मोनालिसा के बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,एचडी पोर्न सेक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी चुदाई बीपी: मोनालिसा के बीएफ वीडियो, मैं भाभी को देख कर एकदम से खुश हो गया और मैंने तुरंत बोल दिया- और ज्योति डार्लिंग कैसी हो?भाभी स्माइल देकर बोलीं- ठीक हूँ … तू काफ़ी बदल गया है.

एक्स वाला वीडियो

ऐसा लग रहा था जैसे कि वो पहली बार किसी के साथ सेक्स कर रही हो।मेरी हालत भी कुछ ऐसी ही थी. क्सक्सक्स पॉर्न कॉमआज बहुत दिनों बाद आयी है साली … तेरी याद में मैंने न जाने कितनी लौंडियां चोद लीं, लेकिन तेरे जैसी कोई चुत नहीं मिली.

उसकी आंखें बंद हो गई थीं और मन में सिर्फ मॉम की चूचियों की रगड़न का ही अहसास हो रहा था. ब्लू सेक्सी चोदने वालीये मसाला पढ़कर मेरी हिम्मत बढ़ गई और अगले दिन मैंने भाभी को एक वेवसीरीज का हॉट सीन वाली वीडियो भेज दी.

उसकी इस नाइटी में मम्मों के पास जालीदार नेट लगी थी और बस इतनी लम्बी थी कि ये नाइटी उसकी चूत को ढकने में असमर्थ थी.मोनालिसा के बीएफ वीडियो: खैर … मैंने सोचा कि इसने मुझे अपना फोन नम्बर दिया है इसका मतलब ये हुआ कि समय कम होने से ये मेरी पूरी तरह से खिंचाई नहीं कर पाई है.

अब मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैंने अपना हाथ चलाना शुरू कर दिया।वो कुछ नहीं बोली तो फिर मैंने उसके बूब्स सहलाने शुरू कर दिया।अब मैंने अपना लोवर उतार दिया और उसकी गान्ड को दबाने लगा।वो भी गर्म होने लगी थी.देखा तो सामने आकृति आंटी एक सफेद रंग का मिनी स्कर्ट और ऊपर पीले रंग का टॉप पहने हुई थीं.

औरत की चुदाई हिंदी में - मोनालिसा के बीएफ वीडियो

यह बात उसने अपने दोस्त सोनू को भी बताई और सोनू भी उसका साथ देने को तैयार हो गया.अब जेठजी तक़रीबन अपने पूरे लंड को मेरी चूत से बाहर निकालते और वापस पूरी रफ़्तार से अन्दर डाल देते.

मुझे लगा कि ये शायद इनसे गलती से हो गया होगा … या इन्हें मालूम ही नहीं होगा कि इधर से मेन स्विच खोलना होता है. मोनालिसा के बीएफ वीडियो क्रीम लगाते टाइम मुझे अहसास हो गया था कि उसकी चूत का छेद बहुत ही संकरा था और लौड़े दर्द तो उसे झेलना ही पड़ेगा.

उसके साथ कानों में नीले रंग के बड़े बड़े झुमके पहने और जेठजी का दिया हुआ सोने का हार पहन लिया.

मोनालिसा के बीएफ वीडियो?

फिर उस बाजू वाली भाभी का हाथ मेरी जांघ के ऊपर आ गया और वो मेरी जांघ को सहलाने लगी. उसने मेरे सर को अपनी जांघों में भींच लिया और मेरे लंड को अपने दाँतों से काट दिया. लकी ने सारा की ब्रा उतार फेंकी तो सारा ने अपनी पैंटी खुद ही नीचे कर दी.

मैंने तुरंत पूछा- मतलब तुमने भी तो देखी थी, तो कंट्रोल कैसे किया?उसने कहा- मेरे पास मेरा पति है. दो पल बाद कुसुम झड़ने लगी और उसके मुँह से ‘ओह रोहन आह रोहन …’ निकल गया. वो बोली- मैं बन जाऊं फिर?मैंने मामी की ओर हैरानी से देखा तो वो जोर जोर से हंसने लगी.

इतने में ही उसके मुँह से ‘आआहह …’ की आवाज बहुत ही मादक तरीके से निकली. उसकी जींस जांघों तक उतर गई थी मगर अब मैं उससे नीचे नहीं कर पा रहा था. फिर खूब बढ़िया से उसकी सील पैक चूत को चाट चाट कर उसका पानी निकाल दिया.

