लेटेस्ट बीएफ हिंदी

छवि स्रोत,सर्च सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

चोदा चोदी बताएं: लेटेस्ट बीएफ हिंदी, मैं बोला- मैं अकेला नहाऊंगा क्या? आप नहीं नहाओगी?तो जमीला- चलो मैं भी साथ आती हूँ.

सेक्सी वीडियो बहुत हार्ड

उसने कहा- चोदू, मैं क्या टाइमपास करने के लिए चूस रही हूँ?अब मुझे समझ में आ गया था कि यह आज सारी हद पार करने वाली है, मैंने अपना माल उसके मुँह में ही छोड़ दिया और उसने वाशरूम जा कर शायद उसको निकला या पी गई पता नहीं. desi सेक्सी vedioरयान ने फटाफट टीशर्ट डाली… दोनों ने चाय पी और शाम पिक्चर देखने का प्रोग्राम बनाया.

मैंने भी किस करते-करते दीदी को नंगी कर दिया और दीदी की चूत चाटने लगा. व्हिडिओ सेक्सी झवाझवीमैंने कमरे में रखे फ्रिज से आइसक्रीम निकाली और उसके मम्मों पर आइस्क्रीम लगा कर चूसने लगा.

मैंने जब इस पर भी कोई ऐतराज नहीं किया तो राहुल समझ गया कि रास्ता साफ़ है.लेटेस्ट बीएफ हिंदी: यह देख कर मैंने भी थोड़ा सा केक उठाया और रुचिका की चूचियों पे लगा दिया और उन्हें फिर से चूसने लगा.

सुमित ने खुश होकर कीकू के गाल पर चूम लिया और अपनी पेंट और चड्डी उतारने लगा, झटपट वो बिल्कुल नंगा हो गया, उसका तना हुआ लंड हवा में लहरा रहा था.एक पल के लिए तो मेरा मन हुआ कि ऐसे ही लेटी रहूं और फूफा जी के लंड पर अपनी चूत रगड़ दूं.

मौसम वीडियो सेक्सी - लेटेस्ट बीएफ हिंदी

उस सुबह बाथरूम में घटित घटना और उस समय सोई हुई माला के खुले उरोज और योनि को देख कर मैं उत्तेजित होने लगा और मेरे लिंग ने अपना सिर उठा लिया.मैंने उनकी गांड को देखा तो मैंने उनको गांड मारने को कहा, वो मान गयी और मैंने लंड उनकी गांड पर रखा, धक्का मारा, पर अन्दर नहीं गया तो मैंने लंड पर तेल लगाया, उनकी गांड पर भी तेल लगाया और एक जोर का झटका मारा और आधा लंड आंटी की गांड में!वो चिल्लाई और रोने लगी.

उसने कुछ देर बाद कहा- धीरे धीरे डालो!मैंने धीरे धीरे जोर लगाया और रश्मि कीछोटी सी चूत में पूरा लंडपेल दिया, रश्मि अपने दांत भींचे रही. लेटेस्ट बीएफ हिंदी मेरा लंड खुशी से फूल गया था क्योंकि उसे आज एक मस्त बुर जो मिलने वाली थी.

उसका लंड फिर से तनाव में आने लगा था और दो मिनट बाद उसने अपना अंडरवियर भी नीचे निकाल फेंका और वो हट्टा कट्टा देसी मर्द पूरा नंगा होकर अपने खड़े लंड के साथ जग्गी के साथ मिलकर अपने लौड़े को मेरे मुंह पर फिराने लगा.

लेटेस्ट बीएफ हिंदी?

टांगें चौड़ी करके मैं भी ढीला हो गया। मैंने सोचा काम निपट गया है, पर दो मिनट बाद वह फिर शुरू हो गया। बन्दा रुक ही नहीं रहा था। उसका लंड चोट पर चोट टक्कर पर टक्कर दिए जा रहा था। ऐसा लगता था कि मेरी गांड फाड़ कर ही दम लेगा। आज तो गांड की ऐसी-तैसी हो गई। मैं सोच रहा था कि जाने कब तक गांड मारेगा. उसके बाद मैंने किस करना चालू किया, हमारे होंठों से होंठ, जीभ से जीभ लड़ रहे थे, हम दोनों के शरीर में सिहरन सी होने लगी, अब मैं अपना एक हाथ उसकी चूची पर ले गया और उसे बड़े प्यार से उसकी कुर्ती के ऊपर से ही सहलाने लगा. संजय ने बात को अच्छे से संभाल लिया मगर कहते है ना चूतियों की कमी नहीं इस दुनिया में.

वो बोला- जल्दी घुसेड़ दो ना…मैंने उसकी गांड में लंड को घुमाते हुए घुसा दिया. बताओ कि क्या करूँ?मैडम ने तुरन्त जवाब दिया- मेरी चूत में ही झड़ जा!मैं पूरी ताकत से धक्के लगाने लगा और फिर जोर से मैडम को पकड़ लिया और एकदम से झड़ गया ‘हाई… ई… उम्म… मीरा मेरी डार्लिंग … आई लव यू…’ और मैं उनके ऊपर ही ढेर हो गया. वो बोला- जल्दी घुसेड़ दो ना…मैंने उसकी गांड में लंड को घुमाते हुए घुसा दिया.

