सेक्सी वीडियो प्ले बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,ठेठ देहाती सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

हॉट सेक्सी बीएफ सेक्स: सेक्सी वीडियो प्ले बीएफ सेक्सी, तभी वो बोला- भाभी, आज शाम को 4 बजे पूरी बिल्डिंग से दूध का हिसाब करने आऊंगा तब भैया के नम्बर पर फोन लगाउँगा तो आप पैसे देने नीचे ही आ जाना.

सेक्सी वीsडियो

मैंने पड़ोसी होने के नाते उनसे कहा- कोई भी ज़रूरत हो तो बेझिझक बोल देना. जानवर वाला घोड़ा वाला सेक्सी वीडियोमैंने उसे समझाया कि किसी-किसी लड़की को पहली बार ऐसा होता है फिर सब कुछ नार्मल हो जाता है.

नहीं तो पछताएगी कुंवारी चुत में चुदाने में जो मजा है वो शादी के बाद कहाँ है और एक बच्चा आ जाएगा तो हो गया काम. अफ्रीका वालों की सेक्सीरिया के मुँह से ज़ोरों की चीख निकली, उसकी आँखें खुल गयी, आधा वाइब्रेटर उसकी चुत के अंदर घुस गया था- निकी, मत कर, ये बहुत बड़ा है.

टीना- अरे ये अचानक कैसे जाना हुआ और तूने तो बताया था कि वो मामा से नाराज़ हैं?सुमन ने पूरी बात बताई तब टीना को बात समझ आई.सेक्सी वीडियो प्ले बीएफ सेक्सी: जैसे शराब की धार उसके बदन से बह निकली तो रिया के मुँह से एक बहुत ही सेक्सी आह निकल गयी और उसी के साथ पांचों लड़कों की जीभ रिया के बदन पे चिपक कर उस सेक्सी शराब का आनन्द लेने लगी.

मेरे पास कोई काम धाम तो था नहीं, कभी किसी दोस्त के यहाँ, कभी किसी और दोस्त के यहाँ चला जाया करता था.मैं पागलों की तरह उसके मम्मे मसल रहा था और निप्पलों को अपने दांतों से काट रहा था.

ब्लू फिल्म सेक्सी हिंदी वीडियो दिखाएं - सेक्सी वीडियो प्ले बीएफ सेक्सी

अब वह एक सुन्दर लड़के की माँ बन चुकी है, जिसकी शक्ल बिलकुल मुझसे मिलती है.मैंने उसे छुआ तो अजीब आ अहसास हुआ, मुझे बार बार छूने का मन हो रहा था, पर मैंने अपने आप पर कंट्रोल किया और फ्रेश हो के बाहर आ गया.

मैं कुछ बोलता, इससे पहले कंडक्टर आ गया, उसने बोला- मैडम सही कह रही हैं, साइड स्लीपर मैडम का है. सेक्सी वीडियो प्ले बीएफ सेक्सी एक के बाद ना जाने ऐसी कितनी धारें निकलीं, जिसे सुमन ने गटक लिया और आख़िरी बूँद तक सुपारे से निचोड़ डाली.

फिर नाश्ता करने के बाद हम दोनों बाथरूम में जाकर शावर चला कर नहाने लगे.

सेक्सी वीडियो प्ले बीएफ सेक्सी?

मैं मॉम के नंगे बदन के ऊपर आ गई और उनकी बड़ी बड़ी, सेक्सी चूचियों को दबाने, चूसने लगी. ये सुन कर प्रिया जोर-जोर से हंसने लगी और बोली- अच्छा जनाब… सब कुछ फोकट का चाहिए और नज़र मेरे ऊपर?इस बात पर राहुल भी हंसने लगा. मौसी कच्ची नींद में थीं, इसलिए मेरे स्पर्श से वो जाग गईं- अरे राजा आ गए अपनी मौसी के पास.

मैं कमरे में आ गई और रूम बंद करके चुत में धकाधक उंगली करने लगी और नदीम के लंड को सोचने लगी. उस हलचल के कारण मैं बहुत ही उत्तेजित हो जाती और अपनी योनि की हलचल शांत करने के लिए प्राय: मुझे उसमें उंगली करके रस का स्खलन करवाना पड़ता. मैंने उसे जल्दी से घर से बाहर भेज दिया और बोली कि 15-20 मिनट बाद डोरबैल बजा के आये तब मैं उसे पैसे देती हूँ.

