हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म

छवि स्रोत,मारवाड़ी सेक्सी चूत की चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू पिक्चर दीजिए ब्लू: हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म, बरखा- अच्छा मान लेती हूँ, अब ये बताओ इन दोनों की चुदाई करना चाहते हो या नहीं?अतुल- तुम्हें अगर प्राब्लम नहीं.

सेक्सी फिल्म चोदा बाटी

दोनों ओर से पूरा जोश था… वो मेरी पीठ पर अपने नाखून गड़ा रही थी, मेरे कंधों पर दांतों से काट रही थी. देवर भाभी सेक्स पिक्चरमैंने भी नहा लिया और चड्डी के बिना ही कैप्री पहन ली और रूम में बैठ कर टीवी देखने लगा.

उस दिन के बाद अम्मा के वापिस आने तक माला रात हो या दिन मेरे ही साथ मेरे बिस्तर पर नग्न सोती थी और हम दोनों हर रात एक बार तथा अवकाश के दिनों में तो दो से तीन बार संभोग करते थे. கேரளா ஆபாச வீடியோमैं लंड हिलाता हुआ एक ओर हुआ और वो मेरे खड़े लंड को देखते हुए वापस चली गईं.

अतुल- मगर क्यों बरखा? तुम कैसे मुझे किसी के साथ ऐसा करने के लिए सोच सकती हो?बरखा- तुम्हारी ख़ुशी के लिए कुछ भी.हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म: आज 48 साल की उम्र में मुझे खुद याद नहीं के अब तक मैं कितनी लड़कियों को ठोक चुका हूँ.

दोस्तो, मैं पहली बार कोई चुदाई की कहानी लिख रहा हूँ, उम्मीद है कि आप लोगों को पसंद आएगी.पहले तो उतना कुछ नहीं था लेकिन उसमें इतने बदलाव की वजह से मैं हैरान था.

ಆಂಟಿ ಸೆಕ್ಸ್ ಮೂವಿ - हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म

खाना खा कर सब यहाँ वहाँ बैठ गए, हर कोई मंजीत के बदन और उसके गुप्तांगों को छू कर सहला कर अपनी अपनी ठर्क मिटा रहे थे.मैंने नोटिस किया कि शहज़ाद सर की नज़र लगभग मेरे पर ही रहती थी और वो किसी न किसी बहाने से मेरे से बात करने या मुझे इम्प्रेस करने की कोशिश करते रहते.

”तुम्हारे बेडरूम में चलो!”वहाँ क्यों? मनोज जग जायेंगे तो गजब हो जायेगा. हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म टीना- बात पहले की है जब मैं बहुत छोटी थी, तब पापा का बिजनेस अच्छा चलता था और मेरे एक अंकल थे जो उनके पार्ट्नर थे.

उधर सुमन भी घर आ गई थी और रात की उसकी नींद पूरी नहीं हुई थी तो वो सो गई.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म?

मौसी की शादी नहीं हुई थी, मगर उसे पति के सुख से मैंने महरूम नहीं रहने दिया. भाभी की चुद की कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने कमरे के नीचे वाले कमरे में रहने वाली बिहारन भाभी को चोदा. मेरी हिन्दी गे सेक्स स्टोरी के पहले भाग में मैंने आपको बताया था कैसे मेरी बात दिल्ली के एक लड़के से हुई.

मगर छूने पर काफी अच्छे लगते थे।मुझे सेक्स का ज्यादा पता नहीं था मगर मैं सेक्स के बारे में जानना चाहता था तो मैंने नेट कनेक्शन लिया और उस पर हिंदी सेक्स. मैंने अपने कपड़े निकाल दिए और भाभी को अपना 7 इंच लंबा लंड दिखा दिया. सुमन- नहीं दीदी मुझे डर लग रहा है कहीं संजय को पता चल गया तो?टीना- पागल मत बन.

मैंने मेनका के सौन्दर्य के बारे में सुना था कि वो स्वर्ग की सबसे सुन्दर अप्सरा थी पर आज ऐसा लग रहा था कि अगर कोई अप्सरा है जमाने में तो इससे खूबसूरत कोई नहीं हो सकती. फिर उसने मुझे हिलाया और पानी के लिए बोला तो मैंने नींद के नाटक करके ही उसके हाथ को पकड़ा और बोला- कौन? सर, मैं हूँ रजनी… आपसे पानी के लिए पूछ रही हूँ. थोड़ी देर में सबीना की आहें मस्ती और आनन्दमयी आहों में बदल गई और मैंने भी लण्ड को सबीना की गांड में आगे सरकाया.

