बीएफ सेक्स वीडियो इंडिया

छवि स्रोत,खतरनाक हिंदी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

डीपी बॉस रॉक: बीएफ सेक्स वीडियो इंडिया, हां जब वो बिस्तर में मेरे साथ पूरी मादरजात नंगी मेरे आगोश में होती तो उसका व्यवहार किसी मदमस्त प्यासी, चुदासी कामिनी की तरह होता था.

शिल्पी राज के वीडियो सेक्सी वाला

मेरी और मेरी सहेली की चूत की कामुकता-1मेरी और मेरी सहेली की चूत की कामुकता-3मेरी फ्री सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा कि मैं अपनी सहेली के साथ गोवा गयी मस्ती करने, वहां पांच लड़कों से पूरी रात चुदाई के बदले एक लाख रुपये तय किये. हिंदी सेक्सी वीडियो desiचंदन ने देखा कि पहला चूचुक काफ़ी देर तक चूसने के कारण काफ़ी फूल गया था.

मैं उसका एक बूब मुँह में लेकर चूस रहा था और दूसरा बूब एक हाथ से मसल रहा था. बंगाली सेक्सी पोर्नउसके सामने वाली बर्थ पर एक ताजा ताजा जवान हुई छोरी थी जो किसी मोटी किताब के पन्ने पलट रही थी और एक नोटबुक में कुछ लिखती भी जा रही थी साथ में बार बार अपना मोबाइल भी चेक करती जाती, शायद उसका कल कोई एग्जाम था जिसकी तैयारी में थी.

फटाफट उसने पेंट उतार कर हैंगर पर टांग दिया। अंडरवियर उतार कर अपने बेड पर फेंक दिया और बिल्कुल नंगा होकर मेरे साथ लेट गया।‘सर आपके कपड़े?’मैंने कुछ नहीं कहा तो उसी ने मेरा पजामा नीचे खिसका दिया.बीएफ सेक्स वीडियो इंडिया: मुझे लगा मेरा लंड यूँ ही झड़ जाएगा तो मैंने अपनी पैंट की ज़िप खोल के अपना लंड बाहर निकाल दिया.

अचानक मम्मी ने मुँह खोल कर जीजाजी का हथौड़ा अपने होंठों से दबा लिया और जंगली बिल्ली की तरह चूसने लगी.वे दिखने में दूध सी गोरी हैं, उनकी हाइट लगभग 5’6″ है और भाभी उम्र में 25 साल की हैं। उनका फिगर साइज़ 34-30-36 का है भाभी की पूरी बॉडी मेंटेंड है।पिछले महीने जुलाई की बात है, जब मैं शॉपिंग करने हमारे यहाँ के बिग बाजार में गया था। काफ़ी घूमने के बाद भी कुछ पसंद ही नहीं आया, तो फिर मैंने सोचा कि चलो लेडीज कॉर्नर में चलता हूँ, इसी बहाने लड़कियों को देख के दिल बहला लूँगा।मैं वहां गया.

सेक्सी वीडियो चोदने वाली बीपी - बीएफ सेक्स वीडियो इंडिया

उन्होंने एकटक मुझे देखा, मैं घबराकर जाने लगा तो वो बोलीं- अरे स्माइली, प्यास लगी है पानी तो पिला दे यार.यह मेरी अन्तर्वसना पर पहली हॉट सेक्स स्टोरी है।मैं आपको मेरी पहली चुदाई के बारे में आपको बताना चाहता हूँ। यह सेक्स स्टोरी बिल्कुल सच्ची है.

मगर वो कुछ नहीं बोले और वैसे ही सुमन की टी-शर्ट में हाथ डालकर उसकी गर्दन और पीठ को सहलाते रहे. बीएफ सेक्स वीडियो इंडिया काफी देर एक दूसरी को चूमना-चूसना होने के बाद हम दोनों बाहर आकर तैयार होने लगी.

उसमें जो टेस्ट होता है तुझे कैसे बताऊं मैं?फ्लॉरा- आपकी बात मेरे समझ के बाहर है भाई.

बीएफ सेक्स वीडियो इंडिया?

00 बजे फ़ोन करके रूबी के घर पहुँच गया; दरवाजा खुला था, मैं अंदर चला गया. वैसे वहाँ के वार्ड बॉय दिखने मैं काफी अच्छे थे क्योंकि प्राइवेट महंगा अस्पताल था. ये सुमन दीदी को देख कर मैं बहुत डर गया और जल्दी से मैंने आँख बंद कर ली.

मैंने भाभी की मालिश शुरू की, तभी उन्होंने हाथ पीछे करके ब्लाउज और ब्रा को खोल दिया. कुछ देर बाद जैसे ही मैंने उसके चूचे को पकड़ा, दीदी तुरंत उठ गई मैं डर गया. अगले दिन जब आरती आई तो मैंने फिर से वैसा ही किया, मगर आज मैं ब्लूफिल्म देखने के साथ लंड भी हिला रहा था.

