हिंदी चोदा चोदी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,अमेरिकन बीएफ सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीपी नंगा: हिंदी चोदा चोदी वीडियो बीएफ, उस दिन अंकल ने मुझे एक बार और चोदा और मेरी चुत की आग को अपने लंड के पानी से शांत कर दिया.

बीएफ फिल्म सेक्सी ब्लू

इसीलिए किसी भी प्रकार की गलती होने से पहले ही आपसे माफी की बात करना आवश्यक समझता हूँ. ससुर बहू का सेक्सी बीएफ वीडियोहालांकि किसी महिला को तो मेरे काम के बारे में किसी महिला से ही मालूम हो जाता था और वो मुझे अपनी उसी क्लाइंट का हवाला देकर मुझसे मेरी सर्विस की बात करती थी, लेकिन इधर एक आदमी ने अपनी बीवी के लिए मुझसे बॉडी मसाज के लिए सम्पर्क किया था, जो कि मेरे लिए एक नया अनुभव होने जा रहा था, तब भी मैंने उनसे इस विषय में ज्यादा जानकारी करने का प्रयास नहीं किया.

उसके अलावा ये भी बताऊंगी कि उसने मेरे सामने और किस किस की चूत को चोदा. फुल एचडी बीएफ सेक्सी व्हिडिओमेरी कामुकता भरी आवाजें कमरे में गूंज रही थी- ऊम्म्म्म अमरीश … आह धीरे!अमरीश- सुकृति यार, तुझे चोदने में मजा आ गया.

पति ने मुझे खुद के सीनियर को पटाने की शर्त लगायी जिसे मैंने जल्दी ही जीत लिया.हिंदी चोदा चोदी वीडियो बीएफ: जब फिर से ट्रेन चली तो उसके बाद शौहर ने कहा- अब गांड चुदाई करने का मन है.

मेरे ससुर के धक्के मेरी चूत में तेज होते चले गए और थोड़ी देर में उनका माल भी मेरी चूत में निकल गया.खैर वो सेक्स कहानी मैं बाद में लिखूंगा, मगर अभी उसकी शुरुआत की चुदाई की कहानी लिख रहा हूँ.

सेक्स वाला बीएफ - हिंदी चोदा चोदी वीडियो बीएफ

मैं लपलप करके उसके एक निप्पल को चूसने लगा और दूसरे हाथ को उसकी लोवर में डालते हुए पेंटी पर हाथ फिराने लगा.बीच में एक पब्लिक बाथरूम दिखा, तो मैंने उसे चिढ़ाने के लिए कहा कि अगर मेरे रूम जाने में डर हो, तो यहां पर भी 10 रुपए में जा सकती हो.

उसके ऑफिस के साइड में ही वाशरूम था तो जब भी मैं वाशरूम जाती थी, यश मुझे देखता और मैं उसे देखती, कुछ दिन ऐसा ही चलता रहा. हिंदी चोदा चोदी वीडियो बीएफ उसके बाद लम्बे लंड वाला कोच जमीन पर लेट गया और मुझे उसके लंड पर बैठने के लिए कहा.

जैसे जैसे पापा की रफ्तार बढ़ रही थी, वैसे वैसे बारिश और तेज होती जा रही थी.

हिंदी चोदा चोदी वीडियो बीएफ?

इसलिए मैंने भी जल्दबाजी करना ठीक नहीं समझा और धीरे धीरे अपना लंड अन्दर-बाहर करने लगा. दीदी का कुरता उसके मम्मों तक ऊपर लाने के बाद मैंने दीदी के हाथ को पकड़ कर अपने बरमूडे में डाल दिया. मैं आपको अपने बारे में बता दूं कि मैं बहुत ही मोटा हथियार रखता हूँ और मैं खुद भी देखने कुछ मोटा हूँ.

जब एकदम से वीर्य निकलने को हुआ तो मैंने आंखें खोल दीं और शीशी को लंड के टोपे के सामने मूत्र द्वार के सामने लगा दिया. अब हम दोनों को दारू चढ़ी हुई थी और उसी समय हम दोनों के बीच बात होते होते सेक्स लाइफ को लेकर बातचीत होने लगी. वो बोले- दोबारा देखोगे?मैंने केवल सिर हां में हिलाया तो वो मुझे अपने रूम में ले गए और पैंट खोल कर बैठ गए.

