जवान लड़कियों का बीएफ

छवि स्रोत,हिजरा का मोबाइल नंबर

तस्वीर का शीर्षक ,

पूनम दीदी: जवान लड़कियों का बीएफ, मैंने उन्हें जोर से जकड़ा हुआ था और वो अपने आप को छुड़ाने का प्रयास कर रही थीं.

अंग्रेजी सेक्सी वीडियो फिल्म दिखाएं

इसी बीच मेरी पत्नी ने अपनी पोजिशन बदली और वह मुझे नीचे लिटा कर मेरे ऊपर आ गई और उसने नीरू से बोला- नीरू, देख क्या रही है, अपने जीजू का लंड पकड़ कर मेरी चूत पर लगा ना!उसने ऐसा ही किया और मेरा लंड पकड़ कर अपनी जीजी की चूत पर लगाया. ba pass मूवीइसलिए उनकी चुत गहरे काले घने और घुंघराले बालों से भरी हुई थी जो उनकी योनि को छुपाने की नाकामयाब कोशिश कर रहे थे.

मम्मों की चुसाई शुरू हुई, तो अब तक ना ना करने वाली, अब मस्ती में आ आह आह करने लगी. जापानी भाषाआज मैं फिर आपको अपनी सच्ची दास्तान लिखने जा रहा हूँ, जो शतप्रतिशत सही है.

अगर सही में सुलेखा भाभी को हमारे बारे में पता चल गया है, तो कल किशोर भैया आने के बाद मेरी पिटाई होना अब तय ही था.जवान लड़कियों का बीएफ: कुछ पल बाद जब भाभी सामान्य स्थिति में आईं, तब मैंने उन्हें छोड़ा और बोला- इतनी जोर से चिल्लाओगी भाभी.

इस तरह से बड़बड़ाते हुए रेवती अपने तकिए को मसले जा रही थी और अगले ही पल एकदम शांत हो गई.मेरे प्रिय दोस्तो, मेरा नाम रेनिश है, मैं गुजरात के अहमदाबाद सिटी में रहता हूँ.

एक मैसेज भेजो - जवान लड़कियों का बीएफ

वो मुझसे बात करने लगी और मैं उसकी बड़ी बहन के चक्कर में उससे बात करने लगा.आप कह सकते हैं कि सेक्स लाइफ के बारे में सबसे ज्यादा मैंने यहीं से सीखा है.

एक दिन ऐसे ही मैं उसके घर गया, तो चुचे मसलने के बाद मैंने देखा कि उसका टॉप थोड़ा ऊपर उठा हुआ था. जवान लड़कियों का बीएफ यह सुनने के बाद मैं मजबूर होकर सोने की कोशिश करने लगा लेकिन नींद नहीं आ रही थी.

वो इस समय बस आहें भर पा रही थी… उसको और किसी चीज़ का कोई होश नहीं था.

जवान लड़कियों का बीएफ?

शादी के बाद आज पहली बार मेरी चूत पूरी तरह से तृप्त हो गयी है और तुम अब भी बोल रहे हो कि तुम्हें और चोदना है. उसके बाद एक मिनट तक मैंने उसकी चूत में अपना मोटा लंड यूं ही डाल कर रखा और हल्के झटके देता रहा. किस करते करते ही मैं अपना हाथ थोड़ा नीचे उनके चुचियों तक लेकर आया और हल्के से दबाना शुरू कर दिया और वो हल्की हल्की सिसकारियाँ लेने लगी.

लगभग बीस मिनट की चुदाई के बाद जब मैं झड़ने को हुआ तो मैंने अपना लिंग बाहर निकाल लिया क्योंकि मैं अन्दर नहीं झड़ना चाहता था। जब मैंने अपना लिंग बाहर निकाला तो वह उसकेखून से लाल हो गया था जो उसकी सील टूटने का सबूत दे रहा था।फिर मैं अपना लिंग और उसकी चूत साफ करके उसको बांहों में लेकर लेट गया और बातें करने लगा. अंकित तुम हर पोज की फोटो लेना, जीवन भर सम्हाल के रखूंगा, वन्द्या के साथ इन सेक्सी पलों की फोटो! इतनी सुन्दर और सेक्सी मस्त फिगर वाली लड़की आज तक हम लोगों ने देखी नहीं है, जिसे आज चोदने का मौका मिल गया. मेरे लिए उसका इतना करना ही आग में घी डालने के बराबर साबित हुआ और मैं लोहालाट हुए लंड पर तेजी से मुठ मारने लगा.