तभी रजनी बोली- आराम से भाई… अभी तो तेरी बहन की चूत का उद्घाटन हुआ है. वो सारे पहलवान लड़के उठ कर पास ही चल रहे ट्यूबवेल की तरफ बढ़ने लगे और पास पहुंच कर एक एक करके पानी के हौद में गोता लगाने लगे. मैंने स्पीड बढ़ा दिया…अनुराधा- आहहाआह आह… आहाहा… आह… और… जोर से एयेए… उहह… उउफ्फ़… डाल दे… अया… रांड हूँ मैं तेरी… अया…डाल्लो… पूराआ… आहा आहा…मैं उसकी गांड चोदता रहा- आआआहह… अया… तेरी गांड बहुत टाइट हैई… तेरी गांड में हो छोड़ रहा हूँ…मैंने उसकी गांड में अपना रस छोड़ दिया और उसकी चूत भी रो पड़ी, उससे नहीं सहा गया तो वो चीख पड़ी और टब में गिर गई.

थोड़ी देर बाद मैंने अपने वॉलेट से अपना कार्ड निकाल कर उसको देते हुए अनजाने में उसे वॉलेट में लगे अपनी वाइफ के फोटो की झलक दिखा दी. मैंने वैसा ही किया, मामा का पूरा लंड मेरी चूत में समा गया, मेरी मुँह से चीख निकल गई- हाय!मैं गांड को धीरे धीरे ऊपर नीचे करने लगी.

उसके बाद टीना माल निकालने को हुई तो उसने सुमन के सर को पकड़ा और जोर-जोर से चुत को उसके मुँह पे रगड़ने लगी.

मेरे घर के वाले घर में मेरे चाचा चाची रहते हैं, वो मेरे सगे चाचा नहीं है बल्कि पड़ोसी होने के नाते हमारे परिवारों के प्रगाढ़ सम्बन्ध है तो मैं उन्हें चाचा चाची कहता हूँ.

पर आशीष का नहीं हुआ था, आशीष ने मुझे लिटाया और मेरे दोनों पैर अपने कंधों पर रखे और एक जोरदार शॉट में एक ही बार में पूरा लंड मेरी बुर में डाल दिया. सुमन की ज़रा भी हिम्मत नहीं हुई कि वो कुछ बोले या उन्हें रुकने को कहे. मैंने देखा कि वो अपनी बेल्ट खोल कर जींस के अन्दर हाथ डाल कर अपनी बुर को सहला रही थी.

तभी मुझे पीछे से कुछ आहट सुनाई दी और मैंने पलट कर देखा तो वहां तरुण मेरे रोते हुए बेटे को ले कर खड़ा हुआ था. मैं परीक्षित के साथ ज्यादा क्लोज़ हूँ तो मैं उनसे ही मस्ती कर रही थी और चिंटू और रोस्टन के साथ भी. पायल भाभी के पास गई और उसने भाभी को किस करके उनके मम्मों को दबाने लगी.

पर मेरी चूत की प्यास अभी बुझी नहीं थी, तो उसके बाद परीक्षित और चिंटू ने मुझे चोदा.

अप्रैल के दूसरे सप्ताह मेरे ट्रान्सफर के आर्डर आये और मैं इंदौर पहुँच गई. लंड पे मुँह आगे पीछे करते हुए लंड बहुत मस्ती से चूसते हुए रूपा बोली- अब मुझे लंड चूसने देगा या नहीं गाँडू? अब मेरी बेटियों के बारे में कुछ मत पूछना जब तक तू मेरी चूत में अपना पानी ना डाले. रवि की आवाज़ सुनकर उन पहलवानों ने नज़र हमारी तरफ घुमाई… रेत में लथपथ उन पहलवानों में एक संदीप था, जिसे देख कर मेरे चेहरे पर हैरानी और डर का नंगा मुखौटा लग गया जिसके नीचे मेरे ज़हन में उथल पुथल मच गई कि अब मैं क्या करूं.

मैंने भी चाची से कह दिया कि मैं आ रहा हूँ तो कल ही बस आप तैयारी कर लेना. उसने एक छोटी सी घुटनों तक की घाघरी स्कर्ट तथा टाइट स्लीवलेस टॉप पहन रखा था. यही सोचते सोचते मैं ड्राइंग रूम में नंगा ही टहलने लगा; टाइम देखा तो रात के दो बजने वाले थे.

हम दोनों पानी में ऐसे ही लेट गए, इसके बाद करीब 15-20 मिनट बाद संगीता को होश आया और मुझे अचानक धक्का देकर पानी के टब से बिल्कुल नंगी बाहर निकली और अपनी नंगे शरीर को तौलिया से ढक लिया.

बाकी दो लड़कियों का भी क्रिकेट में इतना इंटरेस्ट नहीं था, वो तो मजबूरी में टीम में आ गई थीं क्योंकि तीन लड़कियों को रखना जरूरी था. उस लंबी अवधि के सम्भोग के बाद हम दोनों को थोड़ा आलस्य आ गया था और हम एक दूसरे की बाँहों लिपटे एक घंटे के लिए नींद के आगोश में चले गए.