रजनी खड़ी हुई और कमरे का दरवाजा खोला, बोली- सर, आप यहाँ खड़े होकर क्या कर रहे हैं?मुझे थोड़ी शर्म सी महसूस हुई, मैंने कांपती हुई आवाज में कहा- कुछ नहीं. संजना को भी खूब मजा आ रहा था, वो लगातार अपने चूतड़ उछाल कर आहें भर रही थी. फिर मैंने उसको बेड पे लिटा दिया और उसके पूरे बदन को चूमने लगा और धीरे-धीरे नीचे आकर उसके पेट को चूमा, उसकी नाभि में जीभ डाल कर चूसने लगा.

उसका नाम नैना था, वो दिल्ली की रहने वाली थी और बहुत सुन्दर और स्मार्ट लड़की थी. मैंने अपना हाथ उसके कुर्ते में डाल कर उसकी नंगी पीठ के मांस को भी अपनी मुट्ठी में भर भर के नोचा, उसका कुर्ता ऊपर उठा कर उसके मम्मे बाहर निकाले और उसके निप्पल को अपने मुँह मेंलेकर न सिर्फ चूसा, बल्कि दाँतों से काट भी खाया.

तेरा भाई साला छोटे लंड वाला बिज़ी आदमी है… तुझमें कितना दम है, देखती हूँ.

सुमन- इतने दिनों में आपको मेरे अन्दर कुछ फ़र्क लगा या नहीं?संजय- सच बोलूँ.

और उसने दराज से एक लंबा सा स्ट्रैप ऑन डिल्डो निकाला और ऊँचा करके मुझे दिखाया।उसे देखकर मेरी आँखें फटी की फटी रह गयी. मैंने दिल ही दिल मैं कहा- छोड़ मत दे मादरचोद, चोद दे!जब वो मेरे कार तक आया तो मैंने उसे थैंक्स कहा. करीब दस मिनट बाद हम दोनों एक साथ चरम पर आ गए और मैंने अपना सारा माल उसकी चूत में छोड़ दिया.

हो सकता है ये असली कालगर्ल्स के नंबर हों या किसी ने किसी लड़की को परेशान करने के लिए उसके असली नम्बर शहर के नाम के साथ लिख दिए हों. थोड़ी देर बाद मैंने मेरी बैग से सिगरेट का बॉक्स निकाला और एक सिगरेट होटों के बीच फंसा ली. वो मुझे रोकने के लिए मेरे कदमों में बैठ गई और रोते हुए मुझे रोकने लगी- आई एम सॉरी भैया… मत जाओ… गुस्सा मत करो भैया… प्लीज़… मैं कभी ऐसा नहीं करूँगी… अब तुम जो चाहो वो मैं करूँगी.

हालांकि गांड मरवाने में मुझे कुछ परहेज नहीं था मगर जिंदगी में पहली बार मैं दो लंड एक साथ अपने अंदर लेने वाली थी.

बरखा- मुझे कोई प्राब्लम नहीं है, आज की रात जो चाहो करो, मगर शादी के बाद नहीं. मगर मोटे लंड से सुमन भाभी को घबराहट होने लगी और सांस लेने में दिक्कत होने लगी, तो मैंने वापस अपना लंड उनके मुँह से निकाल लिया. असल में वो दोनों प्यार करने लगे थे मगर अपनी माँ के लिए अनिता ने प्यार को कुर्बान कर दिया.

उन 2 घंटे के बीच में हमने पूरी कसर उतार ली, उसकी भी सेक्स की प्यास कुछ हद तक पूरी हो गई थी. चूस ना, मज़ा नहीं आ रहा क्या तुझे?सुमन- मज़ा तो बहुत आ रहा था मगर इसमें से अजीब सा पानी निकल रहा है जिसका टेस्ट भी अजीब है?टीना- अरे पागल. उसके बाद हमने खाना खाया और अपने अपने रूम में चले गए लेकिन जब मैं अपने रूम में आई तो मैंने अपने अलमारी से एक पोर्न वीडियो की सीडी निकाल कर प्ले की और अपने कपड़े खोल कर अपनी चुत में उंगली करने लगी.

इस मस्त चुदाई की देसी कहानी को शुरू करने से पहले में बता दूँ कि मेरा नाम लॅविश गोयल है और मैं पंजाब का रहने वाला हूँ.

संजय का मोटा भी है और लंबा भी है।फ्लॉरा- लेकिन यार ये होगा कैसे तुम ऐसे डाइरेक्ट्ली संजय को कहोगी तो सब मेरे बारे में क्या सोचेंगे?टीना- टेंशन मत ले. फ़िर सासू माँ ने अपनी जीभ अपने दामाद के लंड के सुपाड़े पर फिरानी शुरू कर दी.