और जैसे ही मैंने अपने दोनों हाथों में जकड़ कर ब्लैक डिल्डो को गोरी लड़की की गांड में घुसेड़ना चालू किया, वो अपनी उँगलियों के दबाव से अपनी गांड के छेद को फ़ैलाने लग गई. मनीषा की पेंटी अभी मेरे हाथों में ही थी और मेरा लंड मानो फिर से सलामी देने लगा. फिर भी मेरे दोस्त किसी ना किसी बहाने से भाभी को देखते थे और उनकी उठी हुई गांड का फिगर देख मुठ मारते थे.

मंजरी भाभी ने जल्दी से वही गाउन पहना, रसोई में चली गई और मेरे लिए टीवी पर फिल्म लगा गईं. जब मैं इस बात से कन्फर्म हुआ कि कोई नहीं है तो मैं सबा को बस स्टॉप के पीछे की साइड ले गया.

सविता ने कहा- जीजू, मेरी चूत में कुछ हो रहा है और मेरा शरीर अकड़ रहा है.

एक बार अक्टूबर 2016 में मेरा एक्सीडेंट हो गया इस वजह से मैं 3-4 दिन ऑफिस नहीं जा पाया.

यही सब सोचते सोचते पता ही नहीं चला, कब मेरी आँख लग गई और मुझे नींद आ गई. म … ऊ… म…रजत ने अपने हाथ से मयूरी की मखमल जैसी कोमल गांड पर अपना हाथ फेरना शुरू कर दिया और फिर धीरे-धीरे उसके हाथ की उंगलियाँ मयूरी की गांड की दरार में चलने लगी. ये कह कर राज अंकल फिर से तेजी से अपनी उंगलियां मेरी चूत में चलाने लगे.

फिर मैं चला जाऊँगा।दोस्तो, मैंने पहले कभी उस लड़की की आवाज़ नहीं सुनी थी और ना ही लड़के की … इसलिए मैं बाहर से नहीं पहचान पाया कि अन्दर वो ही लड़की है जिसको मैंने स्टेज पर फोटो खिंचवाते हुए देखा था. यह सुनते ही मुनीर ने मुझे छोड़ दिया और मेरी टांगें नीचे रख कर अलग खड़ी हो गयी. अब भाभी एकदम से चिल्ला उठीं ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ मैंने तुरंत उनके होंठ को चूसना चालू कर दिया, जिससे उनकी आवाज बाहर न आ सके.

मैंने रेखा का हाथ पकड़ा और उसको अपने तने हुए लौड़े पर रखवा दिया।रेखा मेरे पजामे में तने हुए लौड़े को ऊपर से ही सहलाने लगी।वो भी पूरे जोश में आ चुकी थी और मेरे लंड को पकड़ कर मसल रही थी।मैं उसके चूचों को दबाते हुए उसके होठों का रस चूसने में लगा हुआ था.

सोनाली को अब दर्द हो रहा था, वो मेरे पीठ पे नाखून गड़ा रही थी, नोंच रही थी. ऐसे ही थोड़ी देर चूत में लंड लेकर उछलने के बाद वो झड़ गयी … मैं भी उसकी चूत में ही झड़ गया। हम दोनों की सिसकारियों से पूरा कमरा गूंज उठा।कुछ देर के बाद वो उठकर चली गयी बाथरूम की ओर … और मैं सुशीला की ओर चला गया. इसलिए जैसे ही मैंने अब उनकी चुत को चूमा, उन्होंने मुझे पकड़ कर‌ अब नीचे‌‌ गिरा लिया और अपने पैरों को मेरे दोनों तरफ करके मेरी जांघों पर बैठ गईं.

आंटी की इस तरह से लपक कर हामी भरने से आज तो मैं एकदम सातवें आसमान पर था. मैंने बाहर से चाँद से आती हुई रोशनी में उन्हें देखा तो वो एकदम परी लग रही थीं. मैंने उसकी आंखों में झांकते हुए कहा- तुम्हारी शादी नहीं हुई क्या अभी?वो बोला- मैडम शादी तो हुई है, लुगाई गांव में है.

मैंने भी मानसी को फर्श पर कुतिया बना दिया और उसकी चूत में अपना लंड पेल दिया.

उसने इतनी देर तक मेरा बहुत ख्याल रखा, पर अंत में उसने पीड़ा की हद पार कर दी. फिर हमने अपना अपना पानी साफ़ किया और उसके बाद एक दूसरे को किस करने लगे.

जवान लड़कियों का बीएफ आंटी के करवट के बल सोने की वजह से उनकी चूत मुझे दिख नहीं रही थी, तो मैंने अब उनकी टांगें फैलाना शुरू कर दीं. फिर क्या था, मेरा लंड अब खड़ा होने लगा और मैंने भी उसे किस करना शुरू कर दिया उसे गोद में उठाया और बिस्तर पर लिटा दिया अब शायद वो सब कुछ भूलकर बस आज चुदना चाहती थी.

