बीएफ चाची की

छवि स्रोत,इंग्लैंड सेक्सी डांस

तस्वीर का शीर्षक ,

ठाकुर साहब: बीएफ चाची की, इस तरह काफी महीने निकल गए, हम लोग एक दूसरे से काफी खुल से गए पर लिमिट उन्होंने कभी क्रॉस नहीं की.

ऐश्वर्या राय ओपन सेक्सी वीडियो

नेहा थोड़ा सा कसमसाई और उसकी मेरे लंड का एहसास जैसे ही अपनी चूत में हुआ तो उसे मजा सा आ गया और वो अपने मुंह से सिसकती हुई बोली- अहह उई…उम्म्ह… अहह… हय… याह… सी सी सी. फुल बीपी सेक्सी पिक्चरदेर तक मेरी गांड मारने के बाद जब वो झड़ने को हुआ तो उसने अपना लंड मेरी गांड से निकाल कर वापस मेरी चुत में डाल दिया.

साथ ही मैंने दीदी की नाइटी निकाल कर उनको सिर्फ़ ब्रा और अंडरवियर में रहने दिया. सेंड की सेक्सीफिर उन्होंने मेरे सामने ही अपनी साड़ी उतार दी और फिर दूसरी तरफ घूम कर मेरी तरफ पीठ करके अपना ब्लाउज भी उतार दिया और मैक्सी पहन ली.

वो फिर से दर्द में आ गई लेकिन इस बार मैंने धक्का मारना बन्द नहीं किया और वो भी कुछ देर में मेरा साथ देने लगी.बीएफ चाची की: आपने मेरी पिछली कहानीगर्मियों की छुट्टियाँ और चुदाई का मजाhttps://www.

थोड़ी ही देर बाद दीदी ने कहा- संचू प्लीज़, अब रहा नहीं जाता, लंड मेरी चूत में डाल दो और मुझे चोद दो.आंटी ने हंस कर कहा- अगर ऐसा था तो पहले क्यों नहीं बोला?मैंने देखा कि आंटी भी जोश में आ गई थीं.

मारवाड़ी गाना सेक्सी - बीएफ चाची की

पिंकी- ऐसा क्या अच्छा है मुझ में?मैं- सब कुछ है टीचर, ऊपर से नीचे तक सब कुछ मस्त है.उसने मेरे गाल पर एक लम्बा सा चुम्मा दिया, तो मैंने उसके होंठों से होंठ लगा दिए और होंठ चूसने लगा.

चाची- तो छोड़ क्यों दिया?तभी मैंने चाची को फिर से वैसे ही पकड़ा और उनके होंठों पर जोर से किस कर दिया. बीएफ चाची की रात के करीब 12 बजे मैंने उसे कॉल किया, वो भी लग रहा था मेरे फ़ोन का ही वेट कर रही थी.

मैंने थोड़ा परेशान होते कहा- और मेरा?उसने लिस्ट देखी और बोला- सॉरी सर, आपका सीट यहीं है पर अंदर वाली तरफ!उसकी बात सुनकर मुझे थोड़ी राहत मिली और रश्मि कि चेहरे पर चमक आ गयी और मुझे ‘सफर में डुबकी’ की संभावना का हल्का सा आभास हुआ.

बीएफ चाची की?

निकाल इसे प्लीज!मगर मैं ना मानी, मैंने उस वाइब्रेटर को थोड़ा बाहर निकला और फिर पूरी ताकत लगा कर फिर से उसकी चुत में घुसा दिया. तभी राहुल को एक शरारत सूझी और वो उनके पीछे से उनकी गांड पर अपने अगले हिस्से से ठोकर मारने लगा और जब उसका लंड थोड़ा खड़ा हुआ तो उसने पैंट के ऊपर से निशाना लगा कर गांड के पास दे मारा, जिससे वो पलट कर खड़ी हो गईं. पर आपसे एक आग्रह है कि आप मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें और मुझ पर कमेंट्स ना करें.

वैसे भी जब तक वो पक्की चुदासी होकर खुद नहीं कहती, तब तक मैं उसे नहीं चोदने वाला. एक बंदा मेरे चूतड़ों से बह चली शराब को चूसने में मस्त था और कोई मेरे चहरे से लेकर पूरा ऊपरी हिस्सा काट खा रहा था. अपनी गांड मेरे मुँह के पास रख और अपने मुँह को मेरे लंड पर रख कर लेट.

मगर इस वक़्त उसको चुत तो नहीं मिली लेकिन एक कमसिन कली का स्पर्श उसको और पागल बना रहा था. इसी स्थिति में मैंने बहूरानी की चूत में लंड पेल दिया और दस बारह धक्के लगा कर बहूरानी को तैयार किया. उसे उस अहसास में मजा आने लगा और वो ये भी भूल गया कि ये चूचे किसी और के हैं, उसके नहीं.

