हिंदी में हिंदी में बीएफ हिंदी में बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी फिल्म दिखाएं एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ नंगी लड़कियां: हिंदी में हिंदी में बीएफ हिंदी में बीएफ, मेरी हाइट पांच फीट नौ इंच है और मेरे लंड का साइज़ 6″ लम्बा और 2″ मोटा है.

बेवफाई गाना पवन सिंह के

मेरे लिए बच्चों द्वारा अपनी मम्मियों को नंगी देखना कोई बड़ी बात नहीं थी. dlb परिणाम 2016यह सुनते ही जीजू बोले- यार, ऐसी हूर के लिए अगर मुझे मेरी बीवी तो क्या … अगर मेरी बहन को भी किसी के साथ शेयर भी करना पड़े, तो मुझे कोई आपत्ति नहीं है.

मैंने अपने होंठ आनंद के कारण उसके मुंह में दे दिए।फिर हम कुछ देर के लिए फिर से एक दूसरे से चिपके रहे।उसने कुछ देर बाद मुझसे कहा- भाभी जी, मुझे आपकी गांड मारनी है, प्लीज मना मत करना!मैंने उससे कहा- देखो, मैंने आज तक ऐसा नहीं करवाया है. सेक्सी वाली सेक्सी फिल्मकेवल इतना ही कह सकी कि मेरी बेबकूफी ने तो मेरे हंसते खेलते परिवार में जहर घोल दिया.

गिन्नी के चूतड़ों के नीचे तकिया रखकर मैंने गिन्नी की चूत ऊंची कर दी.हिंदी में हिंदी में बीएफ हिंदी में बीएफ: मेरी चुत पर हाथ फेरते फेरते वो मेरे चेहरे को सामने से बड़ी वासना से देख रहा था.

कभी कभी जानबूझ कर मैं अपनी चूत को उनके लौड़े से सटा देती, तो देखती कि साहब के लंड में कड़ापन आ जाता था.उन्होंने मेरी नाइटी ऊपर कर दोनों हाथ पकड़ अपना लंड धोती से निकाला और मेरी चूत में एक झटके में ही पेल दिया.

सेक्स movie - हिंदी में हिंदी में बीएफ हिंदी में बीएफ

मैं बोला- भाभी आप चिंता मत करो, किसी को भनक भी नहीं लगेगी हमारे प्यार के बारे में.उधर मनीषा भाभी ने भी अपने एक हाथ से लोअर के ऊपर से ही मेरा लंड पकड़ लिया.

मैं ख्यालों में अक्सर अपनी बीवी को किसी गैर मर्द से चुदते हुए देखने लगा था. हिंदी में हिंदी में बीएफ हिंदी में बीएफ वो उठ कर बाहर चला गया और मैंने एक रूमाल से अपनी चुत साफ की और कपड़े पहन कर बाहर आ गई.

अन्दर ब्रा पहनी हुई नहीं थी, उसकी गोलाइयां एकदम बड़ी साइज़ में ऊपर को ओर उठी हुई थीं.

हिंदी में हिंदी में बीएफ हिंदी में बीएफ?

”मंगलवार रात को सुधीर चला गया तो बुधवार दिन में हम लोग स्मोकिंग का आनंद लेते रहे और व्हिस्की के साथ स्नैक्स फाइनल किये. यह साइट समाज में प्रैशरकुकर में सेफ्टी-वॉल्व जैसा कार्य अंजाम देती है. मुझे बाजार घूमने का मौका भी मिल जाता और भाभी को देखने का अवसर भी मिल जाता.

अगले ही पल मैं चाची की चुत में ताबड़तोड़ धक्के लगाने लगा, जिस कारण थोड़ी देर में चाची का कामरस मेरे लंड पर आ गया और चाची का काम उठ गया. आप सभी गैस करके मुझे मेल करके जरूर बताना कि इस कहानी के अगले भाग में क्या होने वाला है. बातों ही बातों में मुझे ये पहली बार पता लगा कि उसका पति उससे 9 साल बड़ा है.

फिर मैंने पाइप का एक सिरा थोड़ा गीला किया और भाभी की गांड में धीरे धीरे डालना चालू कर दिया लगभग 3 इंच अंदर चला गया होगा और और दूसरा सिरा नल की टोटी में लगा दिया।भाभी बोली- सचिन, क्या कर रहे हो? कुछ तो बताओ?मैंने भाभी की बात का कुछ जवाब नहीं दिया और नल चालू कर दिया. उनके छूने से मुझे गुदगुदी होने लगी, इसलिए मैंने उनका हाथ पकड़ कर हटा दिया. मैं बोली- मैं यहां से तेरी मॉम को तेरे लिए पटाती हूँ … वहां तू भी थोड़ा उनको इंप्रेस कर और तुझसे जैसा मैं बोलूं, वैसा किया कर.

