सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,एक्स भोजपुरी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडियन ब्लू फिल्म बीएफ: सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ वीडियो, मैं शादी में गया और भाभी को जब स्टेज में ला रहे थे, तो मैं भैया के पास भाभी वहीं कुर्सी में बैठा था.

भोजपुरी सेक्सी वीडियो बीएफ देहाती

मैं उसको जगाने जाती थी … तो उस वक्त एक बेबी डॉल टाइप की नाइटी पहन कर जाती थी. इंडियन सेक्सी बीएफ हिंदी आवाज मेंकभी रिक्शे वाले को पकड़ कर चुदवा लेती हूं तो कभी सब्जी वाले चुदवा लेती हूँ.

हम उन्हें देखकर हड़बड़ा गए थे, मेरा लोअर वीर्य के दाग से गीला हो गया था और लता भाभी भी जहाँ खड़ी हुई थीं, वहां उनकी चूत से जमींन पर वीर्य की बूंदें गिर रही थी. बीएफ वीडियो भाई बहन कामैंने उसकी चूचियों को घूरना जारी रखा और वह मेरे साथ बातों में लगी हुई थी.

गीता भी मान गयी और मैं वाणी को अपने ऊपर लेकर लेट गया और गीता को बोला- चल शुरू हो जा.सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ वीडियो: मुझे लगा कि मैं मर गई हूं और सब रो रहे हैं, मेरा क्रियाकर्म करने मुझे उठा के ले जा रहे हैं.

एक दूसरे से मिलन की आग ने हम दोनों को सेक्स करने का मन बना दिया था.वे पापा के पास आईं और बोलीं- आप जवान लड़की को जानवरों की तरह मारते हैं, अंधे होकर कभी सोचा है अपनी माया बीस साल की होने को आई.

बीएफ फिल्म देखने वाला वीडियो - सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ वीडियो

पर पीछे से उनका शरीर देखकर लग रहा था कि उनकी यही कोई 26-27 साल उम्र होगी.मेरी वाली तो आज सुबह ही कह रही थी कि आपकी दो दिन की छुट्टियाँ हैं, मैं सारा घर का काम जल्दी निपटा कर रखूंगी, जल्दी आ जाना.

मैं समझ गयी, मैंने भी वो आधा टुकड़ा अपने होंठों में ले लिया और उसे हम दोनों चूसने लगे. सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ वीडियो भाभी थोड़ी प्लस साइज की थी तो उनका सारा शरीर इतना गुदाज और मस्त था कि जहां भी हाथ रखो, हाथ मलाई की तरह से उनके शरीर पर चल रहा था.

पड़ोसी लौंडे का लंड मेरी चूत में ताबड़तोड़ आ जा रहा था और मैं गर्मागर्म सिस्कारियां लिए जा रही थी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मेरा पड़ोसी जब मेरी चूत को जोर जोर से चोद रहा था, तो मेरी सांसें एकदम से तेज चलने लगी थीं.

सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ वीडियो?

शारदा ने कहा- आज से आप ही मेरी गांड के मालिक हो और मेरी चूत के दूसरे हक़दार भी. ” बोलते हुए उसकी आँखें कभी मुझे और कभी मैडम को देख रही थीं।ऐसी वैसी लड़की नहीं है ये, हज़ार आशिक तो जेब में रख कर चलती होगी. वो लाल रंग की साड़ी में एक भरी पूरी, गोरी चिट्टी औरत … एकदम कमसिन माल लग रही थी.

फिर माँ ने मुझे बताया कि वो हमारे दूर के रिश्तेदार हैं और रिश्ते में तुम्हारे मामा लगते हैं. रात को करीब 12 बजे मेरी नींद खुली, तो मैंने अपने मुँह को शीला की चुचियों के बीच पाया. कुत्ते का लिंग, कुतिया की योनि में फंस गया था और जब तक वीर्यपात नहीं होता, वो बाहर नहीं निकल सकता था.

लेकिन सासू माँ जिस बस से बारातियों के साथ जाने वाली थी, वो बस देर से 7 बज कर 30 मिनट पर आयी. मेरे बॉयफ्रेंड ने दरवाजा खोला, तो पाया वो हम दोनों के लिए खाना लाया था. यह सुन कर मैं थोड़ा चौंक गया, मैं समझ गया कि कल रात वो मेरा सपना नहीं हकीकत था.

