सोनाक्षी सिन्हा की बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी मूवी पिक्चर सेक्सी मूवी

तस्वीर का शीर्षक ,

बोतल सेक्सी वीडियो: सोनाक्षी सिन्हा की बीएफ, आंटी ने कहा- अब जल्दी से मेरी ब्रा उतारकर कबूतर आज़ाद कर दे और इनको चूस ले क्योंकि बहुत दिनों से किसी ने चूसे नहीं हैं.

सेक्सी पिक्चर वीडियो मद्रासी

ये कह कर मैं फोन काट देता था और फोन पर हुई सभी बातों को लड़की और उनके मम्मी-पापा को बता देता था कि फलानी जगह के लड़के वालों ने फोन किया था. बच्चा कैसे होता हैसुहागरात में जब मैंने उसके कपड़े उतारे तो मुझे उसकी सुंदरता का सही से पता चला.

लगभग 20 मिनट लंड चूसने के बाद देवर मेरे मुँह में ही झड़ गया और मैं उसका रस पी गई. भारतीय सेक्सी डॉट कॉममैंने उन्हें इशारा किया तो भाभी नीचे बैठ गईं और उन्होंने अपने मुँह में मेरा लंड ले लिया.

रात के खाने के बाद मेकअप, तरह तरह के कपड़े पहनना, शर्माने का नाटक करना, चलना आदि सिखाया.सोनाक्षी सिन्हा की बीएफ: इससे साफ़ जाहिर हो रहा था कि चाची को इस बार मेरा लंड काफी मजा देने वाला था.

मैं बोला- डार्लिंग तुझे कैसे पता चला?सुरभि बोली- अबे चूतिए, मैं भी तो यहीं बाजू के क्वार्टर में रहती हूँ.ननद- कोई नहीं भाभी जी, आज पहली बार का मामला था, तो हो सकता है कि भैया जल्दी ठंडे हो गए हों.

सेक्सी वीडियो नेपालन - सोनाक्षी सिन्हा की बीएफ

इसके बहाने परिमल को भी तुम्हारे साथ घूमने का मौका मिल जाएगा और तुम्हारी सहेली के साथ मिलना भी हो जाएगा.मॉम ने मुँह खोल दिया और एक मिनट में विक्रम का गाड़ा सफेद पानी मॉम के मुँह पर आ गिरा.

जब मैं वापस आया तो वो मेरी एक टीशर्ट पहनकर पेंटी में घूम रही थी, बहुत सेक्सी और माल लग रही थी।फिर हमने कई बार चुदायी की जब जब घर पर कोई था नहीं!अभी तो मैं वापस कॉलेज आया हुआ हूँ. सोनाक्षी सिन्हा की बीएफ अभी दो मिनट भी नहीं हुए थे कि शमशुद्दीन जी और राजशेखर जी अन्दर आ गए.

भाभी की फिगर की बात कहूँ तो उनका 38-32-40 का मदमस्त बदन देख कर किसी का भी सोता हुआ लंड तुरंत खड़ा हो जाएगा.

सोनाक्षी सिन्हा की बीएफ?

उसने मुझसे पूछा- तुमने अभी खाना खाया या नहीं?मैंने उससे कहा- तुमने खाने के लिए टाइम ही नहीं दिया यार … सुबह से भूखा हूँ. इस तरह से कुछ समय तक भाभी के लंड चूसने से मेरा रस निकलने ही वाला था तो मैंने भाभी का मुँह अपने लंड से निकाल दिया. उसे दारू पीते हुए जब नशा होने लगा तो वो मुझसे बोला- डार्लिंग मेरा लंड तुम्हारी गांड में मस्त फंसा है … तुम भी देखो न!मैं बोला- यार मैं उल्टा लेटा हुआ हूँ, मेरी गांड मुझे नहीं दिखती.

मैडम को थोड़ा आराम मिलने के बाद मैंने फिर से एक जोरदार झटका दे दिया. भाभी Xxx हिंदी कहानी के पिछले भागममेरे भाई की सेक्सी बीवी को चोदामें आपने अब तक पढ़ा था कि मैंने अपनी बीवी नैना को सोनल के पति हितेश के साथ चुदने के भेज दिया था और खुद हितेश की बीवी सोनल के साथ चुदाई करने के उसका बाथरूम से बाहर आने का इन्तजार कर रहा था. पल्लवी भाबी के कपड़े बहुत टाइट थे, उनके चूचे और चूत का आकार एकदम साफ़ झलक रहा था.

