बीएफ मूवी चोदा चोदी

छवि स्रोत,इंडिया सेक्स फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

తెలుగు పుకు: बीएफ मूवी चोदा चोदी, जैसे ही वो डिल्डो पर जोर से कूदने लगी उसके रसीले गुदाज चूचे उछलने लगे.

सेक्सी व्हिडीओ जपान

मैंने सोचा कि साला गांव की किसी भाभी की चुदाई दिखाने की कह रहा होगा. सेकसी वालपेपर शायरी फोटो डाउनलोडसिगरेट के कश लेते हुए उन्होंने पूछा- एक बात बता … तू मुझे चोदते हुए दीदी दीदी क्यों कह रहा था?उनके इस सवाल से मैं खांस पड़ा और सोचने लगा कि इन्हें क्या बताऊं कि मैं दीदी को पिछले तीन सालों से चोद रहा हूँ.

नेहा कहने लगी- राज, इनके ऊपर निशान मत डालना, नहीं तो मम्मी को शक हो जाएगा?मैंने मन में सोचा मम्मी तो इन निशानों को देखकर खुश होगी. पीरियड्स क्या होता हैमैं ब्रा-पैंटी उठा कर वॉशरूम में जाने लगी, तो थॉमस ने मुझे रोक लिया और बोला- अंजलि तुम्हें वॉशरूम में जाने की जरूरत नहीं है … तुम यहीं बदल कर दिखा दो मुझे.

ये कहते हुए प्रतिभा ने अपनी पैंटी निकाल फैंकी, साथ ही ब्रा से भी खुद को आजाद कर लिया.बीएफ मूवी चोदा चोदी: नेहा ने कहा- माना कि आप भावुक इंसान हैं, पर नासमझ तो बिल्कुल नहीं हैं.

अब आगे:इस सबके बाद मैं सोचने लगी कि अभी तो मैंने फ़ोन किया था, तो शेफाली बोली थी कि उसकी किटी पार्टी है … फिर अचानक ये कैंसिल कैसे हो गई.शायद तुझसे फ्रेंड्शिप करने को ही पूछ रहा होगा।मैंने कहा- छोड़ ना हमें क्या! कौनसा यहीं बसना है? अगले हफ्ते वापस चले जाना है।निधि बोली- बात तो कर ले फिर भी! क्या पता कुछ इंपोर्टेंट सवाल या सुझाव ही दे दे।फिर मैंने सोचा कि मिल ही लेती हूँ.

हिंदी पिक्चर सोल्जर - बीएफ मूवी चोदा चोदी

जैसा कि आपको पहले से ही पता है, वो सब ब्रा-पैंटी मेरे साइज से छोटे थे और पैंटी भी थोंग वाली थी.मैंने पेपर पढ़े, तो पाया कि इस डील में रॉबर्ट सिर्फ 50 प्रतिशत के लिए ही साइन कर सकता था.

अगले भाग में मैं आपको अपनी चूत गांड की चुदाई की हॉट सेक्सी कहानी आगे लिखूंगी. बीएफ मूवी चोदा चोदी टॉप के नीचे उनका चिकना, नंगा, गुदाज़ पेट और उसमें अंदर को धंसी उनकी नाभि गज़ब ढा रहे थे.

भाभी कहने लगी- राज, जीवन का आनंद मिल गया है, मुझे नहीं पता था कि इस काम में इतना भी मजा लिया जा सकता है.

बीएफ मूवी चोदा चोदी?

मेरी टांगें खुल गईं और मैंने ममा के सर को पकड़ कर अपनी चूत पर दबा दिया. फिर मैंने प्रतिभा की कमर को पकड़ लिया और अपनी सारी उर्जा समेट कर चरम सुख पाने और देने का प्रयास करने लगा. मेरी सेक्स कहानी में अब तक आपने पढ़ा कि अफ्रीकी रॉबर्ट ने मुझे अपने लम्बे मोटे लंड से दो बार चोद लिया था.

वीना और श्लोक की मस्त चुदाई के बारे में आगे जानने के लिए कहानी का अंतिम भाग जल्द ही आपके सामने होगा. अब उसने कमर से अपनी बांह हटा ली गर्दन में लपेटा हुआ हाथ भी हटा लिया. फिर अंकुश ने शेफाली की ब्रा की डोरी खोल दी और कहने लगा- तुम्हारे ये मम्मे कितने टाइट हो गए हैं.

अब उसकी चूत मेरे मुँह के सामने हो गयी और मेरा लंड उसके मुँह के सामने था. दोस्तो, इस चुदाई की कहानी में अभी प्रतिभा दास की गांड मारने की सेक्स कहानी भी आना बाकी है. मैं फैसला नहीं कर पाया कि मैं होश में हूँ या कोई सपना देख रहा हूँ।मैं अपनी तारीफ सुन के खुश होती जा रही थी और सुनील बोलता जा रहा था।फिर आगे वो बोला- देखो फुल टाइम गर्लफ्रेंड तो आपको बनना है नहीं.