मैं- चाची, सीमा काचिंग से कब लौटेगी?कहते हुए अपनी पैन्ट के अंदर उठे लंड को चाची के हाथ से सटाया. दोस्तो, आज ये जो देसी कहानी आपको बताने जा रही हूँ, यह मेरे साथ हुई एक सच्ची घटना है. मैं भी अब अपना हाथ जो‌ ‌उसके नन्हे उरोजों को मसक‌ रहा था, उसे पिंकी के मखमली पेट पर से सहलाते हुए उसकी जाँघों के जोड़ पर पहुंचा दिया, लेकि‍न मेरा हाथ उसकी योनि को छुये उससे पहले ही पिंकी ने जाँघों को भींच कर अपनी योनि को छुपा लिया।उसने दोनों जाँघों को अंग्रेजी के अक्षर ‘X’ की तरह जोरो से जांघें भींच लिया था जिनको आसानी से खोलना मुश्किल था इसलिये मैं उसकी जाँघों के ऊपर ही धीरे धीरे सहलाने लगा.

तब उन्होंने मुझे अपने से अलग करते हुए बोली- विवेक, अभी तो मैं कुछ दिन यहीं पर रहूंगी इसलिए यह मस्ती अभी नहीं सिर्फ रात में ही करेंगे. चूत की भट्टी की गर्मी पाकर वो कांपते हुए होठों से मेरी बीवी का चुम्बन करते हुए अपनी जीभ निकाल उसके मुंह में घुसेड़ने लगा, जबकि उसका निर्दयी चुदाई यंत्र बिना किसी दया के मेरी असहाय बीवी की चूत मारने में लगा ही हुआ था!थोड़ी देर बाद मैं एंड्रयू की बगल में लंड नताशा के चेहरे के सामने पेश करता हुआ लेट गया और मेरी प्यारी गुड़िया मुस्कुराते हुए उसे चूसने में लग गई.

जब नंगा हो गया, तो उसने मुझे बेड पे लेटा कर मेरे पेट पर चढ़कर बैठ गई.

पर जब ऋतु बोली- अगर तुम्हें लगे कि यह ‘शो’ अच्छा नहीं हैं तो तुम पैसे मत देना.

’ की आवाज आई और मैं रो पड़ी। उन्होंने मुझे अपने सीने से लगाए रखा और धीरे-धीरे प्यार से हाथ मेरे पीठ को सहलाने लगे। सामने कूलर की हवा भी आज गर्म करने लगी। मैं पसीने से तर होती गई और वो वैसे ही लंड को अन्दर डाले रहे।करीब 5 मिनट बाद मैं शांत हुई. ज़रा मुझे भी बताओ मेरे भाई?दोस्तो मॉंटी सीधा सा लड़का था, उसके दोस्त भी ठीक से थे, इसलिए ये सेक्स की बातों से दूर था, इसका तो बस पढ़ाई में ध्यान रहता था। अब बेचारा इसको क्या पता था कि इसकी बहन एक पक्की रंडी है जो तरह-तरह के लंड देख और खा चुकी है।मॉंटी- पता नहीं अपने आप ही होती है। एक तो सुबह जब सोकर उठता हूँ, तब और कभी जब जोर से सूसू आती है जब।टीना- अच्छा ये बात है. वो और कहीं नहीं है।मैंने उससे कहा- हाँ जल्दी ही चोदूँगा, पर पहले थोड़ा और मज़ा ले लिया जाए।मेरी बहन समझ गई कि मैं उसे और तड़पाने वाला हूँ, वो बोली- ठीक है.

तो कब दिखा रही हो?मैंने अपने पति को बोला- कैसे दिखाऊँ? आकाश तो मुझे बाहर कहीं ले जायेगा और मैं तुम्हें अपने साथ नहीं ले जा सकती. मुझे इन्तजार था कि जैसे ही उसका दर्द कम हो और मैं उसकी चुत में झटके मारने स्टार्ट कर सकूँ. शराब का सुरूर छा रहा था और पीटर की उंगलियाँ मेरी चुत और गांड में भूकंप मचा रही थी.

घर से काम पर जाना और काम से घर आना। इसके अलावा मैंने कभी किसी का जिक्र ही नहीं सुना।काका- है मोना.

लगातार करते रहते हैं जब तक कि लंड का रस न छूट जाए!’‘अरे वाह… लाओ बाहर निकालो अपना पेनिस, वो तो मैं अभी कर देती हूँ!’ वो खुश होकर बोली. अब मुझसे बिल्कुल भी सहन नहीं हो रहा था तो मैं उसके आगे गिड़गिड़ाने लगी तो उसके चेहरे पर एक कमीनी हँसी आ गई, उसने एक झटके में अपना पूरा लंड मेरी चूत में उतार दिया. मोना- अच्छा कितने साल की है और दिखने में कैसी है? गोपाल को पसंद तो आ जाएगी ना वो लड़की.

मैं बड़ी मुश्किल से उनको अंदर लेकर गई और ससुर जी को कहा- पिता जी, आप जाओ, मैं फूफा जी का लिटा कर आ जाती हूँ. संजय ने 15 मिनट तक पूजा की जमकर चुदाई की, फिर उसे घोड़ी बना दिया और लंड पेल दिया. फिर वहीं से रगड़ते हुए हाथ को आगे तक लाया तो इससे चाची की आह निकल गई और उन्होंने मुझे होंठ पे काट लिया.

मैंने कहा- क्या हो गया दीदी? आप मुझे ऐसे क्यूँ देख रही हो?दीदी मुस्कुराती हुई बोली- मैं अपनी सविता को देख रही हूँ जो पता नहीं कब जवान हो गई!मैं मुस्कुरा दी.

‘पगली है तू… अरे सेक्स करना तब होता है जब लंड को चूत के भीतर घुसा के चुदाई की जाय. अजय स्पीड से धक्के दे रहा था। अब फ्लॉरा भी उसका साथ देने लगी गांड को हिला-हिला कर चुदने लगी।अजय- आह.

