एचडी सेक्सी बीएफ चोदा चोदी

छवि स्रोत,कैसी लगी सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

पहिली सुहागरात: एचडी सेक्सी बीएफ चोदा चोदी, कुछ ही देर में मैंने देखा कि मेरे देवर के हाथ की मुट्ठियां भिंचने लगी थीं और उसका लंड फनफनाने लगा था.

जींस पेंट वाली सेक्सी पिक्चर

सफ़ेद कड़क मम्मे … उस पर गहरे कत्थई कलर की छोटे छोटे से निप्पल देख कर मुझसे रहा नहीं गया. सन सेक्सी फिल्मतब उसने अपनी एक पच्चीस साल की गर्लफ्रेंड का जिक्र किया और कहा कि मैं किसी तरह से उसकी मौसी को पटा लूँ.

उसके बाद कुछ धक्के और लगाने के बाद मैं ज्योति के नंगे बदन पर लेट गया और उसके माथे पर किस करके उसे बांहों में भर कर लेट गया।सुबह तक ज्योति की मैंने चार बार ताबड़तोड़ चुदाई की. फुल सेक्सी वीडियो साड़ी मेंहालांकि मैं कुछ समझ ही नहीं पा रही थी कि अंकल के साथ कैसे शुरू करूं.

हॉट मैरिड गर्ल सेक्स कहानी मेरे साथ काम करने वाली शादीशुदा लड़की की है.एचडी सेक्सी बीएफ चोदा चोदी: कहो तो सारी रात के लिए आ जाऊं?मैंने कहा- मुझे तुम्हारे साथ रात बिताने में और भी अच्छा लगेगा.

हमने होटल में चैक-इन किया और फिर रात में नेट पर बैठ कर एक सी-बीच की खोज की, जो थोड़ा दूर था और उधर काफी एकांत था.हमें ज्यादा प्रतियोगियों की जरूरत थी, हमें इस प्रतियोगिता के लिए करीब 1000 लोग चाहिए थे, जबकि अभी हमारे पास केवल 500 फार्म भरे गए थे.

किशनगढ़ की सेक्सी - एचडी सेक्सी बीएफ चोदा चोदी

मैं- आप पागल हो गए हैं क्या?वो- तेरी कसम, मुझे किसी और से तुझे चुदते देखना है.मैंने उसकी मदद करने का सोच लिया- आप चिंता मत करो, मैं कुछ करता हूँ.

वो बोली- खुद से खड़े होने में तो दिक्कत हो रही है, मालिश कैसे करूंगी!मैंने कहा- किसी से करवा लेना. एचडी सेक्सी बीएफ चोदा चोदी उसने आँखें बंद करते हुए कहा- ओह, तो हमारे लेखक साहब शायर भी हैं और साथ में मसाज भी अच्छी देते हैं, बहुप्रतिभाशाली!मैं मानो तैयार बैठा था … मैंने कुछ नहीं कहा.

मैं- ये सब घर पर पागल … अभी शांति से बैठ!प्रियंका- तुझे पता है कि मैं यहां क्यों लाई हूँ तुझे?मैं- साली कहीं यहां खुले में तू वो सब करने की तो नहीं सोच रही न!प्रियंका- वो सब खुले में ही तो करने का मन है … वरना थोड़ी देर पहले हम दोनों घर पर ही तो थे.

एचडी सेक्सी बीएफ चोदा चोदी?

मैं दो साल बाद कोमल दीदी को देख कर बड़ा असहज हो गया था और बेचैनी में ही मोनिका को कॉलेज से लेकर कोमल दीदी के घर आ गया. मेरी नजर बार बार उसके गोल गोल मम्मों पर जा रही थी और उसने मुझे उसके मम्मों घूरते हुए देख लिया था. फिर थोड़ी देर बाद जब वो बिस्तर पर आई, तो मैंने कहा- ज्योति तुम्हारा काम तो हो गया … पर मेरा क्या?उसने कहा- दीदी आ जाएगी.

फिर वो अकड़ गईं- आह उइ उइ उइ आ गई!दीदी गांड हिलाती हुई डिस्चार्ज हो गईं और पापा के ऊपर लेट गईं. जब दूसरा पैर आगे रखतीं, तो पहला नीचे उतर कर दूसरे के नीचे रगड़ जाता था. मैंने उन्हें सीट बेल्ट पहनने को बोला, तो वो नशे में ठीक से बांध नहीं पाईं.