[emailprotected]insta id- funclub_badदोस्त की वाइफ की चुदाई कहानी का अगला भाग:वाइफ शेयरिंग क्लब में मिली हॉट माल की चुदायी- 3. अब तक की सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि एक अफ्रीकन हब्शी मेरे बिजनेस के लिए एक डील करने वाला था और वो मुझे चोदना चाहता था.

अब आप लोग खुद ही अंदाजा लगा लो कि बच्चेदानी करीब करीब हर धक्के में 4 -5 इंच पीछे धकेली जा रही थी.

जब चुद पिट कर मैं कमरे से बाहर निकली तो मेरे बेटे का एक दोस्त बाहर खड़ा था.

साथ ही उसने बधाई प्रेषित की।लेकिन मेरे मन में कुछ बातों की दुविधा थी जिसे मैं खुशी के सामने भी नहीं कह सकता था. मैंने धक्का मारके अपना पूरा लंड स्वीटी की चूत में डाल दिया और उनको हचक कर चोदने लगा. वो मादक आवाजों में बोल रही थी- आह … जल्दी से अन्दर करो … मुझे अब न तड़पाओ … आहहह हहह ऊऊआह.

सोचने लगा, तभी तो बोलते हैं कि खूबसूरती तो हमारे पहाड़ों में ही बसती है. फिर उसने अपने लंड को मम्मी की गांड के छेद में सेट करके एक जोरदार धक्का दिया तो लंड पर लगी चिकनी की वजह से लंड एक बार में गांड में घुस गया. दोस्तो, क्या बताऊं … ऊपर वाले ने मेरे अन्दर इतनी गर्मी भर दी है कि इसे शांत करने के चक्कर में कहानी लिखने का समय ही नहीं मिल पाता है.

देसी Xxx सेक्स कहानी में पढ़ें कि जेठ जी से चुदकर उनके लम्बे मोटे लंड से दुबारा चुदने का मन था मेरा.

इस पर प्रतिभा ने अपना कान पकड़ा और कहा- अच्छा बाबा … मैंने देखा कि मेरे पास एक बेरहम जानवर बैठा है, जिसे रूको, छोड़ो, बस हो गया जैसे शब्दों का मतलब ही नहीं पता. उन्हें भी मेरे द्वारा उन्हें गन्दे शब्दों से सम्बोधित करना पसंद था. दोनों टांगों को खोले हुए उसकी चूत को देखा तो मन करने लगा कि अभी जाकर चोद दूं इसे लेकिन अभी वो संभव नहीं था.

दो दो लंड लेते हुए रश्मि पांच मिनट से ज्यादा नहीं टिक पायी और उसकी चूत के गर्म गर्म पानी ने रमेश के लंड को भिगो दिया. कितने ही दिन से मैं अपनी बीवी की लाइव चुदाई दूसरे मर्द से देखना चाह रहा था और आज आखिरकार वो दिन आ गया था. मैंने बिन्दू को चोदना शुरू किया तो बिन्दू की सिसकारियां निकलने लगी.

तो आप कहानी का आनन्द लीजिए।मेरी इस कहानी की शुरूआत भी अन्तर्वासना की पाठिका द्वारा मेल पर चैट करने से होती है.

उन्होंने हमारे एक साथी की गांड में साबुन लगा कर अपनी दो उंगलियां ठूंस दीं. होंठ लाल गुलाब की पंखुड़ियों की तरह थोड़े बाहर निकल कर थिरक रहे थे, उसके मोती जैसे दांतों के बीच एक दांत दोहरा था, जैसा मौसमी चटर्जी का था।लंबा चेहरा, सुराही दार गर्दन, उड़ते सिल्की बाल, माथे पर छोटी सी बिंदिया और दुनिया को बांध लेने की क्षमता वाली काली आँखों ने मुझे भी बाँध लिया।खुशी ने हल्के नीले रंग की एंकल फिट जिंस पहन रखी थी.

बीएफ मूवी चोदा चोदी मैंने सोने का ड्रामा करते हुए अपनी मैक्सी धीरे धीरे ऊपर को कर ली और मेरी बुर साफ नजर आने लगी. उन्होंने मेरे होंठों को अपने होंठों के बीच दबा लिया और जोर-जोर से चूसने लगे.

बीएफ मूवी चोदा चोदी उन्होंने लड़के के चूतड़ के दो तीन चुम्बन ले डाले और बोले- जाओ बाहर बैठो. उसकी कोरी चूत मेरे लण्ड का रस पीने लगी और मेरा लण्ड भी उसकी जवानी के रस को सोखता रहा.

प्रिंसीपल सर के ऑफिस के सामने ही एक गेस्ट रूम था, जिसमें मुझे रंगोली बनानी थी.