बीएफ सेक्स वीडियो इंडिया प्राची भाभी के जिस्म से मंहगे परफ्यूम की खुशबू आ रही थी, जो वासना में मिलकर वातावरण को कामुक बना रही थी. अबकी बार मैंने उसको इतनी तेज़ स्पीड से चोदा कि उसको भी मेरा लंड हमेशा याद रहेगा।फिर मैंने अपने लंड का सारा माल उसकी चुत में ही छोड़ दिया.

बीएफ सेक्स वीडियो इंडिया मैंने अपनी पहली सेक्स कहानी लिख कर सोचा था कि कोई भाभी या चुदक्कड़ माल मुझे चोदने के लिए सम्पर्क करेगी. अपने प्रतिसाद मुझे भेजते रहें और साथ ही मुझे आपके दिमाग में भी कुछ ऐसे नए आइडिया हो तो लिख भेजिए, मैं कोशिश करूंगा कि उनको इस कहानी का हिस्सा बनाकर प्रस्तुत किया जाये.

वो बोली- जनाब बड़े आशिक मिजाज भी लगते हैं आप तो?तो मैंने कहा- इसलिए तो नाम के साथ आशिक भी लिखते हैं मैडम.

सेक्सी इंडियन बीएफ सेक्सी

मैं अन्तर्वासना पर रेगुलर हिन्दी चुदाई की कहानी पढ़ता हूँ और पोस्ट भी करता हूँ. मैं देख सकता था कि मेरी जान को स्वान का लंड पसंद आया था, और वो उसे खूब मजे से चूस रही थी… कभी उसके टोपे को चाटती, कभी पूरी लम्बाई को अपने हलक में घुसेड़ लेती, तो कभी लंड को ऊपर उठा कर स्वान के अण्डों को चाटने लगती थी. शाम आठ बजे बुआ जी मुझे खाना के लिए बुलाने आई… किन्तु मैंने खाना खाने से मना कर दिया.

अगर कोई और भी इन्हें देख भी ले तो भी कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि चूत का क्लोजप देख के कोई चूत वाली की पहचान कोई नहीं कर सकता. अचानक चाची की नजर मेरे लंड पर पड़ी तो चाची चौंक कर बोलीं- तेरा नुन्नू अभी तक खड़ा है. मेरे हाथ जमीला की चूचियों पर थे और जमीला ने सबीना की चूचियों को पकड़ा हुआ था.

मैंने कोलकाता में अपनी पढ़ाई पूरा करने के बाद सोचा कि मामा-मामी से मिल लेता हूँ.

मेरे अन्दर लड़कियों को पटाने के बहुत से तरीके हैं, जिसमें से एक तरीके का इस्तेमाल मैंने रूपा के लिए किया. भाभी अन्दर किचन में जाने लगीं तो मैं ठगा सा खड़ा रह कर भाभी की मटकती गांड को खुले मुँह से देखने लगा. रात की ज्यादा कामुकता की वजह से नींद नहीं आती तो मैं और नशा करती ताकि नींद आ सके.

वो बोली- एक बात पूछूँ क्या?मैं बोला- हाँ पूछो?वह बोली- क्या तू मुझे सच में प्यार करता है?तो मैंने उसे अपने गले से लगा कर कहा- कभी आजमा कर देख लेना!मेरी बात सुन वह मुझ से लिपट गई. सुमन की आत्मा- ऐसे क्या सोच रही है? तू खुद क्यों नहीं लंड चूस कर उन्हें सुकून दे देती, ऐसे तो बाहर उस मॉंटी का और संजय का चूस चुकी है. मैंने भी वैसे ही किया, उसे अपनी बांहों में उठाया और बिस्तर पर लेटा दिया.

मेरी बात सुन, वो गोपाल बड़ा हरामी है, शुरू में तो उसने तेरे खूब मज़े लिए, अब अपना मतलब भर निकालता है. उधर सुमन भी घर आ गई थी और रात की उसकी नींद पूरी नहीं हुई थी तो वो सो गई.

कामवाली की मंझली बहू-1लेखक: अभिनव गुप्तासंपादक एवम् प्रेषक: सिद्धार्थ वर्मारात में कामवाली की युवा बहू के साथ सेक्स के बाद हम दोनों सो गए थे. आप अपने विचार मुझे मेल कर सकते है साथ ही इंस्टाग्राम पर भी जोड़ सकते है. जल्दी में उसने चूत को साफ़ नहीं किया और मेरे लंड का माल उसकी चूत से नीचे बहने लगा.

और तुझे डरने की क्या जरूरत है पगली? मैं तुझे कभी तक़लीफ़ नहीं पहुँचाऊंगा.