लेटेस्ट बीएफ हिंदी मेरी मैडम की चुदाई की सेक्सी कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करें![emailprotected]. ’‘तो आज तुम्हारे घर चलें, वहीं पर मस्ती करेंगे… मेघा भी शायद एन्जॉय कर रही है.

लेटेस्ट बीएफ हिंदी डॉक्टर बोली- मेरी तो पिछले तीन साल की कसर निकल गई और मैं अब तुमसे एक महीना नहीं चुदुंगी. जो बहुत टाइट कपड़ों में अपने मम्मों को जकड़े हुए थीं। वे आंटी अपने मम्मों को और ज्यादा टाइट करके हम दोनों से मिलीं।सच में उनके बहुत बड़े-बड़े चूचे थे। जब वो पलटीं तो उनकी गांड.

लेकिन मैं उसको चोद नहीं रहा था, तड़फा रहा था, उसकी चुदाई की भूख बढ़ा रहा था.

सेक्सी नंगा विडियो

जब उसने अपने कपड़े निकाले और अपने जिस्म पर लाल निशान देखे जो रात को जॉन ने चूस कर बनाए थे, तो वो डर गई और जल्दी से कपड़े पहन कर बाहर आ गई. जो उसे इसके बारे में सही से बता पाएगा। वो तैयार हो गई।उसने अपने घर पर बताया कि उसके अन्दर ही कमी है जोकि थोड़े से इलाज़ के बाद ठीक हो जाएगी। इससे घर में सब लोग खुश हो गए। अगले दिन डॉक्टर ने हमें सब कुछ सही तरीके से समझा दिया कि हमें क्या-क्या करना होगा, जैसे कि वीर्य का चयन. फ़ोन बंद कर घड़ी पर समय देखा तो रात के बारह बज चुके थे और चाची कभी भी आ सकती है इसलिए निवृत्त होने के लिए बाथरूम में चला गया.

लिप्स को लिप्स से लगाने में हमारी जीभ एक दूसरे से मिल गई और साँसों के साथ साँसें टकरा गई. उधर राजे भी अब चिल्लाने कगा था, भारी से भारी गालियाँ देकर चुदाई कर रहा था. कुछ देर के बाद जब मेरी बहन ने पूछा- और कितना बाहर रह गया है?तो वो मुस्कुराते हुए बोला- तुम खुद देख लो.

शायद उसने सोने की तैयारी की थी इसीलिए ब्रा निकालकर सिर्फ टी-शर्ट पहनी हुई थी.

उसकी चूत का छेद इतना छोटा था कि उसमें मेरा मोटा लंड जाना मुश्किल था. उनकी बात सुन कर मैं बोला- ठीक है चाची, आप जाकर अपने बाथरूम का पिछला दरवाज़ा खोल दो तब तक मैं इस कमरे को अन्दर से बंद करके मेरे बाथरूम के पीछे की सीढ़ियों से नीचे आता हूँ. तू आ तो सही।पूजा ख़ुशी से कुर्सी के पास आई और जब वो बैठने लगी तो संजय ने चालाकी से उसका स्कर्ट ऊपर को कर दिया।अब पूजा संजय के खड़े लंड पर बैठी थी बीच में बस पतला सा बरमूडा और पेंटी आ रही थी।पूजा- ऑउच मामू मुझे नीचे कुछ चुभ रहा है।संजय- अच्छा ऐसी बात है.

बोला- हाँ अभी के अभी फोन कर…मैंने राजे को फोन लगाया, कुत्ते ने तुरंत ही उठा लिया. मैंने पूछा तो वो बोली- तेरे सर में इतनी ताकत नहीं है कि वो रास्ता बना सकें!मुझे थोड़ी हंसी आई तो उन्हें थोड़ा दर्द हुआ और पूरा लंड उनकी चूत में…मुझे थोड़ा सुकून मिला दर्द से और उनके थोड़े आंसू…थोड़ी देर बाद सब सामान्य हुआ तो फिर चलाई मैंने असली चुदाई, दे दनादन दे दनादन… लगभग 20 मिनट के बाद वो और फिर मैं एक के बाद एक अंदर ही झड़ गए. इस ऑडियो के शुरूआती शब्द हैं- आज का कार्यक्रम शुरू करते हैं जिसका नाम है- बॉयफ्रेंड की तारीफ़नदी का पानी कड़वा हैसबका बॉयफ्रेंड भड़वा है!साले बहन चोद…साले हराम के लौड़ो… तुम्हारा तो लौड़ा भी हराम का है, जिसको चोदोगे तो उसके हराम की औलाद ही पैदा होगी.

’‘तुम्हारी जांघें कितनी चिकनी हैं… मुझे तुम्हारे होंठों का रस पीना है. मोना रानी के शब्द आरम्भप्रिय पाठक पाठिकाओं को मोना का सप्रेम नमस्कार!बहुत दिनों से मेरे दिमाग में एक कीड़ा घुस गया था जो मुझे बार बार बेचैन कर देता था.

अब रोहित मुझे एक लड़के की तरह नहीं बल्कि एक मर्द के रूप में नज़र आ रहा था क्योंकि जब से रोहन ने मुझे उन दोनों के कारनामे बताये हैं तब से मेरा नजरिया रोहित के प्रति पूर्ण रूप से बदल चुका है।तभी रोहित ने मुझसे कहा- मौसीजी… मेरी तबियत ठीक नहीं है, मैं आप लोगों के साथ घूमने नहीं चल पाऊँगा।सब लोग तैयार हो चुके थे. किसी तरह मैंने खुद को संभाला और उठकर चला तो चक्कर आ गया, एक-एक कदम चलना जैसे घायल गांड में जैसे नमक छिड़के जाने का अहसास करा रहा था. उसका लंड बहुत थोड़ा सा ही मेरी चूत में घुस पाया और वो लड़का मेरी चूत को खोलने पर लगा हुआ था.

