हिंदी में सेक्सी और बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी गाने हिंदी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगे सेक्सी मराठी: हिंदी में सेक्सी और बीएफ, ये बात व्यापारी तक पहुंची तो उसने अपने छोटे बेटे को साथ ले जाने के लिए कहा.

4 साल की लड़की का सेक्स

सुबह जब हमारी नींद खुली तो फिर से एक बार चुदाई का मजा लिया और कपड़े पहन कर बैठ गए. एमसी वाली सेक्सीऔर मैं उसकी चूचियों को सहलाने लगा।मैं भी जब से घर आया था आज पहली बार चाची को चोद रहा था।घर में अभी तक हमें चुदाई का मौका नहीं मिला था।चाची ने लंड को बिल्कुल तैयार कर दिया और मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया.

उसने मेरी तरफ देखा, तो मैंने उससे पूछा- तुम ऐसी हालात में हॉस्पिटल जाती हो, तो क्या तुम्हें डर नहीं लगता?उसने बताया- मैं अभी अभी ही यहां आई हूँ और जब तक मुझे वैक्सीन की पहले डोज़ नहीं लगती, तब तक वो हॉस्पिटल नहीं जा सकती. सेक्सी ब्लू पिक्चर बीपीमम्मी के चेहरे पर भी चाचा के मोटे काले लंड को देख कर मुस्कान आ गई थी- ये तो बहुत मोटा है.

मेरा लंड हल्के हल्के से साड़ी के ऊपर से हीभाभी की गांड की दरारमें सैट हो रहा था.हिंदी में सेक्सी और बीएफ: पापा- मज़ा आ गया तुम्हारी चुदाई करके … अगर तू मेरी लड़की न होती तो मैं तुम से शादी करके तुम्हारी रोज़ लेता.

फिर उन्होंने बोतल में से कुल्ला किया, मुँह धोया और सीधी होकर बैठने लगीं.कुछ देर बाद उन्होंने बच्चों को चाय दी और एक कप लेकर मेरे पास आ गईं.

स्कूल प्रतिज्ञा इन हिंदी - हिंदी में सेक्सी और बीएफ

वैसे अच्छे से तो लेता है ना तू मुँह में?मैं- हां अच्छे से लेता हूँ … तुम टेंशन मत लो.दूसरे बुड्ढे का नाम नीरज था, उसने मुझे पीछे से गले लगा लिया और मेरा चेहरा पकड़कर चेहरे से बुरका हटा दिया और मुझे किस करना शुरू कर दिया.

फिर अंकल ने देखा कि मेरा दर्द कम हो गया तो वो अपनी गांड आगे पीछे करने लगे और मुझे चोदने लगे. हिंदी में सेक्सी और बीएफ मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को रख कर एक जोर का धक्का दे दिया तो मेरा आधा लंड उसकी सील पैक चूत में घुस गया.

मीनाक्षी- बात भरोसे वाली नहीं, बस तुम ये समझो ना बाबा कि मैं एक लड़की हूँ और मुझे ये सुनकर ही थोड़ा अजीब सा लग रहा है.

हिंदी में सेक्सी और बीएफ?

[emailprotected]देसी वाइफ सेक्स कहानी का अगला भाग:मम्मी का चाचा से पुनर्विवाह और गर्मागर्म सेक्स- 3. मुझे कामवाली और मामा जी की चुदाई जब तब देखने को मिल जाती थी जिससे मेरी बुर में आग भड़क जाती थी. फिर सबके सामने इस बात की रजामंदी हुई और करीब एक माह बाद की दस तारीख को उन दोनों की शादी होना तय हो गई.

आप तो मुझको ऐसे देख रहे हैं, जैसे कोई एलियन (दूसरे ग्रह का प्राणी) देख लिया हो. अचानक से मेरी नजर उसके लंड पर गयी, तो उसका लंड पूरा कड़क हो चुका था. कुछ समय अम्मी को ताबड़तोड़ चोदने के बाद वो शांत हो गईं और चुपचाप लेटी रहीं.

ऐसा बोल कर मैं तेल लेकर आया और दीदी को बोला- तुम अपने हिसाब से लेट जाओ. ये सुनकर मेरी बीवी अनिता के मन में आ गया और वह बोली- हां यार, अब मैं भी किसी विदेशी से चुदवा कर ही वापस जाऊंगी. मैंने देखा कि वो एक पारदर्शी मैक्सी में थीं, जिसमें से उनकी चूचियाँ और चूत साफ दिख रही थी.

