सेक्सी वीडियो बीएफ साउथ

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स का वीडियो बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

हल्दी सेक्सी: सेक्सी वीडियो बीएफ साउथ, यहाँ तक कि एक बार उन्होंने अपने तीन दोस्तों से भी मुझे चुदवाया, यानि उन्होंने मुझे पूरी रंडी बना दिया।वो कहानी मैं फिर कभी लिखूंगी।दोस्तो, आपको मेरी बहु ससुर सेक्स की यह कहानी कैसी लगी मुझे कमेन्ट करके ज़रूर बताएं.

बीएफ हिंदी हिंदी में बीएफ

आपके जाने के बाद मेरा फिर से खड़ा हो गया था, पर आपके हाथ में जो बात थी, वो कहां से आती. सानिया मिर्जा के बीएफ वीडियोतू एक काम कर … मेरी अलमारी से एक मेरी एक चुन्नी ला दे। मैं उसको लपेटकर ही बारिश में नहा लूँगी और कपड़े तुझे दे दूँगी.

इससे मेरी हिम्मत पूरी तरह से खुल गई और मैं अपनी मौसी को हचक कर पेलने लगा. सेक्सी बीएफ नॉर्मलमीरा ने सीन देखा और चिल्लाते हुए कहा- ये सब क्या हो रहा है!रीमा की आंखें खुल गईं और मीरा को देख कर वो एकदम से घबरा गयी.

मुश्किल से एक मिनट भी नहीं बीता होगा कि पूनम बुआ मेरे पास आकर मेरे हाथ को थाम कर बैठ गईं.सेक्सी वीडियो बीएफ साउथ: पहली बार की चुदाई में मैंने अंकल का लंड अपनी चुत में लिया था तो मैं सिहर गई थी.

वो कभी मेरा लंड अन्दर लेकर चूस रही थी तो कभी सुपारे पर अपने होंठों को फेर रही थी.दो मिनट के लम्बे किस के बाद वो मुझसे अलग हुई और बोली- अवनीश, मैं तुम्हारी ही हूँ, तुमको जो भी करना है, आराम से करो प्लीज़.

तुम्हारे बीएफ का क्या नाम है - सेक्सी वीडियो बीएफ साउथ

मैंने लवली की तरफ लंड हिलाया और उसे आंख मारी तो लवली ने मेरा लंड पकड़ लिया और चूसने लगी.मैंने कमरे में आने से पहले शन्नो की तरफ देखा तो उसने हां में सर हिला दिया.

जहां तक ब्लाउज का सवाल है, तो थोड़ा सा झुको, तू सारा माल छलक कर बाहर आ जाता है. सेक्सी वीडियो बीएफ साउथ आप लोगों ने मेरे बेटे के असली बाप के बारे में पूछा था, तो मैं जब तक प्रेग्नेंट हुई थी, तब तक इन्हीं सब लोगों से मैं जमकर चुदती रही थी.

मां बोली- तेरे पिताजी तो बस आकर मेरे अन्दर अपना हथियार डालते थे और पानी छोड़ कर सो जाते थे.

सेक्सी वीडियो बीएफ साउथ?

और मैं जैसे ही धक्के लगाता था, तो हर धक्के के साथ उनकी बड़ी बड़ी चूचियां हिलने लगती थीं. इससे मुझे चाची के गहरे गले के ब्लाउज में से उनके मम्मों की दूधिया घाटी देखने का मौक़ा मिल जाता था. क्योंकि कुछ दिन बाद मैं फिर से वापस जाने वाला था, मेरी छुट्टियां ख़त्म होने को वाली थीं तो मैंने उससे आने की हां कह दी.

इस बात पर मैंने उसे साफ मना कर दिया क्योंकि सनी के लंड के बिना मैं जी ही नहीं सकती थी. वो भी उसे पूरी तरह से पी गईं और जो होंठों पर और लंड पर माल लगा रह गया था, उसे भी पूरी तरह से जीभ से चाट लिया. मैंने उसको बांहों में कस कर पकड़ लिया और उसके होंठों पर अपने होंठ लगा दिए.

मैंने आंटी की दोनों टांगें फैलाकर उनकी चुत को गौर से देखा और अपनी जीभ से चुत चाटने लगा. जब मूवी का समय होने लगा तो मैंने मां को बोला- मां अब आप ये विधवाओं के जैसे कपड़े नहीं पहनेंगी. मैंने उसकी चूचियों को पकड़ लिया और मसलते हुए लंड चुत में अन्दर बाहर करने लगा.