रियल भाभी फक स्टोरी में पढ़ें कि मेरे भाई अपनी पत्नी को चुदाई का सुख नहीं दे पाए तो भाभी को मैंने सहारा दिया अपने लंड का. अंजलि पूर्ण नग्न अपनी गांड मटकाते हुए ऑमलेट बना रही थी और भाई-भाभी कहीं नजर ही नहीं आ रहे थे. आज पहली बार उसको अहसास हुआ कि गांव की कमला विमला गुड्डो इन सबकी चूचियों में और रानी के चूचों में बस इतना सा फर्क है कि वो सूती ब्रा में आराम करती हैं और रानी साहिबा के चूचे मखमली ब्रा में आराम करते हैं.

मम्मी- देखिए जी, पहले की बात अपनी जगह ठीक है, लेकिन आज से मैं आपकी पत्नी हूं और आपके जो भी अरमान हैं, आप उन्हें बिना कुछ कहे पूरा कर सकते हैं. वो शोख निगाहों से मुझसे बोली- अब बता कैसे हैं?मैंने कहा- एकदम धांसू हैं यार.

बार बार अपनी साड़ी के पल्ले को झटका मार कर सही कर रही थीं और अपने पेटीकोट को सैट कर रही थीं.

पर सुनील ने मेरी बात पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया और मेरा मुंह नीरज के लंड में दबा दिया और मुझे चोदना जारी रखा.

घर में आकर भाभी जी ने मुझे चाय के लिए पूछा तो मैंने काम का बहाना मार कर उस समय मना कर दिया और उनसे जाने की इजाजत मांगी. भाभी को हॉल में चुदने में मजा तो बहुत आया था लेकिन उनको अभी भी चुदने की बहुत खुजली थी. मैंने दीदी से कहा- तो फिर से आकर दबा दूं क्या?दीदी ने कहा- हां दबा दो ना … मेरा दर्द कम हो जाएगा.

मैं दीदी के चूचे कभी चूसता तो कभी दबाता और काफी देर तक हमारी धक्के की रेलगाड़ी चलती रही. मीरा एकदम से चिल्लाने को हुई मगर मुँह में कल्पेश का लंड घुसा था तो वो दर्द से रोने लगी. फिर जब मैंने फोन रखा तो वो खुद मेरे पास आई और बोली- यार, किताब लेने में आप मेरी भी हेल्प कर दो.

उससे मैंने फिर से पूछा कि जी आपको कौन चाहिए?उसने मुझे देखते हुए कहा- आपके रूम का नल चालू है, बंद कर दीजिए.

ये मस्त नजारा देख कर मुझसे रहा नहीं गया, मैंने तुरंत ही अपना मोबाइल निकाल कर उसके फोटो निकाल कर सेव कर लिए. मैंने हल्के से खांसा, उसी समय उसने मेरी तरफ देखा तो मैंने धीरे से उसको आई लव यू बोल दिया. मैंने कैसे उसे सेक्स के लिए पटाया?दोस्तो, मेरा नाम सन्तोष उर्फ़ सन्नी है और मैं उत्तरप्रदेश के झांसी शहर में रहता हूं।यह मेरी पहली सेक्स कहानी है, उम्मीद है आपको इस अन्तर्वासना हिंदी कहानी में मजा आएगा।मैं भी इस वेबसाइट का नियमित पाठक हूँ.

प्रियंका अपने ही हाथों से अपने दोनों बूब्स को मसलती हुई बोली- साली, अब सिर्फ देखती ही रहेगी या आकर चूसेगी भी!मैं इधर उधर देख कर बेख़ौफ़ हुई और प्रियंका के दोनों मम्मों को बारी बारी से चूसने लगी. उसकी आंखों से साफ़ समझ आ रहा था कि मैं अब उसे उसके होंठों पर किस करूंगा. तभी मोनिका ने भी मुझे अपने ऊपर से उठाया और मैं कोमल दीदी को बड़ी उदास नजरों से देखने लगा.

अब किसी बात का डर नहीं था क्योंकि हम दोनों राजी थे।पहले मैंने रिशू से कहा- मेरा लन्ड चूसो पहले … फिर कुछ करते हैं!लेकिन उसने मना कर दिया और बोली- यार, ये सब न करवाओ!फिर मेरे बहुत कहने के बाद मेरी बहन मान गई और मेरा लन्ड चूसने लगी.

फिर पूजा घर में जाकर हम दोनों ने शादी कर ली और मैंने अपनी पत्नी प्रिया को कस कर अपनी बांहों में भर लिया. अगले दिन मैं और मोनिका कॉलेज में मिले और पार्क में ही वो मुझे अपने साथ चिपकाने लगी तो मैं उसे टॉयलेट में ले गया और दोनों ने चुदाई की जो जल्दी ही खत्म हो गई.

