बीएफ पिक्चर सेक्सी नंगी सीन

छवि स्रोत,xxx माधुरी दीक्षित2021

तस्वीर का शीर्षक ,

के साथ बीएफ: बीएफ पिक्चर सेक्सी नंगी सीन, भाभी की इस मदभरी आवाज ने मुझे यह महसूस करा दिया कि मैं उनकी जम कर ले सकता हूं.

दीपिका पादुकोण की एक्स एक्स एक्स वीडियो

मजिस्ट्रेट साहब ने कहा कि बालिग होने के कारण अब वो लड़की, लड़के साथ रह सकती थी. सेक्सी मालिकामैंने अपने देवर को फांसना चाहा पर हुआ कुछ ये …नमस्कार दोस्तो, सेक्स कहानी शुरू करने से पहले मैं कुछ कहना चाहती हूँ मेरे कुछ नासमझ और बददिमाग पाठक हैं, जो कहानी को पूरा और समझ कर नहीं पढ़ते हैं और बाद में बिना मतलब के मैसेज करते हैं.

अञ्जलि ने अपना दूसरा हाथ उठाकर, मेरे बाएं कंधे को पकड़ और मुझे अपनी ओर खींचने लगी. गांव की लड़की की चुदाई खेत मेंतभी अचानक से ससुर जी ने मेरा हाथ पकड़ लिया और एक झटके में मुझे अपनी ओर खींचकर मुझे अपनी गोद में बिठा लिया.

समीर ने मुझे चूमना शुरू कर दिया और धीरे धीरे हमारे कपड़े निकलने शुरू हो गए.बीएफ पिक्चर सेक्सी नंगी सीन: उसके हिचकिचाने की वजह शर्म नहीं थी क्योंकि हम एक दूसरे को अच्छी तरह देख चुके थे.

उन पन्द्रह दिनों में मैंने नेहा भाभी को दिन रात खूब प्यार किया, उनकी खूब चुदाई की.मैंने आगे पूछा- तो अब क्या योजना है?उसने कहा- लॉकडाउन की वजह से मैं एकदम फ्री ही हूं.

लड़की और जानवर की चुदाई - बीएफ पिक्चर सेक्सी नंगी सीन

अब नहीं सहा जाता मुझसे!मैंने उसकी चूचियां रगड़कर कहा- जैसा तुम चाहो, वैसा ही होगा नीता.शैली मामी की आंखों में लाल डोरे तैर रहे थे, पता नहीं क्रोध के थे या वासना के.

वो मोटी महिला जब मेरे घर पर आ गई तो मैंने उसके बच्चों के लिए दूध वगैरह का इन्तजाम किया. बीएफ पिक्चर सेक्सी नंगी सीन वर्जिन गर्ल देसी Xxx कहानी में मैंने अपने गाँव की जवान लड़की को अपनी दूकान में चोद दिया.

कभी किसी पार्टी या कोई फंक्शन हो तो उधर भी फटाफट वाली चुदाई का मजा ले लेती हूँ … और कभी तो पास पड़ोस के घर में भी चुदवा लेती हूँ.

बीएफ पिक्चर सेक्सी नंगी सीन?

यह सुनकर मेरा लन्ड खड़ा हो गया, मैंने प्यार से उसकी गांड पर चपत लगाते हुए पूछा- तो ये सिर्फ मेरे लिए ही बचाई है क्या?वो मेरी बात पर कुछ नहीं बोला, बस शरमा कर रह गया. मैंने भाभी की चिकनी कमर पर भी हाथ फेर कर उनकी कोमलता का अहसास किया. भाभी की चीख निकल गई और वो छटपटाती हुई कहने लगीं- आंह मर गई … निकालो इसे … बहुत दर्द हो रहा है.

वो मेरे हाथ को उठा कर अपने पेट पर ले आई, तो मैं उसके पेट पर उंगलियां घुमाने लगा. बिना सोफे की तरफ देखे हुए हाथ में गीला तौलिया लिए मैं सोफे के सामने से गुजरी और थोड़ा आगे जाने के बाद जानबूझकर तौलिया नीचे फर्श पर गिरा दिया. कुछ देर बाद उन दोनों ने मेरे साथ 7 फेरे लिए, मेरी मांग भरी और मुझे मंगलसूत्र पहना कर मुझे अगले तीन दिनों के लिए बस चोदने के लिए अपनी पत्नी बना लिया.

