बीएफ लड़की की चुदाई

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो ऑफ़

तस्वीर का शीर्षक ,

पीरियड कैसे आता है: बीएफ लड़की की चुदाई, जब मैंने 12 वीं पास करके ग्रेजुएशन में दाखिला लिया, तो मैंने शहर के प्रतिष्ठित डी एस कॉलेज में दाखिला लिया.

बिहार सेक्सी हॉट

मुझे नम्रता आंटी से मिलने का मन बन गया था, उनसे मिलने के बाद ही मैंने मैसूर जाने का फैसला किया. हिंदी सेक्सी वीडियो हिंदी हिंदी हिंदीकुछ देर बाद मेरा होने वाला था और कुछ मिनट बाद हम दोनों एक साथ झड़ गए.

मैं उठ कर खड़ी हुई तो मेरी चूत में भरा हुआ उनका वीर्य बहने लगा और मेरी दोनों जाँघों से होता हुआ घुटने तक पहुँच गया. सोती हुई लड़की के साथ सेक्सी वीडियोरात को भी जैसे ही खाना खाकर मोबाइल लेकर बैठा तो मुझे लगा कि शायद वो अभी मैसेज करेगी.

हम दोनों दोस्त बातें करने लगे और चाची व मामी को सैट करने की योजना बनाने लगे.बीएफ लड़की की चुदाई: उससे मेरा गुस्से में खड़ा लंड अचानक से उसकी चूत में थोड़ा सा चला गया.

चाची किसी रंडी की तरह आह आह करके हंस हंस कर अपने भतीजे से अपनी गांड चुदाई का मज़ा ले रही थीं.जैसे मैं झड़ते समय थोड़ा अकड़ सा गया था और मुझे उत्तेजना में होश ही नहीं रहा था तो मेरा सारा माल मैंने उनकी चूत में ही डाल दिया था.

ब्लू सेक्सी सुहागरात - बीएफ लड़की की चुदाई

एक उंगली में तेल लगाकर मैंने नीना की गांड में डाली, नीना की गांड कसी हुई थी.मैं नीचे से उसकी चूत में झटके मार रहा था और कोमल की चूचियों को चूसे जा रहा था.

फिर मैंने उससे पूछा- तुम कहां से आई हो? मैंने तुमको यहां कभी नहीं देखा है. बीएफ लड़की की चुदाई लंड महसूस होते ही उसने अपना हाथ चूत और लंड के ऊपर रख लिया और सहलाने लगी.

भाई बहन सेक्स कहानी को पढ़ कर मैं अपने ही घर में अपनी ही मौसी की लड़की पर गलत निग़ाह डालने लगा था.

बीएफ लड़की की चुदाई?

नेहा को नंगी देखकर मोहित ने मेरी गांड से लंड निकाल लिया और नेहा को पकड़कर घोड़ी बना दिया. अब जैसे जैसे मैं चूचियों को दबाने लगा, चाची की रफ्तार अचानक से तेज होने लगी और वो आह आह करके लंड पर मस्ती से कूदने लगीं. स्कूल खत्म होने के बाद रोज़ आधा घंटा मैं नीलेश को पढ़ा दूंगी। स्कूल की छुट्टी 2 बजे होती है तो तुम ढाई बजे स्टाफ रूम में आ जाना।इसके बाद मैं रोज़ मैडम से एक्स्ट्रा क्लास लेता था और जब भी क्लास टेस्ट हुए तब मेरे दोनों बार 10 में से 9 नंबर आये।लेकिन सेकंड टर्म के मैथ्स एग्जाम में मैं फिर से फेल हो गया और मेरे 70 में से 20 ही नंबर आये.

रात में मैंने लाल रंग की साड़ी पहनी हुई थी और अन्दर काले रंग की ब्रा और पैंटी. मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं थी तो मैं अपना हथियार अपने हाथ से ही हिला कर खुद को संतुष्ट कर लिया करता था. मैंने चूत में काफी अन्दर तक अपनी जीभ घुसा दी और उन्हें जीभ से ही चोदने लगा.