यह मेरा पहला अनुभव था कि कोई लड़की से गले मिले, हालाँकि कुछ देर पहले ही चुदाई का नया पाठ सीखा था. 00 बजे ही उसका फ़ोन आया- काम वाली चली गई है, लड़की स्कूल गई है, अतः तुम आ जाओ.

भाभी एकदम सेक्सी पोज़ में दूध हिला कर बोलीं- जानू, इट्स फॉर अस फॉर रिमेंबरिंग दिस फकिंग.

पाव जैसी उनकी फूली हुई चूत जिस पर कामरस की कुछ बूँदें साफ़ चमक रही थी जैसे मुझे पुकार रही हो कि आओ और आज इसके रस में पूरी तरह से भीग जाओ.

मुझे जॉब के सिलसिले में कई बार बाहर जाना पड़ता है तो एक बार करीब एक वर्ष पहले मैं मध्यप्रदेश के एक छोटे से शहर नीमच 15 दिन के लिये गया. और हमको ये डील करना भी बहुत जरूरी है, तो क्यों न मैं ही जाकर अपने इस क्लाइंट को डेमो दे दूं. इस बार मेरा पूरा 7 इंच का लंड बुर को चीरता हुआ जड़ तक अन्दर पहुँच गया.

मोना ने गोपाल को यकीन दिलाया कि वो उससे गुस्सा नहीं है, उसको जो करना है. वो कहने लगी- राज क्या कर रहे हो? हटो यहाँ से, छोड़ो मुझे!और अपनी मेक्सी नीचे कर दी. मैं- अगर मैंने दवाई खाई हो, तो तुम्हारी चूत को कोई ऐतराज़ होगा क्या?इस पर भाभी ने हंस कर कहा- अरे नहीं ऐतराज़ कैसा … बल्कि मैं तो खुद दवाई खाकर आई हूँ … ताकि आज रात का पूरा मजा ले सकूं.

उन्होंने मेरे अकाउंट में रूपये भी डाल दिए थे ताकि मैं आराम से आ सकूँ और रहने के लिए होटल का इंतजाम भी कर लूँ अच्छे से.

?टीना- वो तेरी लूली से निकला था मगर ये बात तू किसी को बताना मत, नहीं सब तेरा मजाक उड़ाएंगे समझे. मगर एक बात मैं भी कहना चाहता हूं कि गांड मरवाना सच में बहुत मुश्किल काम है. लगता है तुमने चाचा का लंड चूस-चूस कर काफ़ी तजुर्बा प्राप्त कर लिया है.

वो बोला- आप सभी जो इस रूम में है, अपनी मर्जी से है और आप को जो भी करने के लिये कहा जायेगा, वो करेंगे और दूसरी बात यह है कि आप भाषाओं की मर्यादा के बन्धन में नहीं हैं, यह मूवी पूर्ण रूप से एडल्ट मूवी है, जिसमें आज की भाग दौड़ की जिन्दगी के विषय को उठाया गया है और लोगों के लिये सेक्स एक आनन्द का विषय नहीं रहा है. गोपाल वहां से चला गया नीतू ने उसको चाय दे दी और तब तक मोना भी उठ गई थी. उसको उसके स्मोक से भी कुछ प्राब्लम नहीं था।एक दिन वैसे ही जब मैं आया तो वो फिर से मेरी वो xxx पोर्न फिल्म वाली डीवीडी लगा कर देख रही थी। मैंने देखा और उससे पूछा- क्या हुआ.

रॉबर्ट सामने बैठ कर ड्रिंक कर रहा था और डांस करते हुए सिगरेट फूंकते हुए मुझे देख रहा था.

अब उसने ऊपर की ओर उभर चुकी गांड के छेद को निशाना बनाया और अपने चिकने, गीले लंड को अन्दर घुसा दिया. नमस्कार दोस्तो, मैं आप आप सभी को धन्यवाद करता हूं कि आपने मेरी पिछली कहानीभाभी ने कुंवारी लड़की की चूत चुदवा दीको पसंद किया.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म मनोज इनके सबसे निकट रहा है बचपन से ही तो मेरे साथ भी जल्द ही घुलमिल गया था. मेरी गांड की चुदाई की गे सेक्स स्टोरीज-1अब तक आपनेगांड चुदाई की कहानीमें पढ़ा कि सुकांत के बड़े भाईसाहब ने रात को मेरी जम कर गांड मारी।अब आगे.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म मैंने उससे बेड, जो अधूरा बना हुआ था, पर बैठने को कहा लेकिन वो तो बड़ा ही अकड़ू था यार. दस दिन बाद भाभी जालंधर आ गई और मेरी उनसे फोन पर मिलने की बात हो गई.

