सेक्स बीएफ नंगी सीन

छवि स्रोत,बुर में लंड डाला

तस्वीर का शीर्षक ,

देहाती भाभी का सेक्सी: सेक्स बीएफ नंगी सीन, वो मुक्के मारकर मुझसे छुड़ाने लगी लेकिन मैंने उसकी गांड को जोर से भींच दिया और एक हाथ से उसकी चूची दबा दी.

लड़की का पिक

रमेश रति से बोला- तुम ठीक तो हो ना?रति- हाँ मै ठीक हूँ लेकिन पता नहीं मुझे क्या हो जा रहा है कल से!डॉ राकेश- भाभी जी, मैं तो राय दूँगा कि आप 10-15 दिन किसी हिल स्टेशन पर जाकर रेस्ट कर लीजिए। आपको आराम की जरूरत है।रमेश- अगर ऐसा है तो फिर ठीक है. नहाते हुए लड़की की वीडियोमैंने कहा- मेरी जान आप चिंता मत करो, मैं बहुत प्यार से करूंगा और आपको इतना मजा दूंगा कि आप मुझसे चुत मरवाने की बजाए कहोगी कि पहले गांड में घुसाओ.

फिर उसे चूमते चूसते हुए उसकी सलवार पैंटी उतार कर …अब आगे की साली की चुत की कहानी:अब आगे की साली की चुत की कहानी:वो लगातार मेरा विरोध किये जा रही थी और मुझसे दूर हटने की पूरी पूरी कोशिश कर रही थी पर मैंने उसकी दोनों हथेलियां अपनी हथेलियों में फंसा लीं और उसे अच्छे से चूमते हुए किस करता रहा. ब्लू फिल्म नंगी तस्वीरमैं कुछ दोस्तों से नाराज भी हूँ … क्यों बहुत सारे दोस्तों ने मुझे पैसे देकर चोदने की इच्छा जताई.

क्या सोच रही होगी वो मेरे बारे में? कितनी बार पानी निकला होगा उसकी चुत से? फिर भी लग तो ऐसा ही रहा था कि वो मेरे जाल में फंस जाएगी.सेक्स बीएफ नंगी सीन: एक दिन बाद ही मैंने एप को अपने फोन में इंस्टाल किया और रूम बुक कर लिया.

मैंने चुपके से देखा, तो अभिषेक पीछे से मेरी नंगी पीठ और कमर को ही ताड़ रहा था.मैं फिर भाभी के ऊपर आ गई और थोड़ा सा खीरे को निकाल कर आधा अपनी चूत में लभैंसा और आधा भाभी की चूत में लभैंसा और भाभी की जांघों से चिपक गई.

સેકસી વીડીયોસ - सेक्स बीएफ नंगी सीन

तभी किचन से रीना ने सबको खाने के लिए आवाज लगाई। बुआ खाना खा कर सोने की तैयारी में लगी.मैं चाहती हूँ कि कोई असली मर्द मेरे ऊपर चढ़ जाए और अपने मजबूत लंड से मेरी जवानी को रौंद दे.

विजय ने तुरंत मुझे जोर से पलंग पर पटक दिया … और जैसे शेर अपने शिकार के ऊपर हावी हो जाता है, वैसे ही वह मेरे ऊपर आकर हावी हो गया. सेक्स बीएफ नंगी सीन हवस में पागल हुआ सा मैं अब उसको जानबूझकर लंड दिखाने की कोशिश कर रहा था और इसमें मुझे मजा भी बहुत गजब का आ रहा था.

मैं रश्मि के गोल-गोल मम्मों के साथ-साथ उसके तने हुए दोनों निप्पलों को मसल रहा था.

सेक्स बीएफ नंगी सीन?

com/imranovaish2देसी गर्ल की सेक्स स्टोरी का अगला भाग:मज़हबी लड़की निकली सेक्स की प्यासी- 2. एक बात और कहूं कि सुमित जी इतने अच्छे व्यक्ति लग रहे थे कि मुझे उनकी बातों से उन पर मुझे थोड़ा सा भी संदेह नहीं हो रहा था।उन्होंने मुझसे कहा- सोना जी, मेरी वजह से आपको कभी कोई परेशानी नहीं होगी. मैं पूरे लंड को चुत के अन्दर पेल कर थोड़ी देर के लिए रुक गया और प्यार से भाभी की चुचियों को चूसने लगा.

कविता बोलती रही- मुझे याद आ गया वो दिन, जब मैंने तुम्हारी बुर पहली बार चखी थी, पर तब मेरी प्यास नहीं बुझ सकी थी. जब तक दोनों साथी एक दूसरे के दिल के भाव नहीं समझेंगे, तब तक ये जुड़ाव संभव नहीं है. उसने धीरे धीरे मेरी जाँघ पर हाथ रगड़ना शुरू किया, मुझे मज़ा आ रहा था.