GF BF Xxx story में पढ़ें कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड को चोद चुका था, उसी से शादी करना चाहता था पर उसके घरवाले नहीं माने. सब डेकोरेशन देखकर सरिता बहुत खुश हो गयी- अरे वाह देवर जी, आपने तो बहुत ही मस्त डेकोरेशन किया है. इससे अदिति सीत्कारने लगी और अपना दूसरा हाथ मेरे हाथ पर रखकर बोली- हर्षद, इस दाने को मत मसलो, नहीं तो मैं अभी ही झड़ जाऊंगी.

मैंने सोनाली को अपने नीचे लेते हुए कहा- अच्छा तो भाभी भी तुम्हारे साथ है क्या?मैं अपने घुटने के बल बैठकर उसकी दोनों चुचियां मसलते हुए बोला. ‘क्या बात है सर … एकदम टाइट है ये कभी बैठता नहीं है क्या?’‘तुझे देख कर खड़ा हो जाता है.

यह मेरी सच्ची सेक्स कहानी है जो मैंने अन्तर्वासना पर आपके सामने पेश की.

फिर उसने कहा- आप शादी करते तो आपकी बीवी खूब मजे लेती इससे!मैंने भी हिम्म्त जुटाकर उससे पूछ लिया- तुम्हें अच्छा लगा क्या?उसने भी शर्मा कर हां कह दिया.

मेरा लंड रेखा अपनी गांड रगड़कर बोली- हां हर्षद, मेरा भी यही हाल होता है. तो दोस्तो देखा आपने कि आजकल की बीवियां कितनी मस्ती से चुद कर ससुराल आती हैं. सविता अभी अभी झड़ी थी इसलिए मैंने उसे फिर से गर्म करने के लिए उसे अपने ऊपर ले लिया.

तभी बलदेव तेज़ झटके देने लगा और दूसरे को ऊपर से हटा कर उसने मुझे सीधी नीचे लिटा दिया. हॉट लेडी एनल फक़ स्टोरी में पढ़ें कि मेरी सहकर्मी लेडी मुझसे एक बार चुदी तो उसे मजा आया. वो मुझे फिर से किस करने लगी और बोली- थैंक्स, मैं अभी जा रही हूँ और शादी से फ्री होकर आती हूं.

इसी बीच मैंने उसे बताया कि इस समय मैं अकेला रह रहा हूँ क्योंकि बीवी बाहर गई हुई है.

हमारे बीच हल्की फुल्की बातें हुईं और इसके बाद मैं अपने काम के लिए तैयार हो गया. वैसे भी सोनम की बिल्ली का, उसके अन्दर की गहराई तक शिकार करके, नत्थूलाल को तृप्ति प्राप्त कराने का ये सुनहरा मैं अवसर छोड़ना नहीं चाहता था. मैं एक बार फिर आप लोगों का लंड खड़ा करने के लिए अपनी Xxx कुकोल्ड हस्बैंड सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ.

मुझे शारीरिक सुख अभी तक किसी ने नहीं दिया था, न ही मैं किसी लड़की के संपर्क में था. उसने अपना लौड़ा मेरी दोनों चूचियों के बीच में रख दिया था और रगड़ने लगा था. यह सुनते ही, उसने भी पीछे से मुझे कसके पकड़ा और बोली- क्यों, क्या इरादा है … बहुत जल्दी में हो क्या!उसने जिस तरह से मुझे पकड़ा था, मुझे बिल्कुल भी उम्मीद नहीं थी.

मेरी बीवी भी समझ नहीं सकी, उसे लगा कि यह तो बूढ़ा आदमी है, शायद दर्द हो हो रहा होगा.

मैं- नहीं भाभी, वो तो कोई चूतिया ही होगा, जिसको आप में नजाकत और सेक्सी लुक नहीं दिख रहा होगा. मैंने उसे नंगा किया और देखा कि उसका लंड काफी मोटा और 6 इंच लम्बा था.

बीएफ पिक्चर सेक्सी नंगी सीन ज्यादातर महिलाएं ऐसी होती हैं, जिनकी चूत पहले से ही बुरी तरह से चुदी पिटी होती है. एकदम से लौंडियों जैसी चाल थी और छाती भी कमसिन लड़कियों जैसी उभरी हुई थी.