बीएफ सेक्सी भाभी बीएफ

तब अम्मी उस पर चिल्ला कर बोलीं- तुम दोनों सगे भाई बहन हो, तुम्हें शर्म ही आती है या नहीं!मेरी बहन बोली- तो आप कौन सी दूध की धुली हैं. सभी को सोने की जल्दी थी, बहुत सारी नर्स गांड मरवाने को बेकरार थीं और सबकी सबने अपना अपना लंड सिलेक्ट कर लिया था. जो लोग मुझे नहीं जानते, उन्हें मैं बता दूँ कि मैं अपनी सेक्सी बहन फेहमीना इक़बाल की छोटी बहन हूँ.

वैसे मेरी शादी कभी भी हो, तुम्हें जरूर बुलाऊँगी, तुम आओगे ना?मैंने कहा- तुम बुलाओ और मैं ना आऊं ऐसा सोचना भी नहीं, बुलाने के लिए धन्यवाद।अब खुशी और मैं एक दूसरे को समझने लगे थे. थॉमस ने एक महरूम रंग की ब्रा-पैंटी उठाई और कहा- आप यह पहन कर दिखाओ मुझे. मैंने अपने डनलप वाले गद्दे पर उसको उछाल दिया और खुद उसके ऊपर आ गया.

मैं शाजिया के रसीले चूचों को बारी बारी से चूसने के साथ ही नीचे से उसकी मखमली चूत में ज़ोर ज़ोर से धक्के मारे जा रहा था.

मैंने धीरे धीरे अपनी कमर आगे-पीछे करनी चालू की और मामी ने भी अपनी कमर आगे-पीछे करनी चालू कर दी. इतने में ही रवि उत्सुकतावश रश्मि के पास आ गया और उसकी चूत और गांड के छेद को ध्याने से देखने लगा. कभी कभी भाभी को देखकर भाभी की चूत की चुदाई का मूड होता है, मैं उनको बोलता भी हूँ लेकिन फिर हम लोग कंट्रोल कर लेते हैं.

उसने पीच कलर (आड़ू जैसे रंग) की एक टी-ड्रेस पहनी हुई थी जो उसकी जांघों तक को ही ढक पा रही थी. इस बार उसने पास की टेबल से क्रीम की डिब्बी उठाई और मेरी चुत में उंगली से लगाने लगा. तो भाभी बोली- अरे … अरे … आप तो अभी से शुरु हो गए? इतनी भी क्या जल्दी है? हम लोग हनीमून मनाने ही आये हैं.

ये कहते हुए उसने मुझे इशारा किया तो मैंने दो पैग बना कर जाम टकराए और दारू अन्दर कर ली. तभी सर फिर उठ कर सामने चले गए और कुछ ही सेकंड बाद मुझे आवाज दी कि तुम यहां आ जाओ.

ये सोच कर मेरे चूत की गर्मी थोड़ी और बढ़ गयी, मैं अपनी गांड हिला हिला कर उसका साथ देने लगी. रास्ते में सर ने कहा- अरे अब तो खुल जाओ सोनम जी, एक ही रात तो गुजारनी है आपको मेरे साथ, कौन सा रोज मेरा बिस्तर गर्म करने आओगी आप।ये बोलते हुए उन्होंने मेरी चूचियों को दबा दिया. दिल तो मेरा भी जोर से धड़क रहा था … क्योंकि काफी सालों बाद मैं एक कमसिन जवानी को चखने वाला था.

इस बार रॉबर्ट ने मुझे लगभग बीस मिनट तक चोदा और उसके बाद वो अपनी चरम सीमा पर आ गया.

थोड़ी ही देर के बाद प्रिंसीपल सर ने अपना पानी निकाल दिया जो मेरी चूचियों और मेरे मुंह पर आकर लगा. उसके बाद से वीना की मुझ में रुचि थी जोकि याराना के तीसरे भाग में अंजाम तक पहुंची थी।वीना संग श्लोक का कार्यक्रम सुनिए श्लोक के शब्दों में-मैं वीना के कमरे में घुसने के लिए चाबी गेट में लगा ही रहा था कि खटपट की आवाज सुनकर वीना ने ही लॉक खोलने से पहले दरवाजा खोल दिया। लेकिन उसे यह उम्मीद नहीं थी कि दरवाजे पर मैं यानि कि श्लोक हूंगा. और चोदो … और तेज़ … मजा आ रहा है … और तेज़ और तेज़।सुनील मुझे आहह … आहह … हम्म … हम्म … ये ले साली रांड.