कुकोल्ड वाइफ की चुदाई का मौक़ा मुझे मिल रहा था तो मुझे क्या आपत्ति होती. उसने मेरे लंड को देखा और उसे पकड़ते हुए कहा- उई अम्मा रे … इतना बड़ा है तुम्हारा … और इसकी मोटाई भी बहुत ज्यादा है. ड्राइवर हँसते हुए बोला- अरे शबनम जान, इसकी अम्मी और बहन तो कमाठीपुरा की टॉप की रंडियां हैं.

फिर मैंने लंड को उनकी गांड की दरार में अच्छे से सैट किया और रगड़ने लगा. इस वक्त उसने एक मैक्सी पहन ली थी जिसमें उसके बदन का एक एक कटाव साफ़ साफ़ नुमाया हो रहा था.

मैं सांस भी नहीं ले पा रहा था, पर चूत को चाटते वक्त मुझे कुछ होश नहीं था.

वो- ये तम्बू लिए घूम रहे हो और बोल रहे हो सब ठीक है?मुझे थोड़ा अजीब लगा और मैं अपना लंड छुपा कर एडजस्ट करने लगा मगर वो फिर भी तिरछी नजरों से देखे जा रही थी.

माधुरी उठी और उसने फ़ौरन टिश्यू पेपर से अपनी चूत से टपकता वीर्य साफ़ किया और मेरे लंड का वीर्य भी साफ़ कर दिया. अब जीजू मेरी आपा की चूत चाटने लगे और आपा सिसकारियां लेते हुए जीजू का सर अपनी चूत पर दबाने लगी. उसने आज काले रंग की ड्रेस पहनी थी और उसके अन्दर सफ़ेद रंग की ब्रा साफ़ दिख रही थी.

माधुरी ने कहा कि ऊंहूँ … ऐसे नहीं, उस दिन जैसे बोल रहे थे, ठीक वैसे बोलो. अब मुझे चूमते चाटते समय वो बोले- पिछली बार तुमको चोदा था तो जन्नत का सुख मिला था, इस बार फिर अपनी चूत में मेरा लंड लेकर मुझे जन्नत की सैर करा दो. मैकेनिक ने अपने धक्के तेज किये और जोरदार ताकत के साथ मेरी गांड में अपने गर्म गर्म वीर्य की पिचकारी छोड़ दी.

अब उसने मेरी ओर देखा, मैं उसकी तरफ देखते ही कहा- ये ले, अब कुछ नहीं दिखेगा, गेम पर ध्यान दे.

कुछ मिनट चूत चूसने के बाद मैंने लंड को सैट किया और आंटी की चूत में पेल दिया. बापू काकी के सर के बाल पकड़ कर उसके मुँह में लंड दबादब पेले जा रहा था. जैसे मैं झड़ते समय थोड़ा अकड़ सा गया था और मुझे उत्तेजना में होश ही नहीं रहा था तो मेरा सारा माल मैंने उनकी चूत में ही डाल दिया था.

मैं बोला- लेट जाओ न अर्चना … नींद लगी है तो सो जाओ!फिर मैंने उसका हाथ पकड़कर उसे बेड पे अपने साथ लेटा लिया. शबाना दूर नंगी खड़ी, भाभी को चुदते हुए देख रही थी और यह समझ रही थी किचुदाई में दर्दहोता है. यूं अचानक दरवाजे पर शबाना को देखकर एक बारगी मन विचलित हुआ, फिर दिमाग में ख्याल आया कि हो सकता है पैसों की कोई जरूरत हो, वही मांगने आई हो.

मैंने पूछा- नकली लंड मतलब?उसने बताया कि उसने एक रबर का नकली लंड ऑनलाइन मंगा लिया था.

मैं समझ गया कि चाची ऐसे नहीं मानेगी, इसे पहले चूत मरवाने के लिए तड़पाना पड़ेगा. मगर मुझे मालूम था कि इसकीगांड फट जाएगीतो मैंने उसे आखिरी दिन गांड मारने का कहा और उससे लंड चुसवाने लगा.

