बीएफ बढ़िया सेक्सी

छवि स्रोत,एक्स एक्स वीडियो साउथ

तस्वीर का शीर्षक ,

80 साल बुढ़िया के बीएफ: बीएफ बढ़िया सेक्सी, उसने मेरे लौड़े को एक बार में ही पूरा अपने मुँह में ले लिया और लंड चाटने चूसने लगी.

बीपी सेक्सी ब्लू पिक्चर वीडियो

मेरे एक हाथ में दारू का गिलास था और एक हाथ से मैं अपने लंड को सहला रहा था. एक्स एक्स एक्स वीडियो हाई क्वालिटीउन्हें देख कर मैं थोड़ा झिझका क्यूंकि मुझे ऐसी उम्मीद बिलकुल न थी कि दरवाजे पर कोई खड़ा मिलेगा।उस दिन पहले पहल मैंने भाभी को देखा था।उन्होंने लाइट ब्लू कलर की साड़ी और बैकलेस मैचिंग ब्लाउज पहन रखी थी.

बिना देरी करते हुए मैंने उनकी शर्ट उतारी और उनकी बॉडी को चाटने लगी. ब्लू सेक्सी फिल्म इंग्लिश वीडियोमैं तो अभी ज्यादा से ज्यादा लोगों का स्पर्म लेने के मिशन पर थी इसलिए मैंने भी उस डॉक्टर का पूरा साथ दिया.

उसका फोन नंबर अचानक से बंद हो गया और उससे मेरी बहुत दिनों तक बात न हो सकी.बीएफ बढ़िया सेक्सी: हमारी दोस्ती के बाद पहली चुदाई कैसे हुई?दोस्तो, मैं राहुल कुरुक्षेत्र हरियाणा से हूँ.

थोड़ी देर बाद उसने अपना पानी छोड़ा, तो मैंने रस चूस लिया और चुत रस से गीले होंठ उसके होंठों पर रख दिए.कुछ मिनट की चुदाई के बाद जब चाची झड़ने की कगार पर आईं, तो वो मेरी पीठ पर हाथ लपेटकर मुझसे चिपक गईं.

बीएफ वाली फिल्में - बीएफ बढ़िया सेक्सी

वो तो दी आ गई थीं, नहीं तो कुतिया को वहीं पटक कर चोद देता मैं … मादरचोदी रंडी.तेरी और दी की तो अच्छी जमती है?समीर- मेरे कारण तो दी अभी तक टिकी हुई हैं.

तो उसको क्या बोलकर आई हो? उसने पूछा नहीं कि कहां जा रही हो?वो बोली- मैं उसको बोलकर आई हूं कि मैं अपनी सेहली के यहां दो दिन तक पढ़ाई करने के लिए जा रही हूं. बीएफ बढ़िया सेक्सी दोस्तो, मैं आपका प्यारा सा आजाद गांडू एक बार फिर से अपनी गांड मराने की सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ.

करके झर गई और उसने मेरी गर्दन में अपनी बाहें लपेटते हुए मुझे जोर से चूमा और फिर निढाल हो गई.

बीएफ बढ़िया सेक्सी?

क्या हुआ वहां?अन्तर्वासना के सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार।मेरा नाम राज है. बिखरे हुए बाल, होंठों से निकलता खून, उसका उजड़ा हुआ चेहरा और लाल हुई आंखें देख कर अब तो कोई भी बता सकता था कि सोनम किसी असली मर्द से बेरहमी से चुदी है … और उसकी चुत और गांड अब अगले पन्द्रह दिन तक किसी का भी लौड़ा लेने से इंकार करने वाली है. आँटी धीरे से सरककर ऊपर बेड पर हो गई और आंखें बंद करके लम्बी लम्बी सांसें लेने लगी.

जैसे ही मैं इधर उधर होता था, वह मुझको गालियां देने लगता था और थप्पड़ भी मार रहा था. ऐसे ही कुछ दिन और निकल गए, मैंने अमितेश और श्वेता से कोई ज्यादा बात नहीं की. मैंने पूछा- लेकिन तुम तो कंपनी की यूनिफॉर्म में हो, इसे पहन कर मसाज कैसे कर सकती हो?यामिना- साहब, अभी तो मेरे पास दूसरे कपड़े भी नहीं हैं, ऐसे ही कर देती हूँ.