बेड का गद्दा बहुत मुलायम और जंपिंग वाला था, जिससे चाची इतनी जोर से ऊपर ऊछलीं कि उनकी गांड और मम्मे मस्त सीन दिखाने लगे. जैसे जैसे मैं अपनी जीभ उसकी गदरायी जांघों पर चलाता जा रहा था, वैसे वैसे वो मछली की तरह मचलती जा रही थी. थोड़ी देर बाद चाची ने मुझे अपने ऊपर से साइड में किया और अपने कपड़े सीधे करके चलने लगीं.

अब मैंने उसकी गांड में थूक लगाया और अपना लंड उसकी गांड पर सैट कर दिया. इतने में वंदना बहुत जोर से मेरे उपर चिल्लाने लगी- लौड़े के बाल चोदेगा … या फिर लंड डाल कर देखता रहेगा.

एक दिन हुसैना भाभी के सामने उसने मुझे छेड़ने के लिए पूछा- तुम्हारी कोई गर्ल फ्रेंड नहीं है?मैंने उसे ना में जवाब दिया.

मैं प्रिया को अपने दिल की बात बोलता जा रहा था- प्रिया, मुझे तुम पहली नजर में ही इतनी पसंद आ गई थी कि मैं तुम्हारा दीवाना हो गया था, तुमको बार बार देखने के लिए मैं तुम्हारे आसपास रहने का बहाना ढूंढता था.

एक को अपने मुँह में डालकर बहुत जोरों से चूसने लगा और दूसरा मसलने लगा. ड्रिंक खत्म होने के बाद मैं 5 मिनट के लिए फ्रेश होने बाथरूम में गई. सीखने वाले/ वालियों को अभिनय करना था कि उन्हें मज़ा आ रहा है, साथ ही ग्राहक के मज़े का ख्याल रखना था.

सिमरन भी थोड़ा सा रुककर धक्के लगाने लगी और वो अपनी स्पीड बढ़ाती जा रही थी. मैंने कहा- बच्चा रह जाएगा!तब स्वाति बोली- अरे तू चोद ना … ज्यादा डॉक्टर न बन … अब बहुत तरीके आ गए हैं. मैं तुमको जब भी बुलाऊंगी, तो क्या तुम आ सकते हो न मेरे लिए!मैंने कहा- आप जब भी, जिस किसी भी समय बुलाओगी, मैं हाजिर हो जाऊंगा.

कहानी के पहले भागबारिश में रिसेप्शनिस्ट के घर मेंमें अब तक आपने पढ़ा था कि सिमरन नाम की रिसेप्शनिस्ट मुझे अपने घर ले आई थी और हम दोनों चुदाई की मस्ती में डूबे हुए थे.

मम्मी ने अपनी टांगों को खोल दिया और पापा ने मम्मी की चूत में एक उंगली डाल दी. कई बार तो डर के मारे उसने मेरा लंड भी पकड़ा जो उसके मम्मों के अहसास से पहले ही खड़ा हुआ था. प्रिया भाभी बस ब्रा और पैंटी में रह गई थीं और मैं कच्छे में रह गया था.

बेडरूम में आते ही बुआ ने नीलिमा को बेड पर धक्का दे दिया, जिससे वो बेड पर जा गिरी. जैसे ही मैं उनकी कुर्ती को उतारने जा रहा था कि उनका बेटा उठ गया और चाची को आवाज देने लगा. तो मैंने कहा- भाभी, इस तंबू को क्या तंबू ही कहते हैं?वह मुस्कुराई और बोली- इसको कुछ और भी कहते हैं.

मैं- अरे क्या इसी पानी में ही चोदोगे या बाहर भी निकलना है?राजेश- मेरी रानी, आज मैं तेरी चूत पानी के अन्दर ही चोदूंगा.

अभी हमारी चुदाई पूरी नहीं हो पाई थी और पूरी तरह से के एल पी डी हो गई थी. भाभी के मुँह की गर्मी से मेरा लंड जल्दी ही पिघल गया और लंड ने वीर्य छोड़ कर भाभी के मुँह को भर दिया.

