देसी गर्ल की बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो ससुर बहु का

तस्वीर का शीर्षक ,

बंगाली बीएफ वाली बीएफ: देसी गर्ल की बीएफ, सो किसी अजनबी से बात करके टाइम पास भी हो जाएगा और हर बात के लिए हर तरह से बची भी रहूँगी.

चोदा चोदी सेक्सी चुदाई

मेरा लंड भी अपनी रिश्ते में बहन की कमसिन जवानी को पाकर पूरे जोश में आ चुका था. हिंदी xxx सेक्सी वीडियोऔर फिर मेरी कमीज़ और ब्रा को उपर उठा कर मेरे मम्मों को मुँह में लेकर चूसने लगा.

मेरा काम था भोली भाली भाभियों और आंटियों को निम्न क्वालिटी की घरेलू चीजें बेचना. भाभी की एक्स एक्स एक्स सेक्सीइस तरह बीतते समय के साथ हर उम्र की महिला ग्राहकों के लिये मेरा नजरिया एक नादान उम्र के निश्छल आकर्षण से हटकर उनके जिस्म को छूने और टटोलने की ओर हो गया था.

खाना बनाकर अपने लिये डाला और अपने कमरे में चली गयी!मैं भी पीछे-पीछे गया- मुझे खाना नहीं खिलाओगी?ज़ारा- किचन में रखा है जाकर खा लो!मैं- तुम्हारे हाथ से?ज़ारा- आपका क्या ख्याल है मैं खिलाऊंगी?मैं- पता नहीं लेकिन मेरा दिल कहता है कि तुम खिलाओगी!ज़ारा- तो आपका ख्याल गलत है!मैं हैरान रह गया.देसी गर्ल की बीएफ: जैसे ही मैंने जाने की इज़ाज़त मांगी, तो कविता भाभी ने कहा- हर बार बिना कुछ लिए चले जाते हो … आज रुक जाओ … चाय पीकर जाना.

मेरे तो होश फाख्ता थे … सीन देख कर आंख फटी की फटी रह गयी थी कि साली क्या चीज है मादरचोद.मुझे डांस सीखने के बहाने मौसी के मस्त और कामुक बदन से रगड़न पाकर मस्ती चढ़ने लगी थी.

एक्स एक्स देसी वीडियो सेक्सी - देसी गर्ल की बीएफ

हम आपका यहाँ इंतजार कर रहे थे और आप हैं कि अपने ही घर में चुपके से आ गए.उनको यह करतब करते देख मेरे भी तन बदन में आग लग गई और मेरी चूत भी लौड़ा मांगने लग गई.

अगर पति का लण्ड आप को संतुष्ट नहीं कर पाता तो आप पतिव्रता बनकर कितने साल रहेंगी? और कब तक अपने बदन को ऐसे ही जलाती रहेंगी?मेरी तरह आप ही बाहर एक अच्छा लण्ड ढूंढ लीजिए और मौका मिलते ही उसको पूरा खा जाइए. देसी गर्ल की बीएफ अनीता बोली- सच कह रहे हो!उसका पति बोला- हां रानी एकदम सच कह रहा हूँ.

मैंने ये मासूम सा बनते हुए कहा और एक हाथ को अपने गाल पर रख लिया, जिससे शायरा हंसने लगी.

देसी गर्ल की बीएफ?

मैं चाहती थी जैसे मर्जी, लड़का का हो या बड़े आदमी का हो, बस मुझे लण्ड मिल जाये. अगर ये सब मेरे एक दोस्त के साथ नहीं हुआ होता तो मुझे कभी एक ओपन माइंडेड वेबकैम मॉडल से मिलने का मौका नहीं मिलता. [emailprotected]पब्लिक सेक्स कहानी का अगला भाग:अतृप्त भतीजी और उसकी मौसी सास की चुदाई- 3.

मैंने उसको पकड़ के रखा और मैंने पूरा लंड अन्दर दिया।उसको दर्द हुआ लेकिन वो सहती रही।मैंने उसके होंठो को चूमा; उसके चूचे सहलाये और पूरे शरीर को सहलाता रहा।थोड़ी देर के बाद वो नार्मल हुई तो मैंने लंड को अन्दर बाहर किया. ज़ारा- आह … जान … आह आह!मैं- अपना चेहरा इधर करो मैं आ रहा हूं!उसने अपना चेहरा मेरी और किया तो मैं उसके होंठों को अपने होंठों में भर कर किस करने लगा और धक्के तेज कर दिये. फिर मैं उठकर उनके पास गयी और उनको गले से लगाकर कहा- आप टेंशन न लो भाईजान.