फ्री का इंटरनेट हो गया था और मैं सारा दिन अपने फोन पर लड़कियों से चैट करता रहता था. फिर अज़रा ने अपनी साड़ी उतार कर वहां अंदर ही सूखने के लिये डाल दी। हम दोनों हीटर के पास बैठे हुए थे। वो ब्लाउज और पेटीकोट में थी. मैंने हां कह कर नीचे बिस्तर लगाने का कहा, तो उसने कहा- इसी बिस्तर पर लेट जाना.

दोस्तो कैसे हो आप सब? मैं हाजिर हूं अपनी कहानीमेरी कमसिन बहन की गर्म जवानी का खेल-1का दूसरा भाग लेकर। कहानी के पिछले भाग में मैंने आपको बताया था कि मैंने अपनी सेटिंग को चुदाई के लिए एक खंडहर में बुलाया था. उससे बातों का सिलसिला जारी रहा और उसके बाद हमारी ये बातचीत प्यार में बदल गयी.

अपने पाठकों से मैं पूछना चाहती हूं कि आप मेरी इस आंखों देखी घटना से कितना इत्तेफाक रखते हैं.

वो नंगी चूचियों के साथ मेरे सामने लेटी हुई कामदेवी की तरह लग रही थी.

जब मामी से बर्दाश्त नहीं हो पा रहा था, तब मामी बोलीं- डाल मादरचोद अपना लंड मेरी चूत में … नहीं तो दुबारा चोदने नहीं दूंगी. पापाजी से भी अब बर्दाश्त नहीं हुआ तो उन्होंने मुझे सीधा लिटा दिया और मेरी पेंटी निकाल कर फेंक दी. अब मैंने एक पल भी नहीं गंवाया और झटके से उसकी हाफ पैंट नीचे खींचते हुए उतार दी.

मैंने अपनी उंगली को थोड़ी देर उसकी चुत में चला कर उसकी चुत को लिसलिसा किया और इसके बाद कुछ क्रीम अपने लंड के टोपे पर भी लगा ली. इंस्पेक्टर ने कहा- मेरे बाद नम्बर लगेगा तेरा, चलेगा?उसने कहा- चलेगा क्या दौड़गा साहेब. फिर मैंने उसकी बुर में जीभ डाल दी और अपनी जीभ को अंदर बाहर करने लगा.

वो बोली- मेरी चुत और गांड की जरूरत का आपका लंड मेरे पास है इसलिए बाकी सबको देखने दो, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता.

पहले उनके लिए मेरे मन में कुछ गलत तो नहीं था, पर उनकी इस बात से मुझे बड़ा अच्छा सा लगा. मैं देखना चाह रहा था यहगर्म जवानीकुंवारी चूत है या पहले से ही चुदी हुई है. उस आदमी ने कहा- वाह इंस्पेक्टर, मैंने केस दिया और मुझे ही भगा रहे हो?इंस्पेक्टर ने कहा- जाता है कि लगाऊं दो हाथ और लगा दूं कोई दफा?उस आदमी ने कहा- इंस्पेक्टर साहेब, काहे को नाराज होते हो.

जब मैं अंदर पहुंचा तो बेडरूम में कम रोशनी वाला नाइट लैम्प जला दिया मैंने. चूंकि पहली बार मैंने सपना की चूत में लंड दिया था इसलिए मैं ज्यादा देर खुद को रोक नहीं पाया. अब बात ऐसी हो गई थी कि मेरा मुँह उसकी चूत की तरफ हो गया था और मेरा लंड उसके मुँह की तरफ आ गया था.

अगर तुम चाहो तो!”लेकिन जीजू?”कोई लेकिन वेकिन नहीं, कोई किन्तु परन्तु नहीं.

आइ लव यू जीत … आह्ह।मैं भी उसकी चूत में लंड को अंदर बाहर करते हुए उसके चेहरे के रिएक्शन देख रहा था. हम अंदर वाले कमरे में थे और ये भूल गये थे कि बाहर से कोई आ भी आ भी सकता है.