सोनाक्षी सिन्हा की बीएफ मॉम ने आंटी की पैंटी के अन्दर हाथ डाल दिया और आंटी की चूत को रगड़ने लगीं, धीरे से कमर से पीछे हाथ डाल कर पैंटी के अन्दर घुसा दिया. मेरी बहन के बूब्स और गांड दोनों छोटे आकार के थे जिसके कारण कोई मेरी बहन को शादी के लिए पसंद नहीं कर रहा था.

सोनाक्षी सिन्हा की बीएफ जब उसकी सांसें मेरे लंड को छू रही थीं तो लंड में एक अजीब सी कसक उठ रही थी. कभी मैं उसके बूब्स को दबाता तो कभी उसकी मुलायम गांड को!जिसकी वजह से वो मछली की तरह मेरे हाथ से फिसलने लगती और में किसी भूखे शेर की तरह उसको अपना शिकार समझ कर जोर से यानि कस के पकड़ लेता.

बाद में जब उसका लंड पिचकारी मारने को हो गया तो मैं उसे बाथरूम में ले गया.

सेक्सी फिल्म रंडी की चुदाई

मैं बाहर आया और पलट कर देखा, तो गुरबचन जी अरुणिमा को लेकर अन्दर बेडरूम के तरफ जा रहे थे. चाची चिल्लाने लगीं- उई मां … भैन के लंड … साले राक्षस … मेरी चूत है कोई सड़क छाप रंडी की नहीं. इसके बाद विक्रम ने अपना लौड़ा मॉम की चूत पर रखा और एक ही झटके में पूरा अन्दर डाल दिया.

राजेंद्र- बैचलर पार्टी बॉय, दूल्हे राजा आ गए हैं … हमारी बैचलर पार्टी का मुहूर्त करने … सब पीछे हट जाओ. लड़कियां कहीं आराम से बैठकर अपनी चूत की मालिश शुरू कर दें, वो अपनी उंगलियों से चूत को रगड़ें. भाभी चाय लेकर आईं, मेरी फटी पड़ी थी … क्योंकि मेरा पूरा माल सलवार पर लगा था और भाभी उसी क़ुर्सी पर बैठी थीं.

उसके बाद गुरबचन जी मेरी बीवी की कमर पकड़ कर उसकी गांड पूरी ताकत से चोदने लगे.

चाची सास- हां वो तो मुझे पता है, पर कुछ कर भी रहे हो!मैं- कुछ नहीं. मैं बोला- जान मेरा लंड तुम्हारी चूत में जाने के लिए दस्तक दे रहा है. इसके बाद रिया मेरी पीठ पर अपनी जीभ चलाने लगी और नीचे मेरी कमर पर भी बहुत चूमा.

मैंने टाइम देखा तो 9 बजे रहे थे, कोमल और नीतू ने भी खाना खा लिया था. ऊओफ्फ़ आह क्या बूब्स थे पायल के … एकदम तने और कसे हुए बड़े आकार के गोल गोल खरबूजे से मम्मे देख कर मुझसे रहा नहीं गया और मैं अपनी आंखें बन्द करके पायल के मम्मों पर टूट पड़ा. इंडियन चूत गांड चुदाई कहानी में मैंने पड़ोस की एक कुंवारी लड़की से दोस्ती करके उसके साथ फोन सेक्स किया.

थोड़ी देर मैं उसके साथ बातें करता रहा वो हर बात का जवाब हां और ना में दे रही थी. मैंने सिमरन से पूछा कि लंड का पानी कहां निकालूं?इस पर सिमरन बोली- इस बार तो मेरी चूत में ही निकालो, पूरे एक महीने बाद चूत को लौड़े का पानी नसीब हुआ है.

फिर हम दोनों नंगे ही कमरे में आ गए और बिस्तर के नीचे जमीन पर दरी बिछा कर लेट गए. आज तुम मुझे अपना बना लो अब देर न करो … जल्दी से मेरी प्यास बुझा दो. स्वाति मुस्कुरा कर बोली- तुम ठीक से दरवाजा बंद नहीं कर सकते थे?मैं बोला- मैंने दरवाजे की कुंडी लगाई थी, शायद कुंडी ठीक से बंद नहीं हुई होगी.

फिर एक दिन चाचा मेरे घर आए और मम्मी से बोले कि मेरी बिटिया को भी ट्यूशन जाना है, पर अकेले भेजने में डर सा लगता है.

