मोटी औरतों का बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,बीएफ हिंदी चुदाई वीडियो में

तस्वीर का शीर्षक ,

देवर भाभी हॉट सेक्सी: मोटी औरतों का बीएफ वीडियो, सुबह उठने के बाद मैंने हाथ मुंह धोया और किचन में गया तो माँ नाश्ता बना रही थी.

जापानी बीएफ एचडी वीडियो

काफी देर तक मानसी जीजू के होंठों को पीती रही और जीजू ने नीचे से अपना हाथ निकालते हुए उसकी चूत को सहलाया तो मानसी के मुंह से निकल पड़ा- आआह्ह … जीजू का हाथ उसकी चूत पर लगते ही उसकी वासना ऐेसे भड़की जैसे जलती हुई आग में किसी ने घी डाल दिया हो. बीएफ आगरा कीमैं सुमन को पूरी तरह से गर्म कर देना चाहती थी और मैं इसमें तेजी के साथ कामयाब भी होती जा रही थी.

बिल्कुल साफ … एक भी बाल नहीं, एकदम गोरी। मेरी बहन किसी मॉडल से कम नहीं है. नर्मदा बीएफकुछ देर बाद उन दोनों ने एक एक करके सीधे दारू की बोतल से मुँह लगाया और लम्बे लम्बे घूँट खींच लिए.

मैंने उसकी चूत में तेजी के साथ उंगलियों को चलाना शुरू कर दिया और उसके मुंह से स्स्स… आह्ह … अम्म… ओह्ह जैसी मधुर आवाजें निकलने लगीं.मोटी औरतों का बीएफ वीडियो: फिर मैं उसके नाभि को चाटने लगा और चाटते चाटते उसकी चूत तक पहुंच गया.

उसके बाद मैंने भाभी के हाथ को पकड़ लिया और अपनी पैंट में तने हुए लंड पर रखवा लिया.मेरी वासना की कहानी के पहले भागमेरे नीग्रो सैंया जी-1अब तक आपने पढ़ा कि मेरे क्लासमेट अफ्रीकी नीग्रो निकोलस ने मुझसे आई लव यू बोल दिया था, जिस वजह से हम दोनों दूसरे दिन कॉलेज में एक दूसरे से नजरें चुराते रहे.

बीएफ सेक्सी देहाती गाना - मोटी औरतों का बीएफ वीडियो

उन्होंने बुर मसलते मसलते ही अपनी पेन्ट और चड्डी नीचे कर दी और मेरे ऊपर 69 की पोजिशन में आ गए.भाभी गांड उठाते हुए बोली- यार अब बर्दाश्त नहीं होता … मुझे और मत तड़पाओ … जल्दी से अपने लंड को मेरी चुत में डाल कर मुझे तृप्त कर दो.

नम्रता- आह … हां … मेरे राजा चाटो इस छेद को, बहुत मजा आ रहा है … अपनी गांड को चटवाने में … आह-आह ओह-ओह किए जा रही थी. मोटी औरतों का बीएफ वीडियो मेरे भाई को अभी भी नहीं पता है कि उसका दोस्त उसकीबहन की चूतमार रहा है.

उसकी माँ ने पूछ लिया- बेटा कहाँ जा रहे हो?मैंने उनको बताया कि मुझे दस-ग्यारह किलोमीटर दूर मार्केट में जाना है.

मोटी औरतों का बीएफ वीडियो?

मुश्किल से एक मिनट तक वे दोनों मेरी गांड और चूत में लंड पेल कर रुके रहे थे. मैंने भी तुरंत हामी भर दीशनिवार को मैंने अपनी बुआ से बोला- बुआ मेरी फ्रेंड स्वाति का आज बर्थ-डे है, उसने मुझे अपने घर बुलाया है. मुझे भी इतना मजा मिल रहा था कि मैं अपनी गांड उठा के उसका साथ दे रही थी.

रात को उसी की पायल की आवाज आती है और इसीलिये रात में कोई भी उस गौशाला में नहीं जाता।लेकिन मैं इन बातों को नहीं मानता था क्योंकि मैं शहर का रहने वाला लड़का था. फिर एक दिन अचानक उसका फोन आया कि वह मेरे ही शहर में एक दिन के लिए किसी काम से आ रही है. फिर मैंने रिप्लाई किया कि आज भी मेरे जैसे बहुत हैं, जो बिना गर्लफ्रेंड के रहते हैं.