इस पर उसने हंस कर कहा- नहीं मैं अब नहीं मार पाता … हां तुम बस मेरा लंड चूस कर रस निकाल देना. ये बात तब की है, जब एक दिन मैं मेरी पत्नी को लेकर उसके मामा के घर गया था.

जिस पर वो हंस कर मेरी गोद में लेट जाती थीं और मेरे लंड को सहला देती थीं.

बहार ने अपना एक पैर बेड पर रखा और मेरा लण्ड पकड़ कर अपनी बुर के लबों पर रगड़ने लगी.

मैंने आंटी की गांड में अपना लंड सैट किया और एक ही झटके में आंटी की गांड में लंड पेल दिया. आराम से मजा लो न!मैंने धीरे धीरे से उसके दोनों स्तनों को बारी बारी से अपने मुँह में लेकर बड़े स्वाद के साथ चूसना शुरू कर दिया. थोड़ी देर बाद चाची की सिसकारी गूंजने लगीं- आहह ओह इस्स आह प्लीज़ नहीं करो आईईई आहह ओह.

फिर फुर्ती से उसकी जीन्स और पैंटी घुटनों तक खिसका दी और उसके चिकने गुलाबी गोल गोल नितम्ब सहलाने लगा और उन पर चपत लगाने लगा. मैं भी अब जोश में आ गया और बोला- तेरा तो कब से नहीं है … साली अब तो तू मेरी रखैल है … रंडी है … मादरचोद रंडी ले लंड खा … तेरी बड़ी गांड और चुचों को देखकर तो पहले भी चोदने का मन था … और उस पर साली मादरचोदी झुक झुक कर मुझे तू अपने बूब्स दिखाती थी … ले लौड़ा खा … रंडी साली. भाभी ने मेरे सामने उन तीनों से कैसे चुदाई का मजा लिया?हैलो फ्रेंड्स, मैं मनीषा भाभी, आपको अपनी चुत चुदाई की कहानी में दिल से स्वागत करती हूँ.

वो मेरे पास आया और मुझे घुमा दिया, अब मेरी पीठ उसकी तरफ थी।उसने मुझे हल्का सा आगे को झुकाया और पीछे से चूत में लंड डाल के अंदर घुसा दिया।मेरी हल्की सी स्सी … निकली.

वो भी साथ देने लगी और दोनों एक दूसरे की जीभ चूसने लगे।मैंने उसका गाउन हटा दिया उसकी ब्रा उतार दी और उसके चूचों को चूसने लगा. मैंने विवेक और नवीन की तरफ देखा तो उन दोनों ने होंठों पर उंगली रख कर लाइव ब्लूफिल्म देखने का इशारा कर दिया. कुछ देर तक यूं ही रसीली और हॉट करने के बाद हम दोनों ने किसी दिन फिर से मिलने का प्रोग्राम बनाया.

मेरी छुट्टी बढ़ने की बात मालूम होते ही भाभी के चेहरे पर खुशी देखते ही बनती थी. मामी जी सिसकते हुए मेरे सर को अपनी चुचियों पर दबाते हुए मचलने लगी थीं- शीईईईई ओह राहुल उम्ह्ह ह्ह्ह … हाय … चूस मेरे सैंया … सीईई … ऐसे ही निप्पल को मुँह में लेकर चूस लो और दबा दबा कर पी लो. कुछ पल बाद डॉक्टर ने मुझसे पूछा- आप अपनी सेक्स लाइफ से खुश हैं?तो मैंने हां में सर हिला दिया.

’थोड़ी देर बाद चाची उठीं और लंड चाटती हुई बोलीं- आह मजा आ गया … अब मैं गांड में लंड लूंगी.

मीना- आह … चोद दो प्रिय … और जोर से चोदो … उम्मह … फाड़ डालो अपनी इस छोटी रंडी की चूत को … आह. मैंने बोला- क्यों … पिता जी का मेरे जैसा नहीं था क्या?मां बोली- तेरा हथियार तो तेरे पिता जी से लम्बाई में थोड़ा सा कम है बस, पर मोटाई में तेरा हथियार तो तेरे पिता से डबल है.

सेक्सी वीडियो बीएफ साउथ की बात भी करनी थी।जिस दुकान पर मैं गयी वो इत्तेफाक से उनकी ही दुकान निकली जिनके लड़के को मैं ट्यूशन पढ़ाती थी।वो मुझे देखकर एकदम चौंक गए और बोले- अरे मैडम, कैसे आना हुआ?मैंने उनको सारी बात बतायी।मैंने चूल्हा तो ले लिया मगर ए. अभय कमरे में आंख बंद करके अपने लंड को अंडरवियर से बाहर निकाल कर सहला रहा था.