मैं आप लोगों को बता नहीं सकता कि मुझे गांड मराने में कितना मजा आ रहा था. और तू जब तक यहाँ है, अपने बाप से मजे लेती रह! मेरा क्या है मैं तो यहीं हूँ न।मैंने कहा- भाभी सुनो, बाऊजी तो बहुत स्ट्रांग हैं.

तो अम्मी बोलीं- वो कुछ भी हो … तुम मेरे बेटे हो … तुम्हारे और मेरे बीच कुछ भी नहीं हो सकता … तुम यहां से जाओ.

थोड़ी देर बाद ही मोहित ने पूजा की शर्ट के बटन खोल दिये और उसकी शर्ट निकाल दी.

मैंने चाची को कहा- तैयार हो जाओ, अब मैं तेरी चुत का भोसड़ा बनाता हूँ. ऐसा करने से बहू एकदम जोर से चीख पड़ी- पापा मुझे छोड़ो!उसकी आवाज कहीं पड़ोस में नहीं चली जाए, उससे पहले दोनों नितम्बों के पीछे एक हाथ से उसे साधे रखा … क्योंकि वो लम्बाई में मेरे से ठिगनी थी. ज़ेबा ने जैसे ही बाथरूम के दरवाजे को नॉक किया, मैंने दरवाजे ओपन कर दिया.

कुछ देर ऐेसे ही मेरे दोनों बूब्स को छेड़ने और चाटने के बाद उसने मेरे बूब्स को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. तुझे जितनी ज्यादा तकलीफ होगी मुझे उतना ही ज्यादा मज़ा आएगा।ये कह कर रमेश ने रिया की गांड में थूक दिया और अपनी दो उंगलियों से रिया की गांड के छेद को ढीला करने लगा. ये बोल कर वो ड्रेस लेकर बाथरूम में जाने लगी, तो मैं बोला कि यहीं मेरे सामने बदल लो.

वहां रिंकी नीचे झुकी हुई थी और उसके हाथ सुनील के लंड से खेल रहे थे.

स्नेहा भाभी को चोदा कैसे मैंने? चुत चुदाई की कहानी का अगला भाग आपके सामने कल पेश करूंगा. जब राज आलिया को धनाधन चोद रहा था और वो चिल्ला रही थी, तब मुझे अन्दर से थोड़ा डर लग रहा था कि इससे चुदकर मेरा क्या हाल होगा. मौसी- चुपकर … क्या बोले जा रहा है, पागल हो गया है क्या?मैं- हां आपके हॉट लुक ने मुझे पागल कर दिया है मौसी.

‘ठीक ही ट्राई तो करते हैं … दर्द होगा तो कुछ और कर लेंगे … इतना तो ट्रस्ट है न मुझ पर कि मैं कुछ जबरदस्ती नहीं करूंगा … चल अभी पीते हैं पहले!’उन्होंने गिलास में वाइन डाली और आधे से ज्यादा खाली करके बाकी का मेरी तरफ बढ़ा दिया. ”आज तो तेरे टॉप में हाथ डाल दियामैंने!”नहीं सर … मैंने अंदर कुछ नहीं पहना. भाभी- और सुनो … मैंने अपने घर पर ये बोला है कि मेरे फ्रेंड की शादी है और मैं रात को वहीं रुकूँगी.

मैंने ही उसको भाव नहीं दे रखा, आप बोलो तो?विक्रम- अरे हाँ हाँ … एकदम सही, यही सही रहेगा, कोशिश करो.

शीला घूमी और जैसा उसने एक दिन पहले देखा था, उसने अपने होंठ अरविन्द के होंठ से मिला दिए और एक हाथ उसके तौलिये के अंदर कर दिया. अब तक गंभीर अंदाज में ही रहने वाली आंचल आज कैसे नटखट हरकतों पर उतर आई थी, ये समझ से परे था.

हिंदी में हिंदी में बीएफ हिंदी में बीएफ समय आने पर आशा ने एक बेटे को जन्म दिया जो मेरा बेटा भी है और मेरा भांजा भी. मैंने सोनम का हाथ अपने लंड पर लगवा दिया और वो मेरे लंड को पकड़ कर सहलाने लगी.

हिंदी में हिंदी में बीएफ हिंदी में बीएफ दोस्तो, मैं राकेश अपनी नयी सेक्स कहानी आप सबके साथ शेयर करने जा रहा हूँ. वो मेरे लंड के तगड़े झटकों को बर्दाश्त नहीं कर पाईं और चिल्लाने लगीं- साले मादरचोद … धीरे चोद.