एचडी सेक्सी बीएफ चोदा चोदी फिर मम्मी ने अपने नाज़ुक नर्म होंठों को चाचा के लंड सुपारे पर एक बार छुआ. फिर भाई ने धीरे धीरे अपना लौड़ा अन्दर बाहर करना चालू किया तो मेरा दर्द कम होने लगा और मुझे मजा आने लगा।तो मैं भी भाई का साथ देने लगी और जोर जोर से आवाजें करने लगी क्योंकि घर में कोई नहीं था।हम दोनों भाई बहन एक दूसरे को पूरी तरह से खुश कर रहे थे, अपनी जवानी में दोनों मदहोश होकर एक दूसरे को संतुष्ट कर रहे थे.

एचडी सेक्सी बीएफ चोदा चोदी भाभी ने मेरा लण्ड पकड़ कर अपनी चुत के छेद पर सेट किया और कहने लगी- अब डाल दो।मैंने पूरे दम से अपने लण्ड को भाभी की चूत के अन्दर डाल दिया. तो मम्मी ने शर्माते हुए कहा- मुझे भी आप …मम्मी के इतना कहते ही, चाचा ने मम्मी पर लगभग झपटते हुए अपने होंठ मम्मी के नीचे वाले होंठ पर लगा दिए और बुरी तरह से चूसने लगे.

9 बजे से यहाँ कोरोना की वजह से दोबारा नाईट कर्फ्यू लगने की घोषणा हो चुकी थी.

सनी लियोन फुल बीएफ

मेरा लौड़ा अन्दर जाते ही अम्मी दर्द के मारे चीख पड़ीं और मुझे तेल लगा कर गांड मारने को कहने लगीं. मेरे हाथ सौम्या के सर में मसाज देते हुए उसकी गर्दन तक पहुंच गया था और दूसरा हाथ उसकी नाभि से होते हुए उसकी कमर को सहला रहा था।मैं उसके होंटों की तरफ अपने होंठ ले जा रहा था और सौम्या भी धीरे धीरे मेरी तरफ अपनी गर्दन ला रही थी।मैंने अपनी आँख बंद कर ली।उसके होंठों की बाहरी सतह को अपनी जीभ से महसूस करने लगा. मैंने कुछ पल के लिए अपना लंड उसी पोजीशन में रोक दिया और उसके मुँह को अपने मुँह के पास लाकर जोर-जोर चुंबन देने लगा, उसके बालों को सहलाने लगा.

जब मैं जान गया कि बुआ गहरी नींद में हैं, तो मैंने अपनी एक टांग को बुआ के ऊपर चढ़ा दिया. कहानी के पिछले भागदो लंड से एक साथ चुदाने का अनुभवमें पढ़ा कि मुझे दो अमीर क्लाइंट मिल गए थे. मोनिका ने हाथ से पकड़ कर लंड चूसना शुरू कर दिया और मेरा लंड मोनिका के मुँह में पानी निकाल कर सिमट गया.

कुछ देर ऐसे ही करते रहने के बाद मीना बोली- जीजू, मुझे इस के साथ खेलना बहुत अच्छा लग रहा है.

लंड का मुखड़ा अन्दर लेते ही उसकी चीख निकल गई और मैं वहीं पर रुक गया. दोस्तो, आपने मेरी पहली सेक्स कहानीचचेरी बहन को चोदा बस के स्लीपर बॉक्स मेंपसंद की. वो बोली- हां वो तो आप साथ में थे, नहीं तो वो पहली बार में ही मुझे चोद देता.

फिर मैंने दोनों को खड़ा किया और नीचे बैठकर दोनों के कच्छे एक साथ उतार दिए और दोनों को नंगा कर दिया. दोस्तो, आपने मेरी पहली सेक्स कहानीचचेरी बहन को चोदा बस के स्लीपर बॉक्स मेंपसंद की. फिर एक दिन शाम को मैं अपने रूम में जा रहा था, तब निकिता ने मुझे रोक किया.

फिर थोड़ी देर और बात करने के बाद मैंने उसे झूठी आइडी के बारे में बता दिया. रात को खाना खाने के बाद वो मेरी गांड मारने के लिए फिर से बेताब हो गया.

वो कामुक सिसकारियां भरने लगीं, मैं पूरी जीभ को अन्दर तक डाल कर घुमाने लगा. अंजलि मेरा लंड देख कर बोली- वाह क्या धांसू लंड है भोसड़ी वाले का … यह तो मेरी फाड़ ही देगा. वो पहली बार किसी मर्द के साथ ऐसा कर रही थी तो उसे कुछ ज्यादा आइडिया नहीं था.