थोड़ी देर बाद मैं झड़ने को हुआ तो मैंने अपना सारा माल उसके मुँह में ही निकाल दिया. यदि तुम ऐसा ही सोच लो कि स्पा में हो तो तुमको जरा भी शर्म नहीं आएगी.

इतने में मेरी बीवी से रहा न गया … वह भी आगे बढ़ी और थामस की चड्डी खोल कर उसका लंड पकड़ कर हिलाने लगी.

बाद में उसकी चूत में अपनी बीच वाली उंगली डाल दी तो वो दर्द से चीखी.

उसने खुद ही 600 रूपए का केक ले लिया और मैं केक पकड़ कर पीछे बैठ गया. ज्योति एक महीने से ज्यादा समय से घर पर रह रही है और हर रात मैं उसे कसकर चोदता हूँ।कुछ दिन पहले मैंने उससे कहा- तुम्हारे चले जाने के बाद फिर से मैं अकेला हो जाऊंगा. मैंने रूम में जाकर चेंज किया और कपड़े पहनकर दोपहर का खाना खाकर रूम में आ गया.

हाय क्या बताऊं क्या नज़ारा था … केले के तने जैसी चिकनी जांघों के बीच छोटी सी दरार नजर आई. मैंने 15 दिन बाद मेम को कॉल किया, तो उन्होंने कहा- हां आमिर आपका अकाउंट चालू हो गया है, आप पासबुक ले जाओ. मेरा लौड़ा बिल्कुल एक भाले की तरह भाभी की चूत की गहराई में गोते लगाने को तैयार था.

मैंने उससे कहा- आप मुझे देखोगे तो फिसल जाओगे … मैं एक बड़ा ही नमकीन लौंडा हूँ.

मैंने उसकी टांगों को अपने कंधे पर किया और उसकी चुत पर अपना लंड लगाया. वो एकाएक रुकी और नीचे झुकी- यही है पत्थर!उसने झुक कर पत्थर पकड़ा तो मुझे उसकी गांड दिखी. मुझे उसका लंड अपनी चुत में लेने का जी करने लगा लेकिन मैं उसे अभी और आजमाना चाहती थी.

उन्होंने मेरा लंड हाथ में लिया और बोलीं- इतनी जल्दी यह फिर से खड़ा हो गया?मैंने बोला- दीदी, यह अब आपकी चूत को चोदना चाहता है. लंड जब अन्दर बाहर होने लगा तो नीता की चूत पानी पानी हो गई और नीता के मुंह से हल्की हल्की आहें निकलने लगी. तो मैंने पति का मूड समझने के लिए बता दिया कि वो मेरी हथेली पूरी तरह से दबाने लगा है और कभी कभी मौका मिलने पर पूरी बांह भी सहला देता है।पति ने चटकारे लेकर बोला- अब वो चोद के ही रहेगा तुझे!मैंने नाटक करते हुए कहा- अजी हां … रहने दो ऐसे ही दे दूंगी क्या मैं?और दिन तो उसकी मेरी छुआ छुई ही हो पाती थी; फिर आया सन्डे … उसने मुझे 1 घंटा लेट यानि 12 बजे बुलाया.

उसके गले को और कान को काटते हुए मैंने सुहानी दीदी को एकदम गर्म कर दिया था.

फिर तो मैं बेफ़िक्र होकर उसकी चुत को हाथ से सहलाने लगा, उसको अपनी तरफ खींच कर उसके होंठों को पीने लगा. मेरी चूत से खून निकलकर बह गया और अंकल का वीर्य, जो उन्होंने मेरी चूत में डाल दिया था, वो भी बह गया.

हिंदी में सेक्सी और बीएफ वो- तुमको गुस्सा नहीं आया?मैं- नहीं, जल्दी करो नहीं तो वह लोग आ जाएंगे. मेरी बीवी को भी पता चल गया था कि मैं मैडम का हर किस्म का ड्राइवर हूँ.

हिंदी में सेक्सी और बीएफ वो बोली- बिज़ी हो क्या?मैंने कहा- नहीं … बोलो!उसने कहा- मुझे मिलना है, आप अभी आ जाओ. थोड़ी देर बाद नींद में वो मेरे से चिपक कर सोने लगी तो मेरी नींद खुल गई.