बाप ने अपनी बड़ी बेटी सरिता की चूत में 20-25 बार उंगली से चुदाई की, तो वह एकदम से मस्त होकर बोली- हाय पापा!बाप ने अपने अंगूठे को पक्क से बाहर किया, तो सरिता झुक कर अपनी चूत देख कर बोली- रस निकला पापा?छोटी वाली नीना, जो मेरी सहेली थी, जल्दी से खड़ी हुई और अपनी काली रानों के बीच की अपनी काली चूत पर हाथ रखकर बोली- इसका हो गया पापा, अब मुझको मज़ा दीजिए. मैं बेसब्री से इंतज़ार कर रहा था, मेरा तो लंड उसे देख कर बेकाबू हो गया और मेरी हालत काम रोग से ग्रस्त हो गयी. विशाल के शब्द:मित्रो, मैंने अपनी बहन के साथ हजारों बार सेक्स किया, लेकिन उससे मेरा मन कभी नहीं भरा.

दूसरे हाथ से भैया ने मेरा एक हाथ पकड़ कर अपने लंड पे रख दिया और उसे आगे पीछे करने का इशारा किया. नीचे से वह भी अपनी गांड को उकसा कर मेरा साथ देने की पूरी कोशिश कर रही थी.

मैंने कभी उसके साथ पहले ऐसी बातें नहीं की थीं, तो मैं भी शर्मा रही थी.

अगले दिन फिर रीना सुबह साढ़े ग्यारह बजे आ गयी, मैंने उसे अपनी बाइक पे बिठाया.

वे दोनों मुझे दिखा कर किस करने लगे और सुमेर उसके बूब्स दबाने लगा और पारो उसके लण्ड को सहलाने लग गयी. दोस्तों बस चुत एक बार मिलते ही मेरा सारा डर दूर हो गया और ऊपर वाला भी मेहरबान हो गया था, जहां चुत लेने की कोशिश की, वहां कभी निराश नहीं हुआ. हम दोनों को इतनी अधिक थकान हो गई थी कि इसी नंगी हालत में कब नींद आ गई, कुछ पता ही नहीं चला.

एक बार तो मैं अपने कमरे की तरफ बढ़ा लेकिन फिर सोचा कि अगर सुमिना को ये पता चल गया कि मैं आज कॉलेज से जल्दी घर आ गया हूँ तो उसको कहीं ये शक न हो जाये कि मैंने उसको काजल के भाई कुणाल के साथ चुदाई करते हुए देख लिया हो. पीछे से गांड में लंड गया और आगे से अजय ने मेरी चूत में एक साथ लंड डाल दिए. जहां पेपर देने जाना था, वहां से ही थोड़ी दूर पर मेरे दोस्त की गर्लफ्रेंड एक हॉस्टल में रहती थी.

मेरे फ़ोन पर बैंक में सम्पर्क करने के लिए मैसेज आया, इसलिए मैं बैंक गई.

राधिका- कैसी हो मेरी प्यारी बहना, ज्यादा दर्द तो नहीं हो रहा, कैसा लगा अपने जीजाजी का लंड?दिशा सोनल के पास बैठकर बोली- जीजाजी का लंड बिल्कुल घोड़े जितना बड़ा है, ऐसे चोदकर हमारी बजा दी, मानो हम उसकी रखैल हों. मैं उसकी चूत के दाने को चूसने लगा, जिससे वो और ज्यादा चुदासी हो गई. मैं बिस्तर पे उल्टा लेट गया और वो बड़े ही प्यार से मेरी कमर दबाने लगे और मुझे गुदगुदी करने लगे.

एक दिन मेरे से रहा नहीं गया, तो मैंने स्वाति को अपने दिल की बात बताई. मैंने दरवाजा हल्का सा ढाल दिया ताकि किसी को बाहर से कुछ दिखाई न दे. जब लड़की के शरीर में उभार आना शुरू होता है तब से ही उसको कुछ अजीब सा महसूस होने लगता है.

निहारिका ने मुझे फोन किया और पूछने लगी- जानू, तुम मेले में जाओगे?मैंने हां कहा, तो निहारिका पूछने लगी- आज मैं क्या पहनूं?मैंने कहा- जिसमें तू बहुत सेक्सी लगे, वो पहन ले.

यह सुनकर मेरी खुशी का ठिकाना न रहा। मैं सोच रहा था मेरी गैरमोजूदगी में मेरी गीतू ने अपनी चूत का रस महेश को ही पिलाया होगा. मेरे मुँह से सिसकारियां निकल रही थीं और मैं ज़ोर ज़ोर से भाई को सुनाने के लिए बोलने लगी- आऽऽऽह, फ़क मी बेबी, उफ़्फ़ मुझे तुम्हारा लंड चूसना है … आह मेरी चूत लंड के लिए तड़प रही है … मेरी चूचियों से खेलो … मेरी प्यास बुझा दो … चोद दो मुझे … आऽऽऽह!कुछ तो अपनी चूत से खेलने और कुछ ये सब अपने भाई को दिखाने की सोच कर मैं बहुत गर्म हो रही थी.