मैंने लंड को बाहर पूरा खींचा और एक ही बार में घुसा दिया, इस तरह चार बार किया. मैंने कहा- यहां पर लंड तो चुसवाना ठीक नहीं है लेकिन उसकी महक जरूर दे दूंगा मैं आपको. मेरा तो दिमाग चकरा रहा था कि ये सब हो क्या रहा है।अब चाचा उठे और मेरी माँ को देख कर मुस्कुराते हुए घूम कर नीचे बैठ गये और आरती चाची को अपनी वाली जगह पर वैसे ही लिटा दिया। मेरी माँ ने भी चाचा को निहारा और एक सेक्सी सी स्माइल दी।चाचा ने अपना मुंह आरती की सुलगती हुई चूत पर लगा दिया ‘आआआआ आआअह्ह्ह.

हमने चाय पी और मैं अपने कमरे में पलंग पर आकर लेट गई थी, पता नहीं कब नींद आ गई. हाँ हाँ, सबको बुला लो और मुंडन के बाद अपनी पिंकी की मुंह दिखाई भी करवा लो.

मैंने दो उंगलियां उसकी चूत में डालकर चूत को उंगली से भी चोदना चालू रखा. उसने भी गुलशन जी को बहुत सुनाई और फ्लॉरा ने भी सुमन को बता दिया कि उस दिन ये मेरी मॉम के बारे में बहुत पूछ रहे थे. वो बोली- क्या हुआ फोटोग्राफर साहब, नींद नहीं आ रही क्या?मैं बोला- तभी तो टहल रहा हूँ.

बीएफ आनी चाहिए

वैसे भी मुझे जय तो पहले से ही अच्छा लगा था इसलिए मैंने ज्यादा नखरा नाटक नहीं किया.

आप सभी मेरे पाठक हैं मेरी कहानियों को पसंद करते हैं मैं आपका हमेशा तहे दिल से शुक्रगुजार करता हूं. मेरे पास आकर उसने मेरे हाथ में एक गोल्डन नोज रिंग पकड़ाई और कहा- चल इसे अपने नाक में पहन. इस समय भाभी जी नाईट सूट में थीं … मतलब लेडीज लोवर और टी-शर्ट स्टाइल का टॉप पहन कर आई थीं.

मैं बुरी तरह से चौंकी, तभी मैंने देखा कि ये कोई और नहीं मेरे अपने पापा हैं. मैं उनके पैरों की तरफ जाके बैठ गया और मेरा हाथ मैंने अपनी पैंन्ट के अन्दर डाल कर लंड सहलाने लगा. सेक्सी फिल्में मजेदारयह कोई मनघड़न्त कहानी नहीं, एक रियल सेक्स स्टोरी है, जो आज से दो महीने पहले घटी थी.

करीबन 15 मिनट की चुदाई के बाद उन्होंने फिर से मुझे चुत की टंग मसाज के लिए बोला और मैं उनकी चुत को फिर से अपनी जीभ से चाटने लगा. फ़िर संगीता ने अपनी जीभ चन्दन के होंठों से बीच में सरका कर अन्दर मुँह में डाल दी.

ऋतु ने कहा- ऊह्ह पूजा… मजा आ गया! कैसे इन लड़कों ने हमारी चूत चाटी और हमें मजे दिए और बिना हमसे मिले कोई बात करे कमरे से चले गए… अपनी सेवा देकर!पूजा ने हंसते हुए कहा- मैं तो डर ही गई थी… पर जब तुम्हारी चूत पर किसी की चूत का एहसास हो तो कुछ सोचने समझने की शक्ति ही नहीं रहती. फिर उनके ऊपर वाले पतले से होंठ को अच्छे से चूसा, तब तक वो भी पूरी तरह गर्म होने लगी थी. एक बार तो उसने ऊपर से नीचे तक अच्छी तरह टीना को देखा, मगर जल्दी ही उसे ख़तरे का अहसास हो गया.

सांस भी रोके रहा। जब वह रुक गया तो हम दोनों थोड़ी देर शांत लेटे रहे।उसने गर्दन पीछे घुमा कर मुझे देखा. स्मृति की जोर की चीख निकली किन्तु मैं पहले ही सावधान था, जैसे ही चीखने के लिये उसका मुँह खुला, मैंने अपने एक हाथ से उसका मुँह बन्द कर दिया और उसकी चीख गले में दब कर रह गई. मैंने देर ना करते हुए अपनी बीवी की नाइटी उतार दी और उसको किस करने लगा, उसके होंठों का रस पीने लगा.

वो बदल बदल कर चोदते रहे और ऐसी ज़बरदस्त चुदाई के आगे फ्लॉरा फिर ढेर हो गई.

मैंने राहुल से जय के बारे में पूछा तो वो कुछ नहीं बोला और मुस्करा दिया. दोस्तो, यह कहानी भी काल्पनिक है जो केवल आप लोंगो के मनोरंजन के लिये ही है.

मैंने बहुत जोरदार चुदाई की, भाभी भी गांड उछाल कर मेरा साथ दे रही थीं. इतना सुनना था की शहज़ाद ने मुझे अपनी ओर खींच लिया और करवट बदल कर पीठ के बल हो गया. मेरा वीर्य पीना पसंद करोगी या फिर चुत में ही झड़ जाऊं?मैं बोली- चुत में फिर कभी, आज तो माल पिला दो.