उसकी उठी हुई गांड देख कर मन किया कि जाकर उसके नमकीन पहाड़ पर हाथ रख दूँ, पर मजबूर था.

आई मिलन की रात फिल्म हिंदी

फिर पापा दीदी के बगल में जाकर लेट गए और फिर से उनकी चुचियों से खेलने लगे. उसने आँखें बंद करते हुए कहा- ओह, तो हमारे लेखक साहब शायर भी हैं और साथ में मसाज भी अच्छी देते हैं, बहुप्रतिभाशाली!मैं मानो तैयार बैठा था … मैंने कुछ नहीं कहा. तो वो बोला- क्यों डर लग रहा है?मैंने सोचा कि मेरी मर्ज़ी के बगैर मेरे साथ कोई कुछ नहीं कर सकता तो कुछ मज़े ही कर लिए जायें.

मेरी दीदी व्हाट्सएप पर बात करते हुए कहने लगीं- तू मेरी इतनी चिंता मत कर … मुझे कुछ होने वाला नहीं है. सुबह उठ कर मैं अपने घर वापस आने की तैयारी करने लगा तो मेरी सास ने मुझसे कहा- दामाद जी, अगर आप बुरा न मानो तो एक बात कहें?मैंने कहा- जी कहें. तभी वो मुझसे बोली- मेरा दूध पीना है तो पी लो … लेकिन ज्यादा जोर से मत दबाना!लेकिन फिर मैं कहाँ मानने वाला था … मैंने हाथ से उसके चूचे दबाए और खूब सारा दूध पिया, साथ साथ उसके होंठों पर गुलाबी लिपस्टिक लगी हुई थी, उसे चूस चूस कर साफ़ कर दिया.

फिर हम दोनों अलग हुए तो मेरा पूरा मुँह उसकी लिपस्टिक से लाल हो गया था.

वो मुझसे छूटने की कोशिश करने लगी पर मैंने उसे कसके पकड़ रखा था इसलिए वो ज्यादा हिल नहीं पा रही थी. वो चिल्लाती रहीं- आह आराम से चोद साले … उफ्फ … चुत फाड़ेगा क्या … उन्ह मम्मी … उम्म्म् … आह … चोद मुझे … और तेज चोद. सुबह उठते ही उसने मुझसे पूछा- क्या सोचा तुमने?मैंने- किस बारे में?वो- किसी और से चुदवाने के बारे में.

उसके गले को और कान को काटते हुए मैंने सुहानी दीदी को एकदम गर्म कर दिया था. जीवन में पहले बार किसी औरत के होंठों को चूसा मैंने!दीप ने मेरी जाँघों को चूमते हुए मेरी पेंटी उतार दी और मेरी दोनों टाँगें फैला कर जैसे ही उसने अपने होंठों से मेरी चूत को छूआ. अब मीरा को मिहीन का लंड चूसते देख कर कल्पेश और रमेश भी उसके पास आ गए.

मिक्की- हां तू अब से रोज मेरी गंदी चड्डी ब्रा पहन के जाएगा, समझ गया न बहनचोद. मैं दिल्ली के मुखर्जी नगर में एक रूम किराए पर लेकर रहने लगा था और मेरी पढ़ाई अच्छे से होने लगी थी.

कुछ देर बाद वापस उन्होंने अपनी चूत मेरे मुँह में लगा दी और चूसने को बोलीं. मेरा लंड तो वैसे भी अभी भाभी की खूबसूरत जवानी को देखकर खड़े होने में ज्यादा टाइम नहीं ले रहा था. वो धक्के तो नहीं लगा रही थीं, पर लंड को चूत में अन्दर रगड़ रही थीं.

मैंने पूछा- क्या हुआ?वो बोलीं- मुझे अपनी चुत में फिर से खुजली हो रही है.

आखिर में हम दोनों बाथरूम में जाकर फिर से नहाये और बाद में सबके साथ टूर में लौट आए. एक तो वो 20 साल का चिकना लौंडा था, तो समझ सकते हैं कि कितना कड़क माल वाला होगा. इतना कहकर वो बाहर चली गई और मैं अपने कपड़े लेकर गेस्ट रूम में चला गया.