जवान लड़कियों का बीएफ मैंने उन्हें थोड़ा और तड़पाया, फिर मैंने अपना सुपारा उनकी चूत में घुसा दिया. मुनीर हम हिंदुस्तानी औरतों से कुछ ज्यादा अलग नहीं थी, केवल उसकी शक्ल चीनी लोगों की तरह थी.

हम जैसे ही बाहर निकले, एक वैगनार कार सामने खड़ी थी, उसमें एक अंकल उन्हें पहले कभी नहीं देखा था, वो गाड़ी चला रहे थे.

షకీలా వీడియోస్

जब मुझे लगा कि मैं उसके मुँह में झड़ जाऊंगा, तो उसको माल पी लेने के लिए कहा. मैं सतीश से बोली- प्लीज बाहर से किसी को भेज दो … वो आए और मुझे चोद दे … मुझे जम के चुदवा दो … जल्दी से भेजो किसी को … वो मेरी आग बुझा दे. मगर उन्हें मिल नहीं रहा था तो वो बोलीं कि बेटा ज़रा मेरे कपड़े निकालने में मेरी मदद कर दो.

नीरू ने पूछा- क्या तेरा मन है?तो सविता ने कहा- क्यों? क्या तेरी नजर में कोई लड़का है या तेरा कोई बॉयफ्रेंड है जिससे तू करवाती है?तब नीरू ने कहा- बॉयफ्रेंड नहीं, एक अनुभवी फ्रेंड है मेरे पास … उम्र 42 वर्ष है लेकिन बहुत मस्त … ना कोई फिक्र, ना कोई झंझट, न राज खुलने का डर! और अनुभवी आदमी जो मजा दे सकता है, वह नया लड़का नहीं दे सकता. मेरे ऊपर आकर मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चूत पर सैट किया और धच से बैठ गई. हम दोनों अपने अपने रूम में चले गए मैं थोड़ा फ्रेश होकर टीवी देख रहा था.

जीजू मेरी जांघों को दबाने लगे और उसके बाद वो अपना लंड मेरी चूत में डालने लगे.

और उस वक्त तो मैं खुशी से पागल हो गयी जब केक काटने के दौरान हेप्पी बर्थ डे का गायन समाप्त होते ही मेरे सामने गिफ्ट के रूप में बीस हजार रूपये मूल्य का स्मार्ट फोन था, सब फीचर थे उसमें और जियो की सिम. मैं समझ गया कि वो क्या कहना चाहती हैं … क्योंकि वो शादीशुदा औरत थीं … तो मैंने भी कुछ नहीं कहा. यह सब देख कर मुझे और जोश चढ़ रहा था और मैं धक्के पे धक्के लगाए जा रहा था.

शायद उससे सहा नहीं गया और जोर से उसकी चुत से पानी का फव्वारा मेरे लंड को लगा. लेकिन फिर भी वो मेरे लंड को अपने मुँह में भरे हुए आखिरी बूंद तक उसका पानी निचोड़ती रही. फिर वो मेरी चूचियों पर आ गया, फिर एक बार वो किसी बच्चे की तरह उनसे खेलने लगा.

तो मैंने एक्साइटेड होकर उसकी चुचियों को बाहर निकाला और उसके ऊपर दांत काटा और बोला- हिसाब-किताब बराबर!फिर हम दोनों ने अपने कपड़े ठीक किए और घर के लिए चल दिए।तो दोस्तो, यह थी मेरी पहली चुदाई की स्टोरी! उम्मीद करता हूं कि आप सब को पसंद आएगी. अमीश ने मेरे सामने परिणीता आंटी को फ़ोन किया कि मैं बाहर जा रहा हूँ.

कविता से रुका नहीं गया और उसने खुद मेरा लंड पकड़ा और चुत पर लगा कर मुझको कहा- अब नीचे होकर पेल दे. उसकी फांकों में लंड का सुपारा लगाया और लंड को बुर के अन्दर पेलने की कोशिश की. कम्मो ने मेरा कन्धा पकड़ कर जोर से अपने नाखून मेरे कंधे में गड़ा दिए, शायद उत्तेजना वश उसने ऐसा किया होगा.

रात को खाना खाने के बाद बड़े चाचा और चाची अपने कमरे में सोने चले गए.