मोटी औरतों का बीएफ वीडियो मैं दर्द से चिल्ला उठी- भोसड़ी के मार डाला मुझे, निकाल बाहर अपना लंड … मुझे नहीं चुदवाना है. मैं ऐसी फैमिली से हूँ, जिधर से बिना बुरके के बाहर जाने की इजाजत तक नहीं है.

मोटी औरतों का बीएफ वीडियो रोमांटिक गाने समाप्त होने में लगभग दस मिनट बाकी थे कि मैं बेडरूम में पहुंचा और लेट गया. लेकिन इतना जरूर था कि जीजा जी के साथ मेरी रंगरेलियों की शुरूआत तो यहाँ से हो ही चुकी थी.

रानी ने मुझे पकड़ के अपने ऊपर लिटा लिया और मेरा मुंह चूचुक से लगाने लगी.

हार्ड सेक्स विडिओ

फिर उन्होंने मेरी कुंवारी गांड की चुदाई चालू की और जब तक उनके गर्म लावा से मेरी गांड भर नहीं गई, तब तक मेरी गांड की चुदाई करते रहे. मैंने अपने होंठों को उसके होंठों पर रखा और उसके हाथ में अपना छह इंच का औजार थमा दिया. मैं काजल से चिपक गया और वापस उसकी एक चूची को मुँह में लेकर चूसने लगा.

वो सर में ढेर सारा तेल उड़ेल कर सारे बाल इस क़दर पीछे खींच कर चोटी करती थी कि … तौबा तौबा! माथे की सारी खाल दोनों भौहों समेत पीछे खिंच जाती थी. मेरी बात खत्म होने से पहले ही नम्रता घूम गयी और लंड के चारों तरफ जीभ फिरा कर अच्छे से लंड चाटने लगी. इसके बाद मैंने भाभी को अपने नीचे लिया और उसके एक मम्मे को अपने होंठों में दबा कर चूसने लगा.

थोड़ा सा खाना खाने के बाद मैंने जीजा से कहा- अब क्या करना है जीजा?जीजा बोले- अब सो जाते हैं और सुबह जल्दी उठ कर घर के लिए निकल जायेंगे.

मैंने एकदम से उनसे दूर जाना चाहा, पर उन्होंने मुझे कमर से पकड़ लिया. थोड़ी देर और हम ऐसे ही एक दूसरे को चूमते रहे और अब मेरे से रहा नहीं जा रहा था. गीतू के होंठों की लालिमा उसके शरीर की अग्नि को परिभाषित कर रही थी। मानो गीतू मुझसे कह रही हो कि प्रीतम आओ और मेरे शरीर की आग को अपने जिस्म में समा लो। गीतू की यौवन की आग बढ़ती जा रही थी.

… मुझे बहुत मज़ा आ रहा है … यू आर अ लवली सकर … आआह … आआह … बस करते रहो … आह रुकना नहीं. मैं उनसे छूटने की पूरी कोशिश कर रही थी मगर उनकी ताकत के सामने मैं कुछ भी नहीं थी. इतना बोल कर शायना बुआ नीचे बैठ कर मेरा लंड चूसने लगीं और दस मिनट तक ऐसे ही चूसती रहीं.

दो तीन दिन क्रेन का काम चलता रहा और हम लोगों का एक दूसरे को देखने का अपना खेल चालू रहा. महेश अक्सर ड्रिंक भी करता था और उसने बताया था कि उसकी बीवी भी साथ में ड्रिंक करती है.

उनके बाप की ये सुनकर मुझको भी चूत चुदवाने के शब्द से प्यार होता जा रहा था. अंदर रितेश जीजू मानसी की चूत को चोद रहे थे और मैं बाहर उनकी बीवी की गांड मार रहा था. थोड़ी देर में मैं भी चाची के मुँह में झड़ गया और चाची किसी रंडी की तरह मेरे लंड का पूरा माल पी गईं.

जैसे ही मैं उछलती, उसकी थोड़ी सी उंगली, जिसमें थूक लगा हुआ था, मेरी गांड में घुस जाती.

जिस वक़्त की ये बात है, उस वक़्त मैं इंजीनियरिंग कर रहा था और मेरी उम्र लगभग 25 साल होगी मतलब मेरी भतीजी मुझसे लगभग 7 साल छोटी थी. अब किस करते करते हमारी जीभ मिल गई और मैंने भाभी की चुत में उंगली डाल दी. मैंने झुक कर वसुन्धरा के बाएं पैर के अंगूठे और उंगली के बीच में एक चुम्बन ले लिया.