कभी बांधकर तो कभी तड़पाकर! उसको सेक्स का पूरा मजा लेना होता था।कमल सोचता कि हर घर में ऐसा ही होता होगा, तो वह ऐसा ही करता जैसा सारा कहती. मैंने पहले ही दरवाजे खोल कर रखे थे और उससे बोल दिया था कि तुम सीधे घर में आ जाना.

तुम्हारा काम होता हो … मतलब उससे डील मिलती हो, तो तुम्हारी ये बहन उसके साथ मिल सकती है.

रमेश ने 2 मिनट तक अपना लंड मेरे मुँह में रखा ताकि पानी अन्दर तक चला जाए.

एक बार कमल को कहीं पढ़ कर ये अक्ल आ गयी थी तो उसने किसी बात पर सारा को बहुत डांटा था और सारे खर्चे रोक दिए. मैं उसे अपना लंड भी नहीं दिखा पा रहा था क्योंकि भाई अपने कमरे में रहता था. मैंने कहा- हां जरूर … आप बता दीजिए कि कब से शुरू करना है और आपको किस टाइम ठीक रहेगा.

हैलो फ्रेंड्स, मैं एक बार से अपनी सेक्स कहानी में आपका स्वागत करती हूँ. उसकी दाढ़ी मूंछ भी आ गए थी और हाइट भी पहले के मुकाबले ज्यादा हो गई थी. मनीष की एक गर्लफ्रेंड थी, वो उसके साथ काफी मजे करता और उसके साथ की सेक्स कहानी को सुना कर मुझे जलाता.

तब भी मैं डरते हुए भाभी के घर गया और वर्षा भाभी को उनकी ब्रा दे दी.

मैं उसे वैसे ही गले लगाए हुए, उसके गले पर, कान पर अपने होंठ फिराने लगा. उसने मुझे वहां के बारे में बहुत कुछ बताया और कई सारी सलाह दीं।एक महीने के बाद मेरे जाने का समय हो गया था. इस पर शेखर चौंक गया और उसने मुझसे इस बारे में पूछा, तो मैंने ही उसे हमारे बारे में सब कुछ बता दिया और तुम्हारा लैटर भी उसे दिखा दिया.

इतने में मेरी मम्मी ने बाहर से आवाज़ लगाई- ज्योति बाहर आ जा … अन्दर गर्मी है, बाहर ठंडक है. फिर उसने एक झटके में अपना टॉप उतार दिया और आगे खिसक कर अपने मम्में लकी के मुख में दे दिए. मैंने तुरंत बिल्लो को फ़ोन करके अपना प्लान बताया, तो आने को राजी हो गयी.

उसके बाद धीरे धीरे मैंने बीवी की गर्दन को चूमना शुरू किया, उसकी गर्दन को चूमते चूमते मैं उसके मम्मों तक पहुंच गया.

इसलिए मां मेरी मौसी के यहां चली गयी और नाना-नानी भी अपनी दूसरी बेटी से मिलने के लिए चले गये. तभी जीजू को एक फ़ोन आया, तो जीजू में हम दोनों से कहा कि वो किसी मीटिंग में जा रहे हैं, शायद ये मीटिंग इसी होटल में होगी.

मोनालिसा के बीएफ वीडियो मैंने उसके टॉप के अन्दर से ही उसके एक चुचे को पकड़ लिया और मसलने लगा. मेरी पिछली कहानी थी:अनजान आंटी और उनकी सहेली की चुत चुदाईआज मैं आपको एक सच्ची ट्रेन Xxx कहानी बताने जा रहा हूँ, यह घटना कुछ समय पहले ही मेरे साथ हुई थी.

मोनालिसा के बीएफ वीडियो पहले मेरे होंठों का रुख उसकी नाभि पर हुआ, फिर मेरे होंठ एकदम से उसकी जन्नत घाटी को पार करते हुए सीधे जांघों पर अपना प्यार लुटाने लगे. वो बोला- और फकिंग में कैसा था?मैंने हंस कर कहा- उसमें भी आप मेरे ब्वॉयफ्रेंड से चार गुना अच्छे निकले.

शनिवार को मैंने मिथुन से दारू मुर्गे का इंतजाम करने का कहा और दो और लड़कों को लाने के लिए कह दिया.

इंग्लिश पिक्चर नंगी सेक्सी

मैंने अपनी मम्मी से बोला- मैं आज रात को यहीं रुकूंगा और कल सुबह घर आ जाऊंगा. मेरी बहन अपनी गांड में मेरा लंड लेकर बोली- आह … अब दर्द कम हो रहा है. मैं और मंजू इस चुदाई को देख कर गर्म हो गए और मैं मंजू को लेकर दूसरे रूम में चला आया.