‘ओह मेरी जान … आउउउउम्म … आउउउउम्म … आउउउउम … पुच … पुच …’चाचा मम्मी के गर्दन को चूमते हुए उनसे कह रहे थे- ओह्ह रेखा … मेरी गुलबदन तुम्हारे बदन की खुशबू में एक अजीब सी कशिश है. इतना कहकर अपनी गांड मटकाते हुए चली गयी।मैं नहा-धोकर अपने फुल लिबास में यह सोचकर अपने कमरे से बाहर आया कि अब अंजलि से रात में ही चुदाई मुलाकात होगी क्योंकि दिन में आज किसी तरह कोई जुगाड़ नजर ही नहीं आ रहा था.

तभी मैंने रिशू के कपड़े ठीक किए जल्दी जल्दी से!उस दिन से मैं सोचने लगा कि कैसे भी करके अपनी चचेरी बहन रिशू की बुर की चुदाई करनी है।इसके बाद हम सब लोग गर्मियों की छुट्टियों में अपनी बुआ जी के घर गए. भाभी ने भी अपनी टांगें चौड़ी कर दीं और बड़ी मस्ती से मेरा लंड अपनी चूत में लेने लगीं. वो बोला- तो आज ये मेहरबानी मेरे ऊपर क्यों?मैंने कहा- अबे यार क्या बताऊं, साला लॉकडाउन चल रहा है.

लड़के सेक्स

मैंने उसको अपने रूम में छोड़ दिया और नहाने चली गई और वहां से तौलिया लपेट कर बाहर आ गई।उसके सामने ही मैं अपने हाथ पैरों में लोशन लगाने लगी.

चाचा कह रहे थे- रेखा तुम्हारे मुँह से निकली हुई गरम सांसों के साथ ऐसी खुशबू मुझे बहुत ही मदहोश कर रही है. दोस्तो, मेरा नाम निकिता है। मैं एक शादीशुदा औरत हूं।यह गैंग बैंग सेक्स कहानी मेरी ही ग्रुप चुदाई की है. जबकि मैं तो ये सोचता था कि जिस औरत का बेटा 22 साल हट्टा-कट्टा, लंबा चौड़ा दाढ़ी वाला हो और शादी के लायक पूरा जवान हो रहा हो रहा हो, उस और का कहां संभोग करने का मन करता होगा?पर आज मैं ये समझ चुका था कि शारीरिक सुख भी बहुत जरूरी है, इसकी कोई उम्र नहीं होती है.

कुछ पल बाद मम्मी महेश की तरफ घूम गईं और महेश सर के होंठों में अपने होंठ लगाकर किस करने लगीं. लेकिन फिर मेरा जोश बढ़ने लगा और साथ में दीप्ति की कामुक आवाजें भी बढ़ने लगीं. लालू नाम के लड़के कैसे होते हैंमेरी मम्मी के दोनों संतरों को महेश ने अपने दोनों हाथों में पकड़ लिया और वो मम्मी के चूचों को जोर जोर से दबाने व सहलाने लगे.

फिर मेरे पति का फोन आ गया।मैंने उनसे फोन में झगड़ा कर लिया; मैंने कहा- तुम आज के दिन भी नहीं आए. कमरे में घुसी तो देखा कि वो दोनों तो पहले ही प्रोग्राम शुरू कर चुके थे.

रानी भी उनके साथ बहुत खुश थी क्योंकि यह सब उसे बहुत दिन बाद करने को मिल रहा था. हेमा- क्या हुआ फोन कैसे किया?मैंने झूठ-मूठ में उससे प्यार मुहब्बत की बात करना शुरू कर दी- बस ऐसे ही किया डार्लिंग. मैडम मेरी चुदाई से बहुत खुश हुईं और दोबारा चुदवाने का वादा करके चली गईं.

मैंने अपने दोनों हाथों से उसकी योनि पंखुड़ियों को खोला और उसकी चुत के दाने पर अपनी जीभ घुमाने लगा. ये समझते ही कल्पेश फिर से मीरा के बदन से खेलने लगा और उसका हाथ पकड़ कर उसे खड़ा कर दिया. ’नैना मुस्कुराती हुई बोली- अन्नू जी, आप भी ना … फिर तो मैं भाग्यशाली हूँ कि कोई तो है, जो मुझे चाहता है, मेरी खूबसरती की प्रशंसा करता है.

प्यासी भाभी पोर्न स्टोरी मेरे जूनियर मैनेजर की सेक्सी पत्नी के साथ मेरी सेटिंग की है.

