हिंदी बीएफ वीडियो बीएफ हिंदी

छवि स्रोत,बीएफ भोजपुरिया सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो चौकड़ी: हिंदी बीएफ वीडियो बीएफ हिंदी, मैं अभी चड्डी में था मगर मेरा लिंग गुफा में घुसने के लिए लोहे के डंडे की तरह खड़ा था.

एक्स एक्स वीडियो हॉट बीएफ

”हम दोनों ऊपर कमरे में पहुंचे तो मैंने नाज के सारे कपड़े उतार दिये और खुद भी नंगा हो गया. इंडियन सेक्सी मराठी बीएफनवीन- हां साली रंडी … तुझे पेल कर चोदूंगा … आह तेरी चुत में बहुत चुल्ल थी न चुदने की … आह ले साली मादरचोद मेरी पर्सनल रंडी … ले लौड़ा खा.

इतना मोटा लंड गांड में घुसने से उस रांड को तो जैसे जन्नत का सुख मिल गया हो, उसके चेहरे से ऐसा लगने लगा था. मद्रासी फिल्म बीएफमैंने मैडम से पूछा- आप अपने बालों में क्या लगाती हो … बहुत खुशबू आती है.

”जैसे ही सोढ़ी ने रोशन की चूत में उंगली डालने की कोशिश की, तभी रोशन ने सोढ़ी की ओर मुड़ते हुए उसे मना किया.हिंदी बीएफ वीडियो बीएफ हिंदी: इतना मोटा लंड गांड में घुसने से उस रांड को तो जैसे जन्नत का सुख मिल गया हो, उसके चेहरे से ऐसा लगने लगा था.

वो नीचे बैठ गई और मुझे देखते हुए उसने लंड को मुँह में ले लिया और बार बार अन्दर बाहर करने लगी.वो मेरी तरफ देख कर बोली- क्यों तुम एसी में ठंडे हो गए क्या?मैंने उसका मतलब समझ गया और बोला- कहां यार … मेरी तो गर्मी बढ़ गई.

बीएफ मौसी की बीएफ - हिंदी बीएफ वीडियो बीएफ हिंदी

खैर … जब मैं स्कूल पास करके कॉलेज गयी, तो वहां का माहौल एकदम अलग था.फिर तीसरे दिन मैंने उसे झुका कर सिस्टर की गांड में लंड घुसाया क्योंकि उसको अब लंड लेने की आदत हो चुकी थी.

[emailprotected]कुंवारी लड़की Xxx कहानी का अगला भाग:जुम्मन की बीवी और बेटियाँ- 2. हिंदी बीएफ वीडियो बीएफ हिंदी फिर मैंने मॉम की चूत का रुख किया, मैं मॉम की चूत चाटने लगा, उनकी चूत में जीभ भी घुसेड़ रहा था.

इस बीच मेरी चाची एक बार झड़ चुकी थी; उनकी चूत और मेरे लंड की टकराहट से चप चप की आवाज आना शुरू हो गई थी.

हिंदी बीएफ वीडियो बीएफ हिंदी?

इससे पहले कि मैं कुछ उनसे कहती कि वो मेरे पीठ को और कंधों की मालिश करने लगे और कहने लगे- तुमने इतने सारे कपड़े धोये हैं, थक गई होगी. करीब 10 मिनट के मॉम सन सेक्स में मॉम झड़ गई और साथ में मैं भी झड़ गया. सामने से ये नाइटी पूरी खुली थी उसे बांधने के लिए एक रेशम की डोरी थी.

क्योंकि आप रोज उधर जाते ही हो … बस एक बार आपको थोड़ा आगे जाना पड़ेगा. थोड़ा मैं भी कोमल को तड़पाना चाह रहा था ताकि वो भी खुल कर बोले कि उसे क्या चाहिए. जल्दी ही उसकी चूत ने नमकीन पानी छोड़ दिया, तो मैंने पानी को चाट लिया और चुत को साफ़ कर दिया.