मैंने महसूस किया कि मेरे पीछे के आदमी का लंड मेरे चूतड़ों की दरार में टच कर रहा है. आप सभी का बहुत बहुत आभारआज मैं अपनी साली के साथ 7 दिन गुजारने की सेक्स कहानी सुना रहा हूँमेरी साली इकलौती है. फिर धीरे धीरे मैंने उसकी कमर से पजामे को नीचे किया तो उसने पैंटी नहीं पहनी थी.

इसके लिए मैंने सब सोच लिया था कि प्रिया ख़ुद पूरी तरह से खुलकर मुझसे चुदेगी … वो भी पूरी रात. रणवीर थोड़ी देर गांड मारता, फिर रुककर मेरे होंठ चूसता और फिर से चोदना शुरू कर देता.

ऐसी सुनसान जगह में बैचलर पार्टी की व्यवस्था शायद इसीलिए की गई होगी, जिससे कोई उन्हें डिस्टर्ब ना कर सके. इसी बीच विश्वेश्वर जी अरुणिमा की कमर को पकड़ कर धीरे धीरे अपना लंड उसकी गांड में घुसाना चालू कर दिया. मैं मेज पर लेट गई और अपनी टांगों को खोलकर अपनी मासूम सी बुर को उसके सामने रख दिया.

टनाटन सेक्सी

उस वक्त मेरी चूत की तड़प इतनी भयंकर हो रही थी कि मैंने सुकेश को अपने ऊपर खींच लिया.

[emailprotected]इन्स्टाग्राम: Vrinda_venusऑफिस गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:. हॉट हॉर्नी सेक्स कहानी मेरी होने वाली बीवी की चाची की चूत चुदाई की है. कुछ देर तक मम्मों का रस पीने के बाद मैंने पायल के लहंगे का नाड़ा खोलने हाथ बढ़ाया तो वो शर्मा गई.

अब मुझको समझ आया कि सम्भोग के लिए मुझे तैयार होने में 10-15 मिनट और लगेंगे. यही कोई जवान लड़का मैंने सैट किया होता, तो वह सुबह शाम मेरी जबरदस्त चुदाई कर रहा होता. हिंदी सेक्स वीडियो पिक्चर फिल्मगांव के बाहर रास्ते में किशोर अपनी साईकल लेकर खड़ा हुआ था, उसने मुझे अपनी साईकल पर बैठाया और अपने खेत की तरफ चल दिया.

मैं सोचने लगा कि अपनी बीमार बीवी को तो चोद नहीं सकता; उसकी तो तबियत खराब है. चुदाई की मशीन का डिल्डो अब बड़ा लगा दिया गया था; सभी काफ़ी देर तक सहन करने लगे थे.

मैं आंटी के रूम में आया पर आंटी सेक्स के लिए तैयार नहीं थी क्योंकि वाटर पार्क वाली चुदाई के कारण आंटी का बदन दुख रहा था. मुझे भी मजा आने लगा और मैंने कोमल को अपने पास खींचा और उसे किस करने लगा. वो ज़ोर से चिल्लाई- ऊऊई मम्मी रे … मर गई आह फट गई मेरी चूत … आंह साले लंड बाहर निकाल मादरचोद.

वरूण ने पूछा- मम्मी कहां हैं?मैंने कहा- वो किचन में तेरे लिए जूस बना रही हैं. अपनी एक टांग को कमोड पर रखी और मेरे सामने आंटी की गुलाबी और रसभरी चूत खुल गई थी. तभी अंकल मेरे पास आए और उन्होंने मुझसे कहा कि शाम 7:00 बजे लेडीज संगीत शुरू हो जाएगा और रात को 1:00 बजे तक चलेगा.

विक्रम ने अपने हाथ से सारा वीर्य मॉम के मुँह पर और चूची पर मसल दिया और अपना हाथ मॉम को दिखाकर बोला- चल कुतिया इसे चाट चाट कर साफ़ कर!मॉम ने साफ़ कर दिया.

मैं- क्यों क्या हुआ?भाभी बोली- कुछ विशेष बात करनी है … ये बहुत जरूरी बात है. मैं बार बार चूची की नोक को अपने मुँह में दबाने की कोशिश करता मगर वो मछली सी फिसल कर अपनी चूची हटा देती.