मैंने कहा- उसकी तुम चिंता ना करो, बस आज जो मैं कह रही हूँ, वो ही करो ताकि भाभी तुम्हारे लंड की पूरी दीवानी हो जाए. उसके इतना कहते ही वाणी उठी और वहीं लगी अलमारी में से एक डिल्डो वाली बेल्ट निकाल कर पहन ली.

एक हाथ से मैंने उसके अंडों को हल्के हल्के सहलाना शुरू किया और दूसरे हाथ से लिंग को मुट्ठी में भर कर आगे पीछे करके सुपाड़े को चाटने लगी.

दोस्तो, यह मेरी कहानी का पहला भाग है आगे मैं मेरी भाभी को विभिन्न आसनों में चोदने की पूरी कहानी बताऊंगा.

कभी दायें कभी बायें बूब्स को भी साथ में दबा रहा था। फिर एक हाथ को नीचे ले गया और गाउन को धीरे से कमर तक ले आया और उसकी चूत के ऊपर से पैंटी पर हाथ रख दिया जो कि बहुत ही गीली हो रही थी। फिर मैं धीरे से पैंटी के ऊपर से दबाने लगा और कभी चूत में उंगली कर देता था. फिर मैंने फोन लगा के उससे डरते हुए कहा- एक बात पूछना चाहता हूँ प्रिया?प्रिया- बोलो न. उसने मेरी चुनरी उतार फेंकी, जिस वजह से मेरे पहाड़ जैसे चूचे और उनके बीच का चीर … और चीर के बीच मेरा लॉकेट खेल रहा था.

सारा की तरफ हँस कर देखते हुए मैंने एक ही झटके में अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया. कुछ देर तक गाजर को लंड समझ कर मैं अपने मुँह में अन्दर बाहर करती रही. हम दोनों एक-दूसरे से बहुत प्यार करते हैं लेकिन हमारे रिश्ते को हम किसी के सामने बता नहीं सकते हैं इसलिए मैंने यह कहानी यहाँ पर पोस्ट की है.

मेरी उंगलियों की मेहनत की वज़ह से लंड चार इंच से ज्यादा अन्दर चला गया और मैं एकता की कमर को पकड़ के नीचे ऊपर करने लगा.

अब मुझे बर्दाश्त नहीं हुआ, मैंने कौशल्या को गोद में उठाया और बेड पे अपने नीचे किया. अब जब इतनी सारी जनसंख्या बाहर के दूसरे राज्यों से आकर रहेगी तो यहां की एक ही हांडी (मटकी) में पकने वाली खिचड़ी का स्वाद कैसा होगा इसका अंदाजा तो आप भी लगा ही सकते हैं. और पीछे से तो कुंवारी थी, उसकी गांड का तो उद्घाटन भी मैंने ही किया.

उसने मेरी बात सुन कुछ देर तो तेज़ धक्के रफ्तार से मारे, पर जल्द ही वो ढीला पड़ने लगा. धीरे धीरे मैं इंदु के पेटीकोट का नाड़ा खोलने लगा, तो उसने मना कर दिया. मैंने कहा- अब पार्टी है तो ड्रिंक तो बनती है … और ज्यादा भी कर ली, तो सर्वेंट हैं, उन्हें ले आएंगे, आप कुछ देर तो बैठिएगा.

मैं- देखो अगर तुम मुझे अपना दोस्त समझती हो, तो बता सकती हो वरना … मैं समझूंगा कि तुम मुझे अपना दोस्त नहीं समझती हो.

मामा भी पापा के साथ ही बातें करने में लगे हुए थे और माँ मेरी मामी के साथ बातें कर रही थी. अपने लंड को वो जैसे ही मेरी चूत पर रखता, मैं जानबूझ कर हिल जाती थी ताकि लंड असानी से चूत में ना जा पाए और उसे कुछ अहसास हो कि चूत चुड़ी हुई नहीं है, कुछ दम लगाना पड़ेगा लंड को अंदर करने के लिए.

सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ वीडियो इसलिए दूसरी ही मुलाकात में वह मेरे साथ चुदाई करने के लिए तैयार हो गई थी. आज पूरी तरह से फाड़ दो मेरी बुर को … कल अगर कोई कसर रह गई हो, तो आज पूरी कर दो.

सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ वीडियो उसकी पीठ को किस करते करते मैं नीचे तक आ गया और उसकी गांड को दबाने लगा. इशारा समझकर प्रशांत ने अपना अंडरवियर ही नहीं बल्कि बनियान को भी निकाल फेंका.