मैं खुद ही उन्हीं की बगल में सोफे पर चूतड़ उठा कर चुदने की पोजीशन में हो गयी. मम्मी मुस्कुराती हुई बोली- आप यह क्या कर रहे हैं?तो वो अंकल हंसते हुए बोले- वही जो एक आदमी को एक औरत के साथ करना चाहिए! और क्या?मम्मी बोली- मैं तो आपके दोस्त की बहन हूँ ना … तो आपकी भी तो बहन ही हुई ना? हम दोनों के बीच ये गलत है।तो वो बोला- साली कुतिया … ये क्या नाटक कर रही है?मम्मी हंसने लगी.

रेहाना ने रश्मि को कहा कि अगर वो कुंवारी मतलब अब तक बिना चुदी है तो उसे डबल पैसे मिलेंगे. उनकी चुत ने गर्म रस का फव्वारा मेरे लंड पर छोड़कर मेरे लंड नहला दिया … और वो शांत होती चली गईं. तुम्हारी फूली जींस को देख कर उस दिन मेरी चूत पानी छोड़ने लगी थी प्रकाश.

बीएफ सेक्सी सेक्सी चूत

अह्ह्ह उम्म्म ओह याह … फ़क अर्जुन … आःह्ह्ह जोर से पेलो मुझे … उम्म्म!” मैं उसे चूमने लगी।अर्जुन ने मेरे पैरों को पकड़ कर मुझे बेड से आधा झुक जाने को कहा जिससे मेरी कमर के नीचे का हिस्सा बेड के किनारे था.

मैंने अर्पित के साथ सेक्स तो कई बार किया था मगर उसका लंड कभी नहीं चूसा था. उसने मुझसे कहा- तो चलो सपना रानी अब तुम्हारी सब मिल कर चुदाई करते हैं. मगर उसका नम्बर नहीं लग रहा था!मैं जिस काम से आया था, वहाँ जाकर अपना कार्य करने लगा.

शायद सर भी यही मूड बना कर आए थे वो एकदम से मेरे पीछे से सट गए और मुझे बताने लगे कि मैं क्या क्या गलती कर रही हूँ. लेकिन एकदम से मैंने जाकर सनम के मुंह पर अपनी चूत रख दी जिससे उसका मुंह बंद हो जाए. सोनाक्षी सिन्हा क्सक्सक्समामी मेरे सामने सिर्फ़ पेटीकोट में खड़ी थीं और मैं मामी के सामने अपने जींस टी-शर्ट में था.

फिर अपना लंड उसकी गांड पर लगा कर उसने जोरदार धक्के के साथ अपना लंड रीता की गांड में घुसा दिया. मेरे घर से मुझे कभी किसी भी तरह के कपड़े पहनने पर कोई रोक टोक नहीं है.

अपनी चूत को उसके मुंह पर आगे पीछे और ऊपर नीचे मसलते हुए वो सिसकारने लगी- कमॉन, लिक माई पुसी, यू ब्लडी डॉग। (चल चाट मेरी चूत को, साले हरामी पिल्ले, चाट कुत्ते)श्लोक ने वीना को उठा दिया और फिर एक दूसरे को 69 की मुद्रा में समायोजित किया. मैं चिल्लाते हुए आगे को हो गयी, जिससे उनका सुपारा छेद में से निकल गया. गुड़िया भी पूछ बैठी कि तुम्हारे पास कोई है क्या?मैं- हां मेरे कुछ दोस्त हैं, जो थोड़ी दूर पर बैठे आपस में बात कर रहे हैं.

’ करके बोलीं- तेरे मामा का अगर पूरा खड़ा भी हो जाए, तो भी 4 इंच से ज़्यादा बड़ा नहीं होगा. माँ के जाने के बाद मैंने इस बीच शहर से बाहर जाने का अवसर खोज कर कुछ कॉलब्वॉय आदि से अपने जिस्म की आग शांत भी करवाई थी. मैंने भाभी से पूछा- लंड चूसने में मजा आ रहा है?तो भाभी ने मुझसे बोला- हां … मुझे लंड चूसना बहुत पसंद है.

मैंने पूछा- आप कैसा महसूस कर रही हो?जबाव में उन्होंने एक प्यारा सा किस दिया और बोलीं- इस खुशी के लिए तुम्हारा धन्यवाद.

मैं बोली- पर उसकी किटी पार्टी तो कैंसिल हो गई थी, उसका मुझे मैसेज आया था और उसने कहा था कि हम शॉपिंग के लिए जाएंगे … इसलिए तो उसने तुम्हें मुझे लेने के लिए भेजा था. लखन धीरे धीरे मेरे चूतड़ सहलाने लगा और बोला- भैया आपके बड़े ही मस्त गोल गोल हैं … जब कि आप मोटे नहीं हैं.

