पहली बार चुदाई बीएफ

छवि स्रोत,साउथ में हीरोइन का सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

தமிழ் ஆன்ட்டி வீடியோஸ்: पहली बार चुदाई बीएफ, यह मैंने तब जाना जब राज मेरे नंगे जिस्म से लिपट कर मुझे चूम रहा था.

सेक्सी वीडियो mp3 सेक्सी

स्थिति ऐसी हो गई कि एक दिन सुबह दूध लेने के लिए निकला तो गुप्ताइन अपनी किचन में खड़ी दिख गई. हिंदी में बातचीत सेक्सी वीडियोमेरा मन तो कर रहा था कि अभी भाभी की चुत में गोते लगा लूँ, पर भैया कभी भी आ सकते थे, तो मैंने मन मार कर भाभी को छोड़ दिया.

वो बोला- पहले कुतिया बनकर चूस इसे। अपने थूक से नहला दे इसे साली कुतिया। तेरी गांड तो पहले से ही गीली है।रिया झुककर कुतिया बन गयी और अपने बाल संवारते हुए लण्ड को अपने प्यासे मुंह में गले तक ले गयी।वो लण्ड चूसने की उस्ताद थी। पापा का लंड उसे वाकई बहुत कड़क लग रहा था। उसने अपनी जुबान का भरपूर उपयोग किया। रमेश के आण्डों को सहलाते हुए वो उसका लंड मस्ती में चूसने में पूरी मग्न थी. हिंदी सेक्सी वीडयोअंकल करीब आधे घंटे तक मुझे उसी पोजीशन में चोदते रहे, चुत में वीर्य की सात आठ पिचकारी मारने के बाद ही वो शांत हुए और दस पंद्रह मिनट वो वैसे ही मेरे बदन पर पड़े रहे.

मैं सोचने लगता था कि इसका लंड कैसा होगा! कितना मजा आयेगा इसके लंड के साथ खेलने में!दोस्तो, पता नहीं क्यों, मुझे लंड चूसना बहुत ही ज्यादा पसंद है.पहली बार चुदाई बीएफ: तभी मेरे मन में ख्याल आया और मैं दौड़ के नीचे गया और एक फ्रिज में से एक लौकी निकाली जो उन दोनों की चुत में फिट बैठे.

बीच-बीच में तो ये मेरे लटके हुए मम्मों को भी मसलने से नहीं चूक रहे थे.कुछ ही पलों में रश्मि तरह तरह की आवाज निकालने लगी और उसकी आवाज़ और रंडी जैसा व्यवहार देखकर मेरा लंड फटने को हो गया.

देसी हिन्दी सेक्सी - पहली बार चुदाई बीएफ

तो मैंने मेंहदी धोई और हीना को याद करके मेंहदी को चूम लिया और कपड़े बदल कर नीचे चला गया.प्रतिभा खिलखिला उठी और गाना गाने लगी- जो है नाम वाला … वही तो बदनाम है.

वो बस यही कहती रही- प्लीज मुझे छोड़ दो! बहुत दर्द हो रहा है!‘आहह हह ईइइ इइ ऊइइ इइइ ऊइइ मां मोरे जाबो रे उरी मां गो आहह हहह ईइइ इइ ऊइइ इइइइ छेरे दाव!’ उसने बहुत मिन्नतें की लेकिन मैंने जरा भी रहम नहीं किया. पहली बार चुदाई बीएफ मैंने उसके होंठों को चूम लिया, तो वो मेरे सर की तरफ खिसक कर मेरे लिप्स पे किस करने लगी.

जब मेरा छेद उनको दिखने लगा, तब उन्होंने मेरे छेद पर एक गरम हवा मारी और मैं मदहोशी में कहीं खो गया.

पहली बार चुदाई बीएफ?

वो एक कैंची लेके आयी और जांघों के पास से नीचे का पेटीकोट काट दिया।मम्मी सिर्फ ब्रा और एक छोटी सी स्कर्ट में थी। जांघें नंगी थीं और पीछे चूतड़ों पे पैंटी दिख रही थी।अब मस्त फ़ोटो आएगी. बदले में मैंने नम्रता के हाथ को पकड़ा और अपने से चिपकाकर उसके गर्दन पर चुंबन जड़ते हुए उसके चूतड़ को सहलाने लगा. इस तरह से मैंने अपनी खूबसूरत साना भाभी की कुंवारी चूत को चोद कर उसको मजा दिया और खुद भी उसकी चूत के मजे लिये.