बीएफ लड़की की चुदाई मेरी बात सुनकर सुनकर सब लड़के कहने लगे- यार तुझे हमारी गांड मारनी क्यों है?मैंने कहा- हम भी तो देखें कि तुम लड़कों को हम लड़कियों की गांड मारने में ऐसा क्या मज़ा आता है. अगले ही पल शबाना उठकर बैठ गई और अपनी चूत को चाटने का दृश्य देखने लगी.

बीएफ लड़की की चुदाई खड़े लंड को देख कर चाची बोलीं- लगता है तेरे लंड को मैं पसंद आ गई हूँ. मेरा लंड तो एकदम तना ही हुआ था, वह उसकी गांड की दरार में गर्मी लेने लगा.

इधर मोहित अभी भी मेरी गांड मारने में लगा हुआ था लेकिन अब अमित आयेशा और रिया को देखकर मेरा भी दो लंड से चुदने का मन करने लगा.

राजस्थानी सेक्सी वीडियो हिंदी चुदाई

वो कहने लगी- लगता है मेरी चूची से निकलता दूध देख कर तुम्हारे केले के मुँह में पानी आ गया है. हम लोग टैक्सी में जाकर बैठे ही थे कि तभी ड्राइवर अब्दुल नाम के मकैनिक और हेल्पर छोटू को लेकर आ गया. फिर मैं मॉम को सरका कर बेड के कोने तक ले आया और खुद ज़मीन पर खड़ा होकर उनकी एक टांग अपने कंधे पर रख कर उनकी चूत चोदने लगा.

भाभी ने सारा पानी मेरे मुंह में छोड़ दिया और खुद निढाल होकर पड़ गई. मैंने तुरन्त उन्हें अन्दर आने को कहा और कमरे से अपनी तौलिया लाकर दी. मेरी नज़र नीचे गयी तो मैंने देखा कि उसके पेट का वो हिस्सा जो कमर के नीचे होता है, मुझे दिखने लगा.

मैंने उसकी टी-शर्ट में हाथ डाल दिया और उसकी रसीली चूचियों को जोर जोर से मरोड़ रहा था.

सारा दिन मैं मीना को चोदने का प्लान बनाता रहा और मन ही मन खुश होता रहा. मैं बिलबिला उठी और कसमसा कर बोली- मंजू साली कुतिया तू मुझे जान से मार देगी. जैसे ही मैंने उसकी चूत के दाने को चूसा तो उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया.

पहले तो उसने कहा- कहां चलना है?लेकिन मैंने कुछ नहीं बताया और चुपचाप उसे वहां से ले गया. थोड़ी देर में उसे भी मज़ा आने लगा और वो भी गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी. चाची दर्द से ‘आहहह आह आहहह …’ करने लगी और मैं लंड को अन्दर बाहर अन्दर बाहर करके धक्के लगाने लगा.

मैंने बोला- अगर तुम कंफर्टबल हो, तो किस दे दो!उसने हां कर दी, पर कहा कि मैं उसे किसी सुनसान जगह पर किस करूं. जलालुद्दीन साहब ने मुझे चोदना बंद किया और मेरी चूत के पास आकर मेरी चूत का पानी पीने लगे.

उन्होंने अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों मम्मों को सहलाया और फिर नीचे झुककर एक निप्पल को अपने मुँह में भर लिया. उधर मोम लगते ही उसकी चीख निकलने को हुई मगर वो किसी तरह बर्दाश्त कर गया. मुझे पता है आप लोगों को मुठ मारने में और उंगली करने में बहुत मजा आ रहा है, तो मजा लीजिए और इस चुदाई को प्यार दीजिए.

मैंने अपनी दो उंगलियां चाची की चूत में डाल दीं और अन्दर बाहर करने लगा.

मगर उधर कोई नहीं था जो कोई भी आया था, वो मेरे देर से आने से बाहर से ही वापस चला गया था. फिर मैंने कहा- तुम्हें पता है तुम सबकी ये हालत किस वजह से हुई है?तो अमन ने कहा- बता ना यार, किस मादरचोद की वजह से हमें गंडमरा बनना पड़ रहा है?मैंने कहा- देखो, वो तुम चारों में से ही एक है. मेरा ध्यान सिर्फ उन आंटी पर था, बाकी मरीजों को दूसरों के भरोसे डालकर मैं इधर मन ही मन मौज ले रहा था.

