एक्स एक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी

छवि स्रोत,सेक्सी थ्री व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

चीन की बीएफ फिल्म: एक्स एक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी, कुछ ही पल में उसने अपनी जीभ मेरे मुँह के अन्दर डालनी शुरू कर दी थी.

जिओगेम्स खोलो

गीत के इस तरह लंड चूसने से मेरे मुंह से कामुक सिसकारियां निकलने लगी थीं- उम्ह्हह्ह … सीसी … उफफ … साली चुदक्कड़ बेबी … चोद दिया मेरा लंड उफ्फ … अह्ह्ह … सी सी सी सी … अह्ह्ह … डार्लिंग।दोस्तो, गीत लंड चूसने में इतनी माहिर थी कि उसका मुकाबला कोई नहीं कर सकता था. मेकअप में सबसे पहले क्या लगाना चाहिएमैं मुस्कुराते हुए बोली- थोड़ी सब्र करो … इंतजार का फल मीठा होता है साले बहनचोद.

मैं उसका सारा नमकीन पानी चाट चाट कर पी गया और एक उंगली चूत में डाल कर अन्दर बाहर करने लगा. ज से लड़कों के नाम 2021आह निष्ठा … हां स्सस्सस्स ऐसे ही करती रहो … जादू है तुम्हारे हाथों में!” मैंने कहा.

उस कमरे में एक बड़ी खिड़की भी थी जो बाड़े की ओर खुलती थी, अर्थात बाड़े में जो कुछ भी होता था उसे नंगी आखों से करीब 6-7 फुट की दूरी से देखा जा सकता था.एक्स एक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी: मनजीत अब पूरी तरह से समर्पित है, मेरे लिए अच्छा अच्छा खाना बनाती है और खुलकर चुदवाती है.

और फिर मैं नहाने के लिए चला गया।जब मैं नहा कर वापस आया तो भाभी ने मुझे नाश्ता दिया और मेरे पास में आकर बैठ गयीं.अच्छा ही है ना … इस बहाने मैं भी प्रसिद्ध हो जाउंगी … अब आप मेरा हाथ छोड़ेंगे भी मिस्टर राजे?उसके मुलायम हाथ छोड़ने का मन तो नहीं हो रहा था, फिर भी छोड़ने से पहले मैंने घुटनों पर बैठ कर उसके हाथों पर ऐसे चुम्बन लिया जैसे लड़के लोग फिल्मों में अपनी माशूका को प्रोपोज़ करने के लिए करते हैं.

साउथ इंडियन सेक्सी व्हिडिओ - एक्स एक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी

बोलो चोदोगे ना अपनी रानी को? आह … आह … मैं गई … आ … आ … आई … ईई ईईईई.इतना कहने पर ही उसने मुझे पहला किस किया और अपनी बांहों में जकड़ लिया.

फिर एक एक करके उसने अपने दोनों हाथों को ऊपर उठाते हुए अपनी क्लीन शेव कांख पर भी साबुन रगड़ा. एक्स एक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी मेरा लण्ड अब भी अपने हल्के उभार से मेरे लोअर में काफी हिलता हुआ दिखाई दे रहा था जिसे चोर नजरों से नेहा देखकर अंदर ही अंदर खुश हो रही थी.

इसलिए मैंने अपना दूसरा हाथ भी मां की कमर पर रखकर दोनों हाथों से उन्हें अपनी ओर खींच लिया और उनकी गांड सहलाने लगा.

एक्स एक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी?

मैंने मस्तक झुकाकर आदरपूर्वक अर्ज़ किया- मेमसाब चिंता ना करें … दास अपनी औक़ात समझ गया है … मेमसाब को शिकायत का मौका नहीं मिलेगा. करीब पन्द्रह मिनट बाद हम दोनों एक दूसरे को साबुन लगा कर शॉवर के नीचे नहाते रहे. यह बोलकर मैंने उसके होंठों से होंठ लगा दिए और लिप लॉक कर दिया।उसने मेरे मुंह में अपना जीभ डाल दी.

कमल तो ब्लाउज के ऊपर से ही मेरी वक्षरेखा को चाटने लगा, उसमें जीभ फिराने लगा. मगर तभी सर ने मुझे अपने लंड पर बिठा लिया और लंड मेरी चूत में पेल दिया. वो न तो पढ़ाई में ही अच्छा था और न ही स्पोर्ट्स में ही कुछ ख़ास था.