इसलिए सबीना और जमीला में लेस्बियन सम्बन्ध बन गए और वो जब भी मौका मिलता इसका मजा लेती और कभी रफीक जब किसी को अपनी गांड और जमीला को चुदवाने बुलाता तो आज की तरह दोनों ननद भाभी उस से दिन में मजा लेती और रात को रफीक और जमीला मजे लेते.

अपने बच्चे को स्कूल बस पर छोड़ने आया करती थी। मैं रोज़ उनकी तरफ देखता था लेकिन वो भाव नहीं देती थीं। वो एक दिन स्कूटी पर आईं और बारिश की वजह से स्लिप हो गईं, जिससे वो दोनों गिर गए। उस वक्त वहां कोई नहीं था।मैंने उन्हें उठाया. जब वो झड़ कर बैठ गया तो मैं बोली- बस अब चलें?तो वो मुझे गाली देने लगा. और मैं उसका हाथ पकड़ कर स्कूल के पीछे एक कोने में खींचते हुए ले गई और वो मुझे ‘अरे अरे.

तू उधर देख काका की कितनी उमर है, मगर कितनी देर से चोदने में लगे हुए है। हय मेरी चुत की आग कब शांत होगी. नहीं, जब होगा तब की बात अलग है।सुमन काफ़ी देर तक अपने आपसे बातें करती रही। वो कशमकश में थी कि चुदाई का मज़ा ले या नहीं। फिर उसने सारे विचार झटके और फिर कहानी रीड करने लगी।दोस्तों ये चुदाई की कहानी का चस्का ऐसा ही होता है.

तुझे किसने कहा तू नौकर है? अरे तू तो बस मेरी मदद करने आई है और मुझे मेम साब नहीं, दीदी बोल. उसने किसी तरह मुझे अलग किया और बोलने लगी- आराम से करो, साँस तो लेने दो!‘ओके मेरी जान, सॉरी अब ऐसा नहीं करूँगा. जब गुलशन ने लंड बाहर निकाला, तो वीर्य के साथ बहुत सा खून भी बाहर आ गया.

वीडियो में बीएफ वीडियो में बीएफ

आज मज़े से चोद लेना और जल्दी शहर आ जाना। मुझसे ज़्यादा दिन सब्र नहीं होगा.

मैंने अपना लंड बिना किसी चिकनाहट के ऋतु की चूत पर लगा दिया औऱ जोर से धक्का देते हुए अपना लंड उसकी गीली चूत में भर दिया. उन दोनो ने पहली बात तो झट से मान ली पर पाँच हजार का नाम सुनकर बोले कि ये तो बहुत ज्यादा है, वो फिर कभी कर लेंगे. और मेरे पीछे से कमर से होते हुए अपने हाथ डालकर बैठ गईं और बोली- क्या हुआ इतने चुप क्यों हो?तो मैंने कहा- व्व वो कक क्या किया आपने?वो बोली- क्या किया? और अभी तो होना बाकी है.

मैंने अपने दोनों हाथों से चाची के कमर को छोड़ कर कँधों को पकड़ लिया और स्पीड बढ़ा दिया जिससे चाची और उत्तेजित हो कर मुँह से इईशश… श…श… अआआहहा… हाँ…हाँ… इईशश… श…श… अआहहा… हम्म…हाँ… की मादक सिसकारियाँ निकालने लगी जिससे मेरा जोश दोगुना हो गया और मैं तेजी से धक्का लगाने लगा. मैंने अपनी छवि हर जगह साफ सुथरी रखी है अब तक कोई मुझे देख कर यह नहीं कह सकता कि मैंने इस तरह की हरकत कभी की भी होगी. खुदा भी सेक्सीहम लोग स्काइप के अलावा फ़ोन पे भी थे, रफीक फ़ोन पे कोमल को चोद रहा था और मैं और मोहन ओपन स्पीकर पर जमीला को चोद रहे थे.

गौरव और अमित वैसे ही पड़े रहे।अब विकास उठा और मेरे गले को पकड़ कर मुझे आधा उठाते हुए मुझे लंड चूसने को कहा, मैंने वैसा ही किया, फिर उसने मुझे वापस लिटा कर मेरी मुनिया के ऊपर अपना चमकदार और बड़ा सुपाड़ा रगड़ा, मैं गनगना उठी, लंड लेने के लिए तड़प उठी. जैसे ही पूजा ने लंड अपनी चूत से निकाला, तो उसने देखा कि मेरे लंड और उसकी चूत पर ढेर सारा खून लगा था जिसे देख वो डर गई.

तो अभी जैसे मुँह बंद किया वहां भी आप मेरे मुँह को बंद कर देते।संजय- ऐसे तुझे समझ नहीं आएगा. मुझे उसकी यह बात सुन कर बहुत शर्म आई और मैंने अपने बेटे को डांटा कि तुम मेरे साथ बेड पर ही सोना. पर जल्दी ही अपना लंड निकाल कर उसकी चूत को ढूँढने लग गया कि अगर इसके मुँह में ही लगा रहा तो इसी में मेरा माल निकल जाएगा और फिर दुबारा मौक़ा कब लगेगा.