टीना की ये बात सुमन के समझ में नहीं आई वो बस सवालिया नज़रों से उसकी तरफ़ देखने लगी.

दुल्हन की सेक्सी बीएफ

मेरे पापा और उसके पापा दोनों एक ही कम्पनी में नाईट ड्यूटी का काम करते थे. मैं फिर से निढाल होने लगी, मगर पण्डित जी ने मेरे चूतड़ों को उठा उठा कर चोदना जारी रखा. थोड़ी देर मैं उन्होंने रेजर लाकर मेरी प्यारी सी मुनिया का मुंडन कर दिया.

अब धीरे-धीरे उसको भी मज़ा आने लगा था और गोपाल तो इस कमसिन कली के मुँह में झटके मारने लगा था. मैंने झट से दरवाजा बंद कर दिया और मामा जी के गले से लिपट गयी, मामा जी के गले को किस करने लगी, मेरी आँखें नम हो गयी, मैं मामा जी के गले से लिपट कर रोने लगी. जब सभी लोग नंगे हो गये तो वो दोनों भी अपने कपड़े उतार कर खड़े हो गये और घूमते हुए अपने पूरे जिस्म को दिखाने लगे.

‘ओओओओ… कितना शानदार! उम्म्ह… अहह… हय… याह… मजा आ गया! कितना गर्म है तुम्हारा!’ चूत के अन्दर पूरी खुराक मिलते ही मेरी नताशा बड़बड़ाने लगी.

उसकी चूत तीन बार पानी छोड़ चुकी थी, उसने कहा- अब तुम अपना कर लो, बाकी कल दिन में कर लेना. अब वो लंड को मुँह से निकालना चाहती थी लेकिन मैंने नहीं निकाला और अन्दर तक झटके मारने लगा. ‘ये तो है… आपस में बिल्कुल खुले व्यक्ति ही इस गेम का पूरा लुत्फ़ उठा सकते हैं… कोई पर्दा नहीं होना चाहिये आपस में!’ एंड्रयू ने मेरी बीवी की तरफ नजर भर कर देखते हुए कहा.

यही सोच कर मैंने उसे रोकते हुए कहा- ठीक है… देख लेंगे जो होगा… चलो तो सही!वह मान गया और हम लोग एक कमरे में गए जहाँ पर हल्का उजाला था और फर्नीचर अधूरा पड़ा हुआ था. मैंने तुरंत उससे एक कमरे का इंतजाम करने को कहा तो वो कुछ समय के लिए अपना कमरा देने को तैयार हो गया. जब गोपाल ने अपने होंठ नीतू की चुत पे लगाए तो वो सिहर गई और उसका विरोध कम हो गया.

आज कितने टाइम बाद आपकी गोद में सर रख कर सोऊंगी और आप मेरे बालों में हाथ घुमा कर मुझे सुलाओगे. मैं ऑफिस से चार बजे ही आ गया था, सांय के 5 बजे मैं स्कूटी की चाबी लेकर उसके ब्लाक के नीचे, स्कूटी के पास पहुंचा ही था कि वह लिफ्ट से बाहर आती हुई दिखाई दी.

तभी राज ने फोन पर बात खत्म की और उससे कहा- कम्मो, क्या हुआ?तब वो होश में आई. मैं अपनी जीभ उसके मुँह में डालकर घुमा रहा था, जिसमें वो मेरा पूरा साथ दे रही थी. मैं चाची के बूब्स मसल रहा था और चाची अपनी गर्म चूत मेरे लंड पर रगड़ रही थीं और आँखें बंद करके मजे ले रही थीं.

थोड़ी दूर पर दो तीन वार्ड बॉय घूम रहे थे, मैं बड़ी ही उत्सुकता से उनके पास गया लेकिन उनको देखकर कुछ भी करने का दिल नहीं किया, वो मुझे ठीक नहीं लगे, मुझे तो जवान मर्दाना जिस्म वाले मर्द चाहिए था जिसका फनफनाता हुआ दानवी लंड हो.

उसने मुझे खुद से अलग किया और मेरे लंड पर टूट पड़ी, मेरे लंड को किसी लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. अब राहुल और जय बिल्कुल नंगे थे और मैं सिर्फ अपनी छोटी सी कच्छी में था. सास की चूत पूरी गीली हो गई थी और बेटे जैसे जमाई के लंड को लेने के लिए तरस रही थी.

और सीधे साधे गुलशन जी अचानक से ऐसे कैसे हो गए? यही सवाल आप लोगों के दिमाग़ में चल रहा होगा है ना? ना ना. ये देख कर मेरा बेटा और जोश में आने लगा और फिर मैंने मेरे बेटे से कहा कि आज बस इतना ही करते हैं, बाकी कल करेंगे.