हिंदी चोदा चोदी वीडियो बीएफ नमस्कार पाठको, मेरा नाम अंकुर है और आपने मेरी पिछली इन्सेस्ट सेक्स स्टोरीमेरे चचेरे भाई ने मेरी माँ को चोदाको पढ़ा होगा। पिछली स्टोरी पर अपना प्यार देने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। तो मैं आज हाजिर हो गया हूं उसी रिश्तों में चुदाई कहानी के अगले भाग को लेकर!उम्मीद करता हूं कि यह स्टोरी आपको पीछे वाली स्टोरी की तरह ही पसंद आएगी. फिर भी मैंने लंड पर थोड़ी सी क्रीम लगाई और दोबारा से उसकी चूत पर लंड सेट कर दिया.

हिंदी चोदा चोदी वीडियो बीएफ उसके बूब्स को जोर से दबाते हुए मैं उसके होंठों के रस का आनंद लेता रहा. अब धीरे धीरे मेरी वासना बढ़ने लगी और मैं ज़ोर ज़ोर से अपनी चूत में उंगली करने लगी.

वो इतनी जोर से मेरे मुंह को चूत में दबा रही थी कि मुझसे सांस नहीं लिया जा रहा था.

पंजाबी सेक्सी ब्लू पिक्चर

फिर हम लोग एक दिन पहले यानि कि शनिवार को ही कृष्णा मौसी के यहां पहुंच गये. मेरी मामी एकदम गर्म हो गई, चुदने के लिए तड़पने लगी, उनकी चूत पानी छोड़ने लगी।वो उठी और बाहर का दरवाजा बंद कर के आई ताकि कोई आ न सके. साल भर के बाद एक दिन मेरी सास ने मुझसे कहा- अब हमें वंश को आगे बढ़ाने के बारे में सोचना चाहिए.

मैंने उसके लंड को देखा। उसका लंड मेरे लण्ड से बड़ा और मोटा था और आकर्षक दिख रहा था. शाम को आते वक्त खाना पैक करवा लिया क्योंकि आज तो डिनर मिलने नहीं वाला था. आप प्योर हर्ट हैं … कृप्या दुआ मांगते रहियेगा कि हम दोनों को आपका प्यार फले और हमारे घर की शोभा बढ़ाए.

उसकी बुर किसी भट्टी की तरह तप रही थी और उसकी क्लीन शेव बुर मुझे बहुत ही ज़्यादा स्वादिष्ट लग रही थी और चॉकलेट के साथ तो उसकी बुर का स्वाद और भी बढ़ गया था.

सेक्स संतुष्टि का ये नया रूप देख कर पुरुषों के प्रति मेरी सोच बदल गयी थी. उसने मेरे लंड की ओर इशारा करके पूछा- ये क्यों खड़ा है?मैंने कहा- मुझे नहीं मालूम. उसके चेहरे को ऊपर किया और उसको अपनी तरफ खींचते हुए उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया.

सोसाइटी के सेक्रेटरी ने बिल्डिंग में पूजा पाठ करवाने की योजना बनाई। सारे बिल्डिंग वाले लोग मान गए. क्या बात है, आज सुबह ही तुमको कुछ मिल गया क्या!राजश्री- देखो राहुल भैया, आप मेरे को सुबह सुबह परेशान मत करो. उस दिन मैं ऐसी तैयारी के साथ गया था जैसे सेना का कोई जवान किसी सीक्रेट मिशन पर हो.

फिर 5-6 मिनट बाद मेरा सारा का सारा माल मैंने चाची की चूत में छोड़ दिया और मैं चाची पर निढाल होकर गिर गया. मेरे शौहर साहिल ने कुछ दिन पहले ही अपनी कहानी फ्री सेक्स कहानी पर पोस्ट की थी.

मैं जब भी कमर को पीछे करती तो वो अपने लंड को मेरी गांड के बीच में घुसेड़ने की कोशिश करने लगा. मैं पिछले 3 साल सेअन्तर्वासना हिंदी स्टोरीजपढ़ रहा हूँ, पर आज तक मैंने अपनी कोई सेक्स कहानी नहीं लिखी. जो लड़कियां और महिलायें अपनी बॉयफ्रेंड या पति से काम संतुष्टि प्राप्त नहीं करती, वे गैर मर्द का सहारा लेने पर मजबूर हो जाती हैं.