मैंने दो वेज थाली का कूपन लेकर काउंटर पर दिया, उसने मुझे बताया कि दस मिनट समय लगेगा. ’मॉम ने कुछ देर बाद आंटी का दूसरा चुचा भी मुँह में ले लिया और पीने लगीं.

मैं- तो तुम इतनी देर से क्या कर रही हो?मीना- मैंने बस अभी उसे छुआ है, देखना अभी बाकी है. मैंने उसकी चुत से अपना लंड बाहर निकाल लिया और बुआ को बिस्तर पर लिटा कर बुआ की चूत में लंड घुसा दिया. फिर रात भर हम तीनों बीवियां अपने अपने हसबैंड अदल बदल कर चुदवायेंगी।इस तरह हमारा दायरा बढ़ता गया और हम सब अदला बदली के खेल मज़ा लेतीं रहीं।तो ये थी हमारी एक सच्ची बिहारी सेक्स स्वैप स्टोरी … आपको कैसी लगी बताना जरूर![emailprotected]लेखिका की पिछली कहानी थी:सास बहू की चुदाई में ननद की चूत का तड़का.

मैं भी उनके लंड को रगड़ रगड़ कर उनके जिस्म को सहला सहला कर उन्हें नहला रही थी. वह रोने लगी और हाथ जोड़कर बोलने लगी- अंकल मुझे छोड़ दो, ये सब मुझसे नहीं होगा. जैसे ही मैंने अपना चेहरा ऊपर किया तो उसके मूत की धार मेरे चेहरे पर आ गई जिसको मैंने एकदम से हटा दिया.

हिंदी में सेक्सी और बीएफ अब किसी बात का डर नहीं था क्योंकि हम दोनों राजी थे।पहले मैंने रिशू से कहा- मेरा लन्ड चूसो पहले … फिर कुछ करते हैं!लेकिन उसने मना कर दिया और बोली- यार, ये सब न करवाओ!फिर मेरे बहुत कहने के बाद मेरी बहन मान गई और मेरा लन्ड चूसने लगी. दोस्तो, मेरा नाम परम सिंह है और मेरा कद 5 फुट 6 इंच है, रंग गोरा है और मैं अच्छी सूरत का धनी हूँ.

एक्सएक्सएक्सपॉर्न

दीदी छटपटाती हुई चिल्लाने की कोशिश कर रही थीं, दर्द से छटपटा रही थीं. बाहर ही आनन्द भी मिल गया, हम दोनों ने हाथ मिलाकर एक दूसरे का अभिवादन किया. मेरी चुत में आग लगी पड़ी थी और मुझे बार बार अपने देवर का मोटा लंड गर्म कर रहा था.

फिर मैंने बातों बातों में पूछा- पहले कभी किसी लड़की को नंगा देखा है क्या?उसने धीरे से शरमाते हुए कहा- चाची जी, आपको कई बार देखा पर आज आपको देख के मजा आ गया।फिर उसने धीरे से पूछा- आप अपने नीचे के बालों को क्यों नहीं साफ़ करती?उसके मुँह से इस तरह की बात की मुझे उम्मीद न थी. तो हमने पूछा- कैसे आएगा?तब तपिश उठा और हम दोनों की कटोरी लेकर टेबल पर रख दी और कहा- तुम दोनों अलग अलग तरफ़ सोफ़े पर लेट जाओ. सनी लियोन सेक्सी वीडियो मेंमैंने मोबाइल देखा और उसे दिखाते हुए कहा- क्या तुम ये देख कर मुस्कुरा रही थीं?वो हंसने लगी और मेरे हाथ से मोबाइल लेने लगी.

अब दीप्ति मुझसे बात करने लगी- तुम पुणे में ही रहते हो?मैं- मैं मुंबई का रहने वाला हूँ और उधर ही जॉब करता हूँ.

उसका बदन पहले से थोड़ा भर गया था और वो बहुत खूबसूरत लग रही थी।उसे देखकर मन तो कर रहा था कि अभी रूम में ले जाकर उसे मसल डालूं. मैंने कहा- अच्छा लेस्बियन करवाना है आपको!वो बोलीं- हां तेरे ससुर ने बहुत पहले मुझे एक ब्लू फिल्म दिखाई थी.