उसके बाद मैंने दीपाली के कान में धीरे से उससे पूछा- दीपाली क्या मैं तुझे चोद दूँ?उसने सिसकारी लेते हुए कहा- हां मेरे राजा … जल्दी से चोद दे … मैं मरी जा रही हूँ … तेरे लंड से अपनी चुत की प्यास बुझाने के लिए … जल्दी अपना लंड मेरे चुत में डाल के मुझे अपनी रंडी बना ले. कुछ देर चूसने के बाद वह उठ गयी और बोलने लगी कि बहुत हो गया अब मुझे रोटी बनाने दो. मेरी भी लाज शर्म अब उतार गई थी, तो मैंने भी अपनी उंगलियों से मेरी चुत की पंखुड़ियां खोल कर अन्दर की गुलाबी गुहा उनको दिखाने लगी.

जब मेरे सामने ये समस्या आई तो मैंने कहा कि कोई बात नहीं सर इस काम में जितने भी पैसे लगेंगे मैं देने के लिए तैयार हूं. मैंने कहा- तुम जाकर अब आराम करो, रात को तुम्हारे साथ बहुत कुछ होने वाला है. लंड चुसाई का मजा और बढ़ाने के लिए मैंने पैंट को ऊपर से खोल दिया और उसके बाद धीरे से अपनी पैंट को नीचे सरका दिया.

नम्रता ने अंदाज लगाया कि मेरा मुँह खासकर होंठ का हिस्सा उसकी चूत पर सैट नहीं हो रहा है, तो उसने अपनी गांड के नीचे तकिया रखा. तभी भार्गव ने हंसते हुए रुमित से कहा- यार रुमित … तुमने तो कार में ही पेट भरके नाश्ता कर लिया है … थोड़ा हमें भी तो नाश्ता कर लेने दिया होता.

होली पर दिन में भाभी के साथ लंड चुसाई की मस्ती के बाद मुझे बस अब रात का इंतजार था.

उन्होंने मेरी चूत के छेद में उंगली फंसाने की कोशिश की तो मैंने उनके हाथ को पकड़ लिया.

फिर मैंने उसकी चूत अच्छे से पानी से साफ की और वहीं पर अंगुली करने लगा. भाभी ने मुझे बताया कि बहुत सालों के बाद किसी ने उन्हें ऐसा चोदा है. लंड चूत को दो पल तक चाटने चूसने के बाद हम दोनों फिर से चुदाई करने में लग जाते थे.

आह्ह … उम्म … ओ … आमिर … आह्ह … मजा आ रहा है बहुत!कुछ ही पल के बाद जूली की चूत से एक बार फिर उसकी मलाई मेरे लंड पर फैलकर उसको चिकना कर गई. तभी तेरा पति आया और मुझे पीछे से पकड़ कर पीछे से मेरे गालों को किस करने लगा. मौसी के चुचे बड़े थे, जो मेरी मुट्ठी में समा नहीं रहा था, फिर भी जितना ज्यादा हो सकता था.

मैंने इधर उधर देखा, तो मैं ये क्या देखती हूं कि संतोष जी छत के ऊपर वाले कमरे के बगल में मेरी पैंटी सूंघते हुए मुठ मार रहे थे.

उसने मेरे गले को पकड़ा और करीब किया और मेरे डार्क पिंक लिपस्टिक वाले होंठों को पास किया और अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिये. मैं डरते हुए उठ कर बाहर गया तो देखा कि शिखा किचन में चाय बना रही थी. दो चार मिनट ऐसा ही चलता रहा, फिर मैंने ही अंकल को जोर से पीछे धकेला और खांसने लगी.

करीब 20 मिनट बाद भाभी चरम सीमा पे आ गईं और चिल्लाने लगीं- आहा अह्हह अहह उम्मह और जोर से … अह्ह्ह्ह … मुकेश जोर से अह्ह्ह ओह्ह्ह!भाभी ने उसको जोर से जकड़ लिया और झड़ गईं. ऐसा घिनौना सेक्स तुमको पसंद है ना?रिया- हां डैडी, इसी में तो असली मजा आता है. कपड़े बदलने जरूरी थे, गीले कपड़ों में मेरी हालात पहले ही पतली हो रही थी.

कुछ करो न!तो उसने मुझे बिस्तर पर चित लिटा दिया और अपना लंड मेरी चूत पर रगड़ने लगा.

मेरे दूसरे हाथ से उसका मुंह बन्द करके मैं लगातार उसकी गांड पेलता रहा. मैंने देखा तो हेतल मेरे लंड के नीचे पड़ी हुई पूरी तरह चुदासी होकर मेरा लंड अपनी चूत में ले रही थी.

पहली बार चुदाई बीएफ मैं दीदी से मिल चुकी थी और उनकी सास से दीदी के घर रुकने की बात भी हो चुकी थी. आप लोगों को तो पता ही है कि गांव में लोग अक्सर जल्दी खाना खा पीकर सो जाते हैं.