वानी ने अपने दायें हाथ की बीच वाली उंगली अपनी गांड के छेद में घुसा दी और लंड को चूत में लेती रही. उसकी कामुक और उतावला कर देने वाली बातें जानकर और उसकी सेक्सी फोटो देख कर मेरी वासना भड़क गयी. साथ ही मेरी चूचियों की बौड़ियों को वो दांतों से काट रहा था … जिससे मैं फिर मदहोश होने लगी थी.

पीछे से टाईट लोअर में से मेरी भरी हुई गांड भी एकदम मस्त दिख रही थी. थोड़ी देर में उसने खाना खा लिया मगर रति का गुस्सा अभी भी वैसा ही था.

कुछ ही देर की चुसाई के बाद उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया और मैंने उसकी चूत का सारा रस पी लिया.

वो जैली बड़ी ठंडी सी थी, मैं समझ गया कि यही वो अल्कोहल मिक्स वाली लिक्विड जैली है.

”अब मुझे क्या पता कि हाथ लगाने से ऐसा हो जाएगा? इसीलिए अब मैंने मिर्ची और प्याज काटने से डरता हूँ। पर अब सोचता हूँ कि …”क्या?”एक बार फिर से मिर्ची वाले हाथ आँखों पर लगा लूं. मगर जब उनका पानी झड़ा, तो उसके पहले वो खूब तड़फीं, खूब चिल्लाईं … उन्होंने बिना किसी की परवाह किए खूब शोर मचाया. शर्मिष्ठा मुझे देखकर बहुत खुश हुई और उसने मेरी तबियत के बारे में पूछा.

अभी तो मेरे शौहर घर पर ही हैं, मगर बहुत जल्द वो अपने बिज़नेस टूर पर विदेश जाने वाले हैं. रमेश का लंड भी एक बार फिर से तन कर मेरी चूत में जाने के लिए तैयार दिख रहा था. रीता उसके केबिन में गयी तो उसके घुसते ही रमेश बोला- पता है आज कौन आने वाला है?रीता- कौन?रमेश- गेस्स करो।रीता- जरूर रवि सर आ रहे होंगे।रमेश- अरे यार, तुम्हें कैसे पता चल जाता है!रीता- आज आपकी एक्साईटमेंट देख कर पता चल रहा है।रमेश- आज तैयार रहना, दो-दो लंड एक साथ लेने के लिये।रीता- आप फिक्र क्यों करते हैं सर, भगवान ने यह दो छेद दिए किसलिए हैं? आज आप दोनों के पसीने छुड़ा दूंगी.

तुझे चोदने के लिए उकसा रही है; इसकी चूत भी पक्का गीली हो चुकी होगी और लंड मांग रही होगी.

लाइव सेक्स चैट सेशन के दौरान उसकी तत्परता को देखते हुए मैंने अस्मि को टिप भी दिया. इसलिए मैंने अपनी गीली चूत को उसके पूरे चेहरे पर रगड़ा ताकि उसका लंड तैयार हो जाये और फिर मैं अपनी टांगें फैला कर उसके लंड पर बैठने लगी. मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी स्टोरी पढ़ने में उतना ही मजा आया होगा जितना मुझे करवाने में आया.

अब मैं जान गयी कि तेरी इतनी बड़ी रानियों की फ़ौज कैसे बनी … प्लीज़ राजे मसल दे अपनी गुड्डी रानी को … इस कली को फूल बना दे आज … आजा मेरा राजा. ”ओह … अरे मेरी जान प्लीज … मेरे सामने ही कर लो ना … अब शर्म की क्या बात है?”हट!”जान … तुम कितनी खूबसूरत हो!?”तो?”मेरा बहुत बड़ी इच्छा है तुम्हें सु-सु करते हुए देखने की!”नहीं मुझे शर्म आती है … आईईइ!”क्या हुआ?”मुझे बहुत जोर का सु सु आ रहा है. मैंने उसकी गांड पर लात मारते हुए कहा- ऐसे क्या देख रहा है कुत्ते? अपने मालिक के आगे घुटनों पर आ!ये कहते हुए मैंने उसकी जीन्स के ऊपर से उसकी गांड पर चमाट मार दिया.

और कहाँ अब मैं लंड चुसवाने के मज़े ले रहा था।साली ने बड़े मज़े मज़े ले ले कर लंड चूसा, ऐसा लग रहा था जैसे उसे खुद को लंड चूसने का शौक हो।जब वो चूस कर ऊपर को आई, मैंने पूछा- बहुत पसंद है लंड चूसना?वो बोली- अरे इसको चूसे बिना तो लगता ही नहीं कि सेक्स किया है।मैंने उसे नीचे लेटाकर खुद उसके ऊपर चढ़ गया.

