चाची सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ वीडियो भोजपुरी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

बस में सेक्सी चुदाई: चाची सेक्सी बीएफ, उधर से एक लड़की की आवाज़ आई- हाय! आई एम रूबी, कौन बोल रहे हो?कीकु काँपते बोला- कीकु हियर!!रूबी- मैं आपकी ही काल की प्रतीक्षा कर रही थी, रूम नम्बर 305 में आ जाओ!जोश में आकर हम पहुँच तो गये, लेकिन हमारे पसीने छुट रहे थे.

बीएफ होली वीडियो

तभी उसका बदन अकड़ने लगा और जोर जोर से चिल्लाने लगी- उह आह मम्ह ओह्ह …दो चार झटके के बाद वो झड़ गयी. बीएफ वीडियो पुलिस4- मालिक ने बेकरी की टीम को होस्टल की तलाशी लेने भेज दिया। हालांकि किसी तरह मैंने उसे अलमारी और पलंग के नीचे छुपा के नज़र में आने से बचा लिया।5- किसी ने बता दिया था कि जो लड़का लड़की लाया है, उसने पीले रंग की टीशर्ट पहनी थी.

दूसरी बात आज तक मैंने किसी बिना कटे लण्ड से नहीं चुदवाया था, मैं देखना चाहती थी कि बिना कटे लण्ड से चुदवाने में कैसा मज़ा आता है। और आज आपने मुझे ऐसे चोदा कि मैं सारी पिछली चुदाई भूल गयी हूँ। और तेज़ धक्के लगाओ, मैं झड़ने वाली हूँ।चाचा ने रफ्तार बढ़ा दी और शाज़िया फिर से अकड़ने लगी और गर्रर्र की आवाज़ करते हुए झड़ गयी. हिंदी गाना में सेक्सी बीएफक़रीब साढ़े पांच फुट का कद और घने काले बाल जिन्हें उसने चोटी से कस के बांध रखा था.

जैसे ही उसके बूब्स बाहर आए, मैंने उसे एक हाथ से दबाना शुरू किया, आदतन मुझे बूब्स को जोर से दबाने की आदत है तो उसके एक बूब को जोर से दबाने लगा और दूसरे बूब को मुंह में लेकर चूसने लगा.चाची सेक्सी बीएफ: गांड मराते हुए वह इतनी सेक्सी आवाज निकाल रही थी मेरे पापा को और जोश आ रहा था.

मनोहर बोला- वन्द्या तू बहुत बड़ी रंडी है तेरी चूत बिल्कुल जन्नत से भी ज्यादा मजे दे रही है, क्या मस्त गर्माहट तेरी चूत में है.मैंने उसे कस के बाँहों में भर लिया और उसकी गोल गोल गांड पर हाथ फेरने लगा.

आसाराम का बीएफ - चाची सेक्सी बीएफ

सब ठीक से चल रहा था और मोहल्ले के सभी बच्चों की तरह पद्मिनी भी स्कूल जा रही थी.दो पल बाद वो मुझे होंठों पे गाल पे किस करने लगीं और बोलीं- थैंक्यू बेबी.

मैं उनको अपनी गर्लफ्रेंड की तरह मानता हूँ और वो भी मुझे अपना ब्वॉयफ्रेंड मानती हैं. चाची सेक्सी बीएफ मेरा मन बिल्कुल भी नहीं लग रहा था क्योंकि मुझे अभी और चुदाई का मन हो रहा था.

लेकिन तभी उन्होंने जोर से धक्का देकर मुझे अपने ऊपर से हटा दिया और बिस्तर से नीचे उतर गईं.

चाची सेक्सी बीएफ?

मगर उसकी कई मेल पढ़ कर लगता था कि कोई माहिर हरामी इसकी चुत चोद कर ही रहेगा. मुझे सबसे ज्यादा अजीब लगा कि दीदी के ससुर मम्मी हाथ पकड़ पकड़ कर मजाक कर रहे थे। दीदी के ससुर की उम्र 43 साल थी, वो हेल्थी आदमी थे, उनकी वाइफ नहीं है, घर में सारे मर्द थे बस मेरी दीदी ही थी उस घर में।रात दीदी ने सबको खाना खिलाया, फिर सब लेटने की तैयारी करने लगे. पूरी तरह से मेरे होंठों और गालों को चूम कर वो मेरे मम्मों तक पहुँचा और बिना कपड़े उतारे ही मम्मों को दबाने में लग गया.