उसके टॉप में हाथ डाल कर बूब्स मसलने लगा, फिर एक दूध बाहर निकाला और चूसने लगा. फिर मैं उनके मुँह से उठी तो वो बोलीं- कुतिया मेरी चूत का क्या!मैं कहा- साली छिनाल, लंड खा लिया अब भी चूत में खुजली हो रही है. तेल की चिकनाहट की वजह से पूरा लंड एक ही झटके में मेरी गांड में घुस गया.

सिमरन को अहसास होते ही वो सामने लेट गयी और मेरे लौड़े को अपनी छाती के पास ले जाकर हाथों से लंड की मुठ मारने लगी. शायद पिछले कई दिनों से फहीमा की चूत न चोदने के कारण स्टॉक इकट्ठा हो गया था. शायद उसकी बच्चेदानी तक पहुंच गया था क्योंकि मुझे लौड़े पर अन्दर कुछ ऐसा महसूस हुआ.

सोनाक्षी सिन्हा की बीएफ दोस्तो, मैं शशांक हूँ, मेरी उम्र 22 साल है और मैं झांसी में रहता हूं।मेरा रंग गोरा है मेरे लौड़े का साइज 7 इंच है. मैंने कहा- फिर तो तू पीछे से भी ले लेगी?वो बोली- हां लेकर देख सकती हूँ.

देखा सेक्सी वीडियो

पहले तो दो तीन दिन तक मैं चाचा के घर पर ही रुका, तो चाची से अच्छी पहचान हो गई. पिछली कहानी में मैंने बताया था कि कैसे प्रियंका भाभी को चोद चोद कर मैंने मां बना दिया था … और उन्हें मेरे बीज से एक लड़की पैदा हुई थी. ट्रेनर बोला- लड़कों को, परीक्षा लेने आई लड़कियों को अपना ग्राहक समझकर उनको खुश करना है … और लड़कियों को, परीक्षा लेने आए लड़कों को अपना ग्राहक समझकर उनको खुश करना है.

तू मुझसे नाराज तो नहीं है ना!यह कहते हुए उन्होंने मेरे मुँह से तकिया हटा दिया. मेरी पहली बार ऐसी चुदाई हो रही थी और मैं बस सिसकारियां लिए जा रही थी. मराठी देसी सेक्सपिछले भागहोटल के कमरे में आई चाची चुदाई के लिएमें अब तक आपने पढ़ा था कि चाची ने मेरे लंड से खेल कर उसे चूम चाट कर उसका रस निकाल लिया था और वीर्य चाट लिया था.

मैं इस कल्पना में अपने लौड़े को हिला रहा था कि भाभी शायद मुझे अपने कमरे में बुलाएंगी.

तभी मैंने बाथरूम की तरफ से आवाज़ आती सुनी तो मुझे मालूम हो गया कि आंटी चुदने से पहले फ्रेश हो रही हैं. अब घर में कोमल और बहन नाइटी या नंगी ही रहती थीं क्योंकि मेरा घर चारों तरफ से ऊंची दीवारों से घिरा हुआ है.

दस मिनट में मेरी चुत की चमड़ी लटकने लगी और गांड के छल्ले बाहर निकलने लगे. कोमल ने देखा कि नीतू की चूत पर झांटों के बाल उगे हैं और शरीर पर भी काफी बाल हैं. प्रिया- आआ आह मम्मीईई … सीईई इई आआह!उसके दोनों निप्पल बिल्कुल नुकीले हो कर तन गए.

मैं अब और नहीं रुक सकता था तो मैंने उसको नीचे लिटाया और पूरा उसके ऊपर लेट कर ताबड़तोड़ चूत चुदाई करने लगा.

उन्होंने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और किस करते हुए कपड़ों के ऊपर से ही मम्मे दबाने लगे. आज मैंने पहली बार किसी लड़की की चूत का पानी पिया था और अपना पानी उसे पिलाया था. तो मेरे घर ही आना, मैं होटल का रिस्क नहीं लेना चाहती।मेरे लिए तो चांदी हो गयी, चलो रूम की टेंशन भी खत्म।मैं- ओके तो 3 दिन बाद मिलते हैं।हरिद्वार से पौड़ी गढ़वाल में उसका वो गाँव करीब 130 किलोमीटर था.