बीएफ पिक्चर सेक्सी नंगी सीन मेरा तबादला नए विभाग में हो गया था और मुझे अब मुद्रा और ऑडिट का काम देखना था. उसकी गांड की गर्मी पाते ही मेरे शरीर में करंट सा दौड़ गया और लंड खड़ा होने लगा.

उसने एक मनमोहिनी मुस्कान के साथ मुझे चाबी दी और बोली- आपकी चाबी?मैंने बोला- जी मेरी चाभी नहीं, नीचे वाले फ्लैट की चाबी.

सेक्सी फिल्म दिखाओ फिल्म

मैंने उसे नजर भर कर देखा और कहा- बिजली क्यों नहीं आ रही है?वो बोली- मुझे नहीं मालूम. मैंने कहा- साले गांड में लंड लेने में मजा आ रहा है और भोसड़ी के मुझे बच्चा समझ रहा है. मैं- कैसी मदद भाभी!भाभी ने खुल कर कहना शुरू कर दिया- बाबू, तुम्हारे भैया ने मुझे एक साल से नहीं चोदा हैं, मैं बहुत अकेली हूँ.

दरवाज़े को खोलने के लिए जैसे ही वो रुकी, तो मैं पीछे से उसकी गांड पर जाकर चिपक गया. मैंने उसे बाथटब के किनारे से टिका कर घोड़ी बनाया और बहुत दमदार तरीके से पेला, उसके चूतड़ों पर थप्पड़ मार मार कर पिछवाड़ा लाल कर दिया. कोई दस मिनट की इस मस्त लंड की सवारी करने से मेरी सांस फूलने लगी थी.

अन्दर आकर मां जैसे ही रूम में आयी, उसने मुझे और पापा को नंगा देख कर बनावटी ग़ुस्सा करना शुरू कर दिया.

रेशमा हल्के से मुस्कुराती हुई बोली- इतना बड़ा मूसल लेकर घूम रहे हो और ऊपर से एक साथ पूरा घुसा दिया मेरे मुँह में … बेशर्म कहीं के?मैं- तो बहन की लौड़ी … तुझे ही रांड बनने का शौक है ना? चल अब चूस … देख साली तेरी चूत का भोसड़ा बनाने के लिए कैसे खड़ा है मेरी रेशमा रंडी. अब मैंने उस डॉगी पोजीशन में अपने हाथ आगे लाकर उसकी चूचियों को पकड़ा और दबाते हुए उसकी गांड में सटासट लंड पलना शुरू कर दिया. अब चुदाई में दीदी को कोई स्वाद नहीं रह गया, जीभ बाहर निकाल वो लगातार रहम की भीख मांग रही थीं.

उसका लंड बड़ा था, जिसके कारण उसका पूरा सुपारा मेरे मुँह में भी जा रहा था. उसके सर को मैं अपनी दोनों टांगों के बीच जोर जोर से दबाने लगी और वह मेरी चूत और गांड का रसपान करने लगा. हालांकि पिछली गर्मियों में दोनों फुफेरी बहन की चूत और गांड चुदाई मैंने उनके सगे भाई के साथ मिल कर की थी.

मैं अपनी बीवी से सेक्स में बिल्कुल भी खुश नहीं था इसलिए मैं कई बार होटल में कॉलगर्ल के साथ रात बिताकर अपनी प्यास बुझाया करता था … या अपने हाथों से ही काम चला लिया करता था. वो अपने घुटनों के बल बैठकर मेरा लंड अपने हाथ में पकड़कर बोली- अब मुझे तुम्हारे इस अमृत को पीना है हर्षद.

जैसे ही हम दोनों मुँह ऊपर करते और कुछ कहते, दीदी नीरजा से माफी मांगने लगीं और उसे मनाने लगीं. तब तक अन्दर कमरे में आ गई हम दोनों को मादरजात नंगे गुंथे हुए देख शैली मामी शर्मा कर जाने को हुईं. कुछ देर बाद मैं वहीं फर्श पर लेट गया और उसकी चूत की दरार को खोल कर अपने मुँह पर बैठा लिया, फिर अपनी जीभ से उसकी गुलाबी दरार में गुदगुदी करके चूत के दोनों पतले पतले होंठों को अपने होंठों में दबोच कर चूत चूसने लगा.

जब तक वो आइस लेकर आती, तब तक उसने टेबलेट का चूर्ण गिलास में डाल दिया और अपना गिलास एक झटके में खाली करके रुचिका के गिलास की तरफ देखा.