इसे अक्ल नहीं है बात करने की! आप नाराज़ मत होइए!और तभी वो लड़का धीरे धीरे मेरी चूत के पास अपना हाथ लाया और मेरी चूत को सहलाने लगा. उनकी गर्म योनि के रस का स्पर्श अपने लंड पर पाकर मैं और ज्यादा उत्तेजित हो गया था. मेरी नजर भाभी कमर पर पड़ी, तो भाभी ने साड़ी का पल्लू कमर में खौंस रखा था.

मेरे दिमाग को वैसे भी उसके घर जाने का कोई भी आईडिया नहीं आ रहा था, तो सोचा शायद इस फोन से काम बन जाए. मैंने भाभी से कहा- बुला लूं उसे भी … मन हो तो दोनों छेदों में एक साथ मजा ले लेना.

वहां मैं अपने गांव के परिचित और मुझसे तीन चार साल बड़े एक गबरू सजीले नौजवान नसीम भाई मिल गए थे.

मैं सुबह देरी से उठा तो मैंने देखा कि मामी मेरे कमरे में झाड़ू लगा रही थीं.

ज्योति, जो बैग में से अपने कपड़े निकाल रही थी, पलट कर देखते हुए सीटी बजाकर बोली- क्या बात है जानेमन, ये बिजली किस पर गिराने का इरादा है?उसने पीछे से आकर स्नेहा को बांहों में भर लिया और उसके गाल पर किस करते हुए मस्ती करने लगी- क्या बात है यार … तेरे आम तो दिन पर दिन बड़े होते जा रहे हैं, आज कल किससे दबवा रही है?ये कहते हुए ज्योति ने स्नेहा की रसभरी चूचियों पर अपने हाथ रख दिए. चाची की भरी हुई गांड मारने का मन तो मेरा भी था क्योंकि औरत की गांड मारने में बहुत मजा आता है, अगर वो खुद से अपनी गांड मरवाने के लिए सहमत हो तो सच में बड़ा मजा आता है. और पोर्न में मैं इतना खो गया कि मुझे दरवाजे में हुई दस्तक भी सुनाई नहीं दी।मेरे रेस्पांस न देने की वजह से भाभी दरवाजे को धक्का देकर कब मेरे बेड के पीछे आकार खड़ी हो गईं, मुझे पता ही नहीं चला।जब उन्होंने पीछे से आवाज़ दी तब मैंने चौंक कर पीछे देखा और हड़बड़ा कर फ़ोन एक तरफ रख दिया और उनसे बोला- आ.

फिर दोनों हाथों से उसके चूतड़ पकड़ कर फैला दिए और लंड अन्दर बाहर करने लगा. कोई कमर पर हाथ लपेटे हुए, कोई सीने पर सिर रख कर, कोई गोद में बैठकर गलबहियां डाले, कोई किस करते हुए, कोई दोनों जोबनों को पकड़ कर प्रेमी प्रेमिका की तरह फोटो खींच रहे थे. मैंने चूत को इतना चाटा कि …मैं सारिका एक बार फिर से आप सबका अन्तर्वासना पर स्वागत करती हूं.

मगर उसके नीचे बैठ जाने से मुझे अब ये डर लग रहा था कि‌ कहीं वो वापस ना चली जाए.

देखो प्रभात की कैसी ढीली है तुमसे कमजोर है पर्सनाल्टी में आधा भी नहीं है. आप सभी पाठकों ने मुझे काफी संख्या में ईमेल भी भेजे और सेक्स कहानी की तारीफ भी की. मैंने उसे अच्छे से पकड़ कर बैठने को बोला तो उसने अपना एक हाथ आगे कर लिया और मेरी जांघ पर रख कर मुझसे सट कर बैठ गयी.

वापिस आई तो मैं खड़ा हो गया और मैंने आँटी को खड़े-खड़े ही अपनी बांहों में ले लिया. हॉट भाभी देवर कहानी में पढ़ें कि मैं भाभी भाभी के साथ फ़्लैट में रहता था. पैग लेने के बाद वो बोली- थैंक्स पंचम, आज बहुत दिनों बाद मैंने सेक्स का एंजाय किया.

कल भी जब वो मुझे दरवाजे तक छोड़ने आयी थी तो उसने मेरे हाथ से हाथ टच करने की कोशिश की थी.