मतलब उस दिन मैं घर पर अकेली थी।सुबह-सुबह मम्मी ने मुझे फोन किया और कहा- आज अस्पताल जाकर डाक्टर से एक बार चैक करवा लेना!मैंने मना कर दिया. वो- और तुम्हें भी?शायरा ने कल मेरी और ममता जी की बातें सुनी थीं, इसलिए उसको पता था कि मेरा और मेरी भाभी का चक्कर चल रहा है. मेरे ग्रुप में रोनी और अरुण थे, निशि के ग्रुप में जैक और रोनित और रोहिणी के ग्रुप में कमल और नील थे.

विजय ने मुझे अपनी गोद में से उतारा और मुझे पलंग पर दुबारा लिटा दिया. वो बोली- दीदी आप कहां थीं … मैंने कितनी घंटी बजायी … वो तो शुक्र है कि मेरे पास चाबी थी घर की.

आंटी एकदम से तड़प गई और जैसे ही मैंने अपनी जीभ से आंटी के क्लीटोरियस को छुआ, आंटी की तेज सिसकारी निकल गई.

मैंने पूछ लिया- बाहर कौन जा रहा है?अब्बू ने कहा- तुम्हारे दोनों चाचा काम के सिलसिले में चार दिन के लिए बंगलोर जा रहे हैं.

साथियो, मैं भगवानदास उर्फ़ भोगु आप सभी का रिश्तों में चुदाई की कहानी में स्वागत करता हूँ. उसने बैठ कर पानी से मेरी योनि और जांघें और टांगें धोईं और मुझे मेरा हाथ पकड़ कर कमरे में ले आयी. मैं- तुम्हें ये इस तरह से मेरा बोलना अच्छा नहीं लगा क्या? अगर ऐसी बात है तो मैं तुम्हारे शरीर के हिस्सों को उनके असली नाम से नहीं, बल्कि हर हिस्से का नाम कुछ अपनी तरफ से रख लेंगे.

तो उसी के हिसाब से दवाई ज्यादा ठीक रहेगी।जब मैंने सलवार नहीं छोड़ी तो दीदी ने जीजू को आवाज़ लगा दी- अजी सुनते हो! नीलम तो दिखा ही नहीं रही है. आगे क्या हुआ इसकी देसी गर्म चुत सेक्स स्टोरी मैं अगली बार आपके साथ साझा करूंगी. अगर तुम मेरी किस्मत में होते तो मेरी जिंदगी संवर जाती और मैं तुम्हारे लंबे लण्ड से हमेशा चुद कर निहाल हो जाती!विजय मुझसे बोला- शालू, इस लण्ड पर मेरी शादी से पहले मैंने कई बार तुम्हारे नाम की मुट्ठ मारी है.

अब मुझे गीतिका को हासिल करने में कोई ज्यादा परेशानी नहीं लग रही थी क्योंकि उसकी मम्मी ने भी अपनी रजामंदी दे दी थी.

बोलो तो मम्मी के कमरे से चाभी चुरा कर आ जाऊं … जल्दी से चोद कर चला जाऊंगा. अब मुझसे उनके धक्के बर्दाश्त नहीं हो रहे थे क्योंकि मजा सिर्फ तभी आता है जब आग दोनों तरफ लगी हो. आखिर ये उम्र होती ही ऐसी है, जब हमें कोई अच्छा लगता है, इसी उम्र में दिल दिमाग पर हावी हो जाता है और प्यार हो जाता है.

मैंने अगले दिन कॉलेज से आकर मौसी को फोन किया और कहा- आज आप खाना मेरे घर ही दे जाना. लेकिन जब मम्मी ने डाँटा तो मुझे जाना ही पड़ा।मैं आटो से चली गई, जब मैं वहां पहुँची तो डाक्टर साहब एक मरीज को देख रहे थे. इतने में नॉर्मल टेंपरेचर का पानी आने लगा … और हम दोनों ही भीगने लगे.

हम दोनों एक कैफे में पहुंचे, तो वहां पर मैंने देखा कि मेरे घर की कार पार्किग में खड़ी है.

इधर नीचे मैं नेहा की चूत के अंदर कभी जीभ डाल देता और कभी उसके लाल रंग के भाग के ऊपर अपनी जीभ से लार टपका टपका कर उसकी चूत का दाना चूस लेता. तुम्हें कभी किसी भी चीज की जरूरत हो तो तुम मुझसे कह दिया करना; मैं हमेशा तुम्हारे लिए खड़ा हूं.

देसी गर्ल की बीएफ ऐसी मद भरी अंगड़ाई जो मुर्दे को भी उठा दे!मेरा लंड खड़ा हो गया!उसे देखकर वो मुस्कुराने लगी!मैं- क्या हुआ?ज़ारा- साहब सलामी दे रहे हैं!मैं- इसे तो सलामी देनी ही पड़ेगी! तुम इस घर की मल्लिका जो ठहरीं!ज़ारा- तो इन दो प्यार करने वालों को मिला देते हैं!अपनी चूत पर उंगली रख कर बोली और बिस्तर पर चढ़ने लगी. चाचा ने जोर से कहा- चलो साहिल … क्या सोच रहे हो!मैंने अपने आपको संभाला और घर से बाहर निकल कर कार की तरफ़ चलने लगा.