सुबह लगभग 10 बजे तक भैया भाभी शिमला पहुँच गए।चूंकि भैया ने ट्रैवल एजेंट के द्वारा हनीमून पैकेज लिया था इसलिए होटल, टैक्सी, कमरे आदि की कोई चिंता नहीं थी।भैया भाभी अपने होटल में चले गए. उसकी एक आह के साथ ही मैंने चंद सेकंडों में ही तेज रफ्तार पकड़ ली और गांड पर जोरों से चपत लगाते हुए गांड को लाल कर दिया. उसकी चूत बहुत टाइट थी, लेकिन वो चुदी हुई थी इसलिए खून नहीं निकला था.

चूंकि मैं एक बार लंड का रस निकाल चुका था, तो मुझे पता था कि मेरा लंड अब देर तक चुदाई करेगा. सूजे सुपारे को होंठों में जकड़ कर रश्मि ने तेज़ी से उसे चूसना चालू कर दिया. एक हाथ से मेरी एक चूची को मसलते हुए बॉस मेरी दूसरी चूची को चूस रहे थे.

बीएफ मूवी चोदा चोदी फिर उसने शैम्पेन की बोतल उठाई और बची हुई शैम्पेन दोनों गिलास में डाली. वैसे भी काम होने के बाद आप टीवी देखती रहा करो … फिर दो घंटे सो जाया करो.

बीएफ का हिंदी

मैंने अपनी सहेलियों से शादी की सुहागरात की चुदाई के किस्से सुने हुए थे. उसने अपना अमृत बहा दिया था … चूत से अब फच फच खच खच खच की आवाज आने लगी थी. मैंने कुच्ची को बताया, तो वो बोला- अबे कितना चोद दिया था कि उसकी बुर में अब जाकर खुजली हुई है.

वाह क्या चौड़ी छाती, चौड़े कंधे, छाती पर घने काले घुंघराले बाल … और मस्त साढ़े सात इंच लम्बा और सवा दो इंच मोटा कड़क लंड. इस पर मामी बोलीं- तुम अपना लंड किसी की में भी पेल दो, जो भी तेरा नौ इंच का लंड अपनी चुत में लेगी, वो बड़ी खुशकिस्मत होगी. घड़ी लंड की चुदाईउन्होंने बदले में आश्चर्य से पूछा- क्या तेरे पास सिगरेट नहीं है?मैं- अंहह … हह … कुछ नहीं … अभी लाता हूँ.

मैंने भी उसकी बात पर बोला- हां यार उसने …इसके आगे में कुछ बोलता तभी फोन रिंग होने लगा.

मेरे दिल में अरमान जगा कि आज तो इससे किसी तरह से टांका सैट हो ही जाए. मैंने जल्दी से उसका मुंह बंद किया और लगे हाथ एक और धक्का मार दिया। उसकी चूत को चीरता हुआ लंड जड़ तक घुस गया।वह कसमसाती हुई तड़पने लगी। उसकी आंखों में आंसू भर गए.

मैंने उसके होंठों पर जैसे ही उंगली फिरानी चाही, उसने भी लपक कर मेरी उंगली चूम ली. ” कहते हुए मैंने उसके गालों को चूमना शुरू कर दिया।प्रेम! एक बात बोलूँ?”हाँ जान?”तुम्हारा नाम प्रेम नहीं या तो कामदेव होना चाहिए या फिर प्रेमगुरु!”कैसे?” मैंने हंसते हुए पूछा।किसी स्त्री को कैसे अपने वश में किया जाता है तुम बहुत अच्छे से जानते हो?”अरे नहीं … ऐसा कुछ नहीं है?”अब देखो ना तुमने अपने शब्द जाल में मुझे फंसाकर मुझे इस काम के लिए भी आखिर मना ही लिया. प्रिया रजाई में टॉपलेस थी यानी कि उसने मात्र एक पतले कपड़े की जालीदार अंडरवियर पहनी हुई थी और अपने आकर्षक स्तनों को पूर्ण रूप से नग्न करके रणविजय का इंतजार कर रही थी।हमारी आंखें एक दूसरे से मिलीं और इससे पहले कि मैं कुछ कहता, प्रिया ने समर्पण कर दिया और अपनी आंखें बंद करके मेरे होंठों से अपने होंठों को मिला लिया.

लेकिन खुशी के साथ सच्चे प्यार और रोमांस वाली फिलिंग आती थी जिसे मैं कभी खोना नहीं चाहता था.

कई बार सोचा कि किसी कॉल गर्ल की चुदाई करके ही मन को बहला लेता हूं मगर जो मजा किसी भाभी की चुदाई या किसी हॉट लड़की की चुदाई करने में है वो मजा किसी रंडी की चूत चुदाई करने में नहीं आयेगा. मैं चौंका- क्या!फिर उन्होंने बताया कि भैया तो उन पर ध्यान ही नहीं देते हैंमैंने उसी पल कह दिया- आप चिंता मत कीजिए. जो कोई भी पहले आए, मेरे लिए तो एक जैसा ही है।सोहन बोला- तू मुझसे 3 मिनट बड़ा है, पहले तू चढ़।रोहण ने मेरी टाँगें खोली, और अपना लंड मेरी फुद्दी पर सेट किया.