वो बदस्तूर अपनी मौसी की ओर देखते हुए बोली- आपसे ये उम्मीद नहीं था मौसी … क्योंकि मैं आपको अपने दुख सुख का साथी समझती थी. मैं भी मुस्कुरा दिया और हम दोनों बिस्तर पर गिर कर सांसें नियंत्रित करने लगे. हम दोनों ने श्रेया को बधाई दी और उस शाम हम तीनों ने फिर दारू पार्टी की … श्रेया ने उस दिन खुल कर हम दोनों से चुदवाया.

मैं उन दोनों को देख देख कर मस्त हो रहा था और खड़ा खड़ा बस ये देख रहा था कि चल क्या रहा है. ’मैं उसकी चूत चाटने में लगा रहा और वो मेरा सर अपनी चुत में घुसाए अपनी गांड से मेरे मुँह पर धक्का देने में लगी रही.

कुछ देर चूत चाटने के बाद रोशन ने एक बार और अपना पानी निकाल दिया, जिसे सोढ़ी बड़े आराम से पी गया.

जितना मैं उसके बोबे को दबाता, वह उतनी ही जोर से मेरे होंठों को चबाती.

मगर मैंने अभी भी मिलने की अपेक्षा उससे कुछ दिन तक बात करना ज्यादा सही समझा. दोस्तो, अक्सर ऐसे नाज़ुक से मौकों पर बस एक पल का छोटा सा फासला आपकी किस्मत तय करता है. नीचे लाल फूलों वाली पैंटी में अलीज़ा की बिना वालों वाली चूत गजब की फूली हुई लग रही थी.

नन्दिनी आगे बढ़ी और बोली- अरे क्या हुआ पहचाना नहीं क्या … हाय … मैं नन्दिनी!मैंने झट से उसे हाय कहा और हम गले लगे. जेबा 15 मिनट बाद की चुदाई के बाद अकड़ गईं उनकी चुत ने उनकी गर्मी को रस के रूप में बहा दिया था. नंदिनी मुस्काई- वैसे मेरे आने से पहले आप इस हालत में स्नेहा से ही बात कर रहे थे ना!मैं- हां आपको कैसे पता!नंदिनी- मैंने भाभी के कमरे में आपको और स्नेहा को देखा था.

थोड़ी ही देर बाद आंटी बोलीं- छोड़ो विजय, ये सब गलत है, तुमको समझना चाहिए कि तुम मेरे बेटे जैसे हो.

दोस्तो, मैं अभी … आपको सेक्स कहानी के पहले भागकामवाली बाई की चुत चुदाई से काम चलाना पड़ामें पढ़ा कि मैं अपनी कामवाली बाई की चुदाई करके उसे फारिग करवा चुका था. आंटी ने अपने मम्मों की न्यूड पिक्स सेंड की तो मैंने भी आंटी को अपने खड़े लंड की फोटो भेज दी. ?”परसों रात से नाज कुछ सुस्त है, उसके पेट में दर्द है तो वो आराम कर रही है, इसलिए मुझे आना पड़ा.

ओमी अंकल ने तो एक बार मेरी गांड पर भी हाथ फेर कर मुझे शाबाशी दी थी. दीदी दोनों घुटनों को मेरे कमर के अगल बगल रखकर चूत को लंड के ऊपर रखने जा रही थीं. कार्तिकेय के मुँह से गर्म आह निकल गई और उसने मेरे सर पर हाथ रख कर मुझे अपने लंड की तरफ खींच लिया.

वो दोनों यूनिवर्सिटी में एम कॉम की पढ़ाई कर रहे थे और साथ ही में अपना खर्चा चलाने के लिए पार्ट टाइम जॉब भी करते थे.

वो ड्रिंक बनाने बाहर आया और मुझसे बोला- तू ड्रिंक करेगा?मैंने हां कहा. रोज रात को शिलाजीत खाकर दूध पीने की आदत इसी समय रंग दिखाती थी जब अपने से आधी उम्र की लड़की नीचे हो और लण्ड मलाई निकालने को राजी न हो.

हिंदी बीएफ वीडियो बीएफ हिंदी मैं अनजान बनी कोई प्रतिक्रिया नहीं देती, सिर्फ उसकी तरफ देख कर नजर हटा लेती. मैं जल्दी से उठकर बाथरूम गयी और फ्रेश होकर, नाइटी पहन कर सामने के कमरे में आ गयी.