देसी गर्ल की बीएफ जगह जगह से वहशीपने से काटने और चूसने के बाद भाभी को मैंने घोड़ी बनाया और जबरदस्त तरीके से पीछे से चूत में लण्ड ठोक दिया. घोष कहने लगा- फिर तो मैं आपको छोटा भाई कह सकता हूँ, क्योंकि मैं 35 का हूँ.

वो अब शांत हो गई।मैंने लंड निकाल लिया और उसे बिस्तर से नीचे बैठाकर उसके मुंह में लंड डाल दिया.

सेक्सी बीएफ चाहिए ब्लू पिक्चर

कविता ने कहा- काश कि ये वासना की भूख एक बार में मिट जाती … तो शायद तुम भी इतने सारे मर्दों से इतनी दूर दूर जाकर नहीं चुदतीं और न ही किसी औरत को अपने साथ खेलने देतीं. वे मेरे कामुक बदन का जमकर भोग लगा लेना चाहते थे।मैं उनके नीचे थी और वह मेरे ऊपर थे. तुम इतनी खुल कर चुदवा रही थी।”तुम्हारी चुदाई से पता चल रहा था कि तुम कितनी प्यासी थी और अभी तक तुम्हारी अच्छे से चुदाई नहीं हुई थी। मगर अब चिंता मत करो तुमको चुदाई का पूरा मजा मिलेगा।”ऐसा कहते हुए उन्होंने मेरे निप्पलों को मसलना शुरू कर दिया.

वो मेरी चूत को अपने मुंह में लेकर चूसने लगे।मैंने अपने दोनों हाथों से बेड की चादर को पूरी तरह से जकड़ लिया था क्योंकि मुझसे वह आनंद बर्दाश्त नहीं हो रहा था. मैं उसकी प्रोफाइल पर गया और मैंने वहां से चैट के लिए क्रेडिट प्वाइंट अपने बैंक कार्ड के द्वारा ले लिये. मैंने पूछा- कल तो आपने मना कर दिया था कि रेज़र नहीं है?तब अनु बोले कि हां इसी लिए तो अभी मार्केट से लाया हूँ.

धीरे धीरे अन्दर बाहर होने की जगह तेज़ी से चुदाई की रफ्तार बढ़ा दी गई.

मैं आपके पैसे लौटा दूंगी।रमेश- तुम पैसे तो लौटा दोगी, मगर मेरा मूड जो अभी किसी को चोदने का कर रहा है उसका क्या?रेहाना- अंकल मैं आपकी बेटी की सहेली हूँ, बिल्कुल आपकी बेटी की ही तरह!हंसते हुए रमेश बोला- हां, मगर करती तो तू भी धंधा ही है ना!रेहाना- अंकल, मैं आपके साथ कैसे … नहीं … अंकल।रमेश- कैसे मतलब? मैं यहाँ तुम्हारा कस्टमर हूँ. शाही सर बोले- ओके ठीक है, फिर कभी सही … मगर अब जो पैसे तुमने लिए हैं, उसका मोल तो उतारती जाओ मेरी जान. थोड़ी देर चूमने के बाद रवि ने रिया को अलग किया और उसकी ब्रा का हुक खोल दिया.

फिर मैडम मुझे किस करती हुई नीचे बैठ गईं और मेरे लंड पर किस करती हुई बोलीं- अब मेरे मुँह में जाने की इसकी बारी है … लेकिन अभी नहीं. अपने दोनों हाथों से उसने मेरी भरी हुई चुचियों को दबा कर मेरे हाथ को पकड़ा हुआ था. उसके बाद वो किस करते हुए अपनी जीभ से मेरे पेट और नाभि पर चूमने लगे.

वो- अरे … मैं तो भूल ही गयी थी, रुको एक मिनट, मैं चाबी लेकर आती हूँ. मेरी दोनों टांगें उन्होंने अपने कंधों पर रख ली और मेरी गांड के छेद में अपने लंड को डालकर धीरे धीरे अंदर करने लगे.

मैं जिस रिश्ते से भाग रही थी, उसी रिश्ते को मैंने अब स्वीकार कर लिया था. क्या हुआ… सारे होटल को सिर पर उठा लेगी क्या? आराम से चुद साली… आवाज बाहर जा रही है. शायद वो सब भी गोली खा कर आए थे, जिससे कि पंद्रह मिनट की चुसाई बाद भी उनके लंड नहीं झड़े थे.