जिसको भी मैं देखता और मुझे लगता के इस लड़की या औरत के मन में कुछ है, मैं आ कर मौसी को बताता, और वो मुझे अपने फोर्मूले बताती के इसको कैसे जीता जाए, और जब मैं उसक लड़की या औरत को चोद लेता तो घर आ कर मौसी से हर बात बताता. फिर मौका देखते ही मैंने अपना लंड उसकी बुर में घुसाना चाहा लेकिन उसकी सील पैक टाइट बुर में लंड नहीं गया और वो दर्द से चिल्ला उठी. वे मुझे बहुत ही वासना भरी नजरों से देख रही थी। मैं उनकी आंखों में देखते देखते उनकी चूत को अपनी जीभ से हल्के हलके से चाट रहा था। जीभ से लिकिंग करते हुए और शहद का स्वाद और उनके चूत के नमकीन पानी के साथ मुझे अच्छा लग रहा था।उनकी चूत पर मैंने और शहद लगाया और अच्छे से चाटना, चूसना चालू किया.

बीएफ सेक्स वीडियो इंडिया उसका बम्बू जैसा लंड मेरी गांड फाड़ने को तैयार था, मुझे डर लग रहा था क्योंकि मैंने कभी गांड नहीं मरवाई थी. शादी में पहुँचने पर सविता भाभी अपनी सहेली ममता से मिलीं और उसे बधाई दी.

बीपी बीएफ ब्लू पिक्चर

अबकी बार मैंने पूरा पी लिया मगर अपने मेरा रस क्यों पिया?टीना- अरे तेरा रस वेस्ट ना हो इसलिए पी लिया मेरी जान. ”उसकी सास बगल वाले कमरे में रोज स्वाति के चुदने की एहसास करती है और बीच-बीच में खिड़की से देखती भी रहती है. मैं तब तक नहीं हटा, जब तक मेरा माल नहीं गिरा, और जब गिरा तो मैंने उसका सर अपने पूरे ज़ोर से खींच कर अपने पेट से लगा लिया.

मैंने रजनी के चूचों को कस कर दबाया और उसके होठों पर एक मस्त किस किया. फिर उसने मेरी तरफ देखकर कहा- निकी, एक काम करते हैं!मैंने कहा- क्या, बोल?फिर उसने नजर घुमा कर खिड़की से बाहर देखते हुए कहा- जब हम घर पहुंचेंगे तो तू अपने बैडरूम में सोना, मैं और पीटर मेरे रूम में सोएंगे. कुमकुम सेक्सी पिक्चरफिर जब मैं उनको खाना परोस रही थी तो झुक झुक कर अपने बेटे को अपने दूध दिखा रही थी.

उसकी माँ को उसके हवाले कर दिया और फ्लैट बंद करके चाभी गुलशन जी ने ले ली.

यह बोलते वक़्त वो उदास हो गई तो मैंने फ्लर्ट करते हुए उनको बोला- आपकी स्माइल बहुत प्यारी है, आप उदास अच्छे नहीं लगती. उसके मिल्की वाइट, टोंड जाँघें, जिनके नीचे उसके पैरों पर एक भी बाल नहीं था.

दोनों चुपचाप थे मगर ये चुप्पी ज़्यादा देर नहीं रही क्योंकि टीना ने सुमन को जो टिप्स दी थी, उसमें इससे बहुत ज्यदा था. मैंने अपना बदन ढीला छोड़ दिया, मनीष ने हल्का सा धक्का मारा, मेरे मुँह से किलकारी निकल गयी. वो बोली- मुझे पता है, आप मुझे ही देख रहे थे न?मुझे पता चल गया कि ये कुंवारी लड़की भी चुदाई की बहुत प्यासी है.

जैसे बोट चल पड़ी तो थोड़ी देर में एक लड़की ने आकर अंग्रेजी में कहा- मैडम, लीला पर आपका स्वागत है, मेरा नाम क्लारा है.

तभी उसने मुझसे कहा- मैं अगर चिल्लाई तो मेरा मुँह बंद कर देना लेकिन रुकना नहीं. हम एक दूसरे को किस कर रहे थे, बदन से बदन रगड़ रहे थे।मैंने उसको बोला- लंड चूसो!‘आ जाओ!’मैं कुर्सी पर बैठ गया, वो मेरे सामने आई और लंड चूसने लग गयी. योगी हैरानी से देखता रहा कि उसकी शर्मीली जीएफ अचानक ही गर्म रंडी की तरह बाँहों में बाँहें डाल कर बस चूमे जा रही थी.

सेक्सी मूवीस सेक्सीउसके होश उड़ गए। उसने सोचा था कि आज की रात चुत मिलेगी मगर मोना तो पलटी मार गई।सुधीर- सॉरी सॉरी व्व. अब मैं जाने लगी तो मैंने देखा कि मेरा बेटा अपना लंड पैन्ट में छुपा रहा था.