मैंने अपने आपको रोकने की बहुत कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हुआ, तो मैंने भी अपने कपड़े उतार डाले और नंगा ही बाथरूम के पास पहुंच गया. तभी दीदी ने घूम कर खुद को सामने लगे आईने में देखा, तो मैंने देखा कि उनकी गांड भी बड़ी गजब ढा रही थी.

बीएफ बढ़िया सेक्सी कुछ समय बाद मेरी बच्चेदानी पर उसने अपने वीर्य से तेज पिचकारी मारी और मेरी चूत को अपने स्पर्म से भर दिया. उनका मोटा मस्त लन्ड प्रभात की गांड में सटा सट सटा सट जाता हुआ अब मुझे साफ़ दिख रहा था.

बीएफ बढ़िया सेक्सी मयंक और मैंने अच्छे से सोच कर वहां रात को जाने का फैसला कर लिया कि शायद हमारी किस्मत जाग जाए. अब मैं उधर से जाने लगा, तो भाभी बोलीं- क्या हुआ आज आते ही जा रहे हो … कोई काम था क्या?मैंने कहा- नहीं कुछ नहीं, बाद में बताता हूँ.

क्यों मॉम, इससे हमारी पढ़ाई का नुकसान भी नहीं होगा और थोड़ा चेंज भी हो जाएगा?स्नेहा- एक दिन में क्या घूमेंगे?चिराग- दो दिन पूरा हमारे पास है.

सेक्सी बीएफ चोदी बीएफ

पूरी रात मैं अपना लंड रमिला चाची की प्यारी मखमली गांड पर रगड़ता रहा लेकिन उन्होंने मेरी एक न सुनी औरचाची की गांडकुंवारी ही रह गई. उस फिल्म को देखने के बाद मेरे अन्दर की भावना गंदे सेक्स से भर चुकी थी. मैं- मैंने चुदाई करते हुए कुछ और भी कहा था, याद है या भूल गई?यामिना मेरी ओर देखकर मुस्करा दी और आँख और गर्दन के इशारे से उसने जता दिया कि उसे याद है.

मैं प्रभात से पूछना चाहता था, पर नहीं पूछ पाया कि यार वह कौन किस्मत वाला है, जिसने तुम जैसे चिकने माशूक की गुलाबी गांड का मजा सबसे पहले लिया था. मेरी चुत में उसके हाथों का स्पर्श होते ही मेरे अन्दर भी एक अजीब सी कंपकंपी आने लगी थी. कोई कमर पर हाथ लपेटे हुए, कोई सीने पर सिर रख कर, कोई गोद में बैठकर गलबहियां डाले, कोई किस करते हुए, कोई दोनों जोबनों को पकड़ कर प्रेमी प्रेमिका की तरह फोटो खींच रहे थे.

मैं- तो यार उसकी दिलवाओगे?वह- अरे आप तो बड़े मजे से करते हो, मैं उससे जरूर बात करूंगा.

साथियो, देसी सेक्स की मनघड़न्त कहानी के लिए आप मेरे साथ अन्तर्वासना से जुड़े रहें. जैसे ही मेरी पट्टी खुली … मैंने देखा के भाभी ने एक ब्लैक गाउन से अपने पूरे शरीर को कवर कर रखा था. Xxx भाभी चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरा दिल अपनी पड़ोसन भाभी पर आया.

यार मनोज तू कश्मीरी गेट तक चला जाएगा … थोड़ा ज़रूरी है, मेरी कार रास्ते में खराब हो गयी है. उनके गोल मटोल, बड़े बड़े और कसे हुए मम्मों को देखकर मेरी लार टपकने लगती थी. हमारे कमरे में एक खिड़की थी, जिसे खोल कर सिगरेट का धुंआ बाहर निकल जाता था.

फिर मैंने अपना लौड़ा चुत से निकाल लिया और अलमारी से तेल की कटोरी उठा ली. वो हल्के से मुस्करायी और फिर किचन में चली गयी।उसने अपनी बेटी को चॉकलेट देकर दूसरे कमरे में टीवी चला कर बन्द कर दिया।अब मैं किचन में आ गया और देखा कि वो आज हल्के महरूम कलर का नाईट सूट पहने थी, जो हल्का पारदर्शी भी था.

अब मम्मी की गांड भी ढीली होने लगी थी और वो धीरे धीरे गर्म होने लगी थीं. आदमी मुझसे मुखाबित हुआ और मुझसे हाथ मिलाकर बोला- मैं सुलतान (बदला हुआ नाम). फिर निर्मला जी के गले को अपनी हथेली में हल्के से पकड़ा, एक हथेली से उनकी कमर को पकड़ा और उनके होंठों को चूम लिया.