मेरी आप सब भाइयों से गुज़ारिश है कि मुझसे किसी लड़की या औरत का फोटो और नंबर ना मांगें.

हमें महीने बीत गये बात किये और मिले हुये। जब प्यार होता है तो उसमें नोक झोंक भी चलती रहती है. मैम ने कहा- कोई बात नहीं … तुम्हें चोट तो नहीं लगी?मैंने कहा- नहीं मैम … मैं ठीक हूँ. मैंने धीरे से कमर को उठाया, तो देखा कि इनिषा ने मेरा लंड मुँह में लिया था और वो उसको लॉलीपॉप की तरह चूस रही थी.

वो मेरे ऊपर आई और मेरे लंड को अपने हाथों से पकड़ कर अपनी गीली चूत में घुसा कर मेरे ऊपर बैठ गई. निप्पल को छूने से माँ की सिसकारी निकल गयी थी और अब वह मजे से अपनी गांड को पीछे कर रही थी.

मैंने कहीं पढ़ा था कि बड़ी उम्र के लोग मेरे जैसी कच्ची उम्र की लड़कियों को जवान लड़कों से ज्यादा मजा देते हैं. उसके बाद हमने कुछ देर का आराम किया और फिर से जांच कक्ष (चुदाई कक्ष) में पहुंच गये. बड़ी ही सुन्दर शख्शियत … ऊंचाई करीब 5 फुट 5 इंच … छाती पर तने हुए दूध, तो जैसे एक तराशी हुई मूर्ति के मम्मे हों.

भाभी की सेक्सी वीडियो देवर के साथ

मैंने उनकी टीशर्ट उतारी और उनके दोनों बूब्स चूसने लगा और जोर जोर से मसलने लगा.

उस दिन से उनको किस करना उनकी गाण्ड को दबाना उनके चूचों को मसलना शुरू हो गया. मैंने रानी से बोला- कोई बात नहीं, यार डांस का मजा कर लो … उसमें क्या है. फिर भाभी ने अपनी गांड को ऊपर उठा कर पैंटी को नीचे करने में मेरी मदद की.

नमस्कार दोस्तो, कैसे हो आप सब? आज मैं आप लोगों को अपनी सगी छोटी बहन की गर्म जवानी के खेल कहानी सुनाने जा रहा हूं जिसे सुनकर आप सब अपना अपना लंड मसलने लगेंगे. हम लोग पहले सब साथ में ही रहते थे लेकिन उसके बाद चाचा चाची दूसरे मकान में चले गये. भोजपुरी में बीएफ हिंदीनीचे उनका नाग मेरी जांघों के बीच के त्रिकोणीय जगह टकरा रहा था और वहां के बिल खुलने की राह देख रहा था.

वो इस बात से बड़ी असमंजस में थी, वो समझ ही नहीं पा रही थी कि मैं उसे क्यों घूर रहा हूँ. जवाब हाँ मिलने पर मैं किचन में गया और फ्रिज से चॉकलेट लेकर आया और अब उसके जिस्म पे बची पैंटी उतारकर उसकी बुर के आस पास चूमने लगा.

मुझे पक्का यकीन था कि मां इतनी चालू हैं तो जाहिर सी बात है कि वह यहां पर भी अपना जलवा बिखेरतीं ही होंगी; मैंने ही कभी नोटिस नहीं किया होगा. जब मेरा रस निकलने वाला था, तो इस बार मैंने शालिनी से बिना पूछे ही उसकी चूत को अपने लंड के रस से लबालब भर दिया. पूरे ऑफिस रूम में मेरी आह आह आहह की आवाज और लौड़े और चूत की छप छप हो रही थी.

2 मिनट तक तो उनको कुछ समझ नहीं आया और मैं 2 मिनट उनके होंठों को चूसती रही. मैंने ज़्यादा देर ना करते हुए उसके दोनों पैर उठाए और उसके बीच में आ गया. मामी कपड़े पहनने के लिए उठी तो उन्होंने मुझे अपनी ब्रा पैंटी के सेट दिखाये, बोली- कौन सी पहनूँ?मैंने सफ़ेद चूज़ किया.