पहली बार चुदाई बीएफ उसने थोड़े ही देर में मेरे लंड को अपने गले तक ले जाना शुरू कर दिया. मेरी जब शादी हुई, उससे पहले भी मैं अपने एक ब्वॉयफ्रेंड से चुद चुकी हूँ.

मुझे नहीं पता था कि रंजना ने इससे पहले किसी के साथ संभोग किया था या नहीं, लेकिन मेरा तो यह पहली बार था.

बीएफ सेक्सी देवर भाभी की हिंदी में

रास्ते में मुझे टिकट चेकर दिखाई दिया तो मैंने उससे पूछा- कोई है नहीं क्या सिनेमा हॉल में?उसने कहा- दो-चार लड़कियों का झुंड था, वो भी अभी यह कहते हुए निकल गई कि बकवास फिल्म है. नीचे स्कर्ट जैसी कोई मॉडर्न ड्रेस थी। मैं सिर्फ शॉर्ट्स में था। उसने खाना लगाया. मैं खुद को रोक नहीं पाई और जोर जोर से चीखने लगी- प्लीज पवन मुझे जोर जोर से चोदो … और जोर से चोदो … ओह्ह फ़क … या ओह्ह गॉड मार डाला रे… हाये हरामी ये क्या कर डाला… आज तो में एक गेरेज वाले से चुद गई अहह.

लड़कियों के लिए खड़े होकर सुस्सू करना कितना दिक्कत वाला होता है यह हम सभी जानते हैं. मैंने देखा तो हेतल मेरे लंड के नीचे पड़ी हुई पूरी तरह चुदासी होकर मेरा लंड अपनी चूत में ले रही थी. उसने मुझे अपनी बाँहों में लेकर बिस्तर पर पटक दिया और मेरे ऊपर आकर मेरी चूची को दबाने और मसलने लगा.

लण्ड गुप्ताइन की चूत में डालकर मैं उसकी चूचियों से खेलने लगा तो गुप्ताइन चूत को अन्दर की तरफ सिकोड़ने लगी.

राज के लन्ड के कड़कपन को महसूस करते हुए मैंने अपनी जाँघों को खोल दिया. अंकल कामक्रीड़ा में भारी एक्सपर्ट लग रहे थे, उन्होंने धीरे से एक उंगली मेरी चुत में डाली और अन्दर बाहर करने लगे. ये सुनते ही वो बहुत खुश हो गया और हम दोनों कार में पीछे की सीट पर चले गए.

चूमते हुए ज्यों ही मैं चूत के मध्य में पहुंचा और अपने होंठ उसके ऊपर रखने ही जा रहा था कि शुभ्रा ने अपनी हथेली को मेरे मुंह और अपनी चूत के बीच में रख दिया. फिर लंड को उसकी गांड में घुसा कर उस की जोरदार चुदाई चालू कर दी।सुमन की आंखें मुझे ही देखे जा रही थी और मैं भी सुमन को ही देख रहा था. उस दिन मेरी चूत पर बड़ी बड़ी झांटें उगी हुईं थीं क्योंकि पिछले काफी लम्बे समय से मैंने चूत को शेव करना भूल सी गयी थी, उस तरफ ध्यान ही नहीं जाता था.

दूसरे दिन पिंकी की सहेली नीता आई और उसने नितिन को छत पर अंडरवियर में कसरत करते देखा, तो उसे देखती ही रह गई. दोस्तो, मेरा ऐसा मानना है कि सुबह के समय में सेक्स करने का मजा ही कुछ और है.

मरे पति के बॉस लंड चूत के अन्दर ना डालते हुए अपने लंड को मेरी चुत के ऊपर घिसने लगे. जब भाभी किचन में चीनी लेने गई तो मैंने भैया के लंड पर हाथ फेर दिया. आज जो मैं कहानी आप लोगों को बता रहा हूँ वह मेरी ही छोटी बहन और मेरे बीच में हुई घटना के बारे में है.

चाची की बहन को मैं एक अच्छे होटल में ले गया। मैंने उसे ऑर्डर करने को कहा तो उसने दो कोल्ड कॉफ़ी ऑर्डर कर दी।मैंने कहा- जान! खाने के लिये भी कुछ मंगवा लो.

मैंने भी मौके की नज़ाकत को समझते हुए उससे बोला- मैं फ़्रेश हो कर आता हूँ … फ़िर तुम फ़्रेश हो लेना. जब मेरा हाथ उसके नितम्बों पर जाकर रुका तो मुझे पता चला कि मोनी ने आज भी नीचे से पैंटी नहीं पहनी हुई है. लंड को मुंह में लेकर उसने अपनी जुबान से चाटते हुए चूसना शुरू कर दिया.