हिंदी बीएफ वीडियो बीएफ हिंदी सेक्स कहानी में आगे बताने से पहले मैं अपने फ्लैट पार्टनर के बारे में बता दूं, जो कि मेरे ऑफिस में साथ काम करता है. वो कहने लगी- सौरभ छोड़ो … अभी नहीं … थोड़ी देर बाद!पर मैं रुकने वालों में से नहीं था.

तो उन्होंने जल्दी से नीचे गिरे हुए पेटिकोट से अपने आपको ढक के दरवाजे को बंद कर दिया.

ಇಂಡಿಯನ್ ಪೋರ್ನ್ ವಿಡಿಯೋ

हम दोनों ने उस दिन आंटी के बेटे के आने तक चार बार चुदाई की और बहुत मज़े किए. उसको श्रेया कभी भाव नहीं देती थी क्योंकि श्रेया का पहले से एक बॉयफ्रेंड था. उसी समय मैंने भी सोची कि मैं भी अपनी सेक्स स्टोरी आप सभी को लिख कर बताऊं कि मेरे साथ क्या हुआ था.

कजिन सिस्टर Xxx कहानी में पढ़ें कि मेरे मामा की लड़की हमारे घर आयी तो उसकी जवानी मुझे घायल कर गयी. दोस्तो, मुझे उम्मीद है कि आपको बॉयफ्रेंड चुदाई कहानी पढ़ने में मजा आ रहा होगा. फिर करीब 10 मिनट के बाद मैंने उसको वैसे ही पीछे से पकड़ कर उठा लिया.

मैम को भी मेरे लंड में हो रही इस हलचल के बारे में जल्दी ही पता लग गया.

हम फोन पर इतना गंदा सेक्स कर चुके थे कि रानी उसकी कल्पना भी नहीं कर पाती थी. मैंने भी दोस्त से कहा- भाई कितना मेकअप थोपेगा … अपनी भाबी को भी शादी का मज़ा ले लेने दे. ”बस में और भी महिलाएं खड़ी थीं पर उसका मेरे लिए सीट देना मुझे बहुत अच्छा लगा.

मैंने पूछा- क्या हुआ?तो वो बोला- यार मेकअप वाला नहीं आ पाया, उसका एक्सीडेंट हो गया है. उसने अपना एक हाथ मेरी सीट पर और दूसरा उससे आगे की सीट पर टिका दिया. रश्मि दर्द से कराहती हुई बोली- आह मर गई सर … एक ही बार में पूरा क्यों डाल दिया.

ये देख कर उन दोनों ने परेश को नजरअंदाज करते हुए मेरी तरफ देखा और शर्माते हुए थैंक्स कहा. दोस्तो, इस बात से तो मैं आश्वस्त था कि निशा कितनी ही चिल्लाए, इसकी आवाज घर से बाहर नहीं जाएगी.

मैंने देखा कि दीदी दुल्हन की तरह सज संवरकर बैठी थीं और बहुत ही सुंदर दिख रही थीं. उधर सोढ़ी के लंड पर बैठते ही रोशन की चुत मचल उठी मगर उसके दिमाग में अभी भी अपने पुत्तर गोगी की चिंता समाई हुई थी. दो दिन बाद बुर्का पहने नाज आई, सलाम करते हुए बोली- चचा, मैं नाज हूँ, 10 किलो चोकर चाहिए.

मैं समझ गया कि मां अन्दर ही हैं लेकिन मेरे आने की उन्हें ख़बर नहीं हुई है.

मेरी पिछली कहानी थी:लॉकडाउन में अनजान आंटी की चुत चुदाईसबसे पहले आपको मैं अपने बारे में बता देता हूँ. मेरी बहन भी एकदम से कसमसा उठी और उसने रस छोड़ कर खुद को निढाल कर दिया. लता के होंठों को किस करते करते मैंने उसके दोनों मम्मों को दबाना शुरू कर दिया.