मैंने हाथ कुछ और नीचे किया, तो थोड़ी ही देर में मेरा हाथ उसके चुचे से टकरा गया.

अब तो भाभी खुल करगर्लफ्रेंड के साथ सेक्सकी बातें भी पूछ लिया करती थी. चूंकि मैं पहली बार किसी की चूत चोद रहा था इसलिए मैं ज्यादा देर खुद को काबू नहीं कर पाया.

उसने मेरे लंड की ओर इशारा करके पूछा- ये क्यों खड़ा है?मैंने कहा- मुझे नहीं मालूम. तभी दिशा ने दरवाजा खोला।दिशा को देखा तो मैं एकदम से उसे देखता ही रह गया। उसने पीले रंग की टीशर्ट और शोर्ट पहनी थी। वह इस समय बहुत ज्यादा हॉट लग रही थी।दिशा- अब घूरते ही रहोगे या अंदर भी आओगे?मैं- दिशा, आज तुम बहुत ज्यादा सुंदर लग रही हो।दिशा- तारीफ के लिए थेक्स. अब मुझे पक्का पता चल चुका था कि मां चुदाई के लिए इसके ही कमरे में ही आएंगी.

लंड निकलते ही वो सीधी हो गई और मैंने अपना लंड उसके मुँह में डाल दिया. जैसे ही उसने मेरे लंड को अपने मुंह में लिया मैं जन्नत की सैर करने लगा. उसके बाद से मुझे सेक्स से बहुत ज्यादा लगाव हो गया था और अब तक मैं अनेकों लोगों से चुद चुकी हूं.

हिंदी चोदा चोदी वीडियो बीएफ मैंने प्यार से उसकी गुलाबी पेंटी को नीचे किया और अपना मुँह उसकी चूत पर रख कर उसकी चूत को प्यार से चूसने लगा. कोई 5 मिनट तक चूत चूसने बाद मैंने मॉम से बोला- मैं आपको चोदने वाला हूँ.

बीपी सेक्सी वीडियो भेजो

जिस अस्पताल में ऑपरेशन हुआ, वो मेरे घर से बहुत करीब था और मेरी ससुराल से काफी दूर. उधर ब्रून किसी दानवी ताकत के अंदाज में रानी की चुत में लंड अन्दर बाहर करने लगा. काश कोई मोटा मूसल जैसा लण्ड होता जो मेरी बीवी की गांड को फाड़ता हुआ अंदर घुसता!अह्ह्ह!ये सब सोच कर ही मेरे मन में हलचल होने लगती.

वैसे तो रोज दरवाज़ा मेरा बेटा खोलता था, लेकिन आज मैं जानबूझ कर खोलने गयी. आजकल अगर पुरूषों के साथ जबरदस्ती की बात जब आती है तो मुझे ऐसी घटनाएं बिल्कुल भी अविश्वास के योग्य नहीं लगती हैं क्योंकि मैं खुद एक ऐसी ही घटना की गवाह थी. भाई और बहन की सेक्सी वीडियो एचडीउसके मुंह से उफ्फ… की आवाज निकली और मैंने पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया.

धीरे धीरे उसके मम्मों को किस करने लगा और एक उंगली उसकी मचलती चूत में डाल दी.

गुन्नू एक साल का हो गया था लेकिन इस एक साल में मेरी सेक्स लाइफ बेकार कर दी थी. ये मेरी पहली सेक्स कहानी रिश्तों में चुदाई की है, अगर कोई ग़लती हो जाए, तो प्लीज़ नजरअंदाज कर दीजिएगा.

दोस्तो, मैं सविता फिर से हाजिर हूँ आपके लिए एक और इंसान की जिन्दगी की सच्चाई लेकर! मेरी काफी कहानियाँ अन्तर्वासना पर भी हैं. उसने मुझे प्यार से कहा- फिर कैसे करें, अब तो मुझे आपको अरेस्ट करना पडे़गा और आपके पापा से ही बात करनी होगी. उसके घर मैंने चालू भाभी की चुत की चुदाई का मजा कैसे लिया?दोस्तो, मेरा नाम आशीष राणे है.

