मां बेटा वाला बीएफ

छवि स्रोत,हिंदी में बीएफ बीएफ हिंदी में बीएफ बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

भूमि बीएफ: मां बेटा वाला बीएफ, वो मुस्कुरा कर पलट गई और मैं कुछ कदम आगे बढ़ चुकी प्रतिभा सुमन के पीछे चुपचाप चल पड़ा.

सेक्सी फिल्म सेक्सी फिल्म बीएफ

शीला ने खुले दरवाजे की ओर इशारा करते हुए अपने को छुड़ाया और धीरे से दरवाजा बंद कर आई. बीएफ पिक्चर दिखाओ बीएफ पिक्चर दिखाओअपनी दोस्त की चूत चोदने के खयाल से ही मेरे मन में रोमांच सा पैदा हो रहा था.

मैं अब भी बेशर्मों की तरह उसके उभार पर ही नजरें गड़ाया हुआ था।मेरी इस हरकत पर वो हड़बड़ा सी गई उसने दुपट्टा ठीक करते हुए ऊपर तक ढक लिया. भाभी का सेक्स वीडियो बीएफमैं दीदी के पास जाकर उन्हें किस करने लगा, लेकिन दीदी ने मुझे रोक दिया और मुस्कराने लगीं.

मैंने उसको रगड़ रगड़ कर हल्दी लगाई और इसी बहाने उसके कंधे गले और गालों को अच्छे से सहलाया भी.मां बेटा वाला बीएफ: उनके दोनों हाथ उठाकर उठाकर दाएं बाएं की ओर दोनों हाथों को दोनों साइड की ग्रिल पकड़ने को बोला.

मेरे मन में आया कि बोल दूं कि साली तेरे आईडिया के चक्कर में आठ लोगों ने मुझे रंडी की तरह चोदा है.तब भी लंड की सुरसुरी इतनी अधिक थी कि उसकी चुत चोदने की लालच मन से निकल ही नहीं पा रही थी.

हरियाणा बीएफ व्हिडिओ - मां बेटा वाला बीएफ

विक्रम धीरज से हाथ मिलते हुआ- मुझको भूल गया क्या बे?धीरज ने बड़े भुझे मन से हाथ मिलाया- ओह हेलो विक्रम यार!विक्रम- अरे जरा टेबल वेबल लगाओ यार … पार्टी शार्टी करते हैं.फिर मैंने 1 घण्टे तक उनकी किसी हरकत का इंतजार किया मगर जब उनकी तरफ से कोई हरकत नहीं हुई तो मुझे यह भरोसा हो गया कि ये दोनों सो चुके हैं.

गिन्नी के गोरे गोरे चूतड़ और गांड के गुलाबी रंग के चुन्नट गिन्नी की गांड मारने के लिए उकसा रहे थे लेकिन आज पहले ही दिन मैं यह सब नहीं करना चाहता था. मां बेटा वाला बीएफ लेकिन मैंने उनसे सामान्य व्यवहार किया जैसा मेरा रोज का होता है, वैसे ही बात की.

विशाल ने सुनील की नजर बचाकर शीला को दो हजार रूपये दे दिए कि अपने लिए कुछ ले लेना और नीचे की सफाई कर लेना.

मां बेटा वाला बीएफ?

बाथरूम सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने ऑफिस की लड़की को बाथरूम में नंगी करके नहाते हुए उसकी चूत की चुदाई की. वो मुझे मम्मी पापा के कमरे में ले गया और बोला- तू आज औरत बनेगी … चल जल्दी से मम्मी की साड़ी पहन और मेकअप कर. तो मैं बस इंतजार कर रही थी 10 बजने का।मुश्किल से सवा नौ बजे … तब मैं नज़मा को अपनी बांहों में भर कर उसे किस करने लगी तो वो भी प्रतिउत्तर देने लगी।मैंने अपना कुर्ता खोल दिया और उसका भी खींचने लगी तो उसने भी उतार दिया.

मैं बिना रुके चुत में लंड के धक्के लगा रहा था और हर धक्के के साथ अपनी स्पीड बढ़ा रहा था. नीरा को चोदते हुए मैंने महसूस किया कि आशा की चूत नीरा की चूत की अपेक्षा टाइट है. इस बीच मेरी बहन ने चादर उठा कर अपने शरीर पर डाल ली थी और वो अपने यौवन को छुपाने की नाकाम कोशिश कर रही थीं.