मैंने धीरे से उसके एक निप्पल को मुँह में ले लिया और उसको जीभ से चुभलाने लगा जिससे कोमल अपने शरीर को ऐंठाने लगी. मैंने उसकी बहन सरोज को तेज़ तेज़ चोदना शुरू कर दिया था और उसकी गांड थप थप थप थप की आवाज करने लगी थी.

मैडम ने एक कदम आगे बढ़ते हुए पूछा- हर रोज खा सकोगे?मैंने कहा- आजमा कर देखो, फिर कुछ कहना. अब शबाना नाज की चूत चाट रही थी, मैं शबाना को चोद रहा था और सांडे के तेल में डूबी ऊँगली मुमताज की चूत में चलाते हुए उसकी चूची चूस रहा था. फिर उन्होंने मुझे बताया कि अनिकेत की भी एक गर्लफ्रेंड है, जिसे वो अक्सर चोदता रहता है.

ब्लू फिल्म फुल मूवी

उसमें से एक कंडोम खोल कर वो मेरे लण्ड पर चढ़ाने लगी और दोनों हाथों की मदद से चढ़ा भी दिया.

मैंने अपना अगला कामदेव का तीर फेंका और निशा के कोमल से हाथ को आराम से चूमा. वो पूरे मज़े ले रही थी और इधर मेरा बेचारा लंड ऐसी सजा काट रहा था, जैसे भूख से तड़प रहा था. जब पांच मिनट हो गए तो मैंने आवाज देते हुए पूछा- आ जाऊं क्या!रानी- हां, आ जाओ.

तो आपने ये क्यों किया?तो भाभी बोली- गुस्सा तो थी लेकिन जब तुमने सब सच्चाई बताई तो गुस्सा चला गया. दूसरे दिन उसका कॉल आया, तो मुझे लगा कि उसी पढ़ाई के सिलसिले में फोन किया होगा. बड़ा लंड वाला सेक्सी वीडियो बीएफदरवाजे के पास से ही मैंने अंकल लोगों को देखा और कुछ देर बाद अन्दर आकर इस तरफ से दरवाज़ा बंद किया कि वो आधा खुला रह जाए.

अपना दुपट्टा कुर्सी पर फेंक कर उसने चूचियां तान दीं और बोली- बाजी कह रही थीं कि आपको दूध पीने का बड़ा शौक है. दरअसल वो तीनों लड़कियां कॉलेज की बदचलन लड़कियों में शुमार की जाती थीं.

मैंने पूछा- कब तक आओगी?उसने मेरी बात का उत्तर देने की जगह कहा- मुझे भूख लगी है. मैंने उनके एक मम्मे को अपने मुंह में लिया और धीरे-धीरे चूसना दबाना शुरू कर दिया. फिर उसने मुझे देख कर आंख मारी और होंठों को गोल करके एक पुच्ची करने का इशारा किया.

वो अपनी पूरी उद्दंडता से कभी नाभि में उंगली आगे-पीछे कर रहा था, कभी उसमें उंगली घुमा रहा था. चूचे दबाते हुए मैंने कहा- सच में आपकी चूचियां और भी मस्त हो गई हैं मेरी बहना. आगे क्या हुआ … वो मैं गाँव की देसी चूत चुदाई कहानी के अगले भाग में लिखूंगा.

मैंने लंड निकाल लिया और हम दोनों बाथरूम में जाकर एक दूसरे को साफ़ करके फिर से बिस्तर पर आ गए.

जैसे तैसे करके मैंने शॉर्ट्स पहना मगर लोअर के अन्दर जो शेर था वो बैठा ही नहीं था. कुछ देर बाद मेरी आंखें खुलीं, तो मैंने देखा कि मेरे लंड पर खून लगा था.

मैंने एक एक करके सारे बटन खोल दिए और टॉप को उसके बोबों के आगे से हटा दिया. लड़के पैदा करने के बाद से शबाना और मुमताज की चूत कुछ ढीली हो गई थीं लेकिन नाज की चूत अभी भी कमसिन थी. फिर मैं अपने कमरे में आकर सो गया और दस बजे रंगोली ने मुझे उठाया- भाई उठ … लेट हो गया.