जैसे कि मैं यानि राजवीर तुम्हारी बीवी रकुल को चोदने जाऊंगा तो वो भी मुझसे बिल्कुल अन्जान है.

सऊदी का सेक्सी पिक्चर

दोस्तो, इस मस्त सेक्स कहानी को अगले भाग में पूरे विस्तार से लिख कर आपके नीचे वाले आइटम गर्म करूंगा. वो बोली- कौन सी वायग्रा खाई तूने कि इतनी चुदाई के बाद भी तेरा लंड टाइट है. मैं नाटक करते हुए बोली- जीजू आपने ये क्या कर दिया … छोड़ो मुझे, आप सचमुच पागल हो गए हो.

ससुर कहने लगे- मैंने अब तक कभी किसी से लंड नहीं चुसवाया, बस ब्लू फिल्म में ही देखता था. वासना में उत्तेजित हुई दीपिका ने एकदम पोजीशन बदली और उसने बैठे बैठे अपने दोनों घुटनों को चौड़ा करके मेरे दोनों पटों के बाहर से कर लिया और अपनी चूत को मेरे उल्टे मुड़े लौड़े पर टिका कर बैठ गई. उन्होंने कहा- रमा तो फिर आज ये शर्म क्यों?मेरे पास कोई जवाब नहीं था उनकी बातों का।अब चुपचाप पड़ी रह … मेरा मूड बना हुआ है!”और फिर बाबूजी ने मेरे गालों पर हल्के से दांतों से काटा.

मैंने अपना काम चालू रखा और उसकी चुत में उंगली डाल दी, वो गांड उछालने लगी.

बेबी रानी उसके पीछे सेट हो गई, अपने पंजे पीछे से ही गुड्डी रानी के चूचों पर जमा दिए और बड़ी उत्तेजित आवाज़ में बोली- ले कमीनी तू इसका लौड़ा चूस, मैं तेरी जीभ से गांड मारती हूँ. मैंने उनके बेटे का जिक्र सुना तो चौंकते हुए कहा- आपका बेटा कहां है?उन्होंने जवाब में कहा- वो गुजरात में जॉब करता है. कोमल ने भी अपनी टांगें पूरी तरह खोलते हुए चुत को लंड के दरबार में पेश कर दिया.

मम्मी पापा के जाते ही भाई ने मुझे पैसे दिए- जा एक बोतल शराब की, चिकन और अपने नशे के लिए जुगाड़ ले आ. जैसे दो गुलाबी ठोस स्तूप आपस में जुड़े हुए सिर ताने खड़े थे, उसकी चोटी पर हल्के कत्थई रंग का घेरा था जिनके बीच में किशमिश के जैसे निप्पलस थे. मेरा अनुभव कहता है कि उसने चार पांच रोज पहले चूत के बाल साफ किये होंगे.

मौसी- सही कह रही हूं; मुझे दिखा और क्या क्या कर सकता है तू!मेरी मौसी मुझसे हाइट में थोड़ी छोटी हैं. ऑफिस का काम करते करते थक गया, तो छत पर फ्रेश हवा लेने जैसी ही बाहर निकला.

दोनों के नंगे जिस्म आपस में रगड़ खा रहे थे और उन दोनों के लण्ड भी एक दूसरे को ठोकर दे रहे थे. कोमल और में फिर एक दूसरे के आंखों में देखने लगे और फिर एक दूसरे के नजदीक आकर होंठों को चूमने लगे. दोस्तो, आप सभी कैसे हो? आप लोगों ने मेरी पिछली कहानीगर्लफ्रेंड की गांड की पहली चुदाईको बहुत प्यार दिया.

चूंकि नाटकों में उन्होंने काम किया था तो उनके बात करने के अंदाज में भी वो शैली झलकती थी.

मनु ने जाते-जाते कहा- रुको सालियों, जब तुम्हारी बारी आएगी … तब मैं बताऊंगी कि पिटाई कैसे करते हैं. उन्होंने मेरी चूचियों को भींच कर मुझे जकड़ लिया और नीचे से अपनी गांड को आगे पीछे चलाने लगे. राइडिंग करने वाली पोजीशन में मुझे मजा आने लगा क्योंकि मेरे बूब्स वे नीचे से चूस रहे थे और अपनी उंगलियां मेरे चूतड़ों पर फिरा रहे थे.

बस फिर क्या था … मैंने उसकी ब्रा को निकाल दिया और उसके एक निप्पल को अपने मुँह में दबा लिया. मुझे भी बहुत मजा आ रहा था और उन्हें भी!फिर उन्होंने मेरे सारे कपड़े उतार दिए और मुझे बेड की झुका कर मेरी चूत में लंड डाल दिया और मुझे बहुत तेज तेज चोदने लगे जैसे आज तो मैं उसकी वाइफ हूं, वे जो चाहें मेरे साथ कर सकते हैं.