एक दिन घर कोई नहीं था तो मैंने टॉयलेट के बहाने से अपनी बहन रिया को लंड दिखा दिया. मैं खुश हो गया और लन्ड को तुरंत चौथे गियर में डाल दिया और फुल स्पीड से उसकी चुदाई करने लगा. भाभी मुस्कुराती हुई मुझसे छूटने की कोशिश कर रही थीं, बोल रही थी- ओह … आह … मत करो ऐसे!पर मैं अपने काम में लगा रहा.

उसने अपना लंड के सुपारे से मेरी चुत की फांकों को रगड़ना शुरू कर दिया.

कुछ दिनों से किसी की चूत न मिल पाने के कारण मेरे लिंगदेव भी अब चूत में जाने के लिए व्याकुल हो रहे थे. आज मैं आपको अपनी दो चचेरी बहनों की चुदाई की कहानी बताऊंगा कि कैसे मैंने उनको थका थकाकर चोदा. उसने मुझे किस करने के बाद हल्का सा पीछे की ओर झुका दिया और मेरे रसीले मम्मों का रस दबा दबा कर पीने लगा.

जहां हमने एक दूसरे से सामने दूसरे पार्टनर से सेक्स किया, ग्रुप सेक्स किया, सड़क पर सेक्स किया, बीच पर सेक्स किया।ज़िंदगी का असली मज़ा तो अब आया. एकदम से उनके मुंह से निकला- आऊच … आह्ह …मैं जल्दी से उठकर उनकी तरफ दौड़ा तो मैंने देखा कि मामी का हाथ प्रेशर कुकर से लगकर जल गया था और कई इंच जगह में से लाल हो गया था. किसी ब्रोकर ने मुझे वहां पर कमरा दिलवा दिया और मैं वहां पर शिफ्ट हो गया.

अपने आपको संभालते हुए मैं उसके पास गया और अपना मेल दिखाते हुए अपना परिचय दिया. मैंने अपने लौड़े की रफ्तार बढ़ा दी और तेज़ी से चोदने लगा अब वो भी साथ देकर आहह आहह चोदो मुझे … ले लो मेरी … आहह आहह चोदो … चोदो मुझे … आहह करके लंड लेने लगी थी.

अब वो मेरे पेट को पकड़ कर मुझे एकदम चिपका कर आखिरी झटकों के साथ रस लेने वाली चुदाई करवाने लगीं. आजतक इससे पहले मॉम ने मुझे पापा के बाहर जाने को लेकर कभी नहीं कहा था. अपने गुप्तांगों के बाल साफ कर लिए ताकि मेरा सांवला रंग होने के बावजूद मेरे जिस्म का हर अंग मेरे यार को अच्छा दिखे.

दोस्तो, मेरा नाम यश कुमार है, मेरी उम्र 20 साल से कुछ माह ज्यादा है.

करीब पांच मिनट बाद मैं भी झड़ने वाला था तो मैंने भाभी से पूछा- कहां लेना है?निशा भाभी बोलीं- अन्दर ही डाल दो. अपने लंड को सहलाता रहा।उन दोनों में से कोई भी वापस ऊपर नहीं आया तो फिर मैंने बात की पड़ताल करने की सोची।मैं चुपके से उठकर नीचे चला गया।नीचे वाले रूम में जाकर देखा तो मामा ने दीदी को अपनी गोद में बैठा रखा था। उसका टॉप और ब्रा दोनों उतरे हुए थे. मायरा की सांसें अभी थम चुकी थीं, लेकिन आंखें बंद थीं और होंठ सूखे और खुले थे.

मैं भाभी के पास जाकर बिना कुछ बोले उन्हें पकड़ कर जोर से उनके होंठों पर किस करने लगा. जब उससे नहीं रहा गया, तो उसने मेरे लंड के टोपे को अचानक से अपने होंठों से छू लिया.

मैं ये बोलते हुए भाभी के मम्मों की ओर देखने लगा और तय किये हुए दाम मैं उनको देने लगा. तुम यही सब अपनी कॉमर्स की क्लास में सीखती हो!नेहा हंस पड़ी और मेरे सीने से लग गई. मुझे चोदने के बाद इकबाल ने मुझे अपने जुआ के अड्डे पर डांस करने के काम का ऑफर दिया था.

सेक्सी ब्लू बीपी सेक्सी ब्लू

मैंने रूपए लेने से मना किया, तो बसंत बोला- तुम्हारे पांच सौ रूपए बढ़ कर एक हजार हो गए.