आह उसके बड़े-बड़े गोरे चूतड़ों के बीच उसकी हल्की ब्राउन कलर की गांड मुझे लुभाने लगी थी. मैं बोला- दारू पिला कर चुत चोदने दोगी न?वो बोली- तुम पक्के चूतिया हो.

एक्स एक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी चुत और लंड पूरी तरह से गीले होने के कारण फच फच की आवाजें आ रही थीं. देखो निष्ठा मेरे लिंग का खड़ा हो जाना एक नेचुरल क्रिया है, प्रकृति के अपने नियम हैं, शरीर की कुछ क्रियाएं परिस्थितिवश अनचाहे, अनैच्छिक, अपने आप स्वतः ही होती हैं.

एक्स एक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी वो बोली- ठीक है फिर, जाओ।उसको हग करके मैं अपने ऑफिस के लिए निकल गया. मैंने बिना लंड निकाले उनको बिस्तर पर लिटा दिया और उनकी चुत में लंड जड़ तक पेलने लगा.

शांति की उम्र करीब 40 साल थी, उसका भरा बदन, गोरा रंग, बड़ी बड़ी चूचियां और भारी भरकम चूतड़ देखकर मन डोल जाता था.

ഇന്ത്യൻ സെക്സ് വീഡിയോസ്

वो ईशिता से मिलकर पूछने लगा- तुम किसके साथ आई हो?ईशिता ने कहा- अपने फ्रेंड्स के साथ!उसने कहा- चलो हम तुम्हारे घर ही जा रहे हैं … हमारे साथ बैठ जाना, ठीक है … बहुत देर हो गयी है. मैंने मेघा की हिलती फड़फड़ाती गांड पर अपनी नजर गड़ा ली और उसकी तेज सिसकारियों पर कान लगा लिये. मैंने नेहा से फ्रेश होने की इच्छा जाहिर की, तो उसने कहा- ठीक है तो मैं चलती हूँ.

उसने सबसे पहले वो डिब्बा खोला, जिसके बारे में जानने की उत्सुकता मेरे मन में भी थी. मेरे दिमाग में लड़कों को वश में करने, उनको सेक्स स्लेव बनाने और नीच बनाने के लिए अनेकों विचार पहले से ही थे. इसी बीच शाही सर ने उसका दुपट्टा खोल दिया और उसके दोनों मम्मे पकड़ लिए.

मैं आशा करता हूँ कि भाभी आंटी और लड़कियों के अलावा बाकी भाई लोगों को मेरी अन्तर्वासना सेक्स की कहानी जरूर पसंद आएगी.

लण्ड को अन्दर बाहर करते हुए मैंने एक बार बाहर निकाला और स्वरा की बुर के खून से सने लण्ड पर कॉण्डोम चढ़ाकर फिर से उसकी बुर में उतार दिया. इस टीचर सेक्स स्टोरी के अगले भाग में मैं आपको अपने रंडी बनने की कहानी को आगे लिखूंगी. इतना कह के मैंने गुड्डी रानी को कस के आलिंगन में बांध लिया और सिर झुका कर उसके फूले हुए, बड़े बड़े मम्मों पर जीभ हल्के से फिराई.

फिर मैंने उसको सच बताया कि मैं नशे में होने का सिर्फ नाटक कर रही थी. मैंने कहा- भाभी, प्लीज सोने दो ना!तभी अचानक भाभी ने मेरी चादर खींच दी. कुछ जोश भरे स्ट्रॉक्स के साथ मैंने अपना माल फिर से घर के मुख्य दरवाजे पर निकाल फेंका.

पर प्रतिभा के शानदार प्रदर्शन ने हमारी प्रस्तुति पर चार चांद लगा दिए थे. पर जब और लड़कियां उससे डिजाइन पूछती तो वो कहती- पहले कपड़े उतार कर फिगर दिखाओ.

एक लड़की लड़के के ऊपर बैठ कर चुदाई कर रही थी और लड़का उसके मम्मे दबा रहा था. कुछ देर इसी जोश के साथ चोदने के बाद उसने लंड को रति की चूत से बाहर निकाल लिया. उबड़ खाबड़ रास्ते की वजह से कार धीरे धीरे चल रही थी और हम सब भी अन्दर उछल रहे थे.

मेरे मम्मी-पापा वीकेंड पर हमारे फार्म हाउस की देखभाल के लिए चले जाते हैं और फिर दो दिन के बाद ही आते हैं.

मेरे पास एक किताब थी जिसका नाम था- हसीनाओं को छेड़ने के नियम। मैं दरअसल एक लड़की पटाने के चक्कर में था ताकि चूत का जुगाड़ हो सके. मैंने कहा- ये सब तो एक हफ्ते में सही हो जाएंगे … तुम बताओ, तुम्हें मजा आया या नहीं?वो खुश होकर हां बोलते हुए वहां से चला गया. मैं उसका सारा नमकीन पानी चाट चाट कर पी गया और एक उंगली चूत में डाल कर अन्दर बाहर करने लगा.