सेक्स वीडियो.comअब साली से तो होली खेलनी ही थी; उन दिनों निष्ठा इंटरमीडिएट के फर्स्ट इयर में थी, छुई मुई सी शर्मीली लगी थी मुझे वो. ” उसने मेरी आँखों में झांकते हुए कहा।हे भगवान्! उसकी नशीली आँखों में तो लाल डोरे से तैर रहे थे लगता था जैसे 2-3 रातों से नींद ही ना आई हो। सच कहूं तो इस समय मेरे कानों में भी सीटियाँ सी बजने लगी थी और मेरा तो दिमाग ही काम नहीं कर रहा था।ओह … थैंक यू … डिअर, मैंने सोचा तुम्हें परेशानी होगी.

इंग्लिश वीडियो पिक्चर बीएफ

अर्पित को वहीं छोड़ कर मैं नीला और निशांत को बुलाने के लिए चली गयी. पहलेपहल जब मैंने अन्तर्वासना पर प्रकाशित सेक्स कहानियों को पढ़ा तो उन्हें झूठा और काल्पनिक समझा. पड़ोसन भाभी सेक्स स्टोरीज में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी गर्लफ्रेंड के उकसाने पर उसकी मम्मी के साथ सम्बन्ध बढ़ा कर उनके घर में रात को चोदा.

सो हमें डर तो था नहीं किसी का।वैसे भी हम दोनों अपने घर से दूर जयपुर में रह रहे थे. मैंने सोचा वैसे भी अभी थोड़ी देर बाद मैं इसके साथ नंगी ही होऊँगी ही, तो वॉशरूम में जाने का कोई फायदा नहीं है. गर्म भाबी की मस्त जवानी कहानी का अगला भाग:पड़ोसी के लंड से चुदकर मनाई सालगिरह- 2.

मैंने ब्रा का हुक खोल दिया, तो चुचे कबूतरों की तरह फुदक कर बाहर आ गए. आगे से मैं कभी इसे हाथ भी नहीं लगाऊंगा और हमारा बच्चा सकुशल हो जाय बस. आज मेरी एक और फैंटेसी शायद पूरी होने वाली थी … और वो थी कुंवारी मीता की चीख.

तब उन्होंने हल्का सा गांड में से लंड निकाल लंड पर थूक गिराया और इससे पहले में कुछ समझ पाती, वो सटा सट गांड में लंड पेलने लगे. अब मुझे चुदते हुए दस मिनट हो चुके थे और मैं अपनी चरम सीमा पर आने लगी थी.

थॉमस ने अपना लंड रस मेरे चेहरे और मेरी जीभ पर गिरा दिया और मेरे ऊपर ही लेट गया.

चूंकि मैं दो-तीन दिन वहां पर रुकने वाला था इसलिए मुझे चुदाई की भी कोई जल्दी नहीं थी. आलिया भट्ट एक्स एक्स एक्समेरे प्यारे चूत और गांड के शौकीन भाइयों को और उन बहनों को नमस्कार जो कामुकता से भरपूर अपनी रस भरी जवानी को रोज नए लंड पर लुटाने को बेचैन रहती हैं।माफी चाहता हूं कि इस कहानी को लाने में मुझे बहुत देर हो गयी. चूत को चोदते29 जुलाई को उसका फोन आया, बोली- क्या कर रहे हो? खाना खाया या नहीं?मैंने कहा- कुछ नहीं. मैंने जब से आपको देखा था, तभी से चाहने लगी थी।तब से उसके शादी तक मैंने उसे चोदा उसने भी हमेशा खुल कर मुझसे चुदवाया।देसी लड़की की चूत चुदाई की कहानी कैसी लगी? मुझे आपके मेल का इंतजार रहेगा।[emailprotected].

फिर नेहा की चूत के द्वार के ऊपर लंड रख कर कहा- डार्लिंग आर यू रेडी? (क्या तुम तैयार हो?)नेहा ने एक स्माइल दिया और कहा- धीरे से डालना … प्लीज।तब रॉन ने एक जोरदार धक्का दिया और आधा लंड नेहा की चूत में जा घुसा.

जब मैं नीचे काम से जाता था या घर से बाहर कहीं जाना होता था तो अक्सर सुमीना भाभी मुझे दिख जाया करती थी. पहले तो उसने पूछा- क्या कर रहे हो? खाना खाया या नहीं?मैंने कहा- तुम्हें ही याद कर रहा था. मैं- तुम झूठ बोल रही हो?बिन्दू- नहीं मैं सच कह रही हूँ, वो एक क्लास का लड़का है उससे कभी कभी मार्किट में मिल लेती हूँ.