मुझसे रहा ना गया और मैं भाभी के दोनों पैरों के बीच में आकर भाभी की चूत को चाटने लगा. मैं भी कोशिश करूंगा कि आप लोगों के लिए इससे भी अच्छी व सच्ची सेक्स कहानी लिखता रहूं. जब मैंने अपने दोस्त से बात की तो उसने कहा- अभी सोनम मेरे मामले में नयी है.

सेक्सी वीडियो मधु शर्मा के

मैंने यहां वहां देखा और अंत में हॉस्टल की छत पर गया, उधर देखा तो वो ऊपर थी.

तो मम्मी ने मुझे भेज दिया।मैं नज़मा के पास आ गई और उसके काम में हाथ बंटाने लगी। कुछ देर में हमने काम खत्म कर लिया और टीवी देखने लग गयी।अब तो बस 10 बजे का इंतजार कर रही थी. वसुंधरा ने मेरे कोट की अंदर-अंदर की तरफ़ से अपना दायां हाथ लंबा कर के मेरी पीठ की ओर से मेरी दायीं तरफ की पसलियों को जकड़ लिया. शाम को जब ऑफिस से वापस आया, तो अम्मी ने यह खुशख़बरी दी कि ज़ेबा ने अपनी सहमति दे दी है.

बहन की गर्मगर्म बातें सुनकर मैं बयान नहीं कर सकता कि उस वक़्त मेरे पेंट में मेरे लंड की हालत क्या हो रही थी. अरे राज! आप …! आप कब आये?” वसुंधरा का हाथ बदस्तूर मेरे हाथों में था. पती पत्नी का प्याररुकैय्या पेशाब करके आई तो बेड पर आने के बजाय कमरे से बाहर निकली और उसके सीढ़ियां उतरने की आवाज आई.

खैर, अनीता ने अपने सब कपड़े उतारे और नंगी होकर अरविन्द के लंड पर टूट पड़ी और उसने शीला से कहा कि वो उसकी चूत चाटे. अब मैंने सिगरेट जलाते हुए पूछा कि तो अपनी नई ड्रेस पहन कर कब दिखा रही हो?वो बोली- अभी दिखाती हूं.

उसके नीचे उसने सफेद रंग की ब्रा और पैंटी पहनी हुई थी जो उसकी जालीदार नाइटी में साफ साफ झलक रही थी. निधि- ओके।मैं- मैं बियर ले आता हूं।नित्या ने नॉनवेज खाना (चिकन) ऑर्डर किया। मैं बियर लेने चला गया।6 बियर लेकर वापस आया तो देखा कि निधि और नित्या कुछ बातें कर रही थी। मेरे आते ही दोनों शांत हो गई।खाना आ चुका था। 11:30 बजे तक सबने ड्रिंक किया और फिर खाना खाया. मैं तो उनकी गर्म सांसों के कारण ही मदहोश हुआ जा रहा था, केवल फुसफुसा कर बोला- अहोभाग्य भाभी जी, अंधा क्या मांगे … दो आंखें.

मैंने कहा- तुम्हारी छुट्टी कब होती है?उसने कहा- यहाँ ड्यूटी शिफ्ट में होती है सर! मैं अभी डे शिफ्ट में हूँ. संजू उसकी मजबूरी को समझते हुए ऊपर से उठी और बोली- जाओ बाथरूम से उसे धो कर आओ … मैं उसे मुँह से झाड़ने का प्रयास करती हूँ. अब मैंने सुधा को बेड पर सीधा लिटाया और उसके दोनों हाथ बेड के किनारों से बांध दिए.

आज मैंने नाइटी पहनी थी तो वो इतनी हल्की थी कि कोई हल्की सी भी कोशिश करे तो वह मेरे बदन से अलग हो सकती थी.

मेरा मन कर रहा था कि मैं अपनी बीवी की चूत के रस को चाट लूं लेकिन उसकी चूत के दर्शन का पहला मौका मैं मयंक को देना चाहता था. अंतर्वासना के सभी पाठकों को आपके चहेते लेखक संदीप साहू का नमस्कार।आप लोगों ने अब तक मेरे प्रेम प्रसंग का आनंद लिया, अब मैं खुशी की शादी में आ चुका हूँ, और होटल में बहुत सी सुंदरी मुझे मिल रही हैं, इसी क्रम में मुझे सौंदर्य की देवी हीना मिली है, अब देखते हैं आगे क्या होता है.