वो बोली- हां ठीक है, लेकिन स्प्रे तो है नहीं … और पापा मम्मी शादी में गए हैं. हॉट नर्स सेक्स कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको जल्दी से अपने बारे पर कुछ बता देता हूं. लगातार धक्के लगाने से मेरा भी पानी छूटने वाला था तो मैं रुक गया और लंड बाहर निकाल लिया.

कितनी कशिश थी उसके चेहरे में … मादकता से भरपूर उसका जिस्म मुझे आनन्दित किए जा रहा था.

यह देसी Xxx सेक्स कहानी आज से 8 महीने पुरानी है।उस दिन मेरी शादी की सालगिरह थी।परन्तु मेरे पति को काम की वजह से अचानक दिल्ली जाना पड़ा।दुखी होकर मैं दिनभर अपने कमरे में लेटी रही थी. उधर मोनिका नंगी ही अपनी लेफ्ट वाली चूची का निप्पल गुड़िया को चुसा रही थी. दोस्तो, यह थी मेरी एककॉल गर्ल के साथ चुदाईकी कहानी!उम्मीद करता हूँ कि आप सबको यह कॉल गर्ल पोर्न कहानी पसंद आएगी.

अंग्रेजी केएक तो वो मेरे से उम्र में 6 साल बड़ी थी, दूसरा मैं पल्लवी को लाइक करता था. बस फिर क्या था … मैंने बिना रुके लंड को जितना अन्दर ले सकता था, भर लिया.

सुप्रभात डाउनलोड

कुछ ही देर बाद वह नॉर्मल हो गई, तो मैंने नीचे से धक्के लगाने शुरू किए. पन्द्रह दिन बाद मैं अपना सामान बैग में लेकर ट्रेनिंग में जाने के लिए मदन के बताई जगह पर इंतजार कर रहा था. हम सब जब खेलते थे, तब मैं मौके का फायदा उठा कर खेल खेल में उसके चूचे दबा देता और उसकी गांड पर हाथ रख कर मसल देता.

और चाचा ने मम्मी के गालों को सहलाते हुए एक ही झटके में अपना पूरा लंड मम्मी की चुत में सरका दिया. उसका लंड जैसे ही चूत में घुसा, मैं ऊईई ईई ईईई सीईई ईई करके चिल्ला उठी. मैंने जैसे ही उसको अपनी बांहों में उठाया, तो मेरा मुँह पहले उसके कड़क दूध पर लग गया, जिसका अहसास मुझे करंट लगने जैसा हुआ.

अंजलि पूर्ण नग्न अपनी गांड मटकाते हुए ऑमलेट बना रही थी और भाई-भाभी कहीं नजर ही नहीं आ रहे थे. फिर मैं भी अपना आपा खो बैठा और जोरदार पिचकारी से अपना पानी उसकी गर्म चूत में भर दिया. सोच अगर मैं मेरा इतना बड़ा लंड तेरी चूत में डालूंगा, तो तुझे कितना मजा आएगा.

मैंने स्टेशन मास्टर से मुलाकात की और एक वातानुकूलित डबल बेडरूम ले लिया. मेरी आंख बंद होने के कुछ देर बाद मुझे कुछ अजीब सा महसूस होने लगा था.

प्रीति भी गांड उठा कर चुदने लगी और मैं उसकी देसी चूत की चुदाई ताबड़तोड़ करने लगा.

उनकी समस्याओं को ध्यान से सुना और फिर उनके जाने के बाद आनन्द से इस विषय में चर्चा की. टिकटोक सेक्सी वीडियोपर एस्केलेटर कम था, गाड़ी धड़ाक से रुक गई।दाइशा जी अपना चेहरा उठाकर मुझे देखने लगी. रानी गानाकुछ ही देर में बुआ ने अपने सारे कपड़े उतार दिए और मेरे पैरों के पास आकर मेरे निक्कर को खींच दिया. अब हम दोनों ही अपने होशो हवास खो चुके थे, एक दूसरे में इतने मशगूल हो गए थे कि हमें खुद पता नहीं था कि कब हमने आपस में दोनों के कपड़े उतार दिए थे.

तो सुनील ने कहा- अब हमें जब भी किसी लड़की की जरूरत होगी तो हम तुझे ही बुलाएँगे.