उसने तेल की बोतल पकड़ी और थोड़ा सा तेल अपने लंड पर लगा दिया और उंगली से मेरी गांड पर भी लगवा दिया.

सेक्सी हिंदी साड़ी वाली वीडियो

मैं समझ तो गया था कि आंटी ये फ्रूट्स देने का बहाना करके आई हैं और उनके दिल में कुछ और ही चल रहा है. उन दिनों कॉलेज की छुट्टियां थीं इसलिए मेरा ज्यादातर टाइम सोशल मीडिया पर ही पास होता था. इतने में लाइट फिर से आ गई और वह जो नीचे लड़का चूत चाट रहा था, वह झट से बाहर निकल आया.

ये कह कर हम दोनों हंसने लगे और तभी कुतिया ने दूसरे कुत्ते को जोर से काटना चाहा, तो वो भाग गया. फिर मैं घर आया तो दीदी ने पूछा- चढ़ा दिया सामान?मैंने कहा- हां दीदी, वो चली गई. तभी निहाल अब मेरे कान के पास बोला- सोनू तुझे मजा आ रहा है ना?मैं कुछ नहीं बोली तो उसने आगे हाथ से चूत को फिर दबा दिया और बोला कि देखो मैं तेरे लिए पागल हो रहा हूं.

अब यह मेरी सहन शक्ति के बाहर हो गया और मैं उसको मारे उत्तेजना एवं सहन नहीं होने के कारण ‘कुत्ती … कमीनी … हरामजादी … मां की लौड़ी … और पता नहीं न जाने क्या क्या बोल गई.

फिर एक हफ्ते बाद मैंने उससे कहा- मुझे तुम्हें देखने का मन हो रहा है. मैंने अपनी दोनों टांगों के बीच में सोनू की दोनों टांगों को जकड़ लिया और एक हाथ से उसके एक मम्मे को पीने लगा और दूसरे हाथ से उसकी कमर को सहलाता रहा. और इसके बाद मेरी प्यारी सेक्सी ननद एक अंगुली मेरे ऐस होल यानी मेरी गांड में लगाकर मेरी बगलों को चाटने लगी.

तब महेश अब्दुल को बोला- लगता है वन्द्या का काम होने वाला है, वन्द्या झड़ने वाली है. मैंने शारदा को कमर पर किस करना शुरू कर दिया ताकि उसका दर्द कम हो जाए. तकिया लगा देने से अब उनकी बुर का छेद एकदम सही जगह और सही पोजीशन में आ गया था.

उसे दीवार के साथ झुका दिया और उसकी गांड मारने लगा और उसके चुचों का हलवा बनाने लगा. पर मेरा झड़ना अभी बाक़ी था, सो मैं ज़ोर-ज़ोर से लंड को उसकी बुर के अंदर-बाहर करता रहा.

कुछ देर के बाद जब हम नॉर्मल हुए तो देखा कि पूरी चादर गंदी हो चुकी थी. कौशल्या अब पूरी थक चुकी थी, पर मैं पूरी बेदर्दी के साथ उसकी चुदाई कर रहा था. उस समय मेरे दिमाग में सिर्फ एक सवाल आया और वो ये था कि काम की देवी को मेरे जैसे बंदे की क्यों जरूरत पड़ गयी? ये तो जहां खड़ी हो जाए, वहीं 10-15 मर्द या लड़के लाइन लगा कर सिर्फ इन्हें देखने के लिए खड़े हो जाएंगे.

उन्हें भी …मैं- पर मम्मी जी, कब तक पराये मर्द के साथ लाइफ जिएंगे, कोई अपना भी तो होना चाहिए ना आगे की लाइफ बिताने के लिए …सासू माँ- देख बेटा, जब तक जवानी है ना … तब तक ही लाइफ को जिया जाता है.

यह बात होने के बाद मैं बाथरूम में गया और अपने लंड को खड़ा करके पेन से लंड पर उसका नाम लिखा. उसके चेहरे पर संतुष्टि के चिह्न दिख रहे थे, पर मुझे गुस्सा आने लगा था. कोमल दीदी ही मुझसे ज्यादा बात करती थी और मुझे चाय के लिए भी पूछ लेती थी.

इधर एक मिनट बाद लंड सरकता हुआ मेरी गांड में घुसने लगा, तो रमीज अचानक से एक ही झटके में पूरा लंड मेरी गांड में अन्दर तक पेल दिया. इसका एक कारण यह भी है कि घर का काम तो नौकरों के भरोसे होता है और लोगों के पास ज्यादा कुछ करने के लिए होता नहीं है.