सेक्सी वीडियो बीएफ साउथ दीदी ने पूछा- तुम क्यों अपने कपड़े उतार रहे हो?रमेश ने कहा- अरे यार, मुझे गर्मी लग रही है. मेरी गर्लफ्रेंड Xxx चुदाई कहानी आपको कैसी लगी, यह बताने के लिए मेल जरूर करें.

नीता अक्सर हमारे घर आती रहती थी और उससे मेरी मुलाकात भी होती रहती थी.

पहिली बार

मैं गर्मा गया तो मैंने दीदी के निप्पल को होंठों से दबा कर खींच दिया. मेरे लंड ने चूत में सैट होना शुरू कर दिया, दो चार झटकों के बाद उसकी चूत ने लंड को घोंटना चालू कर दिया. मैं ऊपर से नीचे पूरा मुंह चला रहा था और अंकल की सिसकारियां तेज होने लगी थीं.

मैंने सादिका को भी कॉल किया, उसकी हालत पूछी और घर में किसी को शक नहीं हुआ … ये सब पूछा. मेरा मन कर रहा था कि इसको भी बड़ी बेरहमी से चूम-चाट कर पूरी तरह से लाल रंग का कर दूं. अब मैं अपनी स्पीड और बढ़ाने लगा और कुछ ही देर में चुत ने लंड को स्वीकार कर लिया.

देसी आंटी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मौसी की जेठानी की चूत चाटकर भरपूर मजा देने के बाद मैंने उसे मेरा लंड चुसवाया.

मैंने मौसी की चूत को फिर से चाट कर गीला किया और अपने लंड का सुपारा उनकी चूत पर रगड़ने लगा. ममता- क्या कह रहे हो आप मतलब मौसी, मौसा, मामा, मामी बुआ, फूफा और मां पिताजी सब मिल कर चुदाई करते हैं. मैंने अपने हाथों को धीरे से मामी जी के चूतड़ों और गांड की दरार में फिराया और साथ ही नीचे झुकते हुए उनके चूतड़ों को चूमते हुए दबाने लगा.

कुछ दिन बाद जब दीदी की बच्ची पैदा हुई थी, तब से मुझे उनको चोदने का और मन करने लगा था. राहुल उस लड़की का नाम लेने लगा- आह हुर्रेम … तेरे दूध बड़े रसीले हैं. उनकी जीभ और मुँह की गर्मी से मुझे लंड चुसवाने चटवाने में जन्नत का सुख मिल रहा था.

अगले दिन मैंने शीना को कैसे चोदा और कितने दिन चोदा … ये सब आपको थोड़े दिन बाद बताऊंगा. अंकल बोले- अपना दूध पिलाकर बात करो न!मैंने अपना एक दूध अंकल के मुँह में दिया और वो मेरी गोद में सर रखकर मेरी चूची चूसने लगे.

आयुषी बेड पर नंगी लेटी हुई ऐसे लग रही थी जैसे कोई अप्सरा मेरे लंड से चुदने के लिए रेडी पड़ी हो. मैं बीच में कुछ बोल भी नहीं सकता था कि तुम लोग मजे करो, मुझे नहीं चाहिए. पेशाब की वजह से वो अभी भी गर्म था।पैंटी से आती पेशाब की खुशबू और उससे चूती हुई बूंदों को देख कर मैं खुद को रोक न सका और पैंटी के तिकोने भाग को मुंह में भर कर जोर से दबा लिया.

मैं धीरे-धीरे अपनी गति को बढ़ाता जा रहा था और प्रभा ने भी नीचे से पूरा साथ देना शुरू कर दिया था.

मेरी चूत में खुजली तो होती थी पर मैंने अपनी कुंवारी बुर में कोई लंड लेने की सोची नहीं थी. हम सब बाहर जाने वाले थे तो हमने तय किया कि हम एक-एक करके बाहर जाएंगे ताकि किसी को शक ना हो. चाची मुस्कुराते हुए बोलीं- सोहेल ये सब मेरे चाहने वालों की करामात है.

कुछ देर लंड चूसने के बाद जैसे ही उसका लंड खड़ा हुआ तो मैं उठ गई और उसको पानी की बोतल और तेल की शीशी देते हुए अन्दर जाने को बोली. शीना भी लन्ड मुंह से बाहर निकाल कर एक लंबी सिसकारी भरती और बदले में मेरे लन्ड पर अपने दांत गड़ा देती.