फिर कोट सूट पहनने के बाद तो मैं बहुत ही आकर्षक हो जाता हूँ, साथ ही मेरी कातिल मुस्कान और सहज व्यवहार लोगों को बहुत जल्द मेरा नजदीकी बना देता है. मैंने उससे कहा- रानी अब अगर किसी को मालूम पड़ गया, तो फिर मैं आज की पूरी वीडियो बना कर अपने मोबाईल में रखूंगा. जब मैं जाने लगा तो उन्होंने मुझे एक बार फिर से हग किया और मेरे गाल पर किस किया.

करीब 25000 एम्प्लॉइज़ वाली स्विट्ज़रलैंड की ये तक़रीबन पचास साल पुरानी और वर्ल्ड की टॉप की शिपिंग कंपनी थी जिस का कारोबार करीब 153-154 देशों में फ़ैला हुआ था. फिर कोट सूट पहनने के बाद तो मैं बहुत ही आकर्षक हो जाता हूँ, साथ ही मेरी कातिल मुस्कान और सहज व्यवहार लोगों को बहुत जल्द मेरा नजदीकी बना देता है.

दुबारा उसके मुलायम हाथों ने गोलियां थाम लीं और हौले हौले से सहलाने लगी.

तो स्नेहा भाभी चौंकते हुए बोलीं- क्या मतलब?मैंने कहा- जब आपके जैसी इतनी सुंदर भाभी सामने हो, तो ध्यान तो आप पर ही जाएगा न.

इसके दो साल बाद मेरे साले की शादी हुई और एक एक करके उसकी दो बेटियां पैदा हुईं. वसुंधरा ने मेरे कोट की अंदर-अंदर की तरफ़ से अपना दायां हाथ लंबा कर के मेरी पीठ की ओर से मेरी दायीं तरफ की पसलियों को जकड़ लिया. स्नेहा भाभी ने भी स्माइल करते हुए कहा- हां जी बोलिए … मैं आपको नहीं जानती हूँ … आप कौन हैं?मैंने कहा- अगेन सॉरी भाभी … वो पेप्सी आपके ऊपर गिर गई थी.

वो मदहोश हो चुकी थी।रमेश ने रिया को खड़ी होने के लिए कहा और खुद उठकर बैठ गया। उसने रिया की नाभि को चूमा और उसमें जीभ घुसाकर चाटने लगा। रिया खड़ी खड़ी आहें भर रही थी।वो अपने दोनों हाथ रमेश के कंधों पर रखे हुए थी। उसकी आंखें बंद थीं और भवें कामुकता से तनी हुई थीं। रमेश ने रिया की चूत में उंगली घुसा रखी थी. ऐसा दुर्लभ संयोग हज़ारों सालों में, लाखों में किसी एक के साथ घटित होता है और ये सब आइंदा फिर कभी दोहराया जायेगा … ऐसा सोचना भी मूर्खता की परकाष्ठा के इतर कुछ और हो ही नहीं सकता था. अभी भी हमारे होंठ एक दूसरे के होंठों से उलझे हुए थे और हाथ एक दूसरे के पिछवाड़े पर जमे थे.

तू इतनी हिम्मत कर सकती है?यह सुनकर आशा की आँखें फटी रह गईं और कुछ देर तक सोचने के बाद बोली- अगर मैं हिम्मत कर भी लूँ तो क्या भइया ऐसा कर पायेंगे? हम दोनों एक दूसरे का सामना कैसे कर पायेंगे?नीरा ने उससे कहा- अब अगर तू हिम्मत कर रही है तो मैं कुछ न कुछ करती हूँ ताकि तेरा काम हो जाये.

इस बार मयंक ने मेरे पूछे बिना ही सोनम के कपड़े उतारने शुरू कर दिये. मैं अब्बू के कमरे के बाहर पहुंचा ही था कि अब्बू की आवाज सुनाई दी- आ गई, मादरचोद. मैं बोला- भाभी आप चिंता मत करो, किसी को भनक भी नहीं लगेगी हमारे प्यार के बारे में.

वो मेरे मुँह को अपने लंड की तरफ धकेलने लगा और मुझसे लंड चूसने के लिए कहने लगा. वैसे आप सबको बता दूं कि मेरे पति का लंड साढ़े सात इंच लंबा और तीन इंच मोटा है. और जिस हिसाब से उसका नंबर बनता था उस हिसाब से वो घूम कर मोनू के पास ही जाने वाली थी क्योंकि उसके जिस्म पर सिर्फ ब्रा और पैंटी रह गयी थीं.

मैंने रसोई में जाकर उसको पीछे से बांहों में भर लिया- गुड मॉर्निंग जानेमन.