इधर नीचे मेरा लंड भी अपने आकार में आ गया था, जो डॉली के हिप्स पर महसूस हो रहा था. वो और भी तेज ‘अआहा ऊनंह ऊउमंह आहा ऊन्ह्ह ऊम्मह आहाआ ऊनंह ऊउम्मंह हाआअ. तभी वो उल्टा होकर मेरे कूल्हों को फैलाकर मेरी गांड में अपनी उंगली डालने लगा.

पाकिस्तानी सेक्सी वीडियो देसी

तभी वो उल्टा होकर मेरे कूल्हों को फैलाकर मेरी गांड में अपनी उंगली डालने लगा.

बस तू थोड़ा सा हिम्मत कर ले … बहुत अंधेरा और शोर शराबा है, तू चिंता नहीं कर बस साथ दे. तभी मेरे पीछे पुनीत ने मेरे बाल पकड़ लिए और जोर से मेरे कूल्हों पर थप्पड़ मारते हुए बोला- साली गंडमरी रंडी. जब लंड ढीला होकर बाहर आया तो मैंने उससे कहा- तुमने यह क्या कर दिया मुझे फुसला कर.

मोटे-मोटे होंठ, रंग सांवला हो या गोरा, मगर बूब्स का साइज़ कम से कम 34 इंच का हो. मैंने दवाई दुकान से एक पैकट कंडोम का खरीदा और उसके दरवाजे पर जा कर बेल बजा दी. देहाती गांव के बीएफउसका सर कुर्सी में टकरा जा रहा था, तब भी पर वह मुझे पकड़े हुए मेरी चूत को चाटे जा रहा था.

मैंने उसके लिंग को हाथ से पकड़ हिलाना शुरू कर दिया और अपनी एक टांग सीधी रखी और दूसरी टांग उठा कर मोड़ दी. इस दौरान भाभी को पता भी नहीं चला कि मैंने कब उनका पेटीकोट उतार दिया.

एकाएक भाभी ने मनोहर को बेड पर गिरा लिया और मनोहर भाभी के होंठों को चूसते हुए अपने एक हाथ से उनकी चूत में लंड को सेट करने लगा. मेरी मम्मी ने भाभी को मेरे लिए खाना बनाने और मेरा ख्याल रखने को बोला और वो गांव चली गईं. मुझे भी इतना मजा आ रहा था कि मैं चुदास की मस्ती में ख़ुशी के मारे चिल्ला रही थी.

मैं सबको जवाब देना चाहती हूँ, पर लेकिन इतनी ज्यादा ईमेल मिलती हैं कि मैं सबको एक साथ जवाब नहीं दे सकती, थोड़ा समय जरूर लगता है लेकिन मैं जबाव सभी को देती हूँ. फिल्म खत्म हुई और सब निकलने लगे मैंने उससे ‘आई लव यू …’ बोला और किस करने को पूछा, पर उसने इस बार फिर मेरा दिल तोड़ दिया. भाभी कहने लगी- राज, यह तो बहुत मोटा है, मेरे हसबैंड का तो बिल्कुल ही छोटा सा है.

मगर उस दिन के बाद मैं हमेशा ध्यान देती कि जग मुझे घूरता रहता था, ख़ास कर के जब मैं घर की साफ़ सफाई के लिए झाडू पौंछा करती या कपड़े धोती थी.

मेरे पड़ोस में एक लड़का रहता है, जो किराये पर कमरा लेकर रहता है और पढ़ता है. मुझे चित लिटा कर मेरी टांगें खोलीं और चूत से सटा कर लंड अंदर पेल दिया। इस बार चूँकि लंड गीला नहीं था तो गीली होने के बावजूद चूत चरमया गयी और लंड आधे पर ही फंस गया लेकिन चार पांच धक्कों में जड़ तक पहुंच गया।आह … यही तो चाहती थी मैं। कितना खूबसूरत अहसास होता है जब एक कठोर गर्म लंड आपकी चूत में गहरे तक धंस कर उसकी खुदाई कर रहा हो। इस आनंद को बयान कर पाना मुश्किल है.

नीचे डेविड ने मेरी चुत में अपना मुँह लगा दिया था और वो मेरी चूत चूस रहा था. इससे वो एकदम से गरमा गई और गाली देते हुए बोली- मादरचोद, क्यों सता रहा है … छेद पर भी कर ना. एकता और तेरे लंड की गुलामी के कारण ही मैं गांड मराने को तैयार हुई हूँ.