मेरी मॉम मेरा लंड लेकर मादक सिसकारियां लेने लगीं- आह … सिस्स … मादरचोद फॅक मी … ओर जोर से चोद माँ के लौड़े … आह और जोर से चोद दे. एकाएक सत्यम के सांसें उखड़ने लगीं और उसकी रफ्तार नियमित गति से दुगनी हो गयी. अमित को इसका अहसास हो गया कि मुझे ठंड लग रही है और वो मुझसे सट कर बैठ गया.

परसों सुबह 6 बजे जीजू चले गए और दीदी को मैंने अपने रूम में बुला लिया. उसके बाद उसने कहा- चलो अब मैं तुम्हारे मुँह पर बैठूंगी और तुम मेरी चुत चाटना. સેક્સ ઈંગ્લીશआपा बोली- तेरे जीजाजी ने अभी तो चूत के दर्शन भी नहीं किए, सिर्फ मम्मे ही दबाए थे.

मेरा मन कर रहा था बस इन चूचियों के साथ ही खेलता रहूं।लेकिन मुझे इसकी चूत का भी तो स्वाद चखना था आज!इसलिए मैं उसके पूरे शरीर पर हाथ चलाता और किस करता रहा।थोड़ी देर बाद वह हल्का सा पीछे की ओर घूमी तो मेरा लंड पूरी तरह से उसकी गांड की दरार के बीच में आकर पैंट के ऊपर से उसकी चूत को टच करने लगा. उन्होंने कहा- आप शायद दिल्ली के पास कहीं की रहने वाली हैं?उनका ये तुक्का किस तरह से सही लगा था, मुझे समझ ही नहीं आया.

मैंने उस दिन उसको अपने बारे में सब बताया- मेरा पति नहीं है और बेटी किधर है … उसे सब कुछ बता दिया. मैं सुरीली के चुच्चों को लगातार मरोड़ रहा था और उन पर चांटे मार रहा था. अब वो चाह रही थी कि किसी तरह मेरा पानी निकल जाए और वो जीत जाए!लेकिन मैं कहां कच्चा खिलाड़ी था.

तो उसने आज के लिए मना करते हुए कहा- पीछे की किसी और दिन … आज केवल मेरी चूत की प्यास को मिटा दीजिये. फांकों को फैलाया तो अन्दर वाली पिंक कलर की दो छोटी फांकें होती हैं, वो भी बाहर को निकली हुई थीं. करीब दस मिनट के बाद रमेश के लंड ने वीर्य मेरी बीवी के मुँह में छोड़ दिया.

ये देखकर मेरे लंड में भी झटके लगने लगे थे।मुझसे भी रहा नहीं गया और मैं अपने लंड को वहीं पर खड़ा हुआ सहलाने लगा।मेरी बहन के छोटे-छोटे गोल-गोल सफ़ेद बूब्स और उस पर गहरे भूरे रंग के निप्पल बहुत ही शानदार लग रहे थे।मामा उसके बूब्स को काट रहे थे, चूस रहे थे और मसल रहे थे।मीनू उनके नीचे दबी हुई थी और उसकी साँसें तेज होने लगी थीं.

उसने कमरे में रखे फ्रिज से एक कोल्डड्रिंक की कैन निकाली और मेरे मुँह में दूध देते हुए बोली- अब चूसो. मैंने उसको लंड पर सामने मुंह करके बैठा दिया उसकी चूचियों को मसलने लगा और तेज़ तेज़ लंड अंदर बाहर करने लगा।वो भी उछल उछल कर मस्त होकर चूत का दबाव लंड पर बनाने लगी।अब मेरे लौड़े को जोश आ गया और रफ्तार तेज हो गई।तब मैंने उसे उठाकर टेबल पर लिटा दिया और उसकी दोनों टांगों को चौड़ा कर के चोदने लगा.

फिर रोमी ने सरिता भाभी को पीछे से उठाया और उसे फिर से कुतिया बना दिया. हालांकि मुझे ये सब करते हुए डर भी लग रहा था, फिर भी हिम्मत करके मैंने कर दिया. कुछ देर बात हुई मैंने उससे उसका नाम पूछा, तब उसने अपना नाम लिली बताया.

उस समय मैंने वर्षा भाभी से पूछा- भाभी आप इतनी उदास क्यों रहती हो?भाभी ने मेरे सवाल का जवाब नहीं दिया और मुझसे पूछने लगीं- क्या आपकी कोई गर्लफ्रेंड है?मैंने कहा- नहीं भाभी … मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है. उस दिन शाम को जब मैं उनके साथ बैठा था, तो वो बोलीं कि कल मुझे कचहरी जाना है … अगर तुम मेरे साथ चल सको, तो बहुत अच्छा रहेगा क्योंकि वहां सब अकेली औरत को बड़ी अजीब नज़रों से देखते हैं. अब कुछ देर के बाद मेरे लिंग महाराज का गर्म लावा भी बाहर आने को बेकरार था.