मैंने उसकी टांगों से चूमना शुरू किया, धीरे धीरे करके ऊपर की तरफ आया और उसकी चुत को चाटने लगा.

ऋतु सिर्फ ‘आअह्ह ऊऊ ह्ह्ह ओह्ह मर गई … आह मज़ा आ गया जान ओह्ह …’ कर रही थी. मैंने भी लौड़ा चुत में सैट कर दिया और धांए धांए फायरिंग शुरू कर दी. मैं बस नशे से में होकर उसी का नाम पुकारे जा रही थी- आह … आकाश … बाबू क्या कर दिया तुमने आह्ह मजा रहा है.

तब तक आपको ये Xxx यंग सिस्टर सेक्स कहानी कैसी लगी, आप मुझे मेरी मेल पर बताना न भूलें. आपको कुछ चाहिए क्या?मेरी सास ने कहा- हां फैसल, मुझे तुम्हारे चाचा की दवाई नहीं मिल रही है और नाजिया न जाने किधर चली गई है.

भाभी मुझे एक मॉल में ले आईं और मेरे लिए एक दूल्हे की ड्रेस देखे लगीं. वो मेरी इस बात से बड़ी खुश थी कि मैंने उसे गोद में उठाकर प्यार जताया था. कुछ दिनों तक तो मैंने बहुत बार सोचा कि घर चले जाना चाहिए, पर तभी कुछ ऐसा हुआ … जिससे मेरा मन हॉस्टल में लग गया और मुझे घर की याद नहीं आई.

हिंदी बीएफ 2020 के

मैंने उसकी टांगें पकड़ीं और अपने लंड का टोपा उसकी चूत पर सैट कर दिया.

मगर मेरे मामा की बेटी ने मेरा लंड अपने मुँह में लेने से मना कर दिया. थोड़ी देर लंड चुसाई के बाद मैंने उससे कहा- चल अब तेरी चूत का उदघाटन करता हूँ. देसी चूत की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मुझे मेरी बुआ ने अपनी एक जवान सहेली की कसी चूत का मजा दिलाया.

हम तीनों की कामुक सिसकारियां तेज़ हो गई थीं और कमरे में ‘आह ओह हहह ऊईई ऊईई …’ की आवाज गूंजने लगी थी. मेरे पति कुछ काम के कारण दूसरे दिन आने वाले थे, तो मैं अपने देवर, सास-ससुर और अपने बेटे प्रसाद ही यात्रा कर रहे थे. बाप बेटी की सेक्सी पिक्चर हिंदी मेंफिर मैडम से पूछा- कहां चलना है?तो वो बोलीं- शिमला जाना है या जहां तुम चाहो.

मैंने उससे कहा- दोस्त आज मुझे कुछ ज़्यादा दूध चाहिए, मिलेगा?वो बोला- साब अभी तो नहीं है, पर आप बोलो तो मैं बाद में दे जाऊंगा. मैंने अब उसको पेट के बल लिटा दिया और उसकी पीठ पर किस करना शुरू किया.

सेक्स कहानी के अगले भाग में वो सब लिखूँगा, जिसे पढ़ कर आपके आइटम गर्मा जाएंगे. उसने खुद ही 600 रूपए का केक ले लिया और मैं केक पकड़ कर पीछे बैठ गया. मैंने देखा कि विशु मेरी पैटी को सूंघ रहा था और अपने लंड को एक हाथ से सहला रहा था.

आज मैं आपको अपनी वो घटना सुनाने जा रहा हूँ, जिसे पढ़ने में आपको बहुत ही आनन्द आने वाला है; आपकी अन्तर्वासना को आत्मतृप्ति प्राप्त होगी. मेरा लौड़ा अन्दर जाते ही अम्मी दर्द के मारे चीख पड़ीं और मुझे तेल लगा कर गांड मारने को कहने लगीं. अब तीसरे लड़के ने रानी को कुतिया बनाया और वो पीछे से अपना लंड को रानी की गांड में डालने लगा.

तभी मैंने देखा कि मैं हिल भी नहीं पा रहा हूँ क्योंकि मेरे हाथ और पैर बेड पर बंधे थे.

कुछ देर बाद भाभी ने कहा- मेरे पास और भी बहुत सारी चीजें ऐसी हैं जिनको तुम चूस कर मजा ले सकते हो. मैं- लेकिन मैंने तो सुना था कि जिनका बच्चा हो जाता है, उनका छेद इतना टाइट नहीं रहता और उनको दर्द भी कम होता है? लेकिन आपका इतना टाइट कैसे था … और आप काफी आवाजें भी कर रही थीं?नेहा दीदी मुस्कुराती हुई- मेरा छेद इसलिए टाइट है, क्योंकि मेरी बेटी आपरेशन से हुई है.