लगभग 4-5 मिनट के बाद अब मेरा लंड भी अकड़ रहा था और उसकी चूत में आखिरी झटके मार रहा था. चूचे दबाते हुए मैंने कहा- सच में आपकी चूचियां और भी मस्त हो गई हैं मेरी बहना. तभी रघु ने किस करते करते एक हाथ से उसकी जींस का बटन खोला और श्रेया की पैंटी के अन्दर उंगली डाल दी.

हिंदी बीएफ वीडियो बीएफ हिंदी दरवाजे के पास से ही मैंने अंकल लोगों को देखा और कुछ देर बाद अन्दर आकर इस तरफ से दरवाज़ा बंद किया कि वो आधा खुला रह जाए. मैंने पूछा- आपको कोई बच्चा नहीं है?उन्होंने कहा- नहीं कोई बच्चा नहीं है.

देसी सेक्सी फुल एचडी

मैं उन दो मर्दों के जिस्म की गर्मी सह नहीं पाई और मेरी चूत ने अपना पानी छोड़ दिया. फिर उसने ऐसे ही पीछे हाथ करके लंड पकड़ा और उसे गांड में घुसवाने की कोशिश करने लगी; हिलने लगी. ये मुझे उस समय मालूम हुआ जब मैंने उससे पूछा कि इतनी रात हो गई है … तुम घर किसके साथ जाओगी!वो हंस पड़ी और बोली- नहीं यार, मैं भी इसी होटल में रुकी हूँ.

पर इस बार मैंने उन्हें रोक दिया- सर आपको पता है ना, हम क्या करने जा रहे हैं. सक्सेना सोफ़े पर बैठ गया और मुझसे अपनी गोद में बैठने का इशारा किया. बीएफ सरस्वतीदोस्तो, मैं उस देसी चूत चुदाई का मजा को शब्दों में बयान ही नहीं कर सकता.

जैसे ही अमित ने मेरी चूत में उंगली डाली … तो मेरे अन्दर जैसे 440 वोल्ट का करंट दौड़ पड़ा.

अमिता- आह हहाया ईई ऊऊऊ सौरभ … आअज मजा आ रहा है … ययय एईई ऊऊईईई!फिर मैं उसको गोद में वैसे ही पकड़ कर बिस्तर पर बैठ गया. तब मुझे मैनेजर नवीन ने कहा- क्यों अंजलि, साहब को बहुत खुश रखती है … मुझे भी मौका दे दे खुश कर दे … आखिर मैंने ही तुझे इंटरव्यू में सिलेक्ट किया था.

वो मेरी बीवी की चचेरी बहन थी, कुंवारी थी और अपनी पहली चुदाई का अनुभव लेना चाहती थी. उसने मुझे धन्यवाद कहा और मेरे लौड़े का आशीर्वाद लेकर अपने घर चली गई. मैंने उनकी ब्रा से एक दूध निकाला और उसे अपने मुँह में लेकर चूसने लगा.

मैं- मतलब उसने अपनी चुत खोल दी थी!रघु ने कहा- हां … श्रेया बताती है कि उस दिन कार में उस लड़के ने उसे तीन राउंड चोदा था.

अब आंटी बोलने लगीं- योगी बहुत हो गया … अब तू अपने इस विशाल लंड को मेरी चूत में डाल दो. मेरे मुँह से बहुत तेज तेज आवाजें निकल रही थीं … क्योंकि मैं उनके धक्के सहन नहीं कर पा रही थी. तब अमिता ने कहा कि उसके पति विवेक को 3 दिन के लिए दिल्ली जाना है इसलिए आज नहीं आई.

चोदते हुए बीएफ दिखाइएउसके मस्त रसीले दूध देख कर मेरा लंड अंडरवियर से बाहर आने को मचलने लगा था. सीलपैक गर्ल की चुदाई कहानी के पिछले भागकुंवारी लड़की के साथ 69 सेक्समें अब तक आपने पढ़ा था कि निशा मेरी कामना के अनुरूप ही गंदा सेक्स पसंद करने वाली जवान लौंडिया थी.