हाथ में लहंगा ले कर खुद सीधे होने की प्रक्रिया में मेरा मुंह और मेरी आँखें, न होने के जैसी छोटी सी पेंटी के पीछे वसुन्धरा की झिलमिलाती योनि से चंद इंच ही दूरी पर होनी थी. चांदनी भाभी वैसे देखने में इतनी सुंदर नहीं है मगर मैंने कभी किसी की चूत की चुदाई नहीं की थी इसलिए मुझे तो चांदनी भाभी भी सुंदर लगती थी.

मुझे नहीं लगता आज रात तुम मुझे सोने दोगे, तो आज मैं भी थोड़ी पी लेती हूँ. ”दोनों ज़ोर से हंसी।आजा मेरी रानी लेट जा फर्श पे!”और फिर अंशु ने मेरे ऊपर बैठ के मुझे अपना नमकीन पानी पिलाया।कहानी जारी रहेगी. दोस्तो, जैसा अपने पिछले भाग में पढ़ा कि अमीषी की मेरे साथ एक बार चुदाई हो चुकी थी.

सेक्सी हॉट सेक्सी बीएफ

आओ डिअर … अन्दर आ जाओ!”थैंक यू सर!”मैं दरवाजा बंद करके सुहाना को लिए अन्दर आ गया और उसे हॉल में पड़े सोफे पर बैठने को कहा। सुहाना ने हाथ में पकड़ा बैग और नाश्ते का टिफिन सोफे के पास रखे टेबल पर रख दिया।मॉम ने आपके लिए नाश्ता भेजा है।”ओह … इतनी तकलीफ की क्या जरूरत थी डिअर … थैंक यू.

”मेरी बात पर पहले तो वह खिलखिला कर हंसने लगी और फिर किसी नव-विवाहिता की तरह लजा गई।एक बात बोलूँ?”हाँ … श्योर?”मिसेज माथुर ने भी फिगर बहुत अच्छा मेन्टेन किया हुआ है?” उसने मेरी आँखों में झांकते हुए कहा।तेज साँसों के साथ उसकी आँखों में लाल डोरे से तैरने लगे थे और कानों की लोब और उसका ऊपरी हिस्सा तो जैसे रक्तिम हो चला था।ओह … हाँ … थैंक यू मिसेज बनर्जी. मगर वो मजबूर थी कि वो इस चुदाई के आनंद को सिसकारियों के रूप में बयां नहीं कर सकती थी. और मेरी कलाई के बराबर मोटा होगा, लण्ड नहीं पूरा मूसल लग रहा था।मैं सोचने लगी कि इसके मारे तो मेरी चीख निकल जायेगी.

वो रमेश की ओर बेसब्री और कामुक अंदाज़ से उसको पीछे आते देख रही थी।वो बोली- डैड, इस रंडी की गांड मारने के लिए तेल लगा लो! नहीं तो दुखेगा।रमेश- तेरी गांड पहले से ही खुली हुई है साली रंडी. कोई चार पांच मिनट ही बीते थे कि मोटी-मोटी बूंदें हमारे ऊपर गिरने लगीं. अरे मराठी सेक्सीलंड का सारा माल निचोड़कर पीने के बाद भी चाची ने मेरा लंड चूसना नहीं छोड़ा, इसका नतीजा ये हुआ कि मेरा जवान लंड फिर से उनके मुँह की गर्मी पाकर खड़ा हो गया.

पर ये गलत था … सरासर गलत! जिंदगी में … हादसे हो जाते हैं लेकिन इस का ये मतलब तो हर्गिज़ नहीं है कि कोई जीना ही बंद कर दे? मेरे लिए … मेरे कारण वसुन्धरा ने खुद को फ़ना के धारे तक पहुंचा लिया था. फिर तुम्हारा प्रोटीन भी आ जायेगा इस मीठे मसाले में और फिर ये डिश तैयार हो जायेगी.

मैं, मनोज और जागृति हॉल में सो रहे थे और मनीषा बेडरूम में सो रही थी. मुझे उनकी ये बात सुनकर समझ में आ गया कि आज चाची मुझसे चुदना चाहती हैं. मैंने थोड़ी सी पोजीशन लेकर उसके चूतड़ों को ही अपने लंड पर दबाया तो एक चौथाई हिस्सा लंड का उसकी बुर में चला गया.