सफेद साडीउनके टट्टे मेरी ठोड़ी पर टकरा रहे थे।उन्होंने अचानक ही मेरी चूत को अपनी हथेली में दबोच लिया और आहें भरने लगे- क्या मस्त जवानी है तेरी वीनस, तुझे तो दिन रात भी चोदा जाए वो कम है … आह वीनस, आज पता चलेगा तुझे कि चुदाई कहते किसे हैं. वो मुझसे छूटने की हर कोशिश कर रही थी मगर किसी भी तरह से कामयाब नहीं हो रही थी.

कुंवारी फिल्म सेक्सी

मैं कुछ मिनट में ही झड़ गया और वो किसी रांड की तरह मेरा पूरा वीर्य पी गई. चाची ने अपना दुपट्टा मुँह से ढक दिया और फिर से आगे की ओर हाथ लाकर बांध दिए. मेरी साली ने सुबह 7 बजे फोन किया और वो बोली- दीदी मैं बस में चढ़ गई हूं.

मैं ज्यादा पीने के लिए नहीं कह रहा हूँ, जितना तुमसे हो सके, बस उतना ही पीना. मैं लंबे-लंबे धक्के लगा रहा था, शायद शराब ने मेरे चोदने के समय को बढ़ा दिया था और मैं उसकी चूत में लंबे लंबे धक्के लगा रहा था. नमस्कार दोस्तो, मैं राज शर्मा!आपका हिन्दी सैक्स कहानी पर स्वागत है।दोस्तो, जैसा कि आप मेरी कहानीविधवा बुआ को चोदा उसी के घर मेंजान चुके हो कि मैं अपनी बुआ को चोदता हूं।यह नई बर्थडे सेक्स कहानी भी मेरी उसी बुआ की चुदाई की एक सच्ची कहानी है।इनका नाम बबली है.

मैंने झट से हैंगर से आंटी की पैंटी उतारी और उसको अपने साथ घर ले गया. चीटिंग वाइफ पोर्न स्टोरी मेरे मामा के बेटे की पत्नी के साथ मेरी चुदाई की है. हॉट MILF सेक्स कहानी मेरे दोस्त की गदरायी मम्मी की गांड चुदाई की है.

इस तरह मैंने 20 मिनट तक भाभी की गांड मारी और मैं झड़ने वाला हो गया था. मैं समाज सेवा में बहुत रूचि रखता हूँ जिसके चलते में उस समय फरीदाबाद में खाना बांट रहा था.

लंड अन्दर बाहर करते करते मैंने आंटी के बाल पकड़ लिए और गांड पर थप्पड़ मारने लगा.

वो बोला- दीदी उधर डर लगेगा, क्या करूं?मैंने कहा- ठीक है, मेरे साथ सो जाओ. सेक्सी हिंदी में सेक्सी सेक्सी सेक्सीमेरी दीदी से मन नहीं भरता है क्या?मैं कह देता- मन तो भर जाता है, पर तू भी तो मस्त है मुझे तेरी भी चाहिए!वंदना की सहेली नेहा बोली- मुझे नहीं करना. सेक्सी नागा सेक्सीउसने अपनी चूत पर उगे झांटों के बाल सजावटी अंदाज में काटे थे, चूत के ऊपर झांटों की एक छोटी सी पट्टी थी. पायल मेरी गोद में थी और अपनी दोनों टांगों को मेरी कमर से लपेटी हुई मचल रही थी.

जैसे ही उसने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया, मुझे तुरंत अपनी बॉडी में करंट सा लगा और मैं हिल गया.

मैंने कहा- खुल कर कैसे?दीदी- अरे कमरे में पूरी तरह से बिंदास होकर … मुझे चोदते हुए तुम मेरी चूची पियो, मेरे बदन को काटो, ऐसा वाला सेक्स करना है. मैंने उसकी चूत को साफ किया और अपने लंड पर लगा झाग भी साफ करके फिर से उसके ऊपर लेट गया. इधर लड़के लड़कियों को सफल कॉल बॉय और कॉल गर्ल बनने की ट्रेनिंग दी जाती थी.

मैंने उनसे कहा- मैम सारे काम हो गए हैं … कुछ और हो तो बताइए?उन्होंने कहा- कोई काम नहीं है, तुम घर चले जाओ. मेरे पहले लंड से लेकर 64 लंड तक की सभी कहानियां मैं आपको क्रमवार सुनाना चाहती हूं. जैसे ही मैं बैठा मैंने बाथरूम के बाहर की दीवार पर टंगी हुई एक लाल रंग की पैंटी और सफ़ेद ब्रा देखी.