गाना सेक्सी में

नाज की चूत शबाना के मुँह पर टिकाकर मैंने शबाना की चूत में अपना लण्ड पेल दिया. उन्होंने अपने हाथों को मेरे पैरों की उंगलियों पर रख दिए और सहलाने लगे. रोहन- रसगुल्ला खाओगी?मैं- हां क्यों नहीं, किधर है!रोहन- मेस में आ जाओ, मैंने तुम्हारे लिए रखा है.

चुदाई के बाद जब स्खलन होने को हुआ तो वो बोली- माल अन्दर नहीं निकालना. मैंने उसके ऊपर से तब तक नजरें ना हटाईं जब तक वो रूम के अन्दर न चली गयी. इस बार मुझे अपने उसी बिजनेस के सिलसिले में किसी काम के लिए दिल्ली जाना पड़ा.

मैंने कभी नहीं सोचा था कि यह चूत चोदने मिलेगी इतनी जल्दी!अब मैंने उसकी ब्रा के हुक को खोलकर उसके गोल गोल गेंदों जैसे बूब्स को आजाद किया और हाथों से मसलना चालू किया. बिस्तर पर लेट कर दीदी बोलीं- यार मौनू … आज तो मैं बहुत थक गई हूं … क्या तुम मेरी बॉडी दबा दोगे, यदि तुम्हारा मन हो तो प्लीज़ कर दो. मगर मैंने अभी तक न तो किसी लड़के का लंड देखा था और न ही मुझे असल में पता था कि जब लंड चूत में जाता है तो कैसा अनुभव होता है।लेकिन मेरा मन बहुत करता था कि मेरा भी एक बॉयफ्रेंड हो।मैं भी चाहती थी कि किसी के साथ बाहर घूमने जाऊं, मस्ती करूं, सेक्स करूं, अपने बॉयफ्रेंड को प्यार करूं, जवानी की चुदाई का मजा लूं.

मैंने पूछा- सुशी जी आज आपने क्या धमाका करने का प्लान बनाया है?उन्होंने मेरे गालों पर चुम्बन करके मुझे पूरा प्लान बताया- आज मैं अपनी एक सहेली के यहां गयी थी. उस एक्टर को देखते ही पब्लिक मानो पागल हो गई और इसी वजह से उस होटल में काफी भीड़ हो गयी थी.

फिर वो मेरी तरफ देखने लगीं तो मम्मी ने मुझसे कहा- बुआ के पैर तो छू!पर मेरा ध्यान तो बुआ के चूचों पर था.

उसी दौरान मैंने मैम के पेटीकोट का नाड़ा भी खोल दिया था जो सरकता हुआ नीचे गिर गया था. सेक्सी बीएफ हिंदी सेक्सी मूवीलेकिन मैं कहां मानने वाला था, तुरन्त उन्हें हाथ पकड़ कर उनके कमरे में ले गया. बहन भाई की बीएफ सेक्सी फिल्ममेरी पड़ोसियों से इतनी जान पहचान नहीं थी, तो मैं घर से कम ही बाहर जाता था. बुआ के मुँह से धीरे धीरे सिसकारी निकलने लगी- उम्म्म्म हाआआ उच्च … आज मेरा सपना पूरा हो गया.

1st सेक्स करने के बाद मैंने उसे पूछा- तू तो बड़ी अनजान बन रही थी चूत लंड से? फिर कैसे तुझे सब पता चल गया और …वो बोली- वो तो मैं ऐसे ही भोली बन कर दिखा रही थी.

10 मिनट बाद मॉम झड़ गई और मैं चूत से निकला सारा रस गटक गया, मैंने एक भी बूंद बर्बाद नहीं होने दी. तभी निशा ने भी अपना एक हाथ नीचे ले जाकर उसने मेरा लौड़ा पकड़ लिया और उसपर मुठ मारने लगी. जेठ जी के बारे में पड़ोस की औरतों से सुनकर मुझे ये लगता था कि उनका चक्कर मेरे जेठ जी के साथ चलता है.

फिर प्रकाश ने एक हाथ से रंगोली के दूध को दबाना चालू किया और दूसरे हाथ से रंगोली की चूत को सहलाने लगा. मैंने उसने पूछा- आप कहीं जा रही हो क्या?उन्होंने मुझसे पूछा- पहले तुम बताओ कि क्या हुआ?मैंने उनको बताया- कुछ खास नहीं सब नार्मल है. इसके बाद जब भी मैं वहां जाती हूँ … तो हम दोनों मौका मिलते ही चुदाई कर लेते थे.