रोहित बोला- साली, तेरी बहन तो एक नम्बर की रंडी है, मेरा भाई अभी उसे चोद कर आया है और तू सीधी होने का नाटक कर रही है. आधा एक ही झटके में अंदर… उफ्फ… एकदम से मुझे शॉक लगा और मैं कसमसा गई. मैंने क्या किया? प्लीज़ आप मुझे ऐसे डराओ मत।संजय- सुमन ये तुम्हें डरा नहीं रहे.

तभी राजे ने हुम्म्म हुम्म्म हुम्म्म करके पूरी ताक़त से अंधाधुंध धक्के टिकाये.

तो अभी जैसे मुँह बंद किया वहां भी आप मेरे मुँह को बंद कर देते।संजय- ऐसे तुझे समझ नहीं आएगा. वैसे तो सभी लड़के गन्दी गालियाँ देने में सिद्धहस्त होते हैं परन्तु लड़कियों के समक्ष शराफत का पर्दा ओढ़ लेते हैं.

उसने अपने मुँह से थोड़ा सा थूक निकाल कर मेरी बहन की गांड को फ़ैलाते हुए उसके छेद पर लगा दिया. ऋषिका बैंक जाने की जिद कर रही थी तो रयान ने डांट कर उसे घर पर रुकने को कहा. कहीं वो मुझे मार न दे!तो उसने समझते हुए आँख मारी और मुझसे कहा- नहीं मारेगी.

पाँच मिनट के बाद चाची उठ कर खड़ी हो गई और कहा- नाश्ता तैयार कर रही हूँ, जल्दी से उठ कर तैयार हो जाओ. अपनी मॉम के साथ क्यों नहीं सोई?पूजा- मॉम के साथ मज़ा नहीं आता मामू. फिर वो थोड़ी ढीली पड़ने लगीं तो मैं उन्हें किस करते हुए उनके दोनों मम्मों को दबाने लगा.

लेटेस्ट बीएफ हिंदी उसने पैसे दिये हैं जाना तो पड़ेगा मगर याद रखना कि वो पैसे दे रहा है तो तुम्हारी चुदाई भी जम कर करेगा. मैंने देखा लड़की पीछे वाली सीट पर गिरी पड़ी थी, आँखें बंद… मुझे लगा अकेली लड़की, बेसुध, मैंने मौका देख कर पीछे को हाथ बढ़ाया और उसका एक बूब दबाया, नर्म, मुलायम बोबा.

सेक्सी बीएफ हिंदी मारवाड़ी

और यह कह कर दुगने जोश के साथ ऋतु मेरे लंड को फिर मुंह में लेकर चूसने लगी. जब हमारा हो जाएगा तो हम दोनों रात भर तुम्हारी हैं, जो मनमर्जी कर लेना. जिनके पति उनको माँ ना बना सके और मैंने उनकी गोद भर दी तो इस हिसाब से मेरे कई बच्चे हुए ना.

जो चुदाई का मज़ा दे सके।प्लीज़ दोस्तो, मुझे ज़रूर बताना कि मेरी येआंटी सेक्स स्टोरीकैसी लगी?[emailprotected]. यदि लड़की खुद उनसे कहे कि गालियाँ देते हुए खुल के गंदे शब्दों में बात किया करो तो कम्बख्त ज़बरदस्ती का ओढ़ा हुआ शराफत का नक़ाब उतार के फेंकने में भी देरी नहीं करते. छोटा लड़का छोटी लड़की की सेक्सीएक बार की बात है जब मैं और रोहित उसके घर पर स्टडी कर रहे थे तब वो पौंछा लगाने आई, वो झुक कर पौंछा लगाने लगी, उनके पूरे बूब्स नंगे दिख रहे थे, मेरा तो लंड पूरा खड़ा हो गया.

दोस्तो, मैं चोद चुदाई का शौकीन अर्पित सहारनपुर का रहने वाला हूँ लेकिन फिलहाल देहरादून में रहता हूँ और एक मार्केटिंग की कंपनी में काम करता हूँ तो घूमना फिरना लगा ही रहता है.

आज जब उसको देखा तब भी मेरी नजर में बच्ची ही लगी, लेकिन वो अब बड़ी हो चुकी है, पूरे 18 की! और दोपहर से शाम तक जो हुआ, पूछ मत यार मेरी क्या हालत हुई है!टीना- ओह गॉड अब समझी कुछ ना कुछ गड़बड़ तो हुई है. फिर मैंने सीमा दीदी की कुर्ती उतार दी और ब्रा का हुक भी खोल दिया और सीधे कर उसकी ब्रा से उसके चूचों को आज़ाद कर दिया.

रयान ने नई ब्रांच ज्वाइन करी, शुरू के 15 दिन के लिए बैंक ने होटल मैं व्यवस्था कर दी. गोपाल की बात सुनकर पिघल गई, उसका गुस्सा न जाने कहाँ का कहाँ चला गया. गुलशन- चुप हरामजादी मेरा भी आह… पानी निकलने वाला है… ले साली आह… ले.

कुछ देर मेरी चुत सहलाने के बाद आकाश ने मेरी ब्रा और पेंटी उतार कर मुझे नंगी कर दिया और खुद भी सारे कपड़े उतार कर नंगा हो गया!जब आकाश ने अपने कपड़े उतारे तो उसका लंड देख कर हैरान हो गई उसका लंड भी दीपक के लंड की तरह खूब बड़ा और मोटा था.