जैसे ही हम सभी फिर से बिस्तर पे एक साथ हुए तो मैंने कहा- यार, अब शर्म और झिझक का कोई काम नहीं, दोनों लड़कियां हमारे पास आओ. लेकिन मैं सबसे निवेदन करती हूँ कि कहानी पढ़ते-पढ़ते आप मेरी नाम की मुठ मारें और सारा वीर्य मेरे बदन पर डाल दें क्योंकि मुझे अब वीर्य की खुशबू बहुत अच्छी लगती है.

मम्मी-पापा फिर गाँव गए और वहाँ पता चला कि उसके ससुराल वाले उसे अब रखने को रेडी नहीं हैं तो वो गाँव में ही अपने घर पर ही अपने बच्चे के साथ रहने लगी.

लंड पे मुँह आगे पीछे करते हुए लंड बहुत मस्ती से चूसते हुए रूपा बोली- अब मुझे लंड चूसने देगा या नहीं गाँडू? अब मेरी बेटियों के बारे में कुछ मत पूछना जब तक तू मेरी चूत में अपना पानी ना डाले.

ये सब देखने के बाद मैंने मुठ मारी और वहां से चुपचाप अपने कमरे में चला गया. यह भूतिया कहानी पूर्ण काल्पनिक है अपने चुदाई के अनुभवों को कहानी की शक्ल में ढालकर लिखी गई है. फिर अपने लंड को उसके मुँह पर लगा दिया, उसने मना किया पर मैंने ज़बरदस्ती उसके मुँह में लंड पेल दिया.

मेरे हाथ उसके मोटे गद्देदार चूतड़ों पर जाकर रुक गए और मैं उसकी मोटी गांड को दबाता हुआ उसके अंडरवियर की गंध लेने लगा. खूब मस्त चूसती है तू लौड़े को नीता, ऐसा ही मजा आया था जब तेरी माँ ने मेरा लौड़ा चूसा था, पर तू कमसिन है, अनचुदी है… इसलिए और अच्छा लग रहा है मेरी रंडी नीता, ऐसे ही चूसती रह अपने पप्पू अंकल का लौड़ा. फिर मामा जी ने पूछा- तू मुझसे नाराज़ तो नहीं ही ना?मैंने पूछा- मैं नाराज़ क्यों हूँगी?मामा बोले- मेरे लिए जो तुम इतनी दर्द सहती हो?मैं बोली- हाँ, नाराज़ तो हूँ मैं आप से!मामा बोले- कैसे?मैं बोली- आपने जो अपना लंड इतना लम्बा और मोटा बना रखा है, ये हर बार चुदाई में बेहिसाब मीठा मीठा दर्द और अहसास दे जाता है.

मैं बता दूं कि मेरे कोई मामा नहीं हैं, बस एक मौसी हैं और उनके दो लड़की और एक लड़का है.

मेरे घर के वाले घर में मेरे चाचा चाची रहते हैं, वो मेरे सगे चाचा नहीं है बल्कि पड़ोसी होने के नाते हमारे परिवारों के प्रगाढ़ सम्बन्ध है तो मैं उन्हें चाचा चाची कहता हूँ. जब तरुण ने डोरी बाँध दी तब मैंने चुनरी ओढ़ कर चुपचाप खाना खाया तथा उसके बाद झूठे बर्तनों को साफ़ करने के लिए नलकूप पर चली गयी. मैं रसोई में सिर्फ ब्रा और पेंटी में गई और चाय बना लाई और हम बेड पर उसी हालत में बैठे-बैठे चाय पीने लगे.

वो इस दौरान दूसरी बार झड़ गई थी, लेकिन मेरा चुदाई का सिलसिला चालू ही था. जब भी मैं तरुण के नग्न लिंग को देख लेती तब दिन हो या रात हर समय मुझे आँखें बंद करते उसी लिंग की छवि दिखाई देती रहती. उन्होंने मेरे खड़े लंड को अपने मुँह में भर लिया और उसे चूसने लगीं, लेकिन उन्हें ब्लोजॉब करना ज्यादा पसंद नहीं था सो उन्होंने जल्द ही लंड को अपने मुँह से बाहर निकाल दियापिंकी- अब डाल दो इस लंड को मेरे अन्दर.

उसने मेरे लंड को चुत पर टिकाया और बैठने लगी और एक ही झटके में उसने लंड को अपनी चुत के अन्दर ले लिया.