मुँह से निकलती सलोनी की मादक सीत्कारों की आवाज़ ट्रेन की आवाज़ में खो सी जाती थी. वो समझ गयी थीं कि अब ये चुदाई, उनकी चूत का कुंआ मेरे मोटे लंड के पानी से भरने के बाद ही रुकेगी. वह अपने सिर को अपने हाथों से पकड़े हुए थी और मैं उसकी गांड को पकड़ कर उसकी चूत में लंड को पेल रहा था.

सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ वीडियो अब जब भी मेरे पति नहीं होते, मैं और मयूर सेक्स का मजा लेते और साथ में टाइम स्पेंड भी करते. वो समझ गयी थीं कि अब ये चुदाई, उनकी चूत का कुंआ मेरे मोटे लंड के पानी से भरने के बाद ही रुकेगी.

बंगाली आंटी की सेक्सी

कुछ देर ऐसे ही मस्ती करने के बाद हम दोनों बहुत गर्म हो गए थे, तो मैंने उसे घुमाया और अपने से चिपका लिया. दोस्तो, मेरी कहानी के पिछले भागबीमारी ने दिलायी प्यासी भाभी की चूत-4में अब तक आपने पढ़ा था कि मैं काम के सिलसिले में हैदराबाद गया था. एक ही दिन में दो नयी बीवियां … एक कटरीना जैसी और दूसरी ज़रीन खान जैसी.

अवनी- क्या हुआ कहां चले गए?मैं- अभी तो यहीं हूँ, आप कहें, तो चलें कहीं?वो थोड़ा मुस्काराई और कहा- अब टेंशन कहां गयी जॉब की. अमित का एक हाथ मेरी कुर्ती के अंदर सरक गया और सुरक्षा कवच के अंदर गंतव्य स्थान पर पहुंच कर उसने मेरे उरोजों को सहलाना शुरू कर दिया. वीडियो बीएफ सेक्सी चोदने वालीतभी उन्होंने पापा से पूछा कि आप लोग कहां जा रहे हैं … ये कौन है?तभी उस अमेरिकी लड़की ने उस आदमी को पापा नाम लेकर पुकारा, तो हम दोनों दंग हो गए.

शिल्पा अपनी गांड उठाते हुए मुझे अपने अन्दर समाने की प्यास को उजागर करने लगी.

लंड चिकना हो गया और सीमा ने दोबारा से मेरे लंड की मुट्ठ मारना शुरू कर दिया. उधर मर्द का भी सेम ही है, कोई अपनी नौकरानी को, तो कोई ऑफिस में काम करने वाली किसी साथी को चोद ही रहा है और जिनके पास ऐसा कोई जुगाड़ नहीं है, वो कॉलगर्ल को बुला कर चोद लेता है.

मैं अपने खड़े लंड को छिपाने के लिए एक तरफ घूम गया तो मामी ने पूछा- क्या बात हो गई मेरे प्यारे हैरी?मैंने कहा- आप मुझे मेरे प्यारे हैरी क्यों कह रही हो?मामी ने कहा- तुम मेरे एकलौते भान्जे जो हो. उसने मेरी गांड में लंड डाले हुए आने हाथ आगे बढ़ाए और मेरी चोली के ऊपर से ही मेरे दूधों को पकड़ कर जोर जोर से दबाने लगा. ‘आह्ह उम्म्ह… अहह… हय… याह… उम्मह …’ करते हुए कौशल्या झड़ गयी और मेरी छाती पे जोर से हाथ मार कर मुझे पकड़ कर ठंडी हो गयी.

अचानक मैंने महसूस किया कि अब मैं खुद को रोक नहीं पाऊंगी और पहले से कहीं ज्यादा ताकत से उसके बाल खींचने शुरू किए.

वो बोली- क्या रब करना पड़ता है?मैं एक बार तो झिझका, पर उसने मेरी जांघ पर हाथ फेरते हुए मुझे उकसाया और कहा कि बताओ न … क्या रगड़ते हैं?मैंने भी साफ़ कह दिया कि लड़की के बूब्स को रब करना पड़ता है, उसके निप्पलों को सक करना पड़ता है. मिसेज रॉय का परिचयमैं अपनी पिछली कहानी में बता चुका हूँ, जो हमें क्लब में मिली थीं. 10 मिनट तक मैंने उसके होंठों को चूसा और उसके बाद मैंने कान के पीछे से चूमा.