उसके चूतड़ों के नीचे तकिया लगा दिया ताकि चूत थोड़ा ऊपर हो जाए और लंड डालने में आसानी हो. उसके नंगे चूतड़ बार बार ऊपर नीचे हो रहे थे और दे दनादन दे दनादन गांड मारने में लगा था. उनको अपने जननांग की वैक्सिंग करवानी थी इसलिए मैंने उनसे कहा कि आप अपने कपड़ा हटा दें, यदि चाहें तो केवल ऊपर के कपड़े पहने रखें.

रेशमा के निप्पल अब तक मैं इतनी बार मरोड़ चुका था कि अब उनके ऊपर सूजन आ चुकी थी. मैंने जब उसकी आवाज सुनी, तो मैं सकपका गयी कि ये अचानक से कैसे आ गया.

कहानी के दूसरे भागप्राइवेट सेक्रेटरी के साथ ओरल सेक्समें अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने रेशमा की संकरी सी चूत में अपना मूसल लौड़ा पूरा पेल दिया था. फिर उसने मेरी लुंगी निकाल कर साइड में रख दी और मेरा लंड अपने मुँह में भर लिया. साबिरा की अम्मी को शायद पता चल गया था कि मैं उसकी बेटी की जवानी देख कर मजे ले रहा हूँ.

भोजपुरी गाना वीडियो डीजे

दोस्त लौंडिया दिलवाने की बात करते हैं, पर मैं उनका लंड लेना चाहता हूं.

मुझे हर बार ऐसे करने में मजा आता है क्यूंकि औरत की चीख सुनकर मुझे बड़ा मजा मिलता था. मैंने अभी ‘सॉरी पर …’ इतना ही कहा था कि उसने थोड़ा ऊंचा स्वर करके कहा- विक्की, प्लीज यहां से अभी के अभी चले जाओ. लौड़े से बाहर आने को तड़पने वाला मेरा वीर्य मुझे कैसे भी करके जल्दी ही रेशमा की बंजर बच्चेदानी पर गिराकर उसे हरी भरी करना था.

उसने अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों मम्मों के चूचक पकड़ लिए और मसलने लगा. अब मैं पीछे से उसके पूरे जिस्म को चाटने लगा और अपना लंड उसके गद्देदार गांड के बीच में फंसा कर चूतड़ मसलने लगा. सेक्सी वीडियो गाना वीडियोनीता मेरे गाल, होंठ, सीने पर, पेट पर, नाभि पर, कमर पर और जांघों पर चूमते हुए नीचे घुटनों के बल बैठ गयी.

फिर उसकी दोनों गोलियों को मैंने बारी बारी से चूसा।मैंने दोबारा लंड को मुँह में लिया और सिर्फ टोपा ही चूस रही थी क्योंकि आज से पहले मैंने कभी लंड नहीं चूसा था।तभी अमन ने अपने दोनों हाथों से मेरे सिर को पकड़ा और धक्का लगाकर मेरे मुंह में अपना आधा लंड डाल दिया।मेरे मुख से गु गु की आवाज आ रही थी।उसने एक और धक्का मारा और अपना सारा लंड मेरे मुंह में डाल दिया. लेकिन आप सबको पता है कि लॉकडाउन की वजह से कोई कहीं भी आ जा नहीं सकता था इसलिए विलास और सरिता कुछ बोल भी नहीं सकते थे.

उसने मुझसे कहा- आप जितने भी दिन यहां रहोगे, उसके बारे में कभी किसी को पता नहीं चलना चाहिए. जैसे ही वो वाशरूम से बाहर आईं, मैं उन्हें देखते ही स्तब्ध रह गया, ऐसा लगा जैसे जन्नत से कोई अप्सरा उतर कर कमरे में आ गयी है. मैं मादरचोद बन गया अपनी मम्मी और चाची की चूत और गांड चोद कर! मैंने अपनी विधवा मम्मी को चचा से चुदाई करवाते देखा.

इसलिए माहौल को हल्का करने के लिए मैंने कहा- मामी जल्दी खाना लगाओ, जोरों की भूख लगी है. इस बार मैंने अनीशा को घोड़ी बनने को कहा और पहले उसकी गांड चाटनी शुरू की. पर्वी ने आनन्द और दर्द के मिले जुले भाव से ‘ऊंह मर गई …’ की आवाज निकाली.