मैंने अपनी बहन से पूछा- कैसा लग रहा है?मैं महसूस कर रहा था किमेरी बहन की चूचीके निप्पल सख्त हो गए थे और उसकी चुत बहुत अधिक भीग गई थी, उसके रस से मेरी झांट तक गीली हो गई थीं. पहले तो मुझे अजीब लगा लेकिन फिर मैंने अपना पैर हटा लिया और सीधे होकर बैठ गया.

बीएफ चाची की सुमन ने हालत को समझते हुए जल्दी से कपड़े ठीक किए और झूठ मूट का नाटक करने लग गई. करीब 11 बजे मेरे रूम का दरवाजा अपने आप खुल गया क्योंकि मैंने अंदर से कुण्डी नहीं लगई थी.

बीएफ चाची की शादीशुदा लड़की का कुंवारी सहेली से प्यार-1दोनों सहेलियाँ रात को लेस्बियन सेक्स के बाद सो गई. एकदम सुन्दर सी परी, उसकी हाइट करीब 5 से कुछ इंच ही ज़्यादा होगी, भरी हुई गठीला बदन, चूचियां ऐसी कि दोनों हाथों से पकड़ने की कोशिश भी करूँ तो भी काबू में ना आएं.

आराम से चूसो उफ्फ आह…काफ़ी देर तक गुलशन जी अपनी बेटी के मम्मों को चूसते रहे.

सेक्सी वीडियो एचडी बीएफ हिंदी में

फिर थोड़ी देर बाद मैंनेभाभी की चुत में अपना लंडपेला और उनको चोदना चालू कर दिया. तो राहुल हल्का सा मुस्कुरा दिया, तब अनामिका जी लंड को हल्का सा दबाते हुए बोलीं- देखते हैं कि कितना दम है, कल हाफ डे है. वो बहुत नाराज़ हुई और मुझे उस लड़की को तुरंत मना करने के लिए बोलने लगी.

नीचे आधी साड़ी बंधी थी, जिससे उसकी टांगों को उघाड़ कर देखने की तकलीफ नहीं हो रही थी. मैंने बनते हुए पूछा- आप कहाँ रहते हैं?उन्होंने बताया कि ये सामने वाली बिल्डिंग में रहता हूँ. मेरी टीम के सभी लड़के किसी ना किसी को लाइन मारते थे, लेकिन मेरे को श्रुति और एक और लड़की थी, बस वही पसंद आती थीं.

मैंने तो उसे बचा लिया है तुम्हारे लिए, नहीं तो कब का चुदवा चुकी होती.

मैंने कहा- आधी क्यों? अब तो तुमने मुझे पूरी तरह से औरत बना दिया है. जब डॉक्टर को दिखाया तो पता लगा ये कुछ गम्भीर किस्म के चकत्ते से हो गए हैं जो कि एक किस्म की एलर्जी होती है, इसमें जिस्म पे कुछ भी नहीं पहना जाता क्योंकि इन चकत्तों पर कुछ भी टच होता है तो ये और फैलते हैं. टीना- इसमें खास क्या है, ये तो पहले भी हो चुका है ना यार!सुमन- सुनो तो आप, मैंने पापा का लंड देखा है.

रही बात गर्म करने की तो क्या तूने आज तक अपने मर्द को भी तुझे इतना गर्म करते देखा है? तू तो चुदवाने के पहले ही रांड बन गई है. उसने लिखा था कि वो दिखने में भी काफी आकर्षक है और ग्रेजुएशन करने के बाद घर पे ही रहती है. ऊपर कैसे आ गईं?भाभी बोलीं- क्यों क्या हम ऊपर नहीं आ सकते?मैं बोला- आ तो सकती हो.

मैंने उसके दोनों मम्मों को टी-शर्ट से पूरी तरह से बाहर निकाल लिया और एक चूचे के निप्पल को मुँह लगा के चूमा, फिर निप्पल के साथ मम्मे के कुछ भाग को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. वो सिर्फ पेटीकोट में झुककर झाडू लगा रही थीं, उससे पीछे से उनकी गांड की दरार भी साफ़ दिख रही थी.

मैं उसके चूचे दबाने लगा और उसे होंठों पर किस करने लगा ताकि दर्द से उसका ध्यान भटके!थोड़ी देर बाद जब उसका दर्द कम हुआ तो मैंने धक्का लगाना शुरू कर दिया. सुमन- ये तो अपने बहुत मस्त आइडिया लगाया है मगर आपसे एक बात कहूँ, आप बुरा तो नहीं मानोगे ना!पापा- अरे तेरी किसी बात का मुझे बुरा नहीं लगता, बोल क्या बात है?सुमन- पापा वो मेरी फ्रेंड्स है ना… वो आपसे करने को रेडी हो गई है. मैं जानता था कि बस एक दो मिनट की बात थी और बहूरानी भी अभी लाइन पर आ जायेगी.