भोजपुरी फोटो बीएफभैया भी मेरे पास आ के खड़े हो गए और मुझे और मेरे पूरे नंगे शरीर को देखने लगे. मैं भी समझ गया कि आज वो ऋतु की गांड मारने की फिराक़ में आया है … क्योंकि इतनी बार ऋतु की चुत मार कर शायद वो बोर हो गया था और कुछ नया एक्सपेरिमेंट करना चाहता था.

राजू सेक्सी पिक्चर

मैंने कहा- अगर तू पेट से ही गई तो?दीदी ने कहा- ओह ओओओओ नहीं तू डाल दे … मैं नहीं होऊंगी पेट से. अब तक अब्दुल ने अपने लंड का धक्का मारना बंद कर दिया था और वो मुझसे लिपट गया था. सुनील मेरी आवाज सुनकर बहुत खुश हुए और बोले- पम्मी, तुम बहुत खूबसूरत हो, तुम्हारी पंजाबी फुद्दी जब से देखी है, मेरा तो लंड ही नहीं बैठ रहा.

पापा बोले- भारती (मेरी मम्मी का नाम) मैं यकीन से कहता हूं, वो भेनचोद यहाँ पर ही है. मैं जब से इस बिल्डिंग में आया था, मैं उनको किसी ना किसी बहाने से देखता और टच करने की कोशिश करता रहता. कुछ देर बाद मुझे छत पर किसी के कूदने के आवाज आई और मैं समझ गई कि पंकज आ गया है.

मैंने सोचा कि यही मौका है आंटी के चूचों तक पहुंचने का, मैंने कहा- ठीक है आंटी, आप ऐसा करना कि आप शाम को दूध लेकर घर पर मत आना. एक चूचे को मुंह से चूस रहा था।कुछ देर के बाद मैंने पेंटी के अंदर अपना हाथ ले जाकर चूत पर रख दिया जो बहुत ही गीली और गर्म हो चुकी थी। मैं धीरे-धीरे उसकी गर्म चूत पर हाथ फेरने लगा। मैं कभी चूत में उंगली कर देता तो कभी उसके चूचे को दबा देता था. ये तो वही मैडम थी, जिसको मैंने स्टेशन पर अपने फोन से बात करने दी थी.

सलोनी के हाथों का जादू था मेरे लण्ड पर, पर सिसकारी मेरे मुँह से निकलने ही लगी. मेरे हाथ को उसकी चूत बहुत गर्म लगी और साफ पता लग रहा था कि उसकी पानी छोड़ चुकी थी.

तुम्हारा बदन कितना प्यारा है!” यह कहकर मैं उसके मम्मे चूसने लगा और बीच-बीच में उसके निप्पल को दांतों से काट रहा था.

फ़िर काफ़ी पीकर गीता जाने लगी और जाते जाते मुझे किस करते हुए बोली- आपसे मिल कर बहुत अच्छा लगा. रानी की सेक्सी बीएफयहां सु-सु करने ही तो आई थी तो अचानक इतनी अकुलाहट लगी कि मेरी पेशाब अपने आप छूट गयी. सनी लियोन की सेक्स बीएफमुझे बिल्कुल भी होश नहीं था और अब डेविड ने स्पीड बढ़ा दी और चुदाई के कारण मेरी आवाज और तेज हो गयी थी. मैं अगले दिन अपनी बीवी को साथ लेकर उस ऑफिस में आ गया और वहां मैं मैनेजर से मिला.

मैंने कहा- मोहिनी जी, कल रात हमारे बीच जो भी हुआ, उसके लिए मुझे माफ़ कर दीजिये, मैं कल बहुत नशे में था, पता नहीं क्या हो गया था, अपने आप पर काबू नहीं कर पाया.

उन्होंने मेरी चूत और गांड पोंछ पोंछ कर सब साफ कर दिए और मेरे कपड़े भी दिए. मैं बता दूं कि हम सबके घर आपस में लगे हुए बने हैं, जिसके कारण हम एक दूसरे के छत कूद कर आ-जा सकते हैं. सच बताऊं दोस्तो … मुझे ऐसे कपड़े पहने हुए और ब्लाउज़ में बिना ब्रा की चुचियों से खेलते हुए सेक्स करने में बहुत मज़ा आता है.