तो हम सारे भाई-बहन नीचे बिस्तर डालकर सोने लगे। भैया सबसे बड़े थे और उस वक्त चूंकि ठंड का टाइम था तो उन्होंने मुझे अपने पास सुला लिया।मैं सोते वक़्त सलवार कुर्ती. चूत में अभी से सुरसुराहट होने लगी और चुचुक में तेज़ी से बढ़ती हुई अकड़न का अनुभव होने लगा. मेरा दूध पी जाओ। लेकिन आप जानते हैं कि प्रताप ने अपने अहसानों की आड़ में मानो मुझे खरीद लिया है। वह मुझे अपनी मिलकियत का सामान समझता है। मुझे सदैव धमकाता रहता है। जिसकी वजह से मुझे न चाहते हुए भी उसकी सभी बातें माननी पड़ रही हैं। अगर मैं ऐसा नहीं करूंगी तो वो मुझे 24 घंटे में पैसे लौटाने की चेतावनी देता रहता है.

आवाज सेक्सीमैं- जरूर मेरी रानी बुलाओ तुम तो, आज उसकी गांड का उदघाटन कर देता हूँ वैसे तेरी गांड भी चोदने का भी दिल है. आप चेंज करो, मैं अभी फ्रेश हो जाती हूँ।गोपाल- जान ये कमरे का हाल ऐसे क्यों है? चादर नीचे पड़ी है सब अस्त-व्यस्त सा है.

सेक्सी बीपी हिंदी शॉर्ट

मैंने रुचिका की चूत की एक एक फांक को अच्छे से चूसा और अपनी जीभ से उसकी चूत के पूरे लाल भाग को मज़े दे देकर चाटा. पर जल्दी ही अपना लंड निकाल कर उसकी चूत को ढूँढने लग गया कि अगर इसके मुँह में ही लगा रहा तो इसी में मेरा माल निकल जाएगा और फिर दुबारा मौक़ा कब लगेगा. अब रोहित मुझे एक लड़के की तरह नहीं बल्कि एक मर्द के रूप में नज़र आ रहा था क्योंकि जब से रोहन ने मुझे उन दोनों के कारनामे बताये हैं तब से मेरा नजरिया रोहित के प्रति पूर्ण रूप से बदल चुका है।तभी रोहित ने मुझसे कहा- मौसीजी… मेरी तबियत ठीक नहीं है, मैं आप लोगों के साथ घूमने नहीं चल पाऊँगा।सब लोग तैयार हो चुके थे.

उसने मेरे पति का नाईट सूट पहना हुआ था, मैं उसे देखने लगी तो मेरी नजर उसके पजामे में उसके उभरे हुए लंड पर पड़ी, वो काफी बड़ा लग रहा था. एकदम मस्त और करारा माल।मैंने मेरे चहरे से रूमाल नीचे किया और उसे रिप्लाई दिया- हाय मैं सुहास. डॉक्टर आंटी का क्लिनिक उनकी कोठी में नीचे ग्राउंड फ्लोर पर था और ऊपर की मंजिल में वह खुद, उनकी एक 7 साल की लड़की और नर्स के साथ रहती थी.

फिर गुलशन ने उसको अपने ऊपर लेटा लिया और उसकी चुत को चूसने लगे… यानि दोनों 69 के पोज़ में थे. उसे क्या कहूँ कि तू 2-3 दिन बाद खड़ा होना। उसे तो अभी एक रसीला मुँह चाहिए जो उसे अपनी लार से भिगा-भिगा कर चूसे और एक मस्त चिकनी टाइट गांड चाहिए. मैंने भी अपना मुंह उसकी बुर पर टिका दिया और उसके निचले अधरों का रसपान करने लगा.

‘थैंक्यू दोस्त, कि तुमने मुझे आज इतनी हसीं लड़की के साथ प्यार करने का मौका दिया…’ स्वान ने गंभीर होकर मेरा कृतज्ञता ज्ञापन करने की कोशिश की. फिर उसकी ब्रा को खोल कर अलग कर दिया और अगले ही पल वो नीचे बैठ गए और सीधे उसकी पेंटी को निकाल दिया.

अच्छे से स्खलित होने के बाद स्नेहा के भुज बंधन, उसका बाहूपाश ढीला पड़ गया और वो शिथिल होकर रह गई.

वो तो जैसे तैयार ही बैठी थी मेरा फोन सुनने के लिये… ‘हाय अंकल जी, जल्दी से आ जाओ अब!’‘अरे आ तो गया ही हूँ लेकिन आना कहाँ है, भोपाल तो मैं पहली बार आया हूँ मुझे यहाँ का कुछ नहीं पता!’‘अंकल जी, आप एक नंबर प्लेटफोर्म के बाईं तरफ वाले गेट से बाहर आ जाओ, फिर किसी ऑटो वाले से मेरी बात कराओ, मैं उसे समझा दूंगी कि कहाँ आना है. सेक्सी फिल्म निकालमैंने भी झपट के सुलेखा को बाँहों में बांधा और उठा कर अपने रूम की तरफ चला. सील कैसे टूटती है सेक्सीइधर अरमान और नेहा ने अब तक अपनी चुदाई शुरू कर दी थी, अरमान ने नेहा की दोनों टांगें ऊपर उठा कर पीछे से उसकी चूत में लंड डाल दिया था, यह देख कर सुलेखा बोली- नेहा को देखो साली को सबसे ज्यादा आग लगी है, कमीनी थोड़ा सब्र कर लेती हम भी साथ साथ हैं. हम अक्सर उनके घर पे ही खेलते थे। चाची को मैं बहुत अच्छा लगता था, वो मुझे बहुत प्यार से देखतीं और मुझे अपनी गोदी में उठा कर मेरी गाल पे चुम्मी कर लेतीं। इससे मेरे को भी वो अच्छी लगती थीं।हमारे घर पर पापा टी.