कुछ देर उसने फंसा रहने दिया और फिर हिलाने लगा।जब उसको लगा कि मैं ठीक हूँ तो उसने हाथ हटा दिया।उसकी पीठ पर नाखून खुबो कर मैं बोली- इतने बेरहम क्यों हो तुम?वो बोला- साली औरत को मजा ही असली ऐसे आता है, जब कोई जल्लाद की तरह चोद डाले।उसने झटके तेज़ कर दिये. मुझे आशा है कि मेरी इस सेक्सी गर्ल Xxx कहानी को पढ़ने वालों के लंड से पानी निकल जाएगा और लड़कियों व भाभियों की चुत गीली हो जाएगी. कितना दर्द हो रहा मां … हाय मां कितना मोटा लंड है भैया का … इतना बड़ा गदहे जैसा लंड और कहां मेरी कमसिन चूत … आह मर गई रे.

पुरुष वेश्यावृत्ति

मैंने मौसी की गांड अच्छे से चाटी और अपनी जीभ गांड के अन्दर तक डाल कर अन्दर बाहर करने लगा.

भाभी- सपने में किसकी चुत मार रहे थे मेरी जान … जो मेरे देवर का लंड इतना कड़क खड़ा हुआ है. अब तक वो दोनों लड़के एक तरफ बैठ गए थे विवेक ने उनके कपड़े छीनकर अपने पास रख लिए थे कि ये दोनों कहीं भाग कुछ लफड़ा न कर दें. आधे मिनिट बाद ही बहू की चूत खूब रसीली हो उठी और उसने बेकरार होकर मेरे सिर के बाल अपनी मुट्ठी में जकड़ कर सिर को अपनी चूत में दबा लिया.

चूत-लंड का भीषण युद्ध जारी था, चूत से बहते रस के कारण चुदाई की फचफच फचाफाच आवाजें बहू की चूत से आने लगीं थीं. जैसे ही मैंने भाभी की चिकनी चुत पर अपनी खुरदरी जीभ लगाई, वो एकदम से सिहर उठीं और कुछ ही पलों में मस्त हो गईं. लड़की के बीएफ वीडियो मेंमां- बेटा अब मैं थक गई हूं … तेरा हथियार कब अपना माल निकालेगा?जैसे ही मां ने एक बार और पानी छोड़ा, मैंने अपना बाहर निकाला और कंडोम निकाल लंड को मां के मुँह पर रख हिलाने लगा.

मैंने उसकी चैट खोली, तो राजू उसे मूड में होने पर अपने लंड का फोटो सेंड करता था. विवेक ने हमें इशारा करके अपने पास आने को कहा, पर मैंने मना कर दिया क्योंकि मुझे लग रहा था कि अगर हम वहां गए, तो उन्हें पता चल जाएगा और हमारा मजा खराब हो जाएगा.

हमने उनको कैसे पटाया और आगे क्या हुआ, वो मैं आपको मेरी अगली सेक्स कहानी में बताऊंगा. वो बार बार अपने लंड को खुजला रहे थे और मुझे दिखाने की कोशिश कर रहे थे. यह सब देख कर सुम्मी बेहद खुश हुई और उसने पहली बार हरीश को गले से लगाकर शुक्रिया अदा किया.

बहूरानी का बाहर जाने का मन नहीं था तो हमने रूम सर्विस से डिनर का मीनू आर्डर कर दिया और डिनर साढ़े नौ तक लाने को कह दिया. वो दोनों लड़कियां और विवेक व नवीन एकदम से मदहोश होकर एक दूसरे में खोने लगे थे. लेने मैं ही आऊंगा।मैंने कहा- जी ससुरजी!वो बोले- अब चली जाओगी ना?मैं- जी जी।ससुर- हाँ, जाकर फोन कर देना।मैं- जी जी, मैं पहुंचते ही फोन कर दूंगी.

आपको ये देसी लड़की की सेक्सी कहानी कैसी लगी प्लीज़ मुझे मेल करना न भूलें.

अभी जो पेपर पर आपसे साइन करवाए हैं ना, वो स्कूल के नहीं थे … बल्कि मेरे दोस्त के पड़ोसी रोहन अंकल ने दिए थे. ममता उसे लेकर बिस्तर पर आ गई और उसकी दोनों टांगें फैला कर उसकी चूत ऊपर से चाटने लगी.

काफी देर चली इस भयंकर चुदाई में रुबिका कई पोज बदल बदल कर शहज़ाद का लंड चुत में लेती रही. मेरे भारी भरकम उरोज आधे दिख रहे थे।मैंने ऐसा नाटक किया कि सच में ज्यादा चोट लगी हो. वो बोले- साली कुतिया, नौटंकी मत कर मादरचोदी … मैं जानता हूँ कि तू छिनाल औरत है.