सेक्सी वीडियो प्ले बीएफ सेक्सी जब बेटा चुप हो गया तब मैंने उसे तरुण को थमाते हुए कहा- अब तुम इसे ले कर यहाँ से जाओ और मुझे कपड़े धोने और नहाने दो. सुन पप्पू गांडू… तेरा रस मेरी चूत के एकदम अन्दर डालना… मेरी बच्चेदानी पे… तभी मुझे सही में शाँति मिलेगी.

सेक्सी वीडियो प्ले बीएफ सेक्सी फिर हम लोग घर चले आए।दूसरे दिन घर पर कोई नहीं था मैं और मेरी साली की बड़ी बेटी घर पर थे। दोपहर में मैंने गुड़िया को अपने रूम में बुलाया और बोला- आओ मेरी गुड़िया रानी, थोड़ा मेरा लंड चूस दो।यह कह कर मैंने उसके टॉप और स्कर्ट को उतार दिया और सिर्फ ब्रा और पैंटी में मेरे सामने वह खड़ी थी। उसकी छोटी छोटी चूचियों को देख कर मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा हो गया था। वह बैठ कर वह मेरे लंड को चूसने लगी. बहनचोद बहुत गर्म हो गई है… लगता है अब तेरी इस गर्म गुज्जू चूत में अपना मूसल लौड़ा डाल के तुझे नहीं चोदा तो तू अपनीचूत की आगमें जल जायेगी.

वो थोड़ा शर्माते हुए उठने लगीं तो मैंने उनका हाथ पकड़ते हुए बिस्तर पर लेटा दिया और उनके पास बैठ गया.

लड़कियों की नंगी फोटो

पीठ भी मजबूत और चौड़ी थी जिससे शर्ट में काफ़ी तनाव आ रहा था और पीठ पर बने हुए मसल्स के गड्ढे साफ़ दिखाई दे रहे थे जिन्हें मौका मिलते ही धीरे से मैंने छू कर अनुभव किया. फिर वह बोली- ओ मिस्टर, कहाँ खो गए… सब कुछ यहीं करने का इरादा है क्या?मैं बोला- सॉरी मैडम, मैं घर जा रहा हूँ, ऑफिस में लेट हो गया था, अब कोई कन्वेन्स नहीं मिल रहा है. अगर तुम्हारी सहमति मिल जाये तो मैं तुम्हें तृप्ति एवं संतुष्टि देने के लिए तैयार हूँ.

दोस्तो, इससे पहली मेरी रियल सेक्स स्टोरीऑनलाइन लड़की को पटा कर रूम पर चोदा-1को प्यार देने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद. इसी दौरान मैंने हंसते हुए एक और झटका दे मारा और चाची पता नहीं क्या कहना चाहती थीं, वो बात उनके गले में ही अटक गई. मैंने उनकी पेंटी को खींचते हुए अलग कर दिया और चूत पर एक जोरदार चुम्मा ले लिया.

उनकी शादी एक साल पूर्व 2012 में हुई थी और व्यापार के सिलसिले में वो लोग हैदराबाद आए थे.

उन कपड़ों में मुझे एक जोड़ी ब्रा एवं पैंटी तथा दो नाइटी भी मिली जिन्हें मैंने निकाल कर अलग किया और घाघरा-चोली उतार उन्हें पहन कर देखा. फिर मैंने उसको अपनी बांहों में भरते हुए उसके होंठों पर चुम्मा देकर मैंने उससे कहा- आई लव यू. कहीं गड़बड़ तो नहीं होगी?वो बोलीं- अरे पगले, जब से तेरा दोस्त पैदा हुआ, उसके तुरंत बाद मैंने ऑपरेशन करवा लिया था.

एक रात मैं अपने पीछे वाली बालकनी में जाकर अपना लंड बाहर निकाल कर सहला रहा था, तभी आंटी अपनी बालकनी में आ गयी. क्या तेरी माँ वहां नहीं जातीं?सुमन- ऐसा बताने को कुछ खास है भी नहीं दीदी. एक हाथ से वो पतला सा रस ले कर उसे अपनी चूत पे रगड़ते हुए धीरे-धीरे रूपा उतावली हो कर पप्पू की गांड चाट रही थी.

अब मेरा लंड चाची के मुँह के पास और मेरा मुँह चाची की चूत के पास था. एक लड़का मुझे बेरहमी से मसलते हुये बोला- साली रंडी, सच में तेरे अंदर बहुत गर्मी है.