वो जोर से चिल्लायी और वैसे ही मैंने अपना वीर्य उसकी चूत में छोड़ दिया. ‘आपके दोस्तों के साथ कार्यक्रम कैसा था … आपको देख के मज़ा आया?’‘तू मस्त चीज़ है, कमाल कर दिया. मैंने बोला- क्या जादू करता है ये … बोलो ना?भैया बोले- सच में जानना है, तो एक काम करो, इसे अपने हाथ में लेकर मसलो और इसका जादू देखो.

विशाखा मधु की सेक्सी वीडियो

कुछ ही देर में मैं भी गर्म हो गयी थी और अपने पड़ोसी को किस करने लगी. फिर हम दोनों शॉवर लेकर फ्रेश हुए और हम ज्यादा थकने की वजह से एक साथ सो गए. नामित बोला- बेडरूम क्यों … यहीं आओ सोफे में, हम भी तो है … हमारे लौड़े में भी तो आग लगी हुई है.

मैंने उसको कहा कि तुम मेरा नाम अपनी ब्रा पर लिखो और मुझे फ़ोटो दिखाओ.

अचानक मैंने महसूस किया कि अब मैं खुद को रोक नहीं पाऊंगी और पहले से कहीं ज्यादा ताकत से उसके बाल खींचने शुरू किए.

सुखबीर को भी शायद ऐसा मौका पहली बार मिला था, इसलिए वो भी किसी तरह का विरोध नहीं जता रहा था. उसने लिप्स किस करते हुए अपना हाथ मेरी गांड पर रख दिया और मेरा हाथ अपने लंड पर रख दिया. एक्स बीएफ वीडियो हिंदीसोसाइटी देखकर ही लग रहा था कि यहां काफी रईस लोग रहते हैं और तो और सोसाइटी थी भी एकदम अँधेरी के पॉश एरिया में.

मैंने अपना हाथ सोनू की स्कर्ट से अंदर डाल कर पहले उसके चूतड़ों पर फिराया और कुछ देर चूतड़ों पर हाथ फिराने के बाद मैंने सोनू को सीधा किया और उसकी चूचियां पीने लगा. सो उसने जब मुझसे सम्भोग की अभिलाषा व्यक्त की, तो थोड़ा सोच कर मैंने भी हाँ कर दी और उसे अपने घर में चुपके से आने को कहा. मामी- किधर वाला नाश्ता?मैंने कहा- गर्म वाला जिधर से भी मिलेगा, सब खा लूँगा.

मैं बिल्कुल उछली जा रही थी, पीछे से गांड में लंड घुसाए हुए वो तीस साल वाला जोर से धक्का मार रहा था. अमित ने मेरी ब्रा को खोल दिया और मेरे उरोजों को अपने गर्म लाल होंठों में भर कर पीना शुरू कर दिया.

मुझे लगा कहीं ये लोग सबको बता देंगे, तो मैं किसी को मुँह कैसे दिखाऊंगी.

मैंने उसे आँखे खोलने को कहा और पूछा- मीशा, कैसा लग रहा है?अच्छा लग रहा है है भैया… और करो ना!” मीशा वासनात्मक स्वर से बोली. उफ्फफ्फ … अब वो पल दूर नहीं जिसका मैं बहुत देर से इंतज़ार कर रहा था. लगभग 4 साल से मैं कुंवारी की तरह से रह रही हूँ, हम तो सोते भी अलग-अलग हैं, प्रोफेसर साहब तो बच्चों को पढ़ाने के बाद ड्राइंग रूम में ही दीवान पर सो जाते हैं और मैं बच्चों के साथ बेड पर सोती हूँ.

सेक्सी बीएफ दिल्ली का तुम तो असली मर्द हो, तुमने पहली बार मेरी चूत मारी है, मैंने तुम्हारे कुंवारेपन को तोड़ दिया. उसके बाद जब कभी मैं खुद को अकेला पाती, तो मैं भी मास्टरबेट करने लग जाती.

जिसमें कई बार तो हमने दिन में और सुबह सुबह ही प्यार किया लेकिन कभी कभी यह प्यार अधूरा रहा क्योंकि अंतिम समय में कोई ना कोई आ जाता था इसलिए।मेरे पति के वापस जाने के बाद अकेली होने के कारण मैं वापस अपनी पढ़ाई पीएचडी की तैयार में लग गई। दीपावली की छुटियों में मेरी ननद प्रीति जैन फिर आई। इस बार वो बहुत चहकी चहकी लग रही थी एवं और बहुत खुश भी लग रही थी. एक दिन मैंने न्यूज़ पेपर में देखा कि एक कंपनी में लेडीज एकाउंटेंट की नौकरी खाली है. भाभी ने मेरे लंड को जोर से दबाते हुए कहा- आज मैं तुम्हारे बिना नहीं रह सकती हूँ, मेरे पति मुझको सेक्स का मजा नहीं दे पाते हैं.