मेरी गर्लफ्रेंड अपनी बहन के यार से भी चुदती थी तो मैंने उसकी बहन चोद दी. कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं आपसे अपने दोस्तों का परिचय करा देता हूँ. उसके जिस्म की अकड़न बता रही थी कि उसे लंड चुसवाने में बेहद मजा आ रहा था.

सेक्सी वीडियो बीएफ साउथ अगले दिन काफी देर तक सोती रही, फिर उठी और नहा कर नाश्ता बना कर नाश्ता करने जैसे ही बैठी थी कि किसी ने दरवाजा खटखटा दिया. इसमें एक अद्भुत पेय था जो राजवैद्य ने इस ख़ास मौके के लिए बना कर दिया था.

घोड़ा घोड़े की सेक्सी पिक्चर

शायद वो मुझे पसंद करने लगी थीं, वो मजाक मस्ती के समय कभी कभी मेरा कभी हाथ पकड़ लेतीं और कभी कभी मैं भी अपना हाथ उनकी जांघ पर रखने लगता था. बाइक पर बैठी चाची ने सपने के बारे में पूछा, तो मैंने हिम्मत करके उन्हें साफ़ साफ़ बता दिया. यदि किसी लड़की की झिल्ली फटी हुई होती है तो उसकी चुत से खून नहीं निकलता है.

मैंने जब रिप्लाई दिया- जाग रहा हूँ, बोलो!तो उसने कहा- कल मेरा एग्जाम है और मुझको कुछ दिक्कत हो रही है … वो क्लियर करने के लिए क्या आप अभी मेरे घर आकर मुझे कुछ समझा सकते हैं?मैं थोड़ी देर बाद उसके घर गया, तो घर में सब लोग थे. पापा का लंड मम्मी की चुदाई कर रहा था, उनके हाथ मम्मी के दूध दबा रहे थे और उनके होंठ, मम्मी के होंठों का रस पी रहे थे. बीएफ हिंदी में 2021 कीमैंने उसका चेहरा पकड़कर अपनी ओर करते हुए कहा- साले मैं तुझे लड़की पटाना सिखा रही हूँ और तू मुझ पर ही नज़रें जमाए हुए है!अफ़रोज़- नहीं आपा … सच मैं आपकी चूचियां बहुत प्यारी हैं.

वो वापस बाइक के पास जाने की बजाए एक पेड़ के पीछे जाकर खड़ी रहीं और मैं लंड हिलाने लगा.

पूनम बुआ मुझे पहले ही बता चुकी थीं कि बृज उनको अपना लंड चुसाता है और उनके मुँह में अपना पानी भी डालता है. करीब 25 मिनट की चुदाई के बाद मैं झड़ने वाला था, तो मैंने उनसे पूछा कि कहां छोड़ूं?भाभी ने चुत के अन्दर ही वीर्य छोड़ने को कहा.

जब हम दोनों घर वापस आए, तब तक शाम के आठ बज चुके थे और मेरे डैड भी आ चुके थेरोहन अंकल ने उन्हें भी नंगा कर दिया था और उनसे अपने पैर दबवा रहे थे. तो दोस्तो, मैं उम्मीद करती हूं कि आप लोगों को मेरी सेक्स कहानी पसन्द आयी होगी. मम्मी की आह निकल गई और बोलीं- आह धीरे पेल न … इतनी जोर से घुसेड़ दिया.

चाय पीते पीते मैंने बिंदु से पूछा- यार बिंदु फैमिली प्लानिंग के लिए क्या सोचा है?यह सुनते ही बिंदु उदास हो गई और कुछ नहीं बोली.

मैंने अपने न जा पाने की बात जान बूझ कर कही थी; मैं अदिति पर इस बात की प्रतिक्रिया देखना चाहता था. आज तुम्हारा लण्ड लेने के बाद मुझे महसूस हो गया कि मेरी गोद अभी तक क्यों नहीं भरी. यामिना कहने लगी- ठीक है, सर मैं उसे इतवार को 11:00 बजे आप के पास छोड़ जाऊंगी.

उर्दू में बीएफकुछ देर बाद दीदी को आराम पड़ गया और अब वो मस्ती से मेरा साथ देने लगी थीं. ह्म्म्मम … ठीक है पापाजी, डू व्हाट यू लाइक!” बहूरानी बोली और मेरे कंधे से सिर टिका दिया.