मेरे लिए यह बिल्कुल नया अनुभव था तो मुझे ऐसा लगा जैसे मैं झड़ जाऊँगा.

मैंने एक पल की भी देर नहीं लगाई और उनके मम्मों को दोनों हाथों में भर कर खूब मसलने चालू कर दिए. इसलिए उसने रूम की खिड़की के पर्दे को ठीक किया और साइड से हल्का सा खुला छोड़ दिया. 5 इंच का है। मेरा गांव लातूर के नजदीक है। पर मैं अपनी शिक्षा के कारण लातूर में एक किराये का रूम करके रहता था। उस समय मैं डी.

ઇન્ડિયન સેકસી ભાભીजैसे ही उसने मेरी चूत पर हाथ लगाया तो वो चौंक कर बोला- साली रांड, गरम हो गई है. मेरी कामुकता भरी आवाजें कमरे में गूंज रही थी- ऊम्म्म्म अमरीश … आह धीरे!अमरीश- सुकृति यार, तुझे चोदने में मजा आ गया.

सानिया लियोन सेक्स वीडियो

भाभी- क्या बोला?अपनी बात दोहराते हुए मैंने कहा- आप पीछे होकर बैठ जाओ नहीं तो आपको बाद में परेशानी हो जायेगी. शोभा मेरा लण्ड पूरी तरह मुंह के अंदर ले रही थी, उसके गले तक मेरा लण्ड जा रहा था।उसने मेरा पूरा लण्ड अपनी थूक और लार से गीला कर दिया था. मैंने भी बहुत जोर जोर से जीभ से चाट चाट कर और उंगली डाल डाल कर उसकी चुत का पानी निकाल दिया.

अंकल भी 10 मिनट बाद नीचे आ गए और मॉम के पास गए को थोड़ा सा इशारा किया. मैं कोई विरोध नहीं कर रही थी इसलिए उन दोनों का हौसला बढ़ता जा रहा था. तभी उन्होंने कहा- ये सब छोड़ो, तुम अपनी बताओ … यहां होस्टल में रह कर तुमको घर की याद नहीं आती.

एक हाथ से मैं मैग्जीन्स के पन्ने पलट रहा था और दूसरे हाथ से अपने लंड को हिला रहा था. मैं इस बात से ज्यादा आश्वस्त था कि उसके पति साल में एक बार ही आते हैं. चूंकि ब्लू फिल्म साथ में देख रहे थे, तो मानसिकता तो सेक्स करने की बन ही गई थी.

अब मेरे दोनों चूचे अच्छे से उसकी पीठ से चिपके हुए थे और मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. उमेश बोला- ठीक है … तो फिर मैं कल आपको लेने कितने बजे आऊं?मैं बोली- 8 बजे ठीक रहेगा … क्योंकि दूर जाना है.

उसकी चूचियों से लेकर उसकी जालीदार पैंटी तक उसके जिस्म को घूरने लगा.

अब विजय से भी ये गर्म माहौल बर्दाश्त न हुआ और उसने अपनी ही बहनों की चूचियां दबाना शुरू कर दिया. वीडियो bf फिल्मवो बस चुत पर रगड़ का मजा लेने लगी और उसने अपनी टांगें और भी फैला दीं. सेक्स वीडियो ट्रिपल एक्सशाम को आते वक्त खाना पैक करवा लिया क्योंकि आज तो डिनर मिलने नहीं वाला था. नेहा से मैं पहले उतना घुला मिला नहीं था क्योंकि वो थोड़ी शांत सी थी.

मेरी दीदी की चूत चुदाई की यह सेक्स कहानी आप सभी के सामने मैंने पेश की.

थोड़ी देर के बाद एक बुजुर्ग अपनी बकरी लेकर आया और बकरा देने का गुहार लगाई. उसके बाद मैंने उसके चाचा की दूसरी बेटी अनु की चूत चोदी और साथ ही उसकी बुआ की दूसरी बेटी मीनू की चूत भी फाड़ दी. जब मुझसे रुका न गया तो मैंने चाची की टांग पर अपने लंड को टच करवाना शुरू कर दिया.