फिर जीजू अपने उंगलियों को मेरी चूत पर बड़े प्यार से फिराने लगे … जिससे मेरी चूत में गुदगुदी सी हो रही थी. और फिर दो दिन बाद मैंने उनकी वो नारंगी रंग की साड़ी पहनी ठीक रात को सोने से पहले. मैंने शाम को जल्दी खाना खाया और मेरी मम्मी को बोल दिया कि आज मुझे सहेली नज़मा के घर जाना है सोने के लिए.

जब मैंने पहली बार राज का लंड देखा, तब मुझे थोड़ा झटका सा लगा कि राज का लंड अविनाश के लंड से भी बड़ा है. दीपिका की चीख निकल गई और वो बोल पड़ी- उई माँ!! इत्ता बड़ा और मोटा!! असली है क्या?मैंने कहा- छू कर देखो. मुझे पूरा विश्वास है कि देश में तेरे जितनी बड़ी रंडी शायद कोई नहीं होगी.

हिंदी में हिंदी में बीएफ हिंदी में बीएफ चूंकि वह मेरे साथ ही पढ़ रही थी इसलिए हम दोनों एक दूसरे को पहले से जानते थे. फिर उसने कहा- चलो घर चलते हैं, वैसे भी ये कोई कॉफी पीने का टाइम नहीं है कुछ और पिलाती हूं.

सेक्सी डॉट कॉम वीडियो सेक्सी

आहहह उम्मह ओ यस या…मैं बड़ी तेजी से दीदी की गांड को पेल रहा था और वो चुदते हुए जोरों से कामुक आवाजें कर रही थीं. पहले तो वो मुझे दूर करने की कोशिश कर रही थी, लेकिन बाद में वो भी मेरा साथ देने लगी. काली साड़ी के ऊपर गाढ़े महरून रंग का गर्म शॉल ओढ़े वसुंधरा सच में किसी और ही दुनिया की लग रही थी.

बहुत देर तक ऐसे ही लंड चूसने के बाद उसने मुझे फिर से सीधा लेटा लिया और अपने हाथों से अपने मुठ मारते हुए सारा वीर्य मेरी चूचियों पर निकाल दिया।मैंने उससे पूछा- यह आपने क्या किया? मुझे सारा गंदा कर दिया. अब तो मुझे रात में सपने भी यही आने लगे थे कि अमनप्रीत मुझे और मेरी बीवी को चोद रहा है. इंडियन सेक्स भाभीकुछ देर तक मेरी भगनासा को मसलने और रगड़ने के बाद अचानक जेठजी रुक गए और थोड़ा दूर होकर कुछ करने लगे.

इसके बाद मैंने चाची को बेड पर लिटा दिया और चाची की चूत में उंगली करने लगा.

अगर तुम्हें बुरा लगे तो नाराज मत होना बस मैं अपने दिल की बात कह रहा हूँ।नहीं नहीं अंकल. फिर मेने गुड्डी रानी से कहा- हरामज़ादी अब लंड के छेद में जीभ की नोक बना के घुसा … हाथ टट्टों के नीचे करके गांड और टट्टों के बीच वाली जगह को सहला साली बहनचोद कुलटा … अभी अनाड़ी है तू लंड चूसने में.

एक दोस्त के साथ उसकी दोस्ती गहरी हो गयी और उन दोनों ने इस रिश्ते को और आगे बढ़ाने की सोची. काफी देर हो जाने पर बुक नहीं मिली तो निधि भी आ गई बोली- मैं भी हेल्प कर देती हूं. ”हट!”ऐ जान! मेरी गोद में बैठ जाओ ना?”और फिर वह मनमोहक मुस्कान के साथ बड़ी अदा से मेरी गोद में आकर बैठ गई।मेरा लंड तो उसके गोल नितम्बों के नीचे दब कर जैसे निहाल ही हुआ जा रहा था। दूध पीने के दौरान मैं उसके गालों को भी चूमता रहा और उसके उरोजों को भी मसलता रहा। नताशा को भला कोई ऐतराज कैसे हो सकता था वह तो सम्मोहित हुई बस आह … ऊंह करती रही।प्रेम, खाने के बारे में क्या विचार है?”भई जो बनाओगी खा लेंगे.

अब्बू अम्मी को किस करने लगे, तो अम्मी की कामुक आवाज़ हल्के स्वर में गूँजने लगीं- उम्म.

संजू लगभग चार-पांच मिनट तक लंड को बेतहाशा चूसती रही … और फिर उसने अपने मुँह से लंड को निकाल कर रोहित के लंड को देखने लगी. भले ही लड़की मेरे किसी काम की न थी फिर भी सेक्स का खेल देखना किसे अच्छा नहीं लगता. मैंने कहा- खुशी तुम चिंता मत करो, मैं तुम्हारी चुत को अपने पानी से भर दूंगा.