बीएफ देसी पिक्चर बीएफ

फ्लॉरा अपने पापा से बहुत प्यार करती थी इसलिए कसम तोड़ने का सवाल ही नहीं था. वैसे तो संजय को पता था कि टीना उसको ट्रेनिंग दे रही है मगर आज सुमन में कुछ अलग ही बात नज़र आ रही थी. किसी लड़की ने चूमने के बाद तुरंत ही लड़के ने चूमना मेरी जिंदगी का पहला चान्स था.

मैंने कमर उचका कर कोशिश की, उनकी उंगली को अपनी गुदा से बाहर निकालने की, मगर उन्होंने दुबारा डाल दी. उसके चूचुकों को चूस कर लाल ही कर दिया था।इसके बाद मैं नीचे आया और पेट पर. ऐसे ही एक दिन पढ़ते पढ़ते उसने मुझे किस करने की कोशिश की और उस दिन से मैंने उससे बात ही नहीं की.

प्रिय अन्तर्वासना पाठकोसितम्बर 2017 में प्रकाशित हिंदी सेक्स स्टोरीज में से पाठकों की पसंद की पांच बेस्ट सेक्स कहानियाँ आपके समक्ष प्रस्तुत हैं…पूरी कहानी यहाँ पढ़िए…यह सेक्सी कहानी है एक लड़के की कि कैसे उसने स्कूल की दो गर्ल को लेसबीयन सेक्स करते देखा और फिर खुद उन के साथ सेक्स किया. आप लोगों को मैं अपना परिचय दे दूं, मैं 24 साल का स्लिम बॉडी वाला युवक हूँ. गुलशन- अच्छा तुम गोआ की ही हो या बाद में वहां जाकर बसे?गुलशन जी अब फ्लॉरा के जीवन की सच्चाई के करीब पहुँच गए थे.

मैंने उससे बड़े बड़े लंड मेरी चूत में लिए थे मगर उसके इस तरह से चोदने में अलग ही दर्द हुआ. चन्दन ने उनकी कमर को थाम लिया तो संगीता ने अपनी बांहें चन्दन के गले में डाल दीं.

उसी वक्त मैं उसके मुँह को पकड़ कर उसके लब पर किस करने लगा और उसके लब चूसने लगा.

तो मित्रो मैंने जाने के लिए तत्काल में अपना आरक्षण सुबह ही करा लिया था. वीडियो स्कूल गर्ल सेक्सी वीडियोअब मैंने सबीना को स्लैब पर बिठा कर जमीला को उसकी चूत चूसने को कहा और मैंने जमीला की चूत में मस्ताना पेल दिया. घोड़े के सेक्सी पिक्चरउस दौरान वो मुझे कई बार देख कर नज़रें हटाती रहीं, पर मुझे कुछ होश ही नहीं था. चीजें इधर-उधर पड़ी रहती हैं।बात जम गई और वैसे ही दिन गुजरने लगे।एक दिन मेरा ऑफिस का काम थोड़ा जल्दी खत्म हो गया तो मैं 5 बजे ही घर पहुँच गया। उस दिन निकिता घर पे बैठी थी, टीवी देख रही थी।मैं उसे देख कर थोड़ा शॉक सा हो गया क्योंकि वो मेरी क्सक्सक्स पोर्न फिल्म की डीवीडी लगा कर देख रही थी।मुझे देख कर वो भी सन्न रह गई और डर गई।मैं तो कुछ नहीं बोला.

मैंने खुद को मानसी से अलग किया तो पाया कि मानसी के होंठ बेतहाशा काँप रहे थे और वो मदहोशी की हालत में कुछ बड़बड़ा रही थी.

उसको कहने की ज़रूरत नहीं पड़ी, मेरे बैठते ही उसने मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ा और मेरे लंड के टोपे को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. उसने अपना नाम अवनी बताया और उसकी उम्र 28 के करीब होगी, उसकी फिगर 34-28-36 थी, वो दिखने में हॉट एंड सेक्सी लग रही थी. और बस फिर क्या था बस चुदाई शुरू हो गई।साथियो, औरत की पूरी स्पीड से चुदाई करो ताकि उसको शिकायत का कोई मौका ही ना मिले।भाभी- अयाया अम्म्म ओह प्रिन्स और जोर से और जोर से करो.