फिर हम दोनों ने कपड़े पहने और अपने आप को ठीक किया।उसके चेहरे पर खुशी दिख रही थी। वो एक बार फिर मेरे गले लगी और मुझे किस करके ‘आई लव यू’ बोला।उसके बाद हम दोनों एक एक करके नीचे आ गये।तब के बाद हमें जब भी मौका मिलाहमने चुदाई की।आज वो मेरे साथ बहुत खुश है। मैंने उससे वादा किया था कि मैं उसे कभी छोड़कर नहीं जाऊंगा.

मैंने मौसी की स्पोर्ट्स ब्रा उठायी और नाक के पास ले जा कर सूंघा, उसमें से मौसी के बदन और परफ्यूम की मिश्रित खुशबू आ रही थी. यह बात सुनकर मेरी तो हालत ही खराब हो गयी।फिर जीजू बाहर चले गये और थोड़ी देर बाद पास के ही एक क्लिनिक से महिला नर्स को बुला कर ले आये. वह कुछ कमाता नहीं है, इसे पीटता है और पैसों की डिमांड करता रहता है.

अब आगे:ममता जी ने अपनी चुत से हाथ निकाल कर देखा और कहने लगीं- ओय ये क्या कर दिया तूने?उन्होंने मुझे‌ हिलाते हुए कहा. मुझे इस तरह देखकर वो जरा भी नहीं घबराई, बल्कि मुझे देखते हुए चुत रगड़ कर बोली- मैं जानती हूं … तू बड़ा चोदू किस्म का है.

मैंने उसको पहन कर देखा तो सामने अनु ने अपने लंड पर रूमाल बांधे हुए खुद को नंगा कर लिया था. इससे पहले कि वो कुछ और समझती या करती, मैंने तुरंत उसकी टीशर्ट को उठा दिया और उसकी ब्रा दिख गयी. और जानते हो, जब आज तुमने मुझे पीछे से पकड़ा था न … मैंने तुम्हारे लंड के साइज़ को फील किया था, मैं खुश हो गयी थी कि तुम्हारा लंड बड़ा मस्त है.

बिहार बीएफ सेक्सी बीएफ

जब हम फ़ोन पर अपने बिज़नेस की बातें कर सकते हैं तो फिर उससे बड़ी और क्या बात हो सकती है?रेहाना- उससे भी बड़ी बात है।रिया- अच्छा तब तो मुझे अभी जानना है कि ऐसा क्या है?रेहाना- नहीं, तू मुझसे मिल पहले, तभी बताऊंगी।रिया- नहीं, तू अभी बता।रेहाना- नहीं, तू मिल तो सही।रिया- रेहाना, तुझे तेरी बिज़नेस की कसम तू अभी बता।खीझकर रेहाना बोली- साली तू बहुत ज़िद्दी है.

मैंने उसके बच्चों के बारे में पूछा, तो उसने बताया कि उसके 2 बच्चे हैं. फिर मैंने कैमरा अपनी आंटी की गांड की ओर कर दिया और अन्जना को आंटी की गांड दिखाने लगा. काफ़ी देर ऐसे ही खेलने के बाद कविता ने मेरे गालों को चाटना शुरू कर दिया और धीरे धीरे गले से सीने पर उठे हुए मेरे स्तनों तक जाने लगी.

फिर जब मैंने अपने मोबाइल देखा तो उस पर बूढ़े की भी बहुत सारी मिस्ड काल आई हुई थी और मैसेज भी आए हुए थे. मेरी आंटी का फिगर कुछ ऐसा था कि 38-डी के बूब्स … कमर 30 की और उनकी गांड 40 इंच की है. फिल्म सेक्सी गर्लअब बेवजह तो मैं शायरा से मिल‌ नहीं सकता था, इसलिए मुझे इस कोरियर के जरिये उससे मिलने का बहुत ही सही बहाना लग रहा था.

मैं तो नंगी ही थी, मगर बाकी सब जा चुके थे, सारे घर में सामान इधर उधर बिखरा पड़ा था. [emailprotected]डिल्डो सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरा प्रथम समलैंगिक सेक्स- 5.

सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार!मेरा नाम कविता है और मैं एक लम्बे अन्तराल के बाद कोई कहानी लिख रही हूं. मेरी मैरिड गर्लफ्रेंड ने मेरे लंड को चूसते हुए मेरे गोटों को सहलाया फिर उन पर जीभ फिराई तो मैं बहक गया और उसी पल मैंने उसकी एक चूची को पकड़ लिया और उसे मसलने लगा. गीत ने उस डिल्डो के एक साइड के लंड को अपनी चूत में लिया और उसकी बैल्ट को पैंटी जैसे अपने चूतड़ों पर पहन लिया.