उफ आ उफ आह …ज़ोर ज़ोर से चोदते हुए अंत उसने भी अपने लंड का गर्म लावा मेरी चूत में उगल दिया और हांफने लगा.

कुछ सेकंड रुकने के बाद फिर से जोर से झटका मारा और लंड को अन्दर पेल दिया. फिर उसने अपना पूरा वजन मेरे ऊपर डाल दिया और और धीरे-धीरे धक्के देने लगा.

नीता बोली- हर्षद देखो न … अभी तुम्हारा मूसल कितना फिट बैठा है, बिल्कुल हिल तक नहीं रहा है. मैंने उन्हें अपने चूतड़ दिखाए, उन पर तबला बजाने लगा, चूतड़ अलग करके गांड का छेद दिखाने लगा. भाभी को अपनी गांड पर लंड का सुपारा गर्माहट देने लगा तो उन्होंने अपनी टांगें और ज्यादा खोल दीं.

मैं समझ गया था कि चाची की चूत लंड की प्यासी है, बस किसी तरह से उन्हें लंड मिलने की देर है, वो झट से चूत खोल देंगी. दस पन्द्रह मिनट की ऐसी धमाकेदार चुदाई के बाद हम दोनों कामवासना में डूब गए थे. मैंने उसकी चूत में ही सारा वीर्य डाल दिया क्योंकि उसको मां बनना था.

बीएफ पिक्चर सेक्सी नंगी सीन कुछ देर बाद गांड रवां हो गई तो वो बोली- आंह यार, बहुत मजा आ रहा है … आह जोर जोर से मार ना … आह … मैं आ रही हूँ. मैंने दूसरे कमरे के पास पहुंच कर जैसे ही दरवाजा खटखटाने के लिए हाथ उठाया लेकिन दरवाजे को खटखटाने की हिम्मत नहीं हुई.

सेक्सी डांस ओपन

मैंने कहा- तो मत लेती मुँह में … चूत में क्या खराबी थी?वो हंस गई और बोली- चलो आज करते हैं. मैं डर गया कि शायद मैंने जल्दी की … या उसकी परमीशन या उसका मन भी तो जानना था, पर उस पल ना जाने मेरे दिमाग में क्या फितूर चढ़ गया था. फिर समीर एक कोल्ड ड्रिंक लेकर आया … और मेरी चूत पर, जांघों पर, मम्मों पर, घुटनों, पैरों पर डाल कर चूसने लगा.

वो जैसे ही फिर से सोने जाने को हुए, मैंने अपने बदन से चिपकी नंगी बदन अर्चना दीदी के ऊपर से रजाई उतार कर फैंक दी. उम्र का तकाजा था या पता नहीं क्या था कि मैं अलग अलग लड़कियों को पटाना और उनके साथ सोना मेरी आदत बन गई थी. बाजरे की खेत में चुदाईभाभी को किस करते करते मैं नाईटी के ऊपर से ही उनके निप्पलों के साथ खेलने लगा.

भाभी ने भी लंड मुँह से बाहर नहीं निकाला, वो मेरे लंड का पूरा माल पी गईं.

मैंने उन्हें अपने चूतड़ दिखाए, उन पर तबला बजाने लगा, चूतड़ अलग करके गांड का छेद दिखाने लगा. पर मैंने उसके बाल खींच कर उससे कहा- साली तू घूरती बहुत है रंडी, झुक जा अब मां की लौड़ी … अब तेरी गांड का नगाड़ा बजाता हूँ.

कोई पांच मिनट बाद मेरा लावा भी फूटने को आया तो मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और वो भी जोर जोर से कामुक आवाजें निकालने लगी. इसी क्रम में अचानक से मेरी पेशाब झर झर करती हुई निकल गई और वह अमृत की तरह सब कुछ पी गया. उसने मुझको बिस्तर पर लिटा दिया और अपनी चुत पर लगा सारा केक मेरे लंड पर लगाने लगी.

शॉवर से गिरते पानी में अञ्जलि के चूचे दबाते हुए अपने लंड को उसकी चूत की दरार पर धीरे धीरे धक्के लगा कर रगड़ने लगा.