मैं धीरे धीरे उसके पास गया और उसकी कमर को पकड़ कर अपनी ओर खींच लिया- क्या चीज़ हो यार तुम! तुम्हें देख कर रहा नहीं जाता अब!वो भी मेरे कान के पास आई और बहुत ही नशीली आवाज में धीरे से बोली- अभी बहुत वक़्त है, थोड़ा सब्र रखो। अब तो मैं तुम्हारी ही हूँ।कसम से उसकी ऐसी आवाज से ही पता चल रहा था कि वो कितनी सेक्सी होगी।फिर मैंने उसके गाल पे एक पप्पी ली और उसे छोड़ते हुए बोला- अभी आराम कर लेते हैं. मैंने नीरा से कहा- तुम इतनी हॉट हो गयी हो कि मेरा तो ऐसी ही निकल गया था.

मां बेटा वाला बीएफ वरना रोहन भी देख लेगा कि भांजे और मौसी के बीच ये कैसा प्यार है।रोहित ने मेरे कान के निचले हिस्से को मुंह में लेकर चूसते हुए हामी में अपना सिर हिला दिया।मैंने रोहित से कहा- जो भी करना है, ऊपर ऊपर से ही करना. मैंने पूछा- कैसा सामान?तो वो बोली कि चलो तो … आपको सब पता चल जाएगा.

मां बेटा वाला बीएफ अचानक मेम रानी ने एक ऊँची आवाज़ में तीन चार बार आह आह आह की, चूत में रस का फुव्वारा छूटा और रानी झड़ गई. लण्ड के अन्दर बाहर होने से हनी को दिक्कत हुई तो मैंने एक बार फिर से तेल लगा लिया.

बकौल चचा ग़ालिब‘उसी को देख कर जीते हैं,जिस काफ़िर पे दम निकले!’लेकिन इधर मेरी अपनी मज़बूरियां थी.

देहाती बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो

” कहते हुए वसुंधरा ने अपनी पकड़ मुझ पर से ढीली की और सोफे से उठने का उपक्रम करने लगी. कमरे में जल रहे नाइट लैम्प की रोशनी में जब रुकैय्या ने देखा कि मेरा लण्ड टनटना गया है तो उसने मेरे पायजामे का नाड़ा खोलकर पायजामा नीचे खिसका दिया और मेरे लण्ड को चूम लिया. सामने से मैं अपने होठों से पैंटी में कैद गर्लफ्रेंड की कुंवारी बुर को चूम रहा था.

मैंने यहां वहां देखा और अंत में हॉस्टल की छत पर गया, उधर देखा तो वो ऊपर थी. अब इस ड्रेस में मेरा शरीर इतना फंसा सा था कि ऊपर से मेरे बूब्स पूरे बाहर आ रहे थे. मैंने दरवाजा खोला और पूछा- चाचा, आज जल्दी आ गये?कहने लगे- हां स्कूल में मन नहीं लग रहा था इसलिए चला आया.

मैं- तुम्हारा कोई ब्वॉयफ्रेंड है?प्रिया समझ गई और आंख नचाते हुए ऊपर नीचे देखते हुए बोली- ब्वॉयफ्रेंड … हूँ … ऐसा तो कोई नहीं है.

दीपिका की नजर बार बार मेरी जीन्स में तने हुए मेरे लंड पर जा रही थी और मेरी नजर उसकी कैपरी के अंदर पकौड़े जैसी दिख रही चूत पर टिकी थी. भाभी ने मेरे ही हाथों से हल्दी लेकर मुझे लगाया और मुस्कुरा कर प्रेम वर्षा की. चूत को पेलने के बाद मेरी गांड भी तुम्हारे लंड की गुलामी करने के लिए तैयार है.

मैं गांड बहुत मारता हूं और छोड़ता नहीं हूं दो तीन बार चोदने से पहले. कुछ देर बाद जेठजी एकाएक रुक गए और अपना चेहरा ठीक मेरे चेहरे के सामने करके मेरी आंखों में देखने लगे जैसे मेरी आंखों से मेरी मन की बात समझने की कोशिश कर रहे हों. उस दिन वंदना की चुदाई के बाद मैंने उसकी नौकरानी आशा की भी चुदाई की.

मेरा टॉप पीछे से खुल गया और मैंने दोनों हाथ से सामने से टॉप पकड़ लिया कि कहीं गिर न जाए. खाना खाकर रात को सब अपने अपने कमरे में सोने चले गए, मेरी दोनों भाई बहन आयेशा और साहिल वो मेरे साथ मेरे कमरे में ही सोते थे.

एक रात मैं पेशाब करने के लिए उठी तो तुम बेड पर नहीं थे, मैंने देखा कि बाथरूम की लाइट जल रही है. रीना- नये साल वाली रात, यानि 31 दिसंबर कैसा रहेगा?विक्रम- ओके ओके, नो प्रॉब्लम!अब खेल तो खेलना था पर तीसरा खिलाड़ी लायें. मेरी गांड के छेद पर अपने मूसल लौड़े को सेट करके उसने मेरी गांड में अपना लंड धकेल दिया.