फिर मैंने काव्या को अनीता के कामरस से सराबोर लंड को चूसने में लगा दिया. मुझे बहुत मजा आ रहा है साले … हरामी मार ना! रुक क्यों गया मादरचोद?यह सुनकर अंकल को भी जोश आ गया. मेरा पानी उसकी गोद में ही निकल चुका था और मैं जैसे-जैसे उसके लण्ड पर कूद रही थी … चूत और लण्ड की चुदाई में जोर जोर से फच.

गीतिका अपनी टांगें चौड़ी करके खड़ी हो गई, उसने मेरी तरफ देखा और बोली- ऐसे भी कोई चुदाई करता है? मेरी तो जान ही निकाल दी आपने!मैंने कहा- यह तो पहला सेशन है.

मैंने पूछ लिया- क्यों!तो उसने बताया कि एक बार वो मुझे गाड़ी से लेने मेरे स्कूल आ रहे थे तो उनकी गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया था. तभी मेम रानी ने एक चीख मारी और ज़ोर से ऐसे छटपटाई जैसे कोई मछली पानी के बाहर आ गयी हो.

लेकिन उसने अपनी पड़ोस की एक असंतुष्ट भाभी आएशा को वासना पूर्ति के लिए शाम को बुलाया है।34 साल की आएशा एक शेयर कारोबारी हमीद दलाल की तीसरी बीवी है जो अपने ४८ साल के खसम से खुश नहीं है।रीना की प्लानिंग सुन मैं दंग रह गया. जानते हो रमित, जिस दिन हम सब कुछ भूल कर एक दूसरे में समा गए थे … पता नहीं और ना जाने क्यों, उस दिन मैं सिर्फ तन से नहीं, मन से भी तुम्हारी हो गयी थी. उसने अपना नाम ज़ीनिया बताया और कहा कि मैं राजकोट की हूँ और माउंट आबू घूमने जा रही हूँ.

बत्तीस-सी का वक्ष … और बत्तीस-डी के नितंब … नाभि के नीचे बंधी साड़ी. भाभी अपने कपड़े निकाल कर नंगी होकर बेड पर लेट गई और उन्होंने मुझे भी नँगा कर लिया. मुझे भी अपनी क्लास के दूसरे सेक्शन का एक लड़का धीरे धीरे अच्छा लगने लगा और फिर बहुत अच्छा लगने लगा.

देसी गर्ल की बीएफ जाने दो।रमेश- जाने कैसे दूं?रति- जानू प्लीज … तुम्हें मेरी कसम।रमेश रुक गया. पहले तो मोहन मेरे होंठ गाल, कंधे मम्मे पेट पीठ, कमर जांघें सब चाट गया और उसके बाद मेरी चूत से मुँह लगा कर चाटने लगा.

हिंदी में बीएफ सेक्सी बीएफ सेक्सी

मैंने उससे दोस्ती करके उसकी चुदाई कैसे की?नमस्कार दोस्तो, मैं आपका दोस्त प्रतोष सिंह फिर से एक और चूत और लंड को कड़क कर देने वाली कहानी के साथ हाज़िर हूं. फिर मेरे बर्थडे पर मैंने उससे रूम पर जाने की सहमति तोहफे के रूप में मांगी. अह …’ मेरे मुँह से निकल रहा था।मेरे मुँह से ‘दर्द हो रहा है’ सुनकर मम्मी बोल पड़ी- डाक्टर साहब, इसको पीरियड(माहवारी) में भी बहुत दर्द होता है।जब मम्मी ने ये कहा तो मुझे मम्मी पर बहुत गुस्सा आया.

शायद उसे भी मेरा मूसल पसंद आया इसलिए भाभी भी मजे लेकर देखती रही और अंत में मैं लंड हिलाते हुए झड़ गया।उस दिन मेरे लन्ड से ढे़र सारा माल बाहर निकला. वहां से मैंने बीस हजार रूपये निकाल कर गार्ड को अपने नजदीक बुलाया और कहा- मुझे कुछ सामान खरीदना है. हिंदी मूवी सेक्सी दिखाइए5 मिनट की चुदाई के बाद उसने अपना सारा पानी चूत मेरी चूत में कंडोम में निकाल दिया और थक कर बराबर में लेट गया.

मैं अनीता को छूना सहलाना चाह रहा था, पर अनीता की ट्रेन रफ्तार पकड़ चुकी थी, इसलिए मैंने उसे किसी भी तरह रोकना टोकना लाजिमी नहीं समझा.

अब आप करते हैं तो ठीक है, नहीं तो …मैंने उसकी बात समझते हुए अपना फैसला सुना दिया. उसकी चूत में संजय का मुंह लगा देख कर मेरा मन कर रहा था कि साली की चूत में बड़ा और मोटा लट्ठ चिकना करके फंसा दूं.