सेक्सी वीडियो चूत लंड चूत

सूनी मांग, लंबे बाल, नितंब तो ओफ्फ़ … बड़े बड़े … और सुडौल एकदम टाइट और उठे हुए थे. बस जब भी चाहत होती है, टॉयलेट में जाकर फिंगर्स से काम चला लेता हूँ. कुछ 50-55 जबरदस्त शॉट के बाद मेरा गरम गरम माल उनकी चूत में गिरने लगा.

तभी मुझे चोदते चोदते उसने अपना लंड निकाल दिया और मेरी चूची में अपना लंड डाल कर मेरी चूची को अपने लंड से चोदने लगा. तकरीबन दस मिनट तक अपने लंड को मुख मैथुन का सुख दिलाने के बाद उसने मेरी पेंटी उतार कर मुझे पूरी नंगी कर दिया और मेरी टांगें खींच कर मेरी चूत को अपने मुँह के नजदीक कर लिया.

तब रवि की नज़र ऋतु की गांड पर टिक गयी, जो सिल्क गाउन से साफ़ उठी हुई झलक रही थी.

मेरे हाथ उनकी चूत को सहला रहे थे और ऊपर मैं उनके मम्मों को अब भी चूसे जा रहा था. लेकिन वो ज़िद पर अड़ गयी और दावा करने लगी कि वो हाँ ही कहेगी और आपसे बात बंद नहीं करेगी. दिन रात बस रोती रहती थी कि या अल्लाह ऐसी कौन सी खता हुई मुझसे कि तूने मुझसे सब कुछ छीन लिया.

इन सब के बीच में उसके रसीले होंठों को भी चूमता, कभी उसकी अर्धविकसित चूचियों को मुँह में भर कर चूसने लगता. तुमने जहाँ पर रुक कर सिगरेट पी थी, मेरा योग सेंटर उसके ठीक सामने है, वहां तुमको देखकर मुझे यहाँ आने का ख्याल आया और तुम्हें ऐसे लुंगी में नंगे बदन देखकर मुझमें कामवासना हावी हो गयी है. फ़िर एकदम से गीता ने वाणी की एक चुची को मुँह में ले लिया और चूसने लगी.

सुजाता झटके से रमेश की गोद में आ गिरी, रमेश झट से सुजाता के मम्मों को दबाने लगा.

सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ वीडियो: मैं अभी 25 साल का हूँ और मेरी कद काठी बहुत मजबूत, बिल्कुल एक जिमनास्ट की बॉडी जैसी है. इस वक्त मेरी झड़ी हुई चुत में दूसरे लंड के धक्के मुझे अब घायल कर रहे थे.

चौबीस साल लगते ही अब्बू ने एक पुराने जानकार एक अच्छे परिवार में मेरा रिश्ता तय कर दिया. रात 11 के आस पास बजे होंगे, उसकी कॉल आयी- और जानेमन, क्या कर रहे हो?मैं बोला- कुछ खास नहीं … बस लेटा हूँ. कुछ देर में ज़रीना बोली- सारा की ये अच्छी बात है, आमिर मुझे फ़िर से चोदो.

आंटी का भी शायद मूड बन गया था, वो तब भी मुझसे बोली- यदि ये सब मेरे पति को मालूम हो गया, तो वो आपको मार देगा.

यह बोल कर उसने ख़ुद से अपने बालों को मेरे हाथ में पकड़ा दिया और मुझे बाल खींचने का इशारा किया। जैसे ही मैंने उसके बाल खींचे वैसे ही उसकी आह … निकल गयी। मैंने भी देर न करते हुए उसको ज़मीन पर धकेल दिया तो वो अपनी जुबान को बाहर निकालते हुए अपना मूत चाटने लग गई. फिर मैं अपने कपड़े उतार कर जैसे ही उसके ऊपर लेटा, उसको जैसे करंट लगा हो, वो ऐसे हिल गई. वह बोला- जैसे कि?मैंने कहा- आपकी चौड़ी और मजबूत छाती है जो आपकी शर्ट और कोट के अंदर से ही पता चल रही है.