रिया घुटनों के बल बैठ गयी और एक लड़के का शार्ट हटा कर उसने उसका लंड मुँह में लिया।कुछ सेकण्ड चूसने के बाद रिया ने कहा- तुम लोग पागलपन की सीमा तक मुझे चोदोगे। मैं कितनी भी चीखूँ-चिल्लाऊं तो भी तुमने रुकना नहीं। अगर मेरी सहेली हमें शामिल होती है तो उसके साथ भी तुम जैसे बताया वैसे ही पेश आओगे। ओके?इतना कह कर वो फिर से लंड चूसने में व्यस्त हो गयी.

मैं अपने रूम में जाने के लिए रूम से बाहर आ गया, मामी ने अपने रूम का डोर बंद कर लिया, लेकिन विंडो बंद नहीं की. मैंने जोश में था तो थोड़ा कस के धक्का मारा और आधा लंड भाभी की चूत में घुसेड़ दिया. सुमन समझ गई कि जो भी काम है, वो मजेदार ही होगा और वैसे भी टीना और फ्लॉरा की कहानी सुनकर उसकी चुत गीली हो गई थी.

मुझे इससे मालूम हुआ क्योंकि खटिया हिलने लगी थी और मौसी अपने होंठों को दांतों से दबा कर सिसकियाँ लेने लगीं थीं. मैं वहीं से बैठा हुआ उन्हें या यूं कहें कि उनकी उछलती गांड को देख देख रहा था.

मैंने दो बार सुमन को चोदा, परंतु मेरा सारा ध्यान स्वीटी की उभरी हुई चूत में ही था. उसकी चूत के आस पास की फांकें उंगली से हटाईं तो अन्दर की खाल और चूत का छेद एकदम गुलाबी था. मगर जब उनके लंड खड़े हो जाने थे तब पता नहीं इनमें से कौन कौन वहशी बनने वाला था.

सनी लियोन एचडी में बीएफ

श्रुति तो रो पड़ी, मैं उसके पास गया तो वो मेरे गले से लग कर रोने लगी.

टीना ने थोड़ी देर ना नुकुर की, मगर अंकल ने उसको गायत्री के बारे में झूठ बोलकर नंगी होने के लिए मना लिया और टीना ने डरते डरते सारे कपड़े निकल दिए. पर रानी भी 15 दिनों के बाद आने वाली थी तो उससे मेरी फोन पर बातें हो रही थी. इसके बदले में तुम मेरे लिए उस घर की देखभाल और चौका बर्तन आदि तथा खेतों में मेरी सहायता कर दिया करना.

तब जाकर उसे थोड़ा सुकून मिला और उसने गरम वीर्य से दर्द में कुछ राहत से लंबी सांस ली. अब वो दिन आया जब भैया की नाइट ड्यूटी थी, तो पायल ने मुझे रात को फोन किया और आने को कहा. चूत में लंड वाली सेक्सी पिक्चरयहाँ पर मैं बताना चाहूँगा कि मुझे चूत चाटना इतना अच्छा लगता है कि मैं घण्टों चूत चाटता रहूँ.

मैं उनको वॉश कर दूँगा और तुम थोड़ी देर मेरा कुर्ता पजामा पहन लो, मैं लाकर देता हूँ. इसके बाद पहली शादी मेरे बगल के भईया की हुई, उसमें मेरी नेहा से बातचीत चालू हो गई.

फिर हम दोनों एक कमरे में बैठे हुए थे, लैपटॉप पर मूवीज़ देख रहे थे… कोई मूवी पसंद ही नहीं आ रही थी तो फिर मैंने अचानक चुदाई की वीडियो लगा दीं, तो पहले तो वो थोड़ा गुस्सा हुई फिर बाद में उसको भी मजा आने लगा. फिर एक एक करके घर की सारी लाइट्स बुझने लगीं और फिर पूरे घर में अंधेरा छा गया, बाहर दूर की स्ट्रीट लाइट से हल्की सी रोशनी खिड़की के कांच से भीतर झाँकने लगी. मैंने उसको मना किया तो वो बोला कि हम अच्छे दोस्त हैं और दोस्ती में सब चलता है.

मैं बोला- नहीं बस आवारागर्दी में घूमता था, तो उसके लिए मना किया था. कार की खिड़की खुली और अंदर से एक लेडी की मधुर आवाज आई- किस का इंतजार कर रहे हो? आओ गाड़ी में बैठ जाओ!मैंने खिड़की से झाँक कर देखा तो गाड़ी में एक 35-40 साल की सुन्दर सी औरत बैठी थी. !गुलशन के जाने के बाद सुमन दिल ही दिल में बहुत खुश थी कि आज तो उसे पापा का लंड खुलकर चूसने को मिलेगा.