वो भी झटके से मेरे सीने पर अपने दोनों हाथ रख कर प्यासी चुदक्कड़ की तरह बैठ गई. बाक्सर में उनकी गांड एकदम बाहर निकली हुई थी, इस उम्र में भी उनकी गांड में कसावट पूरी थी और जब वो अपने बाल सुखा रही थीं, तो टी-शर्ट बार बार ऊपर उठ रही थी, जिससे उनका गोरा गोरा पेट मुझे बार बार दिख रहा था.

सेक्सी सिस्टर की सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक बार मैंने गलती से अपनी छोटी बहन को नहाती हुई नंगी देख लिया. वो मेरे कान में बोली- मेरी चूत में पूरी उंगलियां पेल डालो और जोर जोर से चोदो मेरी चूत को. मेरे दोनों हाथ अपने आप ही उन दोनों की पैंट की ज़िप पर से रगड़ खाने लगे.

सेक्सी राजस्थानी चुदाई वीडियो

फिर मैंने मोहित को रोका और उससे बोली- मुझे 2 लंड से एक साथ चुदना है.

शाम को मैंने फिर से भाई बहन वाली स्टोरी उसके नम्बर पर भेजी, जिसे देख कर वो फ़िर से वाशरूम में चली गई. हम दोनों एक दूसरे की आंखों में झांक ही रहे थे कि मैंने आहिस्ते से पूरा लंड उनकी चूत में उतार दिया. फिर कुछ ज्यादा मात्रा में उंगलियों पर लेकर शबाना के पास आकर उसकी चूत पर लगाना शुरू कर दिया.

अगले ही पल शबाना उठकर बैठ गई और अपनी चूत को चाटने का दृश्य देखने लगी. अब मॉम बोलीं- हम्म … ये सब देख रहा था, तभी रात को तूने कपड़े गंदे किए थे. भोजपुरी सेक्सी 4जीमाधुरी ने कहा- देखो फिर ऐसा मत बोलना कि ये बहुत मुश्किल है, मुझसे नहीं होगा.

मम्मी मेरे लंड को सहलाने लगी थीं,जिससे मेरी नींद टूट गई और मैं हड़बड़ा कर उठ गया. थोड़ी सी हड़बड़ा कर वो सीधी हुई और बोली- हां हां, मैं तो भूल ही गयी.

मैंने हंसते हुए कहा- अरे बहनचोद … इन चूतियों में तो दर्द बर्दाश्त करने की गजब की क्षमता है. ज़्यादा ठुकाई के कारण चाची की चाल भी बिगड़ गई थी और अगले दो दिन तक चाची से चला भी नहीं गया था. वो बिस्तर पर इतना मस्त खेलने लगी थी कि कभी कभी तो मुझे खुद भी लगने लगता था कि ये साली मुझे पूरा खा जाएगी.

वो मुझे देखना चाहती थी क्योंकि हम दोनों में काफी कुछ बात होने लगी थी. बापू के हाथ काकी के मम्मों पर लगे हुए थे और वो काकी के पीछे से उनकी चूचियों की मां चोद रहे थे. मैंने अपने दोनों हाथों से पहले माधुरी की बड़ी गांड को सहलाया, फिर उसकी चूत को किस करके गांड पर एक थप्पड़ मारा.

हम दोनों में बहुत सारी बातें होने लगीं, पता ही नहीं चला कि कब मुझे उससे प्यार हो गया और हम दोनों रिलेशनशिप में आ गए.

सामने फिल्म चल रही थी मगर मुझे तो भाभी को चोदना था तो मैंने नाटक किया कि जैसे मुझे बियर पीने के बाद नशा चढ़ गया है. यह सोचकर मैंने अपनी बहन को चार सेक्स कहानी भेज दीं, जिसमें तीन बहन भाई की चुदाई वाली कहानी थीं.

दोनों का ही रंग बहुत ज्यादा साफ नहीं था लेकिन देखने में दोनों की दोनों बहुत सुंदर लगती थी. कुछ देर की चूमाचाटी के बाद मैंने अपने मुँह को उनकी चूत पर लगा दिया. फिर हम दोनों ने कभी कभी वीडियो कॉल करनी शुरू कर दी, उसमें भी पहले नॉर्मल बातें होती थीं.