मोनालिसा के बीएफ वीडियो उस दिन मैंने दिल्ली जाने के लिए एक ब्लैक कलर की साड़ी पहन ली और अपने आपको खूब सजा संवार लिया. मैंने बड़ी चालाकी से उनसे ये कहते हुए उनका नंबर भी मांग लिया कि आपके नम्बर की जरूरत पड़ेगी और मुझे कुछ पूछना हुआ, तो आप अपना फोन नंबर दे दीजिए.

वीडियो देसी सेक्स

आहिस्ता से धक्के लगाते हुए मैंने दीदी की चूत में धीरे धीरे पूरे लंड को ही अंदर धकेल दिया और अब दीदी की चूत मेरे पूरे लंड को आराम से अंदर ले रही थी. मेरी साली चंचल ने आज ऐसा मूड बना दिया था कि मेरी चुदाई से मधु पागल सी हो गई थी. भाभी जाने लगी, तो विजय ने उसका हाथ थाम लिया और बोला- कल नहीं, आज रात को तुम मेरे साथ रहोगी … पूरी रात चुदाई की रात होगी.

मैंने समझ लिया कि आंटी की चूत की बिना झांटों वाली थी, जिसे वो अभी ही साफ़ करके आई हैं और इसको ही उन्होंने मुझे सरप्राइज कहा था. फिर वो मेरी चूचियों को दबाने लगे तो मेरी आह्ह निकल गयी और मेरे होंठ खुल गये. সেক্সি ব্লু ফিল্ম সেক্সিउन्होंने मेरे सिर से मेरे बालों को पकड़ कर एकदम अपने मुँह में ले लिया.

वो बोली- राज, जैसा सोचा था वैसा ही कर रहे हो … ऐसे ही करो बड़ा अच्छा लग रहा है.

वो 23 साल की मासूम सी दिखने वाली लड़की, तीखे नैन, गुलाबी होंठ, चौतीस की चूचियां. मैं उसे प्लान बताने लगा- जब घर पर कोई ना हो, तो तू उसे घर बुला लेना.

उसकी चंचल निगाहें मुझे समझ आ रही थीं कि लौंडिया चुदने को मचल रही है. दोस्तो, मैं रोहित अग्रवाल एक बार फिर से अपनी एक और सच्ची कहानी लेकर हाजिर हूँ. लेकिन मैंने अपनी सांस पर संयम बरतते हुए उसका लन्ड हलक में बनाए रखा और धीरे धीरे उसको अंदर-बाहर करने लगी।अब मैं खुद से ही उसके लन्ड को हलक तक के लेकर चूसने लगी।कुछ देर लन्ड चुसवाने के बाद सागर ने मेरी पैंटी उतार के सूंघा और मुझे टेबल पर टांग फैला कर बिठा दिया, खुद कुर्सी पर बैठकर मेरी चूत को चूमने लगा।थोड़ी देर चूमने के बाद वह मेरी चूत को चाटने लगा.

अब कुछ समझा बुद्धुराम या नहीं?मैं लवली के सारे लेक्चर को ध्यान से सुन रहा था।अभी मेरा बीज नहीं निकला था जबकि लवली झड़ चुकी थी।अचानक मुझे ध्यान आया कि एक बार खाली पीरियड में कुछ शरारती लड़के ब्लू फिल्म देख रहे थे तो थोड़ी सी फ़िल्म मैंने और अजय ने भी देखी थी.

कुछ ही पलों बाद शेखर ने कुसुम को अपने नीचे लेटाया और उसके ऊपर चढ़ गया. आह्ह … दोस्तो … उसकी नर्म मुलायम चूची मेरे हाथ में थी।बहुत ही आनंद भरा पल था वो!नीचे उसने ब्रा भी नहीं पहनी थी।जैसे ही उसकी चूची मेरे हाथ में आई तो लंड ने उछल कूद करना शुरू कर दिया. उसमें से एक सवारी हमारी सीट पर बैठ गई और एक सामने वाली सीट पर बैठ गई.

