सेक्सी बीएफ चालू वीडियो

छवि स्रोत,इंडियन सेक्सी बीएफ चोदा चोदी

तस्वीर का शीर्षक ,

जंगली जानवर का बीएफ: सेक्सी बीएफ चालू वीडियो, कुछ देर मेरी चूत चुदाई करने के बाद इंस्पेक्टर साहब ने मुझे उल्टा लिटा दिया और मेरी गांड में थोड़ा तेल लगा कर एक ही झटके में अपना लंड मेरे अन्दर तक डाल दिया.

पिलाने वाला बीएफ

मां सो चुकी थीं, तो मैंने अपने हाथों से ही मां का पेटीकोट ऊपर को कर दिया और देखा कि मां ने अंडरवियर नहीं पहना था. वीडियो ओपन सेक्सी वीडियो बीएफउसने मेरी पीठ पर अपनी चूचियों को लगा दिया और मेरी गर्दन पर चूमने लगी.

इस बात से भाभी थोड़ा खुश हो गईं और मिलने का प्लान बनाने लगीं कि कब मिला जाए. एक्स एक्स एक्स सुहागरात बीएफमेरी उसके साथ शुरू से ही अच्छी बनती थी और वो मेरे बातें बहुत करती थी.

छोटी बुआ बोलीं- लेकिन हमारे पास तो ब्रा और पेंटी भी नहीं है ना … हम कहां ब्रा पहनते हैं … और पेंटी तो केवल उन दिनों में पहनते हैं.सेक्सी बीएफ चालू वीडियो: मैं जब घर में जाकर सोफे पर बैठ गया तो भाभी जी ने पूछा- पानी पिओगे?तो मैंने बोला- नहीं अभी पानी नहीं पीना.

अब मैं कमरे में जा रही हूँ।और भाग कर कमरे में आ गई।पूरी रात मैं बस उस पल को याद करती रही.वो आँखें बंद करके मज़ा ले रही थी।इसके बाद मैंने बाये हाथ से उनके साया की डोरी को खींच दिया और वो खुल कर नीचे गिर गया। फिर उनको पलट कर मैंने अपने सीने से लगा लिया और उनके होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसने लगा।वो भी मेरे होंठों को चूस रही थी.

जंगल वाले बीएफ - सेक्सी बीएफ चालू वीडियो

मैं भाभी की चूची एक हाथ से दबा रहा था और दूसरी को मुंह में लेकर चूस रहा था.फिर शकील ने अपना लंड बाहर निकाला और पीछे से अम्मी की चुत में डाल दिया.

क्या मुझे इस अप्सरा को प्यार करने की इजाज़त है?तो उसने कहा- भईया सैयां जी, आपको अपनी दुल्हन बहन को मुँह दिखाई देनी पड़ेगी. सेक्सी बीएफ चालू वीडियो थोड़ी देर के बाद ननदोई जी ने मेरी चिकनी गोरी टांगों को अपने मजबूत कंधों पर रख लिया और मेरी बुर में अपना लंड पूरा अन्दर घुसा कर मेरी बुर को चोदने लगे.

पेपर के बाद हमने होटल छोड़ दिया और बस से वापस दिल्ली आ गए।उसके बाद से मुझे भी अपनी चुदाई में मजा आने लगा था, मुझे चुदाई की लत लग गयी थी.

सेक्सी बीएफ चालू वीडियो?

सामने जब एक कमसिन जवानी हो और उसकी टाइट चूत में लंड घुस चुका हो तो फिर भला कैसे खुद को रोक सकता है कोई. मेरा लंड मेरी पैंट की चेन के बाहर था और मैं तेजी से उस जवान लड़की की नंगी चूचियों को देख कर अपने लंड को हिलाने में लग गया. मैंने भाभी को जोर से मम्मे के ऊपर चांटा मारा और जोर से दूध दबाने लगा.

फर्श पर पोचा लगाते समय भाभी ने अपने एक हाथ से बेड का सहारा लिया तो उसका हाथ मेरे हाथ से टच हो गया. मैंने एक बार फिर से भाभी की चूचियों को कस कर पकड़ लिया और उसकी चूचियों को जोर से दबाते हुए मसलने लगा. वो उठ बैठी और धीरे से बोली- क्या कर रही है … पागल हो गयी है क्या तू … ये क्या कर रही थी तू? सामने तन्मय सो रहा है, वो देख लेगा तो?नीता बोली- यार करने दे ना … बहुत मन कर रहा है … मुझसे तो रुका ही नहीं जा रहा.