संभोग करने का मंत्र

समय ऐसे ही गुजरता गया और मेरी बहन की शादी भी हो गयी और मैं शहर में एक कारखाने में नौकरी करने लगा. मैंने जब कुछ नहीं कहा, तो उधर से फिर से आवाज़ आई कि डर गया क्या?अब मैंने धीरे से कहा- आप कौन?उधर से आवाज़ आई- मैं ट्रेन वाला टीटीई … याद आया?मुझे अचानक एक धक्का सा लगा कि इतने समय बाद ये फिर से कैसे!मैंने थोड़ा सहज होकर उससे हैलो किया और हाल-चाल पूछा. ताजमहल देखने तरह तरह के देसी विदेशी सैलानी अपने अपने रंग में मस्त एन्जॉय कर रहे थे.

उधर मेरे निकलते ही मेरी बेटी सबा ने शहजाद के पास जाकर उससे सीधे सीधे बात की. मलाईदार चूत थी उसकी … एकदम क्लीन शेव्ड और प्यारी सी छोटी सी एकदम गर्म गर्म … मुझे मजा आ गया था और मैं चुत को पकी अमियां के जैसे चाटे जा रहा था. बस अब तो चोदो मुझे, अब नहीं रहा जाता पापा!” बहूरानी ने अपनी कमर ऊपर की ओर उठा कर मुझे अपनी चुदास दर्शाई.

मैंने उसको पूरी नंगी किया और उसे देखा, तो एक पल के लिए तो मुझे हंसी सी आई कि साली हाड़ पिंजर जैसी तो मरघिल्ली है … छोटे टमाटर जैसे दूध हैं लेकिन साली के निप्पल बहुत बड़े थे. वो मेरे सर पर हाथ रख कर कह रहा था- आह आह शालू … यू आर अमेजिंग डार्लिंग … आह सक माय टूल!मैंने हाथ में उसका लंड पकड़ा और उसे ऊपर करके उसकी गांड के छेद को चाटने लगी. जब उसका फोन आया तो उसने कहा कि घर का गेट खुला है और घर में कोई नहीं है.

फिर जैसे ही मेरी मॉम सोफे पर बैठने को हुईं, रोहन अंकल ने उनको अपने पास बुलाया और उन्हें खींच कर अपनी गोद में बिठा लिया. मेरी अम्मी जो कि मेरी राजदार थीं, इस बात को सुनकर खुश हो गईं और उस रात घर में जश्न हुआ.

उसे भी मज़ा आ रहा था और हल्की सी सिसकारी भी निकल रही थी- सि…स्स्ह … आअ अहह!उसकी ये कामुक आवाजें मेरी उत्तेजना को और बढ़ा रही थीं.

चाची- क्या देखते हो?मैंने उनके मम्मों की तरफ देखते हुए उन्हें बताने की कोशिश की. बीएफ चोदा चोदी बीएफ चोदातुमने मुझे दोस्त कहा है और वो भी मेरी दोस्त है, रजामंदी से कुछ हो जाये तो मुझे क्या ऐतराज है, मैं कोशिश करती हूँ. लोकल बीएफ मूवीमेरी पहली बार सेक्स की कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी भाभी को उनके दोस्त के साथ नंगी चुदाई करते देखा. फिर मैं रात होने का इंतज़ार करने लगा क्योंकि रात में हम दोनों फोन पर बात करते थे.

कृति की चुद झड़ कर निढाल हो गई थी लेकिन मैं उसकीकच्ची चूतका पहला रस पीकर मस्त हो गया था.

उसकी गांड को छिपाए हुए उसके दोनों सुडौल मोटे मोटे चूतड़ ऐसे मस्त थे मानो दो गाव-तकिया लगे हों. राज शर्मा गुड़गांवधन्यवाद[emailprotected]पुलिस गर्ल Xxx कहानी का अगला भाग:हरियाणा पुलिस वाली को चोद कर खुश किया- 2. मैंने उनको याद दिलाया कि मैंने उनके कमरे को बाहर से बंद कर रखा है और वो यहां नहीं आ सकता.

उन्होंने अपने दाएं हाथ की एक उंगली मेरे ब्लाउज की भीतर डालकर मेरी छातियों के बीच की कंदरा पर रख दी थी. अब आगे सेक्सी लड़की की चुदाई:मेरे दोस्त रमेश ने एक हाथ नीचे किया और दीदी की चुत पर रख कर चुत को सहला दिया. उस समय तो वो लोग चले गए, पर रोजाना दोनों समय आकर वो लोग चंदा देने की मांग करने लगे.

बॉयफ्रेंड को गिफ्ट में क्या देना चाहिए

मैंने धीरे से पूछा- प्रसाद में क्या देना होगा?एक ने कहा- हम हर रोज खीर बनाते हैं. तो दोस्तो, मैं उम्मीद करती हूं कि आप लोगों को मेरी सेक्स कहानी पसन्द आयी होगी. मीना के शरीर की मादक खुश्बू ने ही मुझे राजकुमारी पूजा को छोड़ कर अपनी ओर आने को मजबूर किया था.