उस दिन मैंने जानबूझ कर ब्रा नहीं पहनी थी, जिसके कारण मेरी चूचियों के निप्पल साफ़ झलक रहे थे. उसके दर्द और सिसकारियों से कमरा गूंज उठा था- आह आह हाअहाहह … श्श्ह्श्स ह्श्स मैं मर गई … आईईईई ओ माई गॉड … चोदो मुझे … आह. उसने मुस्कुरा कर कहा- क्या मैं इस समय आपकी मदद कर सकती हूँ?मैंने पूछा- कैसे?रोहिणी बोली- आप अपने एटीएम से पैसे बाद में निकाल लाना.

उसकी बहू की मां विमला ने टिफिन निकाल कर अपने दामाद को उठाया और खुश होकर उसे खिलाने लगी.

गीतिका ने आ … आ … आ … करके मेरे सिर को अपनी चूत पर दबा लिया और कहने लगी- राज तुम तो ऊपर से ही बहुत मजा दे रहे हो. नमस्ते दोस्तो, मैं अपना गर्म सेक्स अनुभव आपको बताने आया हूं जो मुझे (23 साल की उम्र में) अभी हाल ही में हुआ था. इस बीच मैंने सब के लिए रात का खाना भी बनाया और सबने एक साथ डाइनिंग टेबल पर नंगे ही डिनर किया.

एयरपोर्ट सेक्सी वीडियोमैंने अपने मुँह से सलोनी भाभी की चुत से दो इंच दूर से फूंक मारी, तो उनकी गांड का छेद ऊपर नीचे होने लगा. हम दोनों के झटकों की वजह से हमारी महारानियों की चूतें भी आपस में टकराती और उनके अंदर लिया हुआ दो तरफी डिल्डो भी दोनों की चूतों में हलचल मचा कर उनकी चूतों को चोद देता.

सेक्सी बीएफ करवा चौथ की

कुछ ही देर चूसा था कि ज़ारा ‘आह जान … मैं आ रही … हूं …’ इतना कहते-कहते वो झड़ गयी और मेरे पूरे चेहरे पर उसका पानी फैल गया. फिर मेरे आगे आकर सनी बोला- यार चुत पब में मार लूंगा … अभी तो गांड मार लेने दो. उस दिन वो थोड़ा गहरे गले का सूट पहने हुई थी जिसमें वो बला की सेक्सी दिख रही थी.

भाभी के शरीर की मालिश करने से लेकर फ़ोरप्ले और सेक्स करते हुए मुझे एक घंटा से भी ज्यादा हो चुका था. आगे से तो उसने अपनी चूचियों‌ को ढक‌ लिया … मगर पीछे से उसकी गुलाबी पैंटी और नितम्बों का उभार भी साफ नजर आ रहा था. इससे पहले वाले भाग में आपने देखा कि अपने बाप और उसके दोस्त से चुदवाने के बाद रिया घर आ गयी.

वह मेरे ऊपर आकर मुझे किस करने लगे।मेरे माथे से किस करते हुए मेरे होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसने लगे. उसकी ठुड्डी, गाल, गर्दन और फिर अन्त में उसकी चूचियों के पास आकर मेरे होंठ ठहर गए. उसमें से ढेर सारी क्रीम मेरी योनि में मल दी और उंगली से योनि के भीतर तक क्रीम लगा दी.

अगर तुम दोनों चाहो तो!रोहन बोले- हां बताइए सर क्या हो सकता है?थॉमस बोला- जब अंडरगार्मेंट्स की डेमो दिखाने अंजलि होटल आयी थी, तब मैं उसे ब्रा पैंटी में देख कर बहुत शॉक हो गया था. 5 इंच के करीब हो जाती है।मैं आपको अपना रियल साइज ही बता रहा हूँ। कुछ लोग 10/11 इंच लिख देते है। जो गलत होता है। मेरे साइज का लंड कोई औरत लेगी तो उसकी प्यास आसानी से बुझाई जा सकती है।यह कहानी से आज से करीब 3 साल पहले की है। जब मैं मेडिकल की पढ़ाई कर रहा था। मुझे चुदाई करने का शौक शुरू से ही रहा है.

कुछ ही पल के बाद भाईजान के लंड से रस की पिचकारी निकली और रस मेरे मुंह में जाने लगा.

थोड़ी देर तक अपनी चूत चटवाने के बाद वो 69 की अवस्था में होकर मेरे लंड को अपने मुँह में भरकर चूसते हुए अपनी कमर को मटकाकर मुझे इशारा कर रही थी कि मेरी चूत और गांड तुम्हारी लपलपाती हुयी जीभ से चुदने को बेकरार है. తమిళ్ సెక్స్ మూవీमैं समझ गया था लेकिन शुरुआत मैं गीतिका से ही करवाना चाहता था इसलिए मैंने गीतिका के कमर और पेट पर हाथ फिराना शुरू किया. नंगी ब्लू फिल्म सेक्सी वीडियोअब समय आ गया था कि मैं उसकी योनि को चाटूं … सो मैंने उसकी पैंटी उतार दी. वीणा ने इधर उधर देख कर अपना हाथ आगे बढ़ा दिया और हल्के मादक स्वर में बोली- मैं वीणा हूँ.