मैंने राज को हटने को कहा और मंजू के बालों को पकड़ा और उसके मुख में अपना लन्ड डाल दिया! मंजू रंडियों की तरह मेरे लन्ड और आन्डों को ऐसे चूस रही थी मानो राज से चुदवाने का एहसान उतार रही हो… ऐसा मज़ा, ऐसा वहशीपन मैंने पहले कभी नहीं देखा था. फिर उन्होंने मेरा ब्लाउज और ब्रा भी उतार दी और खुद की चड्डी को भी उतार दिया. उसका ऐसा करना मुझे आज भी याद है और जब जब ये सीन याद आता है, मुझे काफी रोमांचित कर देता है.

मैं भी जल्दी जल्दी बाथरूम में गया और फ्रेश होकर झांटें वगैरह साफ़ करके जल्दी से निकला. लेकिन उसकी आँखों में जो हल्की सी चमक आई थी वो मेरी नजरों से न छुप सकी. अपने हज़ूर के दरबार में जाने से पहले बहुत सी तैयारी करनी पड़ती है, जिसके लिए समय होना चाहिए.

आपने मेरी पिछली सेक्स कहानियाँबीवी की चुत की दिलखुश चुदाईजन्मदिन मनाया बीवी की चुत चोदकरपढ़ी होंगी. मेरा खुद का दिल भी यही चाहता था कि मनोज का लंड मेरी चुत में ही घुसा रहे मगर मैं शरम की वजह से कुछ बोल नहीं रही थी, बस उसकी बातें सुन रही थी.

जिस दिन तुम्हारे ये चूचे बड़े हो गए, तो कोई हीरोइन भी तुम्हारे सामने कुछ नहीं लगेगी.

सतीश, तुम मेरे बारे में कल क्या कह रहे थे झूठ मूट ही सब कहते रहते हो.

दोस्तो, आपको मेरी मम्मी की चूत चुदाई की सेक्सी स्टोरी कैसी लगी? मुझे ईमेल करके जरूर बतायें! आपको अगर अच्छी लगी तो आगे की कहानी भी जरूर लिखूंगा!मेरी ईमेल है –[emailprotected]. यह बात इतनी बढ़ गयी थी कि सब कहने लगे थे कि वह टीचर हमेशा ब्रेक के वक़्त पद्मिनी को क्लास में अकेले पाकर अपने साथ रखता है और स्कूल खत्म होने पर पद्मिनी के साथ कहीं किसी जंगल के हिस्से में ले जाता है. फिर उसे पता नहीं क्या सूझी, वो बोला- सुधा, तुम अपनी चूत मेरे मुँह पर रख आकर बैठ जाओ, इससे मैं अपनी प्यारी चूत को पास से देख भी सकूँगा और चाट भी सकूँगा.

अब जेम्स उसके बूब्स को सहला रहा था और उसकी गर्दन पर किस कर रहा था, मैं उसके लिप्स को चूस रहा था. इसके बाद सेक्स की वीडियो कैसेट का ज़माना आ गया और अब तो जो है सो सबके पास है. खाला नेअपनी चूत से बाल साफ़ किये हुए थे, चूत थोड़े गुलाबी रंग की थी और गीलेपन की कुछ बूंदे साफ़ दिख रही थी.

अतः हमने खुशी वाला एक दूसरे से हाथ मिलाया और दोनों एक दूसरे के कमरे में चले गए.

अब जब भी बुआ का लड़का और मैं जब भी मौका पाते हैं, हम दोनों लोग चुदाई करने लगते हैं. मैंने कहा- कहां जा रही हो?तो उसने बताया कि वो एक स्कूल में पढ़ाती है और टेम्पू का इंतज़ार कर रही है. लेकिन जैसे ही राहुल के होंठ मेरे होंठों से अलग हुए, मैं राहुल को धक्के देकर अपने घर की तरफ़ भाग गई.

उसने पूछा- कहां पे?मैंने उसे अपनी शॉप का एड्रेस बताया, फिर उसने कहा कि मेरे मोबाइल में कुछ एरर आ रही है. ये बात समलैंगिक और गैर समलैंगिक सभी नौजवानों पर लागू होती है।मैं अन्तर्वासना की टीम का आभारी हूं जो ये संवदेनशील और सच्ची कहानी उन्होंने पाठकों तक पहुंचाने में मेरी पूरी सहायता की। ईश्वर उनको लम्बी आयु दे…मैं अंश बजाज. अगर कुछ गलतिय़ां है, तो वो भी बताना ताकि अगली कहानियों में हमें सुधारने का मौका मिले.

इस तरह हम दोनों में बातचीत होने लगी और हम दोनों रोज ही साथ में आने लगे.

आगे आप लोगों को बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी सेक्सी किरायेदार को पटाया और उसको चोदा. मैंने उससे पूछा तो उसने बताया कि ये लड़का मेरे पति के पहली बीवी से है, मैं इनकी दूसरी बीवी हूं.