इस पर टीना ने कहा- अच्छा जी!मैंने कहा- जी … हम तो पहले भी आपको बोल चुके हैं, अगर आप हां करें तो!उसने कहा- जॉगिंग के समय मिलना … फिर बताती हूँ. एक ही झटके में मेरा पूरा लंड अपनी दीदी की चिकनी चुत के घर में सड़ाक से घुस गया. उसने ओ के कहा और तुरन्त ही उसका गूगल डिओ पर वीडियो कॉल आ गया जिसमें उसने अपने एक एक कपड़े को वीडियो कॉल पर उतारा.

फिर श्रुति ने अपने घर वैशाली को बुला कर मेरी बात उनसे फोन पर करवायी. जल्द ही वापस ले लूंगी अपनी चूत में इसको।मैं खड़ा हुआ और तेल की शीशी उठा लाया.

अब उसकी चीख इतनी तेज थी, जैसे उसकी जान निकल गयी हो- हाय चाचू, इसे बाहर निकालो आंह्ह्ह ऊऊह्ह ऊओह्ह हाय राम मुझसे दर्द सहन नहीं हो रहा है.

मैं धोने का नाटक करती रही और मैंने धीरे धीरे बाबा के लंड की ओर अपनी गांड पास में कर दी.

चारू हंसते हुए बोली- क्या नाम रखें फिर आपका?मैं- दीवाना …ये सुनकर वो जोर जोर से हंसने लगी।इस प्रकार मेरा और चारू का हंसी मजाक होता रहता. ऊपर वाली बर्थ पर एक आर्मी का जवान था, जिसकी उम्र लगभग 38-40 साल की होगी और ऊपर की दूसरे तरफ की बर्थ खाली थी. तभी मैंने सुना कि वे फुसफुसा रहे थे- यार … आज तुम्हारे बेटे ने आकर सारा खेल बिगाड़ दिया.

लेकिन मेरा मन लंड चूसने का कर रहा था इसलिए मैंने थोड़ी सी पैन्ट को नीचे उतारकर और उसके निक्कर में से उसके लंड को निकाल कर सीधा उसका लंड चूसने लगी. वो बहुत खुशनसीब होगा जिसे तुम जैसी बीवी चोदने को मिलेगी।ज्योति ने मुझसे कहा- भईया, वो खुशनसीब तो आप हैं. अब आगे :उल्फ़त अपनी गांड उठाते हुए बोली- आह भाईजान … मजा आ रहा है … और तेज करो भाई … आज मेरी चूत को फाड़ दो.

गांव में हमारे साथ मेरी बुआ की लड़की रहती थी, वो बचपन से ही हमारे यहां रहती थी, यहीं पढ़ी और यहीं से उसकी शादी हुई.

कुछ ही पल के बाद मेरी गांड में गर्म गर्म लावा की पिचकारी लगने लगी जो मुझे बहुत ही ज्यादा राहत दे रही थी. मैं अकेला रह गया था क्योंकि मुझे पेपर के बाद किसी काम से कुछ दिन रूम पर ही रुकना पड़ा।एक दिन मेरे पापा का मुझे फोन आया तो उन्होंने मुझसे कहा कि मुझे पहले ही दिल्ली आ जाना चाहिए था. अब मैंने शांता की कमर हाथों से पकड़ ली और जोर से लण्ड अंदर दबाया।थोड़ा सा लण्ड अंदर जा ही रहा था कि तभी शांता चिल्लाते हुए मेरी पकड़ से छूटकर आगे भाग गयी।मैंने गुस्से में आकर उसकी गांड पर जोर से थप्पड़ मारे और उसकी गांड लाल हो गयी.

मैंने उसको लिटा कर पैंट खोल कर कुछ देर तो उसका लन्ड चूसकर उसको गरम किया. उनके मम्मों पर पेंटिंग करते वक्त मुझे टाइटेनिक मूवी याद आ गई, जिसमें लियोनार्डो-डी-कैप्रिओ, केट विन्सलेट की पेंटिंग बना रहा था. … तुम ऊपर आ जाओ!फिर मैं नंगी भाभी के ऊपर आ गया और भाभी बिस्तर पर लेटी थी.

जब हम दोनों की चुदाई का खेल खत्म हुआ, तो रिंकी ने बाहर जाने के लिए दरवाजा खोला.

मैं नीचे गया तो मेरे मकान मालिक बोले- रिंकी और आंटी को हॉस्पिटल ले जाओ, उनकी तबियत थोड़ी ठीक नहीं है. ऐसे ही मैं उनके दोनों तरफ के कानों को और जोर से चाटने लगा और गर्दन पर किस करने लगा.