आज 14 महीनों बाद मैंने वसुंधरा की आवाज़ सुनी थी लेकिन ऐसे लगता था जैसे कल ही की तो बात हो.

मैंने जोर जोर से चूत को चोदना शुरू कर दिया और उसकी चूत से पच-पच की आवाजें निकलने लगीं. मैं रोहित को रोहन का लण्ड चूसते हुए तो नहीं देख पा रही थी पर जिस तरह से उसका मुंह ऊपर नीचे हो रहा था; उससे तो यही लग रहा था।थोड़ी लण्ड चुसाई के बाद रोहन ने अपने हाथ से रोहित के सर को अपने लण्ड पर दबा दिया जिससे रोहन का लण्ड रोहित के गले तक घुस गया. मैं अपनी सभी भाभियों और लड़कियों से कहना चाहता हूं कि जो इस समय मेरी कहानी पढ़ रही हैं, वो जानती होंगी कि एक आदमी को सबसे ज्यादा मजा अपना लंड चुसवाने में ही आता है.

अब वो मेंहदी लगाते हुए बारीक कारीगरी पर पहुंची तो उसने अपने दोनों पैर थोड़े पीछे कर लिये. वो- तो तुम्हारे भाई की ससुराल मुनीर के यहां है?मैं- हम्म … सही पकड़ी हो.

सुहास मेरे पूरे बूब को मुँह में लेने की कोशिश कर रहा था, पर वो सुहास के मुँह में नहीं जा रहा था. उसने अपने लंड को प्रियंका के मुंह में डाल दिया और मोनू खुद प्रियंका की चूत को चाटने लगा. आगे चाची ने किसे और कैसे चुदवाया, वो सब मैं अगली सेक्स कहानी में लिखूँगा.

बीएफ बीएफ सेक्सी इंग्लिश में

सो! उन का भी गुर्दों पर असर था, नतीज़तन! बहुत देर से मेरे ब्लैडर पर दबाब पड़ रहा था और लगातार बढ़ता ही जा रहा था.

काफी देर तक बस नहीं आई तो मेरे बॉयफ्रेंड ने मुझे मजाक में कहा- ट्रक में लिफ्ट ले लें?मैंने उसे गुस्से से देखा, तो उसने ताना मारने के अंदाज में कहा- आज इतनी हिम्मत दिखाई है, तो ये भी करके देख लो. देखा तो खून निकल रहा था।कुछ ही मिनट के बाद मैं झड़ गया और तान्या की हालत खराब थी। हम दोनों का कौमार्य भंग हुआ था।आंटी ने तान्या को साफ़ कपड़ा दिया, तान्या ने अपनी खून से लथपथ चूत साफ की और अपने कपड़े पहन कर चली गयी।मैं भी चलने लगा तो आंटी बोली- अबे … मेरी प्यास कौन बुझायेगा?तो मैं बोला- आंटी, आज नहीं, कल करूंगा. उसके बाद मैंने कई बार पति की गैरमौजूदगी में उनसे अपनी चूत की सर्विस करवाई.

मैंने उसको डांट कर चुप करवा दिया और अपने लंड पर और तेल लगा कर उसकी गांड चोदने के लिए तैयार हो गया. मैंने अपनी पैंट नीचे करके अपना खड़ा हुआ लंड बाहर निकाल लिया और आलिया और चाची दोनों की याद में मुठ मारने लगा. हिंदी सेक्सी बीएफ नयाफिर मैंने सतीश से पूछा तो वो बोला- वैसे करो जिसमें सभी गर्ल्स को भी कांफर्ट लगे.

वो बोली- ठीक है, लेकिन ये बात केवल तुम्हारे और मेरे बीच में ही रहनी चाहिए. मैं जेठजी से चिपके चिपके ही उन्हें रसोई के स्लैब तक खींच कर ले गयी और स्लैब का सहारा लेकर खड़ी होकर जेठजी का साथ देने लगी.

मुझे ये देखकर बहुत चिढ़ आ गयी और बोली- अब चोदो भी यार … मुझे बावला किये पड़े हो. मैंने गौर से देखा कि मौसी की चूत बिल्कुल चिकनी थी … जबकि सुबह का मुझे याद था कि मौसी की चूत पर छोटी छोटी ही सही मगर रेशमी झांटें थीं. फिर हम दोनों इमामबाड़े की एक ऐसी जगह पर पहुंच गए कि जहां पर कोई नहीं था.