मैंने चूत को लंड से कुछ ज्यादा घिसा तो उस्ताद जी ने मेरी चूत के छेद पर लंड सैट कर दिया और एक धक्का दे मारा. उधर से आवाज आई कि अभी तक पता नहीं लगा सके, तो सजा कैसे दोगे?मैंने कहा- जिस दिन मौका मिलेगा, उस दिन ऐसी सजा दूंगा कि गांड फट जाएगी. अब चाचा मम्मी के खड़े हुए निप्पलों पर अपनी गर्म जीभ की नोक रखकर उन्हें अपनी जीभ से सहलाने लगे.

मैंने ये देख कर एक दिन एक तरकीब लगाई और ऐसे ही दोस्ती में मैंने उसे प्रपोज कर दिया. फिर दीदी ने धक्कों की रफ्तार बढ़ा दी और उनकी सांसें तेज हो गईं जिससे मेरे चेहरे पर गर्मी महसूस हुई. मैंने होटल जाने को बोला पर मोनिका ने मना कर दिया कि प्रॉब्लम हो जाएगी, तुम कुछ और सोचो.

एचडी सेक्सी बीएफ चोदा चोदी मैंने दिल पर हाथ रख कर कहा- जितने चाहे खंजर चला लीजिएगा, ये मंजनू उफ़ तक नहीं करेगा. फिर 5 मिनट बाद मैं अंकिता के ऊपर से हटा और अंकिता मेरे ऊपर आकर लेट गई.

हिंदी में बीएफ देना

वो हंस कर मजाक जरूर कर रही थी लेकिन उसकी आवाज कांप सी रही थी और जुबान सूख सी गई थी. अगले दिन जब मीना उठी तो बोली- जीजू सॉरी … आपको मेरी वजह से बहुत परेशानी हुई. घर पर दीदी के अलावा उनके 2 बच्चे हैं जो अभी बहुत छोटे हैं; एक 6 साल है तो दूसरा 4 साल का.

और ब्रेक वगेरह सब कुछ हमें कुछ भी नहीं पता है।मैं दाइशा जी को एक्सलेटर, ब्रेक, क्लच सब कुछ बताने लगा।पर बताते हुए मेरी आंखें दाइशा जी के उठे हुए उभारों को, उनके नीचे उसे पेट और नाभि तक दीदार कर रही थी।दाइशा ने फिर बोला- मैं तो कुछ भी नहीं जानती. उसकी उठी हुई गांड देख कर मन किया कि जाकर उसके नमकीन पहाड़ पर हाथ रख दूँ, पर मजबूर था. xxxii सेक्सीफिर भाई ने धीरे धीरे अपना लौड़ा अन्दर बाहर करना चालू किया तो मेरा दर्द कम होने लगा और मुझे मजा आने लगा।तो मैं भी भाई का साथ देने लगी और जोर जोर से आवाजें करने लगी क्योंकि घर में कोई नहीं था।हम दोनों भाई बहन एक दूसरे को पूरी तरह से खुश कर रहे थे, अपनी जवानी में दोनों मदहोश होकर एक दूसरे को संतुष्ट कर रहे थे.

वो सामने एक्जीक्यूटिव चेयर पर बैठ गया।उसने मेरे पेपर मांगे और उन्हें देखने लगा।फिर उसने मेरे से पूछना शुरु किया- तुमने इंजीनियरिंग दो साल पहले की थी तो जॉब क्यों नहीं की?मैं- मैंने एक स्टार्ट-अप का सोचा था और उसके लिये फाइनेंस का इंतजाम कर रही थी.

अब मैं अधिक समय न बर्बाद करते हुए अपनी हॉट सिस्टर Xxx कहानी पर आता हूँ. अब मैंने गाड़ी स्टार्ट कर दी और उससे कहा कि तुम बाद स्टेयरिंग पर हाथ रख लो.

मुझे सेक्स कहानी पढ़ने का बहुत शौक है, तो सोचा कि खुद की कहानी भी आप सभी के बीच रखूं. मम्मी- अह्ह …चाचा झटके मारते हुए मम्मी की चुत चोदते रहे और पट पट की आवाज आती रही. मैंने खुद को अलग किया और थोड़ा संयत भी!अभी तो उससे आँख भी नहीं मिला पा रही थी.