घर पहुंचते ही बस हम दोनों के शरीर ऐसे मिले, जैसे बरसों के प्यासे हों. इतना सुनते ही वे दोनों जोश में आ गए और बोले- यह बहुत बड़ी आइटम है … इसको हम दोनों के लंड से कोई फर्क नहीं पड़ेगा … तू डाल हिमांशु. और इसकी मम्मी तो तुम्हारी पुरानी सेटिंग भी है, तो इसकी मम्मी को जितना देना पड़े, मैं दे दूंगा.

उसने अभी तक अपनी गांड और चूत तो बहुत बार चुदवाई थी पर एक साथ दोनों और वो भी दोनों नए लंड से … यह अनुभव उसे बहुत ही नया और निराला लग रहा था. हम दोनों लोग सेक्स करते करते अब चरम पर आ गए थे और हम दोनों का पानी निकलने को होने लगा था.

फिर उसने मेरे लंड पे कॅडबरी लगाई … और थोड़ी गांड पे भी लगाई और जोर जोर चूसने लगी. वक़्त का फायदा उठा कर मैंने उसकी एक चूची को अपने मुँह में ले लिया और उसको जोर जोर से चूसने लगा. मैं जैसे ही उठी, मेरी चूत से रस मेरी टांगों में पैरों में चूत के नीचे के हिस्से में बह चला.

आम्रपाली दुबे नंगी फोटो

आज मैं फिर आपको अपनी सच्ची दास्तान लिखने जा रहा हूँ, जो शतप्रतिशत सही है.

नहीं तो अगर किसी आदमी को कोई लड़की ऐसे अपने घर में लाये, तो वो तो बस आते ही उसे नोंचने लग जाए. मैं अपने बिस्तर पर आकर बैठा ही था कि तभी प्रिया ने मेरे कमरे के दरवाजे पर आकर पूछा- क्या हुआ? क्यों शोर कर रहा है?उसने नीचे स्कर्ट … स्कर्ट तो नहीं थी वो क्योंकि स्कर्ट घुटनों तक ही लम्बी होती है … मगर वो जो भी था, उसके पंजों तक की लम्बाई का था. अगर कहो तो दो-चार मिनट आगे चल कर ‘ठीक से …’ देख लें, कोई दिक्कत तो नहीं है.

पर मुझे ज़रूरत थी किसी मूसल लंड की, जो मेरी फुद्दी की प्यास को अच्छे से बुझा सके. इस पर वो हंसते और दम्भ भरे स्वर में बोली- ऐसा नहीं है कि तुम सेक्स करने में पूरी रात मुझे जगा सकोगे. सेक्सी इंडियन ओपनअब अपने आप ही नेहा के‌ मुँह पर मेरे लंड का दबाव बढ़ गया और मेरा सुपारा थोड़ा सा और उसके मुँह में घुस गया.

यह कह कर वो शेविंग किट, जो उसने अपनी झांटों को बनाने के लिए लिया हुआ था, लेकर आई और मेरी चूत पर अच्छी तरह से फोम लगा कर सेफ्टी रेजर से चूत की हजामत बना दी. तुम चाहो तो इसको अपने हाथों से खड़ा कर सकती हो या फिर इसे अपने मुँह में लेकर चूस चूसकर खड़ा कर सकती हो.

लेकिन एक शर्त है, पहले की तरह कोई भी बात कभी भी किसी को भी, चाहे जो घर पर हो. दोपहर को कम्प्यूटर कोर्स से जब मैं वापस आया तो पूरे घर में शांति सी लग रही थी. मैंने चूत में उंगली डालकर थोड़ी चिकनी की और लंड के सुपारे पर लगाकर उसको चिकना किया.

थोड़ी देर बाद मैंने अपनी दो उंगलियों को उसकी चुत में घुसा दिया और अन्दर बाहर करने लगा. उसने मेरी तरफ आंख मारी और बोली- वही वाले फ्रेंड हैं क्या, तेरे को अपना काम और उनका काम दोनों का फिट करना है न?मैं मुस्कुरा कर बोली- कुछ ऐसे ही समझ ले. तुम्हें बहुत अच्छा लगेगा, मेरा वादा है, नहीं लगे अच्छा तो बता देना, तुम्हें तुम्हारी मर्जी के बिना कोई कुछ नहीं करेगा.

‘आह उह उफ़ उम्म्ह… अहह… हय… याह… सी सी आह उह ऊऊ …’ की आवाजें कमरे में गूंजने लगीं.