সানি লিওন এক্স এক্স

भाभी के मुँह से आउच निकला और वो बोलीं- आह धीरे करो यार … सोम जाग जाएगा. अब मैंने उसकी टांगों को ऊपर उठा कर अपने कंधों पर रख लिया और उसकी बुर का छेद मेरे लंड के ठीक सामने आ गया. मैंने झटके मारते हुए पूछा- तेरी चुदक्कड़ बहन आ गई क्या!उसने गांड पीछे करके लंड को दबा दिया और बोली कि अभी तू मुझे चोद … उस रांड की बात न कर!मैंने तेज़ी से अन्दर-बाहर करना शुरू कर दिया और ताबड़तोड़ चुदाई करने लगा.

लेकिन उसके लिए ये पहला अनुभव था … तो वो डर गई कि उसे क्या हो रहा है … कहीं पीरियड्स तो नहीं होने लगे हैं.

मैंने मुमताज को पीठ के बल लिटाकर चूतड़ के नीचे तकिया रखा और मुमताज पर लेटकर उसके होंठ चूसने लगा.

सेक्स करना है मैंने पड़ोस की भाभी से … यह इच्छा मैं काफी समय से अपने दिल में दबाये बैठा था. फिर दीदी की शादी हुई, जिसमें आशीष भी आया और दीदी ने विदा होने से पहले शादी के जोड़े में कमरे में जाकर आशीष से ही चुदवा कर सुहागरात मना ली. बंगाल की बीएफ सेक्सी वीडियोबैकलेस ब्लाउज पहनने की वजह से मैंने आज कोई ब्रा नहीं पहनी थी, तो मेरे दोनों बूब्स अब शरद के हवाले थे.

मैं सिर्फ बुआ को देखता था और उनकी कड़क चूचियों को वासना भरी नजरों से देखता रहता था. जब मेरी दीदी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो उसने पीछे दीदी की गांड को टच किया. मैं बहुत खुश हो गया था कि आज मुझे कुछ न कुछ तो जरूर करने को मिलेगा.

हैलो फ्रेंड्स, मैं रश्मि मिश्रा एक बार फिर से आपके सामने अपनी हॉट सेक्स विद बॉस कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. मैं भी इतना उतावला हो गया था कि मैं बहुत तेज़ गति से उसकी चूत में लंड को अन्दर बाहर करने लगा.

जब मैं कॉलेज पहुंची तो सीधे क्लास में गयी और उसी लड़के के बाजू में जाकर बैठ गयी.

मैंने कभी भी इस बात पर भरोसा नहीं होता था कि किसी इन्डियन लड़की या महिला की चुत गोरी हो सकती थी. उन्होंने कहा- कभी जरूरत नहीं होती है क्या?मैंने कहा- हां होती तो है … लेकिन क्या करूं!आंटी एक आंख दबा कर मुस्कुरा दी. खैर … जैसे तैसे हम कॉलेज पहुंच गए और मैंने महसूस किया कि मैम मेरी इस हालत का मज़ा ले रही थी.

एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो एक्स मैंने सीधे लेट कर भाभी की टांगें फैलाते हुए ऊपर उठा दीं और उनकी चिकनी चुत पर लंड टिका दिया. थोड़ी देर बाद मैं मॉम के मुंह में ही झड़ गया मॉम ने सारा रस अपने कंठ में बसा लिया.

उसने कहा- अच्छा … इसलिए आप ‘मन भर गया’ कह रहो हो!फिर मैंने पूछ लिया कि आपके पति कैसे हैं?तो उसका चेहरा नीचे की ओर झुक गया और धीमी आवाज में कहने लगी- ठीक है!लेकिन मैं उसके चेहरे पर प्यास देख रहा था. काफी देर बाद करीब 9 बजे रात को मेरी आंख खुली, तो देखा कि आशीष भी सोया था. तुझे तेरे मालिक यानि मेरे लंड को पाने के लिए अभी और मेहनत करनी पड़ेगी.