फिर वो हक सा जताते हुए बोली- राज जी, ज़रा बता दिया करो कि आप आ गये हो. सभी एक ही रूम में बैठे थे और विजय बोला- शालिनी मैं कार सही करवाने जा रहा हूं. मैं थोड़ा सा चीख उठी और बोली- आराम से करो ना जानू!मगर वे तो जैसे किसी बेलगाम घोड़े की तरह मेरी चुदाई कर रहे थे; बहुत जोर जोर से मेरी चूत में झटके दे रहे थे.

अब क्योंकि मैं भी इसी दुनिया की हूँ … तो मेरे साथ भी ऐसा ही कुछ हुआ. पूरा कमरा चुदाई की आवाज से गूंज उठा- आहह हहह आहहह ऊईई ईईई ऊईईईई चोदो चोदो चोदो मुझे लेलो मेरी आहहहह आहहह चोदो और चोदो।अब वो भी गांड को आगे पीछे करने लगी.

मामी को पलंग पर लिटाते हुए उनसे नंगी होने की कह कर मैं जल्दी से नारियल का तेल का डिब्बा ले आया.

मैंने बोला- जिस रेजर से मेरी शेव की है, मुझे वो वाला ही रेज़र दो, उसी से करूंगी.

पर्दा पूरी लम्बाई में न होकर केवल बेड को ही ढके हुए था, अर्थात उसमें आने जाने के रास्ते में पर्दा नहीं था. मेरी बात सुनकर उन दोनों ने आपस में कान में कुछ कानाफूसी की और हंसने लगीं. मैंने ये मासूम सा बनते हुए कहा और एक हाथ को अपने गाल पर रख लिया, जिससे शायरा हंसने लगी.

मैंने गीतिका से पूछा- गीतिका, सच सच बताना अभी तक एक रात में कितनी बार चुदी हो?गीतिका कहने लगी- राज, मैं सच बता रही हूँ, मेरे हस्बैंड ने कभी भी एक बार से ज्यादा नहीं किया और जब भी वह चुदाई करते थे तो एक दो मिनट से ज्यादा टाइम नहीं लगाते थे और झड़ जाते थे, यह तो पहली बार ही मैं देख रही हूँ कि कोई आदमी इस तरह से भी चोद सकता है, सच में मेरे लिए यह बहुत ही मजेदार एक्सपीरियंस है. मैं समझ गयी कि अब दोनों को ठंडक मिल गयी होगी, इसी वजह से दोनों शांत हो गईं. किसी ने सच ही कहा है कि बरसात में बहते हुए आंसुओं को कोई देख नहीं सकता … आज कुछ वैसा ही लग रहा था.

विजय ने तुरंत मुझे जोर से पलंग पर पटक दिया … और जैसे शेर अपने शिकार के ऊपर हावी हो जाता है, वैसे ही वह मेरे ऊपर आकर हावी हो गया.

‘हैलो, जॉनी भाई, एक नई चिड़िया आई है मेरी डाल पर, कहो तो आपके पिंजरे में भेजूँ. शायरा तो मुझसे अब नज़र ही नहीं मिला रही थी मगर मैं अब थोड़े मज़ाक के मूड में आ गया था. वो खुद अपने चूचे पकड़ के मसल रही थी और अंगूठे निप्पलों में गाड़ रखे थे.

फिर किसी तरह बहाना बना कर मैं अपने कमरे में जाकर सोने की तैयारी करने लगी. फिर मैं जाकर धीरू अंकल से बोली- ये लोग कौन हैं?तो धीरू अंकल ने कहा- मेरी जान, इन तीनों से मिलो. इससे पहले नयनों की भाषा मैंने नहीं सीखी थी, जो मुझे आज सीखने को मिल रही थी.

मेरी सील टूट चुकी थी।फिर उसने मेरी चूत को ठीक से साफ करके धोया और पता नहीं कौन सी दवाई लगाकर रुई लगा दी.

फिर मैं उन्हें किस करने लगा और उनकी एक टांग को उठा कर उनकी चूत में लंड लगाते हुए एक धक्का दे दिया. मैंने गुड्डी का कुर्ता निकाल दिया और उसकी ब्रा का हुक खोल कर उसकी कमर पर जीभ फिराने लगा.

सेक्स बीएफ नंगी सीन वे जाने लगी तो मैंने पूछा- आँटी दुबारा लाइट कब जायेगी और रात को कब आओगी?आँटी बोली- थोड़ा दिमाग लगाओगे तो कभी भी लाइट जा सकती है. मैंने उन्हें हंस कर देखा, तो उन्होंने मुझसे बोला कि कल दोपहर 12 बजे तैयार रहना.