हालांकि इनका असर स्पष्ट नहीं दिखता, पर लंबी अवधि के बाद आप स्वतः अपनी कमजोरी को जान जाओगे. संजय तो जानता था कि वो कहाँ जा रही है मगर फिर भी उसने थोड़ा नाटक किया तो टीना उसे वॉशरूम का बोल कर सुमन को लेकर कमरे से बाहर चली गई. अब मैं उसके पेट से होता हुआ नीचे आया और उसकी बुर पर जैसे ही नजर पड़ी.

बीएफ वीडियो आवाज वाली

मैं उसको सबसे पहले अपनी बांहों में कैद करता था, उसके सारे बदन को चूमता था.

उसके बाद मैं दो बार और गया बड़ौदा और एक बार मोहन और कोमल भी मेरे साथ बड़ौदा में उनके साथ मस्ती करने आये. यह देखकर मनोज ने मुझे आँख मारी तो मैंने उसे नेहा को छोड़ कर मेरे सामने आने का इशारा किया तो मनोज मेरे सामने आ गया और मैंने सुलेखा को अपने कूल्हों पे कर लिया और उसके मम्मों को अपनी छाती से दबा कर उसके होंठों को अपने होंठों में लॉक कर दिया. मैंने स्कूटर को खड़ा किया और पास ही एक अधूरे बने मकान के अंदर उसे ले गया.

कहाँ पे मिलना है, बोलिए?उन्होंने अपने घर का एड्रेस दिया और बोलीं- आधे घंटे में आ जाओ।उसके बाद क्या था. उसके बाद ठंडा होकर लंड खुद-ब-खुद बाहर आ गया। और वे मेरी बांहों में समा गई।मुझे अब फिर से थकावट महसूस होने लगी थी। मैं थोड़ा आराम करना चाहता था। लेकिन वे मेरी बांहों में थी. चाचा भतीजी की चुदाईअबकी बार लंड घुस गया और 2-3 धक्कों में पूरा लंड चुत को चीरता हुआ अन्दर तक चला गया.

एक दिन की बात है सुबह का टाइम था कोई आठ बजने वाले होंगे कि वाइफ के फोन की घंटी बजी. मुझे देख कर वो जल्दी से फिर से बाथरूम के अन्दर चली गई और मुझसे तेज स्वर में बोलने लगी.

मामा मेरे निप्पलों को अपने दाँत में दबा कर खींचने लगे, मुझे बहुत गुदगुदी सी हो रही थी. फिर 5 मिनट बाद जमीला ने सबीना को छोड़ा और मेरे सीने पर हाथ रखकर जोर जोर से मस्ताना पर उछलने लगी. फिर हम बारात लेकर लड़की वालों के घर गए और वहाँ पर रवि ने कैसे एक लड़की की चूत मारी.

तभी उन्होंने चूसना बंद करके मुझे थोड़ा सा उठा कर मेरी टांगों को अपनी कमर से बाँध लिया और अपना मोटा लंड मेरी चुत पर रगड़ कर कहा- अब तेरी चुत को चोदूँगा. उसने मेरे हाथ को हटाने की कोशिश की लेकिन मैंने उसको बोला- प्लीज कुछ देर शांत रहो, तुमको आराम मिलेगा. फिर मैंने अपने दोनों हाथों से मामी के दोनों मम्मों को पकड़ लिया और आँख बंद किए हुए सोया रहा.

मनोज ने अपना लंड मेघा की चूत में से निकाल कर उस के बूब्स पे अपना पानी छोड़ दिया और उसे लिप किस करने लगा.

जब गोपाल ने नीतू के पैर उसे चोदने के लिए फैलाए, तभी पीछे से मोना ने गुस्से में आवाज़ लगाई- ये क्या हो रहा है?जिसे सुनकर गोपाल की सारी वासना हवा हो गई. यह मेरा पहला अनुभव था कि कोई लड़की से गले मिले, हालाँकि कुछ देर पहले ही चुदाई का नया पाठ सीखा था.

सुमन ने मेनडोर अनलॉक किया हुआ था और खिड़की से छुपकर वो अपने पापा के आने का इन्तजार कर रही थी. ओह्ह्ह ये लो मेरा लंड अपनी चूत में ये लो फिर से लो, ले लो मेरी रानी, मेरी जान उईई आह. एक-दो दिन तो गुलशन जी ने कंट्रोल किया मगर एक जवान लड़की उसके साथ एक ही बिस्तर पे सोए तो नियत बिगड़ने में देर नहीं लगती.