लेकिन मैडम ने मेरे बात नहीं सुनी तो मैं खड़ा हुआ और मैडम का हाथ मम्मी की चूत से हटा दिया. दो मिनट में ही मेरे लंड ने पानी निकाल दिया और आंटी ने लंड को चूस चूस कर साफ़ कर दिया. माधुरी भी बिना देरी किए मेरा लंड चूसने में लग गयी और मैं उसकी चूत में उंगली डाल कर जोर जोर से अन्दर बाहर करने लगा.

बीएफ लड़की की चुदाई बस और फिर दोनों शांत हो गए, आपा की टांगें बिस्तर पर गिर गईं और जीजू निढाल होकर आपा के ऊपर ही गिर गए. स्लीवलेस ब्लाउज से झांकती सेक्सी अन्डर आर्म्स, गहरी नाभि से दो इंच नीचे बंधी हुई साड़ी और कायदे से बंधी हुई साड़ी की चुन्नटें उसके हुस्न के दरबार को भव्यता प्रदान कर रही थीं.

सबसे हिट सेक्सी

फिर मैं कई बार उसके घर उसे देखने के लिए जाने लगा, कभी सब्जी लेने या कभी देने. जब चूत में आग अभी लगी है तो लंड कहां से लाओगी?मैंने उससे मजाक करते हुए कहा- लंड न सही चूत से ही काम चला लूंगी. उसे भी जब अच्छा लगने लगा तो उसने भी उसकी गांड को थोड़ा ऊपर उठा दिया जिससे मेरा पूरा लंड अन्दर जा सके.

अभी पांच मिनट भी नहीं हुआ होगा कि उसका लंड फिर से तन्नाते हुए खड़ा हो गया. वो भी अपना मूसल जैसा लंड मुझे दिखाते और वीडियो कॉल में ही मुठ मारकर दिखाते. इंग्लिश सेक्सी वीडियो हॉट वीडियोउससे वो बहुत उत्तेजित हो गई और उत्तेजना भरी आवाजें करने लगी- आह … उम्म डियर!ऐसी आवाज़ सुनकर तो मुर्दे का लंड भी खड़ा हो जाए, फिर मैं तो जिंदा आदमी था.

उनकी फ्लाइट बिल्कुल सही समय पर आ गई और मैं बाहर उनका इंतजार कर रही थी.

कुछ देर बाद मैंने बुआ को उठाकर बेड के किनारे पर लिया और खुद पलंग के नीचे खड़े होकर चोदने लगा. [emailprotected]इन्फैचुएशन सेक्स कहानी का अगला भाग:शादी में मिली भाभी ने दिया चरमसुख- 2.

कुछ मिनट तक चाची की गांड की अच्छे से ठुकाई करने के बाद मैंने लंड को गांड से बाहर निकाला और चूत में घुसा दिया. बापू ने काकी को चुदाई की पोजीशन में अपने नीचे लिटाया दिया और उनकी चूत में लंड एक ही झटके में डाल दिया. मीना के मुँह में मैं अपना लंड देख कर असीम आनन्द का अनुभव कर रहा था.

जिसे भैया ने बड़ी गौर से देखा और मेरी बुर को एक कपड़े से साफ करके मेरी बुर पर किस करना शुरू कर दिया.

मैं अपने हाथ उसकी कमर से हटा रहा था, तभी वो आगे की तरफ झुक गई और मेरे दोनों हाथ उसके दूध से टकरा गए. मैं भी एकदम से सकपका गया था और मैंने उसकी तरफ से अपनी नजरें हटा लीं. तब दीदी ने अपनी आँखों को बंद कर लिया और वो धीमी धीमी सांसें खींचती हुई आहें भरने लगी।फिर कुछ देर के बाद रवि उठकर बैठ गया और वो दीदी की चूत पर अपने लंड को सटाते हुए दीदी को अपनी चूत को फैलाने के लिए कहने लगा.