जी‌ … कल ये गलती से आपके‌ कोरियर के साथ आई चिट्ठी मेरे पास ही रह गयी थी.

सुबह से हम सब नंगे एक दूसरे को देख रहे थे और मैं तो अकेली थी और सब मुझे ही नोंच रहे थे. एक दिन अंकल के दोस्त आये तो …यह कहानी लड़की की आवाज में सुन कर मजा लें. उसकी बात का जवाब मैंने दिया- साली गीत को भी बातें ज्यादा आने लग गयी हैं आजकल.

मैंने उसकी तरफ देखा- तो उसने क्या कहा?वो बोली- पहले तो वो बोला कि नैना, अब राहुल बड़ा हो चुका है … वो 6वीं क्लास में पढ़ता है … क्या अब दूसरा बच्चा करना ठीक होगा? फिर मैंने बोला कि नहीं … कुछ भी हो … मुझे करना है. सभी ने दीपक के कमरे में इकट्ठे की चुस्कियां लेते हुए आएशा भाभी के साथ खाना खाया।आएशा को कुछ ज्यादा चढ़ गई तो उसने रीना को अपने बांहों में जकड़ा और रीना की चूत चुसाई करके उसे धन्यवाद दिया. कविता ने कहा- सबसे पहले तो मैं तुम्हरा धन्यवाद दूंगी कि तुमने मुझे प्रीति से मिलवाया.

बीएफ भेजो सेक्सी सेक्सी

उस दिन वो थोड़ा गहरे गले का सूट पहने हुई थी जिसमें वो बला की सेक्सी दिख रही थी. तभी जीजू बोले- मेरी जान, बड़ी कसी चूत है।मेरी चूत में लगभग तीन महीने बाद कोई लंड गया था इसलिए कसी तो होगी ही!फिर जीजू ने हल्के हल्के धक्के लगाने शुरू किये. चूंकि मेरे पति घर पर नहीं थे, सो मैंने सोची कि इसमें आराम से सोऊंगी.

थोड़ी देर बाद अपने होंठों को दांतों से चबाते हुए बोली- जीजू, मेरा निकलने वाला है.

मैं इस दोहरे हमले से बावला सा हो गया और भावना की कमर को अपने ऊपर खींचने लगा.

गांड मराने के बाद जब मैं सो कर उठी, तो मैंने देखा कि मेरी प्यारी सी गांड फूल कर लाल हो गयी थी. उस सेक्सी वेबकैम मॉडल ने न केवल आंटी बनकर मेरा मनोरंजन किया बल्कि मेरी विधवा आंटी की गांड चुदाई से पहले उसकी चूत मारने की सलाह दी. भोजपुरी वीडियो दिखाइए सेक्सीमॉम ने सनी का फोन उठाते हुए कहा-कैसे हो सनी बेटा … अब याद आयी अपनी मासी की.

मैंने बैठ कर फ्रूट सलाद, आइस्क्रीम, ड्रिंक्स और कुछ कुछ खा पीकर टाइम गुजारा. पायल ने कहा- ये मेरी बैचमेट है, मेरी सबसे अच्छी सहेली और राजदार है. जीभ के स्पर्श से भाभी के मुँह से निकल रहा था- आआहा … खा ले … आह बहुत भूख लगी है … आह आज मत छोड़ना.

’ की आवाजें होने लगी थीं और रॉनी की सीत्कारें निकलनी शुरू हो गई थीं. मैंने उत्तर दिया- तुम अपनी इच्छा प्रीति के साथ पूरी कर चुकी हो, फिर मुझे क्यों मजबूर कर रही हो? तुम जानती हो मैं इस तरह का सम्भोग नहीं पसन्द करती.

अभिषेक के पिताजी शहर के रसूखदार हस्ती थे … इसलिए अभिषेक से लगभग पूरा स्कूल टीचर और प्रिंसिपल तक डरते थे.

उसकी चूचियां मैंने लाल कर दीं चूस चूसकर।अब मैंने दीदी की चूत पर हमला बोल दिया और उसकी चूत को जीभ से चोदने लगा. इतना कह कर वो मेरे खड़े लंड के ऊपर आकर बैठ गई और फिर से मर्दों की तरह मेरी चुदाई करने लगी. अब आगे की हिंदी कामवासना स्टोरी:अंधेरे में ही हम दोनों एक दूसरे की बांहों में आ गये और एक दूसरे के होंठ चूसने लगे.