मैं अपने पति के साथ गाँव की शादी में गयी तो पड़ोस के एक घर में रुके. किसी को चोदते समय यदि पेशाब लगे, तो धक्के मारते हुए चूत में फिंगरिंग भी करो, तो वो पेशाब वहीं कर देगी. मेरे दोनों स्तनों को मसलते हुए मुझे धक्के लगाने लगा और लगभग दस मिनट में स्खलित हो गया.

मेरी उठी हुई टांग को अपने हाथों से पकड़कर दूसरे हाथ से अपना लण्ड मेरी चूत पर लगाकर उसे अंदर करने लगे.

साथ ही आप लोगों का धन्यवाद भी करती हूं कि आप लोग मुझे मेल और इंस्टाग्राम के जरिये इतना प्यार देते है. मयंक उसकी नंगी चूचियों को देख कर अपना कंट्रोल खो बैठा और उसकी चूचियों को एक एक करके पीने लगा.

फोन उठाने पर भाभी ने कहा- कहां हैं जनाब! नीचे हॉल में सभी पहुंच चुके हैं … बस एक आपकी ही कमी है. अब तक की मेरी इस मस्त सेक्स कहानी में आपने पढ़ा कि आज मालदीव में हम तीन कपल यानि तीन लड़के और तीन लड़कियां आपस में ग्रुप सेक्स का मजा करने पहुँच चुके थे. फिर मैंने सीधे से संजना की तरफ देखा और उसको खींच कर अपने होंठों के पास ले आया.

चूचियाँ कस के दबवाने का मज़ा और चूत में मची धकमपेल का मज़ा मिल कर उसकी सुध बुध उड़ा बैठे थे. मैंने कहा- हां, मैं नामर्द हूं तभी तो अपनी बीवी को तुमसे चुदवाने की कह रहा हूं. लम्बा क़द, जीरो फिगर शरीर, कंधों पर लहराते हुए काले काले सुन्दर बाल, गुलाबी होठों से सजा हुआ खूबसूरत चेहरा, सुराहीदार गर्दन, अच्छे खूब उभरे नाशपाती के आकार के चूचे, बहुत ही दिलकश हाथ और पैर.

मां बेटा वाला बीएफ जब मैं उनके ऊपर से उठी तो वीर्य मेरी चूत से निकलकर वापस उनके लंड पर बहने लगा क्योंकि बहुत सारा वीर्य निकला था. पहनावे से भी तू धंधे वाली लग रही है … या तुझे अपने जिस्म की नुमाईश करने का शौक है शायद.

मोटर का बीएफ

हर धक्के के साथ मुझे पूर्ण आनंद की अनुभूति हो रही थी। मेरा पानी निकलने वाला था तो मैंने अपनी टांगें उसके कंधों पर से उतार ली और उसकी कोली भर कर पूरे जोर से उसके लंड को अपनी चूत में लेने लगी. कहानी पढ़ते पढ़ते मेरी हवस ने मुझसे मेरी बुर को सहलवाना शुरू कर दिया. करीब दो मिनट किस करने के बाद में खड़ा हो गया और कोमल को ड्रेस उतारने को इशारा करते हुए मैं भी नग्न हो गया.

वहां पहले से ही कुछ लड़कियां मौजूद थीं, जिनके हाथ में डायरी और पेन थी. अगर आपने अब लंड नहीं डाला तो मैं खुद ही उठ कर आपके लौड़े पर बैठ जाऊंगी. बीएफ जवाबमेरी बीवी की पूरी पेशाब रोहित की छाती से लेकर उसके पेट को भिगो गया था.

उन्हें नंगी देख कर मैंने अपने सारे कपड़े निकाल दिए और अपने लंड को सहलाकर कोमल के पास आ गया.

अनिल भैया अब मेरे मुँह को बेतहाशा ऐसे चूम रहे थे, जैसे पता नहीं कितने सालों से उनको कोई होंठ चूसने के लिए ही न मिला हो. बेबी रानी ने मेरी छाती पर हाथ से धकेल के मुझे लेटा दिया और झुक के वीर्य, चूत रस और खून से सने लौड़े को चाटना शुरू किया.

ससुर जी- बेहया औरत ये सब क्या है?मैं भी गुस्से से बोली- पता नहीं किस खानदान में मेरी शादी हो गयी, पति निकम्मा निकला. मुझे ऐसा देख कर चाची बोलीं- इस उम्र में ऐसा होता है … तुम परेशान मत हो. फिर उसने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ा और जैसे ही लंड चूत के छेद के सामने आया तो वो गच्च से मेरी दुल्हन की चूत के अंदर चला गया.

चित्रा दीदी बड़े मजे से मेरे लंड को चूस रही थीं और मैं धीमे स्वर से सीत्कार कर रहा था.