हीरो हीरोइन सेक्सी व्हिडीओअब तक ऐसा होता था कि मैं हरकत करता था और चाची चुप रह कर मेरी हरकतों को नजरअंदाज कर देती थीं. कुछ देर बाद जब सब सामन्य हो गया तो उसके बाद धीरे धीरे दोनों तरफ से चुदाई के झटके लगने शुरू हो गए.

सेक्सी वीडियो mp3 सेक्सी

ऐसा लग रहा था कि जैसे माधुरी की चूत की दीवारें मेरे लंड की चमड़ी को उधेड़ कर रख देंगी. गर्ल्स सेक्स कहानी में मेरी स्कूल टीचर ने मेरी मम्मी के साथ खाली क्लास रूम में लेस्बियन सेक्स किया. मेरी अम्मी रोने लगी तो जलालुद्दीन आलिम ने कहा- घबराओ मत, इधर अच्छे अच्छे जिन्नातों को पेला गया है.

तो मैडम ने मम्मी की कमर में हाथ डाला और उन्हें अपने साथ मेरे सामने वाली बेंच पर बैठा दिया।क्यूंकि बेंच एक ही जने के लिए थी और मैडम के मोटे होने के कारण मम्मी आधी मैडम की गोद में थी।अब मैडम का एक हाथ मम्मी की कमर में था और वे मम्मी से बातें कर रही थी।तब मैडम ने उनका एक हाथ मम्मी साड़ी में डाल दिया और उनकी पेट पर फिराने लगी. जब हवस का तूफ़ान थमा तो मैंने देखा कि मेरी गांड मार मार कर जलालुद्दीन साहब ने उसका रंगरूप ही उजाड़ दिया था. फिर अगले ही पल मैंने सोचा कि मामी को जब ये बात पता थी तो उन्होंने अब तक मामा से क्यों नहीं कही.

मैंने भाभी का एक पैर बाथटब के किनारे पर रखा और खुद बैठ कर भाभी की चूत में अपना मुँह लगा दिया. और दूसरी तरफ माधुरी ने भी न जाने कितनी दफा मेरे मुँह में अपनी जुबान डाल कर मुझसे चटवाई, ये उसे भी याद नहीं था. जब भी मैं उसे इस तरह से देखता था तो मेरा हाथ खुद ब खुद अपने लंड के ऊपर आ जाता था.

तभी अचानक से अर्चना का ध्यान मुझ पर गया और वो एकदम से सकपका कर शर्मा गई. मैं मौन था, जिसे वो मेरी स्वीकृति मान रहा था और उसकी हरकतें बढ़ती जा रही थीं.

मैंने उनकी टांगों को थोड़ा और ऊपर उठाया और अपनी एक उंगली को तेल से चिकना करके चाची की गांड के छेद में घुसा दी और धीरे से अन्दर बाहर करने लगा.

वो खड़ा लंड देखकर मुस्कुरा दीं और कहने लगीं- ये तो बहुत बड़ा है, तेरे चाचा से तीन गुना बड़ा है. गवळणी सेक्सीदोस्तो ये था मेरी Xxx हिंदी भाभी की चुदाई का मजा!आप सबको कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं. भोजपुरी एक्स एक्स एक्स सेक्सी मूवीथोड़ी देर बाद चाची ने मुझे फिर से आवाज दी और कहा- राज, जरा इधर आओ, मुझे फोन में कुछ सीखना है. खैर … उसकी चिकनी चूत में सटासट लंड चलने से वो झड़ कर निढाल होने लगी थी.

कुछ मिनट बाद वो खाना आ गया और हम दोनों खाकर चुदाई के लिए रेडी हो गए.

मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर रखा और धीरे धीरे अपना लंड उसकी चूत में पेलने लगा. शादी के कुछ सालों बाद जब मैं इंटरमीडएट में आया, तब मेरे मन में छोटी चाची के लिए धीरे धीरे कामुकता बढ़ने लगी. आपको यह जीजा साली Xxx चुदाई कहानी कैसी लगी?[emailprotected]लेखिका की पिछली कहानी: आलिम ने किया मेरी चुदास का इलाजhttps://www.