ये तो अभी नॉर्मल साइज़ है, अब ये बाकी सबका 7″ 8″ का है तो मेरा तुझे छोटा हे लगेगा ना।संजय- अबे साले बंद कर.

बेचारी ने एक साल बाद आज चुदाई की है। एक साल में चुत चिपक कर सील बंद हो जाती है। फिर तुम सब के लंड है भी भारी-भरकम. और मसाज करने लगा। फिर एकदम से भाभी की ब्रा का हुक खोल कर हाथों को आगे ले जाकर उनका नाड़ा खोल दिया।भाभी ने भी मदद की तो मैंने जल्दी-जल्दी उनकी सलवार उतार दी।भाभी ने नीचे पैंटी नहीं पहनी थी. बहुत बढ़िया दुकान है। उसमें एसी भी लगा है और हाँ पता है चाय कितनी महंगी है.

मैं कोई बच्ची तो थी नहीं, खेली खाई थी, मुझे शक हो गया कि इससे पहले कभी साथ नहीं ले गए, अबकी बार कुछ तो है. ‘अम्मा जी ने एक ठो उपाय बताया है हमका, जिससे लड्डू के भैया पर आये हुए संकट को हल किया जा सकता है. उस रस स्त्राव से माला की योनि में बहुत चिकनापन हो गया जिससे मेरे लिंग पर कम रगड़ लगने लगी और मैं बहुत सहजता से तेज संसर्ग करने लगा.

हॉट वाला सेक्सी

मैंने रोहित के हाथ में साबुन देते हुए कहा- मेरी पीठ पर मल दो इसे!मैं अपना चेहरा पानी से बाहर निकालकर टब में उल्टी लेट गई और रोहित मेरी कमर को अपनी टाँगों के बीच में रखकर मेरी गांड पर बैठ गया. पूजा- क्या हुआ मामू आप मुझे ऐसे क्यों देख रहे हो?संजय- क्या मस्त है रे तू पूजा. धीरे-धीरे दीदी को भी चुत चुदाई में मजा आने लगा और वो फुल मस्ती में अपनी चुत में मेरा मोटा लंड में ठुकवाने लगीं.

अमीर खानदान होने के कारण खूब खाती पीती और ऐशो आराम से रहती थी तो उम्र का पता नहीं चलता था। उसके बूब्स ऐसे कसे व बड़े-बड़े थे कि जैसे किसी ने एक एक किलो के दो पपीते ब्लाउज में छुपा रखें हों लेकिन उसकी बाहर को उभरी हुई गांड भी कुछ कम नहीं लगती थी.

उसने टीवी में चुदाई के सीन को देख कर मेरी बहन को चोदने के लिए उतावला हो गया और मेरी बहन को बिस्तर पर पटक कर मेरी बहन के दोनों पैरों को फ़ैलाते हुए मेरी बहन की चुत में लंड को पेल कर जोर से झटका मारा.

जैसे ही मुझे रफीक की गांड ढीली महसूस हुई मैंने दोनों हाथों का दबाव रफीक के कंधों पर दिया और नीचे से ऊपर को दबाव और मस्ताना रफीक की गांड में घुसता चला गया. उधर रात का खाना खाने के बाद सुमन अपनी माँ के पास गई और उनसे कहा कि टीना की माँ बहुत बीमार है. इंग्लिश में सेक्सी शॉटतुम सच में बहुत स्वीट हो और ये देखो तुम्हारे चूचे भी अब बढ़ने लगे हैं.

मैं जल्दी से उसे चाटने और पीने लगा और जब पूरा चाटकर साफ़ कर दिया तो पीछे हटकर देखा तो ऋतु का शरीर बेजान सा पड़ा था और उसकी अधखुली आँखें और मुस्कुराता हुआ चेहरा हल्की रोशनी में गजब का लग रहा था. जब रिया मेरे बदन से उतर गयी तो मैंने कोहनियों के बल उठकर अपनी चूत को देखा तो वो ऐसी हो गई थी जैसे किसी बिना चुदी चूत पर पहली बार में 10 लड़कों ने चढ़ाई कर दी हो. हम लोग स्काइप के अलावा फ़ोन पे भी थे, रफीक फ़ोन पे कोमल को चोद रहा था और मैं और मोहन ओपन स्पीकर पर जमीला को चोद रहे थे.

नताशा अण्डों समेत उसके भयानक मोटे लंड को अपने दोनों हाथों से सहलाने लगी और स्वान झाड़ता गया. मेरी सहेली सुबह देर से उठती थी; उस दिन भी वो देर से उठी और मैंने उस दिन उसको चाय बनाकर पिलाई और रात के बारे में पूछा.

जल्दी ही मैं झड़ने के कगार पर आ गया, मैंने अपना चुम्बन तोड़ा और ऋतु से कहा- मैं झड़ने वाला हूँ ऋतु, अपना मुँह खोलो!ऋतु फिर पहली जैसे अवस्था में आ गई और अपनी गीली चूत मेरे मुंह में डालते हुए मेरा रसीला और अपने ही रस में डूबा लंड चूसने और चाटने लगी.

मैं वहाँ जाना भी चाहती थी क्योंकि वहाँ पर उनका लड़का राहुल भी था, जो मेरा हीरो है. दोस्तो, मैं रिया माहेश्वरी एक बार फिर आपके समक्ष अपनी हिंदी सेक्सी स्टोरी लेकर उपस्थित हूँ. ’ उसकी चुदाई करने लगा। दस मिनट चोदने के बाद संजय ने उसको घोड़ी बनाया और अबकी बार उसकी गांड पर लंड सैट करके झटका दे मारा।फ्लॉरा कुछ समझ पाती.