एक चैनल पर सनी देओल की घातक चल रही थी, उसने वहां रुक कर रिमोट एक तरफ फेंक दिया.

धीरे धीरे मेरे कुरते के अंदर उनके हाथ प्रवेश कर गए, मेरे नंगे जिस्म पर मरदाना हाथों का स्पर्श… ‘उफ्फ…’ मैं बयां नहीं कर सकती उस सनसनाहट का आपसे!मेरी ब्रा की स्ट्रिप में रुके हाथों ने एक बार टटोला और फिर ब्रा के हुक को खोल दिया. मैंने झट से बेड से चादर हटा दिया और उसके बाद टॉवल लेकर बाथरूम में चला गया.

पर मैं कहाँ मानने वाला था, मैंने उसके मम्मों को सहलाया और उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर एक और जोरदार धक्का दे मारा. तभी रुस्लान ने मुझे आश्चर्यचकित करते हुए मेरी पत्नी को काले सोफे पर उसके घुटनों के बल खड़ी कर उसकी बाहर को उभर गई चूत में अपना मूसल लंड घुसेड़ दिया. मैंने उसे झट से बाँहों में भर लिया और अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए.

उसने पूछा- आपने शादी क्यों नहीं की?मैंने कहा- कोई आप जैसी मिल जाती तो कर लेता. मम्मी-पापा फिर गाँव गए और वहाँ पता चला कि उसके ससुराल वाले उसे अब रखने को रेडी नहीं हैं तो वो गाँव में ही अपने घर पर ही अपने बच्चे के साथ रहने लगी. जब मैं लंड को चूस रही थी तो उसके कम्पन से मैंने महसूस किया कि अब ये ज्यादा देर नहीं रुकेगा तो मैंने शहज़ाद को लंड चूत में डाल कर जल्दी से चोदने को बोला.

बीएफ चाची की मोना ने नीतू को पहले ही सब कुछ समझा दिया था कि आज क्या होगा और उसकी चुदाई होगी. फिर मुँह से लंड निकाल कर मैंने बिना देर किए उनकी चुत पे रख कर एक जोरदार झटका मारा.

ट्रिपल एक्स व्हिडीओ बीएफ हिंदी

उसका कद 5 फीट 2 इंच, बदन का आकार 34-30-34 है, बहुत सेक्सी है, बड़ी चुदक्कड़ है, उसकी चूत की सील मैंने ही खोली थी कोई डेढ़ साल पहले. कहानी का पिछला भाग:एक लंड और पूरे परिवार की चुदाई-1अब तक आपने पढ़ा कि चूत चुदाई के चक्कर में मुझे एक दल्ला मिला, वो अपनी बीवी चुदवाने मुझे अपने घर ले गया. उसके बाद मैंने जैसे ही उनका ब्लाउज उतारा, उनके चूचे बाहर आने के लिए तड़प रहे थे.

फिर भी तेरी बड़ी ही इच्छा है, तो चल मार ले गांड लेकिन आराम से मारियो. संजय- ये क्या बकवास कर रही है तू! वो किसी और से कैसे चुदवा सकती है हाँ?टीना- तू गुस्सा मत हो मेरी बात ध्यान से सुन. बिहार के सेक्सी भेजोबस मैं उसे अपनी चूची दिखाती रही और वो मेरे सामने ही अपना लंड पकड़ कर दबाता रहा.

हाए! क्या किया! इसको क्यूँ चोद रहा है?बोला- मुझे गाण्ड मारनी पसंद है!सुमित नीचे से मेरे स्तनों को चूस रहा था, कभी चूचुक को काट देता.

वह अंजान था मेरे लिये और आगे कुछ भी हो सकता था लेकिन मुझे इस बात का ध्यान ही नहीं रहा. सुमन ने थोड़ी देर सोचा, उसके बाद वो उठी और उसने अपनी नई ब्रा और पेंटी का सैट पहना, उसके बाद अपने रोज वाले नाइट के कपड़े पहन लिए और अपने पापा का इन्तजार करने लग गई.

मेरी कामुकता का कोई पारावार नहीं, मैं बहुत बड़ी चुदक्कड़ हूँ, जहां भी मेरे काम का मर्द मिले, मैं उसका शिकार कर लेती हूँ. मतलब जो भी उसके जिस्म से मैं खेल रहा था, वो खेल उसकी चुत पर असर कर रहा था. फिर वो धीरे से मेरे पास आईं और मेरे लंड को निक्कर के ऊपर से सहलाने लगीं.

वो बोल रही थी- मैं तुम्हें एग्जाम टाइम में प्रपोज के लिए बाहर आ जाती थी, तो तुम निकल जाते थे.