सेक्सी बीएफ चालू वीडियो जब वो थोड़ी पीछे से ऊंची हुईं, तो मुझे उनकी चुत की झांटें दिखने लगीं. मैं भी फ़ुल जोश में था- हां मेरी बहन, आज तेरी चुत … गांड सब फाड़ दूँगा.

सेक्सी बीएफ चालू वीडियो अपनी बहन को पीछे से सिर्फ ब्रा में देखने और उसे मन ही मन चोदने का अलग ही मज़ा है. उसकी मटकती गांड देख कर मेरा मन कर रहा था कि उसको पीछे से दबोच कर सीढ़ियों से लगी दीवार पर चिपका कर वहीं पर चोद डालूं.

उसे उल्टी होने लगी तो उसने लंड को बाहर निकाल दिया लेकिन मैंने थोड़ा रुक कर फिर से उसके मुंह में लंड दे दिया.

देसी बीएफ मूवी

उसके लंड की फोटो देखकर मेरी प्यास बढ़ने लगी थी लेकिन उससे मिलने का टाइम नहीं लग रहा था. … अभी यहां कोई आ जाएगा, तो क्या होगा … जानते भी हो?वो मेरी बात को अनसुना करते हुए नीचे बैठ गया और मेरी स्कर्ट में अपना मुँह डाल कर मेरी चूत चाटने लगा. फिर मैंने अपनी छोटी बहन की नाजुक चूत पर मुंह लगाया लगाया और उसकी चूत को चाटने लगा.

पर मुझे आज कुछ अजीब सा लगा क्योंकि मॉम ने कभी हमें इतनी जल्दी सोने को नहीं बोला था. बिना देर किये मैंने उसकी गांड को फैलाया और छेद पर उंगली फिराने लगा. ’फिर कुछ देर चोदने के बाद उमेश सर मेरी गांड में ही झड़ गए और एकदम ढीले होकर मेरे ऊपर लेट गए.

मेरी चूत चुदाई की कहानी में पढ़ें कि मैंने कैसे पहली बार अपनी चूत और गांड चुदवाई? शादी से पहले मेरा एक बॉयफ्रेंड था कॉलेज का! मेरा सेक्स करने का बहुत मन करता था.

बस फिर क्या था, मैंने अपना हाथ पीछे ले जाकर उसको अपने ऊपर खींचा और उसने भी अपनी सहमति दिखाई. बीच बीच में मैं उसकी पीठ और गर्दन पर हल्के से अपने दांत गड़ा देता था. मैंने आंख खोलकर देखा तो उसने भी गुस्से वाली नजरों से आंख मारकर अपनी जीत का इशारा किया और बदला लेने का जश्न भी मना लिया।मुझे उसकी इस हरकत पर प्यार आ गया.

उसकी चुत की दरार अभी भी खुली पड़ी थी और उसकी चूत के अंदर की लाली दिखाई दे रही थी. झट से मेरे लंड में सौ फीसदी तनाव आ गया और वो एकदम से फड़फड़ाने लगा।धीरे धीरे मैंने उनके बदन पर हाथ फिराना चालू किया. ’भाई ने मेरे कान में पूछा- मजा आ रहा है?मैं हंस दी और उसे चूम कर कहने लगी- आंह … तुम बड़े बेदर्दी हो भाई … पर अब मजा आने लगा है.

फिर उनके बॉस ने मॉम की चूत को चाटना शुरू कर दिया और वो दोनों एक दूसरे को पागलों की तरह चूसने लगे. मैं मज़ाक में बोला- साली कुतिया … तू कितनी प्यासी है … कल रात तूने इसका सारा रस अपनी चूत में खींच लिया.

उसके मुँह से निकल रहा था- बस नहीं … जीजा नहीं करो … प्लीज़ जीजा जाओ. मैं जानता हूं कि आज तुमने मुझे असीम आनन्द की अनुभूति कराई है … और आगे भी इसी प्रकार मैं तुम्हें आनंद के सागर में गोते लगवाता रहूंगा।इतना कहकर हम दोनों ने फिर से एक दूसरे को चुम्बन दिया और फिर उठकर अपने और बिस्तर के कपड़ों को सही किया. मैंने उसे बिस्तर पर लेटाया और अपना नाड़ा खोल कर लण्ड पर थूक लगा कर अपना सुपारा उसकी चूत में पेल दिया.