पर दोस्तों जब लड़की की चूत गर्म हो जाती है, तो कोई भी लंड के लिए बह सकती है. शलाका ने मेरी पैंट की चेन खोल कर मेरा तना हुआ लंड अपने हाथ में ले लिया और मेरे लौड़े के सुपारे को सहलाने लगी. मुझे पूरी रगड़ कर चोद … ये चूत की जलन मुझे बहुत तंग करती है अपना पेचकस मेरी गांड और चूत में घुसा घुसा कर मार दे मुझे!पवन अब और जोश में आकर मुझे चोद रहा था मैं तो अब खुद ही चाह रही थी कि पवन जोर जोर से धक्के लगा कर फाड़ डाले मेरी चूत को। सच में बहुत मस्त चुदाई हो रही थी मेरी। इतना सख्त लंड पहली बार मेरी चूत में था।लंड ने मेरी चूत को अपने हिसाब से खोल दिया था, अब मुझे चुदाई में तकलीफ नहीं हो रही थी.

मैं खुद अपने आपको कोसने लगा कि मैं अपनी मां के बारे में कितना गंदा सोचता हूँ.

पर मैंने समय और मौके की नजाकत देखते हुए खुद ही अपना पैंट और अंडरवियर निकाल दिया अब मैं सिर्फ एक टीशर्ट में था. मुझे उसकी चूत से चॉकलेट मिक्स चूतरस का इतना मस्त स्वाद आ रहा था कि मैं सब भूल ही गया था.

मैं सोच रहा था कि ये रोएगी और बोलेगी अब मैं तुम्हारे साथ नहीं आऊंगी, पर इसको तो मजा आ रहा है. मैंने देखा कि उनके शर्ट के ऊपर के दो या तीन बटन खुले हुए हैं और उनका एक बूब पूरा बाहर है और वो अनजान बनकर झाड़ू लगा रही थी. पूरा वीर्य मेरी चुत में निचोड़कर अंकल थक कर मेरे ऊपर लेट गए, मैं भी सेक्स की वजह से चूर हो गयी थी.

रानी ने मेरा मुंह थाम के बहुत लम्बा चुम्बन लिया और लौड़े पर एक बार नीचे से ऊपर तक जीभ फिराई. थोड़ी देर बाद उसने मेरी चूत को पौंछा और फिर से अपना लंड मेरी कसकती चूत में घुसेड़ दिया। मैं चुदती रही और पवन मुझे चोदता रहा। फिर तो सारी रात मेरे इंजन में उसका ऑयल भरता रहा।सुबह मैं जल्दी उठ गई. लगभग दस मिनट के घमासान संभोग के बाद उसकी योनि सिकुड़ने लगी और उसी समय उसने मुझे जोर से जकड़ लिया और अपनी टांगें मेरी कमर में फंसा दीं.

पहली बार चुदाई बीएफ मुझे समझ आ गया कि ये औरत अब बहुत गर्म हो चुकी है और चूत में लंड घुसाने का वक्त आ चुका है. मैंने आगे से अपने ब्लाउज को थोड़ा ऊपर किया और बॉस के केबिन में चली गयी.

सनी लियोन हॉट बीएफ वीडियो

मेरी ब्रो सिस सेक्स स्टोरी में अब तक आपने पढ़ा कि मैं अपनी बहन के चुदाई करके उसे अपने सीने से लिपटाए हुए सो गया था. बिटिया रानी, सुबह घूमना तो बहुत अच्छा होता है सेहत के लिए, मैं तो कहती हूं तू रोज जाया कर!” मम्मी खुश होकर बोलीं. तू तो ऐसे बात कर रही है जैसे सच में तेरी चूत में मेरा लंड चला गया हो.

”लेकिन अब आगे का क्या सोचा है?”क्या फायदा सोचने का! जो सोचा था, वो तो हुआ ही नहीं. तुम जल्दी से मेरी चूत की चुदाई शुरू कर दो जानू …वो बोला- तुम हो ही इतनी सेक्सी, तुम तो बिल्कुल रंडी लगती हो मुझे. सेक्सी फिल्म पहली पहलामैं बैठ गई उसने कहा- जरूर तुम काम के लिए यहाँ आई होगी?मैं बोली- जी!उसने मेरे सभी कागज चेक किये और कहा- मुझे एक सेक्रेटरी की जरूरत है.

जीजू आपने तो अपने मन की कर ली मेरे साथ, मुझे लड़की से औरत बना दिया आपने.

तभी पवन बोला- अब चूत की लपलपाहट मिटाने के लिए तैयार हो जाओ मेरी शालू रानी।मैं कुछ बोल नहीं पाई बस जवाब में थोड़ा मुस्कुरा दी, अब तो मेरी चूत भी लंड मांग रही थी।पवन मुझे अपनी गोद में उठाया और बेड पर ले जाकर लिटा दिया और वो मेरी टांगों के बीच में आ गया. मेरे चाचा पैसे कमाने के लिए सऊदी अरब में रहते हैं और साल में एक या दो महीने के लिए ही इंडिया आते हैं.