इसीलिए मैंने अपने लंड पर थूक लगा कर जैसे ही उसके चुत पर लंड रखा, उसकी चुत ने मेरे लंड के लिए अपना मुँह खोल दिया और लंड अन्दर ऐसे घुसता चला गया … जैसे मानो किसी आइसक्रीम पर चाकू घुसता चला गया हो. ऐ … हुँहह … ऐ हहहह …”मेरे मुँह से कभी मादक और कभी दर्द भरी सीत्कारें निकल रही थीं- अरीई … उईईई … आअहह … उउउंम … हाँ … ऐसे ही अंकल जी … जरा धीरे अंकल जी स्स्स्स्स् … हुउउउ … आह री मौ …सी … दे …खो … अं …क …ल … ने मुझे चोद दिया … आह मौसी तुम … भी … चु …दवा … लो …मेरी और अंकल जी की ऐसी मिली जुली कामुक आवाजों से पूरा कमरा गूंज रहा था.

उसका बदन तो पहले से ही कामाग्नि से धधक रहा था, पर अब उसके दिलो दिमाग से भी सही दिशा मिलनी शुरू हो रही थी. मैं बहन से अकेले में मिला तो उसे बोला कि अगर तुम नहीं बताओगे तो मैं तुमसे बात नहीं करूँगी. उसकी पेंटी की वो जैस्मिन और गुलाब की सुगंध के साथ हल्की नमकीन वाली मादक खुशबू मानो मुझ पर ऐसा जुल्म ढहा रही थी कि मेरे लंड की सारी नसें फट कर बाहर आ जाएंगी.

मैंने भाभी से पूछा- आपको मैं पसंद था तो आप बोली क्यों नहीं?भाभी- मैं भी डर रही थी कि अगर तुझे अच्छा नहीं लगा तो क्या होगा? ये मुझे तब पता चला, जब तुमने मेरी पेंटी को चाट चाट के गीली कर दी थी. रात को खाना होने के बाद हम दोनों उसके कमरे में सोने चले गए और गप्पें लगाने लगे. मयूरी कुछ बोल भी नहीं पाती क्योंकि विक्रम उसके मुँह में ताबड़तोड़ चुदाई कर रहा होता है और अपना लंड उसके गले तक पेल रहा होता है.

जवान लड़कियों का बीएफ इससे भाभी को काफी दर्द हुआ पर इस बार वो चिल्लाई नहीं, बस दोनों हाथों से मेरी पीठ जोर से पकड़ के नाखून से खरोंचने लगीं. अब उसने मुझे घुमाकर गांड से फिर ऊपर आने लगा और दोनों हाथ से फिर मेरे चूचे दबाने लगा.

हवस का शिकारी

इस दौरान मैंने कई बार उसी सुन्दरता की तारीफ़ करने के बहाने उसके उठे हुए मम्मों को जी भरके निहारा. मगर मैंने उन्हें छोड़ा नहीं और धीरे धीरे चूसते हुए ही ऊपर की ओर आने लगा. मैंने भी खुलते हुए कह दिया कि यदि तुम्हारा मन सेक्स करने को हुआ तो फिर मुझे तुम्हारी इच्छा पूरी करनी ही पड़ेगी.

राज अंकल मम्मी के मुँह में कभी लंड डालते, कभी निकालते और फिर दूधों के बीच में डालने लगे थे. मनीषा ने अपने रूम के अन्दर से ही आवाज लगाई- पंकज मैंने नहा लिया है. 10 साल की सेक्सी फिल्मअब मैंने लंड अन्दर करना शुरू किया पहले पहल तो लंड अन्दर जा ही नहीं रहा था.

मैंने अपने होंठ उसकी चूत पे रख दिए, वो मेरा सर अपनी चूत पे दबाने लगी.

हम दोनों चिपक कर लेटे रहे, वो खुश लग रही थीं, वो बोलीं- पहली बार इतना मजा आया है. अब मैं उससे बात करने का मौका ढूंढ रहा था लेकिन वो मेरी तरफ देख ही नहीं रही थी। मैं सोच रहा था कि अगर इसकी चूत मिल जाए तो मजा आ जायेगा।फिर वो अपनी सहेलियों के साथ पता नहीं कहाँ गायब हो गयी और मैं भी अपने दोस्तों के साथ डीजे पर डांस करने लगा।डांस करने के बाद जब मुझे भूख लगी तो मैं खाना खाने लगा.

वो जैसे ही फ्रेश होने के लिए खड़ी हुई तो उसको नीचे बुर में बहुत दर्द हो रहा था. जब मेरा दर्द कुछ कम हुआ तो मैंने अपने कूल्हों को हिलाया और भाई को अपनी बांहों में भरकर ऊपर नीचे होने लगी।भाई ने भी सब समझकर मेरी चूत को चोदना चालू कर दिया. उसका नाम रेखा था और वह भी पढ़ती थी।लेकिन मैंने नोटिस किया कि वो किसी न किसी बहाने से बार-बार मेरे पास आने की कोशिश करती थी.