उधर रोहिताश सामने कुर्सी पर बैठ कर अपना लंड हिलाते हुए सीमांशी को देखने लगा. उसने मेरे अंडरवियर में तने हुए लंड पर एक किस कर दी और मेरे लंड ने एक जोरदार झटका दे दिया. मैंने चूचियाँ छोड़कर दीपिका की स्कर्ट में हाथ डाला और पकड़ कर स्कर्ट को नीचे खींच दिया.

इंग्लिश सेक्सी बीएफ चोदा चोदीरुकैय्या पेशाब करके आ जाये तो चुदाई की जाये, यह सोचकर मैं अपना लण्ड सहलाने लगा. उसने कहा- दीदी इस काम में तो मैं धुरन्धर हूं, आपको अभी पता ही कहां है.

सनी लियोन के बीएफ एक्स एक्स वीडियो

मेरे जीजा ने उसकी चूत में जीभ दे दी और उसकी चूत को मस्ती में चाटने लगे. मैंने सोचा कि मोबाईल से काल करती हूं, मोबाईल निकाल कर देखा, तो टावर गायब था. मज़ा आएगा न?नीरा ने आँखें बंद कर मुझे कस लिया- अमन … ओह्ह ओह्ह!करते हुए वो मस्ती में चुदवा रही थी.

हर धक्के के साथ उसके नाखून मेरी पीठ पर गड़ते चले गए, जो मुझे दर्द नहीं … उसके प्यार की निशानी दे रहे थे. मैं- लंड कैसा लगा?नताशा- अब मुझे समझ आया कि उस समय चित्रा क्यों मुस्करा रही थी. वैसे भी कालोनी में और भी कई भाभियां थीं, पर इन नई भाभी के सामने सबका हुस्न फ़ीका पड़ने जैसा लगा था.

फिर मैंने फुर्ती दिखाते हुए उनका एक चूचा नाइटी से बाहर निकाल लिया और मुँह में लेकर चूसने लगा. मैंने दोनों हाथों से भाभी के मम्मों को दबाना शुरू कर दिया और उनके निप्पलों को उंगलियों से मसलने लगा. वो एक तरफ तो अपने हाथ को मुझसे छुड़वाने की कोशिश कर रही थी और दूसरी ओर नीचे ही नीचे अपनी चूत को मेरी पैंट में तने हुए लंड से टच करवा रही थी.

अमन ने अब पीछे से आकर मुझे पकड़ते हुए मेरे गाल पर किस करते हुए पूछा- तो मैडम, क्या विचार है अब?मैं- कुछ विचार नहीं है. जैसे-जैसे भाभी किस कर रही थी, वैसे वैसे मैं भी करने लगा।पहले उन्होंने मेरे ऊपर के होंठ चूसे तो मैं भी उनके नीचे का होंठ चूसने लगा.

एक ड्राईवर और चार खलासियों ने मेरी वो दुर्गति की थी कि मैं बता नहीं सकती.

अब सुधा भी ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगी- आह … और जोर से चोदो प्लीज़ … मुझे और मज़ा दो … आह आज तो जन्नत में ही जाना है. बीएफ के चित्रमेरा हाथ पकड़कर चाचा बेडरूम में ले आये और बोले- दरअसल मैं रात से बड़ी उलझन में हूँ. गर्ल्स हॉस्टल बीएफयह संयोग मेरे लिये काफी फायदेमंद साबित हुआ जिसके कारण हम मेरा उस मकान मालिक की दूसरी बीवी बसंती से मिलना हो पाया. बिस्तर पर उनके चेहरे साफ नहीं थे, पर यह पक्का था कि वो बाबूजी और मेरी भाभी ही थे.

बस दिमाग में उन दोनों की इतनी तगड़ी ठुकाई करना चाहता था कि वह दोनों अगले दो-तीन महीने तक लौड़ा आपने चूत और गांड में लेने के लिए सोचे भी ना.

वो भी बोले- हां मेरी रंडी साली … ले मां की लौड़ी लंड ले … साली आज तेरी चुत का भोसड़ा बना कर रहूँगा. इसके बाद उसने अपने लंड का टोपा मेरी गांड की छेद पर रखा और धीरे धीरे अन्दर डालने लगा. मैं मजा तो सातवें आसमान का ले रही थी … लेकिन मेरी चुदास इतनी ज्यादा बढ़ गयी थी कि और सह पाना मेरे वश में नहीं रह गया था.