मैंने आखिरकार एक दिन उसे मिलने के लिए राजी कर ही लिया लेकिन इस शर्त पर कि हमारे बीच सेक्स जैसा कुछ नहीं होगा. चाची को थोड़ा होश आया तो उन्होंने मेरा सर फिर से अपनी चूत पर दबा लिया. मैं अपनी गर्म सांसों को कोमल की गर्दन पर छोड़ता हुआ उसको लव बाइट देने लगा.

xx.com सेक्सी

शादी के कुछ सालों बाद जब मैं इंटरमीडएट में आया, तब मेरे मन में छोटी चाची के लिए धीरे धीरे कामुकता बढ़ने लगी. तीन से मैंने एक गोटी को आगे बढ़ाया, पांच आने पर उसने अपनी गोटी मेरे पाले में बढ़ा दी क्योंकि वहां कोई नहीं था. वो मेरे एक निप्पल को उँगलियों से दबाने लगे और दूसरे निप्पल को बच्चों की तरह चूसने लगे और बोले- अगर इनमें दूध भरा होता तो आज मजा आ जाता.

अभी तक भाभी के पांव भारी नहीं हुए थे, शायद भैया-भाभी परिवार नियोजन कर रहे थे.

अब मुझे चूमते चाटते समय वो बोले- पिछली बार तुमको चोदा था तो जन्नत का सुख मिला था, इस बार फिर अपनी चूत में मेरा लंड लेकर मुझे जन्नत की सैर करा दो.

अब चूँकि आंटी को मालूम चल गया था कि मेरी वापसी का समय शाम का हो गया है तो आंटी मेरी सीट बुक करके रखती थीं. मैंने मन में सोचा कि इस बेचारे को क्या पता कि एक उंगली से मेरी गांड की गर्मी शांत नहीं होने वाली!मगर उसे दिखने के लिए मैंने मेरी गांड टाइट कर ली जिससे इसे लगे कि मेरी गांड अनचुदी है. विद्या सेक्सी व्हिडीओखाना खाने के बाद चाची ने अपने कपड़े पहन लिए, पर मैं अभी भी नंगा ही था.

कुछ देर उसने अपना लंड आगे पीछे किया तो मेरी गांड का छेद ढीला होने लगा और मेरा दर्द कुछ कम होने लगा. उसके बाद शर्त के हिसाब से 5 दिन बाद बुआ ने मुझे घर बुलाया और बुआ की सहेली को बुआ के घर में उसके सामने चोदा, उसकी गांड की सील भी तोड़ी. मैंने साक्षी के ऊपर लेटे हुए ही उसकी गर्दन को किस करना शुरू कर दिया और साथ ही साथ उसके कान की लौ को चूसना शुरू रखा.

दोपहर के भोजन के बाद, मैं फिर से टीवी देखने वाले कमरे में जाकर बैठ गया. फार्म हाउस में आने से पहले मैंने अपने शरीर के अनचाहे बाल इलेक्ट्रोलिसिस से हरदम के लिए साफ़ कर दिए.

दोनों ने मिलकर एक सरप्राइज बर्थडे पार्टी का आयोजन किया है।पार्टी में दोनों लड़कियां स्कूल यूनिफार्म में हैं.

अब आगे फ्रेंड वाइफ सेक्स कहानी:हम दोनों ने तय किया कि शराब सिर्फ शनिवार को ही पिएंगे. मैंने उसकी दोनों टांगे खोली और अपना लंड लगाया उसकी रसीली झांटों से भरी बुर पर … जो पहले से ही फटी थी. नजर नीचे गयी तो उसका लिंग एकदम काले नाग जैसा उसकी जांघों के बीच में फुफकार रहा था.

देवर और भाभी का सेक्सी हिंदी मैंने पोर्न भाभी की चूत में फिर से लंड पेला और बीस मिनट चोद कर पानी गिरा दिया. ये बात भाभी ने मुझसे कही और वो बोलीं- क्या तुम मेरी मम्मी के साथ मेरे मामा घर चले जाओगे क्योंकि पापा को ड्यूटी से छुट्टी नहीं मिल सकती है और उनके साथ जाने वाला कोई नहीं है.