लेस्बियन मॉम सेक्स कहानी मेरे दोस्त की मम्मी के साथ मेरी मम्मी के सेक्स की है.

एक दिन जब मैं खाना खाकर बाहर टहल रहा था, तभी मेरे पड़ोस की एक भाभी मेरे पास आई और अपने बच्चों को पढ़ाने की बात करने लगी. मेरी मम्मी के मुँह ये सुनकर आप अंदाज लगा सकते हैं कि चाचा का लंड कितना मोटा होगा कि मम्मी को इतने दर्द के साथ चिल्लाना पड़ा. मैं अभी कुछ समझती कि उसने मेरी टांगें फैला दीं और मेरी चूत चाटने लगा.

सेक्सी वीडियो बढ़िया वाली लड़कीउसी वक्त मैंने अपना मुँह उसकी न्यू चूत पर लगा दिया और उसकी चूत को जीभ से चाटने लगा. मेरे खड़े लंड को देख कर बुआ गनगना गईं और मेरे लंड को पकड़ कर सहलाने लगीं.

दादी पोता का बीएफ

दीदी मतलब मेरी भाभी ने भेजा है, ये जानकर मैं सकते में आ गया कि ये साला क्या चक्कर है. 143 से सम्पर्क कर सकते हैं।गैंग बैंग पोर्न स्टोरी का अगला भाग:चुदाई की लत ने रंडी बना दिया- 6. मैंने कहा- मैडम पापा ने मना कर दिया तो?पर मेम ने बड़ी रिक्वेस्ट करते हुए कहा- प्लीज़ मेरी मदद कर दो.

उन्होंने मुझे बिस्तर पर लिया लिया और मेरी साड़ी और पेटिकोट को निकाल दिया।मैं उनसे कुच्छ भी कहने की स्थिति में नहीं थी, मुझे मजा आ रहा था।फिर वो सब नंगे हो गए और सबने बारी बारी अपना लन्ड मेरे मुंह में देने शुरू कर दिया।मैं भी बड़े छोटे लंड अपने मुंह में लेकर चूसने लगी. उसने कभी किसी से अपना लंड नहीं चुसवाया था और न ही किसी की गांड मारी थी. कोई भी लड़का मुझे देख कर अपने लंड की लार टपकाए बिना नहीं रह सकता था.

हमारे बीच में अब आप वाली औपचारिकता खत्म हो गई थीउसने पूछा- तुम अकेले ही रहते हो?मैं बोला- हां अंकिता जी. कपड़े उतारने के बाद मैंने उसे देखा तो लगा कि खुदा ने बड़ी मेहनत से उसका बदन तराशा था. लिटाने से उसकी स्कर्ट और ऊपर हो गई और मुझे उसकी काली पैंटी की हल्की सी झलक मिलने लगी.

फिर एक दिन मेरे नंबर पर किसी अनजान नंबर से मिस कॉल आया, तो मैंने फोन लगाया. इसके बाद जयेश मुझे अपने घर ले गया और अपनी बीवी के सामने में गांड मारी.

मॉम के बूब्स चाटने से गीले हो गए थे और अंधेरे में ब्लू लाइट में दोनों बूब्स चमक रहे थे.

मुझे दर्द तो हो रहा था मगर कुछ नया करने की चाह में मैं सारा दर्द भूल गयी और चुदाई का मज़ा लेने लगी. सेक्सी इंग्लिश एचडी व्हिडिओकुछ देर लंड बुर चूसने के बाद मैं सीधा हो गया और उसकी बुर को देखकर फिर से अपना मुँह उसकी बुर पर रख दिया. बीपी पिक्चर के सेक्सीकुछ मिनट बाद ऋतु को दर्द होने लगा तो उसने अपनी चूत और मरवाने से मना कर दिया. कुछ टाइम पहले हम दोनों एक-दूसरे को जानते भी नहीं थे और अभी बॉयफ्रेंड- गर्लफ्रेंड की तरह रोमांस कर रहे थे.

ये कह कर मालकिन ने नौकर की धोती खोल दी और हाथ से उसका लौड़ा पकड़ लिया.

मैंने तो अपना स्टे भी बढ़ा लिया और तीन कपल के साथ वाइफ स्वैपिंग करके गया. उसे देखने के बाद मैंने उससे एक दो बार उससे कहा भी था- रानी ये सब ठीक नहीं है. तभी रश्मि बोली- अंकल ने तो मन्दिर पहले भी दो तीन बार देखा है, तो अंकल आप मेरे साथ बाहर चलो.