उम्म्ममेघा … तू बहुत हॉट है यार… मुझे भी चूसने दे न!”मैं बेड पे लेट गई. उन मौकों पर कभी कभी मुझे भाभी को थोड़ा छूने का भी अवसर भी मिल जाता. वो- अच्छा फिर क्या?मैं- फिर क्या … सलवार को उतार कर तुम्हारी दोनों टांगों के बीच में बैठ जाऊंगा और …इतना बोल कर मैं चुप हो गया.

बीएफ का वीडियो भेजो

बाहर निकल कर जैसे ही हम गाड़ी में बैठे तो अविनाश और पल्लवी ने गाड़ी खोली और अन्दर आकर पल्लवी ने कहा- हेल्लो सेक्सी कपल! आज बड़ी मस्त चुदाई कर रहे थे, क्या बात है! कैसे फुर्सत मिली?इतने में ही पल्लवी ने तंज मारते हुए कहा- पार्क में आप दोनों के ही चर्चे थे. अंत में वसुंधरा ने एक ठंडी सांस ली और आँखें बंद कर के अपना सर मेरे बाएं कंधे पर टिका दिया. लंड की पूरी लम्बाई बाहर से रानी की चूत के अंतिम छोर तक जाकर ठक्क करती.

मेरी पत्नी और गिन्नी की मम्मी के लौटने से पहले हम लोग फ्रेश हो चुके थे.

जीजा जी तो पक्का तुम्हारी गांड मारेंगे, वो भी जानवर की तरह … और वैसे भी तुम्हें भी बाद में दुगना मजा आएगा.

कुछ ही देर में मेरी ठंड गायब थी और मेरा लंड अब मेरे बस में नहीं था। मेरा लंड अब बेकाबू हो रहा था और वो पूरी तरह से आंटी की चूत में घुसने को तैयार था।आंटी शायद शर्म की वजह से ज्यादा आगे नहीं बढ़ पा रही थी। सभी औरतों का यही हाल होता है. अविनाश ने इमोशनल होकर कहा- कोई बात नहीं, मुझे लगा तुम जरूर मदद करोगे. सगे भाई बहन की बीएफधीरे धीरे पेट से होते हुए वो मेरी बहन की चुत को अपनी जीभ से चाटने और चूसने लगे.

लेकिन जैसे ही मेरे देवर मेरे सामने आए, वे मुझे देखकर हल्का शर्मा रहे थे. कभी वो मेरी चुत चाटते तो कभी मेरी जांघ, तो कभी मेरी चूची मरोड़ते, तो कभी मेरे गालों को चाटते और बीच बीच में वो दांत से भी काट लेते थे. बहनचोद, तू लगती तो नहीं थी इतना शर्माने वाली … ले मादरचोद कमीनी राण्ड, तेरे लिये भगवान ने एक लंड भेजा है.

मैं बोली- बेवकूफ है क्या … मॉम के जैसी क्यों चाहिए?वो बोला- मेरा मतलब नेचर से, देखने से उसकी तरह केयरिंग हो. जीजू सीधे हुए, मेरे होठों पर होंठ रखकर चूसने लगे, मैं जीजू का टाइट लण्ड सहलाते हुए जन्नत के द्वार पर थी, जीजू का लण्ड मेरे शरीर में प्रवेश करने को तैयार था.

लेकिन आप तो जानते हैं कि हमारे पास जो चीजें होती हैं, हम कभी उसकी कद्र नहीं करते, बल्कि उस चीज के पीछे भागते हैं, जो हमारे पास नहीं होती.

उनके नग्न मम्मों, जिन पर दाखी रंग के निप्पल कयामत ढा रहे थे … मेरी आंखों के सामने आ गए थे. मेरी चूत तुझे रुकैय्या जैसा मजा तो नहीं दे सकती लेकिन एक काम करके तू मेरी अधूरी ख्वाहिश भी पूरी कर सकता है और एक नये मजे का आनन्द भी ले सकता है. अब दोनों ही चीख रही थी क्योंकि मैंने उनके बाल पकड़े हुए थे और उन दोनों को नीचे लंड के पास बैठा लिया था.

इंडियन सेक्सी बीएफ हॉट वो बोली- कैसा लगा?मैंने थोंग उठा कर बोला कि ऐसे कैसे पता चलेगा, पहन कर तो दिखाओ. दीपिका ने अपने होंठों पर जीभ फिराते हुए बहुत ही सेक्सी स्माइल दी और बेड पर पाँव लटका कर बैठ गई.

मैं बेड पर आकर दीपिका के पांव की ओर गया और उसके घुटनों को फैला कर मोड़ दिया. कोमल को पता था कि आज मैं रुकने वाला नहीं हूँ … लेकिन उसे बहुत ज्यादा दर्द हो रहा था. उनके बदन से आती मुझे मेरी दीदी के परफ्यूम की खुशबू मुझे और भी उत्तेजित कर रही थी.