उसकी तड़प को देखकर मैंने उसे अपना लंड चूसने को कहा जो कि उसको चूसना ही नहीं था. कोमल अपने हाथ बेड को पकड़े हुई थी और उसकी एड़ियां बेड के गद्दे पर थीं. मैंने एक और जोर का झटका दे मारा और मेरा पूरा का पूरा लंड अन्दर चला गया.

सेक्सी डब्ल्यू पिक्चर

इस तरह मैंने मोहित को रिया ने पुलकित को आयशा ने अमन को और नेहा ने अमित को पकड़ लिया था. मैंने पूछा- आपने बच्चा किया नहीं?तो बहुत बड़ी दुखी आवाज में बोली- इन्हें फुर्सत ही कहां है. फ्रेंड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरा दोस्त अपनी बीवी की गांड मारना चाहता था मगर वो डरती थी.

Xxx वाइफ की गन्दी कहानी में मैंने बताया कि मैंने अपनी बीवी को गैर मर्द की बांहों में देखा तो मैं अपनी पत्नी के धोखे और चतुराई से बहुत हैरान हुआ।मेरी कहानी के पहले भागमेरी बीवी तो चालू निकलीमें आपने पढ़ा कि मैं अपनी पत्नी को लेकर मनाली घूमने गया. फिर हम दोनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया और चाची की चूत को मैंने अपने पानी से भर दिया.

क्या कोमल मेरे साथ सात जन्मों का साथ देने को तैयार हो?आज से मेरा सब कुछ तुम्हारा.

मैकेनिक ने अपने धक्के तेज किये और जोरदार ताकत के साथ मेरी गांड में अपने गर्म गर्म वीर्य की पिचकारी छोड़ दी. तो मैडम ने मम्मी की साड़ी घुटनों के ऊपर की जिससे मम्मी की गोरी जाँघें दिखने लगी. गलत तरीके से मतलब सभी कोनों में अपनी गोटियां फैला देना और इंतजार करना!ऐसी तरह खेलते हुए हमें दस मिनट बीत गए.

क्या मस्त अहसास था!जलालुद्दीन ने उंगली मेरी चूत में आगे पीछे की और थोड़ी देर में एक और उंगली डाल दी. उसने आंखों की पुतलियां हिला कर हामी भरी और उसी समय मैंने अपने लंड को छूट दे दी. लंड चाट कर साफ़ करने के बाद चाची बोलीं- अब सब्र नहीं होता राकेश … जल्दी से डाल दे अपने मूसल लंड को मेरी गांड में.

थोड़ी देर बाद मैंने अपना लंड उसकी चूत से निकाला और उसके मुँह में डाल दिया.

बीएफ लड़की की चुदाई: उस समय घर मेहमानों से भरा हुआ था और सभी ने समारोह के लिए अच्छे कपड़े पहने हुए थे. थोड़ी देर में ही अदीबा को आराम मिल गया और उसने हाथ पैर मारना बन्द कर दिया.

पर मैंने कहा- मेरे मालिक, इसकी कोई ज़रूरत नहीं।अजय ने मुझे स्माइल दी और मुझे गांड ऊंची करके घोड़ी बनने को कहा. उसकी टांगें फ़ैल गईं और मैंने उसकी चूत को उंगली से रगड़ना चालू कर दिया. वो उफ्फ … अहह … अह … की मनमोहक आवाजें निकालने लगी जिससे मुझे और मजा आने लगा.

पटियाला सलवार मेरी कमर पर एकदम से कसी हुई फिटिंग वाली थी जिससे मेरे नितंब बहुत ही सेक्सी और बड़े दिख रहे थे.

मेरी नज़रें आंटी की गोल मोटी चूचियों और तने हुए निप्पल्स की तरफ हो गईं. हमारी दोस्ती कैसे हुई और फिर सेक्स कैसे हुआ?दोस्तो, मेरा नाम रिकी है, मैं 23 साल का हूं और मैं मध्यप्रदेश का निवासी हूं. जब मैं हटा तो मम्मी बोलीं- मेरे राजा, तुम तो लोटा भरकर मलाई टपकाते हो, मेरी पूरी चूत भर दी.