फिर मैं जानबूझ कर हल्का सा आगे हुई तो उसका हाथ कंधे से नीचे हो कर मेरे बूब्स के पास आ गया जिस पर उसने आगे से किसी कवच की तरह अपना हाथ लगा लिया.

फिर धीरे से मैंने उसका हाथ अपनी जांघों के बीच में अपने लंड पर रख दिया. अब आगे की हॉट सेक्सी आंटी चुदाई कहानी:मैंने निर्मला जी के हाथ से कंडोम का पैकेट ले लिया और उनके हाथ को पकड़ लिया. संगीता उसके पास बेड पर बैठ गई- उठ जा बेटी … देर हो जाएगी तुझे कॉलेज जाने में!स्नेहा- गुड मॉर्निंग मॉम, सोने दो ना … कितनी अच्छी नींद आ रही थी.

मैंने उसे उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए. फिर जब मनीष झड़ने को हुआ, तो उसने अपना लंड नेहा की चूत से निकाला और उसके मुँह के पास कर दिया.

हमारे पड़ोस में मेरे पापा के दो कजिन भाई रहते हैं, जिनका हमारे परिवार से बहुत ही प्यार भरा नाता है. ये कहते हुए मैंने उनके पैंट की चैन नीचे कर दी व हाथ डाल कर उनका लंड बाहर निकाल कर सड़का मारने लगा. लेकिन मैं इस बात से बिल्कुल अंजान था कि वो मुझ पर इस तरह फिदा हो चुकी है कि वो कैसे भी करके मुझे पाना चाहेगी.

सनी लियोन की बीएफ डाउनलोड

विदेशी आदमी बोल रहा था इंग्लिश में कि हमारी डील का क्या हुआ?मेरे बॉस ने मेरी बीवी की तरफ इशारा करके बोला- यह रही आपकी डील.

अजय- हां मेरी रंडी, मेरा लंड अब भी तेरी चुत फाड़ने के लिए फड़फड़ाता है … आ जा साली, तेरी गांड मारने का बड़ा जी कर रहा है. चाची- ये बात तो आप अपने देवर जी से पूछना, बिस्तर पर लेटते ही इनके खर्राटे शुरू हो जाते हैं, बच्चा होने के बाद इनका मुझमें इंटरेस्ट ही नहीं रहा. मनीष ने नेहा का सिर पकड़ लिया और उसका मुँह चोदने लगा- ले साली मादरचोद … ले अपने खसम का लंड … बहुत आग लगी थी ना तेरी चूत में कुतिया … ले.

चाची की आंखों में खुमारी चढ़ी हुई थी… अंगड़ाई लेते हुए बोली- फिर आ जा!जैसे ही मैं चाची की ओर बढ़ा, चाची ने तुरन्त मुझे अपना हाथ लगाकर रोक दिया. मैंने एक बात नोट की कि वे हम कुछ नमकीन लौंडों पर ज्यादा मेहरबान रहते थे. फुल सेक्स ओपन वीडियोमैं समझ गया कि इसका पति भी मेरे जैसा खिलाड़ी है और इसे जमकर चोदता है.

मेरे दूसरे झटके से मेरा पूरा लंड उसकी चूत को फाड़ता हुआ अन्दर जा घुसा. तभी अचानक सुलतान बाथरूम से बाहर आया और नीचे लेटकर मेरे आण्ड चाटने लगा.

मैं भी संगीता की गर्म आवाज सुनकर और ज्यादा उत्तेजित हो गया और लंड को बाहर निकाल तेजी से फिर एक जोर का शॉट लगा दिया. उन्होंने कुछ देर उसकी गांड को सहलाया और फिर मेरी बीवी की पैंटी पूरी उतार दी. मुझे उस दिन अपने घर के लिए निकलना था और इसके लिए ही मैं कॉलेज से जल्दी आया था.

उसने मुझे बताया कि उसका पति उसको छोड़ कर उसकी बहन के साथ रहने लगा है. चाची ने नाईट गाउन में से एक मम्मा बाहर निकाला और मेरा सिर नीचे दबा कर मेरा मुँह अपनी चूची के निप्पल पर टिका दिया. मेरे होंठ उसके होंठों पर जा लगे जिनका स्वागत उसने बहुत ही प्यार से किया और पूरा साथ देते हुए मेरे होंठों से होंठ मिलाकर चुम्बनों का आदान प्रदान करवाने लगी.