मैंने उसके दोनों पैर साइड में करके उसकी चूत को ध्यान से देखा और अपना लंड उसकी चूत पर सेट कर दिया.

जब वह वापस ऊपर जाने लगीं तो मैंने उनका हाथ पकड़कर उनको सीढ़ियों के नीचे ले गया. उस लड़के ने लड़की की चड्डी भी उतार दी और उसकी बुर चाटने लगा।चूत चटवाते हुए वो लड़की मस्त होती जा रही थी. वो सिसकारने लगी- आह्ह … राज … आह्ह … ओह्ह … मजा आ रहा है यार … ओह्ह … ऊईई … आह्ह।मैं भी उसके निप्पलों को दांतों से काट देता था तो उसकी जोर की आह्ह निकल जाती थी.

अब उधर अंकल मॉम की गांड में उंगली आगे पीछे करने में लगे थे और इधर मॉम अंकल का लंड चूसती रहीं. जैसे ही थोडा़ उठी उसने पीछे से मेरे दोनों स्तनों को पकड़ लिया और कस कस कर मसलने लगा.

उसके बाद वो अपनी उंगली मेरी नाभि पर फेरने लगे और उनका टाइट लंड मेरी गांड पर एकदम ज़ोर से दबा जा रहा था. भैया ने फोन पर पूछा- क्या हुआ?भाभी ने मेरी तरफ देख कर कहा कि कुछ नहीं नीचे से एक चींटी घुस गई थी. वो करीबन 35 के आसपास का रहा होगा और मेरी चूत चोदने की बात कर रहा था.

ગુજરાતી સેક્સી ચૂદાઈ

और हम दोनों अपनी बातें करते हुए सो गई।सुबह उठकर हम दोनों फ्रेश हुई और नहा धोकर स्टेशन जाकर उस लड़के के उसके शहर से आने जाने की टिकेट बुक करवा दी।उसके बाद हम दोनों एक कोरियर ऑफिस गई.

तनिष्क हंस कर बोला- मेरी जान अगर तुमको बताना होता, तो तुमने अब तक बोल ही चुका होता. मैंने फिर से अन्दर झांक कर देखा, तो भाभी ने पल्लू कमर में खौंस लिया था और वो कुछ सामान उठाने का प्रयास कर रही थीं. और फिर जब मैंने वहां जाना शुरू किया तो अश्लीलता और गंदी हरकतों के सारे रिकॉर्ड ही टूट गए.

उन्होंने मेरे लंड को मुँह में लिया और थोड़ा चूसकर पूरा लंड थूक से गीला कर दिया. उसने वहीं से नीता को बोला कि जल्दी आ जाओ … अगर पापा घर आ गए तो बहुत डांट पड़ेगी कि अभी तक खाना क्यूं नहीं खाया?शिल्पी दीदी ने अंदर मेरी तरफ देखा और बोला- तुम भी आ जाओ, बाकी सामान बाद में रख लेना।मैं– ओके दीदी, चलो। हम सब साथ में ही चलते हैं।फिर हम सब डाइनिंग टेबल पर गए. बीएफ सेक्सी नंगी सेक्सजब निधि पेशाब कर चुकी, तो मैंने मैंने उसकी पूरी नंगी बॉडी पर पेशाब किया.

मैंने आंटी को पलटने के लिए कहा और उसकी गांड के छेद पर लंड को सेट कर दिया. पर दिमाग कह रहा है कि ये सब ग़लत है, दिल कह रहा है कि अपने हाथों में तेरा हाथ लूं और तेरी आंखों में आंखें डालकर तुझे बात किए जाऊं … पर दिमाग फिर रोक देता है.

मैं अपने बिस्तर पर जा लेटा और तभी नीता ने मेरी तरफ देखा और मुस्करा दी. दूसरे दिन मम्मी पापा के जाने के बाद मैं सीधा उन दोनों के रूम में गया. इससे भाभी के मुँह से जोर से आवाज निकल गई- उई मां आराम से!जब उनकी आवाज़ निकली, तो मैंने कहा- लगता है भाभी यहां ज्यादा चोट लग गई है आपको.

मैं- तब तो और मजा आएगा रे छिनाल … और अब तो तेरी गांड बिना तेल के ही मारूँगा … और अब ज्यादा बोल मत, जो बोला है. एक के बाद दूसरी लंबी पिचकारी से ज़ोहरा आपा की जवान बच्चेदानी का घड़ा उनके छोटे भाई की सफेद मलाई से भरने लगा. तो मैंने कहा कि मेरी एक शर्त है कि मेरे सामने मेरे शौहर की मिट्टी पलीत करना होगा.