घड़ी बीएफ सेक्स

हो सकता है कि आपको ऊपर दिये गये जोड़ों के बारे में कन्फ्यूज़न लगे लेकिन याराना को शुरू से पढ़ने वाले पाठकों को परेशानी नहीं होगी. होता भी क्यों नहीं … उसकी यही तो इच्छा थी कि उसकी बीवी की चुदाई कोई दूसरा मर्द करे और वो देखे. मुझे भी गोरी गांड चुदाई में मजा आ रहा था और अंकल को भी अपनी गांड चुदवाने में काफी मजा आ रहा था.

बड़ी दर्दनाक कहानी है तुम्हारे चाचा जी की, इतना बदनसीब मैंने तो कभी नहीं देखा. जब भाभी ने पूछा था कि दूध पीकर ही खत्म करना है … या कुछ आगे भी बढ़ोगे.

मेरी नजरें कह रही थीं कि तुम भरोसा रखो, डांस तो क्या मैं तुम्हें कभी भी गिरने नहीं दूंगा … और उसकी नजरें कह रही थीं कि अब सब कुछ तुम पर छोड़ दिया है, चाहे गिरा दो, चाहे उबार लो!अब मैंने खुल कर नृत्य करना प्रारंभ किया, पायल नाम की अप्सरा से लिपटने या उसकी गोरी चिकनी कमर को पकड़ने में अबकी बार मैंने जरा भी झिझक नहीं दिखाई.

अब तक सुनील और विशाल दोनों ही कंडोम से सेक्स करते थे ताकि बच्चे की जिम्मेदारी से बचा जाए. फिर वो अँधेरे में ही मेरी चुम्मियाँ लेने लगे और मेरे बाहर से ही स्तन दबाने लगे. इससे पहले की मेरा हाथ उनके लिंग पर जाता उन्होंने पूछ लिया- आपके पति घर पर तो नहीं हैं?मैंने कहा- अगर होते, तब भी मैं बेशर्मों की तरह गैर मर्द की बांहों में जाने से हिचकती नहीं.

बहुत सारे लोग … जिन में मैं भी शामिल हूँ, अपने-अपने व्यक्तित्व के ग्रे शेड को अभिभूत करने इस साइट पर आते-जाते रहते हैं. मुझे लग रहा था की बाबूजी का लौड़ा कोई साधारण लौड़ा नहीं है क्योंकि आज तक मुझे पहले कभी भी इतना आनंद नहीं आया था।बाबूजी ने मेरे ब्लाउज़ के बटन खोलने की कोशिश की पर जब नहीं खुले तो उन्होंने एक झटके में ब्लाउज़ के बटन तोड़ दिए और मेरे चूचे बुरी तरह मसल दिए उनके हाथ एक किसान के हाथ थे. हर किसी का सपना होता है कि उसकी ज़िन्दगी में कोई लड़की ऐसी आये जो उसे हर सुख दे.

उसी समय किसी ने उन्हें उनके नाम से पुकारा, तो मैंने जान लिया कि उन भाभी का नाम स्नेहा है.

मां बेटा वाला बीएफ: साले की बेटी गिन्नी की चूत के गुलाबी लबों को खोलकर अपने लण्ड का सुपारा रखा तो गिन्नी कसमसाने लगी. मेरा नाम सुजाता है, मैं एक आदिवासी परिवार से हूं, इसलिए न तो गोरी चिट्टी हूं, न ही चेहरा बहुत सुन्दर है.

क्योंकि मुझे जवान होने की उत्सुकता और जल्दी थी, क्योंकि मैं मासिकधर्म को जवानी की दहलीज पर पहला कदम मान चुकी थी. न जाने क्यों ऐसा लगा कि नीरा की चूचियां पहले से कुछ छोटी हो गई हैं और टाइट भी. फिर जीजू ने मेरी जांघ पर हाथ फेरना शुरू कर दिया और धीरे धीरे अपना हाथ मेरी चूत पर ले आये.

मेरा भी मन होने लगा कि बहुत दिन से मेरे लंड ने चूत का स्वाद नहीं चखा … साली कोई लंड का शिकार बन जाए, तो मजा आ जाए.

नताशा- तुम दोनों कहां पर ठहरे हो?नीरज- होटल प्लाजा में … और आप!आकाश- हम सभी एक पेन्ट हाउस में रुके हैं. मेरे गले को लगातार चूमता रहा और अपने लंड से छोटे छोटे धक्के लगाने लगा. कुछ देर तक मेरे चूतड़ों को सहलाने के बाद जेठजी की उंगलियां फिर से मेरे पैंटी की इलास्टिक पर आकर कुछ देर के लिए रुक गईं.