अपनी हवस को थोड़ी शांत करने के लिए मैंने उसकी सैम्पल फोटो, उसकी एक छोटी वीडियो और उसकी पसंद नापसंद को देखना शुरू किया.

मगर मैं उसे इतना गर्म करना चाहता था कि जब मेरा लंड उसकी छोटी सी पुद्दी में घुसे तो उसे वो सम्हाल सके।मैं जानता था कि आज उसकी पहली चुदाई होनी है और उसके लिए मेरे लंड को सह पाना इतना भी आसान नहीं होने वाला था।वो अभी 19 साल की कमसिन कली थी।अब मैं उसकी चूची को चाटने हुए उसके पेट को चूमने लगा. पल्लवी- हां यार, तू सच बोल रही है तन्वी … साली ये भी कोई जिंदगी है, घर से कॉलेज और कॉलेज से घर … बोर हो गई थी मैं तो.

मेरे वीर्य की चार पांच पिचकारियां तो प्राची के गले से सीधे नीचे उतर गईं. ये बात सुलतान को भी पसंद आई क्योंकि उसने आज तक न कभी देखा था और ना ही सुना था कि नाभि में शराब डालकर भी पी जाती है. आपको जवान कुंवारी बुर की चुदाई की ये होटल रूम सेक्स स्टोरी पसंद आ रही हो तो मुझे अपने मैसेज भेजते रहें.

हॉट फैमिली सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी बहन के घर रहने गया तो उनकी जेठानी की जवान बेटी बड़ी मस्त सेक्सी हो गयी थी. बेड और फोल्डिंग के बीच में गैप की वजह से बात ठीक से बन नहीं रही थी. अब मैंने धीरे धीरे भाभी की चुत में झटके देना शुरू कर दिए और कुछ ही देर बाद मैं उन्हें तेज तेज चोदने लगा था.

बीएफ बढ़िया सेक्सी मैंने भी अपना हाथ उसके लंड पर लगाया, उसका लंड एकदम कठोर हो चुका था. पांच मिनट में ही मुझे उसके लंड से माल की गंध आने लगी थी और थोड़ी ही देर में उसके मोटे लंड का वीर्य निकल गया.

बीएफ सेक्स सारी वाली

मैंने उसकी पैंटी को चूस डाला और उसकी चूत की फांकें अब साफ नजर आने लगीं क्योंकि पैंटी गीली हो गयी थी. मैंने उसे सामने की टेबल पर बिठाया और उसका कुर्ता खींच कर एक झटके में उतार दिया. हम तो वैसे भी कॉलेज आ रहे थे?चिराग- दोस्तो, इस वीकेंड पर पिकनिक का मूड बन रहा है.

फिर मैं उसे ये खाने का डब्बा कैसे दूंगा?मगर मैं मकान मालकिन को मना नहीं सकता था, इसलिए मैं वो डब्बा लेकर ऊपर आ गया. मेरा लण्ड चूत की डिमांड करने लगा तो मैंने अपना जॉकी उतारा और अपने लण्ड की खाल चार छह बार आगे पीछे करके जीनिया की चूत में डाल दिया. एक्स एक्स एक्स हिंदी में वीडियो मेंमैं अपनी जीभ उसके मुँह में डाल कर घुमाने लगा, तो प्राची ने भी मेरी जीभ को पकड़ कर चूसना शुरू कर दिया.

मैं सब सुन तो रहा था … लेकिन उसके दूध से भरे हुए उभार देखकर मेरे शॉर्ट्स में लंड पूरी तरह खड़ा हो चुका था.

उनका माशूक लौंडों की गांड में मिसमिसा कर लंड पेलना बार बार मेरे चेहरे के आगे घूम रहा था. इथर मैंने पोजीशन बदलकर रोशना को घोड़ी बनाया और पीछे से लंड पेल लार उसे चोदने लगा.

चूंकि मैं खड़ा था … तो ऊपर से उसके बोबों पर मेरा ध्यान बार बार जा रहा था. कॉलेज स्टूडेंट्स लव लाइफ स्टोरी कुछ दोस्तों के एक ग्रुप की मस्ती की हैं. आप लोगों ने मेरी पिछली सेक्स कहानीकॉलेज टूर में लंड चुसाई का मजाको पढ़कर काफी सराहा था.