चाची सेक्सी बीएफ ”निशा ने मेरे लंड को पकड़ कर हिलाया और कहा- अब तो ठीक से लूँगी इसको अपने अन्दर. अब वो बाइक पे मेरे साथ चिपक कर बैठा करती थी और उसके मम्मे मेरी पीठ में लगते थे.

चाची सेक्सी बीएफ थोड़ी देर में ड्रिंक खत्म हो गई तो मैंने कमलेश भाई को बोला- ये 1000 रूपए लो और खाना और ड्रिंक ले आओ. मौका मिलते ही मैंने उसको बोल दिया कि होटल विजय बार बिलकुल पास में है वहां ग्यारह बजे मिलेंगे, दिल खोल के बहुत सी बातें करेंगे.

कुछ समय बाद मैंने भाभी को अपना फोन नंबर और व्हाट्सैप नम्बर भी दे दिया.

सेक्सी विडीयो नंगी

उसके बाद मैंने फिर से उसका जवाब माँगा तो उसने मुस्कुरा कर ‘आई लव यू टू. इस तरह से कोई एक घंटे तक मनोज ने लगातार बार बार शहद लगा कर मेरी चूत को चूसा, जिसका नतीजा यह हुआ कि मेरी चूत के दोनों होंठ फूल गए. मैं सोच रहा था कि वो अब तक आई कैसे नहीं? फिर मैं नीचे जाके उनको देखने लगा तो वो किचन में सब्जी काट रही थीं.

अभिलाषा मुझे अपने कमरे में ले गई और मुझसे कहने लगी- देखिए मिस्टर राज! आपने बताया था कि आप लगभग चेन्नई आते रहते हैं और दूसरा होटल छोड़कर हमारे यहां आपने रहना पसंद किया है, परंतु यह लड़की रिसेप्शन की ट्रेनिंग पर आई है और कुछ दिन बाद चली जाएगी. इस सब सामान को खरीदते हुए अब मेरा मन भी चुदाई के लिए बेकाबू होने लगा था. मेरा पूरा परिवार दोपहर में 1 बजे गाँव जाने के लिए तैयार हो गया, मैंने कार में सब सामान जमाया और सब लोग चले गए.

मैं दोस्त की बीवी की चुत में ही झड़ गया और हम दोनों कुछ देर बाद अलग हो कर तैयार हो गए.

मैं देर न करते हुए उसके पास गया और उसके लिप्स पर खूब किस किये जा रहा था. मेरी प्यास मिटा कर, मेरी गांड मारकर मेरे गांड में पानी छोड़े ताकि गांड में चल रही आग उस पानी से बुझ सके. काफ़ी बार पूछने के बाद, उनको विश्वास हुआ कि मैं किसी को कुछ नहीं कहूँगा तो उन्होंने बताया कि वो उस लड़के से प्रेगनेन्ट हैं.

अब मुझे थोड़ा मेकअप का सामान लेना था क्योंकि मैं कुछ भी मिस नहीं करना चाहती थी. ये सुन कर गीता बहुत खुश हुई और अगले ही दिन अपने लड़के को अपने साथ ले कर आई. अब मैंने उसको चोदना चालू किया और कुछ ही पलों बाद वो बोलने लगी- तेज चोदो.

मैंने उससे पूछा तो उसने बताया कि ये लड़का मेरे पति के पहली बीवी से है, मैं इनकी दूसरी बीवी हूं. लौंडे भी कम नहीं थे, सब के सब किसी न किसी हसीना को इम्प्रेस करने की फिराक में थे.

”मैं अपने मम्मे रगड़ते हुए बोली- ये अब तुम्हारी ही है, चाटो, मारो कुछ भी करो. लगता था दीपक ने इसकी चूत को चोदते हुए टांगों को पूरी फैला कर खेल किया होगा. इस पर उसने कई सवाल किए कि मेरा नम्बर कहां से मिला था, क्यों फोन किया था.

फिर उसे पता नहीं क्या सूझी, वो बोला- सुधा, तुम अपनी चूत मेरे मुँह पर रख आकर बैठ जाओ, इससे मैं अपनी प्यारी चूत को पास से देख भी सकूँगा और चाट भी सकूँगा.

ऐसा नहीं है कि आपसे एक बार सेक्स करके मेरी आपके लिए फीलिंग कम हो जाएगी. मेरे पापा इंग्लैंड में रहते हैं, मेरे घर में मेरी मम्मी हाउसवाइफ है, हम तीन भाई बहन हैं, मुझसे बड़ी बहन का नाम प्रीति है, वह मुझ से 2 साल बड़ी है और मुझसे 3 साल छोटी बहन का नाम अमनदीप कौर है. इतना कह कर मैंने अपने सारे कपड़े उतार दिए और खुद को मनोज के हवाले कर दिया.