अमेरिकन ओपन सेक्सीवो मुझे खींचते हुए स्टेज के दूसरी ओर दादी के पास ले गई, जहां प्रतिभा, खुशी, सुमन, आंचल सभी बैठे थे. मुझे लग रहा था की बाबूजी का लौड़ा कोई साधारण लौड़ा नहीं है क्योंकि आज तक मुझे पहले कभी भी इतना आनंद नहीं आया था।बाबूजी ने मेरे ब्लाउज़ के बटन खोलने की कोशिश की पर जब नहीं खुले तो उन्होंने एक झटके में ब्लाउज़ के बटन तोड़ दिए और मेरे चूचे बुरी तरह मसल दिए उनके हाथ एक किसान के हाथ थे.

भतार सेक्सी

मैं इससे पहले कि उसकी मंशा को समझ पाता उसने मेरे हाथ से फोन लिया और मेरे बॉस को भी फोन लगाकर छु्ट्टी के लिए बोल दिया. जीजू मुझे चोदने के बाद कुत्ते की तरह हांफ रहे थे और बोल रहे थे- आंह … मजा आ गया यार … क्या मस्त चुत देती हो. दो फ़रवरी को शादी के बाद सात फ़रवरी को वसुंधरा अपने पति के साथ के जिनेवा, स्विट्ज़रलैंड को उड़ जायेगी.

मैंने उसे दोनों हाथ से उठाया, बाथरूम में एक बार फिर शॉवर चला कर अच्छी तरह से धोकर कपड़े से पौंछा. मुझे इससे बात करने दे।”यह सुनते ही उसकी डर से उस लड़के की हालत खराब हो गयी, बोला- भाई माफ कर दो. नीरा- अमन, बाहर क्यों निकाल दिया? ये लन्ड अंदर डालो न प्लीज़! आओ फ़क मी यार!मैंने उसकी चूत पर लगा पानी साफ किया और झटके से लन्ड अंदर डाल दिया.

मैंने अपने सर को बेड पर रख लिया और आराम से अपनी गांड को पीछे से उठा लिया. जैसे कि दो बहनें अपने भाई से चुदेंगी, एक बीवी अपने पति के सामने दूसरे मर्द से चुदेगी, तो दूसरी बहन अपने भाई के सामने किसी और मर्द से चुदेगी. भाभी बोली- हां बोलो, क्या बोलना चाहते हो?मैंने कहा- अगर आप बुरा न मानो तो कहूंगा.

फिर उनके ससुर उनके ऊपर चढ़ गए और उन्होंने मेरी बहन को अपने पैर ऊपर उठाने को कहा. फिर अचानक से अम्मी की आंखें खुल गईं और वो मुझे देख कर एकदम से सहम गईं.

मैंने पूछा- कैसा लगा?बोली- बहुत खूबसूरत।इसके बाद मैं सायरा के सीने पर अपने सिर टिका कर उसके दिल की धड़कन सुनने लगा.

पहले तो मैं इस खूबसूरत घटना को क़िसी के साथ शेयर करने के पक्ष में नहीं था. प्रिया भाभी सेक्सी वीडियोमेरी बात सुनकर पास ही में रखे आधे भरे गिलास में से उन्होंने एक बड़ी सिप भरते हुए गिलास खाली कर दिया और उठकर मेरी तरफ आ गए. अनाथ आश्रम जोधपुरअब तक की इस सेक्स कहानी में आपने पढ़ा कि मेरी बीवी को, मेरा दूध वाला रोहित चूमे जा रहा था. फिर मैंने एक तरकीब लगायी कि भाभी से खुल कर बात करने लगी सेक्स के बारे में!हम दोनों हमउम्र थी और हमारी कदकाठी भी लगभग एक समान थी.

फिर मैंने भी अपनी टी-शर्ट और बनियान उतार कर अपने पेट और सीने को उसकी नंगी पीठ पर सटा कर पूरी तरह से खुद को आंटी से चिपका लिया.

मैं तेरी कुतिया हूं, साले फंसा दे अपने लौड़े को इस कुतिया की चुत में, फाड़ दे मादरचोद इसे … आज चाहे कुछ भी हो जाए … भैन के लंड अपना लौड़ा बाहर मत निकालना. अब मनु के अलावा हम तीनों ने एक साथ अपने दांत कटकटाए और आंखों ही आंखों में एक इशारा किया और मनु पर टूट पड़े. लेकिन मानव स्वभाव के अनुसार हम नकारात्मक विचार को ज्यादा तूल देते हैं.