मामी कुछ कर नहीं सकती थीं, तो वो मुझे वहीं तेल लगा कर वापस चली गईं.

उफ्फ़ क्या फिगर था उसका … सुबह सुबह से सामने एक गजब सी फ्रेश माल दिख गई थी. टॉवल छोटी थी तो मेरी मुयालम गांड भी दिखने लगी।तभी सर को हल्का ठसका सा लगा और मैं हड़बड़ा कर उनको जग में से पानी देने लगी. उसने अपनी टांगें मेरी कमर पर लपेट दीं और लंड को अपनी चूत में कसने लगी.

હિન્દી પિક્ચર નવાज्योति- छोड़ यार … मेरी चूत में चीटियां रेंगने लगी हैं, फालतू गर्म मत कर … चल सोते हैं. वो मान गईं और कहने लगीं- इस ठंड से बचने के लिए वो कुछ भी कर सकती हैं.

हिंदी सेक्सी बीएफ चलते हुए

जब वो ये सब बता रही थी तो उसने अपनी साड़ी का पल्लू सीने से हटा कर अपनी गोद में रख लिया था. इसलिए मैंने थोड़ी देर तक तो ममता जी को वैसे ही घोड़ी बनाकर चोदा … फिर दोनों हाथों से उनकी‌ कमर को‌ पकड़कर एक तरफ को लेट गया. मैंने देखा कि भाभी उनसे बारी बारी से हल्का सा टीका लगवा लेतीं … बस उससे ज्यादा कुछ नहीं.

मैं- भाभी एक बात बताओ, आपने वीडियो कैसी निकाली, मैं तो दरवाजा बन्द करके सोता हूँ!भाभी- तुम्हारे दरवाजे का लॉक खराब है, वो अन्दर से बन्द तो होता है, लेकिन बाहर से धक्का देने पर खुल जाता है. एक बार तो मुझे लगा था कि वो शौहर के फोन के बाद अब चोदने से मना कर देगी लेकिन वो भी आज चुदकर ही जाना चाह रही थी. मैंने पूछा- अभी आप कहां पर हो?उसने जवाब दिया कि अभी तो घर पर ही हूँ.

अन्दर के आदमी को देख कर मेरे पैरों के नीचे से जैसे जमीन ही खिसक गई. उसने आज ब्लैक कलर की मिनी स्कर्ट पहनी थी, जो उसकी पैंटी के नीचे तक आ रही थी. उससे मुझे जो मजा आया, बस तभी से मुझे चुदाई करने का जुनून सवार हो गया.

मेरी प्यारी सेक्सी सुमन मामी ने झट से अपनी ब्रा पैंटी उतार दी और इसी के साथ ममी ने मेरे कपड़े भी निकाल दिए. मैं- आप अक्सर पीती हो?लिली- नहीं कभी कभी जब मन उदास होता है तो!मैं- क्या आज भी मन उदास है?लिली- अरे नहीं सर, आज तो आपके आने की खुशी में पी रही हूँ.

मैंने फिर से उसकी चूचियों पर हाथ फिराना शुरू किया तो फ़लक भी मेरे लौड़े को हाथ में पकड़कर सहलाने लगी.

उसके नीचे सपाट चिकना पेट और पेट पर ही छोटी, किंतु गहरी नाभि … और उसके ठीक नीचे सेक्सी, सुंदर, प्यारी सी बिना बालों वाली चिकनी चूत, जिसमें से बाहर को निकला हुआ दाना चुत की छटा को चार चांद लगा रही थी. सेक्सी वीडियो देना चाहिएअब मैंने उसे वो हार पहनाया- ये तुम्हारी मुंह दिखायी!ज़ारा- आप ही पहना दीजिये!और उसे लिटाकर किस करने लगा जब ज़ारा साथ देने लगी. लेटेस्ट सेक्सी फिल्मलेकिन मैंने हिम्मत करके लंड को उसकी चूत की फांकों के ऊपर लगाया और रगड़ने लगा. उसका लण्ड देखकर मेरी तो गांड फट गई क्यों कि उसका लण्ड करीब 11 इंच लम्बा था जो मसाज से 12 इंच हो गया.

अब उसकी गोरी भरी हुई गांड जिसे ऑफिस में देखकर अक्सर मेरा लौड़ा खड़ा हो जाता था, मेरे सामने थी.