इधर एक बात आपको बता दूँ कि जो लड़का गांडू किस्म का होगा, वही मर्द की तरफ आकर्षित होगा. मैंने उससे कहा- मेरी बहना, सिर्फ आज ही नहीं बल्कि अब तो मैं तुमको घर पर भी हर रोज चोद कर संतुष्ट कर दूंगा. उसकी हालत देख कर मैंने उसे पकड़ कर खड़ा किया, उससे पूछा- क्या हुआ मीना?वो बोली- जीजू यार … सर घूम रहा है और मुझे उलटी करने का मन कर रहा है.

बीएफ अंग्रेज

फिर मैं अपने दोनों हाथ अलग अलग करके उसके मम्मों पर लगाने लगा और दबाने लगा. उसकी कामुक आवाजें मुझे और ज्यादा उत्तेजित बना रही थीं और मेरा जोश भी बढ़ रहा था. भोजन करते हुए भी वे सब लोग मेरे ब्लाउज के गले के लो कट में से मेरे क्लीवेज को ही घूरते रहे।सुरेश और दीपक जी ने तो डाइनिंग टेबल के नीचे से अपने पैरों से मेरी साड़ी ऊपर सरकाई और मेरी दोनों जांघों को जानबूझ कर छूते रहे।फिर भोजन के बाद सबने खूब बीयर पी.

बिहारी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी क्लास में एक बहुत हॉट सेक्सी फिगर वाली लड़की थी.

उन सबके नाम कुछ इस तरह थे:बलविंदर उर्फ़ बल्लू उम्र 51 साल, देखने में एकदम फौजी जैसा शरीर था उसका!अवधेश उम्र 49 साल, देखने में ठीक ठाक था.

मैंने 3-4 बार लंड रगड़ा और वो हर बार गांड उठा कर लंड चुत में लेने की कोशिश करती रही. दो घंटे के बाद मैंने उनको जगाया तो वो उठकर बाथरूम गईं और फ्रेश होकर बाहर आ गईं. एयरटेल वीडियो सेक्सीमेरा आधा लन्ड अन्दर चला गया और वो जोर जोर से रोने लगी- हां जीजू, मुझे मार दिया आपने! मेरी चूत फाड़ दी आपने! मर गयी मैं, निकालो अपना लंड मेरी चूत से!मैंने उसे धीरे धीरे समझाया और वो नॉर्मल हो गई.

मगर उसकी दीदी ने मेरी तरफ प्यार से देखते हुए कहा- नहीं, मैं जा रही हूँ शिवानी … तुम आ जाना. उधर आकाश का रिश्ता भारत में एक नामी कॉलेज से सॉफ्टवेयर इंजीनीयरिंग की हुई रूपा के साथ तय हुए एक साल से ऊपर हो गया था।कुछ तो कोविड के चलते और कुछ आकाश की टालमटोली में शादी टलती रही।आकाश की माँ ने कई बार आकाश से यहाँ तक पूछा कि अगर ये रिश्ता उसे पसंद नहीं है, तो मना कर देते हैं. मैंने एक लम्बी सांस ली और फिर से उसकी गुलाबी चूत पर फूल को घुमाने लगा.

मोनिका बाइक पर बैठ गई और बोली- शिव कोमल दीदी की शादी हो गई है, ये वाली बात याद है न!उसके कहने से मुझे कोमल दीदी की शादी की सारी बातें आ गईं, एक बार आपको मैं फिर से वो सब दुहरा देता हूँ. कुछ देर बाद मैंने नेहा दीदी को घोड़ी बनाया और उनकी चूत में अपने लंड को घुसा दिया.

रास्ते में रश्मि ने हल्की आवाज में मुझसे कहा- अंकल रात को क्या हुआ था?मैंने अनजान बनते हुए बोला- कब?रश्मि बोली- अंकल ज्यादा छुपाने की कोशिश मत करो.

उस समय मुझे जो आनन्द आ रहा था, उसे शब्दों में बयान करना मुश्किल है. उनकी गर्दन, होंठ, गाल, चूची, पेट, कमर चूत शायद ही कोई हिस्सा छोड़ा होगा. मैं अपनी बीवी और चार साल के बेटे के साथ एक किराए के मकान में रहता हूँ.

सेक्सी पिक्चर वीडियो में भेज दीजिए इसका लौड़ा मेरे मन का है, खूब धकाचक चोदने वाला है इसका लौड़ा, तुम बताओ तुमको लूसी की बुर कैसी लगी?मैंने कहा- अरे बड़ी टाइट, बड़ी सेक्सी और बड़ी हॉट है लूसी की बुर. अब मैं उसके सर में अपनी उंगलियां ऐसे फेर रही थी मानो वो मेरा बेटा ही हो.