इसके बाद मैंने उसके होंठों पर किस किया और पूछा- क्या तुम्हारी सलवार भी निकाल दूँ?उसने मुझे चूमते हुए कहा- अब क्या दिक्कत है … निकाल ही दो बेबी. मैंने उसके हाथ को पकड़ लिया और खुद अपने सिर को उसकी फैली हुई टांगों के बीच रखकर अपनी निगाहों को उसकी चूत पर टिका दिया.

मैडम घर पहुँच चुकी थी और बरामदे में एक बेंत की आराम कुर्सी पर बैठी थी. इस बार चुदाई वाली पार्टी रखो, कोई लौंडिया हो, तो बुला लो, उसी के साथ दोनों भाई मस्त दारू पी पी कर रात भर चुदाई करेंगे. इससे पहले मैं उन सभी लोगों का शुक्रिया अदा करना चाहूँगा, जिन्होंने मेरी स्टोरीप्यासी भाबी निकली लंड की जुगाड़को पसंद किया.

जन्मदिन पर क्या गिफ्ट दें

तब तक आप भी अपने लंड को चूतों को रगड़-रगड़ कर शांत करने का प्रयास कीजिये.

नम्रता के ब्लाउज को मैंने बनियान की तरह ऊपर कर दिया, तो ब्लाउज में फंसी हुई उसकी चूचियां अपने तने हुए निप्पल के साथ बाहर आ गईं. ये मेरा पहला अवसर है इसलिए मुझसे कोई ग़लती हो जाए तो प्लीज़ माफ़ कर देना. मगर उसकी चूत मारना इतना आसान काम थोड़े ही था! उसके लिए तो पहले मुझे इस चुड़ैल का पता लगा कर उसको अपने काबू में करना था.

वो बोला- अब तू लाइन में आई है, फिर पहले इतना नाटक क्यों कर रही थी? चल तुझे मैं अब फुल मजे दे देता हूं. मैं उतावला हो रहा था तो सुमेर से बोला- भाई, गुलाबो कैसी दिखती है?सुमेर बोला- थोड़ा सब्र रख … सुंदर है. चोदने वाला बीएफ भोजपुरीनिक मेरे से थोड़ा ही दूर आ कर बैठ गया और पूरे समय मुझे ही ताड़ता रहा था.

उसके बड़े बड़े मम्मे और पिंक निप्पल उसकी खूबसूरती में चार चाँद लगा रहे थे. चूंकि उसने घुटने मोड़े हुए थे इसलिए मैं उसकी साड़ी को घुटनों तक ही ऊपर कर पाया मगर बाकी का आधा काम उसकी जांघों के खुद के भार ने कर दिया और उसकी नंगी जांघें मेरे हाथों में आकर भर गयीं.

बाप- हां तुम्हारी तो बिना तेल के चुद जाएगी, पर इसकी चूत में तो तेल लगाकर ही चुदवाना होगा. ”हमारी डॉक्टर ऐसे नहीं देखती, सब खोलिए … पूरी नँगी!”ऐसे तो कहीं नहीं होता?”जल्दी करिए नहीं तो मैं करूँगी. फिर अंकल जी नीचे कालीन पर बैठ गए और मेरे दोनों पांव उठा कर अपने सीने से लगा उन्हें चूमने लगे.

मैंने भाभी को बेड के एक कोने पर ले गया और उसके दोनों पेर ऊपर कर दिए. दोपहर का खाना खाने के बाद ताऊ जी घर की छत पर बने ऊपर वाले कमरे में आराम कर रहे थे. सच कहूं … तो दोस्तों चुदाई से ज्यादा मज़ा इस सब चुसाई और चटाई में आता है.

मैं हमेशा अपनी फैंटेसी में सोचती थी कि गैंगबैंग में मेरी गांड चूत को एक साथ दो लंड मिलकर चोदें.

मैं- ये लो मामी … अपने भांजे का लंड अपनी गर्म चुत में खा लो … बहुत मजा आ रहा है … आह आपकी चुत बहुत गर्म है मामी!मैं तेज झटके देने लगा … जिससे मामी को और मजा आने लगा. लेकिन इसमें मेरी कोई गलती भी नहीं थी क्योंकि मेरी दीदी की फीगर और उसकी खूबसूरती को देख कर कोई भी उस पर लट्टू हो जाये.