उसके दोनों चुचे ब्रा से आजाद हो गए और मैं चुचियों को बारी बारी से पीने लगा.

तभी उन्होंने अपना लंड मेरी गांड से निकाला और झट से मेरे मुंह में दे दिया.

वो चले गए तो मैंने कुछ देर देखा और फिर ऑटो वाले से पूछा कि शिमलापुरी जाना है. उन दोनों के कमरे में जाते ही मैं भी अपनी ब्रा पैंटी वही निकाल कर नंगी हो गई और उसी कमरे के दरवाजे पर आ पहुंची. एक्स एक्स बीएफ सेक्सी फोटोअब वो मेरी नाभि के छेद में अपनी जीभ की नोक से मुझे गर्म करने लगा था.

मैंने सिगरेट विवेक को दे दी और अपने दोनों हाथ उसके पीछे ले जाकर उसे पकड़ कर अपने गले से लगा लिया. उस कमरे से लगातार ‘उम्म … आह … फचा … फ्च … चट …चट …’ की आवाजें गूंज रही थीं. नवीन ने अपना लंड उसके मुँह से निकाला और दूसरी के सामने जाकर बोलने लगा- प्लीज़, तुम भी एक बार मेरा लंड चूस दोगी.

पूनम बुआ- मेरा बस चलता कहां है? और वैसे भी, मैं इस आदमी से परेशान हो चुकी हूँ. तोमर साब ने चाची की टाँगों के बीच में बैठ कर अपना लंड चाची की चूत पर रखा और फिर आगे को हुये.

पहले तो एकदम से घबरा सी गईं, फिर उन्होंने मुस्कुरा कर मुझे अन्दर आने का इशारा कर दिया.

चुदाई का वो प्रेलिमिनरी राउंड ख़त्म होने के बाद हम दोनों कितनी ही देर तक बीते लम्हों का रसास्वादन करते रहे और अपने बेतरतीब धड़कते दिलों को काबू करने का यत्न करते रहे. पूनम ने मेरे कंधों पर अपने दांतों से हल्के से काटना शुरू कर दिया और इसके साथ ही वो अपने नाखूनों से मेरी पीठ को नौंचने भी लगी थीं. उसकी गांड को छिपाए हुए उसके दोनों सुडौल मोटे मोटे चूतड़ ऐसे मस्त थे मानो दो गाव-तकिया लगे हों.

बीएफ सेक्सी ब्लू चलने वाली नौकर मालकिन सेक्स कहानी में पढ़ें कि नौकर ने कैसे अपनी मालकिन के अकेलेपन को देखा, उसकी सेक्स की जरूरत को पहचाना. अब मैं और ज़्यादा तड़पने लगी।मैंने अपना हाथ लुंगी के ऊपर से ही उनके लंड पर रखा और लंड को पकड़कर दबाने लगी।इधर उन्होंने अपनी एक उंगली मेरी चूत में डाल कर मुझे और ज़्यादा बेचैन कर दिया।उनका दूसरा हाथ मेरे बूब्स पर था.

मैंने कहा- वाह मेरी जान, क्या किस करती हो … तुम तो हिना से कई गुना अच्छी माल हो. वो तेज तेज अपनी मोटी गांड को हिला कर मेरी चूत में धक्के लगा रहा था और बोल रहा थासागर – भाभी क्या गरम चूत हैं आप की। मेरा पूरा लंड गर्मी के मारे जोश पर हैं … आह ! चुदलो आज जी भर के इस लंड से। आज इस चूत का भोसड़ा बना दूंगा… बहुत प्यासी थी आपकी चुत … आह इसकी सारी प्यास मिटा दूंगामैं भी अब अपनी मोटी गांड उठा उठा कर सागर का साथ दे रही थीं और बोल रही थीं. जीनिया के कहने पर पायल ने कहा- मुझे नॉनवेज तो खाना नहीं है, तुम दोनों चले जाओ.

भोजपुरी औरत का सेक्सी वीडियो

पापा ने मम्मी को किस करना शुरू कर दिया और मैंने पापा के खड़े लंड से खेलना शुरू कर दिया. कभी कभी अंकल मुझे अपने पैरों में तेल लगवाने के लिए कह देते थे, तो मैं उनकी टांगों को खोल कर उनकी मालिश कर देती थी. मैंने कुछ देर में ही एक उंगली को अच्छे से अन्दर बाहर करनी शुरू कर दी.