फिर उन्होंने मुझे छेड़ते हुए कहा- कोई दवाई खा रखी है क्या?इस सवाल पर नया आदमी झैंप कर जवाब देता. मोना तो ये सुनकर सोच में पड़ गई कि इतने करीब के रिश्ते में भी ये सब होता है क्या?मीना- अब देख तू गाँव जाए ना. वो बोलीं- क्या तुम्हें पता है कि इनको छूने से औरतों को घबराहट सी होती है?मैं चुप होकर सो गया, फिर थोड़ी देर बाद वो खुद से मेरा हाथ पकड़कर अपने मम्मों पर रख कर बोलीं- क्या करना चाहते हो.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म com/chachi-ki-chudai/chachi-ki-kali-choot/चाची की चुत में बहुत ही ज़बरदस्त खिंचाव हुआ! उन्होंने मेरे लौड़े को जकड़ कर जब अंदर की ओर खींचा, तब मुझे ऐसा लगा कि मेरा लौड़ा टूट कर उसकी चुत में ही घुस जाएगा. उनकी नज़र भी जब मेरे लंड पर पड़ी तो वो मुस्कुरा कर किचन में चली गईं.

बीएफ देखने वाली चलने वाली

नहीं एयेए आह…फ्लॉरा को अब डबल मजा मिल रहा था तो वो कहाँ तक टिक पाती. तभी उसने मेरी पैन्ट खोल कर हाथ से मेरा लंड पकड़ कर बाहर निकाल लिया और मसलने लगी. फिर मैंने सन्नी और विकास को इशारे से अंदर आने के लिए कहा तो ऋतु दरवाजे के पास खड़ी हुई नंगी ही उनका वेट कर रही थी.

मैंने उसका नंगा बदन देखा, और बालों से भरी उसकी चूत देखी तो मेरा मन मचल उठा, मैं सोच रहा था, आज इस चूत में मैं अपना लंड डालूँगा. उसका चेहरा सुबह की रोशनी में चमक रहा था तथा उस पर एक अबोध बच्चे के जैसी मासूमियत थी जिसे मैं बिना हिले डुले चुपचाप निहारते हुए बीती रात के प्रसंग के बारे सोचने लगा. भाई की चुदाई वीडियोमेरे हाथ अपने आप उसकी छाती पर जा चिपके और मेरी उंगलियाँ उसके निप्पल को सहलाने लगी.

अब शायद वो भी समझ गया कि मैं कहाँ और क्यों देख रहा हूँ लेकिन उसने फिर से आँखें बंद कर लीं और ऐसा करते हुए एक बार अपनी जिप वाला भाग हल्के से खुजला दिया और ऐसा करने से उसका सोया हुआ लंड उसके लेफ्ट हैंड की तरफ साइड में दिखने लगा.

तो बस गुलशन जी आपे से बाहर हो गए। ना जाने क्या सोच कर उनका लंड पेंट में तन गया। उनके दिमाग़ में सुमन को लेकर कुछ नहीं था मगर वो कपड़े देख कर वो उत्तेजित हो गए। इधर बेचारी सुमन का शर्म से बुरा हाल था. यह बात उस समय की है जब मैंने अपनी बारहवीं क्लास पंजाब के ही एक स्कूल से पास की थी और मैं अपने कैरियर को आगे बनाने के लिए किसी खोज में था.

इन दोनों ने उसे हैलो किया, फिर उसके पास खड़ी हो गईं संजय बस सुमन को निहारता रहा. अब लगभग 11:30 बज चुके थे, मैंने सोचा कि अब वह अपने काम से फ्री हो गया होगा, अब चलकर लंड लेने का प्लान बनाना चाहिए. अब तक की बहन की चुदाई की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि रात को जॉन ने फ्लॉरा को नशे की गोली देकर सुला दिया और उसके नंगे शरीर खूब मसला पर चोद नहीं पाया.

थोड़ी देर बाद मुझे दूल्हे का कॉल आया- तुम्हें सब यहाँ बुला रहे हैं.

दोस्तो, क्या बताऊं कितना मस्त लग रहा था, मानो रसीले संतरे की फांकें चूस रहा हूँ. वो दूसरे कमरे में गया और उसने अपने सारे कपड़े निकाल दिए फिर चादर ऊपर डाल कर लेट गया. मेच्योर औरत और जवान लड़कों की क्लिप्स… मैं समझ गया कि जीजाजी के मन में क्या है.

xxx वीडियो हिंदीशाम के 8 बजे थे तो दीदी ने खाना लगाया और खाना खाकर हम दोनों टीवी देखने लगे. थोड़ी देर ऐसे ही दबवाने के बाद मोना ने उसे रुकने को कहा और उसे वापस अपने पास लेटा लिया.