आपने मेरी पिछली कहानियों को इतना ज्यादा पसंद किया, उसके लिए बहुत बहुत धन्यवाद. लंड अन्दर घुसा तो मैं चिल्ला पड़ा- आह … आह … लग रई … बस … बस … फट गई … आ … आ!मैंने अपना हाथ बढ़ा कर उसका लंड पकड़ना चाहा पर उसने जोर लगा कर मेरा हाथ हटा दिया और चिपक गया. मैंने कहा- तो आप कैसे मानोगी … मूवी में देख लो?भाभी बोलीं- नहीं, आज तो मैं दूसरा वाला लाइव ही देखूंगी.

बच्चों की डॉल’‘इस्स इस्स सर ये रोड भी मुँह से साफ होती है … अंह अह निप्पल मत मरोड़िए. उसके सामने जब मैं बिस्तर पर या सोफे पर लेटती तो अपने गाउन को घुटनों के ऊपर तक उठा लेती ताकि मेरी गोरी जांघ पर उसकी नजर पड़े.

रूसी सेक्सी पिक्चर

आधे घंटे की घनघोर चुदाई के बाद ही मेरा वीर्य उसकी बुर की गहराई में बरस गया. वो बोली- उनको ये सब करते शर्म नहीं आई होगी?मैं बोला- इसमें शर्म की क्या बात है?ये सुन कर वो कुछ बोली नहीं. मैंने पूछा- अगर तुम प्रेग्नेंट हो गई तो?उसने मुझे बताया- मैं कभी मां नहीं बन सकती क्योंकि मेरी बच्चेदानी निकली हुई है.

वैसे भी तेरा रीडिंग वेकेशन चल रहा है न, तो मैंने सोचा इसको तुझसे मिलवा दूँ. उनके शरीर पर बुढ़ापे का एक भी असर नहीं दिखाई देता और वो अभी पूरी तरह फिट हैं. भाभी चीख पड़ीं क्योंकि आजतक उनके पति ने उनकी गांड में लंड नहीं घुसाया था.

वहां पर क्या क्या हुआ?दोस्तो, मैं हर्षद आपको अपने दोस्त की गांड चुदाई की कहानी सुना रहा था. एकदम से लौंडियों जैसी चाल थी और छाती भी कमसिन लड़कियों जैसी उभरी हुई थी. सबसे पहले तो शब्बो ने वीरू के सीने पर तेल लगाया और उसके ऊपर झुक कर उसकी मालिश चालू कर दी।जैसे ही शब्बो झुकी तो उसके बड़े बड़े स्तन वीरू के सामने आ गए और वो आँखे फाड़ फाड़कर उनको देखने लगा.

चूत से रस टपकते ही एक असीम शांति प्रिंसीपल मैडम के जिस्म और दिल में समाने लगी. तब मैंने उसका हाथ पकड़ा और उसे उठा कर दीवार के सहारे लगा दिया, उसकी चूत पर लंड सैट कर दिया और उसको धक्के मारने शुरू कर दिए.

मेरी नज़र उसके टॉप पर पड़ी जो कि उसके मोटे मोटे चूचों की वजह से उभरा हुआ था.

स्टेप मॉम सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे एक औरत अपने जवान सौतेले बेटे से पूरी रात में कई कई बार चुदी. चीन वालों की सेक्सीमैं बोला- अभी तो और मजा आएगा, लेकिन तू अपना मुँह बंद रख!मैं घबरा रहा था कि अगर भाभी जाग गयी तो क्या होगा. मूवी वीडियो डाउनलोडमेरे मुँह में एक मम्मे का मजा था, तो मेरे दोनों हाथ उसकी कमर में से पैंट में घुस गए थे. थोड़ी ही देर में मौसी ने अपनी गांड मेरे लंड से चिपका दी और लंड के साथ छेड़छाड़ करने लगी.

जब मैं उसे उसके घर के पास कार से छोड़ रहा था तब उसकी मॉम ने बालकनी से उसको कार से बाहर निकलते हुए देख लिया.

मेरा लंड एकदम कड़क होकर उसकी चुत के साथ होली खेलने के लिए तैयार हो चुका था. तब शैली मामी ने बैठकर उसकी घायल बुर को देखा जो मुहाने पर कई जगह से कट गई थी. स्नेहा ने स्लीवलैस ब्लाउज पहना हुआ था जिस वजह से उसके हाथ बेहद सुंदर दिख रहे थे.