कुछ ही देर में सोनू का भाई गहरी नींद में सो गया और सोनू मेरे पास आ गई. थोड़ी ही देर में जब टीका और मलखान उठे तो विभूति ने उन्हें पूछा- कहा जा रहे हो?मलखान ने बताया- भैयाजी, वो क्या है न कि हमारे पास कंडोम जो हैं न! वो खत्म हो गयो हैं, और सेवा करने के लिए ना हमें इसकी जरूरत है, तो बस कंडोम लेकर घर पे अपना हथियार तेल से धारदार बनायेगे और फिर किसी महिला की प्यास को बुझायेंगे. जब मैं अन्दर पहुँचा तो एक हट्टे कट्टे आदमी ने मुझे सीट ऑफर की और मेरे पास आकर बोला कि मुझे कुछ परीक्षा देनी होगी, अगर तुम उसमे सेलेक्ट हो गये तो एक बी-ग्रेड मूवी है, उसमे तुमको एक हीरो का मौका मिलेगा.

इंग्रजी बीएफ

तो भाभी ने सीधे कहा- लगता है तुम प्रोफेशनली वर्क करते हो, आई लाइक इट. मैं तो यही चाहता था कि चाची सो जाएं और हुआ भी वही, जैसा मैं सोच रहा था. बस यही सब सोच कर वो घर गए, एक पेपर पे कुछ लिखा और खुद को खत्म कर लिया.

मैंने कहा- मैं भी कहाँ सब में आता हूँ और मेरे हाथ में जो गाल आता है फिर वह कहीं नहीं जाता है.

संजय तो जानता था कि वो कहाँ जा रही है मगर फिर भी उसने थोड़ा नाटक किया तो टीना उसे वॉशरूम का बोल कर सुमन को लेकर कमरे से बाहर चली गई.

मैं जहाँ से हूँ वहाँ पर केवल 12वीं तक पढ़ाई होती हैसब कुछ बहुत अच्छा चल रहा था, पढ़ाई भी ठीक-ठाक चल रही थी. मैं कुछ समझी नहीं दीदी?टीना- अच्छा ये बता उसका लंड चूसने में मज़ा आया था ना तुझे?सुमन- हाँ दीदी बहुत मज़ा आया था. बीपी पिक्चर्स सेक्सीमोना भी रंडी की तरह लंड पे टूट पड़ी वो सुपारे को चाटती, कभी पूरा मुँह में लेकर चूसती और सुधीर बस ठंडी आहें लेता रहा।थोड़ी देर लंड चूसने के बाद मोना अलग हुई और अब उसने अपनी ब्रा-पैंटी निकाल फेंकी। उसके खरबूजे एकदम से आज़ाद हो गए थे। वो सुधीर के पेट पर बैठ गई और अपने निप्पलों को उसके मुँह के आगे कर दिए।सुधीर- वाउ क्या मस्त चूचे हैं तेरे.

ऋतु ने कहा- ऊह्ह पूजा… मजा आ गया! कैसे इन लड़कों ने हमारी चूत चाटी और हमें मजे दिए और बिना हमसे मिले कोई बात करे कमरे से चले गए… अपनी सेवा देकर!पूजा ने हंसते हुए कहा- मैं तो डर ही गई थी… पर जब तुम्हारी चूत पर किसी की चूत का एहसास हो तो कुछ सोचने समझने की शक्ति ही नहीं रहती. पापा- तो ठीक है ये नाइटी निकाल दे, मैं रोशनी में तेरे जिस्म को देखना चाहता हूँ. फिर मेरे मन में ख्याल आया कि क्यों ना आज मामा को अपनी चूत की झांटें साफ़ करके सरप्राइज़ दूँ.

अच्छा कर लूँगा अब जल्दी कर, इसका पानी निकालने के बाद तुझे नाश्ता भी रेडी करना है और खुद को भी रेडी करना है. दोनों ओर से पूरा जोश था… वो मेरी पीठ पर अपने नाखून गड़ा रही थी, मेरे कंधों पर दांतों से काट रही थी.

थोड़ी देर बाद उसने मुझे एक नीले रंग की बिकनी दी और उसे पहन कर दिखाने को बोला.

थोड़ी देर में मेरे मस्ताना की नसें फूलने लगी और मेरे मस्ताना से जोर से पिचकारी मारी जो सीधे सबीना के गले में गिरी. अब उससे रहा नहीं जा रहा था, वो सेक्स के लिए बहुत हॉट हो रही थी तो उसने मुझसे कहा- प्लीज विक्रम, चोदो मुझे… मैं और नहीं रुक सकती. तो वो हंसने लगा- साले लड़के लड़के में प्यार होता है कभी?मैंने कहा- हाँ, होता है, सब कुछ होता है और प्यार में मैंने उसे गांड भी दे दी.

सेक्सी पिक्चर लगाना इस बार फिर मैंने अपने मन में ठान लिया कि आज रात को मैं किसी भी हालत में लंड लेकर ही रहूँगा और इस अस्पताल की रात को फालतू नहीं जाने दूँगा. अब तो मेरी बिल्कुल फट गई, मैं मम्मी को सिरदर्द का बहाना करने लगा पर मम्मी ने मुझे जोर से आवाज लगा कर बुलाया तो मैं नीचे उतर कर आया.