तो मैंने देखा कि मेरा हाथ उसके चूचों पर था और मेरी एक टांग उसकी टांगों पर थी. मेरी चूत पर अभी हल्के हल्के बाल आना शुरू हुए हैं पर मेरी चुत है बहुत गोरी. मामी के मुंह से सिसकारियाँ निकलने लगी थीं- अह्ह्ह मेरे शेर … चोदते रहो अपनी रंडी मामी को … अह्ह्ह जोर-जोर से धक्के मारो अह्ह्ह … उफ्फ … मम्मी … मर गई … अह्ह्ह … कितना मज़ा आ रहा है.

मराठी गावठी बीपी

फिर मैंने ऊपर से बुर्का डाल लिया ताकि कोई भी आ जाये तो एकदम से परेशानी न हो. सुबह मेरी आँख 6 बजे खुली तो पापाजी सो रहे थे मगर उनका लंड जाग चुका था. कुल मिलाकर वो इतनी सेक्सी थी कि देखते ही अंदर से एक आह्ह निकली- वाह… क्या बनाया है ऊपरवाले ने.

ब्रून ने अपने लिए डियर सुना तो उसकी तो बांछें खिल गईं, उसने फॉल को लेकर बताना शुरू कर दिया कि टैक्सी से आप खुरपा ताल के ऊपर तक जा सकते हो.

मेरी जीमेल आईडी है[emailprotected]कहानी का अगला भाग:टीचर संग प्यार के रंग-2.

वो तड़फ कर गाली बकते हुए बोली- भैनचोद, चुत में उंगली मत कर … खाली जीभ से चूस … भोसड़ी के … आह और जोर से. अपने पाठकों से मैं पूछना चाहती हूं कि आप मेरी इस आंखों देखी घटना से कितना इत्तेफाक रखते हैं. क्सक्सक्स मंसफिर मैंने उसके सिर को पकड़ लिया और अपने लंड पर उसके मुंह को दबाने लगा.

फिर एकाएक मेरे मुंह से जोर की आवाजें निकलने लगीं और मैं उसकी चूत में ही झड़ने लगा. मैंने उससे कहा- मेरे लंड से फिर से चुदने के लिए तैयार हो?उसने कहा- हां, कभी भी और कहीं भी. मैं चाहता तो था कि नीलोफर से जाकर उसके घर पर मिल लूं और उसका काम कर दूं क्योंकि मुझे खुद ही उसके पास जाने का मौका चाहिए था.

जल्द ही पापा ने अपना पूरा लंड मेरी चुत की जड़ तक पेल दिया और अब वो धीरे धीरे धक्के मारने लगे थे. बल्कि अब वो ऐसे बुदबुदा रही थीं- साले कपड़ों पर क्या रंग लगा रहा है … अन्दर मेरे बदन पर लगा.

इसी के साथ आज मैंने स्लीवलैस ब्लाउज पहन रखा था, जो कि आगे से काफी गहरे गले का था.

चाची की लड़की की चूत पर लंड को लगा कर मैं उसकी चूत में लंड को धकेलने लगा. शायद माँ एक बार झड़ गयी थी जिससे उनकी चूत एकदम चिकनी हो गयी थी।सोनू अपनी गांड को आगे पीछे कर रहा था, पूरे कमरे में पचपच की आवाज़ आ रही थी. मैं बस मचल रही थी मछली की तरह उसकी बलिष्ठ बांहों में।फिर ऎसी ही कामुकता भरी मस्ती के बाद हम घर आ गए और वो भी अपने घर चला गया।हमारी बातें, कॉल, चैट व्हाट्सएप पर होने लगी।अमरीश मेरे से सीनियर था तो मुझे फेयरवेल की तैयारी करनी थी सिनियर के लिए और मेरी क्लास वालों ने जबरदस्त तैयारी की हुई थी.

पंजाबी नंगा सेक्सी वीडियो मैंने घर जाने के बाद चाची को आवाज दी लेकिन अन्दर से कोई जवाब नहीं आया. उसके रसीले होंठों पर आई उसकी मुस्कान में, एक बिंदास बाला की चहक थी.