फिर टुकुर टुकुर टुकुर … टुकुर टुकुर टुकुर …मज़े से मै ज़ोर से चिल्लाया- आह आआह आआह!फिर उसने ब़ड़े दुलार से लौड़ा मुंह में लिए लिए सुपारी के चारों तरफ जीभ घुमाई, लंड को बाहर निकाला, खाल पीछे करके टोपा पूरा नंगा कर दिया. उसको झड़ता हुआ महसूस करके मेरे लंड में भी कड़कपन और ज्यादा तीव्र हो गया. ये वाचमैन था- ये आपका पार्सल है, कल शाम घर में कोई नहीं था, तो मैंने रख लिया था.

ये सुन कर सहेली के पापा ने धक्कों की स्पीड बढ़ा दी और मैं मादक सिसकारियां भरने लगी.

उसको झड़ता हुआ महसूस करके मेरे लंड में भी कड़कपन और ज्यादा तीव्र हो गया. मेरी बात सुनकर बोली- ओके मूत के आओ, तब तक मैं हम दोनों के लिए दूध बनाती हूं. रितेश को थोड़ा अजीब लगा, लेकिन फिर भी उसने अपने साथ कुछ नींद की गोलियां रख लीं.

देवर भाभी का सेक्सी सेक्सी वीडियोफिर मैं धीरे धीरे धक्के देने लगा और अब अपने मुँह से उसकी चुची को ऊपर सही से चूसने लगा. लेकिन एक बात तो पक्की थी कि वो राधिका नहीं थी, क्योंकि राधिका को मैं अच्छे से पहचानता था.

1 साल की लड़कियों की बीएफ

अब उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और मेरी उंगलियाँ अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. माँ सेक्स की इस कहानी में पढ़ें कि मेरे एक दोस्त, जो थोड़ा मंदबुद्धि है, ने कैसे अपनी माँ को चोदा. मीरा ने पहले सामने रखी आइसक्रीम की कटोरी उठाई और अपने मुँह में थोड़ी सी आइसक्रीम भर ली और अपने होंठ रितेश के होंठों से लगा दिए.

वैसे तो मैं समझ गया था लेकिन मैंने अनजान बनते हुए भाभी से पूछा- भाभी, मैं कैसे रोक सकता हूँ?भाभी- राज, मैं इनकी माँ हूँ. मैंने शोना से कहा- तुम जल्दी से ऊपर वाले कमरे में चलो, वहाँ कोई नहीं है. मैंने तेजी से उंगली चलाते हुए अपनी चूत को रगड़ डाला और मेरी चूत से पानी निकल गया.

मैं धीरे मानसी के नीचे किस करता चला गया और उसकी मरमरी जांघों पर किस करने लगा. मैं जाकर बेड पर बैठ गया, मेरा लंड जो लगभग 70 से 90 डिग्री के एंगल पर खड़ा था. मैंने कहा- अगर आप सभी को ठीक लगे तो इस राउंड में सभी लड़कियों की गांड में लंड डाले जाएँ?मुस्कान बोली- नहीं यार, दर्द होगा और मज़ा भी नहीं आयेगा.

उसके सोने के बाद मेरा मन था तुमको बुलाने का, पर डर था वो जग जाता, तो जो आज मजा मिला, वो भी नहीं मिलता. उसको देखते ही लण्ड सलामी देने लग गया।मैंने उसे अंदर सोफ़े पर बैठाया और हम बातें करने लग गये। बातों बातों में मैं ड्रिंक ले आया और हम पीने लग गए.

मैंने पूछा- घोष बाबू में से कैसी गंध आती है?दीपिका- सुबह आपके पास भेज दूंगी, सूंघ लेना.

मेरी बात सुनकर तुषार ने मेरी गांड में ही अपना लंड हिलाना शुरू कर दिया. आदावासी वीडियो सेक्सी वीडियोमेरे कंठ से आवाज निकलने लगी- गूंगुन्गूउऊऊ …ये आवाज ठीक वैसे ही आ रही थी, जैसे अंग्रेजी ब्लू फ़िल्म में बाल पकड़ कर लड़की का मुँह चोदा जाता है. सेक्सी पॉर्न व्हिडिओथोड़ी ही देर में मुझे लगने लगा कि अब मेरा कभी भी निकल सकता है और ये बात मैंने मौसी को भी बता दिया. उधर से आवाज आयी- मेरी रानी तुम्हारी गांड चाटने का मजा आ रहा था, कहां रखी थी अभी तक अपनी इस गांड को.

मैंने भी पेड़े का डिब्बा किचन की पट्टी पर रखकर उनको अपनी बांहों में भर लिया.