मैंने भी उसकी टी-शर्ट को के गले को नीचे को किया, उसके मम्मों की कुछ झलक दिखाई दी और मैं उसकी चूचियों के ऊपरी भाग को चूमने लगा. हम दोनों के बैठने के तुरंत बाद ही मैंने मौसी से पूछ लिया- मौसी बताओ ना?मौसी ये सुन कर मुस्कुरा दीं और बोलीं- हाँ बाबा बताती हूँ. शहज़ाद ने सैफिना को बोला कि मैं तुम्हें गाड़ी में तुम्हारे घर छोड़ आता हूँ.

सेक्सी देसी वीडियो मूवीआगे की कहानी दूसरे भाग में जारी रहेगी।[emailprotected]कहानी का अगला भाग :जोशीले जवान जाट का नशीला लौड़ा-2. फिर मैक्सी के अन्दर हाथ डाल के पेटीकोट का नाड़ा खोलने लगीं और उसे भी उतार दिया.

भाभी को चोदने वाला बीएफ

हमें नवम्बर में आगरा जाना था, हमने सारी पैकिंग कर ली और रात को निकल गए क्योंकि आगरा यहाँ से यही कोई ढाई सौ किलोमीटर है. मैं अपना पूरा लंड जोर से उसकी चुत में पेल दिया और इसके जवाब में उसने अपने नाख़ून मेरी पीठ पर गड़ा दिए. मैं अन्दर आ गया तो उन्होंने कमरे से ही आवाज दी और मुझे सोफे पर बैठने का कहा.

इस बार वो डर गया और मेरे कपड़े ठीक करके अपने बिस्तर पे जाकर लेट गया. उसकी सु सु की आवाज़ मुझे सुनाई दे रही थी और स्पीड से निकलती पेशाब की धार भी दिख रही थी. एक बात आपको बताना भूल गई कि जॉन के आने के बाद फ्लॉरा की पढ़ाई अच्छी हो गई थी क्योंकि वो उसकी मदद करता था और अक्सर उसे रात को या शाम को पढ़ाया करता था.

हम दोनों कमरे में पहुंचे, मैं जैसे ही अन्दर आई, अनु ने डोर लॉक कर दिया और लाइट ऑन की. मुझसे कैसी शर्म!सुमन- अच्छा पापा कर दो मगर प्लीज़ लाइट बंद कर दो ना प्लीज़. सुमन तो ठंडी हो गई थी मगर वो जानती थी कि उसके पापा अब वासना की आग में जल रहे हैं और अब उनको शांत करने की उसकी बारी है.

स्कूल के दिनों में हम रोज किस किया करते थे पर कभी आगे कुछ नहीं कर पाए. मैंने बस प्यार से उसके होंठों पे एक किस किया… और उसके नीचे उतर कर उसे बाहों में भर लिया.

रितु दीदी आगे बढ़ीं और उन्होंने मेरा लंड हाथ में लेकर कहा कि तुम्हारा लंड तो अच्छा खासा लम्बा और मोटा है.

मॉम को ज़न्नत का सा आनन्द मिल रहा था, उसके मुख से सिसकारियां निकलने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओह्ह मेरी बिटिया रानी, क्या चूस रही है तू… चूस बेटी चूस… इसे चूस चूस के अपनी मॉम की चूत को लाल कर दे… अहह ओह उन्हह!काफी देर तक मैं मॉम की चूत चाटती रही. बॉलीवुड सेक्सी गानाअब मैं किसी ऐसी ही भाभी की तलाश में हूँ जो मेरे प्यासे लंड की देखभाल कर सके. पाकिस्तानी के सेक्सी वीडियोवो इतने आवेश में थी कि इंग्लिश वाली स्मूच किस भी उसकी किस के सामने फीकी लगे. मैंने दोनों टांगों को चौड़ा भी कर दिया और जैसे ही अपना सर उसकी चूत के पास ले गया तो उसने फिर उसने टांगों को भींच लिया.

मौसी ने कहा- आज शाम को मैं तुम्हें कुछ सूंघने को दूँगी, तुम्हें बताना होगा कि वो कहाँ की खुशबू है.

फिर मेरी गर्लफ्रेंड की माँ मालती ने मुझे 2-3 थप्पड़ मारे और गाली देते देते अचानक मुझे किस करने लगी. आह, स्स्स्सस्स, अच्छा लग रहा है, करते रहो, आज तो मैं पूरा चुदूँगी दोनों तरफ से…”उसके कहने का मतलब था गांड और चूत दोनों मरवाएगी यानि मेरी तो चांदी ही चांदी थी. राजीव ने मेरे हाथों में एक वोदका की बोतल पकड़ा दी और कहा- चल, बन जा हमारी साकी.