आह्ह… चुदती रह साली।अब मैं उसके बाल पकड़ कर मैं उसकी चूत में लंड को धकेलने लगा. मुझसे उसकी बातचीत भी होते थी, मगर मैं इस बात का बड़ा ख्याल रखता था कि कहीं कोई गलत बात मुँह से न निकल जाए और इज्जत की माँ चुद जाए. जिस इलाके की मैं बात कर रहा हूं वो स्कूल के रास्ते में ठीक बीचोंबीच ही पड़ता था.

देहात की लड़की की चुदाई

मैं आप सभी पाठकों के लिए जल्दी ही फिर से कोई नयी सेक्स कहानी लेकर लौटूंगा. मैंने कहा- आह्ह मेरी जान … आज तो तुम्हें देखकर मेरे मन में हवस का तूफान सा उठ गया है. मैं तैयार हो गयी और मैंने पूछा- सर कितने बजे क्लास होगी?वो बोला- शाम को 5 बजे से लेडीज़ का बैच है.

कैब के चलना शुरू होते ही मैंने अपने हाथ से फिर से करिश्मा दिखाना शुरू कर दिया. और माँ ने भी वचन दिया था कि माँ उसके साथ एक बर्थडे पार्टी में चलेगी.

दस मिनट बाद वो झड़ऩे लगी, तो वो भी अपनी कमर को जोर से मेरे मुँह पर घिसने लगी और मैं भी अपनी कमर जोर से हिलाने लगा.

अपने पापा से अपनी चुत चुदाई की कहानी में अभी बस इतना ही लिख रही हूँ. मैंने भी बाबा की सेवा करने का वादा किया और फिर घर आकर सबको मेरे गर्भवती होने की खुशखबरी बताई. 32-28-34 के फीगर के साथ सबके लंड गीले करवा देती थी।मैं भी बस उसको चोदने के बारे में ही सोचता रहता था.

मुझे लगा यह भी शुभम की तरह मेरा हाथ अपने लौड़े पर रखवाएगा … लेकिन वह मेरे हाथ को प्यार से सहलाने लगा. थोड़़ी देर में कृति भी मेरे होंठ चूसने लगी तो मैं समझ गया कि लोहा गर्म हो गया है. जब तक भाभी संभलती मैंने इतने में ही दूसरा झटका भी दे दिया और मेरा लंड पूरा का पूरा भाभी की चूत में समा गया.

मरीज को देखकर उसको एक इंजेक्शन देने को बोलकर निकल ही रहा था कि सामने से इनिषा आ गई.

हिंदी चोदा चोदी वीडियो बीएफ: अगर आप चाहें तो आप भी कर लेना!पापाजी बोले- इस राउंड के बाद वहीं करूँगा. उस दिन हम दोनों ने 3 बार सेक्स किया और उसके बाद उसने मुझे एक बियर पिलाई.

पिछले पांच छह दिन से हनी रोज मेरी बाइक पर बैठकर मेरे घर तक आती-जाती थी. मुझको लगा कि लाइट में कुछ फाल्ट हुआ होगा, लेकिन इन्वर्टर तो ऑन रहना चाहिए था. वो बोली- ये आप क्या कर रहे हो!मैंने कहा- देखो कोमल, तुम्हें बच्चा चाहिए कि नहीं?वो बोली- हां चाहिए!मैंने कहा- तो फिर बिना जांच के मुझे पता कैसे चलेगा कि तुम्हारे अंदर क्या कमी है? अभी मुझे टार्च से देखना पड़ेगा कि तुम्हारी योनि में कहीं कोई रुकावट तो नहीं है.

तभी उसने मेरे हाथ में एक टिकिट दिया और वाशरूम में जाने की कहते हुए निकल गई.

हो सकता है कि किसी विशेष प्राणी को भगवान ने इतने बड़े लिंग से नवाजा हो लेकिन भारतीयों में औसत लिंग इतना लम्बा नहीं होता है. अरे संभल कर!” अंकल ने कप को अपने हाथों में पकड़ा और टेबल पर रख दिया. मैं भी उसके जिस्म की गर्मी से आंखें सेंकने के लिए हाजिर हो जाता था.