सनी लियोन का बीएफ 2021 का

तभी सुरेश ने मुझे सीधी कर के अपना लंड मेरी चूत पे ठिकाया और एक ही झटके में पूरा लंड मेरी चुत में घुसा दिया. गुलशन जी चले गए और अनिता सोच में पड़ गई कि ये आदमी अच्छा है या बुरा. पूजा के लिए ये बहुत था, वो बेड पर लेटी हुई मचलने लगी और अपने एक हाथ से मुझे और दूसरे से ऋतु को धक्का देने लगी पर ऋतु ने उसकी दोनों टांगों को इस तरह से जकड़ रखा था कि वो छुड़ा ही नहीं पाई और मैं तो उसके चेहरे पर बैठा था और मेरे वजन को हटा पाना उसके बस का नहीं था.

अब उन्होंने मुझे नीचे लिटाया और एक एक करके मेरे सारे कपड़े निकाल दिए. भाभी- तो आपकी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है? आप तो इतने स्मार्ट हैं?मैं- साल भर से तो आपके पीछे लग गया भाभी, कहां से किसी और को दिखता हूँ स्मार्ट?मैंने चुटकी ली. मेरा पूरा माल उसके पेट पर गिरा उसे अच्छा फील हुआ, फिर किस करके हम दोनों उठे और फ्रेश होकर वापस निकल गए.

उसकी सांसों से बहुत ही मधुर सुगंध आ रही थी… वह कामदेव की पत्नी रति लग रही थी. आआअ स्ससस स्स्सह…हाहाह!”15 मिनट धीरे धीरे तड़पा तड़पा के चोदने के बाद उसका पानी निकल गया ‘आआ समीर आआआ हाहाह… तुमने बहुत तड़पाया मगर ऐसे चुदने में मजा भी बहुत आया. अब मेरी चूत में बहुत सी हलचल हुई और मैंने अपनी आवाज़ छुपाने के लिए खाँस दिया.

चन्दन का गर्म हाथ घुंडियों को रगड़ने से संगीता की चुत में सिहरन होने लगी थी- उफ. ’फिर टीचर ने कहा- कपड़े पहन लूँ?मैंने कहा- कौन सा कोई देख रहा है।टीचर हंस दीं.

नवीन ने मेरे मन में एक बात कूट-कूट कर भर दी है कि अलग लिंग का अलग मजा!मैं वही मजा लेना चाहती हूँ!खैर, एक दिन ऐसा ही हुआ कि मनोज हमारे यहाँ दो दिन के लिए आया.

अब दोनों ही शांत पड़ गए थे।दोस्तो, रात भर सुधीर ने मोना की चुत और गांड जम कर मारी और सुबह गोपाल के आने से पहले वो वहां से निकल गया।उधर हमारी कॉलेज गर्ल सुबह सुमन रोज की तरह तैयार होकर घर से निकल गई. लड़की की बीपी”मैं जान गया कि भाभी को जल्दी ही चोदना पड़ेगा क्यूंकि उसकी ननद के आने का वक्त हो चला था…भाभी ने अपने हाथ से अपनी नाईटी को ऊपर किया. देसी सेक्स कमप्राची भाभी ने कहा- मैंने बहुत से लंड सहलाए हैं … पर तेरे जैसा चिकना और बड़ा सुपारा आज तक नहीं मिला था. तब तो इस अजगर को मौका देना ही पड़ेगा, मगर इस बीच सुमन आ गई तो?गुलशन- वो रात की जागी हुई है अब तक सो गई होगी.

असल में सारा कमाल जो है ना… आपकी टोपी का है… आपकी टोपी जिस तरफ जाकर रगड़ती है उधर ही बस मजा चढ़ता है.

उसके बहुत विशाल, गोरे बोबे मेरी कमर के धक्कों से आगे पीछे, इधर उधर झूल रहे थे. थर्ड में तीन बर्थ उबलब्ध थीं मैंने फुर्ती से अप्लाई किया तो मेरी बर्थ कन्फर्म हो गई. फिर हम दोनों एक साथ अपना पानी छोड़ने वाले थे तो मैंने उससे पूछा- अन्दर ही छोड़ दूँ?उसके कुछ कहने से पहले ही सारा का सारा माल उसकी चूत में ही निकल गया और मैं उसके ऊपर ही लेट गया.

मैंने लंड को बाहर पूरा खींचा और एक ही बार में घुसा दिया, इस तरह चार बार किया. मगर उनके लिए मैं तो एक रंडी थी, मेरी पूरी कीमत वो अदा कर चुके थे, बिना कोई दया किए दोनों घचाघच अपने लंड अंदर बाहर करने लगे. और मैं क्या स्मार्ट भाभी … कौन सी ये स्मार्टनेस कुछ काम आ रही है?भाभी- क्यों?मैं- हां कहां काम आ रही है.