धीरे धीरे मेरे दोनों बेटे पढ़ लिख कर विदेश में नौकरी करने लगे और शादी करके वहीं सेटल हो गये. जैसे कि मैं यानि राजवीर तुम्हारी बीवी रकुल को चोदने जाऊंगा तो वो भी मुझसे बिल्कुल अन्जान है. एक घंटा पहले मैंने शिलाजीत गोल्ड के दो कैपसूल खाये थे जिनका असर दिख रहा था.

हिंदी सेक्सी वीडियो हिंदी वीडियो सेक्सी

वो- क्या?मैं- हां बस तेरे घर के सामने हूँ गली में घुसने जा रहा हूँ. इस बीच मेरी बहन ने चादर उठा कर अपने शरीर पर डाल ली थी और वो अपने यौवन को छुपाने की नाकाम कोशिश कर रही थीं. मैंने कहा- मैडम तो कब से तैयार है, आप महाशय के लौड़े की कृपा तो मेरी चूत पर हो.

अब और प्रतीक्षा करना कठिन था, लंड बहुत ज़ोरों से अकड़ गया था और बार बार तुनक तुनक हो रहा था.

मैं उसे पीठ पर किस करने लगा और नीचे से उसकी चूत में उंगली करने लगा।धीरे धीरे उसका दर्द काम होने लगा और वो कमर हिलाने लगी। मैं समझ गया कि वो गांड चुदाई के लिए तैयार है, फिर मैं जोर जोर से धक्के लगाने लगा।क्रिया- आह आह आह मम्मी बस ऐसे ही जोर जोर से मारो।मेरी गर्लफ्रेंड सिसकारी भरने लगी क्रिया.

रानी ने अपने चूतड़ ऊपर नीचे हिला हिला के धक्कों में मेरा साथ देना शुरू कर दिया था. आप में से बहुत से लोगों के मेल मुझे मिले, जिनमें महिला, पुरुष व जवान लड़के लड़कियों के काफी संख्या में मेल आए और सभी ने मुझे बहुत प्रोसाहित किया. गांव का सेक्सीआपको मेरी सेक्स कहानी कैसी लगी, मेल आईडी पर अपने विचार जरूर शेयर कीजिएगा.

20 मिनट तक चुदाई हुई, उसके बाद मैंने अपना माल भाभी की चूत के अंदर ही निकाल दिया. दीदी- आहह ओह आकाश याह उहह!नताशा- राज धीमे आहह ओह गॉड राज धीमे, प्लीज़ धीमे डाल … बहुत दर्द हो रहा है. जैसे उसने मेरा लौड़ा अपने मुँह से निकाला, वैसे ही पूरे मेरी मूत की धार संजना के मुँह और उसके मम्मों पर गिरने लगी.

आंह …”मेरे लिए यह एहसास पहली बार हो रहा था, जो आनन्द मुझे आज मिल रहा था … उसका बखान मैं शब्दों में नहीं कर सकता. फिर अंत में प्रतिभा मेरे हाथ आई, मैंने प्रतिभा को भी खूब हल्दी लगाई और फिर बहाने से उसके बोबे भी दबा दिए.

मैं बोला- आपको कैसे पता?कविता भाभी- जो लड़की पहली बार सेक्स करती है.

ना जाने क्यों कुछ ही देर में मेरी चूत बिना उंगली किए खुद ही इतना पानी छोड़ने लगी कि मेरी हालत खराब होने लगी. और ना जाने जीजू ने क्या क्या गालियां दीं … जो सब मैं यहां नहीं लिख सकती. मैंने फोन कटते ही भाभी को चूम लिया और कहा- वाह भाभी, तुम तो कमाल की चीज हो.

ఎక్స్ వీడియోస్ ఎక్స్ వీడియో मैंने कार की आगे की दोनों सीट पकड़ रखी थी और रुमित का लंड मेरी चुत में लिए हुए मैं ऊपर नीचे हो रही थी. अंदर आते समय जब रोहित की नज़र मुझसे टकराई तो उसने हँसकर मुझे आंख मार दी।रोहित के अंदर आते ही मैंने दरवाज़ा बन्द कर दिया। दरवाज़ा बन्द करते ही जैसे ही में पीछे मुड़ी रोहित ने मुझे कसकर गले लगा लिया और मेरे होंठों को चूम लिया.

पहला कश खींचते ही उसको खांसी आने लगी तो उसकी पीठ मलते हुए मैंने उसको कश मारने का तरीका सिखाया. फिर उनके ससुर उनके ऊपर चढ़ गए और उन्होंने मेरी बहन को अपने पैर ऊपर उठाने को कहा. नताशा की मादक आवाजें पूरे कमरे में गूंजने लगी थीं और उधर आकाश मेरी दीदी के बदन से खेलने में लगा था.