उसकी साफ़गोई से मैं भी जोश में आ गया और उसके एक निप्पल को दांत से हल्के हल्के से काटने लगा. मेरी फंतासियां कुछ अलग किस्म की थीं; मुझे जंगली प्यार, अलग अलग तरीकों से चुदाई करवाना बहुत पसंद था. अब सुबह के 5:00 बजने वाले थे; सुनीता ने कपड़े पहन लिए थे और वो नीचे चली गई थी.

सपने में बच्चों को पढ़ाते हुए देखना

मैंने अपना हथियार उसके हाथ से छुड़ा कर उसे पलटने का इशारा किया तो वह तुरंत पलट गया. इतने में पापा ने उसकी नाईटी की कमर के ऊपर वाली रिबन खोल दी, जिससे उसकी सैट वाली डोरी वाली पैंटी और रिबन की ब्रा दिखने लगी. तो उसने मेरी चौड़ी और गठीली छाती को अपने दोनों हाथों से सहलाया, वो बोली- हर्षद वो मेरी प्यारी बहन जो है … मेरी खुशियां ही चाहेगी ना वो!मैंने अपनी जुबान से उसकी जुबान को सहला कर कहा- अच्छा.

मैं भी बड़े प्यार से खूब चुदी और जब तक मेरे पापा मम्मी के आ नहीं गए तब तक मैं चुदती रही.

हां दोस्तो, चूत की चुदाई तो पता नहीं लगता है, पर चेहरे का चुम्बन खतरनाक होता है.

मैं जानता था कि दीदी मेरी वजह से ही बालकनी में स्कर्ट पहन कर खड़ी है. पापा मौक़ा पाते ही मेरी चूची दबा लेते और प्लान बना कर मैं पापा से अपनी चुत चुदवा लेती थी. सेक्सी वीडियो का गानादोस्तो, मैं हर्षद मोटे आपकी सेवा में इस गरम सेक्स कहानी का अंतिम भाग लेकर हाजिर हूँ.

इसके बाद उन दोनों ने किसी बच्चे की तरह मेरी एक एक चूची मुँह में लगा कर खूब जोरों से चूसा. मैं- ओह … तो भाभी ये दिक्कत है … आपको दाद हुई है, पर इसमें इतना परेशान होने वाली कौन सी बात है!भाभी- भैया तो क्या करूं. भाभी को बहुत गुस्सा आया और बोलीं- मुझे नहीं रहना आपके साथ, मैं चली जाऊंगी.

यह सुनकर मेरा लन्ड खड़ा हो गया, मैंने प्यार से उसकी गांड पर चपत लगाते हुए पूछा- तो ये सिर्फ मेरे लिए ही बचाई है क्या?वो मेरी बात पर कुछ नहीं बोला, बस शरमा कर रह गया. अब वो जोर जोर से झड़ने लगी, मुझे उसने इतनी जोर से दबाया हुआ था कि मुझे कुछ देर तक सांस ही नहीं आ सकी.

भाभी ने भी लंड मुँह से बाहर नहीं निकाला, वो मेरे लंड का पूरा माल पी गईं.

रेशमा भी ‘आआहह उह हम्म्म्म और जोर से … और जोर से वीरू जीईई …’ बोल बोल कर मेरा जोश बढ़ा रही थी. अब मेरा लंड भी उसकी चूत में साँप की तरह फुंफकार रहा था और किसी भी पल अपना जहर छोड़ सकता था. बूब्स की खूब चुम्मियां लीं, निपल्स भी मजे से चाटे, मेरी मक्खन सी चूत पर भी हाथ फेरा.

ब्लैक कॉम मैंने उसकी चूची दबाई और कहा- हां तुमने लंड को रगड़ा था तो मुझे भी मजा आ गया था. मैंने और मेरे लंड ने मन बना लिया था कि इसको कैसे भी करके चोदना ही है.

अब मैं खड़ा होने लगा और आहिस्ता से अपना लंड चूत से बाहर निकालने लगा. अब मैं शुरू हो गया और अन्दर बाहर अन्दर बाहर धक्कम पेल धक्कम पेल करने लगा. उसकी साड़ी के अन्दर नंगी मोटी चूचियां, गोरी कमर, सुडौल चूतड़, हूरों जैसे तीखे नैन नक्श, जो हमेशा मुझे ही देखते रहते थे और मैं उन्हें!हमारे घर में काम करने के लिए कई नौकर हैं, गाड़ियां हैं.