इंडियन बीएफ देखने वाली

संजय- वाह टीना कमाल कर दिया तूने अब जैसा हमने प्लान किया था, बस वैसे ही करना ताकि सुमन खिंची चली आए. अब संजय ने थोड़ी स्पीड भी बढ़ा दी थी और पूजा भी मस्ती में आने लगी थी. अगर आपको मेरी फ्री सेक्स मसाज की कहानी पसंद आई हो तो मुझे ईमेल कीजिएगा.

मैंने रोहन को इशारे से कहीं जाने के लिए कहा था कि मुझे सरिता से बात करने का मौका मिले, रोहन के जाते ही मैं सरिता के पास बैठ गया और उसकी तारीफ करने लगा.

तभी उन्होंने चूसना बंद करके मुझे थोड़ा सा उठा कर मेरी टांगों को अपनी कमर से बाँध लिया और अपना मोटा लंड मेरी चुत पर रगड़ कर कहा- अब तेरी चुत को चोदूँगा.

तुम्हें उनसे कोई काम है क्या, जो ऐसे उतावले हो रहे हो?संजय- मुझे क्या काम होगा, मैं तो ऐसे ही पूछ रहा हूँ. चाची के मुँह से उफ्फ्फ्फ़ निकली और बोली- अबे साले, अनाड़ी है… फिर से कर!फिर चाची लंड को चुत के मुँह पर सेट किया और लंड को पकड़े हुए बोली- अब जोर से कमर दबा…मैंने दबाव दिया पर फिर लंड फिसल गया. xx.com वीडियो हिंदीफिर चुद जाने के बाद अगले दिन जब वो राज खुल ही गया था कि मैंने, उसके ससुर ने ही उसे चोदा था, उसके बाद भी वो मुझसे कई बार चुदी थी.

मैं कभी उसके गले को चूमता… कभी उसके गालों पर चुम्बन करता… कभी उसकी आँखों पर चूमता. अब वो अपने आपको थोड़ा आगे पीछे करके अपने लंड को मेरे हाथ से बार बार टच कर रहा था. तभी राज ने फोन पर बात खत्म की और उससे कहा- कम्मो, क्या हुआ?तब वो होश में आई.

अब गुलशन जी का लंड खड़ा होगा तो उन्हें तो पता होगा ही ना, बस वो बेचैन हो गए और उन्होंने चादर में हाथ डाल कर लंड को एड्जस्ट किया ताकि सुमन को पता ना लगे. अब जैसे मैं जोर से उसके चुचे मसलता, तो वो भी लंड पर अपना दबाव बढ़ा देती.

उसे चोदने का ख्याल मेरे दिमाग़ से निकल गया था और जैसे ही तौलिया निकला, मैं डर के मारे उससे फिर से लिपट गया ताकि उससे पता ना चले.

अन्तर्वासना पर मेरी यह पहली सेक्स स्टोरी है। यह कहानी 4 साल पहले शुरू हुई थी, तब मैं एग्जाम की तैयारी कर रहा था. इस कहानी की नायिका मेरी पिछली कहानियों को पढ़कर ही बहुत प्रभावित हुई थी।उन्होंने मुझे कांटेक्ट किया, वे मुझसे बोली कि वे मुझसे बात करना चाहती हैं. कहीं तू अपने पापा से चुदवाने के चक्कर में तो नहीं है ना?सुमन- छी: छी: दीदी आप कैसी बातें कर रही हो.

सारी वाली भाभी की चुदाई मैंने बेड के दूसरी ओर जाकर जमीला की गांड के नीचे एक तकिया लगाया और जमीला की गांड में थूक लगा कर मस्ताना को पेलने लगा. अगर उस वक़्त मैं ना रोकती, तो वो तेरी चुत में लंड घुसा देता और मुझे पता है कि तू भी उसे नहीं रोक पाती.

मैंने तेरी माँ को जब सहारा दिया, जब उसके पास कोई चारा नहीं था और तुझे अच्छे स्कूल में पढ़ाया. एंड्रयू और स्वान भयंकर गति के साथ अपने लंडों को चूत और मुंह में पेलने के बाद थक कर रुक गए लेकिन मैं धीरे-2 अपनी जानेमन की गांड में अपना लंड पेलता रहा. उधर सुधीर रात को मोना के पास आ गया था और वो दोनों कमरे में नंगे एक-दूसरे की बांहों में प्यार में खोए हुए थे.