कुछ देर हम ऐसे ही नंगी चूत और लंड के मिलन के साथ रजाई में लेटे रहे. मगर वो कामुक पल ज्यादा देर तक ठहरा नहीं क्योंकि आंटी ने मुझे पीछे कर दिया, आंटी बोली- लल्लू, जरा संभल कर खड़ा हो!फिर मैं मशीन में कपड़े डालने लगा तो आंटी मेरे पीछे आकर खड़ी हो गई।मेरा लंड तो आंटी की गांड छूते ही तन कर उछल-कूद करने लगा था. ऐसे में अपने परिवार को यहाँ रखना क्या ठीक रहेगा?मैं बोली- तो तुम्हारा मन नहीं करता क्या ये सब देख कर?क्या मेमसाब?” उसने हिचकिचाते हुए बोला.

जैसे ही मैं उसकी इच्छा से ज़्यादा तेज़ झटके देता तो वो मेरी कमर से लिपटी टांगों को टाइट कर लेती और मैं फिर अपनी रफ़्तार घटा लेता. उन कहानियों को पढ़कर मेरे दिल में आया कि मैं भी अपनी रियल सेक्स स्टोरी आप लोगों के साथ शेयर करूं. वह बार-बार अपनी गर्दन उठा कर मेरे होंठों को चूस कर वापस से चुदाई का मजा लेने लगती थी.

मोटी औरतों का बीएफ वीडियो अब मैंने पीछे से उसके दोनों मम्मों को अपने हाथों से पकड़ लिया और जोर जोर से दबाने लगा. यह बात बहुत साल पहले की है, उस वक्त मुझे सेक्स के बारे में भी कुछ नहीं पता था, लेकिन सेक्स के मज़े से में ज्यादा दिनों तक अंजान ना रह सका.

पौधों की दवा

उनके पीहर के परिवार में किसी की मृत्यु हो जाने के कारण आंटी भी बाहर चली गईं. मेरी तरफ़ से ग्रीन सिग्नल मिलते ही भाई ने मुझे दीवार से लगा दिया और पागलों की तरह मेरे होंठों को चूसने लगा. मेरी उंगली लेने में स्वीटी को दिक्कत हुई … उसकी चीख निकल गई उम्म्ह… अहह… हय… याह… मतलब स्वीटी पहली बार चुदने जा रही थी, वो बिल्कुल सीलपैक माल थी.

मैं दिलिया की चुची पर जानवरों की तरह टूट पड़ा। उसके चूचुक जिन्हें आज तक किसी ने नहीं छुआ था, अब मैं उसके दायें निप्पल को चूस रहा था और काट रहा था। फिर मैंने उसके बायें स्तन को भी फूल हटा कर नंगा कर दिया निप्पल को चूसा और काटा! उसके स्तन एकदम फूल कर सख्त हो गए थे और निप्पल भी कठोर हो ऊपर को तन गए थे।दिलिया समझ गयी कि अब उसकी चूत की बारी है. इस पर मनीषा भड़क गई और उसने जागृति के हाथ से रिमोट दोबारा छीनने की कोशिश की. सेक्सी सेक्सी सेक्सी बीएफ बीएफ सेक्सीजब मामी का ध्यान बंटा, तब मैंने जोर का झटका दिया, जिससे मामी की चीख निकल गई- आहहहह आहहह … मर गई …मेरा आधा लंड मामी की चुत में चला गया.

जितनी प्यासी मेरी बहन थी उतनी ही प्यास मेरे अंदर भी लगी हुई थी उसकी चूत को चोदने की.

दोस्तो, अन्तर्वासना पर ये मेरी पहली कहानी है, आप लोगों को ये कहानी कैसी लगी. मैं आशा करता हूँ कि आपको मेरी और बहुत ही सुंदर भाभी से साथ की यह मस्त सेक्स कहानी बहुत पसंद आएगी.

मेरे लाए नई ब्रा और पैन्टी सैट पहनकर काजल आज एक अप्सरा से भी ज्यादा खूबसूरत और सेक्सी लग रही थी. सेक्स (एक तरह का जंगली वाईल्ड सेक्स) करना चाहती थी। वो मुझसे बोली- मैं तुमसे तुम्हारी निजी रखैल बनकर चुदना चाहती हूँ।मैं बोला- वह तो ठीक है लेकिन मम्मी-पापा के रहते ये नहीं होने वाला।वो उदास हो गयी. उस दिन हम दोनों फिटनेस सेंटर नहीं गए और जूस पी कर बाइक पे कुछ देर घूमते रहे … फिर मैंने उनको घर छोड़ दिया, जिधर से वे कार से अपनी सास को लेने चली गईं.

उसके बाथरूम के अन्दर जाते ही वो दूसरी वाली मुझे देख कर मुस्कुराई और मुक्के से मारने का इशारा किया.