वीडियो सेक्सी पूजा

इस होटल में सब अपनी अपनी गर्लफ्रेंड या किसी भी उस लड़की को लेकर आते थे, जिससे उनकी सैटिंग हो जाती थी. अब विक्रम ने अपनी उंगली निकाली और वो अपने हाथों में तेल लेकर मॉम की कमर की मालिश करने लगा. मैं भाभी के ऊपर ऐसे ही पांच मिनट तब तक पड़ा रहा, जब तक मेरा लंड सिकुड़ कर बाहर नहीं आ गया.

भाभी बहुत जोर जोर से आह आह कर रही थीं और अपने दोनों पैरों से मेरे कमर को जकड़ कर गांड उठा रही थीं.

काफी देर तक गांड चुदाई के बाद मैं झड़ने वाला था तो उसने बोला- गांड में ही रस डाल दो.

मैंने उसकी हिंदी सेक्सी चूत पर हाथ लगाया तो वो भी पानी निकाल रही थी. आंटी भी अपनी गांड को उठा उठा कर साथ दे रही थीं, मुझे गालियां दे देकर अपनी चूत का भोसड़ा बनवा रही थीं. बद्री की दुल्हनिया फुल मूवीतो मैंने कहा- भाभी, इतना समय नहीं है, आपको दवाई की जरूरत है!मैंने भी मौके का फायदा उठाया और उन्हें गोदी में उठा लिया।उनकी कमर में इतना तेज दर्द था कि वह कुछ बोल भी नहीं पा रही थी, केवल कराह रही थी.

उसने मेरे हाथ के नीचे से अपने हाथ आगे लाकर मेरे सीने को ऐसे भर लिया जैसे वो स्तन हों. भाभी जोर से कराह उठीं- आह आह आह … मर गई मैं … हाय मेरी चूत फाड़ दी. कुछ देर बाद मेरे पति कमरे के अन्दर आए, उन्होंने दरवाजा बंद कर दिया.

मेरी जान, बस तू मेरे लिए एक ऐसे कमरे को इंतजाम कर देना, जो बिल्कुल सुरक्षित हो. आज मेरी चूत का तुम भुर्ता बना दो, रुकना मत आह्ह आअह्ह उह्ह्ह!वह ना जाने क्या कुछ बोले जा रही थी।उसकी आँखें कामुकता से लाल हो चुकी थी और मैं दनादन शॉट पे शॉट लगाये जा रहा था।दिव्या की चूत की दीवारें मैं अपने लंड की चमड़ी पर महसूस कर सकता था जो काफ़ी गर्म थी और टाइट होने की वजह से मेरे लंड की चमड़ी छिल गयी थी.

राजेश- क्या सच में वो इतनी बड़ी चुदक्कड़ है?शर्मा अंकल- और क्या … तभी तो मैं उसे चुदवाने तुम लोगों के पास लाया हूं ताकि उसके जिस्म की सारी हवस और गर्मी निकल जाए.

एक तरफ घास का ढेर, दूसरी तरफ पानी का हौद, खेती में काम आने वाला ट्रैक्टर और भी खेती से संबंधित बहुत सारे सामान रखे थे. चूंकि एक्जाम भी थे तो तय यह हुआ कि सुबह से शाम तक हम लोग अपने घरों में पढ़ेंगे और शाम से सेक्स की शमा रोशन करेंगे. तो मैं अपने दोनों हाथ उसकी गांड पर फेरते हुए मसलने लगा और मसलते हुए अपनी ओर दबाने लगा।फिर एक हाथ उसके पाजामे में डालते हुए गांड की दरार में उंगली चलाने लगा.

रेखा मीणा इससे हम सब थोड़ा रिलैक्स महसूस करेंगे, एक दूसरे को देख कर ज्यादा नर्वस नहीं होंगे।मैंने ऐसा ही किया. आंटी बोली- हाय बेबी मेरी जान … तेरी चूत तो गीली हो गयी ओर बहुत गर्म भी है.