सेक्स बीएफ नंगी सीन जब वो मेरी तरफ आ रही थी तो मेरी मां ने पीछे से इशारा कर दिया कि नॉर्मल डिस्काउंट से 2 प्रतिशत ज्यादा डिस्काउंट मैं इस लड़की को दूं. मेरे लण्ड ने जैसे ही बिन्दू की चूत को टच किया वह आ… आ… करके सीधा खड़ी हो गई और लण्ड को अपने मोटे और गुदाज़ पटों में दबा लिया.

दोस्तो, जब से मैंने शशिकला भाभी को देखा था, तो मेरे मन में उसी समय से भाभी के संग चुदाई की वासना जाग उठी थी.

मां बेटे की बीएफ सेक्सी फिल्म

उसके बाद अपने काले लंड पर तेल लगा कर मेरी कुंवारी गांड की छेद पर अपने लंड को रगड़ने लगा. शायद इसी वजह से मैं दर्द बर्दाश्त करती हुई आधे लिंग को अपनी योनि के भीतर ले चुकी थी. कुछ देर ऐसे ही लंड चूसने के बाद उन्होंने ने हमारे लौडों को छोड़ा और हम सभी ने आपने आप को साफ़ किया.

कुछ देर के बाद जब डेज़ी ने अपनी आंखों को खोला, तब मैं समझ गया कि अब उसे मज़ा आने लगा है. चाचा जी बोले- सुहानी बेटा, आप तो बहुत ही ज्यादा खूबसूरत लग रही हो, इतनी सुंदर लड़की मैंने आज तक असलियत में नहीं देखी. इसलिए जब डॉली और अन्नू की ट्रेनिंग खत्म हुई तो वो सीधा भोपाल से मुंबई आ गयीं.

मुझसे चलते नहीं बन रहा था, तो मैंने अनु के साथ जाने से मना कर दिया और मैं होटल में ही रुक गयी.

हम भी दोनों नीचे और ऊपर से झटके लगा रहे थे जिसकी वजह से नेहा और गीत को झटके लगाने की जरूरत नहीं हो रही थी. तो हुआ यूं कि बिजनेस के काम से एक बार फिर मुझे चार-पांच दिनों तक अपनी ससुराल में रूकना था. मैं गुड्डी के पीछे जाकर उसकी गर्दन को चूमने लगा और दोनों हाथों से चुचियों को दबाने लगा.

उनका लंड मेरी चूत में एकदम अंदर तक जा रहा था। वो मुझे बहुत बुरी तरह से चूम और चाट रहे थे।वह मुझे खा जाना चाहते थे. उसके मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं- ओह मेरे राजा आह खा लो … आह इतने दिन से कहां थे … ओहो अब नहीं सहा जाता मुझे प्यार करो!मैंने भी मैरिड गर्लफ्रेंड की चुदाई करने का मन बना लिया था. मेरे होंठ और उसके होंठ दोनों ही एक दूसरे को कब चूमने लगे, पता ही नहीं चला.

मैं रोहन की जीभ चूस रही थी और नीचे निशु ने जीभ मेरी गांड के छेद में डाल कर उसको अन्दर बाहर करने लगा. मैंने बड़े प्यार से भाभी के चूतड़ों के बीच के किशमिशी छेद पर होंठ लगा दिए.

ऊपर खड़ी खड़ी गीत भी मेरी उँगलियों की चुदाई वजह से सिसकारने लगी थी- ऊईई … आह्ह … आईई … याहह … स्स्स … आह्ह।अब मैंने गीत को उसके बैग से डिल्डो निकालने को बोला. ” मैंने भी ढिठाई से कहा और अपना हाथ उसकी जांघों के बीच घुसेड़ के उसकी चूत कुरेदने लगा. जितना बोलती मैं … उसका काला नाग मेरी चुत में उतना ही अन्दर घुस कर गहरी सुरंग बना रहा था.

वर्तमान में इसे आप मेरा शौक बोल सकते हैं कि मैं घर जाकर महिलाओं के शरीर की मसाज करता हूँ.

वे दोनों मेरे कहने के बाद उठे और अंदर बेड के पास पर्दे के पीछे चले गए. साथ ही गीत भी अपनी टांगों को सिकोड़ रही थी क्योंकि उसकी चूत में पहले से ही डिल्डो घुसा हुआ था. लेकिन उसने अपनी पड़ोस की एक असंतुष्ट भाभी आएशा को वासना पूर्ति के लिए शाम को बुलाया है।34 साल की आएशा एक शेयर कारोबारी हमीद दलाल की तीसरी बीवी है जो अपने ४८ साल के खसम से खुश नहीं है।रीना की प्लानिंग सुन मैं दंग रह गया.