इंसानियत के नाते हम यह होने नहीं देना चाहते थे कि हमारी ऐशपरस्ती के कारण दो जिंदगियां खराब हों. मैं- आज नहीं मगर मैं ही तुझे सबसे पहले चोदूँगा, ये प्रॉमिस है मेरा. रीना ने अपने हाथ से उसका लंड पकड़ आकर अपनी चूत में धकेल दिया और अपने पैर काकू के कन्धों पर रख कर चुदाई करने लगी.

उसके बाद मैंने एक जोरदार धक्का मारा तो मेरा लंड उसकी चुत में पूरा घुस गया.

अब मैंने भी उस की सलवार के अन्दर हाथ डालकर उसकी चूत में उंगली करनी शुरू कर दी. चूँकि मेरा लंड काफी लंबा और मोटा था तो मैंने थोड़ा सब्र से काम लिया. मैं रागिनी को बुर सहलाते हुए देखता रहा और मेरा लंड तौलिये में खड़ा होकर ऊपर नीचे होने लगा.

थोड़ी देर में भाभी नार्मल हो गईं, मैं अब लंड को अन्दर-बाहर करने में लग गया. आह… उसके मुख की गर्माहट को अपने लंड पर महसूस करके मैं तो जैसे जन्नत में पहुँच गया था.

वो एक खुले विचारों वाली महिला है और शारीरिक जरूरतों को सीरियसली लेती है. हम दोनों एक-दूसरे के बांहों में समा चुके थे, उसका सारा दर्द जा चुका था और वो अब चुदाई का मज़ा ले रही थी. मेरी पिछली कहानियों में आपने पढ़ा कि कैसे मैंने विदेशी पीटर के साथ धकापेल सेक्स का लुत्फ़ उठाया.

सुपरवाइजर क्या काम करता है

अभी तक आपने पढ़ा कि रवि के साथ सुहागरात मनाने के बाद अगली सुबह मैं उसके साथ अखाड़े में गया और वहाँ जाकर किस्मत ने संदीप के रुप में मेरे मुंह पर एक और तमाचा मारा जिसकी गूंज अभी मिटी भी नहीं थी कि रवि ने मुझे अपनी बहन की शादी वाली एल्बम दिखा दी जिसमें उसकी गर्लफ्रेंड का फोटो था.

मेरे पास कोई काम धाम तो था नहीं, कभी किसी दोस्त के यहाँ, कभी किसी और दोस्त के यहाँ चला जाया करता था. इतने में एक कार आई, उसने कार का ग्लास नीचे किया तो मैंने देखा कि एक बहुत सेक्सी और हॉट लेडी अन्दर बैठी थीं. आज इस चूत को फाड़ कर अपनी रस की एक भी बूँद मेरी चूत के बाहार ना जाये… ये देखना.

दो माह बाद उसकी शादी हो गई और इस तरह मेरा पहला प्यार मेरा होकर भी मेरा नहीं रहा. फिर टीना ने सोचा शायद ये सच कह रही है तो उसने बात को ख़त्म करने का सोचा. मारे लड़की का सेक्सी वीडियोमैंने उनके बालों को हाथ से छुआ और बोला कि आपके बाल बहुत अच्छे लग रहे हैं.

नीता ने पप्पू के होंठ चूमते हुए कहा- ओहहह अंकल, मुझे आपसे चुदवा कर कितना मजा आ रहा है. अभी कुछ देर पहले ही वो ठंडी हुई थी मगर इनकी चुदाई का सीन देख कर वो फिर से अपनी चुत रगड़ने लगी थी.

अभी यहाँ भी हमारे काम का कुछ नहीं बचा, तो चलो अब मोना और नीतू के पास जाकर थोड़ा झाँक लेते हैं कि वहां क्या हो रहा है. मैंने उसके होठों को अपने होठों से दबा लिया और कहा- जो होना था वह हो गया. सेक्स के दौरान मैं उससे अपने बूब्स को खूब मसलवाती और खूब चुसवाती और 2-2 घंटे तेल मलवाती थी.

मालूम है तेरे को?मैंने फिर से उसके दुदू अपने हाथ से दबाते हुए पूछा- अच्छा दिखा तो देखूं कहाँ से दुःख रहे हैं?पहले तो उसने हाथ पकड़ के हटा दिया. हमेशा मेरी नज़र उसकी माँ के ऊपर रहती थी क्योंकि उसकी माँ मालती भी ग़ज़ब की माल है. उई माह्हा… मर गई मैं… ओह… हहा!उसका लंड अन्दर घुसा था और वो मेरे ऊपर चढ़े चढ़े बोला- बस हो गया.