दोस्तो, मैं कसम खाकर कहता हूँ कि मैंने इससे पहले इतना मज़ा कभी नहीं लिया.

मैंने उनसे कहा- अब देर न करो, पहले मेरी प्यास बुझा दो, मैं अभी कुँवारी हूँ, बाद में में मेरे जिस्म से खेल लेना. मैंने उसकी कमर को थाम लिया और तेजी के साथ उसकी चूत में अपने लंड के धक्के लगाने लगा.

ऐसे ही एक दिन उनकी बातों को रिकॉर्ड किया और बाद में वो रिकॉर्डिंग सुनी, तो मैं हैरान रह गया. जब दोनों को कोई दिक्कत नहीं तो आपको क्या है?वो बोली- वो सब तो ठीक है मगर मेरी बेटी भी है. इस स्थिति में किस होना तो लाज़मी था मगर उससे ज़रूरी था कि हमारे जिस्म ऐसे चिपके हुए थे कि सीने बिल्कुल मिले हुए थे.

आज मैं तुम्हें अपने पप्पू का कमाल अवश्य दिखाऊंगा।यह कहकर मैंने अपने जॉकी के अंडरवियर को नीचे किया और अपने पप्पू को आजाद कर दिया. ये कहकर आसिफा बाजी की गोद में से उनकी बेटी को रूबीना ने ले लिया और खिलाने लगी. तब भी आप सब ये भी जानते हैं कि यदि आप किसी चीज को शिद्दत से पाना चाहें, तो जर्रा जर्रा उसे आपसे मिलवाने में लग जाती है.

सेक्सी बीएफ चालू वीडियो धीरे धीरे धक्कों का वेग बढ़ता गया और वो जोर जोर से मेरी चूत को चोदने लगा. उसकी चूचियों के साथ खेलता हूं क्या उसको पता नहीं चल रहा होगा या फिर वो नाटक करके सोई रहती है?वो बोला- इस बात को पता करने का एक ही तरीका है.

बीएफ कैसे निकालते हैं

मगर न वो कभी मुझसे कह पायी … और न मैंने कभी उससे अपने प्यार का इजहार किया. मुझे इस दौरान अपनी मां की चिकनी जांघों आदि को देख कर बड़ा सेक्स सा जागने लगा था. सर्दियों के दिन होने की वजह से अम्मी अपनी बेड पर रजाई में बैठी थी तो शकील भी उसी रजाई में बैठ गया.

उसने अपना नम्बर एक छोटे से पत्थर पर लपेट कर मेरे घर की बालकनी में फेंक दिया. उसकी चुदाई की स्पीड इतनी तेज थी कि मेरी कामुक सिसकारियां पूरे कमरे में गूँजने लगीं. सेक्सी बीएफ कुंवारी लड़कियों की चुदाईफिर उसकी चुत से गर्म लावा रस बाहर आया और वो निढाल हो गई।मैंने धक्के लगाने चालू किये तो वो बिना किसी हरकत किये सिर्फ मुझे किस किये जा रही थी.

ज़ोहरा नहीं चाहती थी कि कल रात के हादसे के बारे में शनाज़ को कुछ पता चले!शनाज़ हंस कर बोली- आपा, आप रात को ठीक से सो नहीं पाती होंगी.

उस दिन तीन बजे मैंने उसे उसके हॉस्टल से पिक किया और पुरी के लिए अपनी बाइक पर निकल आया. वो करीब 35 साल की होंगी, मगर देखने में 30 साल से ज्यादा की नहीं लगती हैं.

मुझे पता लगा कि मौसी ने नीचे से पैंटी भी नहीं पहनी थी।मैं धीरे धीरे अब मौसी के पूरे चूतड़ पर हाथ फिराने लगा।मेरा लंड खड़ा हो गया था और अब मन कर रहा था कि मैं मौसी की गांड की दरार में भी हाथ से सहलाऊं. बीच बीच में मैं हल्का हल्का धक्का मारने लगा। 5 मिनट के बाद लण्ड का सुपाड़ा पहली बार अंदर गया। उसे दर्द हो रहा था।मैंने शांता को कहा- अभी प्लीज हिलना मत … बड़ी मुश्किल से अंदर गया है।वो बोली- साहब, धीरे धीरे ही अंदर डालना।मैंने कहा- अगर ऐसा ही चलता रहा तो पूरे दिन में भी लण्ड अंदर नहीं जायेगा। तुम थोड़ी देर के लिए सहन कर लेना. एक घंटे बाद जब मैं अपने घर जाने लगा, तो सर ने बोला कि जो मैंने पढ़ाया है, उसको घर पर जा कर रिवाइज़ करना और कल होमवर्क करके आना … वरना सज़ा मिलेगी.