वो अपनी मां से कहीं अधिक हसीन निकली, वो प्रीति जिंटा जैसी दिखती थी. मैंने पूछा- किधर?आया ने बताया कि वे मुझे स्कूल के अन्दर वाले प्रार्थना हॉल में बुला रहे हैं. मैं चीखने लगी, मैंने आंटी की भी परवाह नहीं की। मेरी चूत से कामरस की नदी बहने लगी।मुझे झड़ती देख उसने भी अपनी गति दुगुनी कर दी। बीसियों झटकों के बाद वह काम्पने लगा और मेरी नंगी पीठ से चिपक गया और मेरी चूचियों को पकड़ कर दबाने लगा।उसके लण्ड ने मेरी चूत में ही अपना ज्वालामुखी छोड़ दिया। दोनों के कामरस एक होकर मेरी जांघों से होते हुए बहने लगा।मैं बिस्तर पर गिर गयी, वो भी निढाल होकर मेरे ऊपर ही लेटा रहा.

एक्स वीडियो बीएफ एचडी में

इसके बाद वो मारवाड़ी सेक्सी लेडी मुझसे बिंदास होती चली गईं और मुझे तो जैसे पूरी छूट मिल गई थी. उसमें चैन भी थी वो भी खोल दी। मैंने भाभी का ब्लाउज उतार दिया। दुपट्टा और ज्वैलरी वो अपने ही रूम में छोड़ कर आयीं थी।फिर मैं अपना हाथ लहंगे की डोरी की ओर ले गया और उसे भी खोल दी. इसलिए ध्यान रहे कि चुदाई के बाद महिला को और ज्यादा प्रेम की जरूरत होती है.

जैसा कि आप जानते है कि मैं दुकान वाले की चुदाई के बाद लंड की आदी हो गयी थी, लेकिन यहां रांची में 6 महीने से कुछ नहीं मिला था.

मैं चौंका- क्या!फिर उन्होंने बताया कि भैया तो उन पर ध्यान ही नहीं देते हैंमैंने उसी पल कह दिया- आप चिंता मत कीजिए.

तभी मेरे इतना सोचते ही फिर से सुपारा मेरी चूत में घुसता चला गया और मेरी मीठी कराह निकल गई. उसी शाम को मैंने पहले अपने इंग्लिश सिखाने वाले सर से जाकर बात की और उन्होंने हामी भर दी. छोटी बहन की चुदाई दिखाओजब मेरी चूत ने खुल कर एक मोटी सी बूंद बाहर निकाली, तब अनिकेत ऊपर को उठा.

उसने सफेद शर्ट पहनी थी, जिसके सारे बटन खुले थे, और अंदर पिंक कलर की डीप नेक टाप पहनी थी, जिसमें उसके उभार गजब के लग रहे थे।आज पहली बार खुशी मेरे लिए प्यारी लड़की के अलावा भी कुछ लगी थी. सरोज बोली- लंड लेने का मन कर रहा है क्या?मैंने कहा- हां, मगर कहां से लायेगी?वो बोली- वो सब मुझ पर छोड़ दे. गुरजीत की कमर पकड़कर मैंने अपने लण्ड को अन्दर धकेला तो टप्प की आवाज हुई और मेरे लण्ड का सुपारा गुरजीत की चूत के अन्दर हो गया, थोड़ा थोड़ा दबाते हुए मेरा आधा लण्ड गुरजीत की चूत में चला गया.

मैंने तो आनन्दसागर में डूबकर आंखें मूंद लीं और उसकी कामुकता से लाल हो चुकी आंखें भी स्वतः मुंद गईं. मेरी आँखें अब बंद हो रही थी, मेरी चूत की गर्मी अब बरदाश्त के बाहर थी.

मैंने 2-3 आहें भरीं- आह्ह आह थॉमस आह आह तुम्हारा बहुत मोटा है … मेरी जड़ तक घुस गया है.

मैंने कहा- आपको क्या लगता है … मैं आपकी झूठी तारीफ़ करता हूँ?वो बोलीं- झूठी सच्ची तो नहीं मालूम मगर मेरी तारीफ़ कोई करे, तो मुझे अच्छा लगता है. जब भैया ऐसा करते हैं तो लिंग का सुपारा मुँह के अन्दर सीधा तालू से टकराता है. हमारे खलिहान में एक खपरैल के छपरे में दूध देने वाली गाएं बांधी जाती थीं.

इंडियन रोमांस अब उसके बाद फिर क्या क्या हुआ वो सब मैं आपको अपनी आगे आने वाली कहानियों में बताऊंगी. कुछ ही देर में भाभी की चूत ने पानी छोड़ दिया और मैंने उसकी चूत चाटने का मजा लिया और सारा पानी पी लिया.

