चर पुलिसवाला अब मैंने उसको हाथ से पकड़ा और ऊपर उठा दिया।बाजी बोली- इमरान, इस रांड के जिस्म को चूस तो जरा!मैंने उसके गाल, होंठ, गर्दन, चूची, सब चूसा तो वो मुझसे चिपकने लगी. उसने नजर घुमाकर देखा, तो ठाकुर बलदेव उसे वासना भरी नजरों से देख रहा था.

अभी देखती हूं इस दुष्ट को!” वो बोली पर उसने शिवांश को अपने नंगे जिस्म से चिपका लिया. एक दिन वो वापस रोहन को दिख गया, तो रोहन ने बोला- किधर गोल थे… घर क्यों नहीं आते थे?वो बोला- मैं गांव गया था. हम दोनों ही बेहद कामुक हो उठे थे और एक दूसरे के साथ नाग नागिन से लिपटे हुए थे.

एक्स वीडियो सेक्सी देहाती

इधर मेरी हालत एकदम खराब हो गयी। मेरी आँखों के सामने अंधेरा छाने लगा और सब कुछ घूमने लगा।अब कुछ ही देर में मैं बेहोश हो गयी. फिर जैसे ही मैंने उसकी चूत में उंगली डाली, तो वो दर्द के मारे हिल गयी. अब मुझे पापा और दीदी की चुदाई के बारे में पता लग गया था और मैं भी अपनी बहन की चुदाई की प्लानिंग करने लगा था.

अगर उसने तुम्हारी भाभी और दीदी की चुदाई करने की सोची तो उनका क्या हाल होगा! वो चुदाई में बिल्कुल भी रहम नहीं करते हैं. मेरा लंड पूरे उफान पर है।बाजी बोली- तू बाहर वाला गेट लॉक कर, मैं इसराना को देख कर आती हूं.

लेकिन जब मैंने उसको पिया तो उसके कुछ मिनट बाद मेरा सर एकदम घूमने लगा.

मैं उम्मीद करता हूं कि आप लोगों को मेरी यह पहली सेक्स कहानी पसंद आयेगी. मैंने उसके होंठ चूम लिए और उसे ठीक से सीधा लिटा कर उसकी कमर के नीचे तकिया लगा दिया ताकि उसकी चूत में लंड खूब गहराई तक घुसे. मेरा छोटा भाई तो थक कर सो गया था, मुझे मालूम था कि वो सुबह तक नहीं उठने वाला था.

वो बोली- दोपहर के बाद बच्चे स्कूल से वापस आ जाते हैं। दोपहर से पहले ही आ सकते हो. अब मेरे शौहर शांत हो गये और टी टी ने मुझसे कहा- अरे छमकछल्लो, न्यौता दें तेरे को … चल जल्दी से कपडे़ उतार. लंड से आती महक से वो और मदहोश हो गयी और एक बार में पूरा लंड मुँह में ले लिया जिससे अमित का लंड मेरी बीवी के गले तक घुस गया.

फिर कुछ देर चूसने के बाद वो उठी और उसने अपने सारे कपड़े निकाल फेंके.

एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ: मैंने जल्दी से पार्किंग से बाइक निकाली आकांक्षा को बिठाया और दोस्त के रूम पर पहुंच गया. बाजी ने भी राबिया को ये ही बोला तो राबिया बोली- आज तुम दोनों मुझे करके दिखाओ, मैं कल से सोचूंगी।फिर मैंने बाजी की चूत में फिर से लंड रगड़ना शुरू कर दिया जिससे मेरे लंड में तनाव आने लगा.

उन्होंने हां में सर हलाया और मैं तेज झटके देता हुआ भाभी की चुत में ही झड़ गया. फिर जब मैंने उसे माया से इंट्रोड्यूस कराया तो उसने माया से हैंडशेक करके हैलो बोला. आखिर कालेज का छोकरा था, ज्यादा देर नहीं रोक पाया और चूत भिगा कर बगल वाले सीट पर जाकर बैठ गया.

उसके दोनों हाथों को मैंने अपनी कमर पर लपेटा और उसकी गोद में जाकर उसके होंठों पर होंठों रखकर उसे किस करने लगी.

वो बोली- आह्ह … राज तुम तो मस्त चोदते हो।मैंने कहा- हां जानू … तेरी चूत भी बहुत मस्त है।वो बोली- तुम्हारे लौड़े में जादू है. और शायद ये बात उसे भी पता चल गई थी क्यूंकि उसने मुझे मुठ मारते हुए देख लिया था. क्या मंजुला मैं समझा नहीं, तुमने वो घर खरीद लिया क्या?” मैं फोन पर बात करते हुए बोलाअरे नहीं सर, मैं अब इस घर की बहू हूं; मैंने भट्टाचार्य जी के बेटे से विवाह कर लिया है.