मैंने मोबाईल को को एक जगह स्थिर करके उनकी वीडियोग्राफ़ी चालू कर दी और उन दोनों के साथ बेड पर मैं भी कूद पड़ा. कुछ ही देर में रोहन का शरीर झटके खाने लगा और उसने तुरंत अपने जेब से अपना रूमाल निकाला और उसमें अपना माल छोड़ दिया.

मैं ऊपर आया और रिसेप्सन पर मैंने पूछा तो मुझे बताया गया कि वो अभी क्लास में हैं. मुझे बिस्तर में नंगे ही सोने की आदत के कारण अनीता को खुला लंड मिल गया. थोड़ी देर बाद मैंने भाभी को उल्टा लिटाया और उनके चूतड़ों के नीचे तकिया लगा दिया.

लुधियाना की सेक्सी बीएफ

धीरे-धीरे मेरी भी हिम्मत खुली और होंठों से होते हुए कानों के पीछे किस करते हुए गर्दन तक पहुंच गया.

अनु दीदी की गुंदाज़ बड़ी बड़ी चूचियां उछल उछल कर सीने से ही आजाद होने के लिए फड़फड़ा रही थीं. मैंने डिब्बे के सभी फाटक अन्दर से बन्द करके अनीता से कहा कि अब आ जा, खुल कर तेरी चुदाई करता हूँ. मैंने उसे सीट पर एक साइड में लिटा दिया और दूसरी साइड में मैं लेट गया.

उससे पहले तेरे पति के सामने तुझे चोद सकूं, तू ऐसी कोई तरकीब निकाल!अनीता- उसकी चिंता आप बिल्कुल भी न करो फूफा जी. वह कहने लगा- आप ऐसा करें, आप इन लड़का लड़की के साथ पार्क के बाहर तक आ जाओ, इन्हें इनके घर भेज देंगे और हम अपनी ड्यूटी पर चले जायेंगे. पवन सेक्सीसाली जी के गोल गोल गोरे चिकने नितम्ब उस हल्की सी रोशनी में भी दमक रहे थे, मैंने अनायास ही झुक कर उन्हें चूम लिया और उसकी मांसल चिकनी जाँघों को सहलाते हुए नितम्बों पर चार पांच चपत लगा कर पैर खोलने का प्रयास करने लगा.

उस वक्त मैंने उसको कुछ नहीं कहा क्योंकि वहां पर बाकी लोग भी मौजूद थे. हमारी चुदाई में मैं तीन बार झड़ चुकी थी जबकि विजय ने पहली बार ही अपने अमृत से मेरी चूत को भरा था.

वो भी मुझसे कुछ नहीं बोल रही थीं और मैं भी उनसे कुछ नहीं बोल रहा था. और हाँ, आगे से गालों पर ज्यादा निशान नहीं डालने हैं, दूसरे लोग भी तो देखते हैं. तभी जैक ने निशि का ब्लाउज फाड़ दिया और उसकी ब्रा निकालने लगा, लेकिन निशि ने ब्रा निकालने से मना कर दिया.

जिस दिन मुझे सेक्स करना होता है, उस दिन सलोनी भाभी के घर की तरफ निकलने से एक घंटे पहले भी हस्तमैथुन करता हूँ. मैं बचपन से ही पढ़ाई में बहुत तेज़ थी और लड़कियों से ज़्यादातर दूर ही रहती थी. जीजू कमरे के बाहर खड़े थे।दीदी गुस्सा होकर बोली- जब नर्स कह रही है तो दिखा दो ना!इतना कहते ही दीदी ने मुझे बैड पर लिटा दिया और मेरी सलवार का नाड़ा पकड़कर खींच दिया.

सलोनी भाभी के हाथ मेरे सिर के बालों में आ गए थे और उन्होंने खुद मेरा मुँह अपनी चुत की तरफ दबा दिया.

मालिश करते हुए मेरे नौकर श्यामू ने कहा- मालकिन, तेल से आपकी ब्रा खराब हो जाएगी, अगर आप बुरा न मानो तो इसको खोल दूं?मैंने भी अपने पालतू कुत्ते नौकर से कहा- तुझे जो भी खोलना है … खोल दे लेकिन मालिश बढ़िया से करना. मैं- माँ, अभी समय ही नहीं मिल पा रहा है कि किराये का कोई फ्लेट देख सकूँ.