मैंने उसकी जांघों को कस कर थाम लिया और उसकी चूत के छेद पर लंड के सुपारे को सेट कर दिया.

काजल के मां पिता सभी बड़े ही सीधे और अच्छे लोग हैं, पर ये साली न जाने कैसे ऐसी निकल गई है. मेरे अंदर भी कुलबुलाहट थी जिससे मेरा लण्ड थोड़ा तन गया और गमछी में उभार आ गया. मुझको सुधा बोलो अगर आज रातभर के लिए मुझे अपनी गर्लफ्रैंड माना है तो!सागर- ठीक है सुधा!अब मम्मी उठी और उसको बीच में करके उसके लन्ड पर बैठ गयी और सागर के पूरे शरीर को चूमने लगी; उसके निप्पल्स को चाटने लगी.

बीएफ भोजपुरी सेक्सी व्हिडिओमुझे उसके बारे में ये सब बताते हुए शर्म आ रही है, पर मैंने खुद अपनी आंखों के सामने अपनी शादीशुदा बहन को कई गैर मर्दों के साथ चुदवाते हुए पकड़ा था. चूंकि मेरा घर ज्यादा दूर नहीं था, तो अपने घर पहुंचने के लिए पैदल चलते हुए मुझे आधा घंटा ही लगता है.

सेक्सी सेक्सी चूत चुदाई

एक दिन प्रिया भाभी प्रेग्नेंट हो गयी और फिर उसके बाद हम दोनों ने सेक्स करना बंद कर दिया. वो मेरे कान में दर्द में कराहते हुए बोली- आराम से नहीं कर सकता है क्या? इतनी जोर से दबा दी. वो वैसे ही बैठा रहा और मैं उछल उछल कर उसका लण्ड अन्दर बाहर करने लगी.

उसकी चूत को अच्छे से मसलने के बाद मैंने अपना पैर उसके पेट पर चलाया और फिर उसकी मोटी मोटी चूचियों को मसलने लगा. उसकी चूत ने लंड को अब आराम से रास्ता दे दिया था और वो भी ऊपर नीचे होने की कोशिश कर रही थी. आवाज आने के बाद मैंने हल्के से आंख खोल कर देखा कि वो बाथरूम में घुस गया था.

वैशाली भाभी ने तुरंत नीचे जाकर लंड को अपने मुँह में ले लिया और अपनी जीभ से उसको चाटने लगी. मैंने अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और तेजी से लंड को उसकी ढीली हो चुकी चूत के अंदर-बाहर करने लगा. मां ने ब्रा खोलते हुए कहा- तू चड्डी खींच कर निकाल दे और आज बिना किसी डर के मुझे चोद दे.

मैंने गाड़ी रोकी और उनसे पूछा- क्या हुआ मैम, आप यहां क्या कर रही हो?मैम बोलीं- मेरी स्कूटी खराब हो गई है. मैं अपना सर नीचे किए हुए उनकी किसी भी पल आने वाली झिड़की के लिए तैयार बैठा था.

और साथ ही साथ बोल रही थी- मेरी जान, आज की ये रात तुमको हमेशा याद रहेगी कि कितनी किस्मत वाली गर्लफ्रैंड मिली है तुमको!अब सुधा सागर के होंठों पर अपने होंठ रख कर उसको चूसने लगी जिसमें सागर भी उनका साथ देने लगा.

आप सब का यह सेक्सी चाची की चूत कहानी पढ़ने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद. बीएफ डॉक्टर वीडियोफिर मैंने पूछा- हमें चुदाई किये हुए कितना समय हो गया?वो बोली- आखिरी बार उस वाले घर में ही की थी. गाना वाला बीएफ वीडियोइस कोशिश में मेरे हाथ भाभी के मम्मों पर लग गए थे और मैंने भाभी के दोनों मम्मों को जोर से दबा दिए थे. क्या तुम किसी मैकेनिक को जानते हो?मैंने भाभी से कहा- हां भाभी मैं कल सुबह एक मैकेनिक को बुला दूंगा.

यहां आने के बाद भी चैन से नहीं रहने देते।बाजी बोली- घर में तुम्हारे आने के बाद से सब उल्टा ही ही रहा है.