उसके कच्छे में कैद उसके लंड को पहले ऊपर से चूमा और फिर एक झटके में उसको भी सरका दिया.

अब क्या होगा? मेरी पिटाई होने में अब तो बस प्रिया‌ के जवाब देने की‌‌ ही देर थी. तभी मुझे मालूम हुआ कि मकान मालिक भैया को दो दिन के लिए शहर से बाहर जाना था, तो इसी वजह से आज वो जल्दी आ गए थे. मेरी सुन्दर, ब्लोंड पत्नि खड़ी हो गई और बड़ी खिड़की के सामने खड़ी होकर स्ट्रिपटीज़ डांस करने लगी.

अंग्रेजी सेक्सी फिल्मेंअंकल ने झट से एक उंगली को मेरी चुत में घुसा दिया और बुर में आगे पीछे करने लगे. इस पर वो बोलीं- क्या तुमने कभी अपनी उम्र की लड़की के साथ सेक्स किया?तो मैंने जबाब दिया- नहीं, चांदनी जी मेरी साथ सेक्स करने वाली पहली हैं और मुझे अपने से बड़ी या शादीशुदा ही पसंद आती हैं क्योंकि वो मुझसे ज्यादा अनुभवी या समझदार होती हैं, जो किसी गलती को संभाल सकें.

సెక్స్ in telugu

मैं समझ चुका था कि सविता मेरी और नीरू की चुदाई देखकर गर्म हो चुकी है. रात को खाना खाने के बाद बड़े चाचा और चाची अपने कमरे में सोने चले गए. तभी रीना मेरे पीछे से आई और बोली कि सोचना क्या है यार … खोल दे अपनी टांगों को … कर दे चौड़ी अपनी चूत को और घुसवा ले मोटा सा एक नया लंड.

पहले तो वो थोड़ा हैरान रह गयी, फिर खुद को संभालते हुए वो भी मेरा साथ देने लगी. रोज़ हिना भाभी को नहाते हुए देखना और उनकी ब्रा पेंटी को सूँघना मेरी दिनचर्या सी बन गयी थी. मैंने जब उसे गुस्से में देखा तो उसने कहा- ठीक इसी तरह का दर्द मुझे भी होता है जब आप मुझे दांत से काटते हो.

जब वो यह सब कर ले, तो अपना लंड मेरी चूत में डाले और मुझे अच्छी तरह से चोदे ताकि मुझे जिंदगी के पूरे मज़े मिलें. दोस्तो, कहानी कैसी लगी, जरूर बताना मेल और फेसबुक से[emailprotected]. मयूरी- बात तो एकदम पते की है माँ… क्या सोच है आपकी…और दोनों नंगी माँ-बेटी जोर से खिलखिला कर हंसने लगी.

वो बाथरूम में चेंज करने के लिए गयी और वापस आयी तो मैं उसको देखता रह गया, काली मैक्सी में वो हुस्न की अप्सरा लग रही थी. कुछ दिन तो ठीक से कट गए, पर कहते हैं ना कि शहर की हवा लगने में देर नहीं लगती.

मनीषा की पेंटी अभी मेरे हाथों में ही थी और मेरा लंड मानो फिर से सलामी देने लगा.

इसके अलावा अगर ज्यादा कुछ होता तो वह मेरी चूचियों को दबा देता था या फिर उनको पी लेता था. हाथ में खुजली के उपायऐसे ही एक दिन मेरे पति ने मुझसे बोला कि वो काम के सिलसिले में 3-4 दिन के लिए बाहर जा रहे हैं. সোনাগাছি এক্স ভিডিওजीजू मेरे मम्मों को खूब चूसने के बाद बोले- तुम्हारे चूचे बहुत मुलायम हैं. 30 बजे खाना खाया औऱ सोने की इच्छा हुई तो चाची ने कहा- ऊपर वाले कमरे में जाकर सो जाओ.

मैंने मानसी को बिस्तर पर लिटा कर उसकी चूत में लंड घुसा कर धक्के लगाना शुरु कर दिया.

मैंने कहा- कुतिया हाथ से हिला मत, अभी मुझे तीनों की गांड मारनी हैइस पर सब हंस पड़े. मेरी नींद खुली छह बजे, तो देखा मनीष के छह मिस्ड कॉल थे, मैंने तुरंत कॉल किया मनीष ने ऑन कर दिया. मेरी बातों को सुन कर पूजा उठ कर खड़ी हो गयी और मेरे लंड को पकड़ कर मुझे भी उठा दिया.