बॉलीवुड की हीरोइन सेक्सी वीडियो आगे मेरी चुत ने और क्या क्या गुल खिलाए, यह जानने के लिए मेरी अगली कहानी का इंतज़ार करें. वो अब सिर्फ ब्रा में थीं और उनके मोटे-मोटे चूचे बाहर आने को बेताब हो रहे थे.

जब देखो चुत और लंड की बातें लेकर बैठ जाती है।टीना- अबे चुप साले बहनचोद मुझे ज़्यादा ज्ञान मत दे. जिनके पति उनको माँ ना बना सके और मैंने उनकी गोद भर दी तो इस हिसाब से मेरे कई बच्चे हुए ना. पी ले मेरा पानी मेरी रांड, आज से तू मेरी कुतिया बन के रहेगी, पूरा पानी पी जा कुतिया, ले मेरा छूटा!और इसके साथ ही उसने मेरा मुँह उसके वीर्य से भर दिया, इतना कि मैं उसे पूरा भी निगल नहीं पाई.

बीएफ सेक्सी ओपन वीडियो

तब से मैंने मोबाइल में अन्तर्वासना पर भाई-बहन सेक्स स्टोरी पढ़ना स्टार्ट किया. वो भी पूरे शवाब पर थी, मैं चूत को चूस रहा था और एक उंगली से चोदे जा रहा था. उस समय तो मैंने सोचा कि तुमने मुंबई में सम्भोग के लिए किसी युवती को फंसाया होगा और उसी से बात कर रहे थे.

तभी हमारे कानों में आवाज आयी- डू यू नीड एनी हेल्प लेडीज?हम दोनों एकदम से सकते में आ गयी, देखा तो पीटर अपने पैंट के ऊपर से अपना मूसल दबाते हुए हमारी तरफ देखकर मुस्कुरा रहा था. मैंने फ्रेंची को पलटकर देखा तो उसमें उसका सफेद वीर्य जो सूख चुका था, वो भी लगा हुआ था.

एक दो दिन में ऋषिका सहज हो गई, अब वो और रयान सुबह की चाय साथ पीने लगे.

अब आगे:नताशा ने अपनी पोजीशन को थोड़ा सा बदलते हुए अपनी गांड थोड़ी और फैला दी, और मेरा लंड अब थोड़ा आराम के साथ उसकी गांड में घुसना शुरू हो गया. मेरे जीवन में घटित बड़ी एवं छोटी घटनाओं में से यह एक महत्वपूर्ण घटना थी इसलिए मैंने आपके साथ साझा की थी. सबीना को इस तरह आइसक्रीम खाते देख जमीला भी ‘ऐसे ही मैं भी आइसक्रीम खाऊंगी’ कह कर बची आइसक्रीम को वापस फ्रीज़र में रख आई की पिघले ना!5 मिनट में सबीना ने पूरी आइसक्रीम मस्ताना के टोपे से खाई.

मैंने सूई बनाई और चाची का पेटीकोट नीचे सरकाया, चाची के नंगे चूतड़ दिखे तो मुझे किताब की तस्वीर याद आ गई, मैंने सोचा कि वो तो एक फोटो है क्यों न लाइव चूतड़ देखूँ!मैंने चूतड़ पर रुई रगड़ते हुए साड़ी थोड़ा और नीचे कर दी, चाची के चूतड़ पूरे दिख रहे थे, चाची की गांड की दरार पूरी दिख रही थी. मेरी सेक्स स्टोरी हिंदी में आपने पढ़ा कि सिनेमा हाल में मिले दो अंकल मेरे शरीर से खेलने के बाद मुझे अपने घर ले जाने की जिद करने लगे. आज मुझे देख कर तेरा मन बदल गया है और इसलिए तू ये नाटक चोद रहा है हरामी.

देर हो गई है, सुबह जल्दी उठना भी है कि नहीं, तेरी मॉम तुझे दोबारा मेरे साथ नहीं भेजेगी.

लेटेस्ट बीएफ हिंदी: मगर ये है कि हमारे साथ ठीक से पेश आती ही नहीं, अब तुम ही बताओ कि इसका क्या करें?वीरू- करना क्या है. com/bhai-bahan/didi-ki-choot-chodne-ke-bad-gaand-mari/ दीदी की चूत में लंड पेल दिया.

रुस्लान ने जल्दी से अपना भारी हाथ गोरी गुड़िया की छाती से हटा लिया और धक्के लगाना जारी रखा. ऋतु- अब तुम जल्दी से यहाँ से जाओ, मुझे अपना होमवर्क भी पूरा करना है. अचानक सुमन को ना जाने क्या सूझा कि उसने अपनी माँ से ऐसा सवाल कर लिया जिसकी उम्मीद उसकी माँ को बिल्कुल भी नहीं थी कि सुमन कभी ये सवाल भी पूछेगी.

कहाँ खो गए और ऐसे क्या देख रहे हो?मैंने कहा- भाभी, आप इतनी सुन्दर और सेक्सी लग रही हो कि मेरा मन कुछ और ही करने लगा था.

हमेशा की भांति सुलेखा ने मुझ पर लाइन मारना शुरू कर दिया, वो मेरे इर्द गिर्द मंडराती रहती, बार बार मेरी नज़रों से नज़रें टिकटिकी लगा कर मिला लेती. मतलब कल तुम्हारा कुछ खास करने का इरादा है? चलो अब तो कल ही देखेंगे. अब फिर मैं जमीला की चुचियों को चोदने लगा तो जमीला भी सबीना की तरह आइसक्रीम खाने लगी.