मैं बेकरार हो रहा था लेकिन आंटी की बेकरारी का इन्तजार कर रहा था जो जल्दी ही खत्म हो गया. तभी उसने मुझे बेड पर उल्टा लेटा दिया और मेरी गांड पर हाथ फेरने लगा. मम्मी ने मामा के साथ जाने के लिए हां कर दी और मैं मम्मी के साथ मामा के घर चली गयी.

आफ्रिका बीएफअंकल जी, अब जल्दी करो जो करना हो … नहीं तो घर पहुँचने में देर हो जायेगी तो मम्मी गुस्सा होंगी. फिर उन्होंने मेरी कुंवारी गांड की चुदाई चालू की और जब तक उनके गर्म लावा से मेरी गांड भर नहीं गई, तब तक मेरी गांड की चुदाई करते रहे.

દેશી લેડી

रात को उसी की पायल की आवाज आती है और इसीलिये रात में कोई भी उस गौशाला में नहीं जाता।लेकिन मैं इन बातों को नहीं मानता था क्योंकि मैं शहर का रहने वाला लड़का था. उसने मेरी पेंटी निकाल दी और मुझे बिस्तर पर चित्त लिटा कर मेरी चूत को चाटने लगा. मैं समझ गया कि मौसी का दर्द अब कम हो गया है और मौसी अब तैयार है दूसरे झटके के लिए.

मेरे प्यारे पाठको, मैं सविता सिंह फिर से आपके लिए एक नई सेक्स स्टोरी लेकर आयी हूँ. मैंने पास पड़ी एक टेबिल को देखा, जिस पर मैं नम्रता को लेटाकर आसानी से चोद सकता था. फिर अंकल जी ने मेरी यूनिफोर्म की सफ़ेद सलवार का नाड़ा खोल दिया और उसे उतारने लगे तो मैंने उनका हाथ पकड़ कर उन्हें रोकने का दिखावा किया.

काजल का भाई कुणाल! उसका 7 इंच का लम्बा लंड उसकी जांघों के बीच में तन कर दायें-बायें झूलता हुआ उसकी जांघों से टकरा रहा था. अपने बैग से मैंने अपना व्हिस्की का हाफ निकाला और सीधे बोतल से नीट दारू खींच ली. इस बार मैंने एक जोरदार धक्के के साथ उसकी गांड में पूरा लंड डाल दिया.

दोस्तो, आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी? अगर कहानी आपको पसंद आई हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताना. मैं दिल्ली में अपनी मौसी के घर रहता हूँ क्योंकि मेरे मम्मी पापा एक्सिडेंट में एक्सपायर हो गए.

उसके बाद हल्का सा शावर लेकर गीले बदन ही अपने बिस्तर पर पहुंचे। वीणा आकर मेरे सीने से चिपक गई और हल्की सी मुस्कुराहट के साथ आंखें बंद करके सो गई.

उस दिन हम दोनों फिटनेस सेंटर नहीं गए और जूस पी कर बाइक पे कुछ देर घूमते रहे … फिर मैंने उनको घर छोड़ दिया, जिधर से वे कार से अपनी सास को लेने चली गईं. फुल एचडी अंग्रेजी बीएफकरीब 15 मिनट की खूब चूमा-चाटी के बाद उसने मेरी साड़ी खींच कर उतार दी, फिर ब्लाउस के ऊपर से ही मेरे मम्मे दबाने चालू कर दिये. इंग्लिश बीएफ इंग्लिश बीएफ चुदाईभाभी उसको वहां से उठाते हुए किसी काम के बहाने से कमरे से बाहर लेकर चली गई. मोनी के नजदीक पहुँच कर मैं कुछ देर तो ऐसे ही लेटा रहा, फिर नींद का सा बहाना करके मैं आज फिर से उसके पीछे चिपक गया। मोनी ने अपना‌ मुँह दूसरी तरफ किया हुआ था इसलिये मेरा उत्तेजित लंड आज भी उसके नितम्बों पर लग गया था.

मैंने भी उसी कपड़े से अपना लंड साफ किया और हम दोनों ने अपने कपड़े ठीक किए.

उसी बीच एक कर्मचारी हमारे पास आया और वो मेरे पास आकर बोला- आपका फोन 3 घंटे बाद मिल जाएगा. मैं उसके पैरों पर अच्छे से मालिश करते हुए उसकी जांघों को चूमने लगा. राधिका- कैसी हो मेरी प्यारी बहना, ज्यादा दर्द तो नहीं हो रहा, कैसा लगा अपने जीजाजी का लंड?दिशा सोनल के पास बैठकर बोली- जीजाजी का लंड बिल्कुल घोड़े जितना बड़ा है, ऐसे चोदकर हमारी बजा दी, मानो हम उसकी रखैल हों.