मैंने वैसा ही किया, एक जोरदार धक्का लगाया तो मेरा लंड नीरू की चूत को चीरता हुआ आधा अंदर तक जा समाया. शीतल- क्या?मयूरी- हाँ… जैसे मैंने आपको पापा से चुदते हुए देखा है वैसे उन दोनों ने भी कई बार देखा है और उन्होंने आपको पापा से गांड मरवाते हुए भी देखा है. हम दोनों में ऐसी कोई बात नहीं थी लेकिन वो दिखने में माल थी उसका फिगर 34-32-34 का है। कोई भी लड़का ऐसी गदरायी हुई जवान लड़की को चोदना चाहेगा। लेकिन मैं उसे दोस्त की बहन समझ कर उस पर अपनी कामुक दृष्टि नहीं डालता था.

छोटी लड़कियों की सेक्सी वीडियो

धर्मेन्द्र- गुड … अब मैं चलूं?मैं- जी, मगर मुझे यहाँ से दस किलोमीटर जाना है, अगर गाड़ी फिर बंद हो गयी तो?धर्मेन्द्र- वैसे तो बंद नहीं होगी अब आपकी गाड़ी, आप किस तरफ जा रही हैं?मैंने अपने घर की उल्टी दिशा के बारे में बता दिया. उसका गेट स्टोर वाले ने खोला और अंकित को बोला कि पहले तुम अन्दर जाकर पीछे बैठ जाओ. वहीं पास में एक तीन मंजिल अपार्टमेंट था, जिसमें केवल कुछ 4-5 कामकाजी औरतें रहती थीं.

इसलिए जब तुम्हें कल रात को देखा था तो रुक गयी थी कि शायद काम बन जाए.

इसके बाद तो पीछे गांड का दर्द सच में ऐसे गायब हुआ कि मुझे पता ही नहीं चला कि कब दर्द गायब हो गया.

उसके मुँह से निकल गया- तू भी …!मैंने पूछा- क्या तू भी?वो धीरे से बोली- मेरा मतलब तू भी मानेगा नहीं …मैं हंस दिया और कहा- आज मजा लेने का मन है. मैं कभी जीभ से निप्पल छेड़ता तो कभी मम्मे को मुँह में लेके चूसता, तो कभी हल्के से काट लेता. इंडिया वि ऑस्ट्रेलियामेरी पत्नी ने मुझको इशारा किया कि अब धीरे से इसकी चूत के अंदर अपना सुपारा डालो.

मगर जैसे ही सुलेखा भाभी के विशाल नितम्बों की गोलाई खत्म होने के बाद मेरी उंगलियां उनकी जांघों के जोड़ पर लगीं … वो हल्की सी नम हो गईं. फिर सबका घर जाने का टाइम हो गया, पर हम अभी भी एक दूसरे को चूम रहे थे और कह रहे थे कि ये दिन ज़िन्दगी का सबसे खूबसूरत दिन साबित हुआ. मैं मम्मी को ऐसे उदास देखकर उदास हो गया था लेकिन किया भी क्या जा सकता था.

बुर को गीला कर देने के लिये।”दिख तो रही नहीं थी लेकिन मैंने उंगली लगा कर देखा तो वाकई वह बहने लगी थी।अगर रेजर के इस्तेमाल से परहेज न हो तो कहो यह मलबा हटा दूं।”हटा दो. मैंने अपनी चूत में जीजू का लंड सटकते हुए फ़ोन उठा कर कहा- हां दीदी क्या कह रही हो … अच्छा आधे घंटे में आओगी … ठीक है … हां जीजू आ गए हैं.

चाचा- और तुम्हारी चूत भी तो कमाल की है मेरी रानी … इसे जितना ज्यादा चोदता हूँ, ये उतनी ही कोरी होती जा रही है.

मम्मीई … मेरे पास पहले की रखी हुई थी, जब मैं बीमार हुई थी ना … तब की बची हुई थी. उन्होंने अपना बेडरूम भी अच्छे से मेंटेन रखा था, बेड को और कमरे को देख कर लगता ही नहीं था कि ये यहाँ पर अकेली रहती हैं. मैं- चोद लो जीजा जी … जल्दी से चोद लो … आधे घंटे में मेरी चूत का भोसड़ा बना दो.

माँ से शादी रचाई अब श्यामा जगेश के सामने अपनी ब्रा खोल कर बैठ गई और वो उसके मम्मों को दबा दबा कर मुँह में लेने लगा. अब वो चिल्ला चिल्ला कर दोनों से मजा लेने लगी थी।दीपक- क्या गर्म औरत है यार … चोद के मजा आ गया।और वो धक्के की स्पीड बढ़ाता गया और कुछ देर बाद वो उसकी गाण्ड में ही झड़ गया.