काफी देर मनाने के बाद भी जब वो नहीं मानी तो मैं उसे समझाने लगा, कुछ देर समझाने के बाद वो मान गयी और आधे मन से उसे मुँह में लेकर चूसने लगी. जैसे ही मैंने लंड हाथ में पकड़ा, सर ने मेरी मुट्ठी में पकड़वा कर उसे रगड़वाने लगे.

मैंने उसका हाथ हटाते हुए कहा कि सर आप क्या कर रहे हैं? तो उसने धीरे से मेरे कानों में कहा कि तुम बहुत खूबसूरत और सेक्सी हो… क्या तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है?बापू बीच में उचक पड़ा- तो तूने क्या कहा?पद्मिनी ने कहा कि मैंने उससे कह दिया कि नहीं सर, मेरा कोई बॉय फ्रेंड नहीं है. ” हम दोनों एक दूसरे को बांहों में पकड़े हुए ही दरवाजे की तरफ गए, बाहर देखा तो गार्डन में बड़े पेड़ की एक टहनी नीचे पड़ी थी और उसकी आवाज आई थी।अरे … रे … तेज हवा की वजह रे टहनी टूट गयी. मेरी बात सुन कर वो बहुत हैरान हुआ और बोला- क्यों ऐसे क्या बात हुई है.

सेक्सी बीपी सेक्सी देहाती

डिनर में उसने चिकन और राइस का ऑर्डर दिया और उसके बाद आइसक्रीम का कहा.

मैंने उसकी चूत के छेद पर अपना बड़ा और मोटा लंड रखा तो उससे चूत का छेद पूरा ढक गया. मैं उनकी बेटी के साथ खेलने के लिए जब उनकी गोद से उसे लेता था, तो धीरे से उनके चूचे दबा देता था. दीदी के गर्भाशय से जब भी मेरा लंड टकराता, तो दीदी मुझे कस के अपनी बांहों में जकड़ लेतीं.

कभी कभी तो मैं उनकी चुचि और गांड को भी छू देता था, जिस पर वो कुछ नहीं बोलती थीं. उसने अपना चेहरा हटाया- वाह रे, किस पे प्रैक्टिस की तूने?कीकु बोला- क्यूँ बे प्रभु, तू इसका रूमी है ना?हम सब हँसने लगे. बीएफ हिंदी की वीडियोथोड़ी देर तक मैंने खाला को धीरे धीरे चोदा, फिर हम दोनों झड़ गये और मैं खाला के ऊपर गिर गया.

अब जब भी बुआ का लड़का और मैं जब भी मौका पाते हैं, हम दोनों लोग चुदाई करने लगते हैं. आज से पहले सिर्फ अपनी गर्लफ्रेंड के इतने नजदीक आया था और वो भी सिर्फ किस और कभी-कभी जिद करने पर मम्मों को दबाने देती थी.

काफी देर मनाने के बाद भी जब वो नहीं मानी तो मैं उसे समझाने लगा, कुछ देर समझाने के बाद वो मान गयी और आधे मन से उसे मुँह में लेकर चूसने लगी. इसे तो मैं अपनी मेल आइडी पर भी भेज चुकी हूँ ताकि अगर तू ज़बरदस्ती इसे डिलीट कर भी दे तो भी मेरे पास बनी रहे. वो बोली- हम वहां नहीं आएंगे, आप इस एरिया में एक रेस्टोरेंट है, वहाँ आइए.

वो मेरे होंठों को मुँह में लिए किस कर रहा था और कुछ नहीं बोलने दे रहा था. मैं तो कॉलेज भी नहीं जाती, वैसे भी एकाध साल में शादी हो ही जानी है. और तभी…पम्मी- हाँ सालों, इतना रहा नहीं जाता तो बुला ले ऑफिस में, पीछे कोई नहीं है, चिपक लेना.

पिछले भाग में आपने पढ़ा कि कैसे सारी कहानी सुना चुकने के बाद रज़िया ने अपनी माँ से अपनी तुलना करते हुए अपनी बदनसीबी ज़ाहिर की थी कि उसे ज़मीर अंकल जैसी कोई सुविधा नहीं और मैंने सवाल पूछा था कि क्या मैं उसके काश” का जवाब बन सकता था।अब आगे पढ़िये-वो काफी देर चुप रही थी और फिर आहिस्ता से बोली थी- कैसे? मतलब कैसे पॉसिबल है यह.

मैं गया तो देखा कि वो एक डब्बा उतारने की कोशिश कर रही हैं, वो डिब्बा कुछ ऊंचाई पे रखा था. मेरी जवानी की कहानी के पिछले भागकामुकता की इन्तेहा-5में पढ़ा कि मेरा यार ढिल्लों अपनी चार उँगलियों से मेरी फुद्दी की सर्विस कर रहा था.