[emailprotected]होटल रूम सेक्स कहानी का अगला भाग:पड़ोस की भाभी ने ब्लैकमेल किया- 3. उन अंकल के भाई की बेटी नीता मेरी भी दोस्त थी जो उनके घर में रहकर पढ़ाई कर रही थी और मेरे ही कॉलेज में पढ़ती थी।जब मैं अंकल के घर रहने गया तो अंकल की बेटी शिल्पी भी आई हुई थी जो बाहर रहकर पढ़ाई कर रही थी. बुआ चीख पड़ीं ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’तो मैंने उनके चुचे दबाते हुए धीरे धीरे आगे पीछे होना शुरू कर दिया.

फिर अचानक से उसने मुझसे खुद ही पानी माँग लिया तो मैंने उसे पानी की बोतल दे दी और वो पूरी बोतल का पानी पी गयी, जो काफी ठंडा था. मेरी जिन्दगी की किताब में भी एक ऐसा ही पन्ना है जिसको मैंने कोरा ही रखा है. तभी जूही जाग गयी और अपनी मम्मी पर चिल्लाने लगी तो उसके मम्मी उसको समझाती हुई बोली- मुझे पता है कि रोज़ रात तुम अपने कमरे में चूत में उंगली करती हो.

बढ़िया सेक्सी भेजो सेक्सी

बस तू तैयार रहना।”मैं उनसे अलग हुई और अपने कपड़े ठीक करके बोली- अच्छा. मैं कुछ सोचने लगी, तभी सपना की मम्मी बोलीं- हां जाओ बेटा चली जाओ … घूम लो. मैंने कहा- ठीक है, मगर चाचा कहां गये हैं और कब तक आएंगे?चाची बोली- वो दो-तीन दिन के बाद आयेंगे.

तभी मेरे शौहर ने गला खंखारा और दोनों लड़के मुझे छोड़ कर झट से निकल गये.

तभी बगल वाले कम्पार्टमेंट से दो लड़के आकर बैठ गये और मेरे शौहर से बात करने लगे.

पर अब भी मुझे डर भी लग रहा था तो मैंने चाची के घर पर जाना बंद कर दिया. आज ये पहली बार था, इसलिए सबको छोड़े दे रहा हूँ, अगली बार से सब होमवर्क करके आना. हिंदी बीएफ पेपरऔर कब सामान्य बातों से हम प्यार की बातों पर आ गये, हमें पता ही नहीं चला और हम बस कॉलेज और उसके बाहर बस प्यार की बातें ही किया करते थे।कॉलेज में जब हम साथ होते थे तो मौक़ा पाकर मैं कभी कभी उसकी जाँघ या पीठ पर हाथ फेर देता था जिससे वो सिहर जाती थी।अब वो मेरी गर्लफ्रेंड बन गयी थी.

… डॉगी स्टाइल में थरथराती नंगी गांड को दबोच कर पकड़े हुए मेरे हाथ … लम्बे खुले बाल और पसीने से भीगा देसी अधखुला ब्लाउज़ … संजना आंटी के बदन की कामुक महक और गरम सांसों की उन्हह्ह आंहह्ह की मादक सिसकारियां … आंटी का अपलक वासना की निगाहों से मुझे देखते रहना … कड़क लोहे लंड का अन्दर बाहर होना … इन सबसे एक अलौकिकता का वातावरण बन रहा था. मैं भी हवशी हो गया था और अब शर्म खत्म होने लगी थी और हवस हावी हो रही थी. न तो मेरी चुत शांत हो पाती है और न ही मैं उनके रस से बच्चे की मां बन पा रही हूँ.

यह कहानी ज़्यादातर मेरे आस पास ही घूमेगी, बीच बीच में कुछ नए लोग इस कहानी में आएंगे, तो उनका परिचय उसी वक़्त आपसे करवाता चलूँगा. उसके नर्म से हाथ के द्वारा मेरे लंड को सहलाने से मैं बहुत ही ज्यादा उत्तेजित हो गया था.

मेरी नर्म जीभ भी मेघा को सिसकारियां निकालने पर मजबूर कर रही थी।वह लेट कर उम्म्म् … आआह्ह.

क्योंकि आपा की चूत गर्म होकर पानी छोड़ रही थी तो आपा की चूत का पानी मेरी उंगली तक पहुँच गया था. सर्दी से बचने के लिए मैंने कहीं रुकने का सोचा क्योंकि इतनी तेज बारिश में बाहर तो नहीं रहा जा सकता था. कुछ देर तक चुत चाटने के बाद उन्होंने मुझे नीचे खींचा और मुझे औंधा करके टेबल पर लिटा दिया.