इसीलिये मेरी बहन इतना मरती है तुम पर।’मैंने कहा- लेकिन आपकी बहन आपके जितना मज़ा नहीं देती. आपके अनुसार कहानी सही चल रही है या नहीं? आप अपनी राय इस पते पर दे सकते हैं।[emailprotected].

ग्रुप सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे हम भाई बहन और एक पड़ोसन भाभी ने रातभर सेक्स पार्टी की. मैंने उसकी पीठ को सहलाते हुए उसे चूमा और करवट लेकर उसे फिर से नीचे कर लिया. लेकिन तुम्हारी जरूरत भी वाजिब है, इसलिये पैसे तो मैं तुम्हें दे दूंगा लेकिन तुमको एक वादा करना होगा, हमको कभी कभी खुश कर दिया करना.

सेक्सी चूत इंडियन

मम्मी चिल्लाने लगीं- उई माँ … मर गई!मैंने अपने होंठ उनके होंठों पर रखकर उनकी आवाज बंद कर दी और उनके होंठों को चूसने लगा.

मैं लगातार गुड्डी के पांवों को सहला रहा था, उँगलियाँ उसके तलवों पर फिसला रहा था. क्या तुम मेरा साथ देने के लिए तैयार हो?वो बोली- हां, लेकिन मुझे अब और दुख मत देना. दोस्त के मोबाइल पर ही मैंने देसी सेक्स चैट साइट में लॉग इन किया और फिर अपनी प्रोफाइल बनायी.

उसकी लगभग 4 फुट की कच्ची दीवार थी जिसमें एक लकड़ी का छोटा सा गेट लगा था. चाचा का जांघिया तम्बू की तरह तन गया तो चाचा हमारे चूतड़ों को मलने लगे. ओल्ड सेक्स वीडियो हिंदीमेरी बदन तोड़ चुदाई कर दी, जिसके बाद मेरी बुर में बहुत ज़्यादा जलन होने लगी थी और मेरी कमर में भी दर्द होना शुरू हो गया था.

मैं कोई नंगी थोड़ी सो रही हूं! वैसे भी मुझे पूरा भरोसा है कि तुम अपने अंकल की तरह मेरी नाइट ड्रेस उठाकर मेरी गांड में अपना लंड नहीं घुसाओगे. और दूसरी अप्सरा फटी हुई डिजाइन की जींस और ढीली शर्ट में थी, उसने अपना नाम सुमन बताया.

मगर पहले तू अपना नाम तो बता रंडी।रिया रमेश की तरफ देख कर बोली- रिया! रिया नाम है मेरा।रवि हंसने लगा और बोला- रमेश तू कह रहा था न कि ये हमारी बेटी की उम्र की है, ये ले … इसका तो नाम भी तेरी बेटी पर है. वो उठी और बाथरूम में चली गयी और वहां से एक टॉवल लाकर राजेश को दे दिया. मैंने सुमीना को वहीं सोफे पर गिरा लिया और उसकी मैक्सी उठा कर उसकी चूचियों को पीने लगा.

उन्होंने कहा- जल्दी से अन्दर तक घुसेड़ो न … क्यों सता रहे हो?उनका इतना कहना हुआ और मैंने एक तेज झटका मार दिया. पता नहीं उसे इसका क्या शौक था कि लौड़ा आधा इंच भी बाहर न हो।खैर मेरी पोजीशन सेट करके ढिल्लों आधा खड़ा हुआ, और मुझे कहा- चौड़ी कर हाथ से अपने!मैंने हैरान परेशान हो कर अपने हाथ फुद्दी के आस पास धरे और अपनी पहले से खुल चुकी फुद्दी को और चौड़ा कर दिया। ढिल्लों से मेरी फुद्दी के अंदर थूका और अपना हथियार बीचोंबीच सेट कर दिया और एक धक्का मारा।फिर… बाक़ी की हिंदी पोर्न स्टोरी अगले भाग में।[emailprotected]. फिर मैं सोचने लगा कि हो सकता है पायल मुझसे सिर्फ जिस्मानी संबंध बनाना चाहती हो और मैं कुछ ज्यादा ही सोच रहा होऊं.

मैं तो कभी भी उनके होते हुए आपको ना तो मैसेज करूंगा और ना ही मिलूंगा.