मुझे नहीं पता कि पिंकी को कितनी ज़रूरत थी मगर मेरी तो बहुत बढ़ गई थी, जब से मैंने उसकी मेल्स पढ़े और लंड के फोटो देखे. मैंने उससे पूछा- सुनीता ये तुम्हारा ब्लाउज कैसे फट गया और ये निशान कैसे हैं?तो वो बोली- कुछ नहीं दीदी. रूबी ने अपने एक हाथ से अपने बूब्स को छिपाते, दूसरे हाथ से कंधे से ब्रा की स्ट्रीप हटाई.

करीब 15 मिनट की जोरदार बेहेन की चुदाई के बाद अब विक्रम का लंड पानी छोड़ने वाला था… वो जोर से बोला- मयूरी बहना … मैं आने वाला हूँ… क्या करूँ?मयूरी- प्लीज भैया… अपने लंड का पानी आज मेरी चूत में ही छोड़ना… मैं इस चुदाई का पूरा सुख लेना चाहती हूँ… आ… ह…विक्रम- फिर ये लो… आ… आह…और ऐसा कहते हुए हो एक झटके के साथ अपना वीर्य पहली बार अपनी छोटी बेहेन की चूत में छोड़ दिया. उसने बापू से कहा- अरे आप ऊपर उठाइये तो…!बापू ने मुस्कुराते हुए पूछा- क्या ऊपर उठाऊं?पद्मिनी भी मुस्कुरायी और आसमान की तरफ देखते हुए कहा- बापू मैं उसे गाली देना नहीं चाहती. चुदाई के बाद हम दोनों साथ में बाथरूम में नहाने गए और फिर नहा कर मैंने उसे उसके कॉलेज के बाहर छोड़ा.

चाची सेक्सी बीएफ खास कर मेरे मुँह में पानी आ जाता और गांड में खुजली होकर गुदगुदी सी होने लगती थी. गे सेक्स पसंद करने वाले मेरी मेल आईडी पर मेल करें और मुझे बताएं कि उन्हें मेरी गे सेक्स स्टोरी कैसी लगी.

सेक्सी चुदाई पिक्चर भेजो

मैंने पूछा- क्यों?वो बोले- कल मैं सोनी मोनी को एग्जाम दिलाने राँची ले जा रहा हूँ. [emailprotected]इससे आगे की कहानी:मालिक की बेटी को चोदा फिर उसकी बहन की चुदाई. तकरीबन 20 मिनट की चुदाई में वो बार झड़ चुकी थी और मेरा भी निकलने वाला था, मैंने उससे पूछा- कहां पे निकालूँ?तो उसने कहा- जहां मन पड़े, वहां निकाल दो.

मैं उनकी कामुक अवस्था देखते ही समझ गया कि ना तो नौकरी जाएगी, ना ही जेल जाना पड़ेगा. मैं बस उसे जाता हुआ देखता रहा और सोचता रहा कि ऊपर वाले तू भी कमाल का है, जब देता है तो बस दिल खोल कर देता है. सुंदर लड़कियों के बीएफड्राइवर ने कहा- तुम अपनी बहन को अपनी टांगों पर बिठा लो, मैं एक और सवारी को आगे भेज रहा हूं.

’ देख के मेरे मन में उलझन शुरू हो गयी और मेरे पति की कही हुई बातें याद आने लगीं कि ज़्यादा मज़े मत लेना.

ललिता मैडम की उम्र यही कोई 35 साल की होगी, पर उनका बदन ऐसा तराशा हुआ था कि बड़े बड़े तीस मारखां लंड भी झटके से पानी छोड़ दें. वो मुझसे कहने लगी- इतना बड़ा लन्ड मेरी बुर में कैसे जाएगा?मैंने कहा- सब चला जायेगा, बस तुम ज्यादा चिल्लाना मत!और मैंने अपने लन्ड पर कंडोम लगाया, तब उसकी बुर पर अपना लन्ड सेट करके धक्का लगाया लेकिन अंदर नहीं गया.

दीदी, आपकी गर्दन कितनी प्यारी है और आपके कानों की लौ तो और भी मस्त है. पर जब मेरा सामना कंपनी के मैनेजिंग डाइरेक्टर से हुआ, तो सब सपनों पे मिट्टी फिर गई. चूत लंड, मम्में, लंड चूसना, चूत चाटना, चुदाई … ये सब पोर्न फ़िल्में अब तो सहज ही सबको उपलब्ध हैं.

वो मेरी तारीफ करते करते मुझे अपनी ओर खींचने लगा और उसने मुझे गले लगा लिया.