फिर भी उसने अपनी आंखें तो नहीं खोलीं, मगर जब मैं उसके चेहरे पर जगह जगह किस करने लगा, तो उसके होंठ कंपकंपाने से लगे. एक उंगली से मैं उसके दोनों निप्पल को सहलाने लगा और दूसरे हाथ की उंगली से हल्के हल्के उसके योनि द्वार की बीच की गहराई सहलाने लगा।दिव्या जैसे उड़ना चाह रही थी मगर किसी अदृश्य बंधन में बंधी थी।मैं चाहता था यह अदृश्य बंधन कुछ देर और बना रहे. उन्होंने मेरी गांड को गीला किया और मैं अभी कुछ समझ पाता कि बुआ ने एक अलग ही हरकत कर दी.

मैंने कहा- ठीक है मेरी जान!मैंने मोना भाभी के हाथों को अपने हाथों में लिया और उसको धन्यवाद बोला. अब मैंने उठने का यत्न किया, तो भाभी ने मेरे हाथ को पकड़ते हुए मुझे वापस बिठा दिया. मैं आपको अपनी प्यासी चूत की कहानी बता रही थी कि कैसे कविता ने मेरे साथ सेक्स करके मेरी लेस्बियन प्यास जगा दी।हॉट लेस्बियन्ज़ कहानी के पहले भागलड़की को लगी चूत चाटने की प्यासमें आपने देखा कि कविता और मेरी ही सहेली प्रीति मेरे घर आई और हम दोनों में सब कुछ खुल गया.

सेक्सी बीएफ वीडियो में चुदाई वाली

मैंने उनकी चूचियों को पकड़ कर दबाना शुरु कर दिया और रोमिल को देखने लगा. मुझे लगा वो असहज हो गयी तो मैंने उसे पानी की बोतल देते हुए सॉरी बोला और पानी से कुल्ला करने को बोला. मैंने अपना हाथ उसकी चूचियों पर रखा और एक दूध को दबाना चालू कर दिया.

मुझे बड़ा अजीब सा लगा कि ऐसी मस्त भाभी को मैंने जिम में पहले कभी देखा क्यों नहीं.

मेरे भाई की शादी 2 साल पहले हुई थी और वो पुणे में ही एक सॉफ्टवेयर कंपनी में काम करते हैं.

लेटते ही चाची ने मेरी तरफ करवट ली और मुझ पर चादर डाल ली और झुककर अपने होठों को मेरे होठों से मिला दिया. उसने पूछा- आज आप ऑफिस नहीं गए?मैंने बोला- हां ऐसे ही … आज जाने का मन नहीं था. एक्सएक्सएक्स बीफआपको ये देसी चुत Xxx स्टोरी कैसी लगी मुझे आप इस बारे में लिखना न भूलें.

मैं प्राची के मम्मों को दबाने लगा और उसके दूध की धार चाय के कप में छोड़ने लगा. अब वो उठे और मेरी टांगें फैलाकर मेरी चूत में लंड दे दिया और चोदने लगे. वो बॉस के रहते किसी बात के लिए मना भी नहीं कर सकती थी इसलिए उस विदेशी औरत का साथ देने लगी.

Xxx बस सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक दिन मुझे सूझा कि मैं लोकल बस में सफर करके अपने जिस्म से मर्दों को ललचाऊँगी. रंजू और अनु दीदी आपस में एक-दूसरे के मुँह पर अपनी चूचियों की चुसाई का मजा ले रही थीं.

भाभी जी- आर यू श्योर … क्या तुम्हारा इरादा पक्का है?मैं- जी भाभी जी.

जब हम दोनों घर पहुंच गए और समीर मेरे लिए पानी ले कर आया तो मैंने उसको बैठाया और उससे बोला- ये बताओ कि तुमको मैं अलग से पैसा क्यों देती हूं? तुमको आज मैं अपने साथ बाज़ार क्यों ले गयी? क्या मैं अकेली नहीं जा सकती हूं या अभी तक जाती नहीं थी?समीर एकदम चुपचाप खड़ा था. उसी रात मैंने हिम्मत करके उन्हें मस्त चुदाई का सेक्स वीडियो देखने को दे दिया. मैं व्याकुल हो उठा और उठकर आगे बढ़ कर उसका हाथ पकड़कर उसे अपनी ओर खींच लिया.