रेवती के चेहरे पर हल्की सी मुस्कान थी और मेरी तरफ गंभीर मुद्रा में देखते हुए रेवती बोली- माफी क्यों मांगते हो सरस. मैं गिफ्ट लेने की कह कर जा ही रहा था कि उसने रोकते हुए आँख मारते हुए कहा- रुको यार, गिफ्ट भी ले लूँगी. रानी बोली- हप्प … कोई चैलेन्ज नहीं कर रहा आपको। अपने अरमान काबू में रखो.

सेक्सी व्हिडीओ सेक्सी फिल्म

आप खुश तो दिखती हो, मगर आप जितना अपने आपको दिखाती हो, उतना आप अन्दर से होती नहीं हो. करीब आधे घंटे इतना गैब्रियल ने मेरी चूत को चूसा और चाटा और मैंने मैक और पुनीत के लंड को चूसा और चाटा कि हम चारों मदहोश और पागल हो चुके थे. अब भाभी आसमानी रंग की पेंटी और उसी रंग की ब्रा में बहुत सेक्सी लग रही थीं.

जब भी मैं उसे पीछे से गर्दन पर किस करता था, तो वो बहुत उत्तेजित हो जाती थी और मुझे भी मज़ा आता था. कुंवारी चूत की चुदाई होनी तो अभी बाक़ी है, दूसरे भाग में पढ़ें कि सविता की अनछुई चूत की सील कैसे टूटी![emailprotected]कहानी का अगला भाग:साली ने अपनी मौसी की बेटी को चुदवाया-2.

अब दूधवाले ने रोज ही उस वक्त आना शुरू कर दिया जब नेहा बाथरूम में होती थी.

तभी मैडम की साड़ी से एक स्टैंड अटक कर मैडम के ऊपर गिरने को हो रहा था. पर मैं एक ही सेकंड में संभल गया और उसका हाथ हटाकर बोला- मैडम, ये आप क्या कर रही हो?मीनल मैडम- ओए चूतिये. मैं अपने हाथों से पूजा की चूचियों को पकड़ कर दबाने लगा और कभी कभी जोर जोर मसलने लगा.

उन्होंने बोला- जरा तसल्ली रख … रुक जा हमारे पास पूरी रात पड़ी है … खाना कहीं बाहर अच्छे रेस्टोरेंट में चल कर करते हैं. फिर प्रशान्त भी घबरा गया था और लंड को बाहर निकाल लिया था और फिर हमें तब से कोई मौका नहीं मिल रहा था।इसके बाद मैंने उसे घोड़ी बना दिया. तारा माइक के सीने को चूमती हुई नीचे झुक गयी और घुटनों के बल बैठ कर माइक के लिंग को उसके पैंट के ऊपर से ही चूमने और सहलाने लगी.

यह एक चीज सबके घर में रहती है; वो है उनका तकिया सोने वाला।अब उसमें सबसे पहले आपको एक छोटा सा छेद करना है और रूई होगी ही उसमें … अब उसमें अपनी इनरवियर यानी बनियान को छेद पर बिछा कर अपनी दो उँगलियों की मदद से उस बनियान को उस छेद में घुसा दें बिल्कुल वैसे ही जैसे किसी लड़की की चूत में दो उंगलियाँ घुसाई जाती हैं.

जवान लड़कियों का बीएफ: मैं बारी बारी से उसके दोनों मम्मों को चूसता और निप्पल काट लेता था, जिससे वो चिहुँक जाती थी और मुझे किस करने लगती थी. मैं भी उनकी संभोग क्रिया देख कर, अब बहुत व्याकुल हो चली थी और अब मुझसे भी नहीं रहा गया.

ये बात भाभी भी देख लेती थीं कि मेरा लंड फूल रहा है, तब शायना भाभी देखकर मुस्कुरा देती थीं, पर कुछ बोलती नहीं थीं. जो बहुत ही छोटी सी थी, जिससे सिर्फ चूत का त्रिकोण ही छुपा रह सकता था. उसकी सीई … सीई … आह … उहहह … आह … उई … सीईईई … की आवाजें निकल रही थी.

कभी जांघें, तो कभी नाभि और अचानक से उसकी बुर को मुँह में लेकर चूसने लगा, जीभ से बुर को कुरेदने लगा.

एकता भाभी ने रिया भाभी के दूध चाटे और मैं उनकी चुत और गांड चाट रहा था. खाना खाते हुए कभी कभी मैं रेवती के पैर को अपने पैर से छू देता तो रेवती मुस्कुरा जाती. अब वो मेरे लंड को चूसने के मूड में थी, उसने जांघ के आसपास किस करना और दाँत काटना शुरू कर दिया था.