टीना को कुछ समझ नहीं आया तो संजय ने उसे कुछ बातें समझाईं कि अब आगे वो सुमन को क्या करने को कहेगी, जिसे सुनकर टीना की आँखों में चमक आ गई.

अब आगे:मम्मी ने बेड से उठते हुए कहा- ये कुछ ज्यादा ही हो गया।ऋतु ने उनसे पूछा- क्या आपको ये सब अच्छा नहीं लगा मम्मी?मम्मी ने धीरे से कहा- हम्म्म्म हाँ अच्छा तो लगा… पर ये सब एकदम से हुआ… मेरी तो कुछ समझ नहीं आ रहा है. मैंने नेहा की ब्रा की हुक खोल दिया और उसकी ब्रा को उसके जिस्म से अलग कर दिया.

संगीता रोती हुई बोली- शेखर अब क्या होगा जब किसी को पता चलेगा तो?मैंने बोला- संगीता घबराओ नहीं. सुमन- ये क्या पापा आप ये रेजर क्यों लेके आए हो… इनसे क्या करोगे?पापा- मेरी जान, इस वाले से मेरी झांटें साफ होंगी और ये सॉफ्ट वाले से तेरी झांटें साफ होंगी… समझी तू!सुमन- लेकिन इसकी क्या जरूरत थी मेरे पास तो बाल साफ़ करने वाली क्रीम है ना… मैं तो उसी से कर लेती. मॉम ने अपने आप को घर के कामों में उलझा लिया था और पापा अपने बिजनेस में मसरूफ रहते थे.

मैं बताना चाहूंगी की वरुण मेरा चार वर्ष आठ माह का पुत्र है जिसके लिए मैं जीवन के कई सिद्धांतों से समझौता करके अभी तक जीवित हूँ और शायद भविष्य में भी उसी के लिए जीवित रहूंगी. फ्लॉरा- पापा ऐसे नंगी ही लेटना होगा क्या?जॉय- हाँ बेटा तुम्हें ऐसे ही लेटना पड़ेगा. वो मेरे सीने में सिर रख कर बोली- थैंक्यू सन्नी, इतना मज़ा… इतना प्यार… मुझे कभी नहीं मिला… मैं इसे कभी नहीं भूलूंगी.

सेक्सी वीडियो प्ले बीएफ सेक्सी उसको समझाने लगा कि होनी को यही मंजूर है, तू छोटी थी तब भी तो मेरे सामने नंगी घूमती थी तो आज नंगी होने में क्या दिक्कत है. नहा कर हम बाहर आए, मैंने सैफिना को अपना ही एक सूट दे दिया क्योंकि उसके कपड़े भी तो गीले हो चुके थे.

ट्रैक्टर दिखाओ

पापा जी मुझे नीचे लिटा दो अब अब खड़ा नहीं रहा जाता मुझसे!” बहूरानी कमजोर स्वर में बोली. हाँ उसने सुमन के बारे में भी पूछा तो गुलशन जी ने सुमन को उनसे मिलवाया, तो बड़े खुश हुए और आशीर्वाद भी दिया, फिर चले गए. रात के 8 बज चुके थे तभी रेणु दीदी ने कहा- अर्जुन आकर खाना खा लो, मैंने टेबल पर लगा दिया.

फिर मैंने पूछा- मजा आया न!बोली- हाँ…मैंने बोला- फिर कब करने दोगी?उसने बोला- जब अकेले रहेंगे तब न कुछ हो पाएगा. एक दिन मैं दोपहर में खाली अपने कमरे मैं बैठी रियल सेक्स स्टोरी पढ़ रही थी, वो स्टोरी भी भाई-बहन वाली थी. इंग्लिश सेक्सी वीडियो मुसलमानजो मेरी राइट साइड की लेडी थी उसने बोला- ज़्यादा ही भाव खा रहा है मादरचोद.

मेरी इस हरकत से रश्मि ने राहत की सांस ली और आँखों ही आँखों मुझे थैंक यू और अंत तक साथ न देने के लिए सॉरी बोला.

मैं- वो चुदाई के बारे में कैसे जानती है? उसने किसी को चुदाई करते देखा है. उसका फिगर 32-30-32 का ऐसा मदमस्त था कि जो भी एक बार देख ले, तो देखता ही रह जाए.

मैं उसे किस करके नंगा अपने कपड़े उठा कर ड्राइंगरूम से होता हुआ अपने कमरे में आ गया और नंगा ही बेड पर सो गया. मैंने बिना टाइम वेस्ट किए अपने लंड का सुपारा उसकी चूत के अन्दर डाला. तब मैं वहाँ से वरुण को जल्दी से उठा कर झोंपड़ी में ले जाती थी और अपने को संयम में रखने के लिए उसे पौंछने एवं कपड़े पहनाने में व्यस्त कर लेती.