बीएफ वीडियो माधुरी दीक्षित लेकिन आज मेरा लौड़ा रूकने के लिए तैयार नहीं था। मैंने अपने झटकों की रफ्तार बढ़ा दी. लेकिन उसने कहा- मेरा मन तो कर रहा है … तुम ऐसे करो कि चुत नहीं दो … अपने मुँह में लंड ले कर मजा दे दो.

कॉलेज से रूम पर जाने के बाद मैंने रात तो उस लड़की को कॉल करने का सोचा. इस पर मां बोलीं- मालिश बेटा रहने दे, तू थोड़ी कमर ही दबा दे, तुझे भी नींद आ रही होगी. लंड चुत की दबादब चुदाई की वजह से भाभी के दोनों मोटे गोलाकार मम्मे उछल कर तमाशा दिखा रहे थे.

जंगल की एक्स वीडियो

मैं ऊपर अपने अपार्टमेंट में चला गया और एक बार फिर उसका नशा लंड से उतारने के लिए मुझे मुठ मारनी पड़ी. उनके जिस्म को ऊपर से नीचे तक सहलाते हुए उनके होंठों को चूसने की कोशिश करने लगा. उसने मुझे बताया कि उसे सेक्स के बारे में उसके मामा की बेटी ने बताया था.

उनके नहाने की वजह से साबुन पानी में मिल गया था और पानी में साबुन के झाग की वजह से अन्दर का कुछ नहीं दिख रहा था. तो दोस्तो, कैसी लगी मेरी और पड़ोसन भाभी की सेक्सी चुदाई हिंदी कहानी? प्लीज मुझे मेल जरूर करना.

मेरे पति की छोटी बहन यानि मेरी ननद की शादी पहले ही हो चुकी थी।हमारे घर में सब सुख शांति से चल रहा था और मेरी ससुराल में कोई कमी नहीं थी.

अब हम दोनों बहुत तेजी से चुदाई करने लगे, जिससे पूरे रूम में चुदाई की मादक आवाजें गूंजने लगीं. फिर एक दूसरी की फुद्दी को फुद्दी से रगड़ रगड़ कर चोदने लगी और चूची मसलने लगी. उसने काले रंग की तंग चोली पहनी हुई थी और लाल रंग की पैंटी पहनी हुई थी.

पहले तो मैं उन्हें सोते हुए देखता रहा, फिर थोड़ी सी हिम्मत करके मैंने उनके चूचों को छूने की सोची और उन पर एक हाथ रख दिया आराम से।ओह्ह्ह … क्या मस्त फीलिंग थी! मैं उस पहली फीलिंग को शब्दो में बयां नहीं कर सकता. फिर उमेश सर ने बेड के बगल की दराज़ से तेल की शीशी निकाली और मुझसे घोड़ी बनने को कहा. धीरे धीरे उनकी चूचियों को मेरे हाथ मसलते रहे और देखते ही देखते मामी की सिसकारियां निकलने लगीं.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:टीचर की चुदाई देखकर मुझे कुंवारी चूत मिली-2.

सेक्सी बीएफ चालू वीडियो: मैं उसके पीछे एक कुत्ते की तरह हुआ और अपने छोटू को उसकी मुनिया में प्रवेश करवाया. तभी वो मेरे करीब आ गईं और मैंने संजना आंटी की सांसों को महसूस किया.

तब तक अनामिका सत्यम के सामने आ गई और उससे फिर से अपनी चूत चटवाने लगी. उसका हाथ मेरी लोअर पर आ चुका था और वो मेरे लंड को बार बार दबा रही थी. लॉकडाउन में पड़ोसन भाभी का सेक्स मूड बना तो उसने मुझसे फेसबुक पर सम्पर्क करके दोस्ती की.

तभी उसने अपना लंड मेरी चूत के छेद पर रख कर एक बहुत जोर का धक्का लगाया। धक्का इतना तेज था कि उसका लंड मेरी चूत को फाड़ता हुआ घुस गया.

मैम ने चित लेट कर अपनी चुत को फैला दिया और मैं उनकी चुत को चूसने लगा. उसके बूब्स भी बहुत छोटे छोटे नींबू के समान हैं … लेकिन देखने में वो किसी हीरोइन से कम नहीं लगती है. वे मुझे रोज ऐसी एक किताब दिया करते थे और उसमें लिखी अश्लील कहानी मुझसे पढ़वाते थे.