मुझे विश्वास नहीं हुआ कि मेरे साथ उस अनन्या ने बात की जिससे मैं बात करने को तड़प रहा था. मैंने उसे तुरंत बुलाया और उससे इधर उधर की बातें करने लगी ताकि मैं उसे ज्यादा समय तक मैं उसे अपने नंगे अंगों को दिखा पाऊं।ऐसे ही कुछ दिन और बीत गए पर बात अब भी बनती नज़र नहीं आ रही थी. वो बस दीदी के लिए है क्या?उसके इस सवाल से मेरे मन में ये बात साफ़ हो गई कि साली साहिबा मुझे उत्तेजित कर रही है.

फिर जाकर अपने अपने हाथ से काम चलाओ, पार्टनर हो तो उसकी रात हराम करो. पर अन्नू की आँखों में झलकते प्यार को वो देख चुकी थी।जवान जिस्म जब करीब हों और मन में अरमान मचल रहे हों तो क्या नहीं हो सकता।अन्नू ने रूपा को हल्के से माथे पर किस कर लिया. मेरे मम्मी पापा अगले दिन सुबह जाने वाले थे पर मुझे पूरी रात सेक्स करने की चाहत से नींद नहीं आई.

संधि पूजा क्या है

शिवानी की आंखों में साफ़ दिख रहा था कि वो भी मुझे उतना ही पसंद करने लगी थी, जितना मैं!हम थोड़ी देर और बात करते रहे. उस दिन मम्मी ने काले रंग की जाली वाली ब्रा पहन रखी थी और उस ब्रा में मम्मी के बड़े स्तनों को देख कर मेरी वासना भड़क उठी थी. मैं जल्दी से नीचे लेट गया और कुत्ते की तरह उसके गंदे मोज़े सूंघने लगा.

तो मम्मी ने शर्माते हुए कहा- मुझे भी आप …मम्मी के इतना कहते ही, चाचा ने मम्मी पर लगभग झपटते हुए अपने होंठ मम्मी के नीचे वाले होंठ पर लगा दिए और बुरी तरह से चूसने लगे.

अब्दुल ने मेरी मॉम की गांड पर हाथ फेर कर कहा- तू तो बड़ी मस्त माल है कल्पना.

आज पहली बार मैंने बुआ को सिर्फ सलवार और कुर्ते में बिना दुपट्टे के देखा था. उसने खुद ही 600 रूपए का केक ले लिया और मैं केक पकड़ कर पीछे बैठ गया. आलिया भट्ट का एक्स एक्स एक्सफौजिया के अब्बू बाहर नौकरी करते थे इसलिए घर में कोई भी कम होता था तो फौजिया की अम्मी मुझे ही काम करने की कह देती थीं.

करीब 15 मिनट पापा ने दीदी को और चोदा और उनकी चुत में ही डिस्चार्ज हो गए. वहां सामान्य दिनों में सभी मज़े लेने आया करते थे मगर लॉक डाउन की वजह से सड़क और पार्क दोनों खाली थे. अचानक से मेरी नजर उसके लंड पर गयी, तो उसका लंड पूरा कड़क हो चुका था.

मेरी गर्लफ्रेंड से फोन पर बात हो रही थी और मैं कंप्यूटर को सैट कर रहा था. हम दोनों पसीने में लथपथ थे, दोनों की सांसें इतनी तेज चल रही थीं कि हम उन्हें सुन सकते थे.

कुछ देर बाद उन्होंने अपने पैर घुटनों से मोड़ लिए जिससे मुझे भाभी के चूचे दिखने बंद हो गए.

जिस हुस्न को देखकर कभी मैं आहें भरा करता था, आज वो बेनकाब होकर मेरे सामने मुझसे भोग लगवाने के लिए आतुर थी. मैंने उसकी आंखों को एक बार देखा और भीड़ की तरफ देखने का ड्रामा करने लगा. मैंने कहा- ठीक है, आ जाओ!मैं घुटनों के बल नीचे बैठ गयी और सलीम ने लंड मेरे मुंह में डाल दिया और धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा.

दिल्ली वाली भाभी सास ने अपना टॉप भी ऊपर कर लिया था तोमैंने उनसे पूछा- मम्मी टॉप उतार दूँ क्या … आपके पूरे बदन की मालिश कर दूंगी. मैंने मीना से कहा- कल मैं तुम्हारे कॉलेज का पता करके तुम्हारे दाखिले का काम करता हूँ.