जिस भी भाभी की चुदाई मैंने आज तक की है वो ही मुझसे खुश होकर गयी है और आज तक भी मुझे याद करती रहती है. तो दूसरी तरफ़ की भी डोरी टूट गयी और मैं नाइटी सम्भालने के चक्कर में सच में जमीन पर गिर पड़ी. मैंने बैठे बैठे गीतिका को थोड़ा सा पीछे किया और उसकी टांगों को अपनी दोनों टांगों के बीच में ले लिया.

थोड़ी देर में मेरे लंड ने पिचकारी मारी और मैंने भाभी के मुँह में पूरा वीर्य भर दिया. एक बार तो गीत ने नेहा की चूची को अपने मुंह में भी ले लिया और फिर नेहा के मुंह में भी अपनी चूची को दे दिया. एक संडे के रोज मैं किसी काम से नीचे गया तो मुझे एक बंगाली सा दिखने वाला कपल दिखाई दिया.

सेक्स बीएफ नंगी सीन आंटी हॉट सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरी दोनों चाचियाँ सेक्स के लिए भूखी हुई पड़ी थी. पाठिकाओं से मेरा लंड तुनकाकर निवेदन है कि अपनी इस मधुर, मादक, अति कामोत्तेजक सुगंध वाली ताक़त को पहचानें और इसका प्रयोग अपने पार्टनर्स को कठपुतली की तरह उंगलियों पर नचाने के लिए करें.

सिर्फ सेक्सी बीएफ

मैंने एक दो बार उसे स्टार्ट करने की भी कोशिश की मगर वो अब स्टार्ट ही नहीं हुई. अब आगे:पास में ही बैठी शायरा भी ये देख रही थी … मगर मेरे उसकी झूठी चम्मच से खाने पर वो शर्मा सी गयी. इन्हीं हरकतों के चलते एक दिन अभिषेक का लंड तन गया जो कि मुझे उसकी पैंट से साफ साफ उभरा हुआ दिखने लगा.

मैं गाउन के ऊपर दुपट्टा डाल लेती थी।जब पट्टी होती तो कंधों से तनियाँ उतार कर गाउन नीचे कर दिया जाता. जी‌ … कल ये गलती से आपके‌ कोरियर के साथ आई चिट्ठी मेरे पास ही रह गयी थी. कामोत्तेजक कहानियांआएशा के आते ही रीना ने उसे और दीपक को दीपक के कमरे में अंदर बंद कर ताला लगा दिया।बुआ से पकड़े जाने के डर से मेरी रीना और रंजु की हालत ख़राब हो रही थी। दोनों बहनों ने बुआ को बातों ही बातों में दीपक के कमरे में नहीं होने की खबर बता दी और मैंने वहीं बैठे टीवी देखने में भलाई समझी।लेकिन बंद ताले के अंदर जो मल्ल युद्ध हो रहा था उसके लिए बेचैन रहा।चाय के समय का इंतजार खत्म हुआ.

थोड़ी देर चूमने के बाद रवि ने रिया को अलग किया और उसकी ब्रा का हुक खोल दिया.

धीरे धीरे जब उसका काला नाग मेरी ज्वालामुखी के सुरंग में पूरा घुस गया, तो वो रुक गया और मेरी तरफ देखने लगा. मैं कभी उनको देखती तो कभी अपनी आंखें बंद कर लेती।फिर धीरे-धीरे करके उन्होंने पूरा लंड मेरी चूत में डाल दिया।लंड को चूत में घुसाकर उन्होंने मेरे पूरे जिस्म को अपने आगोश में ले लिया।वे मेरे पूरे जिस्म पर अपने दोनों हाथ फिराने लगे। कभी मेरे बूब्स को दबाते तो कभी मेरी जांघों को।वो कभी मेरे होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसते और लंड को चूत में घुमाने लगते.

गीतिका के होंठों को मैंने चूस चूस कर नीला कर दिया।हमें चुदाई करते हुए आधा घंटे से ज्यादा हो गया था और गीतिका हर पांच सात मिनट के बाद चरमोत्कर्ष पर पहुंच जाती थी. वहां तो फिसल कर आगे के छेद में घुसने की नौबत नहीं आई लेकिन शिवम का साईज मेरे मुकाबले हैवी था तो वह फंस गया और जोर लगाने पर एकदम टाईट अंदर घुसा।उसके चेहरे पर फिर दर्द दिखने लगा तो मैं पास हो कर उसके एक निपल को होंठों में ले कर चुभलाते हुए एक हाथ से उसकी योनि मसलने लगा।वह कुछ क्षण के लिये थम गयी थी कि छेद शिवम के लिंग के हिसाब से एडजस्ट हो जाये. फिर वह सारे बर्तन समेटकर बुआ के साथ बिस्तर पर सोने चली गई।मैंने अपनी बहन की मदद से उसकी पड़ोसन को चोदा.