સેક્સી દેસી

मैं लंड के झटके मुँह के अन्दर तक मारने लगा और वो गपागप गपागप चूसने लगी. कुछ देर में हम दोनों फिर से मूड में आ गए और मैं आंटी की चुत में उंगली करने लगा. मैं अब अपनी चरनसीमा पे था तो मैंने उनसे पूछा- कहाँ निकलना है?तो उन्होंने कहा- अंदर ही निकाल दो.

मुझे किस करते हुए अब भी मेरे बूब्स उसके हाथों से मसले जा रहे थे और नीचे मेरी चूत उत्तेजना से गीली हो रही थी. जब मैंने उसे वो स्क्रीन शॉट दिखाए, तो वो घबरा गई और बोलने लगी कि प्लीज़ तुम ये सब किसी को मत दिखाना … तुम जो कहोगे, मैं वो सब करूंगी लेकिन प्लीज तुम ये डिलीट कर दो.

अब हमारी मैसेज के अलावा कॉल पर भी बात होने लगी … मतलब दिन भर मैं उसी में लगी रहती या जब भी मैं अकेली होती, तो मुझे उसके साथ बिताए पल याद आते.

ज़ीनिया- चार दिनों तक कल से मेरा पूरा परिवार बाहर जा रहा है, बस मैं और मेरी मां ही यहां रहेंगे. भाभी थोड़ी देर चुपचाप बैठी रही तो मैंने भाभी को बोला- भाभी कुछ तो बोलिये?तब भाभी मेरे चेहरे को देखने लगी और बोली- देखो, तुमने जो कहा वो सब ठीक है. ऐसा 2-3 बार हुआ और हर रगड़ के बाद वो मेरी आंखों में सवाल भरी नजरों से देखता.

एक दो पल बाद मैंने भी बिना हील हुज्जत के मुंतजिर के रसभरे होंठों का रसपान करना शुरू कर दिया. जेठ जी मेरी चूत को चाटने लगे और साथ में रुक रुक कर मेरी चूत को अपने दाँतों से हल्का हल्का काट रहे थे. इसके बाद हम दोनों निढाल हो गए और मैंने अपना सारा वीर्य चुत के बाहर निकाल दिया.

चूसते हुए अब मैं उसकी मखमली जांघों तक पहुंच चुका था और मैंने उसकी संगमरमर सी चिकनी जांघों को चूस चूस कर खूब गीला कर दिया था.

हिंदी बीएफ वीडियो बीएफ हिंदी: मैंने व्हिस्की में बियर मिलाकर दो पैग तैयार किये और हम दोनों चियर्स के साथ शुरू हो गए. नंगी लड़की होटल Xxx कहानी पर आप अपने सुझाव और विचार के लिए मुझे मेल करें.

मुंतज़िर इस बार जोर से हंस पड़ीं और बोलीं- ओके बाबा … जितना जल्दी हो सके … आ जाना. मॉम के चूतड़ पूरे हिल रहे थे चलने में … और उस पेंटी ने उनकी सिर्फ बीच की दरार को ही ढक पाया था जिससे उनके पूरे चूतड़ दिख रहे थे. खैर मेरी कमर पकड़कर उन्होंने जोर लगाया तो थूक की चिकनाई से उनका लण्ड फिसल गया और मेरी पीठ पर आ गया.

यदि आप सभी को ये हॉट सेक्सी गर्ल की चुदाई कहानी पसंद आई हो तो मैं इसे आगे भी जारी रखूंगा.

उसके मुँह से मादक आवाजें आ रही थीं- आह छोटे साब जी … आह मुझे दर्द दे दो … आह मेरा पति कुछ नहीं कर पाता है … उसका खड़ा ही नहीं होता है. मैंने पूछा कि तुमने और सुमन ने पहले किसी किराएदार से चुदवाया था?वो बोली- नहीं, अम्मा ने हम दोनों को इस बिल्डिंग में कभी आने नहीं दिया. मेरी नजर उसके मम्मों को निहार रही थी और सुनील की निगाहें सोनल की मदमस्त जवानी पर टिकी थीं.