अब वो ज़्यादा से ज़्यादा लंड मुँह में लेना चाहती थी मगर वो कोई मॉंटी का लंड तो था नहीं, जो वो पूरा निगल जाती. मैंने कहा- इस एल्बम में तुम्हारी गर्लफ्रेंड की फोटो?वो बोला- चोंच बंद रखेगा?वो एल्बम पलटता रहा… और एक पेज़ पर आकर रुक गया। फोटो में उसकी बहन, बहन का पति और एक दोनों तरफ दो लड़कियाँ खड़ी थीं. इससे पहले कि वो कुछ बोलती शहज़ाद ने पूछ लिया- कौन है?तो मेरे मुंह से निकल गया- दो टांगों वाली बिल्ली है.

बीएफ पिक्चर वीडियो स्टेटस इन

उसमें बड़े ही कामुक अंदाज में बताया गया था कि कैसे एक भाई ने अपनी बहन को सिड्यूस किया और मज़े लिए. सातवें दिन मैंने मेहता से कहा- सर, अब मैं आप को दूसरा मजा देना चाहती हूँ. आशीष को भी मेरी स्थिति का आभास हो चला था, वो मेरे पास आ गए फिर और पास इतने पास के मुझे उनके जिस्म के वही गंध महसूस होने लगी, मेरी आँखें बंद होने लगी कि तभी उनके गर्म होंठों का अहसास हुआ, मेरे हाथ उनकी नग्न पीठ पे चले गए और हम दोनों एक दूसरे के होंठों का रस पीने लगे.

मैंने उसे देखा तो वो शरारत से मुझे देख रही थी और अपने होंठ काट के एक हाथ से अपनी चुत और दूसरे से अपने चूचियों को दबा रही थी.

जैसे ही मैंने उसकी नुन्नी अपने मुँह में ली, वो उठ गया और अपना चादर अलग फेंक कर लंड चुसाई के मज़े लेने लगा.

अब इसको क्या पता तुम इसको मुँह में लेकर मज़ा दोगी या अपनी चुत में लोगी. वह अंजान था मेरे लिये और आगे कुछ भी हो सकता था लेकिन मुझे इस बात का ध्यान ही नहीं रहा. गुजराती चित्रमैं कपड़े पहन कर कमरे से बाहर निकली तो देखा की तरुण झोंपड़ी के बगल में बने तबेले में बंधी गाय का दूध निकाल रहा था.

मैं कुछ पल निढाल पड़ा रहा… फिर मैंने उसके मम्मों को दबा-दबा कर चूसा तो मेरा लंड फिर से एक बार खड़ा हो गया. मैं तो दिल ही दिल में खुश हो रही थी कि अब मेरा काम कुछ दिनों में पक्का हो जाएगा और फायनली मुझे भी लंड मिल जाएगा. हम बारिश में भीग कर आये थे इसलिए दोनों ही को नहाने की इच्छा हो रही थी.

रूपा जैसा चाहती थी वो पप्पू ने समझ कर उसको अपने पेशाब से नहला दिया. तो उन्होंने अबकी बार सुमन का पजामा धीरे से नीचे किया और उसकी चुत को देख कर हल्के से बोल पड़े- वाह, क्या मस्त चुत है तेरी सुमन.

मैंने मोनिका के पैर अपने कंधों पर रखे और लंड जोर जोर से अन्दर बाहर करने लगा.

उसके मम्मे इतने बड़े थे कि मुझे उन्हें दोनों हाथों से दबाने में बहुत मजा आ रहा था. एक दिन मैं आंटी के घर गया, वो उस समय अकेली थीं और घर का काम कर रही थीं. सुमन- क्या बोल रही हो आप यानि पापा के साथ आपने खेल कर लिया?फ्लॉरा- कर लिया? अरे पागल उन्होंने चोद चोद कर मेरी हालत बिगाड़ दी.

छोटी सेक्सी व्हिडिओ थोड़ी देर के बाद सब शांत हो गया और वो बोली- चलो यहाँ ये सब नहीं… बहुत देर हो चुकी है, घर चल के ‘बात’ करते हैं. टीना- वाउ यार, कैसे देखा ठीक से बता न?सुमन- वो दीदी हमारे बाथरूम का लॉक खराब है, उसमें से मैंने पापा को नहाते हुए देखा.

उसकी बात सुनकर मैंने स्तन चूसना छोड़ कर उसका पूरा टॉप स्तन से ऊपर कर दिया और लेगी घुटनो तक नीचे, उसने अंदर कुछ नहीं पहना था, उसकी चूत पर मुलायम और छोटे बाल भी थे. उसने मेरा नाम पूछा और अपना नाम साधना बताया और बताया कि अभी वह कनाट प्लेस से आ रही है और घर जा रही है. अब 9 बज रहे थे तो वो चाय लेकर मुझे जगाने आई- उठो चाय पी लो और तुम्हें कॉलेज नहीं जाना क्या?मैंने उसका हाथ पकड़ा और उसे अपने पास खींच कर उसे गुडमॉर्निंग बोल कर किस कर दिया.