जब उसने नाम बताया तो मैं समझ गया एक छोटा सा, मरियल सा आदमी था, जिसकी कोई पर्सनॅलिटी नहीं थी, बातों में भी वह साधारण ज्ञान वाला आदमी था.

तो उसने पूछा- हाय तुम्हारे लंड का साइज क्या है राजा?तुम्हीं बताओ रानी? तुम्हारी ही चुत में जाएगा. अपनी उँगलियों से उसकीदेसी चूत की फांकों को खोलाऔर अपनी जीभ अंदर डाल दी. मैंने उसे छुआ तो अजीब आ अहसास हुआ, मुझे बार बार छूने का मन हो रहा था, पर मैंने अपने आप पर कंट्रोल किया और फ्रेश हो के बाहर आ गया.

जुनी सेक्सी पिक्चरथोड़ी देर तक सुमन अपने आपसे बात करती रही, फिर जब वो नाइटी पहन कर बाहर आई तो गुलशन जी तो बस उसको देखते ही रह गए. पानी निकलने के बाद फ्लॉरा को अपने पापा से बहुत शर्म आई, उसने सर झुका लिया और धीरे से ‘सॉरी’ कहा.

सेक्सी फोटो सेक्सी फोटो भेजो

जॉन ने फ्लॉरा की गांड भी खोल दी थी और फ्लॉरा अब लॉलीपॉप की जगह बस जॉन का लंड ही चूसती थी. उसकी लंबाई 5 फीट 5 इंच, रंग गोरा, नशीली आँखें, पतले-पतले होंठ, पतली कमर, मीडियम साइज के चूचे… मतलब एकदम टंच माल थी।वह मेरा टारगेट इसलिए थी क्योंकि उसे मेरी और रचना की बातें पता चल चुकी थी और वह भी मुझे परेशान करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ती थी। वह जब भी मिलती तो ‘लड़की से पिट गया’ कह कर मुझे चिढ़ाती. यह सुन कर मामा जी ने मेरे निप्पल को ज़ोर से मसल दिया, मैं चीख उठी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ और बोली- इतनी ज़ोर से क्यों मसलते हैं, दर्द होता है.

और तेरे दोनों हाथ पे भी दवा लगी होती है अगर तू खुद लगाती तो तुझे हाथ धोने पड़ते, जिसके लिए डॉक्टर ने मना किया है समझी. आज जब फिर से मेरी एक सहेली ने लंड के बारे चर्चा की और पूछा कि कभी लंड देखा है?मैंने कहा- नहीं. पापा जी आराम से”आराम से ही जाएगा बेटा, बस तू ऐसे ही रहना; एकदम रिलैक्स फील करना.

मैं कपड़े पहन कर कमरे से बाहर निकली तो देखा की तरुण झोंपड़ी के बगल में बने तबेले में बंधी गाय का दूध निकाल रहा था. मेरा हाथ अभी भी जड़ था तो उन्होंने मेरी हथेली को अपनी हथेली में पकड़े पकड़े, अपने लौड़े पर ऊपर नीचे करना शुरू कर दिया. जब उसका छटपटाना बंद हुआ तो मैंने कहा कि पहली बार तो दर्द होता ही है, इसे बर्दाश्त करो.

मैं बोला- रानी, डरो मत… मैं तुम्हारी गांड में पूरा तेल लगा दूंगा और अपने लंड पर भी पूरा तेल लगा दूंगा। फिर मैं तुम्हारे अंदर डालूंगा तो आराम से चला जाएगा. डिनर के बाद बस ने हॉर्न मार दिया था, सभी बस में बैठने लगे थे, रश्मि टॉयलेट से आ गयी थी, सबसे आखरी में बस में चढ़ी.

उस के बाद मैं संगीता की कमर को चूमते हुए उस की कमर को चूमने लगा और उस की ब्लैक पेंटी को उतार कर उस के कूल्हों को चूमने लगा.

! क्या जिस्म था उसका… साला… 19 साल की उम्र में उसने इतना सेक्सी जिस्म बनाया था. नंगी सेक्सी काम करते हुएमैंने उसके पैन्ट और अंडरवियर को निकाल दिया और उसके लंड से खेलती रही. हीरोइन सेक्सी बफतभी उसने अपना एक हाथ मेरी नंगी छाती पर फिराते हुए मेरे लोअर में डाल दिया और मेरा लोहे की तरह कड़क लंड को अपने हाथ में ले लिया. वो लंड को पीछे खींचते और धीरे से आगे झटका मार देते, जिससे लंड और अन्दर घुस जाता.