जैसे ही मैंने एक बॉक्सर पहने हुए ही दरवाजा खोला, उसने कहा कि आपने पानी का पम्प चालू कर रखा है क्या?मैंने सॉरी कहा और कहा कि मुझे इसका आईडिया नहीं है, शायद गलती से मैंने ऑन कर दिया हो. फिर मामी को अपनी भुजाओं में कस कर दबा लिया और मामी से पूछा- डाल दूँ मामी?मामी ने आह भरते हुए कहा- पगले देर मत कर. मीता- उई आआआआ … ईईईई मररर … गईईईई आ आ उफ्फ आह अंकल्ल … जल्दी से निकालो इसे … उफ्फ्फ फ्फ्फ़ मार डाला आहह … चुत फट गई … मम्मी रे!उसका तड़पना उसकी चीख जब मेरे कानों में पड़ी, कसम से ऐसा आनन्द शायद ही मुझे आज तक मिला होगा.

हिंदी बीएफ सेक्सी जबरदस्ती वाली

हर बार उसने अपने वीर्य से मेरी चूत लबालब भर दी। थकान से दोनों की हालत खराब हो गई थी. उसके नीचे गुलाबी रंग लिए चूत की झिरी जिसके ऊपर छोटे गुलाब की पंखुड़ियों की तरह दो पत्तियां चूत के गुलाबी छेद को बंद किये हुए थीं. शेफाली- अंकुश ये रोमा है, मैंने तुम्हें बताया था न कि ये मेरे साथ स्विमिंग के लिए जाती है.

शायद भाभी अब तक एक दो बार अपना रस बहा चुकी थीं, पर मेरा तो अभी दूर-दूर तक होने की कोई संभावना नहीं थी. बस इसी सोच के चलते लगा कि शाजिया की चुदाई करने का कुछ मौका मिल सकता है.

उसकी इस सहमति के साथ मैंने लंड का टोपा सुंदर मांसल नितंबों के मध्य भूरे छेद में फंसा दिया.

जवाब में मैं भी ऊपर नीचे होकर उसकी चूत में धक्के देने लगा ।मेरे हाथ उसके स्तनों तक पहुंच रहे थे जो कि उसके स्तनों को जोर से मसल रहे थे. मैंने उससे लरजते होंठों से कहा- जुनैद अब बस कर … मुझे जलन होने लगी है. मैं चिल्ला भी नहीं सकती थी … क्योंकि सास यही समझती कि चुदने के बाद बहू नाटक कर रही है.

मुझे पता था कि रेलवे स्टेशन के पास एक मेडिकल स्टोर रातभर खुला रहता है. मैंने नाराज होते हुए कहा- क्यों क्या बुराई है इस ड्रेस में!अंकुश बोला- सॉरी रोमा मैं तुम्हारा मजाक नहीं उड़ा रहा हूं … पर तुम्हारी ड्रेस ही इतनी बड़ी है कि तुम चाह कर भी इस ड्रेस में फ्लोटिंग नहीं कर पाओगी. उसका लंड निकलते ही मेरी सांस में सांस आई … ऐसा लगा जैसे बारिश के रुके हुए पानी को निकलने का रास्ता मिल गया हो.

फिर मन में ये भी ख्याल आया कि आज तो प्रतिभा सामने है, पर हमेशा तो नहीं रहेगी.

बीएफ मूवी चोदा चोदी: [emailprotected]इंडिया सेक्स गर्ल चुदाई स्टोरी का अगला भाग:जैसेलमेर की सेक्स सफारी- 2. ऐसा मैंने कुछ गलत इंटेंशन से नहीं किया था, बल्कि अपनी सेफ्टी के लिए किया था.

नेहा अपने ही बेड पर अपने ही घर में, एक अजनबी से चुद रही थी और खुश हो रही थी. इस बार थॉमस से अपना सारा माल मेरी चूत में ही निकाल दिया और मैं थॉमस से चिपक कर बेड पर ही लेट गयी. अब तक मैं पूरी नंगी खड़ी थी और मेरी 32 डी की बड़ी बड़ी चुचियां उसके सामने एकदम नंगी दिख रही थीं.

दीदी कुछ कर!तभी मुझे सुलेमान याद आया।मैंने उसे फोन किया- हेलो सुलेमान, कैसे हो?अच्छा हूँ। आप कौन?अरे भूल भी गए। याद करो उस दिन डॉक्टर शोभा के घर। तुम मैं और अरबाज़!कैसे भूल सकता हूँ, बस आवाज़ नहीं पहचानी। बाकी सब याद है.

अब उसके बाद फिर क्या क्या हुआ वो सब मैं आपको अपनी आगे आने वाली कहानियों में बताऊंगी. दो मिनट तक योनि को लिंग से सहलाने के बाद उन्होंने एक झटका दिया और मेरी योनि में लिंग अंदर चला गया. मैंने नेहा की दोनों टांगों को अपने कंधे पर रखा और तेजी से उसकी चूत में पिस्टन की तरह से लंड चलाने लगा.