सेक्सी वीडियो हिंदी में 2000 की

मैं (राजवीर)- सरप्राइज़ तो तुझे अब मिलेगा बेटा। हम सबको पता है कि हमने अपने मजे के लिए अपनी बीवियों की अदला बदली की है लेकिन सब एक दूसरे से नहीं मिले इसलिए हम 10 के 10 यहां चुदाई का घमासान करने के लिये इकट्ठा हुए हैं।इससे भी ज्यादा मजे की बात तो ये है कि हमारी बीवियों को घंटा भी नहीं पता कि उनके साथ आज रात में क्या होने वाला है?विक्रम- क. जब तक मैंने उसका लव जूस नहीं निकला, तब तक मैंने चुत को पीना नहीं छोड़ा. वह घोड़ी बन गई और मैंने अपना लंड भाभी की गांड में डाला और भाभी को चोदा.

मैंने उससे पूछा- रस कहां निकालूं?वो- मेरी चूत में ही डाल दे … मैं आज तेरे पानी को महसूस करना चाहती हूँ. प्रिया- बच्चे की जान ले ली तुमने रीना!सीमा- लम्बे लन्ड वाला बच्चा कहो।रीना- तुम्हें बुरा तो नहीं लगा न रकुल?रकुल- नहीं नहीं। जैसे तुमने नील को तड़पाया है वैसे ही मैं राजवीर के साथ कर लूंगी। हा हा हा।सीमा- निष्कर्ष यह है कि रात बड़ी मजेदार थी और आने वाले दिन भी मजेदार होंगे। मुझे रणवीर के साथ पहली चुदाई का मजा लेना है.

मैंने छूटते ही बोला- वैसे एक बात कहूं?स्नेहा भाभी बोलीं- हां जी बोलो?मैंने कहा- वो पेप्सी तो गिरनी ही थी.

पायल ने वहां जाकर बूढ़ी दादी से मेरी शिकायत की- दादी देखो ना … ये कल के संगीत में भाग नहीं ले रहे हैं!दादी ने कहा- क्यों बेटा क्या हुआ? छोरियों जैसे शर्माओगे … तो सबकी हंसी का पात्र नहीं बन जाओगे. मैंने उसको रगड़ रगड़ कर हल्दी लगाई और इसी बहाने उसके कंधे गले और गालों को अच्छे से सहलाया भी. पर आपस में एक दूसरे की माँ के बारे में ऐसी बातें करना और एक दूसरे के गुप्तांगों को सहलाना थोड़ा अजीब लगता है.

उसके निप्पल टाइट हो गए थे, मुझे उन्हें सहलाने में बड़ा मजा आ रहा था. आकाश ने भी नशे में हंसते हुए कहा- हां साले साब, अपनी बहन की अच्छी तरह से चुदाई करना. राहुल सुबह ही अपनी गाड़ी लेकर आ गया और हम उसके दोस्त के फ्लैट के लिए चल पड़े.

आप लोगों ने मेरी साली के साथ सेक्स कहानी के पिछले भागलंड बदलकर चुत चुदाई का मजा- 3में पढ़ा था कि मुझे चोदने के लिए मेरे जीजू ने जैसे ही अपना लंड बाहर निकाला मैं उनके मस्त लंड को देख कर खिल उठी.

हिंदी में हिंदी में बीएफ हिंदी में बीएफ: चुपचाप टांगें चौड़ी करके गांड को ढ़ीली छोड़ दे और गांड चुदवाने का मजा ले ले. बस अपनी पढ़ाई में लगी रहती थी।फिर मैंने जब स्कूल बदला तो वहाँ मेरी दोस्ती कुछ हरामी लड़कियों से हो गयी.

पल्लवी के बादामी रंग के नंगे बदन को देख कर मेरे मुंह से एक जोर की आह्ह निकल गयी. तब मैंने उसे उल्टा लेटा कर घोड़ी बना दिया व धीरे धीरे मेरी गर्लफ्रेंड की गान्ड में लंड डालने लगा. चाचा चाची दोनों टीचर थे और अलग अलग सरकारी स्कूल में पढ़ाते थे, साल भर पहले ही उनकी शादी हुई थी.

उसके रसीले होंठों को चूसने लगा और साथ ही उसके टाइट मम्मों को मसलने लगा.

आपने मेरी अन्तर्वासना भाभी की चुदाई हिन्दी में सेक्स कहानी के पहले भागभाभी का सेक्स करने का मन था-1में अब तक पढ़ा कि भाभी की मस्ती ने मुझे उन्हें चोदने के लिए पागल कर दिया था. मेरा ये जबरदस्त धक्का उसकी चुत को चीरता हुआ सीधा उसकी बच्चेदानी पर जाकर रूका. यह सब सोचते-सोचते पता ही नहीं चला कि मैं कितनी देर तक संजना को चोदता रहा था.