पहले तो वह फिर कुछ दर्द से कराही लेकिन फिर चूत में आते हुए मज़े ने उसको सब दर्द भुला दिया. मेरी टी-शर्ट छोटी थी, जिसकी वजह से वो ऊपर को हो गयी और उनका हाथ सीधे मेरी नाभि पर आ पड़ा.

मैंने कहा- मैं तो पहले से ही आप पर फ़िदा था … हां यदि आपकी तरफ से लिफ्ट न मिलती, तो अलग बात थी. आपको मेरी ये अंतर बासना सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल जरूर करें. वहां पर किसी भी तरह से मजा लिया जा सकता है जो असल जिन्दगी में किसी औरत के साथ संभव नहीं हो पाता है.

डार्लिंग नाराज़ क्यों होते हो इतना?मैंने कहा- नाराज़ कौन हो रहा है साली! चलो आज फिर खुद ही उतार कर आ जाओ हमारे सामने, हम भी देखें खुद कपड़े उतार कर कैसे सामने आती हैं हमारी जानेमन!तभी डोर बेल बजी और चाय आ गयी. रिदम के साथ तीन-चार बार ऊपर नीचे होने के बाद उसने उस डिल्डो पर कूदना शुरू कर दिया. इधर दूसरी ओर ऊपर से संजय भी उसके एक मम्मे को हाथ से दबा कर दूसरी चूची पर जीभ घुमा रहा था.

एक्स एक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी फिर रमेश अपने घुटनों पर आ गया और उसने अपने लंड पर थूक लगा कर रिया की चूत पर अपना लंड सेट कर दिया. ब्लाउज का हुक खुद नहीं लगाया जा सकता है।फिर मैं क्या करता … मैंने ही भाभी के ब्लाउज का हुक लगाया और ब्लाउज की डोरी को भी बाँधा।भाभी ने कहा- इसीलिए मुझे नीचे आने में देर हो गयी.

नंगा सेक्सी वीडियो देहाती

तो पाठकों कैसी लगी मेरी बाँडेज सेक्स स्टोरी … अगर कहानी पढ़ कर लौंडियों की चुत भीग गयी हो और जलन कर रही हो, तो बरफ लगा लें और जो लोग लंड को हिला कर उसकी गर्दन पर जुल्म उठा रहे हों, वो तेल लगा लें. रमेश का लंड भी एक बार फिर से तन कर मेरी चूत में जाने के लिए तैयार दिख रहा था. वहां पर किसी भी तरह से मजा लिया जा सकता है जो असल जिन्दगी में किसी औरत के साथ संभव नहीं हो पाता है.

मैंने उससे बोला- एक बार फिर करते हैं!मेरे बोलते ही उसने जल्दी से अपने कपड़े निकाल दिए और मेरा लंड बाहर निकाल कर चूसने लगी. इसलिये अब मैं चूची चूसते हुए दान्त भी गाड़ने लगा और दूसरी चूची को नींबू की भांति निचोड़ने लगा. सेक्सी व्हिडिओ मराठी सेक्सीमैं भी एक्साइटेड हो रहा था कि मुझे वो सब करने का मौका मिलेगा जो मैं अपनी सौतेली बेटी के साथ करना चाह रहा था.

नैन्सी अब हांफने लगी थी, पर आकाश का माल निकलने का नाम ही नहीं ले रहा था.

मैंने कहा- मेरे साथ दोस्ती करोगी?उसने कहा- हां मुझे आपकी दोस्ती मंजूर है. हुआ भी यही, भले प्रिंसीपल बात कर रहे थे … लेकिन उन्होंने मेरी नंगी गांड को देख लिया.

उसने जैसे ही मुँह में लंड लेकर चूसना शुरू किया, मैंने उसके बाल पकड़ कर पूरा लंड उसके गले तक उतार दिया और उसकी नाक को बंद कर दिया. मेरे बहुत ज़ोर देने पर उसने बोला- अगर आपको बता भी दूँगा तो क्या मेरी परेशानी आप दूर कर दोगी?उस पर मैंने बोला- बताओ तो … देखूँ शायद कोई समाधान हो मेरे पास।अखिल ने बताया कि आज उसके दोस्तों की तरफ से पार्टी है और उसकी कपल्स थीम है. मुझे यही उपाय पता था सो किया मैंने!” वो बोलीथैंक्स निष्ठा, पर बुखार तो दवाई से भी उतर जाता न!” मैंने कहा.

मगर तेरे जैसी आज तक नहीं देखी।लड़की- देखने की क्या बात है सेठ? तू तो मुझे चोदेगा भी।रवि- तेरे जैसी रंडी को चोदना तो बहुत किस्मत की बात है और लगता है कि किस्मत आज मुझ पर काफी मेहरबान है.