मगर उसके दूध कुछ ज्यादा ही बड़े बड़े थे, इतने अधिक तने हुए थे ऐसा लगता था, मानो अभी ब्लाउज फाड़ कर बाहर आने को बेताब हैं. एक पल के लिए जरा सा ठिठक कर चाची ने अपनी गांड को उठाकर धक्के लगाते हुए मेरे लंड से मुकाबला करना चालू कर दिया. मैंने उससे कहा- तुम बताओ, तुमको मैं पसंद हूँ या नहीं?उसने कहा- अगर पसंद ना होतीं तो मैं अपनी दीदी की इतनी खुशामद ना करता.

बीएफ फिल्म वीडियो में सेक्सी बीएफअचानक उसने मेरे सर को अपने हाथ से अपनी बुर में ज़ोर से दबाया, साथ ही कमर को भी मेरे मुँह पर दबा दिया और ढीली हो गयी. वो झाड़ू लगाने के बाद बोलीं- अगर अकेला फील कर रहे हो तो मेरे कमरे में आ जाओ।जैसा कि आप जानते हो मैं लेडीज से बातें करने में घबराता हूँ, इसलिए मैंने कहा- नहीं आंटी, मैं ठीक हूँ।नेहा आंटी एक कूल बिंदास और थोड़ी फन्नी किस्म की हैं। मेरे मना करते ही उन्होंने मेरा हाथ पकड़ कर खींचा और मुझे अपने कमरे में ले गईं।उनके घर पर कोई नहीं था.

सेक्सी सेक्सी चित्र सेक्सी

इन्हें सेक्स मटीरियल भरपूर बेरोकटोक उपलब्ध है और आज वे बड़े आराम से आपसी सहमति से सेक्स सम्बन्ध स्थापित कर लेते हैं. मैंने उसकी ब्रा पेंटी को भी निकाला और उसको अपनी गोद में इस तरह से बिठा लिया कि उसका मुँह मेरे मुँह के सामने आ गया. उसको शायद चुत में दर्द हुआ तो वह पूरा लंड घुसते ही बैठके खड़ी सी हो गई.

उस रात को मैंने शीतल को 3 बार चोदा और फिर जब 5 बजे के करीब पास पड़ोस सब जागने लग गए तो मैंने उसे छोड़ने जाने की बात की. इस तरीके से अगले दो दिन में तीनों भाई बहिन के बीच चुदाई का सिलसिला चलता रहा. वरुण- तुमने कितना बड़ा लण्ड ट्राई किया हुआ है?स्मिता- 9″… एक मेरा बॉयफ्रेंड था उसका बहुत लम्बा एंड मोटा था.

2-4 रोज के बाद मैंने अभिलाषा को फोन किया और पूछा- क्या मेरा कमरा बुक है?तो उसने कहा- जी हां, मैं आपको मेल के ऊपर कंफर्म कर देती हूं. मैंने लंड निकाल लिया तो वो घोड़ी बन गईं और बोलीं- अब जल्दी से लंड डाल कर फिर से चोदो. अब भाभी की जुबान में मिठास घुल गई थी और उनकी आवाज चुदासी सी हो गई थी.

कुछ देर बाद मेरा छूटने वाला था, मैंने लंड बाहर निकाल कर उसके पेट और चूत के ऊपर गिरा दिया. मुझे गाँव के लड़कों का लंड बहुत अच्छा लगता था क्योंकि उनका लंड बहुत बड़ा होता है और उनका लंड थोड़ा मोटा भी होता है.

दोस्तो, मैं आपका दोस्त हर्ष दिल्ली से आपके लिए अपनी एक आपबीती ले कर आया हूँ.

बिस्तर पर आते ही उसने मुझे पहले तो पूरी नंगी किया और फिर पॉकेट से एक शहद की शीशी निकाल कर मेरी चूत के आस पास लगा दी और जो बाकी बची थी, उसको चूत के अन्दर डाल दिया. रानी का बीएफ वीडियोजितना कि लड़कों में है क्योंकि मैं बाइसेक्सुअल हूँ और कोई भी मुझे गे बुलाये, मुझे अच्छा नहीं लगता है. श्रीलंका का बीएफ सेक्सीमयूरी- सच भैया… आई लव यू…और यह कहते हुए मयूरी ने विक्रम के होटों पर अपने रसीले गुलाबी और मुलायम होंठ रख कर एक गाढ़ा-सा चुम्बन दिया. वहीं एक मेरा सहायक जो असल में फील्ड स्टाफ था, जिले के अफसर ने मेरी मदद को सेन्टर चलाने दे दिया.

मैं फिर से उसके होंठ चूसने लगा और उसे बिस्तर पर लिटा दिया और फिर उसकी गर्दन पर किस करने लगा.