शादी की सुहागरात की सेक्सी इसलिए मैं यह चाहता हूँ कि अगर तुम्हें यह डील वापिस लेनी है, तो तुम कुछ दिन के लिए अंजलि को मेरे साथ छोड़ दो. उसने तो मुझे मज़ाक में पकड़ा था, लेकिन ना जाने क्यों उसके स्पर्श से मेरे शरीर में एक करंट दौड़ गया.

संजय जैसे जैसे गीत की चूत को चोदता गीत की गांड में अपने आप ही मेरे लंड के झटके लगते रहते. मुझे आज यही रुकना है। कल सुबह चला जाऊंगा।मैंने कहा- मैं आपको होटल तक ले चलूंगी।उसने मुझे बाइक पर बैठने के लिए बोला।मैं बैठ गयी और रास्ता बताती गयी।बातों से पता चला कि वो यह घूमने के लिए आया है।उसने पूछा- कोई गाइड मिल सकता है क्या जो मुझे यहाँ घुमा सके?मैंने उसे बताया- आप बेवजह पैसा खर्च करोगे. भाभी जोर से हंसी और बोली- चलो, तुमने यह बात कह कर अपने सच्चे और साफ मन होने का और सबूत दे दिया.

सेक्सी बीएफ कार्टून की

मैंने उनकी तरफ सवालिया नजरों से देखा, तो मैडम बोलीं कि अभी हमें बाहर निकलना है. उसी समय झट से कविता भाभी ने कहा- ये गर्म पानी है … मैं तुमको दूसरा पानी देती हूँ. गाना बजना शुरू हो गया और वापस आते हुए मौसी ने कमर लचकानी शुरू कर दी.

मैं काफी देर वैसे ही उल्टी लेटी रही और विजय मेरे ऊपर ही लेटा रहा और मुझे चूमता रहा. जिस दिन घर में कोई नहीं होगा उस दिन मैं तुम्हारी चूत का उद्घाटन करूँगा.

वो मस्ती से आंखें बंद करके बस मुझे चूमे जा रही थीं, असली मज़ा ले रही थीं.

बंगाली सेक्स कहानी का अगला भाग:बंगालन भाभी को फ्लैट दिला कर चोदा- 2. भाभी की मुस्कान में अब शरारत आने लगी थी और वो मेरे लंड को सहला कर लंबा करने लगीं- तो आज का फाइनल हुआ कि तुम यहीं रुकोगे. थोड़ी देर बाद मैंने धीरे से अपना हाथ उसके बूब्स पर रख दिया और ऊपर से सहलाने लगा।उसने कुछ नहीं बोला और आंख बंद करके लेटी रही.

मैं- कप्पो रानी … आह तेरी गांड बहुत मस्त है … पूरे महीने इस ठंड में तुझे ठंड नहीं लगने दूँगा … मैं आपको इतना चोदूंगा कि आप हमेशा मेरे साथ नंगी रहने चाहोगी. अब आगे भाभी की बुर की कहानी:जब भाभी जी ने मुझे देखा तब मेरी हालत एक कुंवारे जवान लड़के जैसी ही थी. शायरा मुझे झूठमूठ का डांट तो रही थी मगर शर्म से उसके गाल लाल हो रहे थे.

दोस्तो, मैं आपको अपने बारे में कुछ बता दूं … शायद आप लोग मुझे भूल गए होंगे.

देसी गर्ल की बीएफ: पर मेरा मन अभी झड़ने का नहीं था तो मैंने उनको बेड पर चित लिटाया और मैं उनके ऊपर आकर वापस उनकी चुत में अपना लंड घुसा कर धीरे धीरे चोदने लगा. भाईजान ने भी मेरी पैंटी में हाथ डाल लिया और मेरी चूत को सहलाने लगे.

मेरे मुँह से अचानक निकल गयी- ये क्या कर रहे हो?इतने में मॉम बोलीं- क्या हुआ?सनी बोला- देखो न मासी … मैंने सिर्फ इस टेडीबीयर को उठाया, तो बोल रही है. कुछ देर लंड और जांघ के आस-पास चूमने चाटने के बाद वो मेरी जांघों पर बैठ गयी. नेहा के होंठों को सामने से गीत की चूत चोद रहे संजय ने अपने होंठों में ले लिया था.

कुछ ही देर में लंड ने पानी छोड़ दिया और वो सारा पी गयी; जीभ से चाट-चाट कर लंड को साफ कर दिया.

सच में दोस्तो, जब लड़की या औरत लंड के ऊपर चढ़ती है, तो चुत चोदने में बहुत मजा आता है. मैंने एक छिपी नजरों से भाभी के चूचे देखकर अपनी नजरें इधर उधर कर लीं. बस उनका मेरे सर को अपनी चुत पर दबाना हुआ और एक भूखे कुत्ते की तरह सलोनी भाभी की गोरी चिट्टी गुलाबी चुत पर लपक पड़ा.