वो बुआ की चूत चाटने लगी और मैं पीछे से पकड़ कर तेज़ तेज़ झटके लगाने लगा. मैंने उसको पूछा- क्या तुम्हारा फर्स्ट टाइम है हीर या पहले किसी के साथ सेक्स कर चुकी हो?उसने कहा- नहीं भैया, ये मेरे साथ पहली बार है. पर उसने नहीं बताया कि फोन पर कौन है और मुझे भी अभी तक पता नहीं चल पाया था.

तृषा कर मधु का सेक्सी वीडियो वायरल

दीप्ति के पति भी एक कंपनी में मैनेजर की पोस्ट पर काम कर रहे हैं और अभी किसी काम से बंगलोर गए थे. कभी कभी सुबह सुबह निकिता मुझे गुड मॉर्निंग बोलने मेरे रूम पर आने लगी. मम्मी- अब भी मुझे भाभी बोलोगे? शादी हो चुकी है हमारी!चाचा- ठीक है जी, आप ही बता दो कि मैं क्या कहूँ?मम्मी- इसमें कहने वाली क्या बात है, नाम लेकर बुलाया करो मेरा.

अब वो रिदम में मेरा लंड चूसने लगी और साथ में मेरी उंगली उसकी गांड में अन्दर बाहर होने लगी. मैंने जैसे ही देखा कि रिशू सो रही है तो मैंने सोचा की क्यों न मैं भी रजाई में घुस जाऊं और रिशू की बुर चोदने की कोशिश करूं!तब तक मैंने अपनी चचेरी बहन के साथ कुछ नहीं किया था पर मेरा दिल बहन की जवानी पर आया हुआ था.

मैं मन ही मन प्रसन्न था कि नैना के साथ मेरे मिलन की यह बाधा भी दूर हो गयी थी.

ऊईई ईईई आहह करके मैं उछलने लगी; अब मुझे भी मजा आने लगा था।मैंने उसकी गान्ड को तेजी से पटकना शुरू कर दिया और मैं समीर के फौलादी लंड को चोदने लगी वो मेरी चूचियों को चूसने लगा. ये सुनकर मैंने मैडम के दोनों पैर पकड़ कर ऊपर कर दिए और तेजी से धक्के लगाने लगा. मीनाक्षी ने भी अपने हाथ को मेरे लंड पर रख दिया और वो पैंट के ऊपर से ही मेरे लंड को हल्के हल्के से मसलने लगी.

कुछ देर बाद वो बोलीं- अब डालो ना!मैंने कहा- पहले मेरे कपड़े तो उतारो मेरी जान. लेकिन बियर के नशे की वजह से और ठंड की वजह से मैं अपना आपा खोता जा रहा था. कुछ समय अम्मी को ताबड़तोड़ चोदने के बाद वो शांत हो गईं और चुपचाप लेटी रहीं.

मैंने फिर से कहा- मम्मी प्लीज़ तेल लगा कर करो न!उन्होंने कहा- नहीं, मैं तेल नहीं लगाऊंगी.

हिंदी में सेक्सी और बीएफ: फिर वो पूछने लगी- खाना खाया?मैंने बताया और वो इसी तरह की बात करती रही. दीप्ति खड़ी होकर दरवाजा खोलने गई और डिलीवरी बॉय से खाने का आर्डर लेकर गई.

आपका यश शर्मा[emailprotected]हॉट भाभी Xxx कहानी का अगला भाग:गर्म चूत की आग लंड से ही बुझती है- 2. दोस्तो, मैं राजीव अपनी बुआ के संग अपनी मादक सेक्स कहानी आप सभी को सुना रहा था. मेरे पास भी तो यही मौका था, मैंने भी बांहें खोल कर दीप को अपने सीने से लगा लिया.

रात दिन इसको नंगी रख कर उसकी चूची चूसता और चूत बजाता और बाद में सोने की अशर्फी देकर विदा कर देता.

भाभी ने कहा कि मुझे अपनी चुत की सेवा करवानी है और इसी लिए ही तो आपको कॉल किया है. मैं दीदी के लिए फ्रूट जूस लाया लेकिन नीलम दीदी जूस पीने के लिए भी मना करने लगी थी. अब मैंने उसको अपने लंड की तरफ मुँह करके बिठाया और उसकी पैंटी नीचे खींच कर उसकी गोरी गांड में नाक घुसेड़ दी.