मौसी बोलीं- साले कब से भरा पड़ा था तू, मैं तेरी नजरों को समझती तो थी और खुद भी तुझसे चुदना चाह रही थी मगर मुझे ये नहीं मालूम था कि तू आज ही मेरी बखिया उधेड़ देगा.

पर जब मुझे औलाद नहीं हुई तो मुझे निराशा होने लगी और मैं विवश हो गई कि किसी दूसरे के साथ सम्बन्ध बनाऊं. उसके मोटापे को देखकर मैं उसमें रूचि नहीं ले रहा था लेकिन फिर उसके पीछे पीछे एक सेक्सी भाभी भी दाखिल हुई. आपका अमित[emailprotected]हॉट साली की चूत कहानी का अगला भाग:लॉकडॉउन में साली की चूत की सेवा- 2.

एक्स एक्स एक्स हीरोइन कीइस पर मेरा दिमाग बिगड़ गया, मैंने चिल्लाते हुए कहा- मादरचोदी, धंधे पर आकर भी भाव खाती है … चल जल्दी कपड़े खोल कर पास आजा, नहीं तो गांड में झाड़ू घुसा कर भगा दूंगा. भाभी की चूत की गर्मी जैसे मेरे लंड को जला रही थी और मैं उस आग में जैसे भस्म हो जाना चाह रहा था.

सेक्सी डांस बीएफ

वो- वो तो तुम वैसे भी नहीं छोड़ने वाले, मेरे मना करने पर भी खाने आ ही जाओगे. वो झट से उठी और मेरे लंड को पैंट में से आजाद करके अपने मुलायम हाथों से सहलाने में लग गई. सूरज ने मुझसे बोला- अच्छे से तैयार होकर आना, चाचा जी बड़े रंगीन मिजाज के आदमी हैं … कुंवारी लड़कियों के दीवाने हैं.

धीरे धीरे हम एक दूसरे के जिस्म का आनन्द लेने लगे और हमारी किस शुरू हो गयी. वो मेरे बारे में क्या सोचेगी?कहीं कोई ड्रामा न कर दे?मैं इसी उलझन में था कि नीरा रसोई का काम खत्म कर अंदर आयी और दरवाजा लगा दिया. रोहन मेरी पीठ सहलाते हुए मुझे शांत करवाने लगे और बोले- तुम चिंता मत करो, मुझे पता है तुम सब संभाल लोगी.

प्लीज़ आप लोग उदास ना हों और मेरे नाम की मुठ मार लें … और जहां आपका दिल करे, वहीं अपने लंड का स्पर्म डाल दें. शायरा के होंठों पर मैंने बस एक बार ही किस किया, फिर धीरे धीरे किस करते हुए नीचे की तरफ बढ़ गया. उसके कहे अनुसार फिर मैंने अपनी आंटी की एक पैंटी उठा ली और उसको अपने अंडरवियर के ऊपर से ही पहन कर आंटी के पास गया.

इतने में सामने से बड़ी चाची बोलीं- पूरा डाल और जोर से इसकी चुत में पेल … साली की फट जाना चाहिए. मुझे पता चल गया कि अब विजय ज्यादा देर नहीं टिक पाएगा … मैं विजय को गालियां देकर उकसा रही थी और उसके धक्कों की रफ़्तार लगातार बढ़ रही थी.

मुझे ऐसा लग रहा था मानो शायरा ने बस मेरे ही इंतज़ार में अपनी चूचियों को ब्रा की गिरफ्त में क़ैद करके रखा था कि मैं आऊंगा और उन‌को आज़ाद करके, जिस वजह से ये चूचियां इस दुनिया में आई हैं … वो असली काम पूरा करूंगा.

जब मैं उनके ड्राइंगरूम में पहुँचा तो सभी ने खड़े हो कर मेरा स्वागत किया. ड्रोन कैसे बनाते हैंपर प्लीज़ एक बार मुझे चूस कर झाड़ो ना!मैं समझ गया और मैंने उनकी टांगों को फैलाकर अपनी जीभ से पड़ोसन को चोदा. कॉल गर्ल से बात करना हैमेरे दोनों उठे हुए चूतड़ों के बीच फंसी मेरी टाइट गांड के छेद को वो लपलप करते हुए चाटे जा रहा था. इतने में वो मुझसे दूर होकर बोलीं- ये तुम क्या कर रहे थे?मैंने बोला- आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो.

कुछ ही देर में भाभी ने दो पैग खींचे और मटन की चाप उठाकर ऐसे चूसने लगीं कि जैसे लंड चूस रही हों.