বিএফ ভিডিও ব্লু ফিল্মलकी ने टोका तो सारा बोली- यहाँ नोएडा में दो तीन महीने रह लो, तुम भी साले, बहनचोद, फट गयी जैसे शब्दों के बिना बात नहीं करोगे. वो भी मस्ती भरी आवाजें निकालने लगी- आह ओह … यस फ़क फ़क जानू … आह आह उम्माह म्मह यस उन्ह और तेज़ चोदो मेरी जान!फिर एक तेज झंझावात सा आया और हम दोनों एक दूसरे में समा गए.

किन्नर किन्नर सेक्स

मैं बोला- सच में तेरे मम्मे बड़े मस्त हैं यास्मीन! कल वाली रेहाना के मम्मे तो साले सड़े आम से थे. अगले दिन पीयूष ने शीना की पैंटी पर खुजली की दवाई लगा दी, जिससे शीना की बुर में बार बार खुजली हो रही थी. ये सब करता हुआ जैसे ही मेरे लंड से वीर्य निकला तो मैं एकदम से पलट गया.

कुछ देर बात हुई मैंने उससे उसका नाम पूछा, तब उसने अपना नाम लिली बताया. इस बात पर उनको गुस्सा आ गया और मेरा हाथ अपनी ओर खींचकर मुझे अपने पास बिठाते हुए बोले- साली रण्डी, जब से तेरा पति गया है तभी से तेरा नाटक देख रहा हूं. मैं किसी राजा की गुलाम की तरह सत्यम के दोनों पैरों के बीच में बैठ कर उसका लौड़ा अपने मुँह में घुसाने लगी.

सब बात होने के बाद रिट्ज अंत में मेरे गले लग कर मुझे धन्यवाद बोली और फिर वो मेरे साथ घर आ गयी. अपने मुँह की चुदाई से मेरा मुँह भी दुखने लगा था, क्योंकि नवाब ने जबरदस्त झटके देकर मेरा मुँह चोदा था. वो मचलने लगी तो मैंने कल्पना की दोनों टांगों को अलग करते हुए उसकी बुर पर किस कर दिया.

मेरा नाम वरुण है, ये कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी उस समय की है, जब मैं 12वीं कक्षा में पढ़ता था. उसने अपनी अदाओं में कमल को ऐसा लपेटा कि कमल को रात को बिना सेक्स के नींद नहीं आती थी या यूं कहिये कि सारा बिना सेक्स किये उसे सोने नहीं देती.

वो घबरा कर बोली- न बाबा … तुम्हारा लंड बहुत मोटा और लंबा भी है मेरी गांड फट जाएगी.

इसके बाद कुछ दिन हम लोगों के बीच सेक्स नहीं हो पाया था क्योंकि आकृति आंटी के घर उनके कुछ लोग मायके से आए हुए थे. हिंदी सेक्सी ब्लू वीडियो मेंमैं पहली बार लंड किसी छेद में डाल रहा था, तो लंड कुछ कड़क ज्यादा हो गया था. ब्लू फिल्म सेक्सी फिल्मकिन्तु लज्जावश बिल्लो बोली- मना किसने किया किया है, खोलकर देख लीजिए न. उन्होंने हम दोनों के बारे में पूछा, तो मैंने आकृति आंटी को बस इतना बताया कि काम सैट हो गया है.

अब मीनू मामा के नीचे दोनों पैर खोलकर लेटी थी और मामा अपनी पूरी ताक़त से उसकी चूत पर अपने लण्ड का प्रहार कर रहे थे, चूत भी लण्ड को झट से अंदर कर लेती थी।मामा जी के हर धक्के के साथ मीनू के चेहरे पर दर्द और आनंद के मिले जुले भाव आ रहे थे।कुछ देर तक इसी तरह चोदने के बाद अब मामा ने चुदाई रोक दी.

अभी वो स्कूल गयी थी तो आंटी सारा सजावट का सामान पहले से लेकर रख लिया था. फिर मैंने उसकी चूत में उगली दे दी और जाकिरा अपनी चूत में भी उंगली करने लगी. जीजू ने कहा- तुम बहुत हॉट हो यार, तुमने मेरा लंड देख लिया है कैसा लगा?मैंने कहा कि अभी ठीक से नहीं देखा.

तब लवली ने मेरा लंड अपने मुँह से निकाल दिया और मेरे लंड से निकले हुए बीज को उसने अपने मुँह से निकाल दिया।जब मैं और लवली बिल्कुल झड़ कर निचुड़ गए तो फिर से चूमना चाटना शुरू हो गए।तभी 5-7 मिनट बाद मेरा लंड उसके मुँह में ही फूलने लगा और उसे लंड चूसने में उसका मुँह दर्द करने लगा. मैं लिली के पास जाकर बैठ गया और उसे अपनी बांहों में ले कर किस करने लगा. मैंने उसके बोबों को मसलते हुए जोर से धक्के लगाए और एक जोरदार हुंकार के साथ लौड़े ने अनगिनत पिचकारियां उसकी कोमल सी चुत में भर दीं.