भाभी से बातें करते वक़्त कभी-कभी उनका हाथ मेरे हाथ से टच हो जाता तो मेरे शरीर में एक सिरहन सी उठ जाती.

अंकित मेरी ब्रा खोल कर मेरी मोटी चूची को चूसने लगा, दबाने लगा, मैं भी अंकित का साथ दे रही थी. कुछ मिनट तक ऊपर से मेरी चूत चुदाई करने के बाद उसने मुझे कुतिया स्टाइल में खड़ा होने को कहा और मेरे पीछे आकर कर के मेरे दोनों चूतड़ चौड़े करके अपना लंड मेरी चूत में घुसा दिया और जोर जोर से चोदने लगा. चाची के अब तक के बर्ताव से ऐसा तो नहीं लगा था कि उन्हें रात की चुदाई के बारे में कुछ पता चला था या पता भी रहा हो, मुझे मालूम नहीं.

फिर चाची ने भी मेरी गर्दन के नीचे हाथ दिया तो मैंने भी अपनी गर्दन चाची की हाथ पे रख दी. मैं अपने कॉलेज के गेट से अन्दर जाने लगी, तभी विवेक ने मुझे आवाज़ दी. वो अपना फ़ोन मम्मी पापा के पास चालू हालत में रख कर, मम्मी के रूम की बाहर से कुंडी लगा कर आ गई.

lx पसीना xxxxxx xxxxx xxxx xxxxxxx

उसने अपना गरम मुँह खोला और मैंने लंड उसके मुँह में अन्दर तक घुसा दिया- आअहह. फिर मैंने उसकी टांगें फैला दीं और अपना लंड उस की चूत पर रगड़ने लगा. मेरे पड़ोस में हमारे रूम के पड़ोस वाले रूम में एक भाभी थीं जो देखने में बहुत ही मस्त एकदम सेक्सी माल दिखती थीं.

मुझे लगा जैसे वो थोड़ा खीझ सी गई है, तभी सोनिया बोली- चलो यार अगर घर जा सकते हो, तो पहले घर ही चलो, फिर वहां से आगे निकलेंगे.

सुमन का कॉलेज और गुलशन जी की दुकान की वजह से दोनों नहीं जा सकते थे, तो ये तय हुआ कि शाम की ट्रेन से हेमा जी जयपुर जाएंगी.

तो मैं घर के लिए वापस मुड़ा और घर पहुँच कर डोर बेल बजाई, पर कुछ रेस्पॉन्स नहीं मिला. मैं बोला- आंटी आप ने अपनी चुत में कब से लंड नहीं लिया?वो बोली- पूरे 40 दिन हो गए. सेक्स इंडियन सेक्सी इंडियनमैंने अपने लिए एक घाघरा-चोली और बदन पौंछने के लिए तरुण का तौलिया उठा कर कंधे पर रख कर नलकूप पर चली गयी.

तो उसने सर उठाया और कहा- कहो क्या बात करनी है?मैंने उससे कहा- मैं तुम्हें बहुत पसंद करता हूँ. मैंने दीपिका की बुर में अपना मुँह रख कर कुत्ते की तरह चूमा, दीपिका आँखें बंद किए हुए सिसिया रही थी- आं. अब वो ज़्यादा से ज़्यादा लंड मुँह में लेना चाहती थी मगर वो कोई मॉंटी का लंड तो था नहीं, जो वो पूरा निगल जाती.

चाची ने खाना बनाया और मेरी बहनें और चाची का बड़ा लड़का जो कि 4 साल का था खाना खाकर सब स्कूल चले गए. फिर मैंने दीदी को ब्रा अपने हाथों से पहनाई और दीदी अब अपने कमरे में जाने लगीं.

दो माह तक गन्धर्व विवाह हेतु हम दोनों पति पत्नी के समान रहे और जीवन के हर क्षण का आनंद एवं संतुष्टि पाते रहे.

मगर तू घर आने में इतनी लेट क्यों हो गई?सुमन- वो पापा, मैं अपनी फ्रेंड्स के साथ उसके घर चली गई थी. मैंने मोनिका को होटल चलने को कहा, पर वो मानी नहीं क्योंकि उसके लिए यह पहली बार था, वो कभी ऐसे होटल नहीं गई थी और वो कॉलेज भी बंक नहीं करना चाहती थी. गुलशन जी को लगा कि सुमन गहरी नींद में है, तो वो थोड़ा खुलकर उसके मम्मों को सहलाने लगे.

सेक्सी वीडियो भोजपुरी में चुदाई गले मिलते ही उनके मम्मे मेरी छाती से टच हो गए औरभैनचोद मेरा तो लंड खड़ा हो गया, लेकिन मैंने किसी तरह खुद पर कंट्रोल किया. अचानक मामी ने पूछा- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है क्या?मैंने चौंक कर कहा- नहीं मामी पर क्यों?मामी- कभी किसी लड़की को प्रपोज़ किया है क्या?मैं- नहीं मामी.