फिर अंकल जी ने मेरी चूत का वो बाजा बजाया कि मेरी पोर पोर दुःख गयी और उस रात तीन बार चुद कर मैं तृप्त हो गयी और उनसे लिपट कर नंगी ही सो गयी. मैं मचल उठी और उसने मेरे शरीर पर अपना शरीर झुका कर मुझे एक लंबी किस की ‘उमाहम्म्ममम …’बस किस करते करते वो मेरी चूत के अन्दर धीरे धीरे धक्का देने लगा. ऐसा हुआ कि एक दिन जब वो कोचिंग से बाहर आयी, तो हम कुछ खाने के लिए मैकडोनाल्ड चल पड़े.

इधर जीजा ने रियल में ही मेरी चूत पर लंड लगाया और एक जोर का धक्का मारा तो मैं चिल्ला पड़ी- साले हरामी, आराम से लंड डाल, बहुत दर्द हो रहा है. और मैंने नोटिस किया कि दी ने लेटते हुए भी शर्ट का बटन खुला रखा है और ऐसे लेटी हैं कि मैं उनके बूब्स देख सकूँ. पैर अंकल के पैरों पर रखे और मेरी उंगलियां उनके सीने के बालों में घुमाते हुए उनसे पूछा.

यस यस यस बीएफ

वसुन्धरा लपक कर मेरे पास आयी और अपने दोनों हाथों से मेरा हाथ पकड़ कर बोली- न न! आपका तो इसमें रत्ती भर भी कसूर नहीं, आप अपना मन भारी न करें. मैंने अब अंकल का विरोध करना छोड़ दिया और हार मान कर हाथों से अपना चेहरा छुपाकर लेटी रही. चाची बोलीं- मुझसे गलती हो गई आज मुझे अपनी बुर के बाल साफ़ करके ही आना था.

दोस्तो, आपने मेरी अब तक की एनल सेक्स स्टोरी के पहले भागमेरी गांड एक बड़े लंड के नाम- 1में पढ़ा था कि अनिल भैया मेरी गांड मारने के लिए मुझे लंड चुसा कर तैयार कर रहे थे.

वो भी मेरे सर पर हाथ रख कर अपनी गर्दन को दूसरी ओर झुकाकर मस्ती में बिना रुकावट के मुझे ऐसा करने दे रही थी.

मैं भी समय की नजाकत को समझ रहा था और पैंट में खड़े खड़े मेरे लंड की हालत भी खराब हो रही थी. मैं भी उसको चोदने लगा, लेकिन यह क्या, फिर वही कहानी, 10-12 धक्के के बाद वो अलग हुई और जमीन पर नागिन की भाँति लेटकर रेंगने लगी और अपनी जीभ को छत पर भर चुके पानी पर चलाने लगी. सेक्सी दुसराउसके बाद थॉमस को मैंने बेड पर लेटा दिया और उसकी शर्ट के सारे बटन खोल दिए.

जहां जहां मेरी नजर उसके उस कामयुक्त जिस्म पर ठहरती, उस जगह पर नम्रता के हाथ चलते जाते. हमने एक दूसरे से अपने मोबाइल नंबर ले लिए थे और अब हम दोनों व्हाट्सैप पर भी एक दूसरे से जुड़ गए थे. दीपाली- आह … उह … बस हो गया … यार तूने तो बात बात में ही मेरी चुत का पानी निकाल दिया.

भार्गव का लंड मेरे मुँह में था … और मैं ज़ोर ज़ोर से उसका लंड मेरे मुँह में हिला रही थी. फिर भी मेरा मन नहीं माना, मैं चुपचाप दबे पाँव कमरे से निकल कर चल दी और धीरे-धीरे गेस्ट हाउस की खिड़की के पास पहुँच कर कान लगाकर सुनने लगी.

मेरी ध्यान तब टूटा, जब मेरी वाइफ ने मेरे लंड को हाथ में लेकर जोर से दबाया और मेरे मुँह में से चीख निकल गई.

मैंने अपने दोनों हाथ से उसके चूतड़ अच्छे से पकड़ लिए और मुँह फिर से मुँह पे रख दिया और धक्के की स्पीड बढ़ाते हुए एक जोर का धक्का दे मारा. मैं उनको चूम ही रहा था कि वो थोड़ा पीछे हटीं और बोलीं- ये क्या कर रहे हो?मैं कुछ नहीं बोल पाया और थोड़ा पीछे हुआ. मौका मिलते ही चुसवाता भी बहुत था जिसके कारण मेरे बूब्स का आकार नॉर्मल से थोड़ा बड़ा हो गया था.

अजमेर की सेक्सी फिल्म तभी संजना मेरी चटाई से अपने चरम पर पहुंच चुकी थी … पर मैं अभी भी झड़ा नहीं था. उधर से आवाज आयी- मेरी रानी तुम्हारी गांड चाटने का मजा आ रहा था, कहां रखी थी अभी तक अपनी इस गांड को.