महेश ने मुझसे क़हा कि उसकी फैमिली मुझको थैंक्स कहना चाहती है, इसके लिए मैं अपनी बीवी को लेकर आज रात उसके घर डिनर पर आऊं. एक दिन अनुषी का फोन आया कि कल मेरे पति व ससुर सास तीनों देवर के लिए कल सुबह यूपी में लड़की देखने जाएंगे, लगभग दो दिन में आएंगे. मैं आपसे सम्मोहित हो चुका हूं।विक्रम ने रीना की गांड को पकड़कर उसे उल्टा किया तथा रीना को स्तनों के बल लेटा कर पीछे आया और लगभग डॉगी स्टाइल में ही रीना को फिर से तैयार किया.

मोनालिसा की सेक्सी वीडियो

नम्रता बोली- यार, तुम्हारी गांड कितनी टाईट है, मेरी उंगली तुम्हारी गांड के अन्दर जा ही नहीं रही है. मैंने पीछे से उनकी चूत में लंड डाल दिया और काफी देर चोदने के बाद खुद को चरम पर आता हुआ महसूस किया तो मैंने आंटी से कहा- मेरा निकलने वाला है. मेरे लिए ये पोजीशन बहुत ही आरामदायक थी, क्योंकि मौसी अपनी दोनों टांगों को मोड़ कर मेज़ के एकदम किनारे पर बैठी थीं और मैं जमीन के सहारे सीधा खड़ा होकर धक्के लगा रहा था.

उसका यौवन और ज्यादा निखरने लगा था लेकिन जवानी का असली रंग तो लंड लेने के बाद ही चढ़ना शुरू होता है.

मेरी पिछली कहानियां पढ़ कर मुझे बहुत से मेल आये … बहुत से बोले तो कुल 1700 से एक दो ज्यादा ही.

अधिकतर तो तारीफ़ भरे थे तो थैंक्यू बोलने के सिवा और कुछ कहने लायक नहीं था. बाप ने अपनी बड़ी बेटी सरिता की चूत में 20-25 बार उंगली से चुदाई की, तो वह एकदम से मस्त होकर बोली- हाय पापा!बाप ने अपने अंगूठे को पक्क से बाहर किया, तो सरिता झुक कर अपनी चूत देख कर बोली- रस निकला पापा?छोटी वाली नीना, जो मेरी सहेली थी, जल्दी से खड़ी हुई और अपनी काली रानों के बीच की अपनी काली चूत पर हाथ रखकर बोली- इसका हो गया पापा, अब मुझको मज़ा दीजिए. बीएफ हिंदी सेक्सी चूतमैंने वैसा ही किया फिर उसने मुझे गोद में उठा कर अपनी कमर से लटका लिया.

दीदी बोली- क्या कर रहे हो?मैंने कहा- दीदी, अब तो घर में भी कोई नहीं है. मैं- अंकल, आपसे एक बात कहूँ, आप बुरा तो नहीं मानोगे?अंकल- नहीं उस्मान … बोलो क्या बात है?मैं- अंकल, आपको मेरी अम्मी कैसे लगती हैं. अब मैं चाची की चूत को चाटने लगा और चूत के ऊपर के दाने को हल्का हल्का काटने लगा.

लंड को उसकी गांड में पिरोया और तेल की शीशी से तेल टपकाना शुरू कर दिया. महेश की बीवी कोई और नहीं बल्कि अनामिका थी, जो मेरे साथ स्कूल में पढ़ती थी.

वो भी बेबाक हो कर बोली- वो चीज क्या … साफ़ बोलिए न?मैंने कहा- छोड़ … तू नहीं समझेगी, तू अभी छोटी है.

मुझे ऐसा प्रतीत हो रहा था, जैसे उसके होंठों से लग के वाइन और भी नशीली हो गयी थी. भाबी दर्द से चीख उठीं- हाय मैं मर गई माँ …मैंने फ़ौरन से भाबी का मुँह दबा दिया और ताबड़तोड़ ऐसे कई झटके उनकी गांड पर लगाता चला गया, जिससे कि भाबी की गांड को गड्डा बन गया. थोड़ी देर बाद वो बेलन का हैंडल उनकी चुत के अन्दर चला गया और और उसी के साथ माँ की सांसें तेज हो गईं.

ब्लू पिक्चर चोदा चोदी वाला बीएफ उसने मुझे अपने दोनों हाथों से ज़ोर से दबाया और मुझे बिस्तर पर गिरा दिया. उसकी हालत देख कर मैं समझ गया था कि उसका पति शायद उसकी ऐसी चुदाई नहीं करता होगा.