ट्रिपल सेक्स बीएफ बीएफ

मेरे हाथ कभी उसकी मोटी भरी हुई गांड को नोचते, कभी उसके स्तनों को!ऋतु बेकाबू होती जा रही थी, उसने खुद को पीछे करते हुए मेरे मुँह में अपनी चूत को जोर जोर से रगड़ना चालू कर दिया. अगले दिन सुबह जब मैं 8 बजे उठा और सुसू करने गया, तब पहले जैसा दीदी आ गईं. मुझे तो उसके बड़े-बड़े बूब्स दिखने लगे।संजय ने सबको कुछ समझाया कि आगे क्या करना है।साहिल- ओह वो आ रही है.

मैंने उसे एक और उंगली डालने को बोला, अब वो 3 उँगलियाँ मेरी चूत में डाल कर मुझे पूरा आनन्द दे रहा था और मैं उसके लंड को जितना कठोर बना सकती थी, बना रही थी. मैं मज़ाक-मज़ाक में कभी उसके संतरों को छू लेता तो वो नाराज़ हो जाती.

मैंने उससे पूछा- तुम तैयार हो क्या?तो वो बोली- ये पूछने की बात है क्या!मैंने उसको आगे झुकने के लिए बोला और पीछे से उसकी चुत मारने लगा.

जब से रीना की शादी हुई थी, उसके जीवन में सूनापन था, पर वो रीना को डिस्टर्ब नहीं करना चाहती थी. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:एक लंड और पूरे परिवार की चुदाई-2. मुझसे नहीं होगा!साहिल- अरे ये क्या बात हुई तो हमारे लिए तूने कुछ तो सोचा होगा!टीना- सोचा है ना.

एक दिन मैं बैठा हुआ अखबार पढ़ रहा था, तभी मेरी नजर क्लासीफाईड कॉलम पर पड़ी. फिर ऐसे मैंने भाभी की चुत को दस मिनट तक चाटा और हम 69 की पोज़िशन में आ गए. भाभी की जुबान का मेरे लंड के सुपारे पर फिरना क्या हुआ, मेरे मुँह से एक मीठी सी आह निकल गई.

प्रोग्राम के मुताबिक वह मुझे अपनी स्कूटी की चाबी दे देगी और मैं उसकी स्कूटी ले कर सोसाईटी से बाहर आ जाऊंगा और उसको बैठा कर खाली प्लॉट्स में ले जाऊंगा.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो फिल्म: मोना ने थोड़े कड़क अंदाज में ये बात कही, तो नीतू झेंप गई और चुप होकर लेट गई. मेरे दोस्तों ने भी मुझे टोका, मैंने उस लेडीज़ को सॉरी कहा, रिंग सेरेमनी का प्रोग्राम खत्म हुआ तो बधाई देने का और फोटो खिंचवाने का दौर चल पड़ा, हम दोस्त के पीछे खड़े होकर मज़ा ले रहे थे पर बार बार मेरी नज़र एक लेडी पर पड़ी जो रिंग सेरेमनी वाले इन्सिडेंट के बाद से लगातार घूरे जा रही थी.

वो इतनी मदहोश हो गई थी कि मैंने उसकी सलवार और पेंटी पूरी तरह से उसकी टांगों से निकाल दी और उसे पूरी नंगी कर दिया. वो बड़ा अजीब सा लगा दीदी नर्म सा गिलगिला सा है।टीना- सोया लंड ऐसा ही होता है, चल निकाल जल्दी. मैंने पहले सुलेखा के मम्मों पे किस की और उसकी चूचियाँ को चुसना शुरू किया और फिर उसके होंठों को अपने होंठों में ले लिया.

उफ्फ… कितना अपनापन, कितनी गर्माहट थी उसके चुम्बन में… मेरा बस चलता तो मैं सारी रात यूं ही चूमने चाटने और अधर चुम्बन में गुजार देता!लेकिन समय की बंदिश थी, एक एक पल कीमती था, अतः मैं उसके ऊपर से थोड़ा उठा और उसका पेट नाभि चूमते हुये उसकी साड़ी निकाल दी और पेटीकोट के ऊपर से ही उसकी जांघें सहलाने लगा.

इसका एक और मतलब ये भी था कि प्राची भाभी ने अभी तक किसी संतान को जन्म नहीं दिया था. कितने प्यार से लंड चूसती है मेरी बहूरानी और कितने समर्पित भाव से अपनी चूत मुझे देती है, जैसेकोई अनुष्ठान, कोई यज्ञ हो. आगे की बात उन्हीं की जुबानी सुनो:ओह मनोज, इतनी सुबह क्यों फ़ोन कर दिया? रात को भी बहुत देर हो गई थी.