चोपड़ा की फोटो

मैंने ब्रा को नाक से लगाया और सूंघ कर कहा- मस्त महक है तेरे मम्मों की!वो खिलखिला कर हंस पड़ी और गांड मटकाती हुई चली गई. एक भाभी ने मुझे अपने घर हवन और पूजा के लिए बुलाया परन्तु उसने मुझसे करवाया क्या?नमस्कार दोस्तो, अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली कहानी है हॉट देसी भाभी पोर्न की. शाम ढले, शैली के पति अमरचंद अपनी ड्यूटी बजा कर आए तो जरूरी शिष्टाचार के साथ सारी बातें बताईं.

अब मेरी चूत भी हल्की गीली हो चली थी और पहले जैसा कुछ भी दर्द नहीं हो रहा था. उसके होंठ थोड़े मोटे, जिस पर सुर्ख लाल रंग की लिपिस्टिक उसे बहुत ही ज्यादा हॉट बना रही थी.

मैंने उसे समझाया और बताया कि मैं अपनी गारंटी पर अधिकतम 30 लाख तक का लोन पास करवा सकता हूँ लेकिन ब्याज की दर थोड़ी बढ़ जाएगी.

फॅमिली सेक्स पोर्न कहानी में पढ़ें कि कैसे मुझे मेरे जेठ जी ने चोदा. थोड़ी देर चूत चाटने के बाद मुखिया जी ने अपने मोटे से लन्ड को माँ की चूत पर रखा और उसे चूत पर रगड़ने लगा. जब वो मुझे घोड़ी बना कर चोद रहा था, तब मेरे मुँह के सामने दूसरे बाबा का लंड दिख रहा था.

मैंने झट से अपनी पैंट उतारी और उसकी तरफ मुठ मारते मारते आगे बढ़ने लगा. उसने 40 लाख के लोन की डिमांड की थी और उसकी प्रॉपर्टी के तरत उसे सिर्फ 25 लाख ही दिया जा सकता था. इतना सब होने के बाद भी मेरी बीवी समझ ना सकी कि यह फकीर उससे क्या चाह रहा है.

अब मैं पूरे जोर से दीदी की गांड चोद रहा था और वो ‘आह आह …’ करती रहीं.

बीएफ पिक्चर सेक्सी नंगी सीन: अब आगे बाप बेटी Xxx कहानी:जब मैं मां को ये सब बताया तो मां ने कहा- अब तो हम लोग को पता चल गया है कि बाप बेटी को चोदना चाहता है. मैं उसके ऊपर झुककर अपने होंठ उसके होंठों पर रखकर उसे शांत करने लगा.

मेरे बात पर खिलखिलाकर हंसती हुई रेशमा बोली- वीरू जी, वो कहावत तो सुनी होगी आपने … लंगूर के हाथ में अंगूर?मैंने भी उस बात पर हंसते हुए उसकी गांड को सहलाना चालू कर दिया. ऐसे पाठकों से मेरा इतना ही कहना है कि कहानी को दिमाग लगा कर पढ़ें और पहले ये जान लें कि कहानी किसकी है और आप क्या सवाल कर रहे हैं?ससुर सेक्स की हिंदी कहानी के पहले भागमैं ससुर जी के सामने नंगी चली गयीमें अभी तक आपने कहानी में पढ़ा कि किस तरह से मेरी सहेली नैना अपने जिस्म की आग में जल रही थी, जिसके कारण उसने पहले अपने देवर पर डोरे डाले लेकिन सफल नहीं हुई. वो बोली- दो उंगलियों से ही मेरी हालत खराब हो गई है … इससे तो मैं मर ही जाऊंगी.

वो बोली- कैसे?मैं- वो सब मैं बाद में बताऊंगा, जब मैं उन्हें छूऊंगा और सहलाऊंगा.

उसने दो गिलास में दूध भरकर एक मुझे पकड़ा दिया और दूसरा खुद ने ले लिया. मैंने पूछा- क्या हुआ भाभी ऐसे क्यों चल रही हो?भाभी- कुछ नहीं, बस पैर में चोट लग गयी है. मेरी सिसकारियां निकलने लगी थी, इससे अमन को हिम्मत मिली और उसने मेरी पैंटी के अंदर हाथ डाल दिया और मेरी क्लिट को मसलने लगा।अब मैं सातवें आसमान पर पहुंच चुकी थी.