मेरा मोटा लंड देख कर उसकी गांड फट गयी क्यूंकि इससे पहले उसने लंड के दर्शन नहीं किये थे। फिर मैंने अपना लंड उसे अपने मुँह में लेने को कहा. अब मेरा माल गिरने वाला था तो मैंने आंटी की चूत में ही अन्दर डाल दिया. मैंने उसकी गर्दन पर फिर से चूम लिया और बोला- राज को बुला दूँ क्या?मंजू सिसकारियाँ लेती हुई बोली- हाँ बुला लो!मैंने उसके दोनों हाथों को पीछे खींचते हुए कसकर पकड़ लिया.

रितु ने हम दोनों के सर अपनी छाती पर दबा रखे थे और हमारे दूसरे हाठों ने रितु के शोर्ट को उतार दिया था. मयूरी- या फिर बात तो यह भी हो सकती है कि तुमने उसका काम ख़राब कर दिया?विक्रम- तुम उसका साइड लेना बंद करोगी?मयूरी- अच्छा सॉरी…विक्रम- कोई बात नहीं… अब अगर तुम्हारे जाले साफ हो गए हों तो पंखा चला दोगी? गर्मी में हालत ख़राब हो रही है. मैंने कहा- तो कम से कम आपको टाइम पास तो अच्छा रखना चाहिए ना, जो आपकी इज़्ज़त करे, ऐसे मारे तो नहीं.

सेक्सी भाभी के साथ सुहागरात

कुछ देर तक मैं स्तब्ध सा उसकी रेशम जैसी चिकनी मुलायम टांगों की सुंदरता आँखों में बसाता रहा, फिर रेखा को हौले से उठाकर उसकी शमीज़ भी उतार डाली. मेरा लंड एक बार फिर से उसकी बुर की गहराई को नापने के लिये मचलने लगा था. मैं आराम करने लगी, मुझसे 3 दिन तक ठीक से चलते नहीं बना था और हल्का हल्का दर्द भी हो रहा था.

तब ये दोनों खेतों में आई … पर क्यों?सवाल मेरे दिमाग में घूम ही रहा था कि मैंने देखा राहुल, मेरा एक और दोस्त वहां आ गया था.

मैंने कोमल का एक निप्पल मुँह में ले लिया और लंड को जोर जोर से पेलने लगा.

इस वजह से मैं सिर्फ अब आंटियों की चूत लेने की ही फिराक में रहता हूं, लेकिन अभी तक मैंने किसी आंटी की चूत नहीं ली है. चलो ठीक है एक बार और चोद देता हूँ!बस हम दोनों ने फिर से चुदाई का खेल शुरू कर दिया. सेक्सी बीएफ फिल्म देखनी हैखैर, इसी तरह शीतल अगले कुछ देर तक विक्रम को कभी अपनी चूचियां तो कभी अपनी गांड का दर्शन और स्पर्श कराती रही.

मेरा बस चले तो …”रहने दो पापा जी, यहां कोई बस वस नहीं चलने वाला आपका … बस तो बस स्टैंड से चलती है वहीं चले जाओ. दोस्तो! जैसे लंड की शेप और साइज़ अलग अलग होता है ऐसे ही चूत भी अलग अलग होती है. ’मैं- भाभी मेरे लैपटॉप में एक से बढ़कर एक वीडियो है, उसमें से आपको जो भी पसंद है, ले लो.

पैसों की वजह से इनसे शादी की, पर इनको सिर्फ पैसा दिखता है और कुछ नहीं. शायद मौसम की वजह औऱ खड़ा लंड देखकर भाभी का भी मूड हो गया और उन्होंने मन बनाते हुए हां में सर हिला दिया.

ऐसी सेक्सी गुदगुदी महसूस होने लगी कि मुझे कुछ होश नहीं रहा कि मैं कहां हूं.

अभी मैंने मुठ मारना शुरू ही किया था, बॉस ने मेरे केबिन में कॉल कर दिया. मेरे नीचे लेटते ही वो मेरे ऊपर चढ़ गयी, मेरे लंड को अपनी चूत पर सैट करके नीचे होने लगी और मेरा पूरा लंड उसकी चूत निगल गयी, फिर वो उछल उछल कर चुदने लगी. रितु ने सिसकारी भरना शुरू कर दिया था, वह बोल रही थी- जेम्स प्लीज फ़क मी, जल्दी से अपना मूसल लंड मेरी चूत में डाल दो.

जबरदस्त बीएफ दिखाएं मैं उनकी तरफ रेंगते रेंगते ही पहुंच गया और अपना मुँह खोल के उनका मुरझाया सा लंड फिर से मुँह में ले कर चूसना शुरू कर दिया. भाभी बोलीं- घर लाने की क्या जरूरत थी? और भी बहुत जगह हैं, जहां पूरी रात खाना मिलता है.