पंजाब पंजाबी बीएफ

मगर ये ऐसे क्यों चल रही है और तेरी आँखें भी सूजी हुई हैं, जैसे पूरी रात जागी भी हो और रोती भी रही हो. इससे पहले मैं कुछ कह पाती, उन लड़कों ने जैसे-तैसे करके मेरी टॉप निकाल दी और ब्रा को फाड़ कर मेरी चूची को आज़ाद किया. बात करते करते मैंने अपना बार खोला और पुछा- क्या पसंद करोगी तुम? व्हिस्की या वोदका?तो उसने कहा- मेरे पास अमारुला की बोतल पड़ी है, बियर के साथ मिक्स करके पीना है तो कहो.

वो अंकल जो लास्ट वाली सीट पर थे वो भी आगे खाली होने की वजह से नीचे जाकर बैठ गए थे. फिर मैंने साली को घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी गांड के ऊपर लंड रखकर उसे अंदर किया तो धीरे धीरे लंड अंदर जाना शुरू हो गया, पहले साली को थोड़ा सा दर्द हुआ और मैंने दो उंगलियाँ साली की चूत में डाल दीं, जिससे साली का दर्द गायब हो गया.

पूरी चुदाई के बाद मैं उसको अपने पास लिटाकर प्यार करने लगा और वो आई लव यू बोलकर मेरी बांहों में आ गई.

डॉली बोली- यार रवि, इतने साल हो गये हैं अब तो सोच नहीं पाती।रवि ने कहा- मेरे पास इसका इलाज है।उसने अपनी जेब से एक पेन ड्राइव निकाली और डॉली के टीवी में लगी दी. एक कमरे में भाभी बच्चों के साथ सो रही थीं और दूसरे रूम में जाकर मैं और पायल एक दूसरे को चूमने लगे. फिर मैंने ओ के बोल कर उनकी चुत में अपना लंड रगड़ते हुए धक्का लगाया.

वो मेरा नाम लेते हुए चुदास से सिसक रही थी और मुझसे पूरा चिपक गई थी. दोस्तो ये मेरे लिए सबसे बड़ा ग्रीन सिग्नल था कि वो मुझसे भी वो ही सब चाहती थीं, जो मैं उनसे चाहता हूँ. उसी रात लगभग तीन बजे जब मेरी नींद खुली और मैंने देखा की सोये हुए तरुण की लुंगी की गाँठ खुल गयी थी तथा उसका आधा भाग सरक गया था जिससे उसका लिंग नग्न हो रहा था.

फ्लॉरा तो अपनी हरकतें वैसे ही करती रही और जॉय ने अपना कंट्रोल बनाए रखा.

बीएफ चाची की: हमारी कॉलोनी में बहुत सी लड़कियां रहती थीं क्योंकि उस कॉलोनी में करीब 15 घर थे और हर घर में एक दो लड़कियां तो थीं ही. जॉय ने फ्लॉरा को एक कस के थप्पड़ मार दिया और गुस्से में बोला- दुनिया का कोई बाप अपनी बेटी के साथ ऐसा नहीं कर सकता और जो करता है वो बाप नहीं हवस का पुतला होता है.

तभी अनाउंस हुआ कि ट्रेन 12 बजे आएगी और मैं फिर परेशान हो गई, मगर सिर्फ़ इन्तजार करने के अलावा करती भी क्या. तभी दीदी बोलीं- संचू, आज तुम मेरे पास ही सो जाना!मैंने भी झट से हामी भर दी. कहीं सिर्फ जोड़े, कहीं एक लड़की के साथ दो तीन लोग, तो कहीं लड़का लड़का आपस में या कुछ लड़कियां आपस में गे या लेस्बियन सेक्स कर रहे थे.

इधर मेरे साथ वाले ने मेरे बदन पे चुम्बनों की झड़ी लगा दी; साथ ही साथ वो मेरे बदन का हर अंग टटोल रहा था.

खाना खाने के बाद फिर मेरा लंड मेरी बहन की चुत के होंठों में जाने लगा और वो आ उउह. तब मेरे दिमाग में कुछ डाउट हुआ कि कहीं ये मुझे किसी दूसरे बेस पर कमेंट पास न कर गई हों. बाक़ी की लड़कियां चीखती और चिल्लाती थीं इसलिए मुझे ज्यादा मजा नहीं आता था.