रमेश का लंड हाथ में लेकर उसने मुंह में भर लिया और उसको जोर जोर से चूसने लगी. आँटी मुझे रोकती रही, मैंने अपना लोअर नीचे करके पैंटी की साइड से ही चूत में लण्ड फंसा दिया. एक-दो बार जीजू बोले- साली जी तुम्हारी सील मैं एक झटके में तोड़ दूँगा।एक दिन की बात है कि सुबह जीजू ऑफिस जा चुके थे और दीदी को बैंक का कुछ काम था इसलिए दीदी बैंक चली गयी थी.

अपने हाथ से उसने मेरे लड़ को पकड़ा और एक बार आगे पीछे कर उसे गप से मुँह में ले लिया. आप लोगों का प्यार ही मुझे सेक्स कहानी लिखने को प्रोत्साहित करता है. उस वक्त मैंने केवल अंडरवियर पहना हुआ था बाकी शरीर से मैं नंगा ही था.

पंजाबी सेक्सी बीएफ वीडियो में

मेरे लिये यह एक काफी अच्छा मौका था इसलिए मैंने उनको एक बार भी मना नहीं किया. मैं लेट गयी फिर कंपाउंडर ने मेरे स्तनों पर एक मशीन लगा दी और डाक्टर मेरे स्तन पकड़ कर कभी मशीन पर लगा देता तो कभी हटा देता. गीत बजते हुए तो अनगिनत बार चोदा था, किन्तु चुदने वाली घुंघरू पहन के चुदे ऐसा पहली बार हो रहा था.

बेटा गुड्डू अब इसे छोड़ना नहीं है … आज इसकी चुत तो गीली कर ही दे, इसको अपनी याद में चुत में उंगली करने पर मजबूर कर दे.

कुछ देर तक तो वह लंड को चूत पर आगे पीछे घिसता रहा, फिर उसने दबाब बनाया तो सुपारा अन्दर चला गया.

दोस्तो, मैं चन्दन सिंह … आपने मेरी पिछली सेक्स कहानीसाले की अतृप्त लड़कियों की चुदाईकी कहानी पढ़ी थी. ये कहने के बाद मैं कपड़े पहन कर उसे बाय करता हुआ होटल से बाहर निकल गया. पुलिस सेकसबड़ी चाची ने मेरी टी-शर्ट को निकाल दिया और छोटी चाची अपने एक हाथ मेरे लंड को पजामे के ऊपर से टटोल रही थीं.

फिर जब मैं पेटीकोट और सिर्फ ब्लाउज में बाहर आई, तो अभिषेक की मानो जैसे मेरी छाती देख कर आंखें ही फट गयी. बहुत ज्यादा देर नहीं हुआ था कि रश्मि ने अपनी कमर को हल्का सा ऊपर उठाया और रिलेक्श पोजिशन पर निढाल होकर मेरे लंड को चूसने लगी. फिर जीजू बोले- वैसे नीलम है बहुत गोरी।एक बार जीजू बोले- अगर उस समय तुम्हारी उम्र कम नहीं होती तो मैं तुमसे ही शादी करता।दोस्तो, उन दिनों गर्मियों के दिन थे और गर्मी की वज़ह से मेरी पीठ पर घमौरियाँ हो गई थी.

भाभी- हाईईईई संजय … तुम तो पागल कर दोगे यार … कितना मस्त सेक्स करते हो … रजत ने तो कभी इतना मज़ा नहीं दिया मुझे … आह. आंटी ने एक हाथ मेरे गाल पर फिराया और बोली- लगता तो काफी मजबूत है, चलो खड़े हो जाओ और अपनी आंटी की तसल्ली करवाओ.

इस पर भाभी ने मना कर दिया और बोलीं- नहीं यार प्लीज़ … अब तुम रुक जाओ.

मैंने कहा- रोहिणी तुमसे तो मिल लूंगा, पर तुम्हारे लड़के की सास के साथ मुझे आज रात सेक्स करना है. मैं बोली- फिर आप ये बताओ कि मुझमें ऐसा क्या है जो आपको मेरे जैसी ही लड़की चाहिए?वो बोले- तुझमें सब कुछ है. वो मेरे लंड को चूसने के साथ ही मेरी गांड को भी चाट रही थी और बीच-बीच में मेरी गांड के अन्दर अपनी उंगली भी डालने का असफल प्रयास कर रही थी.

नंगा वीडियो गाना मगर मैंने मौसी को नहीं छोड़ा और उन्हें पकड़े ही रहा और उनके मम्मे दबाने लगा. फिर मेरे आगे आकर सनी बोला- यार चुत पब में मार लूंगा … अभी तो गांड मार लेने दो.