मारवाड़ी चूत की चुदाई

चुत का लावा छोड़ने के बाद वो जोर जोर से ऐसे हांफने लगी, जैसे एक तड़पती मछली शांत हो गयी थी. रोमी से जब रहा नहीं तो उसने सरिता भाबी की चूत को छू लिया और सरिता भाबी की आंख खुल गयी. रोहन अब भी उस अहसास को भूल नहीं पा रहा था, जो उसे अभी थोड़ी देर पहले अपने सीने पर महसूस हुआ था.

उसने मेरे गर्म लंड को अपने हाथ में भर लिया और उस पर आगे पीछे हाथ चलाने लगी.

फिर उन्होंने मुझे वो सारी जानकारी दी कि वहां जाकर कैसे, कहां और क्या करना है।मैंने उनकी सारी बातें ध्यान से सुनीं.

मैंने एक हाथ उसके मुँह पर रखा ताकि अन्वेषी भाभी आवाज ज्यादा न निकाल पाएं. जब मैं उसके ऊपर से उठा तब देखा कि लंड और चूत के पानी से रूपाली की पैंटी भीग गई थी. ভাইবোনেরচুদাচুদিमामी ने पूछा- क्या इच्छा है?मैंने कहा- मैं आपको दुल्हन के रूप में भोगना चाहता हूँ और पूरे मन से आपको दो बूंद जिन्दगी की देना चाहता हूँ.

आंटी ने मेरी पैंट की चैन खोल दी और मेरा लम्बा लंड जैसे ही उनके सामने आया, तो वो बड़े आश्चर्य से उसको देखते हुए बोलीं- उई मां … इतना बड़ा भी होता है किसी का! मैंने अपनी ज़िंदगी में इतना ज़्यादा लम्बा किसी का नहीं देखा. आपको मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई की ये कहानी कैसी लगी मुझे मैसेज करके जरूर बताना. थोड़ी देर बाद जब अचानक आंखें खोलीं, तो उसने पाया कि मैं उसके बोबों को घूर रहा हूं.

उसी समय मेरी बहन को सेक्स चढ़ने लगा और वो सिसकारियां लेने लगी- आआ आआह … आ यस चूसो आह … और चाटो अपनी बहन की चूत … आह इसका रस पी जाओ आकाश!मेरी बहन वासना भरी सिसिकारियां ले रही थी. बहुत देर तक चुत चोदने के बाद हम दोनों साथ में ही दीदी की चूत और गांड में झड़ गए.

उस दूध वाले ने सरिता भाबी की चुचियां दबानी शुरू कर दीं और खूब जोर जोर से दबाते हुए चुचों को चूसने लगा.

मैंने कहा- मुझे अब ये ब्रा को देख कर अपना लंड हिलाने में संतुष्टि नहीं मिल रही है. इस पर वह बोली- एक घर मेरे पड़ोस में खाली है लेकिन मकान मालकिन उसका किराया ज्यादा मांगती है इसलिए वह काफी दिनों से खाली है। घर की लोकेशन के हिसाब से वह घर अच्छा है और वैसा ही है जैसा कि घर आप ढूंढ रहे हैं। इसलिए अगर आप चाहें तो मैं मकान मालकिन से बात कर सकती हूं. उसके बाद मैं लेटी रही और सोचती रही।मैं सोच रही थी कि काश कोई लंड मेरी चूत के लिए भी होता। मैं समीर के बारे में सोचने लगी। समीर का लंड मैंने नहीं लिया था।ऐसे ही सोचते हुए मुझे नींद आ गयी.

सेक्सबीएफ उस रात मैंने 5 बार यास्मीन की फ्री चुदाई का मजा लिया और उधर ही सो गया. मैं उसे अपने मुँह पर बिठाए हुए बर्थ पर सीधे लेट गया और वो मेरे ऊपर कमर हिलाने लगी.