उसने आगे कहा- क्या सोच रही हैं आप? यही कि आपके स्तनों का दूध प्रसाद में प्रयोग हो सकता है या नहीं. धीरे धीरे हम दोनों बहुत ज्यादा घुल-मिल गए थे और एक दूसरे को पसंद करने लगे थे.

थोड़ी देर बाद हरीश ने सुम्मी के दोनों हाथ पकड़कर उससे प्यार का इजहार किया.

मैंने रीना से पूछा- क्या मैं तुम्हारी कुछ मदद कर सकता हूँ?तो उसने हां मैं सर हिला दिया. वो मेरी इस हरकत से शायद काफी उत्तेजित हो जाती थीं और एक दो पल बाद ही मेरा हाथ अपनी जांघ से हटा देती थीं. उधर मेरे निकलते ही मेरी बेटी सबा ने शहजाद के पास जाकर उससे सीधे सीधे बात की.

फिर उन्होंने मेरे हाथों को पकड़ा और तेजी से चुदाई करने लगे।कमरे में मेरी चीखें गूंजने लगीं- आह … आह्ह … आई … आह्ह … आआह … मर गयी … हाय … मर गयी … आह्ह मेरी चूत … फट गयी मम्मी … आह्ह मेरी चूत।दोस्तो, मेरी चूत काफी दिनों के बाद चुद रही थी और इतना मोटा लंड मेरे शौहर का नहीं था. देसी फ्रेश चुत की चुदाई के पहले भागभोलेपन में एक लड़के के सामने चूत खोल दी मैंनेमें आपने पढ़ा कि मैं अपनी पहचान की दूकान पर रेजर लेने गयी चूत के बाल साफ़ करने के लिए. लंड अभी 2 इंच ही घुसा था पर मामी बहुत चीख रही थीं और मुझे हटने को बोल रही थीं.

मैंने इसी बीच अपना दूसरा हाथ उसके मस्त नुकीले मम्मों पर रख दिया और उनको धीरे धीरे से सहलाने लगा.

सेक्सी वीडियो बीएफ साउथ: तो क्या मैं आपसे कुछ व्यक्तिगत बात पूछ सकती हूँ?मैंने सोचा कि होगी कोई बात … मैंने कहा- हां पूछो?गीता बोली- आपकी कितनी गर्लफ्रेंड हैं या थीं?मैंने कहा- आज तक पत्नी के अलावा मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है. मेरी मां की चुत ने चार चार बच्चों को पैदा किया था और मेरे पापा अभी भी उनसे खुल कर चुदाई के मजे लेते थे.

दोस्तो ये मेरी रियल पुलिस गर्ल Xxx कहानी है कि कैसे मुझे एक पुलिस वाली वो भी हरियाणा पुलिस को चोदने का मौका मिला।अब मैं सीधा कहानी पर आता हूं।मैं गुड़गांव में रहता हूं।एक दिन रात को मैं ड्यूटी से रूम आ रहा था. तू मुझे उसकी चूत दिलवा, रुपये 10000 तेरे!चाची खुश हो गई- अरे वाह साब, इतनी मेहरबानी! लगता है आज मुझे खुद ही आपको अपनी गांड देनी होगी।तोमर साब बोले- हाँ हाँ क्यों नहीं, जब तक तेरी गांड न मार लूँ, साला लगता ही नहीं के किसी रांड को चोदा है।उसके बाद तोमर साब ने चाची को कहा- चल घोड़ी बन!चाची बड़ी खुशी से तोमर साब की तरफ पीठ करके घोड़ी की तरह बन गई. तो अभय को आज ही पता चला कि उसकी मां की चूचियों का साईज 38″ है और बहन का 32″ है.

ममता- बोल भी दो यार … अब तो हम फ्रेंड बन गए हैं … और हां इसको थोड़ा आराम दे दो.

जब मेरे कंधे पर सर रखकर सो रही थी तो उसका गोरे गाल बिल्कुल मेरे करीब थे।मेरा मन हुआ कि मैं अभी इनके गालों को चूम लूं … पर हिम्मत नहीं कर पाया. दोस्तो, इस तरह मैंने एक आंटी शन्नो को रात भर चोदा और उसके साथ सुहागरात मनाई. मैं अपने होंठों पर शरारती मुस्कान लाते हुए बोला- मामी जी, पहली बार मेरा लंड अपनी चूत में ले रही हो क्या?मामी जी- आअह्ह … ऊऊऊह् ह्ह्ह्ह राहुल … आपका यह मोटा लंड स्सासह्ह … मार दिया … ऊम्ममा मेरी चूत राहुल … आह्हह … ओह जानू आपका लंड इतना ज़बरदस्त और मज़ेदार है … उम्म्म ओह्ह उईई.