गोवा की हवा और वाइन का सुरूर ऐसा छाया कि शावर के नीचे हम दोनों मतवाली हो गयी. लेकिन मुझे भी यही पसंद है कि लड़की चिल्लाये, उसकी चीखें निकल जायें दर्द में भी और मजे में भी!मैंने ऋतु को कमर से कस लिया और उसकी टांगों को अपनी टांगों से लपेट लिया. मैंने रिया की बांह पकड़ के साइड में खींचा और कहा- मरवायेगी क्या तू! पांच लड़के हैं वो.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर चुदाई

मैं जब उनके घर जाता था तो कई बार मैंने ये बात गौर की कि वो मुझे देख कर मुस्कुरा देती थीं. दीपक और उसकी बीवी उनके कमरे में सोए और मुझे बाहर ही कमरे में जिसमें हमने डिनर किया था वहीं पड़े बेड पर सुलाया. मेरी प्यारी पत्नी पूरी मेहनत के साथ अपने छोटे से मुंह से दो खूंटा तोड़ लंडों को शांत करने का यथसंभव प्रयत्न कर रही थी लेकिन दोनों गंवार लंड किसी भी प्रकार से शांत नहीं हो रहे थे और प्यारी सी गुड़िया के मुंह को ही फाड़ देने पर उतारू हो चुके थे!तब मैंने इशारे से डायरेक्टर को अपनी शिकायत दर्ज की, उसने इशारा करते हुए शूट कट करने का हुक्म दे दिया.

अब सबसे पहले मैं उसे सुबह उठाने गई और जानबूझ कर उसके सामने झुक कर उसे उठाने लगी. सुमन भाभी की चुत का रस मेरे पूरे मुँह में भर गया और मैं उनका रस चाट गया.

ऐसे ही चलता रहा और दो दिन की छुट्टी में भी मैंने उनके साथ रोज ऐसा ही किया.

वीरू- यार सीधे फाइनल टेस्ट? पहले कुछ टेस्ट तो लेकर देख कि ये फाइनल टेस्ट के लिए रेडी भी है या नहीं. ‘हाँ, सही पकड़े है… वही, हमें भरभूतीजी से चुदवाना होगा?’ अंगूरी अपना तकिया कलाम बोलते हुए पूछी. उसकी गुलाबी रंग की चूत काली टांगों के बीच चमक रही थी और आँखें बंद करे वो मेरा लंड चूसने में लगी हुई थी.

मैंने उसे देखा तो हंस दिया।मैं समझ गया कि इसे गांड मराने की जल्दी है।मैंने कहा- पलट जा यार. मैंने कहा- अब मेरा लंड खड़ा हो चुका है और तेरी चूत तो मार कर रहूँगा. लगभग दस मिनट बाद उसने मेरी साड़ी खींचकर निकाल दिया खुद तख्त से उतरकर नीचे खड़ा हो गया और मुझे अपनी बाहों में भर लिया और ज़ोर ज़ोर से मुझे किस करने लगा.

इधर सविता और मैं भी गर्म हो गये थे पर उस वक्त हमने सेक्स करना ठीक नहीं समझा और बस किस कर के ही वापिस आ कर सो गये.

बीएफ सेक्स वीडियो इंडिया: वापिस गेस्ट हाउस में आकर वो अपने कमरे में और मैं अपने कमरे में चले गए. कुछ मिनट बाद उसने मुझे रोका और मेरी टी-शर्ट उतार कर मुझे खम्बे से सटा दिया.

लंड की चोट से वो भी मस्ती से चिल्ला उठी और बोलने लगी- आह… और जल्दी करो… फाड़ दो अपनी बहन की चूत को… बहुत मोटा लंड है तेरा… आह… मजा आ गया. मुझे उस बेचारी पर बहुत तरस आ रहा था कि उसे गर्म करके ऐसे ही जा रहा हूँ. उफ… क्या गोरी और सख्त चूचियां थीं और उन पर गुलाबी से निप्पल भी छोटे छोटे से थे.

फ्लॉरा की बात सुनते ही गुलशन जी ने झट से लौड़ा चुत से निकाल लिया और फ्लॉरा भी बिजली की तेज़ी से पलटी और लंड को मुँह में भर लिया.

रोहिणी उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओह कर रही थी कि तभी वही हट्टा कट्टा आदमी फिर अन्दर आया और बोला- अबे मादरचोद रंडी, कितनी बार इससे चुदेगी?उस हट्टे-कट्टे आदमी को उसी के अंदाज में जवाब देती हुई बोली- धत्त चूतिया भोसड़ी वाले, अभी इसका पहला राऊन्ड नहीं खत्म हुआ है. गुलशन जी वहां से चले गए और दुकान से अपना काम निपटा कर वो घर चले गए. सुमन ने कोई जवाब नहीं दिया और बस मुस्कुराते हुए धीरे से बोली- वाह पापा, मेरे जिस्म को देख कर आँखें सेंक ली, अब बहाना बना रहे हो.