वो बोलीं- मैं लड़की होकर तुम्हारे सामने नंगी होने को तैयार हूँ और तुम लड़के हो कर शरमा रहे हो?रितु दीदी ने जब फिर कपड़े उतारने को कहा, तब मैंने एक एक कर कपड़े उतारने शुरू किए. कई बार मैंने उन्हें छुप-छुप कर अपनी चुत में उंगली डालकर चोदते हुए देखा था. तभी अनाउंस हुआ कि ट्रेन 12 बजे आएगी और मैं फिर परेशान हो गई, मगर सिर्फ़ इन्तजार करने के अलावा करती भी क्या.

हीरोइन का एक्स एक्स

ऐसा मज़ा तो पहले कभी भी नहीं आया मुझे!” बहूरानी बोली और अपना हाथ पीछे ला कर केले को चूत में और भीतर तक घुसा लिया और अपनी गांड पीछे की तरफ करके धक्कों का मजा लेने लगी और बहुत जल्दी झड़ने पे आ गयी. अब मैंने टीवी ऑन कर दिया और उसे अपनी बांहों में भर कर उसके होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसने लगा. वो शॉर्ट्स के ऊपर से लंड को खूब ज़ोरों से मसलते हुए सिसकरियाँ भरने लगी.

अपनी चूत में उंगली डालते हुए वो पप्पू से बोली- उफ्फ बहनचोद, मैं सही में अब उतावली हो गई हूँ तेरे लंड के लिए. मैंने पूछा- और कुछ करना है?वह बोली- बस एक ‘किस’ करना है और कुछ नहीं.

ये नजारा देख कर गुलशन जी का मन डोल गया, वो उसके पास बैठ गए- सुमन उठ जाओ, सुबह हो गई है.

तब नेहा ने मुझसे पूछा- क्या आप सच में मुझसे प्यार करते हैं?मैंने कहा- हाँ. ऐसे बात करते-करते एक बज गया तो वे बोले कि हम लोग खाना खाने जा रहे हैं. उसके बाद मुझे कॉलेज जाना था तो मैं रेडी होने लगी और कॉलेज के लिए निकल पड़ी.

उस दिन आशीष आगे नहीं बढ़े पर हम दोनों ही समझ गये कि आगे और भी बहुत कुछ दोनों के बीच संभव है. अब यश से रुका नहीं गया, उसने मेरी चूचियाँ दबानी शुरू की और मैं तो पहले से ही गर्म हुई पड़ी थी. मेरा दिमाग सन्न सा हो गया… क्या चीज थी यार ये औरत… एकदम लाल होंठ, साड़ी के नीचे ब्लाउज नहीं था.

दोस्तो कहानी को फास्ट ले जाने के लिए माफी चाहती हूँ मगर ये जरूरी था अब कुछ दिन ऐसा खास हुआ नहीं तो फास्ट बता रही हूँ.

सेक्सी वीडियो प्ले बीएफ सेक्सी: फिर हम दोनों नीचे आने लगे तो दूसरे रास्ते से नीचे आने लगे, जहाँ एक गली से हो के आना पड़ता है. उनके रहते मैं पापा के साथ कैसे सो सकती हूँ?टीना- तूने कभी अपने ननिहाल के बारे में नहीं बताया.

थोड़ी देर बाद दीदी आईं, उन्होंने कमरे का दरवाजा बंद किया और फ्रेश होने के लिए बाथरूम में चली गईं. वो इतनी खिली हुई लौंडिया है कि उसे देखकर बुड्डों का भी लंड खड़ा हो जाए. ऐसे ही शहज़ाद भी करते थे घर पहुँच कर सबसे पहले ये भी कच्छे-बनियान में ही आ जाते थे.

वो पहले तो चुपचाप करवाता रहा, फिर बोला- दीदी आपने ये सब जानबूझ कर किया है?तो मैंने हाँ कर दी।फिर वो मुझे किस किरने लगा, मैंने उसको नंगा कर दिया और उसने मेरे कपड़े उतार दिये.

मेरी चुदाई अधूरी रह गई थी इसके बाद नेहा मुझसे अकेले में मिलने से डरने लगी थी. जैसा कि मैंने पहले बताया है कि जब जॉन गया तो फ्लॉरा बहुत रोई थी और कुछ दिन उदास भी रही. इधर मेरे पास ही मनोज भी बिल्कुल नंगा हो चुका था और मनोज ने अपना लौड़ा सोनिया को पकड़ा दिया था.