मैं बोली- तेरे दोस्त का क्या नाम है?उसने बताया- अंकित शुक्ल नाम है. सारिका का घर शॉप से 20 मिनट की दूरी पर था, तो हम बातें करते हुए जा रहे थे. मैंने उनसे वैसे ही पूछा कि आपने मुझे उठाया क्यों नहीं?तो उन्होंने कहा कि तुम सोते हुए बहुत मासूम लग रहे थे.

चाची चाची की सेक्सी

तो लाल जी बोला- हां वन्द्या, मेरा एक दोस्त है, वह लंड बड़ा करने कैप्सूल लाया था. हम दोनों उस समय फैजाबाद में ही रहते थे, वहीं हम दोनों की दोस्ती भी हुई थी।तो फैजाबाद में मेरी एक मामी भी रहती थी, मैं हर हफ्ते मामी के यहाँ जाकर उनसे मिलता था. डिब्बे के और लोग नींद के आगोश में थे, फिर भी हम ज्यादा कुछ नहीं कर पा रहे थे.

फिर वो बोली- अमन यार, जाने का मन तो नहीं कर रहा, दिन में तो आ रहा है कि तुम इसी तरह मुझे लगातार मजा देते रहो… लेकिन अभी तो जाना पड़ेगा. अधनंगी पद्मिनी उसके सामने बिस्तर पर पड़ी थी, वो अपने बालों को सर के नीचे से फैलाने का प्रयत्न कर रही थी.

लेकिन मेरे हिसाब से आपने एक चीज़ और नहीं की थी।”क्या?”दो मर्दों के साथ एक लड़की का सेक्स करना।”वह कभी पॉसिबल भी नहीं था क्योंकि जिन दो मर्दों ने मुझे छुआ वे कभी एक दूसरे के साथ नहीं हो सकते थे। उनका आपस में रिश्ता न होता या पहले से इस तरह की कंटीन्युटी होती तो बात अलग थी।”पर अगर मौका बनता तो क्या आप जातीं इसके लिये?”इस सवाल पर वह कुछ देर के लिये चुप रह गयी.

उस रात मम्मी और बुआ के न होने से मैंने अपनी बुआ के बेटे के लंड से चुद कर बहुत मजा लिया. अब मंजू के जिस्म की बढ़ती हुई गर्मी उसे बेचैन कर रही थी, वो चुप थी! मैंने उसे राज के लिए मना लिया था लेकिन फिर भी मन में डर था कि वो फिर से मना नहीं कर दे. एक बात मैं आपको बताना भूल गया कि भाभी चुदाई के लिए किसी होटल में जाना नहीं चाहती थीं, इसलिए मैंने भाभी को घर पर चोदने का सोचा था.

जब वो बाथरूम में चला गया तो मैंने की-होल से देखा कि वो अपने लंड की मालिश करके उसका रस निकालना चाह रहा था. वो खड़ी हो कर काम कर रही थीं और मैं उनकी मैक्सी में नीचे से अन्दर घुस कर उनकी पैंटी चूमने लगा. दोस्तो, आज मैं आपके सामने मेरी बीवी का एक सच बताने जा रहा हूँ, जो उसने मुझे शादी के कुछ साल बाद बताया.

वे धीरे-धीरे मेरे सर पे हाथ घुमाने लगीं और मैं अपनी जीभ से उनका बुर चोदन करने लगा.

चाची सेक्सी बीएफ: थोड़ी देर बाद जब वो शांत हुई तो मैंने जोर जोर से उसकी चुत में लंड पेलना चालू किया. बस फिर मैंने थोड़ा सा और धक्का लगा कर अपना आधा लंड उसकी गांड में सरका दिया.

पैंटी ना पहनने की वजह से जब भी स्कर्ट ऊपर होती, उसकी चूत दिखने लग जाती. एक दिन सर ने मुझसे बोला- वन्द्या, तुम्हारे साथ उस दिन अधूरा रह गया था, मुझे पूरा करना है. फिर मैंने उनकी काफी पिक लीं, उसके बाद उन्होंने मेरा मोबाइल ले लिया और पिक लेने लगीं.

वह बोली- उसने अन्दर किया और मुझे जोर का दर्द हुआ, मेरे अन्दर से खून आने लगा और उसने जबरदस्ती तीन चार बार आगे पीछे करके अपना पानी छोड़ दिया था.

मैंने उसको फ़ोन किया और कहा कि तुम एक काम कर दो तो शायद हम दोनों एक हो जाएंगे. आंटी भी मादक सिसकारियां भरने लगीं और उन्होंने मेरे लंड को अपने हाथ में ले लिया. इसलिए उसके चेहरे पर कुछ शान्ति थी कि रात के सफ़र में कोई दिक्कत नहीं होगी.