उसने मुझे गाली देते सुना तो उसने मुझे भी गाली देते हुए बिस्तर लाके पटक दिया और मेरी टांगें फाड़ते हुए लंड सैट किया. फिर उसने जवाब दिया- आपकी चॉइस एकदम परफेक्ट है, आपकी लाई हुई ब्रा पैन्टी, इनको पहनने के बाद मैं कल से न जाने कितनी बार आईने में खुद को देखकर अपने आपको एक मॉडल जैसा महसूस कर रही हूँ. इसमें बदनामी भी नहीं है और किसी प्रकार की चिंता भी नहीं रहेगी और धोखे का तो फिर सवाल ही नहीं उठता।4.

राजस्थानी चारपाई डिजाइन

उन्होंने मना कर दिया क्यूँकि वो भगवान को नहीं मानती थी और मैं भी नहीं मानता हूँ।इसी तरह हमारी थोड़ी देर बहस हुई लेकिन आखिर मैं उनकी बात को मान गया और हम होटल में रूम लेने गए लेकिन वहाँ पर कोई भी ढंग का होटल मुझे समझ नहीं आया. छोटी बहन मानसी ने दो महीने पहले ही मीडिया में काम करना शुरू किया है।मैं और मानसी अहमदाबाद (गुजरात) में रहते हैं. सच कहूँ तो मेरी भी हालत खराब थी, मैं भी जल्दी से मौसी को चोदना चाहता था, पर चोदने से पहले मैं मौसी को इतना तड़पाना चाहता था कि मौसी खुद बोल उठें कि चोद मुझे और आगे भी मेरा लंड लेने के लिए तैयार रहे.

मुझे पूरा यकीन था कि प्रिया मेरा टांका मनमीता के साथ फिट करवा देगी. वो जानता था कि इससे अच्छा मौका मुझे शायद ही फिर मिलेगा, सो वो ज़िद करके निकल गया.

वह अपनी गांड को बार-बार मेरे लंड की तरफ पीछे धकेल रही थी और मेरे अंडरवियर में तना हुआ मेरा लंड उसकी गांड में घुसने की कोशिश कर रहा था.

कुछ टाइम के लिए मैं फिर से रुक गया और मौसी की हालत ठीक होने का इंतजार करने लगा. ये कहकर वो नीचे की तरफ सरक गयी, क्योंकि उसने पूरी कोशिश की कि मेरी गांड में वो उंगली कर सके, लेकिन लम्बाई कम होने के कारण कर नहीं पा रही थी. प्रिया की शादी के बहुत दिन बाद तक मैं अनमना सा रहा लेकिन धीरे-धीरे हमारी जिंदगी भी अपने ढर्रे पर वापिस लौट आयी.

वो नीचे से मेरी टांगों की तरफ आई और उसने मेरी जीन्स का बटन खोल कर जीन्स ओर अंडरवियरएक साथ नीचे कर दी. तभी अंकल ने एक तेज धक्का मार दिया और अपना पूरा लंड मेरी चुत में पेल दिया. लेकिन लंड में वासना का जोश भर हुआ था जो हर पल मुझे और आगे बढ़ने के लिए उकसा रहा था.

उसको पता नहीं क्या हुआ कि कहते-कहते वो रोने लगी कि उसके पति उसको टाइम ही नहीं देते हैं.

मोटी औरतों का बीएफ वीडियो: सोनल- भाई अगर आप दोनों की चुदाई का खेल हो गया हो, तो नाश्ता तैयार है. फिर मैंने उसका लंड बाहर निकाला और किस करके कहा- मुझे मुख में लंड लेना बहुत पसंद है.

अगर आपका रेस्पोन्स अच्छा रहा तो मैं आपके साथ अपनी और भी कई सारी आपबीती शेयर करना चाहूंगा. मैंने अपनी दो उंगलियां उनकी बुर में डालीं और उनको अपनी गोद में लिटा लिया. वो चॉकलेट मेरी चूत में लगाकर मेरी चूत को चाटने लगा जिससे मैं उत्तेजित होने लगी.

वो बोली- ओके फिर आज क्या हुआ?मैंने उसे सब बता दिया कि अंकल ने किस किया, मम्मों को दबाया … वगैरह वगैरह.

उनके करीब जाकर मैं बोली- हां अंकल बोलो क्या हुआ … और आंटी कहां गई हैं?अंकल बोले- बेटा वो पास में सिलाई के कपड़े डालने गई हैं. उसके बाद ससुराल वालों ने मुझे पैसों के लिए परेशान करना शुरू कर दिया. उसके कोमल हाथ जब मेरे सीने पर पड़े हुए तेल को लगाने के लिए चलने लगे, एक अलग ही आनन्द की अनुभूति होने लगी.