भाभी सेक्स हिंदी कहानी में पढ़ें कि अन्तर्वासना पर मेरी सेक्स स्टोरी पढ़कर एक भाभी मेरे यहां जैसलमेर घूमने आई. जब मीता ने देखा कि मेरा लंड तैयार है … तो खुद ही मेरे दोनों तरफ पैर करके मेरे लंड पर बैठ गई. कुछ ही घस्सों के बाद सरोज ने आ … आ … ई … ई … ई … ई … ईईई ईईईई … करते हुए अपनी चूत से पानी छोड़ दिया और सरोज मुझसे चिपक कर मेरे ऊपर निढाल होकर लटक गई.

गुजराती सेक्स इमेजफिर बस रवाना हुई, उस समय वो मेरी सीट के पास आकर बैठ गयी और समय अनुसार अपना गुस्सा चिकोटी काट कर उतारने लगी. अपनी पैंटी से मैंने अपनी चूत की फांकों को पोंछा और फिर उसको ड्रेसर पर रख दिया.

मच्छर चालीसा

उसको तड़पाने के लिए मैं अपनी गोल गोल गांड को उसके सामने उचका कर चल रही थी और अपने चूतड़ों को अपनी हथेली में लेकर भींच रही थी. इधर ननद अपनी शॉर्ट्स उतार कर नंगी हो गयी और मेरे मुँह पर अपनी चूत लगा कर उसकी रगड़ाई करवाने लगी. मगर अब आप मेरे सामने ऐसे रो रही हैं तो मैं आपको ऐसे अकेला छोड़ कर तो नहीं जाऊंगा.

पिंकी ने हँसते हुए कहा- ओह हो मिस्टर … अभी से शैतानी? लेकिन अच्छा लगा तुम्हारा हाथों को किस करने का अंदाज़. अगर सैट हो जाती तो कसम से पूरी रात चोदता।भाभी को बस में उल्टियाँ होने लगती हैं. आह्ह … अंदर धकेलते रहो इसे … मजा आ रहा है … बहुत गर्मी मिल रही है तुम्हारे लंड से … आह्ह … हां … ऐसे ही।मैं- अपनी चूचियों को बाहर निकालो जान.

मेरी ये बात वो मान गया और लंड निकाल कर उसने मेरी गांड पर लगा कर एक जोरदार झटका दे मारा. सुमीना बोली- मैं रूम में कैसे आ सकती हूं अभी? मेरा पति घर आ चुका है. वो एकदम चिहुँक कर बोली- उईई दैया … चाट ले मेरी चूत … आह्ह … चाटे ले इसको … ऊईई अम्मा … आह्ह मेरी चूत।उसके इस पागलपन को देख कर मैं भी उसकी चूत में मजा देते हुए उसकी चूत को अच्छे से चाटने लगा.

मुझे ये बड़ा अजीब लग रहा था कि ऐसे कैसे हुआ … लंड मामी की गांड में क्यों नहीं जा पा रहा था. मुझे पता था कि आज ब्यूटी और स्मार्टनैस की अघोषित प्रतिस्पर्धा होने वाली है.

थोड़ी देर में मुझे ऐसा लगा कि मेरा लंड कहीं दो मुलायम गद्दियों में फंसा हुआ है.

जब बिजली चमकती तो क्षणभर के लिए चकाचौंध रोशनी हो जाती फिर एकदम से अन्धकार छा जाता. मराठी बाप सेक्स विडिओवो- आने दो, सब सह लूंगी … बस मुझे चोद दो जीजू।मैं- चिल्लाओगी तो नहीं?वो- नहीं, बिल्कुल नहीं, अब मुझे चोद दो प्लीज … जल्दी करो जीजू प्लीज।फिर मैंने अपना लंड उसकी बुर के छोटे से छेद पर सेट किया. सेक्स सागरउस दिन पता चला कि भैया और भाभी दोनों उत्तराखंड से हैं और भाभी ने एफ एम एस से एम बी ए किया था. मसलने में थोड़े से लचीले और दिखने में सख्त मम्मे मेरा नशा बढ़ा रहे थे.

तब तक पूजा ने सब समेट दिया था और चादर को भी बाथरूम के बाहर टांग दी थी.

जब मैं उनके घर में रह रहा था तो मैंने देखा कि आंटी और अंकल के बीच कुछ रोमांच था ही नहीं. मैंने कहा- रुमित ये तुम क्या कर रहे हो?उसने कहा- वही, जो तुम समझ रही हो. आप जानते ही हैं कि कुंवारे लड़कों का इन सबका अंत मुठ मारने से होता है.