बीएफ एचडी में हिंदी शायद मेरे साले की उम्र 38 साल की होने की वजह से वो 26 साल की यौवना को तृप्ति नहीं दे पा रहा हो. उसकी गांड का टाइट घेरा उस डिल्डो पर चिकने पदार्थ को अच्छी तरह रगड़ रहा था.

थोड़ी देर तक लंड को सहलाने के बाद मैंने तुरंत ही मुठ मारना रोक दिया. मानसी ने रजनी को अपने गले से लगा लिया, बोली- आई लव यू मम्मा! मुझे आप पर गर्व है. वह वाकयी बहुत नमकीन लौंडा था बिल्कुल रनवीर कपूर जैसा लगता था … पंजाबी मुंडा था.

एचडी बीएफ देखना है

मैं मन में बुदबुदाई कि मुझे पता है आप क्या देखने की सोच रही हो थैंक्यू चाची. पांच मिनट बाद जब उतना लंड जब चुत में एडजस्ट हो गया तो भाभी जी ने एक बार और हिम्मत की, लंड को वापस टोपे तक बाहर निकाला. मैं भी उसको अपनी ओर खींचे रही लेकिन एक वक्त के बाद उसने मुझसे खुद को अलग कर लिया.

अब आगे:जब लंड चुत में नहीं घुसा, तो अशोक ने अपने मुँह से मेरी चुत की चुदाई शुरू कर दी. तो प्राची ने अपनी टी-शर्ट एक तरफ से ऊपर करके कहा- लो कर लो अपनी इच्छा पूरी.

तो मैंने बुआ की चुत से अपना लंड बाहर निकाल कर उनको डॉगी स्टाइल में होने को कहा.

लेकिन कोई काम नहीं मिला इसलिए हम दोनों काम ढूंढते ढूंढते यहां तक आ गए. मैं क्रीम ले आया और मोना भाभी की चूत में दो उंगलियों से क्रीम लगाने लगा. मैंने उसे उठाकर घोड़ी बना दिया और उसकी चूत में लंड घुसा कर गपागप गपागप चोदने लगा.

शगुफ्ता से मैंने पूछा- तुमने बताया था कि तुम्हारी बहन भी साथ में रहती है. उन्होंने अपनी उंगली चुत में डालकर मेरे लंड रस को निकाला और मूत से चुत को साफ़ किया ताकि मेरे वीर्य से कुछ गड़बड़ न जाए. अशोक ने मेरा थैंक्स करते हुए कहा- आप नहीं जानती हैं मेम कि आपने मेरी प्रार्थना को मान कर मुझ पर कितना बड़ा अहसान किया है.

तलाक के बाद उसे सेक्स की बहुत इच्छा होती थी।आप सबकी मिस कोमल मिश्रा एक नई लड़की की कामवासना स्टोरी के साथ आप लोगों का मनोरंजन करने आ गई है।जो भी मेरे पुराने पाठक है उनको तो मेरे बारे में सभी कुछ पता होगा.

बीएफ बढ़िया सेक्सी: मैं इसकी चूची पीती हूं तब तक। उसके बाद एक तगड़ा झटका मार कर लन्ड को इसकी चूत में पूरा उतार देना. फिर मैंने कहा- अभी और मजा आएगा … देखती जाओ जान!भाभी ने बोला- ठीक है दिखाओ अब … मैं तो कब से कह रही हूँ.

मैंने इसके पहले कभी भी प्राची के शरीर के बारे में सोचा नहीं था … ना कभी उसको उस नजर से देखा था. वहां पर जितने भी लड़के खड़े थे, हम दोनों उन सबसे हैंडसम और स्मार्ट दिख रहे थे. अब डॉक्टर हंसते हुए बोला- अगर तुझे नहीं चोद पाया … तो मैं बर्बाद हो जाऊंगा.

फिर दीदी ने अपनी छिपी हुई जगह से एक सिगरेट की डिब्बी और लाइटर निकाला और सिगरेट सुलगा कर कश लेने लगीं.

इसके बाद ही मुझे नशा होने लगा और भाभी जी ने अपना तीसरा पैग, जो कि नीट बनाया था, उसे पी गईं और अगला पैग बनाने लगीं. मैंने अपने होंठ उनकी तरफ कर दिए, तो दीदी मुझे होंठों पर किस करने लगीं. परिवार की गांव में खेती थी … शादी नहीं हुई थी, कहता था कि शादी होने तक पढ़ेगा.