मैंने कहा- तो उसमें क्या क्या देखा?वो गांड उठा कर बोली- सब बता दूंगी भैन के लंड, अभी लौड़ा अन्दर डाल कमीने. मैं चाची के घर पर ही बड़े टीवी पर क्रिकेट मैच और फिल्में देखना पसंद करता था. सारा बोली- डार्लिंग मूड बन रहा है अब मैं अकेले तो डांस करुँगी नहीं?फिर उसने कहा- क्या लकी तुम आओगे?लकी ने कमल से पूछा तो कमल ने हंस कर कहा- हां क्यों नहीं भई, जाओ जाओ … इंजॉय करो, तुम हमारे मेहमान हो।लकी सारा के पास गया और उसकी कमर में हाथ डालकर डांस करने लगा।वो सारा के नजदीक आता जा रहा था.

देसी कॉल गर्ल

मामी ने झट से मेरे होंठों पर अपनी हथेली रख दी और बोलीं- शुभ शुभ बोला करो. फिर उसकी आंखों में आंखें डालकर मैंने एक जोरदार झटके के साथ अपना पूरा लंड उसकी चूत की जड़ में पेल दिया. इधर जेठजी मेरी चूत को उंगलियों से फैलाते और उधर अपने लंड को जोर जोर से मेरी चूत के अन्दर बाहर करके चोदे जा रहे थे.

भाभी जहां भी जाती थीं, वो उधर अकेली ही रहती थीं क्योंकि जिस आदमी से उनकी दूसरी शादी हुई थी, उसके परिवार वालों के साथ भाभी की जमती नहीं थी. मैंने भी भाभी की चूत में ऐसे ही मुँह लगाए कुछ देर तक चुत चूसता रहा.

करीब 5 मिनट तक हम दोनों ने किस क़िया, फिर मैं नीचे उनके मम्मों पर आ गया.

ये सुनकर पूजा डर गई और बोली- चल ठीक है … मैं मम्मी को कुछ नहीं बताऊंगी, तू भी मत बताना. उनमें एक दोस्त राहुल भी था, जो साला शुरू से ही बहुत बड़ा लौंडियाबाज था. मेरा लंड उसकी चूत को सलामी दे रहा था और उसकी चूत में जाने को बेताब हो रहा था.

जब मुझसे नहीं रहा गया तो मैं पूर्ण उत्तेजित हो उठी और झट से अपने दाहिने हाथ को अपनी दोनों टांगों के बीच ले जाकर जेठजी के लंड को बीच से पकड़ कर अपनी गीली चूत के मुँह पर रख दिया. लेकिन इसका जवाब मैंने बड़ी चालाकी से दिया कि आंटी रिट्ज अपनी उम्र के हिसाब से बहुत प्यारी है, लेकिन आप में जो बात है … वो शायद इस दुनिया की किसी भी औरत में नहीं हो सकती है. अब मैं अपनी बीवी से मुखातिब हुआ- तो क्या करना चाहिये मुझे?मेरी बीवी ने कहा- अच्छा रहेगा, आप रानी को पढ़ा दोगे तो क्या दिक्कत है!मैं- ठीक है, तुम रानी से बात करके बता देना कि उसको पढ़ने के लिए कौन सा टाइम सही रहेगा.

वुमन लव सेक्स … सहेली के घर गयी तो देखा कि उसे भी पूरा सेक्स सुख नहीं मिल रहा था.

मोनालिसा के बीएफ वीडियो: मैंने दीदी की चूत के छेद को लंड से टटोला और फिर उसकी चूत में जोर का धक्का दे दिया. बताओ आज कहाँ बिजली गिराने वाली हो?उन्होंने मेरा गिरेबान पकड़ा और खींचते हुए मुझे अंदर वाले कमरे में ले गईं.

अब आगे दूल्हा दुल्हन सेक्स कहानी:उसके क्लीवेज को चूसते हुए मैंने अपने एक हाथ को हौले से ब्लाउज के ऊपर से ही उसकी छाती पर रख दिया. मामी के आने के बाद हम लोगों को सोने की दिक्कत तो होनी ही थी तो उसके पहले ही मैंने एक रजाई और गद्दा उनके लिए लिया था. मैं अभी कुछ समझ पाती कि उसी समय कार्तिक मेरे ऊपर कर आ गया और मेरे होंठों को किस करने लगा.

मैंने उसका ब्लाउज और ब्रा अलग किये तो उसके पके आम मेरे हाथ में आ गये और मैं चूसने लगा.

एक बार कमल को कहीं पढ़ कर ये अक्ल आ गयी थी तो उसने किसी बात पर सारा को बहुत डांटा था और सारे खर्चे रोक दिए. उसी समय तुरंत ही जेठजी ने दूसरी उंगली को भी मेरी गांड में डाल दिया. रमेश मेरी चूत चाटने लगा और बोला- बड़ी मस्त गर्म चूत है साली … आज तक इतनी गर्म चूत नहीं चाटी.