फिर मैंने चादर में हाथ घुसा कर उसके नितम्ब सहलाते हुए बीच की दरार अपनी उंगली से सहलाते हुए उसकी चूत तक ले गया और वहां गोल गोल घुमाने लगा. अब अगले भाग में आपको लिखूंगा कि कोविड वार्ड में चुत चुदाई कैसे हुई और कौन कौन लंड के नीचे आया. मैंने उनके होंठों से अपने होंठ मिला दिए और उनके एक चूचे को अपने एक हाथ से दबाने लगा.

गुरिंदर सीगल जीएफ बीएफ मिलते-जुलते गाने

उसकी चूत की गर्मी का अहसास मुझे एक अलग तरह के आनन्द की अनुभूति प्रदान करवा रहा था. मैं बोली- मुझसे बड़े आप हो, तो आप बार बार ऐसा क्यूं बोल रहे हो?भाईजान बोले- अब तेरे लिए कोई लड़का ढूंढ़ना पड़ेगा शादी के लिए. एक बात और ध्यान से सुन लो, कल सुबह तुम्हारी जगह जो भी गार्ड आए, उसे भी बता देना.

इससे मेरी हिम्मत और खुल गई और देखते ही देखते मैंने उसकी नाइटी को अलग कर दिया. विजय ने मुझे चोद चोद कर मेरी चूत को सुजा दिया था, लेकिन अभी तक विजय के साथ चुदाई से मेरा मन नहीं भरा था.

खुद को गालियां देते हुए वो अपनी गांड को कामुक अंदाज में पीट रही थी.

नेहा गीत को बोली- साली कितनी आवाज़ कर रही थी पता है तुझे?गीत बोली- मुझे कुछ नहीं पता साली. चूत पर चूमने के बाद मैंने उसे पूरा मुँह में भर लिया, जिससे नैना और गर्म हो गयी. मुझे किसी पाठिका ने अन्तर्वासना की साइट पर मेरी मादक कहानियां पढ़ कर मुझे मेल की थी.

लगभग 3-4 मिनट की किस के बाद मैंने उनका शर्ट ऊपर करना चाहा, तो वो मुझे रोकने लगीं. तुम एक काम करो, जाओ अभी मेरे बाथरूम का शॉवर चला कर खड़े हो जाओ और अच्छे से नहा लो. मैं- तो क्या हुआ? शादीशुदा के क्या कोई दोस्त नहीं होते? शादी के बाद क्या आपकी कोई लड़की दोस्त नहीं रही?वो- हां वो तो है.

तू इसको किसी और को दे देना, किसी और की चूत मरवा देना, तेरा काफी सारा पैसा तो ऐसे ही वसूल हो जायेगा.

सेक्स बीएफ नंगी सीन: [emailprotected]कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी का अगला भाग:मेरी कुंवारी बुर की पहली चुदाई कैसे हुई- 2. मैंने पूछा- आदमी का कैसा होता है?भाभी- आदमी का लण्ड भैंसा के लण्ड से मोटा और आगे से फूला हुआ होता है और उसके सुपारे में स्पंज होता है जो चूत को नुकसान नहीं पहुँचाता और उससे बहुत ही अच्छा लगता है, उसका मज़ा ही अलग है, और आदमी औरत को नीचे लिटा कर जब उसके ऊपर लेटता है और उसकी चूचियों को पीता है, दबाता है तो उस चुदाई का मज़ा ही कुछ और है.

मैं और दीपिका एक ही फ्लैट में रहते हुए भी मिल नहीं पा रहे थे क्योंकि जब मैं ऑफिस से आता तो घोष बाबू भी आ चुके होते थे. तभी उन्होंने फोन लगाया उन्होंने किसी रिजवान नाम के आदमी को फोन लगाया और बोले- जल्दी से सुनील और प्रवीण को साथ लेकर मेरे घर पर आ जा. फिर मैंने सोचा कि बहुत दिनों से आपसे न बात हुई है और न मुलाक़ात ही हुई, तो आपसे मिल लूँ.

वो लड़की- चल अब देर क्यों कर रही है … नहीं तो बस निकल जाएगी और बारिश भी आने वाली है.

मैंने गीतिका की चूचियों के ऊपर चूसने और काटने के बुरी तरह से निशान बना दिए. तीसरा मेरे पिताजी चाहते थे कि मैं भी स्कूल-कॉलेज की पढ़ाई में बेवजह टाइम बर्बाद करने की बजाय फैमिली बिजनेस को ही संभालूं. दोपहर बाद जब सब मेहमान चले गये तो मैं सौरभ के कमरे में गई और उसके पास बैठ गई.