ये सुन कर मुझे थोड़ा मजा आने लगा कि भाभी तो रात भर के लिए रेडी हो गई है. फिर वो अपने पैर हवा में फैला कर मेरे लंड को अपनी चूत में घुसने का न्यौता देने लगी. फिर मामा मेरी पजामी का नाड़ा खोल कर मेरी बुर को अपने हाथ से सहलाने लगा.

सन 2019 की सेक्सी बीएफ

मैंने बोला- पॉर्न में जैसे लंड हिलाते हैं, वैसे कर दो और इसे मुँह में लेकर प्यार कर दो. लेकिन बाथरूम में कुंडी नहीं थी जिसके कारण पापा भी अन्दर घुस गए और चोदम चोदी हुई. क्या मैं तुम्हारी बांहों में सो सकती हूं?मैं बोला- आ जाओ ना मेरी जान, तुम्हारे लिए तो कुछ भी कर सकता हूँ.

फिर मैंने उसके मुँह से पैंटी निकाली और उसको किस किया, उसको हिला कर जगाया. कहानी के पिछले भागबॉलीवुड अभिनेत्री की चुदाई की चाहमें आपने पढ़ा कि मैं बॉलीवुड अभिनेत्री दाइशा को कार चलाना सिखा रहा था.

तभी दीदी की बेटी ने रोना शुरू कर दिया तो दीदी ने लंड छोड़ दिया और अपनी बेटी को गोद में उठा कर उसे चुप कराने लगीं.

वो नाराज तो नहीं दिख रही थी क्योंकि वो अपनी मर्जी से मेरे साथ सेक्स करने के लिए तैयार थी. मेरे दोस्त को भी कुछ किताबें लेनी थीं और वो मुझसे पूछ रहा था कि कौन से राइटर की लूं. ये नशा मुझे पिछली बार से ज्यादा घर लग रहा था क्योंकि जब मैं बेहोश हुआ था तभी अंकित ने मुझे 2 पैग और पिला दिए.

पीछे से आती गाने की धुन, ऐरकण्डीशनर पर भारी पड़ती एरोमा कैंडल्स की लौ, खुशबू को मादक बनाता अगरबत्ती का धुआँ और उसके पसीने में महकता उसका लगाया इत्र!मैं खुद को उसके बूब्स चूसने से नहीं रोक पा रहा था. तो दोस्तो, कैसी लगी आप लोगों को मेरी Xxx साली की बुर की सच्ची कहानी, मुझे मेल करके जरूर बताएं. एक दिन भाभी ने अपना मोबाइल ठीक करने को दिया तो मैंने सोचा भाभी की गूगल की हिस्ट्री चैक की जाए.

फिर जब मैंने उसकी चूत में उंगली घुसानी चाही तो उसे दर्द और जलन हुई.

एचडी सेक्सी बीएफ चोदा चोदी: फिर 12वीं पास करने के एक साल बाद मुझे एक लड़के से प्रेम प्रस्ताव मिला. मम्मी थोड़ी धीमी आवाज में बोलीं- एक बार फिर से सोच लो नरेश, मैं तुमसे कोई जबरदस्ती नहीं कर रही हूँ.

मेरे दोनों हाथ उसके कंधों पर थे और उसके दोनों हाथ मेरी कमर पे जो की पूरी पीठ का जायज़ा ले रहे थे. थोड़ी देर चलने के बाद सबके घुटनों में दर्द होने लगा, तो सब लोग बैठ गए. तब उसने अपनी एक पच्चीस साल की गर्लफ्रेंड का जिक्र किया और कहा कि मैं किसी तरह से उसकी मौसी को पटा लूँ.

कुछ ही देर में मैंने देखा कि मेरे देवर के हाथ की मुट्ठियां भिंचने लगी थीं और उसका लंड फनफनाने लगा था.

मम्मी शर्मा कर चाचा को धक्का देती हुई- मानोगे नहीं तुम!चाचा अपना लंड मम्मी के मुँह के पास ले जाते हुए बोले- अरे मेरी जान, बस एक बार!मम्मी ने चाचा के लंड की खाल को पीछे कर दी और अपने बालों को पीछे करती हुई चाचा से बोलीं- तुम ना, बहुत जिद करते हो. उधर अनिल ने भी मेरी मॉम को अपने ऊपर लिटा लिया था और वो मेरी मॉम की चौड़ी गांड को सहला रहा था. मैंने कोई न देख ले, इस बात का ध्यान रखते हुए उसके सामने हाथ जोड़ते हुए कहा- तू कुछ और मांग ले.