आंटी कहने लगी- तुम्हें पता है वह भैंसा किस लिए रखा जाता है?वैसे तो मैं जानता था लेकिन अनजान बनते हुए मैंने आंटी से कहा- नहीं आंटी, मैं नहीं जानता किस लिए रखा जाता है?आँटी मुस्कुराई और बोली- मैं बताती हूँ तुम्हें … किस लिए रखा जाता है. मैंने कहा- मेरे साथ दोस्ती करोगी?उसने कहा- हां मुझे आपकी दोस्ती मंजूर है. मेरे ख्याल से आपके लिए दूसरा विकल्प ठीक रहेगा।मैंने हंसकर कहा- अच्छा तो अभी से तुम अपना फैसला थोपने लगी?मेरी इस बात से वो हड़बड़ा गई, उसने कहा- सॉरी सर, मेरा ये मतलब नहीं था.

सेक्सी चुदाई वाली कहानियां

फिर मैंने चुत के ऊपर वाले हिस्से को हथेली से थामा और जीभ की नोक बना के क्लिट पर लबलबाने लगा. मेरे हाथ उसकी पीठ और कमर को सहला रहे थे और हमारे होंठ एक दूसरे के होंठों में जैसे सिल गये. मैं भी सोचते हुए कहने लगी- हां यार ईशिता … अब हम क्या करेंगे?ईशिता ने कहा- रुमित तुम एक काम करो.

शादी से पहले और शादी के बाद भी मेरे शारीरिक संबंध लड़कियों और भाभियों के साथ रहे हैं और भी नई हसीनाओं के साथ शारीरिक संबध बनाने के लिए उत्सुक भी हूँ.

मैं चुदासी सी उन दोनों से गुहार करने लगी कि प्लीज अब देर मत करो … मेरी चूत और गांड फाड़ दो.

ऐसे संबंधों में ज्यादा चंचलता नहीं होनी चाहिए … धैर्य के साथ इस तरह के सम्बन्धों को जारी रखना चाहिए, वरना सावधानी हटी और दुर्घटना घटी की कहावत आपके सामने होगी. मेरी भतीजी नीचे को सरकी और मेरी चादर के अंदर घुस कर मेरा लंड अपने मुंह में ले लिया।अब कहाँ तो साली भोंसड़ी देखने को नहीं मिलती थी. मेरी मां की बराबर कोई नहीं रिंगटोनमैंने इससे पहले न जाने कितनी बार अपने ऑफिस में मुठ मारी थी लेकिन कभी मेरे लंड में ऐसा तनाव नहीं रहा था जितना इस वेबकैम मॉडल को नंगी देख कर रहा.

उसका एक मस्त शरीर था, अच्छी शेप वाली बॉडी थी और वो सामान्यतया नीचे दबने वाले किस्म का लड़का था. बेड पर गिरते ही नेहा की स्कर्ट ऊपर उठ गई और उसकी गोरी गुलाबी चूत … उसकी स्वस्थ और भरी हुई जांघों के बीच पकोड़ा सी बनकर उभर गई थी. तो मेरे सभी रीडर्स, जो इंडियन सेक्स स्टोरीज से जुड़े हैं, मैं सबसे कहना चाहता हूं कि मेरे जैसे मोटे और भारी लोगों के लिए दिल्ली सेक्स चैट वेबसाइट एक बहुत ही उम्दा अनुभव देती है.

फिर मैं उसके पंजों की ओर मुंह करके उसके मुंह पर चूत रख कर बैठ गयी और अपनी चूत को चटवाने लगी. ननद की हरकतों से महसूस हो गया था कि उसको मेरे और अपनी भाभी का सब पता है.

सच कहूं तो दोस्तो, एक बार तो मन किया कि प्रीति को वहीं पटक कर चोद दूं लेकिन मैं अपनी भावनाओं पर कंट्रोल किये हुए था.

ये बात पिछली नवरात्रि की है … मेरा कॉलेज में बहुत बड़ा ग्रुप है … जिसमें बहुत सारी लड़कियां ओर हैंडसम लड़के भी हैं. वो मेरी सबसे प्यारी भाभी जी हैं।vip[emailprotected]कहानी का अगला भाग:ऐसी प्यारी भाभी सबको मिले-2. मैंने बाथरूम में जाकर पेशाब किया और अंडरवियर वहीं निकाल कर पानी में भिगो दिया.

हिंदी में सेक्सी देहाती मैंने पूछा- ऐसा क्या है?वो बोला- क्या अकेले आप ही मस्ती लोगे … मुझे भी लेने दो. अब राजेश ने उसे नीचे झुककर घोड़ी बना दिया और पीछे से अपना लंड उसकी चूत में पेल दिया.