मैंने उनके बताये अनुसार पहले कुछ देर किस किया … फिर थोड़ी देर बोबों को मसला, चूची का रस पिया और फिर उनकी चुत को चाटते हुए उंगली अन्दर डालने लगा. मैं जब तक कुछ कह पाता, तब तक वो अपनी बात बोल कर बलखाती और गांड मटकाती हुई दूर भाग निकली. हम दोनों ने घर का एक भी कोना ऐसा नहीं छोड़ा था, जहां पर हमने चुदाई न की हो.

बीएफ फिल्म डॉक्टर वाली

तो मैंने भी एक तेज धक्का लगाया और मेरा लंड उसकी फुद्दी में अन्दर चला गया. अब मेरी सास रोज़ ताने मारती कि मेरे पापा ने कोई दहेज़ नहीं दिया और सिर्फ थोड़े से पैसे लगाए शादी में. तो मैंने मेंहदी धोई और हीना को याद करके मेंहदी को चूम लिया और कपड़े बदल कर नीचे चला गया.

उस रात मैंने फिर से तरह तरह के आसनों के साथ भाभी को जम कर चोदा और उन्हें पूरी तरह से संतुष्ट कर दिया. आशीष बोला- वाह बंध्या, तुम तो ऐसे कर रही हो जैसे रियल में ही लंड चूस रही हो.

मोटा और लम्बा लंड एकदम से घुसने से भाभी की चीख निकल पड़ी- उईई ईईई मर गयी … थोड़ा धीरे डालो न मुकेश!मतलब उस आदमी का नाम मुकेश था.

मैंने लाल रंग का लांचा खरीदा और रेड ब्रा पेंटी और सुहागरात के लिये रेड गाउन लिया. रानी ने फिर सुपारी को मुंह में होंठों से ज़ोर से दबा लिया, अंदर से जीभ से टुकुर टुकुर करने लगी और उँगलियों से टट्टों को हौले हौले से दबाने लगी. वो सिर झुकाये हल्की सी डरी हुई मेरे सामने गांड मटकाते हुए चल रही थी। उसने हाई हील्स पहन रखी थी उसकी गांड ऊपर उठ गई थी.

मेरे पीजी के साथ ही एक घर में रहती थी पूनम … जिसके साथ मेरी ये कहानी है. मैं भी उसे तेज़ तेज़ चोदने लगा और अगले दस शॉट में मेरा भी काम खलास हो गया. उसने ब्रा दिखानी शुरू कीं तो चाची ब्रा उलटते पलते हुए मुझसे पूछने लगीं- बता न कौन से रंग की लूँ?मुझे ब्रा को लेकर कुछ समझ नहीं आया कि मैं क्या बोलूँ.

प्लान के अनुसार मैं खाना खाने के बीच में उठा और रसोई में जाकर पैग बनाया और पीकर खाली गिलास लेकर चला आया.

पहली बार चुदाई बीएफ: दोस्तों मैं तो रोज रात को उसके चूतड़ों को याद करके मुठ मार कर सोता था. फिर मैंने उसके गाल पर एक किस किया और अपने लंड को शलाका की बुर में धीरे-धीरे घुसाने लगा.

कई बार रात रात भर पढ़ाई के बहाने से मैं सहेली के पापा से चुदने चली जाती थी. [emailprotected]जवान सौतेली मां की चूत चुदाई की इच्छा की कहानी का अगला भाग:जवान सौतेली मां की चूत चुदाई की लालसा-2. जब हम मोटर साइकिल लेकर निकले तो रास्ते में जीजा ने मुझसे कहा- साली जी अगर आप कहो तो पुरानी यादों को फिर से ताजा कर लिया जाये?मैंने कहा- आप बुढ़ापे में भी बाज़ नहीं आ रहे!वो बोले- एक बार आजमा कर तो देखो, आपको जवानी वाला जोश याद दिला देंगे.

उन्होंने बताया कि इधर नानी चाहती हैं कि मैं कुछ दिन यही रुकूं … तुम्हारे पापा आ रहे हैं.

क्या तुम मेरी मलाई चखोगी?वो खड़ी हुई और मुझे अपनी जगह बैठाकर खुद नीचे बैठ गई और मेरे लंड को अपने मुंह में भर लिया। मेरे लौड़े को मुंह में प्यार से भरने के बाद उसने अपने होंठों को भींचते हुए मेरे लंड की मैथुन शुरू की. वह अब लगातार बड़बड़ा रही थी- सर मुझे रंडी बना दो… इस तरह से मेरी चुदाई करो कि मैं खुश हो जाऊं. मैं दीदी से मिल चुकी थी और उनकी सास से दीदी के घर रुकने की बात भी हो चुकी थी.