साढ़े नौ बजे तक भी पूरा मामला निपट नहीं पाया था, तो मैंने सोचा कि अरुणिमा को कॉल करके खाना लगा देने को कह दूँ. मेरे माल की पिचकारी निकली तो उनकी आंखों में, बालों में, होंठों पर जा गिरी. दूसरी तरफ वरूण अपने फोन में लगा हुआ था तो उसको कोई फर्क ही नहीं पड़ रहा था.

सेक्सी लड़कियों के दूध

हाय दोस्तो, मैं ललिता जोशी!मेरी कहानी के पिछले भागअंकल के साले ने मुझे चोद दियामें आपने पढ़ा था कि कैसे मैं लेडीज संगीत से निकल कर राजेश के फॉर्म हाउस तक पहुंची और राजेश व उसके तीन दोस्तों के साथ बैचलर पार्टी एन्जॉय की. फिर मैं भाभी को अपने कमरे में ले गया और अपने कमरे का दरवाजा बंद कर दिया. सुबह की एनर्जी ड्रिंक अभी भी दो बॉटल बची हुई थी, तो हमने वह ड्रिंक ले ली.

बस फिर क्या था वो मेरे चूतड़ों पर बार बार हाथ लगाने लगा और मैं पीछे नहीं देखती. उनमें से एक बोला- अच्छा साली को मेरे नीचे आने दे, अगर दया की भीख ना मांगी भैन की लौड़ी ने … तो मेरा भी नाम नहीं.

तुम लोग उन लोगों को यौन आनन्द देते हो और उनकी शादी टूटने से बचाते हो.

आंटी बोली- हाय बेबी मेरी जान … तेरी चूत तो गीली हो गयी ओर बहुत गर्म भी है. पूरा लंड अन्दर घुसाने के बाद मैंने उसके होंठों पर किस किया और धीरे धीरे धक्के देकर चुदाई करने लगा. लेकिन जैसे ही उनके घर में पहुंचा, मेरी आंखें फटी की फटी रह गईं क्योंकि आंटी पूरी तरह से सिर्फ एक तौलिए में लिपटी हुई थीं.

मैंने मौका हाथ से जाने नहीं दिया और धीरे-धीरे भाभी से सेक्स को लेकर बात करने की कोशिश करने लगा. उनमें से एक बोला- अच्छा साली को मेरे नीचे आने दे, अगर दया की भीख ना मांगी भैन की लौड़ी ने … तो मेरा भी नाम नहीं. मुझे पता है कि तलाक के बाद वो अपने बॉस से चुदाई करती रहती हैं, लेकिन पिछले 4 महीने से वो घर पर ही हैं, तो वो प्यासी हैं.

लंड को चूत का चुम्बन मिला तो मैं चूत का कायल हो गया; लंड चूत के अन्दर घुसने को लालायित हो गया.

सोनाक्षी सिन्हा की बीएफ: जिसे सुनकर वो मुझसे बार बार जिद करने लगी थी कि इस गर्म सेक्स कहानी को सबके सामने आना चाहिए. फिर भाभी मेरे सामने आकर बोलीं- लेकिन तुम्हें मेरा एक काम करना होगा.

अंकल अपने बिज़नेस के सिलसिले में अक्सर घर से बाहर कोलकाता रहते थे, वो महीने में एकाध बार ही घर आ पाते थे. अगले दिन जब मैं उन्हें खाना देने गई तो अब उनके और मेरे बीच में पहले जैसी बात नहीं रही. मैंने उनकी जांघ दबा कर पूछा- क्या आप मेरी शिकार बनोगी?भाभी- सिर्फ शिकार?मैंने शब्द बदले- मेरी गर्लफ्रेंड बनोगी?भाभी ने कुछ जवाब नहीं दिया और मुस्कुरा कर चली गईं.

ये मेरा पहला मौका था जब कोई भाभी मुझे मजबूर करके अपने साथ सेक्स करने के लिए कह रही थी.

जैसे जैसे मेरे हाथ ऊपर को जा रहे थे, वैसे वैसे उसकी पकड़ मेरी पीठ पर और टाइट हो रही थी और उसकी सांसें तेज़ हो रही थीं. हॉट मेड सेक्स कहानी में पढ़ें कि लॉकडाउन में मैंने एक नयी नौकरानी रखी. मेरे पति तो बिजली की दुकान में रहते हैं और मेरा बच्चा स्कूल जाता है.