उसने दूसरे हाथ से मेरा एक हाथ पकड़ कर अपने पेटीकोट के अन्दर डलवा लिया. मनजीत को धीरे धीरे चोदते चोदते मेरा जोश बढ़ने लगा तो मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी. रात को खाना खाने के बाद छत पर घूमता था तो जरीना भी अपनी छत पर आ जाती थी.

सेक्सी बड़े बड़े लंड

उसकी चूत के रस से गीली होकर उसकी सलवार उसकी जांघों से जैसे चिपक सी गयी थी. मैं उसके बगल में बैठ गया और उसे समझाने लगा। उसे बताया कि इस हरकत से उसकी बदनामी तो होगी ही मेरी भी बदनामी होगी।मैंने पूछा- एक बात बताओ? उससे क्या चाहती थी तुम?वह चुप थी. चूंकि मुझे ज्यादा उम्र की या आंटी टाइप की महिलाएं बहुत पसंद आती हैं.

पर उसके ज़ोर से मेरे लण्ड को ही दिशा मिली जिससे वो जरा अंदर को जगह बनाता दिखा।किट्टू समझ गयी कि उसकी सब मेहनत व्यर्थ है और मैं ऐसे नहीं मानने वाला. दो मिनट तक लंड चुसवा कर मैंने उसे नीचे पटक लिया उसकी टांगों को चौड़ी करके उसकी जांघों के बीच में उसकी चूत पर लंड रख कर एक जोर का धक्का दिया.

मजा आ गया तुझे चोद कर।रवि- हां साली … सच में तू कड़क माल है।रिया- मगर सेठ तुम्हारी भी बातें सच निकलीं.

हम दोनों चुदाई करना चाहते थे तो मैंने थियेटर में में चुदाई का प्लान किया. यहां तक कि हर धक्के पर बेड अपनी जगह से सरकने लगा था और चूत घर्षण से इतनी गर्म हो चुकी थी कि अचानक नेहा की चूत की दीवारों ने फव्वारे छोड़ दिये और उसी वक्त मेरे लंड ने भी अपना फव्वारा खोल दिया. आज बहुत अरसे बाद अपनी एक मित्र के कहने पर आज अपनी वैरी सेक्सी गर्ल हॉट स्टोरी आप सबके साथ शेयर कर रहा हूँ.

जो शायद मुकेश की मां ने महसूस कर लिया था, पर अपने पोते की खुशी उनके लिए ज्यादा जरूरी थी. हुआ भी यही, भले प्रिंसीपल बात कर रहे थे … लेकिन उन्होंने मेरी नंगी गांड को देख लिया. कुंवारी लड़की भी इतनी चुदासी हो सकती है मैंने पहली बार अनुभव किया था.

मेरे दोस्त ने मेरी बात सुनने के बाद कहा कि ये बहुत ही प्राकृतिक है और इसे हस्तमैथुन कहते हैं.

एक्स एक्स वीडियो बीएफ फुल एचडी: ये बात पिछली नवरात्रि की है … मेरा कॉलेज में बहुत बड़ा ग्रुप है … जिसमें बहुत सारी लड़कियां ओर हैंडसम लड़के भी हैं. ”ओह …”प्रेम एक काम कर सकते हो क्या?”क्या?”तुम सन्डे दोपहर में या शाम को हमारे यहाँ आ जाओ और फिर रात में वहीं रुक जाना.

मुझे इतने पैसे दे दो और चोद लो।रमेश- क्या तू मुझसे भी चुदने के पैसे लेगी?रिया- सेठ, यह चूत खैरात की नहीं है कि जब चाहो तब अपना लंड इसमें घुसा दो! वैसे भी तुम तो इतने मालदार सेठ हो. थोड़ी ही देर में हम दोनों वहां पहुंच गए, जहां वो लड़के कार लेकर खड़े थे. मैंने तुरंत दरवाजा खोला और सचिन अंदर आ गया।उसके पीछे विक्रम भी अंदर आये और पहली बार मैंने उनको देखा.

भैया जनरली टूर पर रहते थे, तो भाभी मुझसे बात करके अपने दिल का हाल भी बता देती थीं.

मैंने एक बार फिर से उसके होंठों को अपने होंठों में ले लिया और उनको जोर से चूस दिया. इतने में बाथरूम का दरवाजा खुला और सिर्फ एक तौलिया लपेटे हुए रमेश बाहर निकला. अब वो खड़ी होकर खुद ही मेरे लंड को अपनी चूत पर रगड़ने लगी और सिसकारते हुए बोली- जीजू, दे दो अब अपना.